घरेलू महिलाएं छोटी राशि कहां निवेश करके लाखों बना सकती हैं?

घरेलू महिलाएं छोटी राशि कहां निवेश करके लाखों बना सकती हैं? | Where home maker women can invest to make money? | पैसा निवेश करना क्यों आवश्यक है? | निवेश के मामले में रकम की मात्रा से अधिक क्या आवश्यक है? | आरडी की फुल फॉर्म क्या है? ||

घरेलू महिलाओं का पूरा दिन घर के कामकाज में ही बीत जाता है। वे कोई नौकरी या काम धंधा नहीं करतीं, ऐसे में उनकी कोई रेगुलर इनकम नहीं होती। लेकिन अपने परिवार के आवश्यक खर्चो को सीमित संसाधनों में पूरा करने के बाद भी बहुत सी महिलाएं अपने पास छोटी-छोटी बचत कर लेती हैं। यदि वह अपनी इस राशि को कहीं निवेश करें तो वह कुछ ही साल में लाखों रुपए भी जमा कर सकती हैं। आज इस पोस्ट में हम आपको ऐसी ही कुछ निवेश योजनाओं के संबंध में जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं

Contents show

पैसा निवेश करना क्यों आवश्यक है? (Why it is necessary to invest money?)

दोस्तों, सबसे पहले सवाल यह उठता है कि पैसा निवेश करना क्यों आवश्यक है? आपको बता दें कि दरअसल पैसा भविष्य को देखते हुए निवेश किया जाता है। यदि हम पैसा अपने ही पास रख रहे तो वह किसी न किसी काम में खर्च हो जाता है ऐसे में हम अपनी भविष्य की आवश्यकताओं के लिए मुंह देखते रह जाते हैं।

घरेलू महिलाएं छोटी राशि कहां निवेश करके लाखों बना सकती हैं

यह तो आप जानते ही हैं कि बच्चों की पढ़ाई (education), शादी-ब्याह (marriage) आदि समेत ऐसे कई खर्च होते हैं, जिनसे हमें भविष्य में निबटना होता है। यह निवेश (invest) की गई रकम काम आती है, जो कि ब्याज लगकर तब तक कई गुना अधिक हो चुकी होती है।

घरेलू महिलाएं छोटी राशि कहां निवेश करके लाखों बना सकती हैं? (Where home maker women can invest to make money?)

दोस्तों, अब हम आपको उन योजनाओं की जानकारी देंगे, जहां घरेलू महिलाएं अपनी छोटी सी राशि को निवेश करके भी कुछ सालों में लाखों रुपए जमा कर सकती हैं। ये योजनाएं इस प्रकार से हैं –

पीपीएफ (PPF)

दोस्तों, सबसे पहले बात करते हैं पीपीएफ (PPF) यानी पब्लिक प्रोविडेंट फंड (Public Provident Fund) की। आपको बता दें कि यह सरकार की एक ऐसी योजना है, जिसमें कोई भी आसानी से निवेश कर सकता है। महिलाओं के लिए यह योजना बेहतर है।

इसके साथ सबसे अच्छी बात यह है कि इसके लिए आपके पास कोई अधिक राशि होने की भी आवश्यकता नहीं। पीपीएफ खाता (PPF account) न्यूनतम 500 रुपए से खोला जा सकता है। यदि आपके पास पैसा है तो आप इसमें अधिकतम डेढ़ लाख रुपए तक जमा करा सकते हैं। दोस्तों, आपको बता दें कि पीपीएफ (PPF) में आपको लगातार 15 वर्ष तक निवेश करना आवश्यक है।

इसके पश्चात मय ब्याज (with interest) आपको जमा की गई रकम वापस मिल जाती है। यह खाता खाता छोटी सी बचत (small savings) के साथ ही महिला को कुछ वर्ष में लखपति बन सकता है। मान लीजिए कि यदि आप माहवार 1,000 रुपए 15 वर्ष तक जमा करते हैं, तो एक वर्ष में इस खाते में आपके 12 हजार रुपए जमा हो जाएंगे।

इस प्रकार 15 वर्ष में 1 लाख, 80 हजार रुपए जमा हो जाएंगे। दोस्तों, खाते पर वर्तमान ब्याज दर (interest rate) 7.1 प्रतिशत है, ऐसे में इस राशि पर आपको एक लाख, 45 हजार, 457 रुपए ब्याज (interest) के रूप में मिलेंगे। इस प्रकार एकाउंट मैच्‍योर (account mature) हो जाने पर आपको कुल तीन लाख, 25 हजार 457 रुपए की राशि प्राप्त होगी।

एसआईपी (SIP)

दोस्तों, केवल पीपीएफ में निवेश से ही नहीं, बल्कि एसआईपी (SIP) में निवेश करके भी महिलाएं पैसा बना सकती हैं। आपको बता दें कि एसआईपी (SIP) की फुल फॉर्म इस सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (systematic investment plan) होती है। दोस्तों, एसआईपी के माध्यम से म्‍यूचुअल फंड्स (mutual funds) में पैसा लगाया जाता है।

दोस्तों, आपको बता दें कि इसमें लंबे समय के लिए निवेश (investment) से लाभ प्राप्त किया जा सकता है। आम तौर पर एसआईपी में 12 प्रतिशत तक का ब्‍याज मिल जाता है। मान लीजिए कि आप इसमें एक हजार रुपए लगातार निवेश कर रही हैं, तो ऐसे में आप 15 वर्ष में कुल एक लाख, 80 हजार रुपए निवेश कर लेंगी। इस राशि के ऊपर आपको 12 फीसदी के हिसाब से ब्याज के तीन लाख, 24 हजार 576 रुपए मिल जाएंगे।

साफ है दोस्तों कि इस प्रकार 15 वर्ष में आप पांच लाख, 4 हजार, 576 रुपए बना लेंगीं। दोस्तों लगे हो तो आपकी यह भी बता दे कि इन दोनों सिप में निवेश करने वाले निवेशकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इनमें महिलाओं के साथ ही पुरुष भी शामिल हैं। खासतौर पर जो लोग छोटी-छोटी बचत कर रहे हैं, वे सिप में अपने पैसे लगा रहे हैं।

आरडी (RD)

दोस्तों, आपको बता दें कि आरडी (RD) की फुल फॉर्म recurring deposit है। यदि आप लंबे समय तक इंतजार करने की स्थिति में नहीं हैं और लंबा इंतजार करना भी नहीं चाहती हैं तो आरडी आपके लिए निवेश का एक बेहतर विकल्‍प (Better option) हो सकती है। आपके लिए अच्छी बात यह है कि आप न्यूनतम सौ रुपए से भी पोस्‍ट ऑफिस (post office) में आरडी खाता खोलने में सक्षम हैं।

बेहतर हो कि आप डाकखाने में कम से कम 5 साल की आरडी करवाएं। आपको इस पर कुछ 6.5 प्रतिशत की दर से ब्‍याज (interest) मिलेगा। इस प्रकार 5 वर्ष में आपका कुल निवेश 60 हजार रुपए निवेश होगा एवं अकाउंट मैच्‍योरिटी (account maturity) पर आपको 70 हजार 989 रुपए की धनराशि प्राप्त होगी। दोस्तों, आप इन पैसों को निकलवा सकती हैं अथवा इनकी एफडी (FD) यानी फिक्स्ड डिपॉजिट (fixed deposit) करवा कर भविष्य के उपयोग में ला सकती हैं।

निवेश के मामले में रकम की मात्रा से अधिक क्या आवश्यक है? (What is more important than amount in case of investment?)

दोस्तों, और लोगों की तरह आप भी यही मानते होंगे कि निवेश के मामले में रकम की मात्रा सबसे जरूरी है। लेकिन यह सच नहीं है। आपको बता दे कि निवेश करने के मामले में रकम से अधिक आवश्यक अनुशासन है। आप कितनी रकम निवेश कर रहे हैं, इससे अधिक आवश्यक यह है कि निवेश करने के मामले में आप कितने अनुशासित हैं। यानी कुल मिलाकर अनुशासन ही सफलता की कुंजी है।

घरेलू महिलाओं को निवेश करते समय किन बातों का ध्यान रखना होगा? (What things should be kept in mind by the home makers while investing their money?)

यदि आप एक घरेलू महिला है और अपने द्वारा बचत की गई राशि को किसी योजना में निवेश करना चाहती है तो आपको कुछ बातों का विशेष तौर पर ध्यान रखना होगा, जो कि इस प्रकार से हैं-

  • कभी भी किसी ऐसी योजना के बहकावे में ना आएं, जिसमें रातों-रात धन को दुगुना करने का लालच दिया गया हो।
  • अपने पैसे को किटी या चिटफंड कंपनियों (chitfund companies) में निवेश करने से बचें। यदि ऐसा करें भी तो पहले संबंधित संस्था के बैकग्राउंड (background) की जांच कर लें। बाद में इनके कोई फ्रॉड (fraud) सामने आते हैं। वहीं, पैसा लेकर भाग जाने के केस भी काम नहीं है।
  • अपना पैसा निवेश करने के लिए जहां तक हो सके, सरकार द्वारा चलाई जा रही निवेश योजनाओं (investment schemes) को ही प्राथमिकता दें।
  • आप अपना जो भी पैसा किसी योजना में निवेश करें, उसके कागजात (papers) अपने पास संभाल कर रखें।
  • किसी भी योजना में अपने पैसे का निवेश किसी की देखा-देखी नहीं, बल्कि सारे रिस्क (risk) को देख समझकर और कैलकुलेट (calculate) करके करें।
  • आप अपना सारा पैसा एक ही योजना में न लगा कर उसका अंश अलग-अलग योजनाओं में लगाएं तो बेहतर रहेगा।
  • टीवी (TV) या अन्य प्रचार माध्यमों पर आने वाले लुभावनी स्कीम्स (schemes) के झांसे में भी न फंसें। अच्छी तरह देख समझ कर ही अपना पैसा किसी भी योजना में निवेश करें।
  • निवेश उतना ही करें, जितना आप अफोर्ड (afford) सर सकें। आपको इसकी वजह से वर्तमान में पैसे की तंगी न झेलनी पड़े।

निवेश करना क्यों आवश्यक है?

भविष्य की आवश्यकताओं की पूर्ति के मद्देनजर निवेश करना आवश्यक है।

घरेलू महिलाओं के लिए कुछ निवेश योजनाओं के नाम सुझाएं?

घरेलू महिलाएं पीपीएफ, सिप एवं आरडी आदि में निवेश करके अपनी बचत राशि को कई गुना तक बढ़ा सकती हैं।

एसआईपी की फुल फॉर्म क्या है?

एसआईपी की फुल फॉर्म सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान है।

download app

पीपीएफ की फुल फॉर्म क्या है?

पीपीएफ की फुल फॉर्म पब्लिक प्रोविडेंट फंड है।

आरडी की फुल फॉर्म क्या है?

आरडी की फुल फॉर्म रिकरिंग डिपॉजिट है।

घरेलू महिलाओं को निवेश करते हुए किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

इन बातों की जानकारी हमने आपको विस्तार से ऊपर पोस्ट में दी है। आप वहां से देख सकते हैं।

पैसे को निवेश करने के लिए किस प्रकार की योजनाओं को प्राथमिकता देनी चाहिए?

पैसे को निवेश करने के लिए सरकार द्वारा चलाई जा रही निवेश योजनाओं को प्राथमिकता देनी चाहिए।

यदि कोई कंपनी निवेश करने पर रातों-रात धन दुगुना करने का लालच दे तो क्या करें?

ऐसी किसी भी कंपनी में निवेश नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह बहुत बड़ा फ्रॉड हो सकता है।

दोस्तों, हमने इस पोस्ट (post) में आपको महिलाओं के निवेश के लिए लाभदायक तीन योजनाओं के बारे में जानकारी दी। यदि आप भी चाहें तो इन योजनाओं का लाभ उठाकर भविष्य के लिए अच्छा पैसा बना सकते हैं। इस पोस्ट के संबंध में आपके सभी सवालों/सुझावों का स्वागत है। अपनी प्रतिक्रिया आप हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स (comment box) में कमेंट (comment) करके भेज सकते हैं।।।धन्यवाद।।

प्रवेश
प्रवेश
मास मीडिया क्षेत्र में अपनी 15+ लंबी यात्रा में प्रवेश कुमारी कई प्रकाशनों से जुड़ी हैं। उनके पास जनसंचार और पत्रकारिता में मास्टर डिग्री है। वह गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर से वाणिज्य में मास्टर भी हैं। उन्होंने गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय से व्यक्तिगत प्रबंधन और औद्योगिक संबंधों में डिप्लोमा भी किया है। उन्हें यात्रा और ट्रेकिंग में बहुत रुचि है। वह वाणिज्य, व्यापार, कर, वित्त और शैक्षिक मुद्दों और अपडेट पर लिखना पसंद करती हैं। अब तक उनके नाम से 6 हजार से अधिक लेख प्रकाशित हो चुके हैं।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Leave a Comment