VPN क्या है ? कंप्यूटर और मोबाइल में वीपीएन कैसे यूज करें ? सम्पूर्ण जानकारी

आधुनिक उपकरणों का एक ऐसा टूल जिसने इंटरनेट की दुनिया में एक नए आयाम को जन्म दिया है | उसका नाम है | VPN. VPN (वीपीएन) इन तीन शब्दों का अगर विभाजित किया जाये तो तीन अन्य शब्द निकलते हैं | वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क | वीपीएन एक ऐसा ऑप्शन है | जो हर आधुनिक फ़ोन और कम्प्यूटर में मौजूद होता है | पर यूजर्स इस बात से अनजान होते हैं | की यह वीपीएन किस वजह से फ़ोन में दिया गया है | व इसका कैसे प्रयोग किया जाता है |

VPN क्या है ? कंप्यूटर और मोबाइल में वीपीएन कैसे यूज करें ? सम्पूर्ण जानकारी

VPN क्या है –

आज इंटरनेट हजारों तरह की विभिन्न प्रकार की वेबसाइट इंटरनेट पर मौजूद है | जिनका भारी मात्रा में यूज़र्स इस्तेमाल कर के अपनी जरूरत को पूरा करता हैं | पर कुछ ऐसी वेबसाइटस हैं | जिनका प्रयोग हर किसी देश में नहीं किया जा सकता यानि की उन वेबसाइट्स पर कुछ देशों में बैन लगा दिया जाता है | व जिससे उस देश के लोग अपने कम्प्यूटर्स और स्मार्ट फ़ोन में वह वेबसाइट्स नहीं चला पाते हैं | पर अगर वह वीपीएन का इस्तेमाल अपने उपकरण में करते हैं | तो वह स्थाई तोर से वो सभी ववेबसाइट चला सकते हैं | जिनको उनके देश में चलाने पर प्रतिबंध लगा हुआ है |

समझने के लिए लाभदायक है | यह उदाहरण  – 

आज दुनिया भर में फेसबुक एक सबसे लोकप्रिय वेबसाइट है | जिसका एक बड़ी संख्या में लोग प्रयोग करना पसंद करते हैं | पर चीन एक ऐसा देश है | जहां के लोगों को फेसबुक चलाने की अनुमति नहीं है | वहां पर अगर कोई व्यक्ति इंटरनेट पर फेसबुक खोलेगा तो फेसबुक ओपन नहीं हो पाएगी क्योंकि उस देश की इंटरनेट प्रोवाइडर fb को चलाने की इजाज़त प्रदान नहीं करती है |

पर अगर आप वहां रहकर भी फेसबुक चलाना चाहते हो तो आप वीपीएन से कनेक्ट कर के आसानी से व बिना किसी डर से फेसबुक चला सकते हैं | साथ ही आपके ip address को बदला जा सकता है | जिस से आप उस देश के नियम का उलंघन करने पर भी इंटरनेट पर फेसबुक का आनंद ले सकते हैं | अगर यह कहा जाये की वीपीएन इंटरनेट पर एक पुल की तरह काम करता है | तो गलत नहीं होगा |

VPN का इस्तेमाल कैसे करें –

वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क को अगर आप अपनी जीवन शैली में लाना चाहते हैं | तो बता दें की कंप्यूटर, लैपटॉप या फिर स्मार्ट फ़ोन में इसका इस्तेमाल अलग अलग तरीके से किया जाता है | क्यों की इन दोनों के लिए अलग अलग सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन इंटरनेट पर मौजूद हैं | जो बिना किसी मूल्य के वीपीएन को कनेक्ट करने की सुविधा प्रदान करते हैं | पर कुछ वेबसाइट्स ऐसे भी हैं | जो पेड सर्विस देती हैं | जिस से आप पेड VPN सर्विस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं | यहाँ हम आपको free VPN सर्विस की जानकारी दे रहे हैं |

कंप्यूटर में VPN का ऐसे करें उपयोग –

आमतौर पर आप कंप्यूटर में वीपीएन का manually रूप से भी इस्तेमाल कर सकते हैं | पर इसके लिए आप को एक अन्य ip address की जरूरत होगी साथ ही आप के पास एक यूजर आईडी और पासवर्ड भी होना चाहिए | यह सब आप को इंटरनेट पर आसानी से मिल जायेगा | साथ ही आप इसे अपने निजी रूप से खरीदने के लिए भी सक्षम होते हैं | पर यहां आपको बताया जायेगा की आप फ्री में कैसे वीपीएन का यूज कर सकते हैं | इंटरनेट पर मशहूर opera एक ऐसी कम्पनी है | जो यह VPN सर्विस देती है | बिलकुल फ्री और सुरक्षा के नजरिये से भी यह सबसे बेहतरीन साबित होती है | इसका यूज करने के लिए आपको कई चरणों से हो कर गुजरना पड़ेगा जो कुछ इस प्रकार है –

1) प्रारंभ में आप को इसके लिए अपने लैपटॉप और कंप्यूटर में opera developer नामक सॉफ्टवेर को सही तरीके से इंस्टाल करना होगा | आप यहाँ क्लीक करके सॉफ्टवेर डाउनलोड कर सकतें हैं |

2) दूसरे स्टेप में जब आप यह सॉफ्टवेयर को अपने सिस्टम में खोलेंगे तो आप के सामने मैनु (menu) का ऑप्शन आएगा आपको इस पर क्लिक करना है | उसके बाद सेटिंग (setting) पर जाना होगा |

VPN क्या है ? कंप्यूटर और मोबाइल में वीपीएन कैसे यूज करें ? सम्पूर्ण जानकारी

3) सेटिंग पर क्लिक करने के उपरांत आपके सामने बहुत से ऑप्शन आएंगे | आप को केवल privacy and security के ऑप्शन पर क्लिक करना है | इसमें VPN enable का एक ऑप्शन दिखेगा | जिस पर आप को टिक करना होगा |

4) बस इसके बाद आपके लैपटॉप पर ओपेरा ब्राउज़र में VPN इनेबल हो जायेगा पर आप केवल opera ब्राउज़र में ही किसी भी ब्लॉक साइट को चलाने के लिए सक्षम हो पाएंगे |

5) अंतिम चरण में आप को url में VPN दिखने लगेगा जिस को आप कभी भी अपनी जरूरत के हिसाब से ऑन ऑफ़ कर सकते हैं | इसी के साथ साथ अगर आप अपनी लोकेशन को बदलना चाहते हैं | तो बदल भी सकते हैं |

ओपेरा ब्राउज़र के साथ ही अगर आप अन्य किसी सॉफ्टवेयर की मदद से फ्री VPN service लेना चाहते हैं | तो ले सकते हैं | उन पर भी थोड़े बहुत अंतर के बाद लगभग इन्ही पांच चरणों को आप को फॉलो करना पड़ता है |

VPN का फ़ोन में कैसे प्रयोग किया जाता है –

जिस प्रकार कम्प्यूटर्स में वीपीएन को कनेक्ट करने के लिए सॉफ्टवेयर इंसटाल करना पड़ता है | ठीक उसी श्रेणी में आपको अपने स्मार्ट फ़ोन में एप्लीकेशन्स को इनस्टॉल करना पड़ता है | इसके लिए आपको अपने फोन में प्ले स्टोर से वीपीएन कनेक्टिंग से संबंधित एप्लीकेशन को डाउनलोड करना होगा | प्ले स्टोर पर आपको पेड और अनपेड दोनों तरह की एप्लीकेशन्स मिल जाएँगी |

उदाहरण के लिए आपको एक एप्लीकेशन की जानकारी देने जा रहे हैं | जिसका नाम है – touch VPN app यह एक फ्री वीपीएन सर्विस ऐप है |

1) touch VPN app को आपको अपने फ़ोन में पूर्ण रूप से इंस्टॉल करना होगा |

2) जब आप इसे इंस्टॉल कर लेंगे तो उसके बाद आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज ओपन होगा जिस पर आप से लोकेशन के बारे में पूछा जायेगा | आपको अपने हिसाब से लोकेशन सेट करनी होगी जैसे आप अपना फ़ोन भारत में इस्तेमाल कर रहे हों पर आप uk की लोकेशन सेट कर सकते हैं |

3) लोकेशन सेट करने के उपरांत कनेक्ट पर क्लिक करना है | जैसे ही आप कनेक्ट करेंगे तो तुरंत ही आपका स्मार्ट फ़ोन वीपीएन से जुड़ जायेगा | और आप किसी भी ब्लॉक वेबसाइट को अपने फ़ोन में बिना किसी समस्या के चलाने के लिए सक्षम हो जायेंगे |

किन कार्यों के लिए करें वीपीएन का इस्तेमाल –

वैसे तो आप अनचाही ब्लॉक वेबसाइट को अपने फोन में चला सकते हैं | पर ध्यान रहे की आप इसका इस्तेमाल अपनी जरूरत के हिसाब से ही करें जैसे शिक्षा प्राप्त करने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं |, किसी ऐसी जानकारी को प्राप्त करने के लिए जो केवल चुनिंदा वेबसाइट पर ही मिलेगी लेकिन किसी कारण से आप के देश का इंटरनेट प्रोवाइडर आपको उन वेबसाइट को चलाने के अनुमति नहीं देता है | तब वीपीएन का प्रयोग करें साथ ही अगर आप इसे अपने व्यापार के लिए भी इस्तेमाल कर रहे हैं | तो यह बहुत कारगर साबित हो सकता है |

वीपीएन के कहीं प्रकार के फायदे और नुकसान हैं | जिन को संक्षेप समझना चाहिए जिस से आपको भविष्य में किसी भी तरह की समस्या को ना झेलना पड़े |

तो सबसे पहले हम वीपीएन के फायदों की चर्चा करते हैं | जो की निम्नलिखित हैं –

1) ऊपर दी गयी जानकारियों के हिसाब से आप यह समझ ही गए होंगे की आप किसी भी ब्लॉक वेबसाइट को चला सकते हैं |

2) दूसरा इसका फायदा यह है | की आप अपनी पहचान को छिपाये बिना ही वेबसाइट को चला सकते हैं | ना ही किसी को आप का ip adress दिखेगा साथ ही आप वीपीएन के जरिये इंटरनेट पर क्या खोज रहे हैं | वह किसी को भी पता नहीं लगेगा |

3) इंटरनेट का इस्तेमाल करना कई बार आप को महंगा भी पड़ सकता है | अगर है |कर्स की दायरें में आप का कम्पुयटर या फोन आ जाता है | तो वह ब्लैक मेल कर के भारी पैसों को मांग करते है | वह आपको इस बात से डराते हैं | की आपकी निजी जानकारियों को सार्वजनिक कर दिया जायेगा पर अगर आप वीपीएन का इस्तेमाल करते हैं | तो आप इस परेशानी से बच सकते हैं | क्योंकि यह आप की जानकारियों को गोपनीय रखने में मदद करता है |

वीपीएन के नुकसान –

1) कई लोग इस बात से निश्चिन्त रहते हैं | की वीपीएन का इस्तेमाल करने से आप भविष्य में कभी नहीं पकड़े जायेंगे मगर हम बता दें की ऐसा मुमकिन है | की आप कभी न कभी पकड़े जा सकते हैं | क्यों की आप जो भी वीपीएन का इस्तेमाल कर के खोजते हैं | वह खुद ब खुद आपके वीपीएन सर्वर में मौजूद रहता है |

2) कुछ फ्री वीपीएन सर्विस का इस्तेमाल से आपको नुकसान भी पहुंच सकता है | क्यों की वीपीएन सर्विस आपके डाटा का मिसयूज भी कर सकती हैं |

3) अगर आप अपने फ़ोन या कंप्यूटर में वीपीएन का इस्तेमाल करते हैं | तो इंटरनेट की सामान्य स्पीड से आप के इंटरनेट की स्पीड काफी हद तक कम हो जाएगी क्योंकि आप के और गूगल के मध्य में एक अन्य सर्वर जुड़ जाता है | उसी अन्य सर्वर को वीपीएन कहा जाता है |

दोस्तों, इंटरनेट की दुनिया का एक भाग VPN जिससे संबंधित लोगों के मन में कई सवाल थे | इस लेख के माध्यम से VPN की सम्पूर्ण जानकारी आपके साथ साझा की गयी है | फिर भी अगर इस विषय से संबंधित कोई भी सवाल आप पूछना चाहते हैं | तो आप हमे नीचे कमेंट कर के पूछ सकते हैं | साथ ही जानकारी पसंद आने पर इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर भी कर सकते हैं | और अगर आप भी अपने अहम डाटा  को बचा के रखना चाहते है | तो VPN का इस्तेमाल करे और अपनी जानकारियों को साइबर क्राइम से बचाए |

Sharing is caring

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।