[शिकायत] Uttar Pradesh Jansunwai Portal | यूपी जनसुनवाई पर शिकायत कैसे करे? jansunwai.up.nic.in Hindi

जनसुनवाई यू पी निस्तारण , जनसुनवाई यू पी, jansunwai, मुख्यमंत्री से शिकायत कैसे करें, Uttar Pradesh Jansunwai Portal, jansunwai.up.nic.in hindi, मुख्यमंत्री शिकायत केन्द्र, मुख्यमंत्री शिकायत उत्तर प्रदेश, मुख्यमंत्री शिकायत प्रकोष्ठ उत्तर प्रदेश, ऑनलाइन शिकायत उत्तर प्रदेश, जनसुनवाई यू पी portal, जनसुनवाई यू पी helpline number

उत्तर प्रदेश सरकार ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए बहुत से प्रयास कर रही है। ताकि प्रदेश में कानून व्यवस्था बनी रहे। और लोगों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े। लोगों को प्रदान की जाने वाली सुविधाएं उनको सही समय पर प्राप्त हो सके। लेकिन फिर भी कहीं न कहीं कुछ न कुछ कमी रह जाती है। जिसके कारण आम नागरिकों को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ जाता है।

प्रदेश सरकार ने नागरिकों की इन समस्याओं को समझते हुए ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण करने के लिए Uttar Pradesh Jansunwai Portal का निर्माण किया है। जहां पर आप घर बैठे किसी भी विभाग की किसी भी प्रकार की शिकायत कर सकते हैं। और आपकी समस्या को संबंधित विभाग द्वारा कम से कम समय में हल कर दिया जाता है।

jansunwai.up.nic.in hindi

यदि आप को भी किसी विभाग कर्मचारी से किसी प्रकार की शिकायत है। तो वह आप घर बैठे ऑनलाइन ही उत्तर प्रदेश सरकार से उस विभागीय कर्मचारी की ऑनलाइन शिकायत कर सकते हैं। जिसके बाद आप को होने वाली समस्या का समाधान प्रदान किया जाएगा।

आप ऑनलाइन Uttar Pradesh Jansunwai Portal  के माध्यम से अपनी शिकायत को कैसे पंजीकरण करा सकते हैं। इसके लिए आपको क्या-क्या करना पड़ेगा। इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको इस आर्टिकल को लास्ट तक पढ़ना होगा। हम यहां आपको इस आर्टिकल के माध्यम से पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल क्या है? What Is Uttar Pradesh Jansunwai Portal?

Uttar Pradesh Jansunwai Portal एक ऐसा पोर्टल है। जिसे प्रदेश सरकार ने प्रदेश के नागरिकों के लिए शिकायत पंजीकरण के लिए बनाया है। जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं। आजकल भ्रष्टाचार अपने चरम सीमा पर है। लोग अपने कर्तव्यों का सही ढंग से निर्वाहन नहीं करते हैं। प्रदेश सरकार आम नागरिकों को होने वाली समस्याओं को और उनका समाधान प्राप्त करने के लिए इस पोर्टल का निर्माण किया है। कई बार ऐसा होता है। कि गरीब व्यक्तियों की शिकायत को कोई विभाग का कर्मचारी या उच्च पदाधिकारी नहीं सुनता है।

इसलिए उन्हें इंसाफ नहीं प्राप्त हो पाता है। किसी अन्य बड़े अधिकारी के पास में जाने का वह साहस भी नहीं कर पाते। क्योंकि और शिकायत करने के लिए भी कई प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

[शिकायत पंजीकरण] Uttar Pradesh Jansunwai Portal।उत्तर प्रदेश जनसुनवाई। कैसे करे

लेकिन अब उत्तर प्रदेश सरकार ने देश के आम नागरिकों कि इन समस्याओं को हल कर दिया है। अब कोई भी नागरिक घर बैठे Uttar Pradesh Jansunwai Portal  के माध्यम से किसी भी कर्मचारी, विभाग या उच्च पद अधिकारी के खिलाफ शिकायत कर सकता है। और उस व्यक्ति, विभागीय अधिकारी के खिलाफ को जल्द से जल्द एक्शन लिया जाता है। और आम नागरिकों को उनका हक दिलाया जाता है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने Uttar Pradesh Jansunwai Portal  की पहल की है। ताकि प्रदेश के आम नागरिकों को एक समान अधिकार प्राप्त हो सके। कोई भी व्यक्ति, विभाग कर्मचारी या उच्च अधिकारी कानून का उल्लंघन ना कर सके।

जनसुनवाई पोर्टल डीटेल्स –

योजना का नामउत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल
राज्य उत्तर प्रदेश
प्रक्रिया ऑनलाइन
शुरू किसने किया मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी
शिकायत करने की प्रक्रियाऑनलाइन
शिकायत दर्ज करने की फीसकोई फीस नहीं – निशुल्क
ऑफिसियल वेबसाइट jansunwai.up.nic.in

ऑनलाइन शिकायत उत्तर प्रदेश – जनसुनवाई यू पी Portal से जुड़ी विशेष जानकारी –

दोस्तों अभी कुछ समय से यूपी जनसुनवाई पोर्टल सही से काम नहीं कर रहा है। शायद सरकार द्वारा इसे और अधिक प्रभावी बनाने के लिए पोर्टल पर कोई काम चल रहा होगा। जिसके कारण जनसुनवाई पोर्टल अभी काम नहीं कर रहा है। जैसे ही यह काम करना शुरू करता है। आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं आप समय-समय पर पोर्टल चेक करते रहें।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल पर ऑनलाइन शिकायत पंजीकरण कैसे करें? Complaint Registration Process On UP Jansunwai Portal

यदि आप उत्तर प्रदेश के नागरिक हैं। और आपको प्रदेश के किसी विभाग कर्मचारी या उच्च पदाधिकारी के बारे में शिकायत करना है। तो आप ऑनलाइन उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रहे Uttar Pradesh Jansunwai Portal के माध्यम से अपनी शिकायत का पंजीकरण करा सकते हैं। और जल्द से जल्द उसका समाधान प्राप्त कर सकते हैं। अपनी शिकायत को ऑनलाइन पंजीकरण कराने के लिए आपको नीचे बताए गए आसन से टिप्स को फॉलो करना होगा –

Total Time: 15 minutes

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर जाएं –

Uttar Pradesh Jansunwai Portal पोर्टल पर अपनी शिकायत पंजीकरण कराने के लिए सबसे पहले आपको अपने मोबाइल/ लैपटॉप/ PC में Uttar Pradesh Jansunwai Portal की ऑफिशियल वेबसाइट jansunwai.up.nic.in पर जाना होगा। आप चाहें तो यहां शिकायत दर्ज करने हेतु क्लिक करके डायरेक्ट भी जा सकते हैं।

शिकायत पंजीकरण ऑप्शन पर क्लिक करें –

ऑफिसियल वेबसाइट पर पहुंचने के पश्चात आपको यहां शिकायत पंजीकरण का लिंग दिखाई देगा। इस लिंक पर जैसे ही आप क्लिक करेंगे। आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा।
[शिकायत पंजीकरण] Uttar Pradesh Jansunwai Portal।उत्तर प्रदेश जनसुनवाई। कैसे करे

शर्तें स्वीकार करें –

इस नए पेज पर आपको पोर्टल का उपयोग करने के लिए कुछ शर्तें बताई जाएंगी जिन्हें आपको सहमति देकर स्वीकार करना होगा। जिस पर टिक मार्क लगाकर आप सबमिट करें।
[शिकायत पंजीकरण] Uttar Pradesh Jansunwai Portal।उत्तर प्रदेश जनसुनवाई। कैसे करे

यूजर रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरे –

इसके पश्चात एक नया पेज ओपन होगा। इसमें आपको अपना मोबाइल नंबर, ईमेल एड्रेस, और कैप्चा कोड भरना होगा।
[शिकायत पंजीकरण] Uttar Pradesh Jansunwai Portal।उत्तर प्रदेश जनसुनवाई। कैसे करे
और नीचे दिए गए सबमिट करें एवं ओटीपी भेजें ऑप्शन पर क्लिक करें।

ओटीपी वेरीफाई करें

जैसे आप अपना मोबाइल नंबर ईमेल id और कैप्चा कोड भरेंगे। आपके मोबाइल पर एक टाइम पासवर्ड आ जाएगा। जिसे दिए गए बॉक्स में भरकर कंफर्म करने के बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा।

शिकायत फार्म भरे –

इस पेज में आपको अपनी शिकायत और उससे संबंधित पूरी जानकारी भरना होगा। जिस प्रकार की जो भी घटना या शिकायत है आप उसको पूरी तरह से एक्सप्लेन करें।

संबंधित दस्तावेज अपलोड करें –

शिकायत से संबंधित यदि आपके पास कोई दस्तावेज है, तो आप उनको भी यहां पर अपलोड कर सकते हैं ताकि आपकी शिकायत पर सही कार्यवाही की जा सके।

शिकायत सबमिट करें –

सब कुछ करने के पश्चात आपको सबमिट बटन पर क्लिक करना होगा। जैसे ही आप सबमिट बटन पर क्लिक करेंगे। आपको आपकी शिकायत पंजीकरण हो जाएगी।

शिकायत नंबर नोट करके रखें –

आपको  शिकायत पंजीकरण का एक नंबर प्रदान कर दिया जाएगा। आपको मोबाइल में मैसेज के जरिए भी शिकायत पंजीकरण नंबर को भेज दिया जाएगा। आप कभी भी इस शिकायत पंजीकरण नंबर का उपयोग करके अपनी शिकायत की स्थिति को चेक कर सकते हैं।

यूपी जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत की स्थिति कैसे चेक करें? Complaint status checking process on UP Jansunwai Portal

यदि आपने किसी विभाग  या उच्च पद अधिकारी के खिलाफ शिकायत की थी। और आप अपनी शिकायत की स्थिति को ऑनलाइन चेक कर सकते हैं। और पता कर सकतें हैं कि आपकी शिकायत पर क्या कार्यवाही की गई है। या आपकी शिकायत एक्सेप्ट की गई है या रिजेक्ट कर दी गई है।  इसके लिए आपको नीचे बताए गए आसान से स्टेप्स को फॉलो करना होगा।

  • सबसे पहले आपको विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट jansunwai.up.nic.in/track.aspx पर जाना होगा। इसके पश्चात आपको पंजीकरण शिकायत की स्थिति पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप शिकायत की स्थिति पर क्लिक करेंगे। आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा। यहां पर आपसे आपका मोबाइल नंबर और ईमेल ID और शिकायत पंजीकरण संख्या भरने को कहा जाएगा।
[शिकायत पंजीकरण] Uttar Pradesh Jansunwai Portal।उत्तर प्रदेश जनसुनवाई। कैसे करे
  • सारी डिटेल्स भरने के पश्चात बटन पर क्लिक कर दें। जैसे ही आप सबमिट बटन पर क्लिक करेंगे। आपके सामने आपकी शिकायत की स्थिति ओपन हो कर आ जाएगी।
  • यहाँ पर आपको आपकी शिकायत की पूरी जानकारी प्रदान की जाएगी।

Uttar Pradesh Jansunwai Portal पर शिकायत हल होने में ज्यादा टाइम लगे तो क्या करे?

यदि आपकी शिकायत को दर्ज कराए 1 हप्ते से ज्यादा टाइम हो गया है। तो आप अपनी शिकायत के लिए रिमाइंडर भी भेज सकते है। जिससे आपकी शिकायत पर ज्यादा जल्दी ध्यान दिया जायेगा। और आपकी शिकायत को जल्द से जल्द सॉल्व करने की कोशिश की जाएगी। रिमाइंडर भेजने के लिए आपको नीचे बताये जा रहे स्टेप्स को फॉलो करना है –

  • सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट https://jansunwai.up.nic.in/SendReminder.html पर जाना है।
  • वेबसाइट पर पहुचने पर आपके सामने नीचे दिखाई जा रही इमेज की तरह पेज ओपन होगा।  यहाँ पर आपको अपना रिफरेन्स नंबर अर्थात शिकायत नंबर भरना है और खोजें आप्शन पर क्लीक करना है।
यू पी जनसुनवाई पर शिकायत कैसे करे? jansunwai.up.nic.in Hindi
  • खोजे आप्शन पर क्लीक करने पर आपकी शिकायत दिखाई जाएगी। जो आपने दर्ज करवाई थी। आप यही से विभाग को रिमाइंडर भेज सकतें हैं।

Uttar Pradesh Jansunwai Portal पर शिकायत का हल ना मिलने पर क्या करें?

कई बार शिकायत करने के बाद भी आपको सही हल नहीं मिलता है। अधिकारी अनैतिक तरीके से मामले को हल करके आख्या लगा देते हैं। जिससे आप संतुष्ट नहीं होते हैं, तो आपके पास एक और आप्शन है फीड बेक सेंड करने का। आप फीड बेक में अपनी सभी शिकायत के मामले में अधिकारी द्वारा हल किये जाने के बारे में बता सकतें हैं –

यदि आपने Uttar Pradesh Jansunwai Portal पर अपनी शिकायत दर्ज कराई है। लेकिन फिर भी आपको  समाधान प्रदान नहीं किया गया है। तो आप इसके बारे में अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसके लिए आप https://jansunwai.up.nic.in/onlineFeedbackEntry.html पर जाकर अपना फीडबैक दे सकते हैं। आप चाहें तो यहां क्लिक करके डायरेक्ट भी जा सकते हैं।

यू पी जनसुनवाई पर शिकायत कैसे करे? jansunwai.up.nic.in Hindi

जनसुनवाई यू पी पोर्टल अप्प डाउनलोड | Jansunwai Portal App Download –

प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के नागरिको को और अधिक सुविधा पूर्वक जनसुनवाई पोर्टल का उपयोग करने के लिए jansunwai portal app भी बनाया है। जिसका उपयोग करना बेहद आसान है। कोई भी आम नागरिक साधारण जानकारी का उपयोग करके यू पी जनसुनवाई पोर्टल अप्प का उपयोग कर सकता है। जनसुनवाई अप्प आप प्ले स्टोर पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं। अप्प के माध्यम से शिकायत करने और शिकायत की स्थिति को चेक करने में आसानी रहेगी।

यू पी जनसुनवाई पोर्टल अप्प डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लीक करें?

जनसुनवाई ऐप से शिकायत कैसे दर्ज करें? [How to register a complaint through Jansunwai App?]

यदि आप उत्तर प्रदेश के किसी भी विभाग की ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराना चाहते हैं, तो आपके लिए शिकायत दर्ज करने के लिए सबसे उत्तम तरीका जनसुनवाई ऐप है। जनसुनवाई ऐप के माध्यम से आप अपनी शिकायत बढ़िया आसानी से दर्ज करा सकते हैं। और समय-समय पर अपनी शिकायत की स्थिति को भी चेक कर सकते हैं। इसके लिए आपको बार-बार पोर्टल में लॉगिन करने की आवश्यकता नहीं होगी। जनसुनवाई ऐप के माध्यम से शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया नीचे आपको बताई गई है आप इसे फॉलो कर सकते हैं –

  • ऐप के माध्यम से शिकायत दर्ज करने के लिए सबसे पहले आपको प्ले स्टोर से जनसुनवाई ऐप डाउनलोड करना होगा। आप यहां क्लिक करके भी डायरेक्ट जनसुनवाई ऐप डाउनलोड कर सकते हैं।
  • ऐप डाउनलोड करके इसे ओपन करना है। ओपन करने के पश्चात आपके सामने नीचे दिखाई गई इमेज की तरह एक पेज ओपन होगा। यहां पर आपको अपना मोबाइल नंबर डालकर डालना है। जिसके पश्चात आपके मोबाइल नंबर पर एक वन टाइम पासवर्ड आएगा। जिससे यहां वेरीफाई करके अपने अकाउंट में लॉगिन कर पाएंगे।
जनसुनवाई ऐप से शिकायत कैसे दर्ज करें? [How to register a complaint through Jansunwai App?]
  • मोबाइल नंबर वेरीफाई करने के पश्चात आपको अपनी कुछ पर्सनल डिटेल्स जैसे- नाम पिता का नाम एवं एड्रेस आदि भरना होगा। जिसके पश्चात आपकी प्रोफाइल कंप्लीट हो जाएगी।
  • शिकायत दर्ज करने के लिए डैशबोर्ड में उपलब्ध रजिस्टर ग्रीवेंस ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। जिसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा। यहां पर आपको पूछी गई सभी जानकारी भरकर अपनी शिकायत दर्ज करानी होगी।
जनसुनवाई ऐप से शिकायत कैसे दर्ज करें? [How to register a complaint through Jansunwai App?]
  • शिकायत दर्ज होने के पश्चात आपको एक शिकायत नंबर दिया जाएगा। यह शिकायत नंबर आपके मोबाइल नंबर पर भी भेज दिया जाएगा। आप कभी भी अपने इस शिकायत नंबर के माध्यम से वेबसाइट पर या एप्प में लॉगिन करके अपने शिकायत की पर की गई कार्रवाई की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

जनसुनवाई पोर्टल हेल्पलाइन नंबर – कांटेक्ट डिटेल्स

यदि आपको जनसुनवाई पोर्टल से जुड़ी कोई शिकायत दर्ज करानी है। अथवा आपको जनसुनवाई पोर्टल का उपयोग करने में किसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है, तो आप नीचे दिए गए ईमेल आईडी से संपर्क करके आपने शिकायत का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।

jansunwai-up@gov.in

Uttar Pradesh Jansunwai Portal releted FAQ

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल क्या है?

जनसुनवाई पोर्टल योगी आदित्यनाथ जी द्वारा जी द्वार प्रदेश में हो रहे भ्रष्टाचार को रोकने के लिए शुरू किया गया। एक ऑनलाइन पोर्टल है जिसके माध्यम से व्यक्ति अपनी शिकायत सीधे मुख्यमंत्री तक पहुंचा सकता है।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई के माध्यम से ऑनलाइन शिकायत कैसे दर्ज करें?

अगर आप ऑनलाइन माध्यम से शिकायत दर्ज करना चाहते है तो बहुत आसानी से ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर कर सकते है जिसके लिए ऊपर लेख बतायी गयी जानकारियों को भी फॉलो कर सकते है।

जनसुनवाई शिकायत कैसे देखें?

जनसुनवाई पोर्टल पर की गई शिकायत की स्थिति को चेक करने के लिए आपको jansunwai.up.nic.in/track.aspx पर जाना होगा। और आप को मिले शिकायत पंजीकरण नंबर का उपयोग करके अपनी शिकायत की स्थिति चेक कर सकते हैं।

क्या जनसुनवाई पोर्टल का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के नागरिक ही उठा सकते है?

जी हाँ! इस पोर्टल का लाभ केवल उत्तर प्रदेश नागरिक ही है।

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई आखिरी बार विभाग द्वारा कब अपडेट किया गया है?

विभाग द्वारा इस पोर्टल को आखिरी बार 02.04.2021 को अपडेट किया गया है।

इस पोर्टल का लाभ लेने के लिए हमें किसी शुल्क का भुगतान करना होगा?

जी नहीं! इस पोर्टल की सभी सुविधाओं को विभाग द्वारा पूर्णतया निःशुल्क शुरू किया गया है। इसलिए आपको इस पोर्टल का उपयोग करने के लिए किसी भी शुल्क का भुगतान नहीं करना होगा।

तहसील में शिकायत कैसे करें?

यदि आप तो तहसील में जाकर शिकायत करना चाहते हैं। तो जनता दरबार में शिकायत कर सकते हैं आपकी शिकायत का तुरंत निस्तारण किया जाएगा।

किसी भी अधिकारी की शिकायत कैसे करें?

किसी भी अधिकारी की शिकायत तो आप जनसुनवाई पोर्टल के माध्यम से कर सकते हैं। आप ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर अथवा ऐप डाउनलोड करके अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

पोर्टल पर शिकायत कैसे दर्ज करें?

पोर्टल पर शिकायत करने के लिए आपको ऊपर स्टेप बाय स्टेप पूरी जानकारी प्रदान की गई है। आप यहां दी गई जानकारी के अनुसार अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

ऑनलाइन शिकायत कैसे दर्ज करें?

ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने के लिए आपको जनसुनवाई पोर्टल पर जाना होगा। पोर्टल पर उपलब्ध शिकायत पंजीकरण ऑप्शन पर क्लिक करके आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

1076 की शिकायत कैसे देखें?

1076 की शिकायत स्थित को चेक करने के लिए आपको हेल्पलाइन नंबर 1076 पर कॉल करना होगा। और अपनी कंप्लेंट नंबर बताना होगा। जिसके पश्चात आपको आपकी शिकायत की स्थिति के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।

तो दोस्तों इस तरह आप उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के आम नागरिकों के लिए चलाए जा रहे Uttar Pradesh Jansunwai Portal पोर्टल के माध्यम से अपनी शिकायत ऑनलाइन पंजीकरण  करा सकते हैं। और अपनी समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं। यदि आपको जनसुनवाई यू पी पोर्टल अप्प, जनसुनवाई यूपी गवर्नमेंट, जनसुनवाई पोर्टल अप्प, जनसुनवाई पोर्टल एप्प, आई जी आर एस यू पी, jansunwai समीक्षा, शिकायत दर्ज करने हेतु क्लिक करे, जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करें। ताकि अन्य लोगों को भी प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रहे इस अभियान का लाभ प्राप्त हो सके। इसके साथ ही यदि आपका किसी भी प्रकार का सवाल है। तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें। हम आपको जल्द ही जवाब देंगे।। धन्यवाद।।

Contents show
Spread the love:

235 thoughts on “[शिकायत] Uttar Pradesh Jansunwai Portal | यूपी जनसुनवाई पर शिकायत कैसे करे? jansunwai.up.nic.in Hindi”

  1. Good Evening Sir,
    Sir mai Ramgarh Tikariya Jagatpur Raebareli ka mool nivashi houn. Sir mai ek SC cost ka beykt houn. mera ghar goun ke sabse kinare bana hua hai mere ghar par jane ke liye koi rasta nahi hai kai bar maine gram pradhan ko suchit kiya hai lekin koi karvahi nahi hui hai .
    Ath aap se nivedan hai ki mere rasta ka samadhan karne ki kripa kare .

    dhanyvad

    प्रतिक्रिया
  2. Sar mine martev sisu avam balika madad form aaply kiya tha lawar cort me jo ki bina chanvin key rijact kar diya gya h jo ki usme ladki ke 35000 hajar r ate h sat is ka koi upay batane ka kast kary rijact karta ka name prkash sankwar h sar mera name abhay kumar w/o kamal kishor village Shkhawatpur post jondhari jila FIROZABAD thana narki h sar please help me

    प्रतिक्रिया
  3. आदरणीय सर
    मेरी अभी तक एक भी किस्त नहीं आयी है मुझे अपात्र मे कर दिया था फिर मेने इसे सत्यापन करा दिया था फिर मेने इसे सत्यापन करा कर पात्र करने के लिए कागजात जमा कर दिए प्रधानमंत्री सम्मान निधि की क़िस्त भेजने हेतु मेने जनसुनवाई पोर्टल पर भी काई बार शिकायत की लेकिन कोई भी समाधान नहीं हुआ मुझे क्या करना चाहिए आपकी अति कृप्या होगी.

    आपका अपना किसान

    प्रतिक्रिया
  4. Hlo sir namste mera nam Yogesh kumar h Mai Uttar Pradesh ke Aligarh jile ke ek chhote se ganv Ka Rahne vala hu sir abhi mera 12th ka result aaya jisme mere 326marks h. Mera 12th ka roll number 215228346 h ye bahut kam marks hai or mere high school mai 500 marks the 2019 Mai or mera pichhla record kaphi achha h mera high school ka roll number 0272807 h sir mai chahta hun ki mera 12th ka result dobara Chek ho sir please help me nhi to meri puri ek Sal barbad ho jayegi mai ek medium varg ka hun mere 11th mai 350 marks the so please help me sir aapki badi Kripa hogi so please sir help me please.mera mobile number 8958985336 hai.

    प्रतिक्रिया
  5. Respected Sir,
    Just want a help regarding land issue in my village, 4 months ago some land which was my grandfathers property has been register as in my name and my relatives name however they were using this land for agriculture from past many years now when i am demanding them to give my share from this land they are not giving inspite of my name that has been register. They are saying that we will not give you land and giving threat and fighting with me, as they have more no of heads to fight and i am only single to face them of. In this case what would be better suggestion that i need to do.

    प्रतिक्रिया
  6. आदरणीय महोदय,
    निवेदन यह है कि मेरे ग्राम से पड़ोसी ग्राम में जाने के लिए कोई रास्ता नहीं है जबकि दोनों ग्राम एक ही पंचायत में आते है रास्ता दोनों ग्राम के लोगों के साथ साथ अन्य ग्राम के लोग भी उस पर से निकलते है जो कि एक बाग के माध्यम से कठिनाई का सामना करते हुए निकलते है रास्ता ग्राम से निकल कर कुछ दूरी तक है लेकिन दोनों सड़कों का कोई सम्पर्क मार्ग नहीं है अतः आपसे निवेदन है कि जल्द से जल्द इस समस्या का समाधान करें ।
    महान कृपा होगी।
    आज्ञा से समस्त ग्रामवासी
    धन्यवाद्।

    प्रतिक्रिया
  7. सेवा में
    श्रीमान परम पूज्य आदित्य नाथ जी
    महराज , मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ

    विषय:- भू माफिया द्रारा प्रार्थिनी की जमीन हड़पने व जान से मार देने के सम्बन्ध पत्र |

    महोदय ,

    सविनय निवेदन है कि मै प्रार्थिनी लक्ष्मी देवी पत्नी स्व मिठाई लाल ,निवासिनी -एस -8 402 -C -3 खजुरी गोला मकबूल आलम रोड ,कैट जनपद वाराणसी का मूल निवासिनी हूँ |प्रार्थिनी की जमीन को हड़पने की नीयत से मुहम्मद कलाम खान पुत्र जमालुद्दीन खान पता -अशोक बिहार कालोनी फेस न ० 1 थाना -कैण्ट ,जनपद वाराणसी में रहते है भू माफिया मु ० कलाम खान एंव लेखपाल -बृजभूषण सिंह मिलकर हम गरीब विधवा की जमीन हड़पने के लिए हमारे मकान की जमीन बन्जर दिखा रहे है | हमारे जमीन में चार हिस्सेदार थे जिसमे’ एक हिस्सा मेरा है । और तीन लोगो को डरा धमका कर फर्जी तरीके से हड़प लिये और हमें भागने के लिए हमारे मकान से सटाकर मलबा का अम्बार लगाये है ,जिससे हमारे मकान की दीवार गिर रही है जिसको वे लोग बनवाने भी नहीं दे रहे है । अतः श्रीमान जी अनुरोध है कि लेखपाल जी से पूछा जाए कि अगर यह जमीन बन्जर है तो और हिस्सेदारो की जमीन भू -माफिया मु0 कलाम खान को रजिस्ट्री किस प्रकार से किये । प्रार्थिनी लक्ष्मी देवी के एक पुत्र (लड़का ) है । जिसका नाम जीउत लाल है ,सुपुत्र मिठाई लाल जिसे मु0 कलाम ने जमीन न देने पर जान से मारने व अपरहण करने की धमकी दिया करते है मैं विधवा प्रशासन को कितनी बार प्रार्थना -पत्र देकर अवगत कराया किन्तु आज तक प्रशासन द्रारा कोई सुनवाई नहीं हुई ,क्यो’कि मैं जाति का दलित (चमार) हूँ ।

    अतः श्रीमान जी से मैं हाथ जोड़कर निवेदन करता हूँ कि मुझ विधवा का घर उजड़ा न जाय ,नहीं तो अब मेरे पास केवल एक ही विकल्प
    है कि मैं जिला मुख्यालय के गेट पर आकर आत्महत्या कर लूँ , जिससे सभी लोगो को आजादी मिल जाय ।

    दिनांक -30 -09 -2017

    (प्रार्थिनी)
    लक्ष्मी देवी पत्नी स्व मिठाई लाल
    पता एस -8 402 -C -3 खजुरी गोला मकबूल
    आलम रोड थाना
    कैण्ट ,जनपद वाराणसी |
    मो -9984462726

    प्रतिक्रिया
  8. Respected sir,
    Mera name jaydevi hai mai Gram -Ishapur Tahshil-shahagang jila-Jaunpur
    ki Nivasi hu hamare pattidar pulli air unke bete Rajendraprasad aur Dinesh Maurya ne jabarjasti se teen bessa parti jameen aur 1064 No. Chakroat apne chak me khan khoad kar mila liya hai aur aane Jane ke liye rashta nahi hai aur year 2003 se lagatar application diya gya 2020 tak lekin koi kanuni karvai nahi hua jab nekpal aate ha

    प्रतिक्रिया
  9. मोहदय , निवेदन है कि नत्थू उर्फ़ कैलाश की काशत की भूमि मौजा किरतपुर तहसील नजीबाबाद जिला बिजनौर के खसरा नंंं -1412,1413 मे से राष्ट्रीय राजमार्ग 119 का चोडीकरण हेतु भूमि अर्जित की है। मौके पर पीलर भी लगे है। लेखपाल सुभाष कुमार ने सुविधा शुल्क की माँग की जो पुरी न होने के कारण। दिसंबर 2018 से मार्च 2020 तक 5 बार रिर्पोट बनाई जो गलत है। खसरा नं़ 1413 में मेरी भूमि 2645 वर्ग मीटर अधिग्रहण की गई है। हमने 1076 पर बहुत बार शिकायत की ।लेकिन कोई अधिकारी मौके पर जाँच करने नहीं जाते । झुठी आख्या द्वारा निस्तारित कर देते है। लेखपाल ने धमकी भी दी कि आप कही भी शिकायत कर दो मेरी लखनऊ तक पहुँच है।मौजा किरतपुर में अन्य। किसानों के साथ अन्याय किया गाया।किसानों की शिकायत के बाद भी कोई कारवाई नहीं की गई। मैं 80 साल का चलने फिरने से लाचार लेखपाल द्वारा प्रताडित किया जा रहा है। पाचों रिर्पोट की प्रतिलिपी और मौके पर ज़मीन की वरिष्ठ अधिकारी द्वारा जाँच कराई जाए। लेखपाल की आय संपत्ति की जाँच की जाए।कानूनी कारवाई की जाए। लेखपाल की हठधर्मि के कारण मुझे न्याय नहीं मिल पा रहा। मेरी इस शिकायत की प्रतिलिपि मुख्यमंत्री कार्यलय में भेज दी जाए। ताकि मुझे न्याय मिल सके। आपकी अति कर्पा होगी। 1076 complant no. 40013420002925 nistarit kar di thi feedback diya ab apar jilaadikari ji pass gai fir tasildar ko bhej di fir nistran kar de ge hemne dm office me bhi complant ki magar koi karwai nahi hue hem kya kare please help

    प्रतिक्रिया
  10. Sir ram ram jii. Gao kulasra gb Nagar ra check post wali Gali Pani ki samasya jaise Rohit tyagi father name Narendra Tyagi ne plant laga rakha hai jo ki west Pani nali mein ja raha hai water level bahut kam ho raha hai kripya karke help Karen pahle 60 foot pani tha ab 80 foot per aata double bohr nai kara Rakha haihai

    प्रतिक्रिया
  11. sir mera naam sunil bidhuri hey or mey villege raipur [d] aligarh [t] kheer [post] gharbra thana tappal ka rhney vala hu sir ham bahut garib hey meri maa jo ki vidhva or viridya dono hi hey unki penson pichle 5 sal sey nahi mil rahi hey jissey ki hmara kutch din ka rashan aa jata tha penson ke liye hamari koyi bhii madad nahi mili so plz sir i rikuest ma – bhagvanti pita – bhupsingh putra – sunil bidhuri [9528902895]

    प्रतिक्रिया
  12. we had made a complaint but nobody visited the site as government has made marking and inserted pillers in our land we request you to investigate the matter throught senior officer and take a strict action against sh subhash lakepal
    sir 1076 par compalint karte he adhidakari galat report submit kar dete he ki samsya ka nistaran kar diya gaya he fir kha sikayat kare kya lakepal ne suvidha sulk ki demand ki thi kya suvidha sulk de kar kam karva ;ate to thik rata sarkar se publik ko bhut umid thi hem to paresan ho gaye kya kare please help

    प्रतिक्रिया
  13. मै अरविन्द कुमार/परमेश्वर प्रसाद,बुटवेढवा,विण्ढम गंज(सोनभद्र) गलत रिपोर्ट अधिकारी से लगवा कर ,प्रधान तथा सेक्रेटरी शौचालय का १२०००रू खा गया है,केवल कहने का है,कि बहुत अच्छे मुख्य मंत्री आ गये है। गरीबो के लिए मै वो करुंगा,ये करुंगा ,ये सब कहने मे क्या लगता है।
    प्रधान हमारा शौचालय बनवाया अब केवल दरवाजा ही लगवाना था ,तो मै प्रधान के पास गया ,और बोले की काम सब हो गया है,तो साफ साफ प्रधान बोला कि आपका व्यक्तिगत है,यही वाक्य लगाकर अधिकारी तथा प्रधान ,सेक्रेटरी झूठा साबित करके १२०००रु हजम कर लिया,मै तो कहता हू कि मेरा आईडी नं है,स्वम प्रधान शौचालय बनवाया तो उस समय व्यक्तिगत नही था,जब पैसा की बात आई तो हम एसबीएम,चले गये ,यही हमारा राज्य मे होता है,चोर लोगो को राज्य सरकार नही पकडना चाहती है।

    प्रतिक्रिया
  14. ओमप्रकाश
    श्रीमानजी चार बार ि‍शिकायत की हर बार 100 प्रतशित गलत ि‍रिपोर्ट लगा कर ि‍निस्‍तारित कर ि‍दिया जाता है उच्‍च अधिकारी वही मान लेते हैं मैं चैलेन्‍ज भी कर ि‍दिया है ि‍कि जॉंच काराई जाय जॉच सही ि‍निकती है ताोो मुझे सजा दीजाय नहीं तो दोशियों पर कडी से कडी कार्यवाही की जाय अब क्‍या करें खाद गडहा पर कब्‍जा के सम्‍बन्‍धमें लेखपाल द्वारा कहा जाता है ि‍कि जॅॅाच आयेेेेगी तो हमारे यहॉ आयेंगी अब कहॉ ि‍शिकायत करे

    प्रतिक्रिया
  15. Mahoday chakmarg se atikraman hatvane avam chakmarg ka nirman karane hetu may2018se lakar lagatar jansunvai uttarpredesh par avedan kar raha hu parantu aajtak koi bhi nyayaochit karyavahi nahi ki gai sirf riport lagakar nistaran diya ja rahahai aur ab riport me dikhaya ja raha hai kibedakhali vad tahasildar nyayalay me vicharadhin hai bina agrim aadesh ke koi karyavahi nahi ki ja sakati bataye ab hum kya kare

    प्रतिक्रिया
  16. श्रीमान जी मेरा नाम जगरनाथ है एक श्रमिक हूं मैं ग्राम मौलाना पुर गोरारी पोस्ट सगड़ी तहसील सगड़ी जिला आजमगढ़ का मूल निवासी था मेरा पेशा मजदूरी करके जीवन यापन करना था मैं 62 साल का हो गया किंतु श्रमिक पेंशन नहीं मिल रही है जबकि आजमगढ़ जिले से पास है भवन निर्माण कर्मकार बोर्ड लखनऊ द्वारा नहीं दिया जा रहा है मेरा श्रमिक कार्ड संख्या 09626300000299 हाय मैंने जनसुनवाई पर शिकायत करता हूं तो सिर्फ उप श्रम आयुक्त कार्यालय आजमगढ़ को समाधान करने हेतु आ जाता है जबकि मैं बोर्ड को लिखता हूं किंतु यही बताया जाता है कीबोर्ड से आएगी तब दीया जाएगा मैंने ऑनलाइन शिकायत श्रम सचिव लखनऊ को किया किंतु अभी तक कोई पता नहीं चला शिकायत पर जिसका शिकायत नंबरCLDO3555, हाय

    प्रतिक्रिया
  17. सेवा में श्रीमान मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश सरकार

    श्रीमान उत्तर प्रदेश शासन से मेरा विनम्र निवेदन है कि मैं प्रार्थी अरविंद यादव s/o
    बंसराज यादव ग्राम व पोस्ट केशव नगर ग्राट पूर्वी सिरिया
    जिला गोंडा
    तहसील मनकापुर
    ब्लाक बभनजोत
    का है मूल निवासी हूं श्रीमान जी से निवेदन है कि प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के पात्र सूची में नाम होने पर भी नहीं दिया जा रहा है श्रीमान जी से निवेदन है कि वह इस मामले को संज्ञान में लेकर उचित कार्रवाई विभागीय अफसरों व ग्राम प्रधान को सम्बंधित सुचित किया जाए ऊपर कराया जाए आप की अति महान कृपया होगी
    mob- 9565700068 , 9565850086

    प्रतिक्रिया
  18. माननीय उत्तरप्रदेश मुख्यमंत्री जी उत्तरप्रदेश के कई ग्रामीण प्रातो मे विद्युत संबंधी नकेल नही कसी गयी है । बिजली तो है लेकिन मीटर नही लगा हुआ है।
    जिससे ग्रामीणी लोग बिजली का सदुप्रयोग नही करते ।। विद्युत नियंत्रण नाम जैसा कोई भी ज्ञान उनके अन्दर नही है । आजकल नवरात्रियो मै मंदिरो मै रात भर बङे आवाज मै माइको मै भजन करना ।जिसकी आवाज की कोई सीमा नही है । और ना ही समय का कोई अनुपालन होता है । जिससे विद्यार्थीयो पर यानिकी पङने वाले बच्चो पर इसका बुरा प्रभाव पङता है । इस तथ्य को एक साक्षरता दर के विकास के नजरिये से देखिये । यह भी जरूरी है हमारे आने वाली पीङियो के विकास के लिये ।। मुझे आशा है उत्तर प्रदेश सरकार इसमै कदम उठायेगी। मेरा ऩ 8193806791

    प्रतिक्रिया
  19. Sir aap ke sonebhadhra mirzapur varanasi district me overload truck ko rto raat me entry leke paas kr rhe hai aur jinka setup nhi hai unka vo challan krne k naam pe dara ke 20000 ya 30000 leke gaadi chod dete hai aur ises apke party ki chavii kharab ho rhi hai kya apki government ise rokne me fail ho ja rhi aap ise rokieye nhi to aap ki party ki chavii bahut kharab ho rhi hai

    प्रतिक्रिया
  20. Mahoday,
    Uttar pradesh sarkar duara chalai ja rahi jansunvai portal,cm helpline portal vastav mein bahut achcha kam kar rhe hai aur aam janta ko isse labh bhi ho rha hai, mein iske liye sarkar ko dhanyabad deta hu. lekin mera ek saval yeh hai ki yadi koi vyakti kisi ke dabav ya samaj mein badnaam karrne ya pareshan karne ke uddeshya se kisi vyakti ki galat sikayat karta hai ,tab us sthiti mein us vyakti(jiski sikayat hui hai) ko kya karna chahie . krapya apna mahatvapurna sujhav dein jisse is programme ka durupyog bhi na ho sake.aur vhakti mansik utpidan bhi na ho

    प्रतिक्रिया
    • यदि कोई गलत शिकायत करता है और जाँच में इसकी पुष्टि भी हो जाती है तो यदि पीड़ित ब्यक्ति चाहे तो ऐसे ब्यक्ति जिसने गलत शिकायत की है , उसके खिलाफ लीगल कार्यवाही कर सकता है.

      प्रतिक्रिया
  21. माननीय सीएम योगी आदित्यनाथ जी आपसे हाथ जोड़कर निवेदन है कि उत्तर प्रदेश जिला गोंडा तहसील करनैलगंज ब्लॉक परसपुर ग्राम durauni मैं चकबंदी चल रही है हमारा गाटा संख्या दो बनाया गया है पहला गाटा संख्या 440 है जिसमें 70 ईयर जमीन एक्सेस हो रही है दूसरा गाटा संख्या 671 है जो कि टोटल 53 ईयर का है गाटा संख्या 440 में हमारा बाग लगा हुआ है वह सर हमारा लगाया हुआ है कृपया करके 671 को उठाकर 440 में जोड़ा जाए mo 7408314714 7003539764

    प्रतिक्रिया
  22. Sir mera naam VIJAY KUMAR son of Mir. Sangam lal Village Saray Mohammadziya, post Bhoopatpur, Dhanupur, Handia, Prayagraj, Uttar pradesh, pine code 221503
    sir me jah se hu Wah par ane Jane ka koi rasta nahi Jo humari 3pidhiya bit gayi aaj tak koi rasta nahi nikla jab pradhan se bolta hu kahte rasta nahi Jo ki jah par hu sir Wah par bahot sari jamine bachat Jo danbang log kabja kiye he sir sab see badi bat ye he ki is me pradhan bhi samil hate he.
    Sir Chakrod na hone se bahot sari dikkat hoti he
    Exp.
    1.barsat me kahi na as sakte Aor na hi ja sakte Kyu sir Jo khet ka bed he sab khet bhar jata he
    2.sir yah Par jaldi kisee ladki ya ladke ki rista nahi hota he kahte he ki rasta nahi sir
    3.sir sab se badi bat ye ki padhayi karne ke liye college school Jane me bahot dikkat hoti he
    Sir kahte he gavo Vikash Karen ga to desh ka Vikash hoga
    Par jis gavo desh me Jati se rasta milta ho us gavo ka kya Vikash hoga
    Sir humre yah sab se badi bat ye he ki yadi ek Muslim kahi khet ya bag me bhi Ghar Bana leta he use Ghar tak Rasta jata he par hum log 50 Sal se rahrahe par koi rasta nahi gar Raste ke liye lekhpal se bolte he kahte nap karvo yahi hot raheta hum logo ke sath
    Sir ap se hath jod kar vinti karte he rasta niklava dijiye
    Please sir

    VIJAY KUMAR

    प्रतिक्रिया
  23. sir mai hardoi se hun our mujhe prasasan bahut tang kar raha hai our meri koi sunne wala nahi hai mujhe bataiye ki mai kya karu agar prasasan mujhe aise hi tang karta raha to mai aatm hatya kar luga kyuki iske alawa mere pas koi disra vikalp nahi hai maine vote BJP ko diya lekin prasasan ke adhikaari tanasahi kar rahe hai aap hi bataye mai kya karu mere mobile no.9794467589

    प्रतिक्रिया
  24. विषय: 11000KV HT की लाइन का रूट डाइवर्जन / फाइवर लाइन

    सर मै के. पी. सिंह नगर नरौरा, बुलन्दशहर उत्तर प्रदेश सर मै आपको अवगत कराना चाहता हॅु कि मेरे निज आवास वनवारीगढ नरौरा वार्डन0-07 में 11000KV HT की लाइन मकान के बीच से होकर गुजर रही है जिसकी उँचाई छत से लगभग 10 फिट है सर जिसकी वजाह से मेरा पूरा परिवार खतरे मे जीवन यापन कर रहा है क्योंगकि कई वार पोल पर पंछीयों के साथ होने वाले हादसे परिवार के सदस्यों को बहुत डरा देते हैं सर प्लीज आपसे विनम्र अनुरोध हैं कि बिजली के तार को मेरे मकान के उपर से हटाया जाये जिससे मेरे मकान की हानि और मेरे परिवार की सुरक्षा के प्रति मैं निश्चित हो सकूँ। सर मै अपेछा करता हॅु कि मेरे परिवार के सदस्यों की सुरक्षा को ध्या न मे रखते हुऐ आप समय के साथ उचित कार्यवाहि कर हमें अनुग्रित करेगें
    धन्यवाद,
    कृ म. परिवार के सदस्यों का विवरण
    1. के. पी. सिंह S/o तहसीलदार
    2. भूदेवी माता जी
    3. पप्पुी सिंह S/o तहसीलदार भाई
    4. रिषिपाल सिंह S/o तहसीलदार भाई
    5. रेखा W/o के. पी. सिंह
    6. लवली D/o के. पी. सिंह
    7. लता D/o के. पी. सिंह
    8. विशाल S/o पप्पुी सिंह
    9. हिमानशु S/o पप्पु सिंह
    10. नेहा D/o पप्पु/ सिंह
    11. गुडडो देवी W/o पप्पुा सिंह
    12. उूसा देवी W/o रिषिपाल सिंह

    प्रतिक्रिया
  25. जिला बागपत में बेशिक शिक्षा विभाग में एक अध्यापिका कु कल्पना जैन पुत्री हंस कुमार जैन ने वर्ष 2013 में अध्यापिका के लिए आवेदन किया लेकिन साशन के आदेश के अनुसार उसमे विगाप्ती से पहले मूल निवास की जानकारी नहीं भरी फिर भी उसका आवेदन विभाग में स्वीकार हो गया और अध्यापिका ने वर्ष 2014 में प्रसासन से करीब 13 माह बाद तत्काल में मूल निवास आवेदन किया जब तक शाशन से काउंसलिंग की डेट जारी हो चुकी थी और वर्ष 2015 अध्यापिका को नियुक्ति पत्र देकर नोकरी और सेलरी बना दी और विभाग पैसे लेकर उसको सुरक्षा दे रहा हे |
    सवाल यह हे की जब अध्यापिका के पास आवेदन के समय मूल प्रमाण पत्र नहीं थे तो बेशिक शिक्षा विभाग ने उसका आवेदन किस प्रकार स्वीकार कर लिया और उसकी सेलरी बना दी विभाग और अध्यापिका दोनों मिलकर सरकार को लुट रहे हे | जब की अध्यापिका की नियुक्ति निरस्त होकर विभागीय कार्यवाही हो जानी चाहिए थी विभागीय लिपिक और क्लर्क खुद सही रिपोट साशन/प्रसाशन को नहीं देकर सरकार को चुना लगा रहे हे | में उपरोक्त साक्ष्य किसी अधिकारी अथवा न्यायालय के समक्ष व्यक्ति गत रूप से उपस्थित हो कर प्रस्तुत कर सकता हु | यदि अध्यापिका के खिलाफ कार्यवाही अमल में लाइ जावे | धन्यवाद

    प्रतिक्रिया
  26. “एक बार जरूर पढ़ें”

    ”दिव्यांग परिवार जो कि एक ही परिवार में पाँच दिव्यांग है और सरकारी योजनाओं से वंचित”हैं ”आवास,शौचालय,कृषि संबंधित किसी भी योजना का नहीं मिल रहा लाभ”
    ”जौनपुर डी.एम.,एस.पी.,सांसद,क्षेत्रीय विधायक व अन्य मदद योग्य से निवेदन है विकलांग परिवार का मदद की कृपा करे व परिवार की रक्षा करें”

    ”दिव्यांग दुबे परिवार को जमीन से बेदखल करने का किया जा रहा प्रयास,लेखपाल शिव प्रकाश गौतम की मिली भगत”से अन्य लोगों को कब्जा करवा दिए हैं कब्जा करने वाले के नाम इस प्रकार है,
    (1)कृष्णा प्रसाद, पुत्र रामचंदर(2)घनश्याम, पुत्र राम चन्दर (3)चिंता मणि पुत्र संकठा प्रसाद(4)उदय नाथ पुत्र संकठा और अन्य लोग भी है
    जो दिव्यांग परिवार को धमकी भी देते रहते हैं कि घर के बाहर निकलोगे तो जान से मार देंगे इन लोगों के खिलाफ काफी कंप्लेंट करने के बाद भी कोई कार्यवाही नहीं हुई और लेखपाल महोदय एक ही डेट का रिपोर्ट हर जगह चिपका रहे है चकबंदी अधिकारी को भी झूठा साबित कर रहे हैं

    ”दिव्यांग परिवार को गुमराह कर वरिष्ठ अधिकारियों की आखों में धूल झोंक रहे मड़ियाहूँ तहसील के लेखपाल शिव प्रकाश गौतम”ने झूठी रिपोर्ट लगा कर मामले को दे रहे अलग दिशा” सभी मामले की फ़ोटो कॉपी अटैच हैं

    मामला का स्थान—ग्राम धनेथू किरहिया,तहसील मढ़ियाहूँ,थाना-नेवढ़िया जिला-जौनपुर
    (उत्तर-प्रदेश)

    परिवार-के-मुखिया श्री छोटे लाल दुबे नेत्रहीन हैं,माधुरी देवी जुबान ना होने के साथ सुन भी नहीं सकती है

    पुत्र,पुत्री—पुत्र अरुण कुमार जुबान व कान से ना सुन पाने की समस्या है,पुत्री-अनिता देवी बोल नहीं सकते साथ में सुन भी नहीं पाते है जिसकी शादी हो चुकी हैं और वो अपने ससुराल में रह रही हैं,पुत्र विनय कुमार जुबान से बोल नहीं सकते कान से सुन नहीं पाते है,पुत्र कृष्णा मुरारी जुबान व कान का समस्या है

    नोट–मदद करने व मामले की पूरी जानकारी के लिए संपर्क कर सकते है
    संपर्क नंबर….
    08948723815
    09519877205

    प्रतिक्रिया
  27. Sir Agar koi sunwai honi hi nahi hai to phir es app ki jarrurat hi kya hai., kya kaam hai phir es app ka, local police ki complaint to lagbhag har jagag par hai aur es app se ki complaint wali enquiry bhi phir se local police ke pass hi pahuch jati hai jisse wo aur bhayanker wali report banakar lagate hai. Feedback mai hamare dwara galat report batane ke baad bhi phir wahi sab kuch copy hota hai yani local police ke pass report pahuchti hai wo phir wahi report pell dete hai
    .es sab ke baad na sunne par aap DM sir ke pass jane ko bolte hai to sir es sabka fayda hi kya hua..agar DM sir ke pass hi jana hai to itna time es sab mai waist kyu..

    प्रतिक्रिया
  28. यदि सछम अधिकारी लगायी गयी आख्या रिपोर्ट पर अनुमोदन न प्रदान करके आख्या निच्छेपित कर देते है तो क्या कार्यवाही पूरी मान ली जाती है क्यो ?

    प्रतिक्रिया
  29. Sir mene sampurn samadhan divas ko 5-6-18 ko application lgai thi or us pr 30-06-2018 ko karwahi hui or humare signature bhi kiy gye or huma aj 11-5-19 tk bhi hume us report ko nh diya gya h or humne use sambndhi sabhi offece se report mang li kintu report nh mili iske liye kya kru sir ap hume bta dejye hum bhut presan h krpya uchit samadhan btaye apki ati krpya hogi mera mob no 7500494929 thank u

    प्रतिक्रिया
  30. मुख्यमंत्री जी मै चाहता हूं कि सभी अधिकारी घर घर जाकर जनता की समस्या को हल करे क्योंकि वास्तव में जो गरीब है ़ उसे कोई भी लाभ नहीं मिलता है ़ ऐसे में अधिकांश अधिकारी लापरवाही कर रहे हैं। आनलाइन शिकायत करने से कोई भी लाभ नहीं हो रहा है,क्योकि बड़े आदमी के आगे सब बेकार है। सरकारी योजनाओं मे न राशनकार्ड न गैसकनेक्शन न खेत की मेडबंदी न पिता जी की वृद्धावस्था पेन्शन न शौचालय न आवास मे कुछ भी लाभ नहीं मिल रहा है।मैं गाँव बहरिया,मिर्जापुर,जिला शाहजहांपुर से,मै तो घर से बाहर रोजगार की तलाश में रहता हूँ।koi bhi sunne bala nahi He, mujhe pata he ki kitni bar bhi shikayat ki jaye but uska ans negative hi started.

    प्रतिक्रिया
  31. सरजी मै आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद, तथा जिलाधिकारी गोन्डा से लिखित प्रार्थना पत्र के साथ मिला तथा अपनी समस्या बताई जिसपर उन्होने क्रमशः जनसुनवाई संन्दर्भ ८००१८३१९०००३४१ तथा २००१८३१९००२०३१ के द्वारा शिकायत दर्ज कर प्रेषित कर दिया है परन्तु श्रीमान जी आज नौ दिन बीत जाने के बाद भी शिकायत की स्थिती अनमार्क है श्रीमान जी इन शिकायतो पर कोई कार्यवाही क्यो नही की जा रही है, क्या इन शिकायतो पर भी केवल रिपोर्ट लगायी जायेगी ? सरजी कुछ समझ नही आ रहा क्या करू , मुझे न्याय मिलेगा भी या नही
    कृपया मार्गदशर्न करें ।

    प्रतिक्रिया
  32. सर जनसुनवायी पोर्टल पर अब अधिकारी चुनने का विकल्प समाप्त किया जा चुका है केवल विभाग चुना जा सकता है जिसपर प्रार्थना पत्र सबसे निचले स्तर के अधिकारी के पास पहुचता है सर मै कई बार प्रार्थना पत्र दे चुका हू लेकिन प्रत्येक बार केवल तहसीलदार केपास पहुचता है जो प्रार्थना पत्र पर कोई कार्यवाही नही कर रहे है फीडबैक भी देता हू लेकिन उसपर भी कोई कार्यवाही नही जिले के डीएम को लिखित प्रार्थना पत्र दिया फिर भी कोई कार्यवाही नही जबकी ३१-१०-२०१८ को आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद को प्रार्थना पत्र दिया तो उन्होने कार्यवाही करने का आदेश दिया परन्तु निचले स्तर के अधिकारी ने कोई कार्यवाही नही किया ।
    अतः श्रीमानजी मै पुनः अपनी बात आयुक्त एवं सचिव राजस्व परिषद तक कैसे पहुचाऊ कृपया उचित मार्गदर्शन करे अतिमहान कृपा होगी

    प्रतिक्रिया
  33. श्रीमान जी कृपया ये बताएं कि यदि कोई मामला न्यायालय में लंबित है तो क्या उसके सम्बन्ध में जन सुनवाई के माध्यम से शिकायत कि जा सकती है कि नहीं !

    प्रतिक्रिया
  34. जनसुनवायी सं-४००१८३१८०५२८७६ तथा सं०-४००१८३१८०५०६३६ की जांच आख्या को मैने फीडबैक के आधार पर अशन्तोष व्यक्त किया था , तथा कार्यालय द्वारा सम्पर्क किये जाने पर भी असन्तोष व्यक्त किया था ,क्या अब भी कोई कार्यवाही हो सकती है ?

    प्रतिक्रिया
  35. श्रीमान जी क्या जनसुनवायी सं०-४००१८३१८०५२८७६ के पुनर्जीवित होने से मेरी समस्या के समाधान की सम्भावना है , या नही
    यदि मेरी समस्या का समाधान नही हो तो उस स्थिती मे मुझे क्या करना चाहिये ।

    प्रतिक्रिया
  36. श्रीमान जी जनसुनवाई सं-४००१८३१८०५२८७६ की रिपोर्ट सम्बन्धित अधिकारी द्वारा बिना कोई जांच और कार्यवाही किये लगा दी गयी है और मेरी समस्या का कोई समाधान नही हो पाया है । श्रीमान जी क्या मै न्याय की आस छोड दूं , श्रीमान जी मुझे वर्षो तक चलने वाले मुकदमे की तरफ ढकेला जा रहा है । श्रीमान जी उचित मार्गदर्शन करें ।

    प्रतिक्रिया
  37. जनसुनवाई संन्दर्भ सं०-४००१८३१८०५२८७६ जिसमें सम्बन्धित अधिकारी को १०–११–२०१८ तक जांच करके कृत कार्यवाही की रिपोर्ट लगानी थी लेकिन श्रीमान जी अभी तक सम्बन्धित अधिकारी द्वारा न तो कोई जांच की गयी न ही कोई कार्यवाही अतः मेरी समस्या जैसी की तैसी बनी है, श्रीमान जी उचित मार्गदर्शन करें

    प्रतिक्रिया
  38. Main btc 2015 ki student hu..
    Btc 3rd sem k exam may m hue the or 15 september ko results aa chuka hai..
    Lekin main sst k no ki jagh copy mission g likh k aa raha tha..
    Jiski vjh se result ki incomplete show kar raha..
    Sahi karane k liye application bhi de di hai per 2 mahine se abhi tak kuch nhi hua..
    Btc ki training puri hi chuki hai..
    Aane valo teacher vacancy m result incomplete hone ki vjh se mauka nhi milega pls btaiye ki main kya karu..
    Mere to ase 2 saal barbaad ho jayenge..

    प्रतिक्रिया
  39. Main 2015 btc ki student hu..
    3rd se k exam may m hue the jiska result 15 september ko a chuka hai.

    Lekin. Meri sst copy missing hone ki vjh se incomplete bta raha result ..
    Diet p baat ki 2 mahine baad bhi ak hi baat kah rahe hai ki abhi tak pal p koi adhikari nhi hai ..
    Agar 5 december tak ye 3rd sem ka result sahi nhi hua to aane valo teacher vacancy m hme mauka nhi milega ..

    प्रतिक्रिया
  40. Sir

    Yadi Feedback ke baad bhi uchit jawab na mile to kya kare maine kam se kam 5 baar ek hi visay par complain kari h aur feedback diya hai fir bhi related officer uchit karvahi nahi kar rahe hai aur nistrarit dikha dete hai feedback dene par bhi koi uchit karyvahi nahi hoti h senior officer ko bhi jankari h fir bhi vo uchit jawab nahi de rahe hai kya karna chahiye sir ki uchit jawab mile aur nyay ho

    प्रतिक्रिया
  41. सर जी मेरी प्रधानमंत्री रोड साइड की पैत्रिक कृषि भूमि जिसके रोड साइड वाले भाग पर बडे भाइयो ने जबरन कब्जा कर लिया है, तथा मुझे पीछे का भाग जहां प्रधानमंत्री रोड का कोई जुडाव नही है दे रहे है, मेरे पिता की मृत्यु १५-१०-२०१७ को हो चुकी है । एस डी एम के यहां जनसुनायी के माध्यम से शिकायत किया लेकिन लेकिन लेखपाल ने बटवारे का मामला बताकर बटवारे के लिए वाद दायर करने का रिपोर्ट लगा दिया , जबकि सर जी हमारे गांव मे संसोधिर राजस्व संहिता की धारा ३१दो के तहत सभी गाटो मे खातेदारो के विहित तरीके से अंश निर्धारित कर भौतिक विभाजन का कार्यक्रम चल रहा है , सर जी मैने फीडबैक मे इसी बात का हवाला देकर सही निस्तारण करने को कहा सर जी मैने डी एम गोन्डा को भी शिकायत कर अपनी समस्या बताई लेकिन श्रीमान जी लेखपाल बटवारे के लिए वाद दायर करने का रिपोर्ट लगाकर निस्तारण कर देते है क्या करू उचित सलाह दें ।

    प्रतिक्रिया
  42. Sir d el ed ka student hun isi year addmission liya hai
    Yaha akar pata chala ki yaha diet or niji college ki milibhagat se students se college na ane ke liye 10000 rupay semester ke hisab se vasule jate hain
    Yahi nahi jo students ragular ho or unke kisi reason se attendance thodi shot reh jaye to usse bhi 5 se 6 hazar rupay wasul kar attendance puri karte hain
    Or practical ke number dene ke alag paise mangte hain
    Sir ye khel private college or diet dono ki milibhagat se chal raha hai
    Yaha tak ki teaching training ke liye allote kiye jane wale primary school agar student apni suvidh ke liye kareeb lena chahta hai to usse 1000 rupay ki wasuli ki jati hai
    Sir isse vo log bhi btc kar lete hain jo kabhi college ni jate sirf paise ke bal par isse jo students ragular college jakar padte hain unka lose ho raha hai
    Sir meri financially itna strong ni hun ki ma in log ko itne paise de sakun
    Sir sirf mere college ya uski diet ka hi nahi
    Har district or usme ane wale private college ka yahi hal hai
    Sir seats ko becha jata hai paise lekar
    Kam merit wale ko .

    प्रतिक्रिया
    • अभी शिकायत वापस लेने की कोई सुविधा नही है। बाकी कोर्ट में मामला ऐसे ने ही जायेगा । जब तक आप या वह व्यक्ति या विभाग ( जिसकी शिकायत की है ) कोर्ट में केस नही दर्ज करता।

      प्रतिक्रिया
  43. सर मैं एक जनसुनवाई में शिकायत की है क्या मैं उसे निरस्त कर सकता हूँ
    और इस शिकायत के लिए मेरे ऊपर कोर्ट में मुकदमा तो नहीं होगा न सर
    प्लीज हेल्प मी

    प्रतिक्रिया
    • जनसुनवाई पोर्टल पर अभी शिकायत वापस लेने की सुविधा नही है शायद । मैने चेक किया अभी। लेकिन कोर्ट में मामला ऐसे नही जाएगा । जब तक आप या वह व्यक्ति या विभाग कोर्ट नही जाएगा जिसके खिलाफ आपने शिकायत की है

      प्रतिक्रिया
  44. मेने एक शिकायत ओरिन्टल बैंक और कॉमर्स खुर्जा के बैंक मेनेजर के बिरुद्ध मुख्यमंत्री जनसुनवाई पर करी थी जिसमे श्री मान जिला अधिकारी महोदय के माध्यम से लीड डिस्टिक मेनेजर को जाच सोपी गयी थी उस जाच में पीड़ित को बिना सुने बिना उसके साबुत देखते और बिना जाच किये बैंक के हिसाब से है जाच अधिकारी ने बैंक की बात सुन कर रिपोट लगा दी है जबकि और जो रिपोट लगाई गयी है वो गलत है हमारे पास उसके साबुत है पर जाच अधिकारी ने हम्रारे साबुत तक नही देखे है और एक तरफ़ा रिपोट लगाई गयी है अब मुझे क्या करना चाइये और में अब किसके पास शिकायत करू जो मुझे न्याय मिल सके लीड डिस्टिक मेनेजर ने जिला अधिकारी के आदेश के बाद भी निपक्ष जाच नही करी है हमें तो पता ही नही चला की जाच कब हो गयी में पीडित हु काफी मेरा उत्पीडन हो चूका है में परेसान हु किर्पया आगे का रास्ता बताये

    प्रतिक्रिया
  45. sir maine axis bank me ek current account open karaya tha axis bank k employ ne meri ek max life insurance ki policy bhi ki jab maine us plan ki poori jankari ki to pata chala k jaisa plan unhone Mujhe bataya tha plan me waisa kuch nahi h maine khud ko thaga sa mehsoos kiya mere paas 15 days me apni policy cancel karane ka option tha jiske liye maine max life ko call bhi kiya aur mail bhi kiya aur moradabad k office me ek letter bhi likhit roop me diya par unhone uske baad bhi meri policy active kar di aur mere account se 20064 rupay bhi kaat liye sir meri financial condition itni strong nahi h us plan me loss k siwa kuch nahi kya mai iski shikayat uttar pradesh jansunwai portal par kar sakta hu mere paas policy cancel karana k complalent no bhi h aur jo mail maine kiye h wo bhi h as a proof
    Sir koi achcha solution bataye

    प्रतिक्रिया
  46. mera neam suchi me hai tatha rin mochan nahi hua hai shikayat no 181700000701 aur DLC adhikari ke pas gaya tha usane batya ki bank se sahi karege tatha bankne batya ki yaha se sahi hai tatha DLC adhikari nebatya tha ki apaka adhar no 371568852813 do khate me seb hai ishi karan se apaka rin mochan nahi kiya gaya hai tatha jisaka pahala nam tha uska maf kar diya hai dusare nam ka adhar no ko anbailet kar diya hai rin mochan rok diya hai tatha apase nivedan hai rin mochan karne ki krpa kare to mahan daya hogi prathi prahlad awasthi

    प्रतिक्रिया
  47. यदि किसी व्यक्ति अ….. द्वारा अन्य व्यक्ति ब……. की सिकायत की जाती है जो की जन सुनवाई के अंतर्गत दर्शाई गई हो, तो क्या ब…. इसी ऑनलाइन चेक कर सकता है?

    प्रतिक्रिया
  48. sir mere bhai ko 14/05/2018 ko mathura jile ke Delhi Agra railway line ke pass Mar ke dal diya hai aur police apni jaan bachane ke liye kuch bhi karyawahi nahi kar rahi hai aap se anurodh hai ki meri ye awaz mukhyamantri ji sri Yogi Aditya Nath ji tak pahuchayein.
    sir Hum pure ghar wale pichle 14 Tarikh se police station ke chakkar laga rahe hain aur wahan se Hamain fatkar ke bhaga diya jata hai
    Meri madad jarur ho.

    प्रतिक्रिया
  49. Respected sir,
    Last year CM has awarded only UP board students for their merits in high school and intermediate .But this year CM has awarded CBSE, ICSE and UP board students for their merits .I just want to know that why this discrimination has been done with us.
    Last year I passed inter from CBSE board with 93% securing fifth rank in district. You can check it .My roll no. is 5636826.My centre code 5084 and school code 54125. If I must have got that money then today I must be in a good institute .Please help me .

    प्रतिक्रिया
  50. Sir मैंने 4 साल पहले जमीन खरीदी थी अलिनगर सुनहरा लखनऊ में अजय और नंद किशोर जो के सांसद कौशल किशोर जी का भतीजा है उसने मुझे 2400 sf जमीन बेची थी 2 फ़ीट की बाउंड्री के साथ । चार साल से कोई विवाद नही था अभी कुछ दिन पहले मुझे पता चला कि कोई प्रकाश और जयक़रण नाम के 2 लोग बोलते हैं कि 2400 में से 400 sf जमीन उनकी है
    फिर एक दिन मौके पर adm ,लेखपाल (सरोजिनी नगर )और कृष्णा नगर थाने के कुछ पुलिस वाले jcb मशीन के साथ जा कर मेरी ज़मीन पर नीव खोद आये जब की इसबारे में मुझे कोइसूचना नही दी गई मुझे जानकारी होने पर मैने बाउंड्री करवाई तो मौके पर पुलिस ने आकर मजदूरों को मारा और काम रुकवा दिया अगले दिन प्रकाश और जयकरण दोनो ने मिल कर मेरी बाउंड्री तोड़ दी मुझे महिला समझ के कोई मेरी मदद नही कर रहा , मेरे पास सारे कागज़ हैं फिर भी भू माफिया मुझे महिला समझ कर ये लोग मेरी ज़मीन हड़पना चाहते हैं मैं क्या करूँ पुलिस में मेरी कोई सुनवाई नही हो रही क्योंकि मामला बड़े अधिकारियों से जुड़ा है

    प्रतिक्रिया
  51. अगर यूपी सरकार को सुझाव देना हो तो क्या करना होगा जैसे यूपी के बेसिक स्कूलों में mdm बन रहा है इसमें ग्राम प्रधान शामिल किये गए हैं जो mdm के राशन को कोटेदार के यहां से सीधे अपने घर ले जाते हैं और प्रधानाध्यापक से mdm में बनाने के बदले महीने के हिसाब से रुपयों की मांग कर रहे हैं गुणवत्ता पूर्ण mdm बनाने पर प्रधानाध्यापक प्रधान की मांग पूरी नही कर पा रहे हैं ऐसे में प्रधान प्राधानध्यापक को धमकाता है उनके साथ गालीगलौज करता है जिससे शिक्षा की गुणवत्ता पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा है तो सरकार को चाहिए अध्यापक को mdm से दूर रखा जाये और इसकी पूरी जिम्मेदारी प्रधान को दे देनी चाहिए। ऐसा करने से विद्यालय में कोई समस्या नही होगी शिक्षक सही से पढ़ा सकता है और सरकार ने शायद वोटबैंक की वजह से इन्हें mdm में शामिल किया है तो यह समस्या भी हल हो जायेगी।

    प्रतिक्रिया
  52. हमारे ग्राम स्योना पोस्ट भोगांव जिला मैनपुरी मैं लगभग 20 वर्षों से खरंजा की कोई मरम्मत नहीं हुई है ना ही गांव का कोई विकास हुआ है प्रधान चुनाव से पहले तू आश्वासन दे देता है खरंजा एवं नालियां बनवाने की विजय होने के बाद कोई काम नहीं करता हम मुख्यमंत्री जी से समस्या का समाधान होने की अनुमति चाहता हूं अगर हमारे गांव में सडक व्यवस्था हो जाए तो मुख्यमंत्री जी का आभार करूंगा एवं प्रधानमंत्री द्वारा शौचालय एवं आवंटित की कोई व्यवस्था नहीं हुई है

    प्रतिक्रिया

Leave a Comment