उत्तर प्रदेश महिला आयोग क्या है? | उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत कैसे करें? | UP mahila ayog kya hai

|| उत्तर प्रदेश महिला आयोग क्या है? | UP mahila ayog kya hai | उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत कैसे करें? | उत्तर प्रदेश महिला आयोग शिकायत फॉर्म | उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत करने में यह ध्यान रखें? | महिला आयोग में शिकायत कैसे की जाती है? ||

UP mahila ayog online complaint :- जब से उत्तर प्रदेश राज्य में योगी सरकार का आगमन हुआ है तब से ही प्रदेश में बहुत विकास देखने को मिल रहा है। जहाँ एक ओर गुंडई करने वाले लोगों को सरेआम मारा जा रहा है या पकड़ा जा रहा है तो वहीं मनचलों पर कठोर कार्यवाही की जा रही है। उत्तर प्रदेश जैसे विशाल जनसँख्या वाले राज्य में महिलाओं की स्थिति एक समय पहले तक बहुत दयनीय थी। उन्हें ना केवल घर में प्रताड़ित किया जाता था बल्कि घर के बाहर भी उन्हें कई तरह की हिंसा का शिकार होना पड़ता (UP mahila ayog complaint in Hindi) था।

प्रदेश की योगी सरकार ने इसे भलीभांति समझा और उसके लिए महिलाओं की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए कई तरह के कदम उठाये। इसी के साथ ही महिला आयोग को महिलाओं की समस्या का संज्ञान लेने के लिए कहा गया और उस पर त्वरित कार्यवाही करने को भी। ऐसे में यदि आप भी एक महिला हैं और उत्तर प्रदेश की निवासी हैं और आपके विरुद्ध किसी तरह की हिंसा या प्रताड़ना हो रही है तो आप उसकी शिकायत उत्तर प्रदेश महिला आयोग के समक्ष कर सकते (UP mahila ayog me complaint kaise kare) हैं।

उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत करने के लिए आपको घर से बाहर निकलकर उनके पास जाने या किसी जगह के चक्कर लगाने की जरुरत नहीं है क्योंकि योगी सरकार ने शिकायत करने के लिए घर बैठे ही कई तरह के विकल्प उपलब्ध करवाए हुए हैं। आज हम आपके सामने उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत करने के सभी तरह के विकल्प रखने वाले हैं और उसी के साथ ही आप किस किस चीज़ के लिए शिकायत दर्ज करवा सकती हैं, उसकी एक सूची भी रखने वाले हैं, आइये जाने।

Contents show

उत्तर प्रदेश महिला आयोग क्या है? (UP mahila ayog kya hai)

सबसे पहले तो आप यह जान लें कि आखिरकार यह उत्तर प्रदेश महिला आयोग है क्या चीज़। क्या यह कोई पुलिस थाना है या फिर न्यायिक व्यवस्था। तो हम आपको बता दें कि यह उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत काम करने वाला एक आयोग है जो उत्तर प्रदेश में रह रही महिलाओं के द्वारा की गयी शिकायत पर संज्ञान लेता है और संबंधित पुलिस थाने को उस पर कार्यवाही करने के लिए विवश करता है। बहुत बार यह देखने में आता है कि महिला की पुलिस थाने में शिकायत दर्ज नहीं होती है या फिर उसे किसी अन्य की सहायता की आवश्यकता होती (What is the mahila ayog in Hindi) है।

उत्तर प्रदेश महिला आयोग क्या है उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत कैसे करें UP mahila ayog kya hai

ऐसे में उत्तर प्रदेश में रह रही हर महिला जो किसी तरह की प्रताड़ना या हिंसा की शिकार है, वह उत्तर प्रदेश महिला आयोग से मदद ले सकती है। उत्तर प्रदेश महिला आयोग उस महिला की हरसंभव सहायता करता है, जैसे कि उसे परामर्श देता है, उसे पुलिस की सहायता देता है, वकील उपलब्ध करवाता है, आर्थिक, सामाजिक मदद करता है इत्यादि। इससे वह महिला अपने विरुद्ध हुए अत्याचार के समक्ष प्रबल तरीके से खड़ी रह पाती है और उसका डटकर सामना करती है।

उत्तर प्रदेश महिला आयोग के कार्य (What is the work of UP mahila ayog in Hindi)

अब आपको यह भी जान लेना चाहिए कि आखिरकार क्यों आपको उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवानी चाहिए या फिर आप अपने विरुद्ध हुई किस किस तरह की हिंसा या प्रताड़ना के लिए उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवा सकती हैं। जब तक आपको यह ही नहीं पता होगा तो फिर आप किस मुहं से उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवाएंगी।

ऐसे में आप जिन जिन मामलों के तहत उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवा सकती हैं या फिर उत्तर प्रदेश महिला आयोग के जो जो कार्य हैं, उनकी सूची इस प्रकार है:

  • महिला के विरुद्ध किसी भी तरह की घरेलू हिंसा होने पर वह उसके विरुद्ध तुरंत शिकायत दर्ज करवा सकती है। घरेलू हिंसा का अर्थ हुआ घर के किसी सदस्य के द्वारा महिला को शारीरिक या मानसिक रूप से चोट पहुँचाया जाना।
  • यदि महिला नौकरी करती है या काम पर जाती है और कार्य स्थल पर उसका शोषण किया जाता है या उसको प्रताड़ित किया जाता है, फिर चाहे वह बॉस के द्वारा हो या सहकर्मी या अन्य किसी व्यक्ति के द्वारा, वह उसके विरुद्ध भी शिकायत दर्ज करवा सकती है।
  • यदि किसी महिला को विवाह के पश्चात दहेज़ के लिए प्रताड़ित किया जाता है या उससे पैसों की माँग की जाती है या उसके मायके वालों को तंग किया जाता है।
  • यदि किसी महिला के साथ दुराचार या बलात्कार की घटना होती है तो उसके विरुद्ध भी उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सहायता ली जा सकती है।
  • महिला के साथ बलात्कार के अलावा किसी अन्य तरह की यौन हिंसा होती है फिर चाहे वह घर के अंदर हो या बाहर, तो उसके विरुद्ध भी तत्काल कार्यवाही होती है।

इसके अलावा महिला को लगता है कि उसके विरुद्ध किसी भी तरह की अन्य हिंसा हो रही है या उसे किसी भी तरीके से प्रताड़ित किया जा रहा है और वह कानूनी रूप से या नैतिक रूप से गलत है या अनुचित है तो वह उसके लिए भी उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवा सकती है। उत्तर प्रदेश महिला आयोग के द्वारा समय समय पर महिलाओं से जुड़े कार्यक्रम, सेमिनार व फंक्शन का भी आयोजन किया जाता रहता है ताकि सभी को शिक्षित व सतर्क किया जा सके।

उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत कैसे करें? (UP mahila ayog online complaint)

अब जब आपने यह जान लिया है कि उत्तर प्रदेश महिला आयोग है क्या चीज़ और उसमें आप किन किन कारणों से शिकायत दर्ज करवा सकती हैं तो अब बारी आती है असलियत में शिकायत किये जाने की। यहाँ एक बात आप पहले ही ध्यान रख लें कि यदि आप झूठी शिकायत दर्ज करवाने वाली हैं या किसी पुरुष को केवल प्रताड़ित करने के लिए या बदला लेने के लिए शिकायत दर्ज करवाने वाली हैं तो कार्यवाही उस पुरुष के विरुद्ध नहीं अपितु आपके विरुद्ध हो सकती है।

वहीं जो महिलाएं सच में प्रताड़ित हो रही हैं या हिंसा का शिकार हैं तो वे अवश्य ही उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवाने के लिए स्वतंत्र हैं। इस मामले में उत्तर प्रदेश महिला आयोग के द्वारा उचित कार्यवाही की जाती है और संबंधित पुलिस थाने में भी केस फाइल करने में पूरी सहायता की जाती है। आइये जाने आप किन किन तरीकों के माध्यम से अपनी शिकायत उत्तर प्रदेश महिला आयोग में दर्ज करवा पाएंगी।

ऑनलाइन आवेदन करना (Mahila ayog UP website)

इसके लिए सबसे सरल व प्रभावी तरीका होता है उत्तर प्रदेश महिला आयोग में ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवाना। उत्तर प्रदेश सरकार ने इसके लिए एक वेबसाइट बना रखी है जहाँ पर महिलाओं की सुनायी की जाती है। उनकी वेबसाइट का लिंक https://mahilaayog.up.gov.in/ है। इस वेबसाइट पर जाने पर आपको उत्तर प्रदेश महिला आयोग के बारे में समूची जानकारी मिल जाएगी और साथ ही लेटेस्ट अपडेट भी मिलेगी।

यहाँ पर यदि आपको शिकायत दर्ज करवानी है तो उसके लिए आपको सबसे ऊपर दाएं कोने में ही “ऑनलाइन शिकायत दर्ज करें” करके एक बटन नज़र आ रहा होगा जिस पर आपको क्लिक करना है। इस पर क्लिक करते ही आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा जिसमें आपको अपनी शिकायत और खुद से जुड़ा संपूर्ण विवरण देना होगा और फिर इसे सबमिट करवा देना होगा। इसी के साथ ही आप इसके प्रमाण के लिए कुछ डाक्यूमेंट्स भी अपलोड कर सकती हैं ताकि आपकी शिकायत पर तत्काल प्रभाव से कार्यवाही की जा सके।

हेल्पलाइन नंबर (UP mahila ayog helpline number)

अब यदि आपको तत्काल सहायता की आवश्यकता है या आप अभी हिंसा का शिकार हो रही हैं और आपको उत्तर प्रदेश महिला आयोग की तुरंत ही मदद चाहिए तो आप उनके हेल्पलाइन नंबर 112 पर कॉल कर सकती हैं। यह देशभर में किसी भी महिला के साथ किसी भी तरह का अन्याय हो रहा है तो उसके लिए उपलब्ध करवाया गया हेल्पलाइन या टोल फ्री नंबर होता है।

आप जिस भी राज्य में रहकर इस नंबर पर कॉल लगाती हैं तो वह आपके राज्य के महिला आयोग के पास ही जाता है। इस पर तुरंत कार्यवाही पक्की की जाती है ताकि प्रताड़ित हो रही महिला को न्याय दिलवाया जा सके।

दूरभाष नंबर (UP mahila ayog contact number)

उत्तर प्रदेश महिला आयोग के द्वारा अपना एक दूरभाष नंबर अर्थात टेलीफ़ोन नंबर भी जारी किया गया है जिस पर कॉल कर आप शिकायत दर्ज करवा सकती हैं। इनका नंबर 0522 – 2306403 है जिस पर आप किसी भी समय कॉल करके सहायता माँग सकती हैं या संबंधित व्यक्ति के विरुद्ध शिकायत दर्ज करवा सकती हैं। इसके अलावा इनका एक और नंबर है जिस पर आप कुछ भी जानकारी ले सकती हैं। वह नंबर 1800-180-5220 है जो कि टोल फ्री है।

ईमेल (UP mahila ayog email Id)

आप चाहें तो उत्तर प्रदेश महिला आयोग को मेल भी कर सकती हैं और उन्हें अपने से जुड़ी पूरी शिकायत अच्छे से बता सकती हैं। उत्तर प्रदेश महिला आयोग की ईमेल आईडी up.mahilaayog@yahoo.com है जिस पर आप किसी भी समय शिकायत लिखकर भेज सकती हैं। आपकी मेल को भी अच्छे से पढ़ा जाएगा और उस पर तुरंत संज्ञान लिया जाएगा। यदि आप अपनी पहचान को गुप्त रखना चाहती हैं तो वह भी आप मेल में लिखकर बता सकती हैं।

व्हाट्सऐप (UP mahila ayog WhatsApp number)

आज का समय बहुत आगे बढ़ चुका है और अब हर किसी के पास स्मार्ट फोन है और उस स्मार्ट फोन में व्हाट्सऐप भी हर किसी के द्वारा उपयोग में लिया जाता है। तो आप अपने विरुद्ध हो रही हिंसा की शिकायत इसी व्हाट्सऐप के जरिये भी उत्तर प्रदेश महिला आयोग को भेज सकती हैं और उसके लिए आपको किसी मोबाइल नंबर पर कॉल करने या मेल भेजने की कोई जरुरत नहीं है। उत्तर प्रदेश महिला आयोग का व्हाट्सऐप नंबर 6306511708 है।

फैक्स (UP mahila ayog fax number)

बहुत से लोग लिखित में शिकायत लिखकर फिर उसे उत्तर प्रदेश महिला आयोग को फैक्स करना भी उचित समझते हैं। ऐसे में यदि आप उत्तर प्रदेश महिला आयोग को फैक्स के द्वारा शिकायत भेजना चाहते हैं तो वह भी किया जा सकता है। इसके लिए पहले आप अपनी शिकायत को प्रिंट करवा लीजिये या FIR की कॉपी ले लीजिये और फिर अपने यहाँ के किसी फैक्स मशीन की दुकान पर जाएं और उन्हें उत्तर प्रदेश महिला आयोग को फैक्स भेजने को कहें। उत्तर प्रदेश महिला आयोग का फैक्स नंबर 0522- 2728671 है।

आयोग पता (UP mahila ayog address)

अब यदि आप ऊपर बताये गए किसी भी तरीके से उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज नहीं करवाना चाहती हैं और उनके सामने व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर अपनी शिकायत लिखवाना चाहती हैं तो आप उनके कार्यालय में भी जा सकती हैं। उत्तर प्रदेश महिला आयोग का पता राज्य महिला आयोग उत्तर प्रदेश, तृतीय तल, मानव अधिकार भवन, टी. सी.- 34 वी.-1, विभूति खण्ड, गोमती नगर, लखनऊ है।

उत्तर प्रदेश महिला आयोग शिकायत फॉर्म (UP mahila ayog complaint form online in Hindi)

जैसा कि हमने आपको ऊपर ही बताया कि यदि आपको उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवानी है तो फिर आपसे एक फॉर्म भरने को कहा जाएगा। अब आप चाहे वह फॉर्म ऑनलाइन शिकायत दर्ज करवाते समय भर सकती हैं या फिर उस फॉर्म का प्रिंट आउट निकलवा कर उसे ऑफलाइन मोड में भरकर उन्हें फैक्स भेज सकती हैं या ईमेल कर सकती हैं।

यदि आपको ऑनलाइन फॉर्म भरना है तो उसका लिंक यह https://mahilaayog.up.gov.in/complaint.aspx है और यदि आपको शिकायती फॉर्म का प्रिंट आउट निकलवा कर उसे ऑफलाइन भरना है तो उसे डाउनलोड करने का लिंक https://www.mahilaayog.up.gov.in/pdf/complaint_form.pdf है।

अब इन दोनों फॉर्म में आपसे जो जो चीज़ें भरने को कहा जायेगा, उसकी सूची कुछ इस तरह है:

  • शिकायत की तिथि
  • शिकायतकर्ता का नाम
  • पिता या पति का नाम
  • शिकायत कर्त्ता का वर्तमान पता
  • जनपद
  • फोन नंबर
  • उत्पीड़न का प्रकार
  • घटना की तिथि
  • घटना का स्थान
  • थाना
  • तहसील
  • विपक्षी का नाम
  • विपक्षी का पता
  • शिकायत का सारांश
  • पहचान पत्र
  • पहचान पत्र की संख्या

आपसे यह सब भरने को कहा जाएगा। ऐसे में इस बात का ध्यान रखें कि आपके द्वारा जो भी जानकारी दी जा रही है वह प्रमाणित हो और आप उसे पूरे ध्यान से भरें। यदि इसमें किसी तरह की त्रुटी होती है तो आप इसे बाद में ठीक तो करवा सकती हैं लेकिन यह आपके ही केस को कमजोर करने का कार्य करती है। ऐसे में आपके साथ जो भी घटना घटी है, आप उसे वैसा का वैसा ही स्पष्ट शब्दों में लिखकर उत्तर प्रदेश महिला आयोग को भेज दें।

उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत करने में यह ध्यान रखें?

अब यदि आप उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवा लेती हैं तो आपको कुछ बातों का निश्चित तौर पर ध्यान रखे जाने की जरुरत होती है। कहने का अर्थ यह हुआ कि यहाँ पर आप एक बार शिकायत तो दर्ज करवा लेंगी लेकिन उससे पहले या बाद में कुछ बातों को ध्यान में रखा जाएगा तो यह आपके लिए ही उचित रहेगा। ऐसे में आपको निम्नलिखित बातों को ध्यान में रखने की आवश्यकता है।

  • जब भी उत्तर प्रदेश महिला आयोग के द्वारा बयान लिए जायेंगे या कार्यवाही की जाएगी तो उसके लिए शिकायतकर्ता का होना आवश्यक है, वह महिला अपनी जगह किसी अन्य प्रतिनिधि या रिश्तेदार या मित्र को नहीं भेज सकती है।
  • यदि मामला कोर्ट में है तो उस पर उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सीमायें समाप्त हो जाती है। वह कोर्ट को किसी भी चीज़ के लिए बाध्य नहीं कर सकता है। हालाँकि कानूनी मामलों में अवश्य सहायता कर सकता है।
  • उत्तर प्रदेश महिला आयोग में सुनवाई के दौरान शिकायतकर्ता अपने अधिवक्ता या वकील को भी नहीं लेकर जा सकते हैं और वहां केवल संबंधित महिला का होना ही अनिवार्य रखा गया है।
  • उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत करने के लिए किसी तरह का शुल्क, फीस या स्टाम्प पेपर नहीं लिया जाता है। ऐसे में यदि कोई भी आपसे शिकायत करने के लिए पैसों की माँग करता है तो आप उसके विरुद्ध भी शिकायत दर्ज करवा दें।
  • यदि आप फॉर्म भरने में गलती करती हैं या कुछ गलत जानकारी देती हैं तो आपकी शिकायत को आमान्य करार दे दिया जाएगा।

इस तरह से यदि आप उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवाने जा रही हैं तो उसके लिए बहुत ही संभल कर और उचित तरीके से ही शिकायत दर्ज करवाएं। इसी के साथ ही किसी के विरुद्ध झूठी शिकायत दर्ज करवाए जाने पर उत्तर प्रदेश महिला आयोग के द्वारा आपके विरुद्ध कार्यवाही की जाती है।

download app

उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत कैसे करें – Related FAQs 

प्रश्न: उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत कैसे करें?

उत्तर: उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत करने के लिए आप https://mahilaayog.up.gov.in/ इस लिंक पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हो।

प्रश्न: महिला आयोग में शिकायत कैसे की जाती है?

उत्तर: महिला आयोग में शिकायत करने के लिए इनके दूरभाष नंबर का उपयोग किया जा सकता है जो कि 0522 – 2306403 है।

प्रश्न: महिला आयोग कौन से कार्य करते हैं?

उत्तर: महिला आयोग के कार्यों की सूची हमने ऊपर के लेख में दी है जो आप पढ़ सकते हो।

प्रश्न: उत्तर प्रदेश महिला आयोग क्या है?

उत्तर: यह उत्तर प्रदेश सरकार के अंतर्गत काम करने वाला एक आयोग है जो उत्तर प्रदेश में रह रही महिलाओं के द्वारा की गयी शिकायत पर संज्ञान लेता है और संबंधित पुलिस थाने को उस पर कार्यवाही करने के लिए विवश करता है।

तो इस तरह से इस लेख के माध्यम से आपने जाना कि आप उत्तर प्रदेश महिला आयोग में शिकायत किस तरीके से कर सकती हैं। साथ ही आपने जाना कि उत्तर प्रदेश महिला आयोग क्या है इसके कार्य क्या हैं इसके लिए शिकायत फॉर्म क्या है इत्यादि। आशा है कि जो जानने के लिए आप इस लेख पर आए थे वह जानकारी आपको मिल गई होगी। फिर भी यदि कोई शंका आपके मन में शेष है तो आप हम से नीचे कॉमेंट करके पूछ सकते हैं।

लविश बंसल
लविश बंसल
लविश बंसल वर्ष 2010 में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में प्रवेश लिया और वहां से वर्ष 2014 में बीटेक की डिग्री ली। शुरुआत से ही इन्हें वाद विवाद प्रतियोगिता में भाग लेना या इससे संबंधित क्षेत्रों में भाग लेना अच्छा लगता था। इसलिए ये काफी समय से लेखन कार्य कर रहें हैं। इनके लेख की विशेषता में लेख की योजना बनाना, ग्राफ़िक्स का कंटेंट देखना, विडियो की स्क्रिप्ट लिखना, तरह तरह के विषयों पर लेख लिखना, सोशल मीडिया कंटेंट लिखना इत्यादि शामिल है।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Leave a Comment