यूपी कन्या सुमंगला योजना 2020 | ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म, Apply, Online Registration

यूपी कन्या सुमंगला योजना इन हिंदी – देश के महिला वर्ग को पुरुषों के साथ साथ कंधे से कंधा मिलाने के लिए तकरीबन हर राज्य में दिन प्रतिदिन महिलाओं के लिए सरकार द्वारा एक नई योजना का शिलन्यास किया जा रहा है। इसी कड़ी में देश के सबसे ज्यादा जिलों वाला राज्य यानी उत्तर प्रदेश में भी महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत कर के उनके विकास के सभी रास्ते खोल रही है। अधिकतर लोग यूपी को एक पिछड़े राज्य के रूप में देखते हैं। जिसके कई कारण हैं। इन्ही में से एक यहां की औरतों को एक उच्च दर्जा प्राप्त नहीं है। व अगर यहां किसी भी परिवार में कोई लड़की जन्म लेती है। तो घर और बाहर के लोग उसे एक बोझ के नजरिये से देखने लगते हैं। या उस बच्ची के जन्म होते ही उसे मार देते हैं।

एक अनुमानित आंकड़ों की अनुसार यूपी में 1000 पुरुषों पर केवल 900 महिलाएं ही गिनी जाती है। लेकिन अब तत्कालीन सरकार द्वारा एक ऐसी योजना की घोषणा की गयी है। जिस से यूपी में जन्मी हर लड़की किसी के लिए बोझ नहीं होगी और वह स्वतंत्र रूप से अपने आप पर पूर्ण से निर्भर होने में सक्षम हो पायेगी। इस योजना का नाम है – “यूपी कन्या सुमंगला योजना”। जाने, इस लाभदायक योजना से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारियां :-

यूपी कन्या सुमंगला योजना क्या है?

यूपी कन्या सुमंगला योजना एक ऐसी योजना है। जिस के तहत अब यूपी में जो बच्ची जन्म लेगी उसको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा धन राशि दी जाया करेगी। यह धन राशि उसके जन्म से लेकर उसकी शादी तक विभिन्न चरणों में दी जाएगी। UP Kanya Sumangla Scheme की घोषणा राज्य के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने 07 जनवरी 2020 को 2020-20 के बजट के दौरान की है। जिसका मुख्य उद्देश्य महिलाओं को एक उच्च दर्जे पर लेकर जाना है।

जिस से महिलाएं भी राज्य और देश की विकास में पूर्ण रूप से अपनी भूमिका निभाने के लिए सक्षम हो पाएं व वह अपनी शिक्षा से लेकर शादी तक का खर्चा करने के लिए किसी पर बोझ न बने। यूपी सरकार ने इस बजट के दौरान UP Kanya Sumangla Scheme के लिए 1200 करोड़ रूपए का प्रावधान किया है। बता दें की फिलहाल इस योजना की घोषणा की गयी है। इसे सुचारु रूप से कब लागू किया जायेगा इसकी अभी तक कोई पुष्टि नहीं हो पाई है।

UP Kanya Sumangla Scheme में इन 6 चरणों में कितने पैसे मिलेंगे ?

सरकार के कार्यकारी ने बताया की यूपी की बेटी को यह राशि छ किश्तों में दी जाएगी। जिसकी शुरुआत बच्ची के जन्म से ही हो जाएगी उसके बाद दूसरे चरण में उसके टीकाकरण के दौरान। फिर वह बच्ची जब शिक्षा के लिए स्कूल में जाएगी तब उस दौरान उसे छठी कक्षा में प्रवेश करने पर 3000 रूपए दिए जायेंगे व जब आठवीं कक्षा में कदम रखेगी तो उसे 5000 रूपए की मदद दी जाएगी। व दसवीं कक्षा में उसे 7000 रूपए प्राप्त होंगे साथ ही 12 वीं कक्षा के दौरान ही उसे सरकार द्वारा 12000 रूपए की सहायता की जाएगी।

शिक्षा के साथ साथ सरकार लड़कियों को उनकी शादी की उम्र (21) वर्ष में एक बड़ी धन राशि देगी जो की 2 लाख रूपए की सीमा तय की गयी है। इस से यूपी में रह रहे हर लड़की वाले परिवारों को आर्थिक सहायता दी जाएगी जिससे उनकी बेटी उच्च स्तर की शिक्षा प्राप्त कर सके।

“यूपी कन्या सुमंगला योजना” से संबंधित नियम – कायदे –

इस योजना के तहत सरकार द्वारा कई नियम कायदे तय किये गए हैं। जिनका पूर्ण रूप से पालन कर के ही UP Kanya Sumangla Scheme का लाभ उठाया जा सकता है :-

1) यूपी निवासी :- इस योजना के अनुसार जो भी लड़की यूपी राज्य की मूल निवासी होगी सिर्फ वही इसके अंतर्गत आएगी। फिर वह चाहे किसी भी धर्म से संबंध रखती हो। योगी सरकार द्वारा उस के परिवार के लोगों को इसके लिए उसके जन्म के दौरान उत्तर प्रदेश का जन्म प्रमाण पत्र बनवाना होगा।

2) 18 वर्ष शादी उम्र :- इस योजना का लाभ केवल उन्ही लड़कियों को दिया जायेगा जिसकी शादी 18 वर्ष के बाद हुई होगी अन्यथा वह इस लाभदायक योजना के अंतर्गत शामिल नहीं आएगी और ना ही वह इस के लिए आवेदन कर सकती है।

3) 18 वर्ष के बाद धन प्राप्ति :- यूपी सरकार ने इस इतिहासिक घोषणा का एलान करते हुए बताया है। कि यूपी में जन्मी बच्ची की तय धन राशि उसको 18 वर्ष की उम्र के बाद ही दी जाएगी।

UP Kanya Sumangla Scheme से जुड़े महत्वपूर्ण दस्तावेज –

UP Kanya Sumangla Scheme का लाभ उठाने के लिए आवेदनकर्ता को निम्नलिखित कागजी दस्तावेज जमा करवाने होंगे। जिनके आधार पर ही यह तय किया जायेगा की वह महिला इस योजना के अंतर्गत आती है, या नहीं। जाने क्या है जरूरी दस्तावेज :-

1) आधार कार्ड :- जिस समय इस योजना के लिए आवेदन किया जायेगा तब उस महिला के आधार कार्ड की जाँच की जाएगी जिस से यह तय किया जायेगा की वह लड़की यूपी राज्य की है। या नहीं। इसी कारण आधार कार्ड का होना अनिवार्य होगा।

2) बैंक खाता :- जो भी इस योजना के अंतर्गत महिला आएगी उसको धान प्राप्ति के लिए बैंक में खाता खुलवाना होगा क्योंकि जो भी इस योजना के दौरान सरकार द्वारा पैसे भेजे जायेंगे वह आवेदनकर्ता के बैंक अकाउंट में ही डाले जायेंगे।

3) जन्म प्रमाण पत्र :- इस योजना के तहत जन्म प्रमाण पत्र का होना भी अनिवार्य है। जिस पर यह दर्शाया गया हो की वह लड़की उत्तर प्रदेश के ही किसी भी ग्रामीण या शहर के इलाके में ही पैदा हुई है।

4) स्कूल प्रमाण पत्र :- दस्तावेजों में स्कूल प्रमाण पत्र का भी होना आवयश्क है। जिस में यह अंकित हो की छात्रा ने स्कूली शिक्षा उत्तर प्रदेश के ही किसी की जिले से की है।

यूपी कन्या सुमंगला योजना के लाभ –

सरकार द्वारा जो भी योजना बनाई जाती है। उसका मूल उद्देश्य यही होता है कि वह किसी न किसी रूप में जन कल्याण हो पाए। इसी श्रेणी में “यूपी कन्या सुमंगला योजना” के भी निम्न लिखित लाभ है। जो कुछ इस प्रकार है :-

1) उच्च शिक्षा प्राप्ति :- इस योजना का मुख्य फायदा यह होगा की यूपी में रह रही लड़की आर्थिक तंगी के कारण उच्च स्तर की शिक्षा से अछूत रह जाती थी पर योजना की सहायता लेकर वह किसी भी स्कूल या कॉलेज में दाखिला लेकर उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए उत्तीर्ण हो पाएंगी।

2) राज्य और देश के विकास में सहायक :- यूपी देश का सबसे बढ़ा राज्य है। जहां की आबादी दो अन्य बड़े राज्य की जितनी है। पर यह राज्य विकास दर में कुछ ज्यादा सहायक नहीं हो पाया क्योकि कहीं न कहीं यूपी की महिलाएं अपने आप को पुरुषों से कमजोर महसूस करती थी और वह किसी ऐसी ही योजना का इन्तजार कर रही थी जिस से वह घरों से बाहर आकर कार्य करने के लिए सक्षम हो पाएं। UP Kanya Sumangla Scheme की मदद से वह यूपी और देश के विकास में बढ़ चढ़कर हिस्सा ले पाएंगी।

3) अब बेटी बोझ नहीं :- इस योजना का एक अन्य महत्वपूर्ण फायदा यह भी होगा की माँ बाप बच्ची के जन्म से ही उसे बोझ समझने लगते थे। और उसे एक खर्चे का माध्यम समझते थे परन्तु इस योजना की मदद से अब उनके जन्म से लेकर उनकी शादी तक का खर्चा सरकार द्वारा उठाया जायेगा जिसके कारण वह किसी के ऊपर बोझ नहीं होगी।

यूपी कन्या सुमंगला योजना 2020 में ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें?

UP Kanya Sumangla Scheme को लेकर फिलहाल घोषणा ही की गयी है। बता दें की जल्द से जल्द इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए आवेदन करने के लिए ऑनलाइन और औपचारिक दस्तावेजों को तैयार किया जायेगा। अभी इस बात की पुष्टि नहीं की गयी है कि कब से इस योजना के लिए यूपी की महिलाएं आवेदन कर सकती हैं।

यूपी कन्या सुमंगला योजना | UP Kanya Sumangala Yojana 2020 | ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म, Apply, Online Registration

  • वेबसाइट पर पहुचने के पश्चात् यहाँ आपको ‘Quick Links’  सेक्शन में जाकर नागरिक सेवा पोर्टल ऑप्शन में “Apply Here” पर क्लिक करना है।
  • अब नया पेज खुलेगा जिसमे आपको सारे नियम बताये जाएगें जिसे आप पढ़  मैं सहमत हूँ ऑप्शन पर क्लिक करके “जारी रखें” बटन पर क्लिक करें।
  • अगले पेज पर आपको आवेदक को कुछ आवश्यक जानकारी देनी होगी। और अंत में ओटीपी के माध्यम से वेरिफिकेशन करना होगा।

यूपी कन्या सुमंगला योजना | UP Kanya Sumangala Yojana 2020 | ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म, Apply, Online Registration

  • जिसके बाद आपके फ़ोन पर एक OTP आएगा। और उसे आप फॉर्म में डालने के बाद आवेदक पंजीकरण हो जायेगा। जिसके बाद आपको एक एक यूजर आईडी पासवर्ड मिलेगा।
  • अगले स्टेप में आपको अपना यूजर नाम और पासवर्ड डालकर पोर्टल पर लॉगिन करना होगा।
  • लॉगिन करने के बाद आप यूपी कन्या सुमंगला योजना का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फॉर्म आएगा और आपको इस फॉर्म में सारी सही सही जानकारी भरना होगा।
  • इसके बाद आवश्यक सारे दस्तावेज अपलोड कर और फॉर्म सबमिट कर दें।
  • फॉर्म सबमिट करने के बाद आपको एक एप्लीकेशन नंबर मिलेगा जिसे आप कहीं नोट करके रख लें।

दोस्तों, इस लेख में आपको योगी सरकार की छत्रछाया में चलाई गयी नई “यूपी कन्या सुमंगला योजना” से संबंधित सभी जानकरियों को सांझा किया गया है। इस विषय से संबंधित अगर आप के पास कोई अन्य जानकारी या सवाल है। तो आप हमे नीचे कॉमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते हैं। हम जल्द से जल्द आप के सभी सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगे। अगर यह जानकारी आप को प्रभावित लगती है। तो आप इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ शेयर भी कर सकते हैं।। धन्यवाद।।

Spread the love

5 thoughts on “यूपी कन्या सुमंगला योजना 2020 | ऑनलाइन आवेदन| एप्लीकेशन फॉर्म, Apply, Online Registration”

Leave a Comment