यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म व पात्रता

उत्तर प्रदेश जनसंख्या की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य है। पूरे देश की नजर उत्तर प्रदेश पर होती है। प्रदेश की लोकप्रिय योगी आदित्यनाथ सरकार युवाओं और महिलाओं के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं लेकर आई है। 20 अगस्त, 2021 को भी उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में अपने संबोधन के दौरान प्रदेश के एक करोड़ युवाओं को स्मार्टफोन और टैबलेट बांटे जाने की घोषणा के साथ ही प्रतियोगी परीक्षा भत्ता भी देने का ऐलान किया है। आइए, यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 के बारे में विस्तार से जानते हैं-

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 क्या है?

साथियों, उत्तर प्रदेश के युवाओं के लिए यह एक बहुत अच्छी खबर है। 20 अगस्त, 2021 को उत्तर प्रदेश विधानसभा में अपने संबोधन के दौरान प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रदेश सरकार की ओर से प्रदेश के एक करोड़ युवाओं को स्मार्ट फोन और टैबलेट देने की योजना की घोषणा की है। लगे हाथ यह भी साफ कर दें कि केवल उत्तर प्रदेश के छात्र छात्राएं ही यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 से लाभान्वित हो सकते हैं।

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 के लाभार्थी कौन होंगे?

मित्रों‍ आपके दिमाग में अब सवाल उठ रहा होगा कि इस उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री स्मार्ट फोन, टैबलेट वितरण योजना के लाभार्थी कौन होंगे। आपको बता दें कि ग्रेजुएट, पोस्‍ट ग्रेजुएट और डिप्‍लोमा कर रहे छात्रों को उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री स्मार्ट फोन, टैबलेट वितरण योजना का लाभ मिल सकेगा। आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में पिछले पांच साल में युवाओं को साढ़े चार लाख सरकारी नौकरियां दी गई है।

यूपी फ्री स्मार्टफोन/टेबलेट योजना डिटेल्स –

योजना का नामयूपी फ्री टेबलेट/स्मार्टफोन योजना 2022
किसने आरंभ कीउत्तर प्रदेश सरकार
लाभार्थीग्रेजुएशन, पोलराइजेशन, टेक्निकल और डिप्लोमा में अध्ययनरत छात्र
लाभार्थियों की संख्या1 करोड़
उद्देश्यफ्री टैबलेट और स्मार्टफोन प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटजल्द लॉन्च की जाएगी
साल2022
बजट3000 करोड़ रुपए
आवेदन का प्रकारऑनलाइन/ऑफलाइन

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 के लिए कितनी राशि रखी गई?

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 के तहत तीन हजार करोड़ रुपए की राशि से युवाओं को स्मार्ट फोन और लैपटॉप वितरित किए जाएंगे। आपको बता दें कि इससे पूर्व उत्तर प्रदेश की सपा सरकार के दौरान तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी छात्रों को लैपटॉप वितरित किए जाने की योजना चलाई थी। हालांकि वह योजना मेधावी विद्यार्थियों के लिए थी‌।

उत्तर प्रदेश के युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने के लिए भत्ता –

दोस्तों, आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने इसके साथ ही प्रदेश सरकार युवाओं को प्रतियोगी परीक्षा (competitive exams) में शामिल होने के लिए भत्ता (allowance) भी देने का ऐलान किया है। आपको बता दें कि‍ प्रत्येक प्रतियोगी छात्र को यह भत्ता कम से कम 3 परीक्षाओं के लिए दिया जाएगा।

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2021 ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म व पात्रता

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 का लाभ लेने की शर्तें, दस्तावेज

मित्रों, यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 का लाभ उठाने के लिए सरकार की ओर से कुछ शर्तें निर्धारित की गई हैं। इसके साथ ही आवेदक को कुछ दस्तावेज भी आवेदन के साथ संलग्न करने होंगे, जो कि इस प्रकार से हैं-

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक का आधार कार्ड।
  • प्रतियोगी परीक्षा में बैठने का प्रमाण।
  • आवेदक का मोबाइल नंबर।
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो।

शिक्षण संस्थाओं में फ्री वाई-फाई और डिजिटल एक्सेस का इंतजाम

साथियों, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्रों की सहूलियत को देखते हुए तथा उन्हें तकनीकी रूप से दक्ष व साधन-संपन्न बनाने के लिए शिक्षण संस्थाओं में फ्री वाई-फाई और डिजिटल एक्सेस का इंतजाम किए जाने की भी घोषणा की है। इस कार्य को कॉरपोरेट जगत, वित्तीय संस्थाओं और विश्वविद्यालयों के सहयोग से पूरा किया जाएगा। दोस्तों, आपको बता ए उत्तर प्रदेश पहला राज्य है, जहां युवाओं के लिए इतने कदम उठाए जा रहे हैं।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में आगे बढ़ रही है। इसी क्रम में व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग ने प्रदेश के युवाओं को विदेशों में रोजगार हासिल करने के मौके मुहैया कराने के लिए अमेरिका के अन्तर्राष्ट्रीय डिजिटल लर्निंग प्लेटफार्म कोर्सेरा के जरिए मुफ्त ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू किया है। इससे प्रदेश के युवा international standards के अनुसार ट्रेनिंग हासिल कर इंडस्ट्री के लायक बन सकेंगे। अब तक प्रदेश के 50 हजार युवाओं को ट्रेनिंग की व्यवस्था की गई है। ट्रेनिंग पूरी होने के बाद इन युवाओं को कोर्सेरा की ओर से सार्टिफिकेट भी उपलब्ध कराया जाएगा।

छात्र-छात्राओं के साथ ही अभिभावकों को भी राहत मिलेगी

मित्रों, योगी आदित्यनाथ सरकार के इन कदमों से न केवल छात्र-छात्राओं बल्कि, उनके अभिभावकों को भी बड़ी राहत मिलेगी। आपको बता दें कि देश में सबसे ज्यादा युवा आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश ही है। ऐसे में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवाओं के लिए भत्ते की घोषणा से युवाओं में भी राहत है।

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 के लिए आवेदन कैसे करें?

दोस्तों, अभी इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आधिकारिक रूप से अभ्यर्थियों से आवेदन आमंत्रित नहीं किए गए हैं। न ही उत्तर प्रदेश सरकार की यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 का लाभ उठाने के लिए कोई वेबपोर्टल लांच किया गया है। जल्दी ही सरकार की ओर से इस संबंध में जानकारी साझा की जाएगी। जैसे ही आवेदन संबंधी कोई भी अपडेट जारी होगा, उसे हम आपके लिए लेकर हाजिर होंगे। आपको बस हमारी वेबसाइट को लगातार चेक करते रहना है। आपको सबसे पहले और सबसे सटीक जानकारी यहीं उपलब्ध होगी।

सपने देखो-कदम बढ़ाओ-हम देंगे संसाधन की दिशा में कदम

साथियों, आपको याद ही होगा कि इस साल बीते फरवरी माह में उतर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सिविल सेवा, नीट, जेईई आदि परीक्षाओं की निशुल्क तैयारी के लिए अभिनव अभ्युदय योजना की शुरुआत की थी। उन्होंने छात्र-छात्राओं से कहा था- सपने देखो-कदम बढ़ाओ-हम देंगे संसाधन। विधानसभा में उतर प्रदेश के मुख्यमंत्री की घोषणाओं को इस दिशा में एक कदम माना जा रहा है।

उत्तर प्रदेश में 74 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश

विधानसभा चुनाव नजदीक हैं तो उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने मौके पर चौका मारते हुए एक और महत्वपूर्ण कदम उठाया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य के विभिन्न विभागों में 74 हजार पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए हैं। इसके जरिए उत्तर प्रदेश सरकार अब मिशन रोजगार को रफ्तार देने में जुट गई है।

जिन 74 हजार रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं, उनमें 30 हजार पदों पर भर्ती उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग करेगा। 27 हजार पद उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के माध्यम से भरे जाने हैं। वहीं, उच्चतर शिक्षा चयन आयोग के जरिए 17 हजार पदों पर भर्ती की जाएगी।

उत्तर प्रदेश में 52.7% 25 साल से कम उम्र की आबादी

दोस्तों, अपने देश भारत की आबादी का 50 प्रतिशत से अधिक हिस्सा अब 25 साल या अधिक उम्र का है। पिछले साल 2020 में आए एक सर्वे में यह उजागर हुआ है। 25 साल से कम उम्र की इस आबादी (Population)में 47.4 प्रतिशत पुरुष और 46.3 प्रतिशत महिलाएं हैं। अब बात उत्तर प्रदेश की।

उत्तर प्रदेश में 25 साल से कम उम्र की 52.7 प्रतिशत आबादी है। कुल 2.9 प्रतिशत के साथ देश में प्रजनन दर के मामले में यह दूसरे स्थान पर है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि देश के सबसे शिक्षित कहे जाने वाले केरल राज्य में 1.7 प्रतिशत प्रजनन दर के साथ 25 साल से कम की 37.4 प्रतिशत आबादी है।

महिलाओं के उत्थान के लिए भी मुख्यमंत्री जल्द योजना लाएंगे

दोस्तों, विधानसभा में अपने संबोधन में युवाओं के लिए स्मार्ट फोन और लैपटॉप संबंधी घोषणा करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने निराश्रित महिलाओं के उत्‍थान के लिए भी जल्दी ही योजना लाए जाने की भी बात कही। आपको बता दें कि प्रदेश में ऐसी हजारों महिलाएं हैं, जो कि बिना किसी सहारे के रह रही हैं। कोई तलाकशुदा है तो कोई अकेली महिला है। इन महिलाओं के कल्याण के लिए योगी आदित्यनाथ इस योजना के तहत प्रावधान करेंगे।

उत्तर प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय में दोगुनी बढ़ोतरी

विधानसभा में अपनी बात रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष को निशाने पर रखा और प्रदेश की प्रगति का ब्योरा सामने रखा। योगी आदित्यनाथ ने बताया कि पिछले पांच साल में प्रदेश में प्रति व्यक्ति आय दोगुनी हो गई है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था, जो 2015-16 में छठे स्थान पर थी, वह दूसरे स्थान पर आ गई है। योगी आदित्यनाथ ने बताया कि पांच साल पहले प्रदेश की कुल राज्य घरेलू उत्पाद यानी GSDP करीब 10-11 लाख करोड़ के आसपास थी, जो आज 20-21 लाख करोड़ के करीब पहुंच गई है।

अंतिम शब्द

दोस्तों, बेशक उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से युवाओं की सहूलियत के लिए किए गए इन ऐलानों को विधानसभा चुनाव के नजरिए से देखा जा रहा है, लेकिन इसमें कोई दो राय नहीं कि युवाओं और उनके अभिभावकों के लिए यह राहत भरे कदम हैं। आजकल सारी शिक्षा आनलाइन है। इसके अलावा छात्र विभिन्न परीक्षाओं की तैयारी भी इंटरनेट की सहायता से करते हैं। ऐसे में छात्र छात्राओं को इसके लिए स्मार्ट फोन, टैबलेट आदि मिलने से बेहतर कुछ नहीं हो सकता।

इसके अतिरिक्त विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठ रहे प्रतियोगी आर्थिक रूप से विपन्न वर्गों से आते हैं, जिनके लिए प्रतियोगिता परीक्षा फार्म भरने से लेकर इसकी तैयारियों पर होने वाले खर्च से निपटना एक टेढ़ी खीर होता है। ऐसे में भत्ता मिलने से उन्हें मदद होगी। हालांकि, सरकार ने युवाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए बहुत सी स्व रोजगार योजनाएं भी चलाई हैं, लेकिन सरकारी नौकरियों का आकर्षण अभी भी कम नहीं हुआ है। सरकार के कदम सरकारी नौकरी चाहने वाले ऐसे युवाओं के लिए भी लाभप्रद साबित होंगे, ऐसा माना जा सकता है।

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 से जुड़े सवाल जवाब-

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं के लिए क्या ऐलान किया है?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के एक करोड़ युवाओं को स्मार्ट फोन और टैबलेट देने की घोषणा की है।

यूपी फ्री स्मार्टफोन योजना 2022 योजना के लिए कितनी राशि का प्रावधान किया गया है?

इस योजना के लिए तीन हजार करोड़ रुपए की राशि का प्रावधान किया गया है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यह घोषणाएं किस समारोह में की?

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा में संबोधन के दौरान यह घोषणाएं कीं।

योगी आदित्यनाथ ने प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले युवाओं के लिए क्या ऐलान किया है?

उन्होंने प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठने वाले युवाओं को भत्ता दिए जाने की घोषणा की है।

युवाओं को भत्ता कितनी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए मिलेगा?

उत्तर प्रदेश के युवाओं को तीन प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने के लिए यह भत्ता मिलेगा।

दोस्तों, हमने आपको युवाओं की बेहतरी के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की विधानसभा में की गई घोषणाओं के बारे में बताया। यदि आप किसी जन उपयोगी योजना के संबंध में हमसे जानकारी चाहते हैं तो नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके अपनी बात हम तक पहुंचा सकते हैं। आपकी प्रतिक्रियाओं का हमें इंतजार है। !! धन्यवाद!!

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment