स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पात्रता एवं लाभ

हिमाचल प्रदेश स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना एप्लीकेशन फॉर्म, HP swarna jayanti anushikshan yojana online form, HP swarna jayanti anushikshan yojana in hindi, स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे?

हमारे भारत देश में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। जहां पर छोटी जगह से भी ऐसे बच्चे हमें मिलते हैं। जो होनहार होने के साथ-साथ इस काबिल होते हैं। कि वह आगे बढ़कर अपने परिवार का नाम रोशन कर सकें। कुछ बच्चे ऐसे होते हैं, जो अध्ययन में पीछे नहीं हैं। और हमेशा आगे बढ़ना चाहते हैं। कुछ बच्चे ऐसे भी हैं, जो अपने आर्थिक स्थिति सही नहीं होने की वजह से वह आसानी से शिक्षा प्राप्त नहीं कर पाते और किसी भी प्रकार की उच्च शिक्षा से वंचित रह जाते हैं।

ऐसे बच्चों को आगे लाने के लिए केंद्र और हिमाचल प्रदेश सरकार ने एक नई योजना की शुरुआत की है। जिसे “स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना” का नाम दिया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के बच्चों को आगे बढ़ने का मौका दिया जाएगा ताकि वह भी अपने भविष्य के प्रति सजग रहकर अच्छा कार्य कर सकें। आज हम आपको इस बेहतरीन योजना “स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना” के बारे में संपूर्ण जानकारी दे रहे हैं।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना क्या है?

यह एक ऐसी बेहतरीन योजना है। जिसके शुरुआत हिमाचल प्रदेश से की गई है। जहां पर प्रदेश के बच्चों को किसी भी प्रकार की कमी ना रखते हुए सही शिक्षा दी जाएगी ताकि वे देश का नाम रोशन कर सकें। स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के माध्यम से राज्य के किसी भी सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को मेडिकल एवं इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश के लिए सुविधा मुहै।या कराई जाएगी जिसके माध्यम से वे नीट और जेईई जैसे कोचिंग मुफ्त में प्राप्त कर सकेंगे।

इस योजना की खास बात यह है। कि इसके माध्यम से उन्हें किसी भी प्रकार का अतिरिक्त खर्च नहीं होगा और आसानी से ही अपनी शिक्षा को भी पूर्ण किया जा सकेगा।

स्वर्ण जयंती अनुरक्षण योजना रजिस्ट्रेशन डिटेल्स –

योजना का नामस्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022
योजना किसके द्वारा शुरू की गईहिमांचल प्रदेश के राज्य पाल राजेन्द्र विश्वनाथ अर्लेकर जी के द्वारा
योजना की घोषणा कब हुई5 सितम्बर 2021
योजना का लाभ कैसे मिलेगासरकारी स्कूलो में अध्यनरत हिमाचल प्रदेश के छात्र-छात्राएं
योजना का उद्देश्य क्या हैजेईई एवं नीट की परीक्षा के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान करना।
योजना के लिए कितना बजट निर्धारित किया गया5 करोड़ रुपए
किस राज्य की योजना हैहिमाचल प्रदेश
योजना के लिए आवेदन कैसे कर सकते हैंऑनलाइन/ऑफलाइन
ऑफिशियल वेबसाइटअभी लॉन्च नहीं हुई

स्वर्ण जयंती शिक्षण योजना का शुभारंभ

इस बेहतरीन योजना का शुभारंभ हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथन अर्लेकर द्वारा 5 सितंबर 2021 को कर दिया गया है। जिसमें मुख्य रुप से कार्यान्वयन के लिए निर्देशक उच्चतर शिक्षा विभाग डॉ अमरजीत शर्मा द्वारा गाइडलाइन जारी कर दिया गया है। ऐसी उम्मीद की जा रही है। कि इस योजना के माध्यम से राज्य के लाखों बच्चों को लाभ हो सकता है। और वह भी आगे बढ़कर अपने भविष्य को संवार सकते हैं।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022 ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पात्रता एवं लाभ

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के मुख्य चरण

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपको इस योजना के मुख्य चरणों के बारे में जानकारी होना आवश्यक है। यह योजना मुख्य रूप से दो चरणों में होगी जिसमें प्रथम चरण में विज्ञान और गणित की कोचिंग मुफ्त में प्रदान की जाएगी साथ ही साथ इस के माध्यम से ही नीट की भी तैयारी कर की जाएगी और सिलेबस को भी ध्यान में रखा जाएगा।

ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने 12वीं कक्षा में प्रवेश लिया है। उनका एक अलग से टेस्ट भी लिया जाएगा और उसमें चयनित छात्रों को ही कोचिंग का मौका दिया जाएगा।

इसके माध्यम से वीडियो देखने का भी बच्चों को मौका मिलेगा और उसके सवालों के जवाब शिक्षकों को देना होगा। इस योजना के लिए शिक्षकों को भी निर्देश दिए गए हैं। कि वह भी सही तरीके से कार्यों को आगे बढ़ाएं और अपडेट रहने का प्रयास करें। इस योजना के संचालन के लिए अब तक लगभग 7 करोड रुपए का बजट निर्धारित कर लिया गया है।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का मुख्य लक्ष्य [The main goal of the Golden Jubilee Apprenticeship Scheme] –

सामान्य तौर पर ऐसा देखा जाता है। कि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे आर्थिक स्थिति सही नहीं होने की वजह से ज्यादा आगे नहीं बढ़ पाते और उन्हें कई प्रकार की परेशानी का सामना करना पड़ता है। ऐसे में हिमाचल प्रदेश की “स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना” उन बच्चों के लिए कारगर होगी जो सरकारी विद्यालय में पढ़ते हुए अपने शिक्षा आगे नहीं बढा़ पाते।

योजना का मुख्य लक्ष्य यही है। कि वे आर्थिक रूप से कमजोर बच्चों को निशुल्क कोचिंग की सुविधा दे सके ताकि वे भी आगे जाकर मेडिकल और इंजीनियरिंग जैसी पढ़ाई करते हुए देश को आगे बढ़ा सके।इस योजना का उद्देश्य बच्चों को आत्मनिर्भर बनाने का भी है। ताकि वे अपने जीवन को सार्थक कर सकें।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के मुख्य लाभ [Key Benefits of Golden Jubilee Apprenticeship Scheme] –

अगर आप इस बेहतरीन योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपको इस योजना के बारे में संपूर्ण जानकारी होना आवश्यक है। आप नीचे दिए जा रहे पॉइंट के अनुसार इस योजना को और अधिक अच्छे ढंग से समझ सकते हैं –

  • 1) यह योजना लाभ मुख्य रूप से हिमाचल प्रदेश के विद्यार्थियों के लिए बनाई गई है। जिससे वह भी अन्य राज्यों की तरह आगे बढ़कर अपने परिवार का नाम रोशन कर सकें।
  • 2) इस योजना के माध्यम से सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को आसानी से ही कोचिंग की सुविधा दी जाएगी वह भी बिल्कुल मुफ्त में ताकि वे इंजीनियरिंग और मेडिकल जैसी पढ़ाई आसानी से कर सकें।
  • 3) जो भी छात्र 9वीं से 12वीं तक की पढ़ाई कर रहे हैं। वे सभी इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • 4) अगर इस योजना का लाभ लिया जाता है, तो किसी भी प्रकार के अतिरिक्त खर्च से बचा जा सकता है।
  • 5) सरकार द्वारा इस योजना के लिए कम से कम ₹ 5 करोड़ का बजट निर्धारित किया गया है। ताकि राज्य के बच्चों को ज्यादा से ज्यादा यह सुविधा प्रदान की जा सके।
  • 6) यह कोचिंग की सुविधा शनिवार और रविवार को ही होगी ताकि हर बच्चा आकर कोचिंग की सुविधा ले सके।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के लिए मुख्य पात्रता [Main eligibility for Golden Jubilee Apprenticeship Scheme] –

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के लिए सरकार द्वारा कुछ पात्रता मापदंड भी निर्धारित किए गए हैं। इन पात्रता मापदंड को पूरा करने वाले छात्र-छात्राओं को ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा –

  • 1) इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को हिमाचल प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • 2) ऐसे विद्यार्थी योजना का लाभ ले सकेंगे तो सरकारी स्कूल में पढ़ते हो।
  • 3) नौवीं से बारहवीं तक के छात्र ही इस योजना का लाभ ले सकते हैं। और आगे बढ़ सकते हैं।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज [Documents required for Golden Jubilee Apprenticeship Scheme]

अगर आप इस बेहतरीन योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको इन मुख्य दस्तावेजों की आवश्यकता होगी। इन आवश्यक दस्तावेजों के बिना आप इस योजना के लिए पात्र नहीं होंगे –

  • आधार कार्ड [Aadhar card]
  • आय प्रमाण पत्र [income certificate]
  • आयु प्रमाण पत्र [age certificate]
  • मार्कशीट [mark sheet]
  • निवास प्रमाण पत्र [Address proof]
  • पासपोर्ट साइज फोटो [Passport size photo]
  • मोबाइल नंबर [mobile number]

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया [Procedure to apply for Swarna Jayanti Anushishan Yojana]

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो यह आपके लिए बहुत ही अच्छा है। लेकिन इसके लिए आपको थोड़ा इंतजार करने की आवश्यकता होगी। जल्द ही राज्य सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत आने वाले आवेदन प्रक्रिया की जानकारी दी जाएगी।

स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना को बनाया गया सोशल मीडिया के द्वारा आसान [Swarna Jayanti Tuition Scheme made easy through social media]

अगर आप भी इस बेहतरीन स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो यह आपके लिए लाभप्रद हो सकती है। क्योंकि इसमें शिक्षकों के द्वारा छात्रों के मोबाइल पर एक लिंक भेजा जाएगा। और वह लिंक यूट्यूब का होगा इस लिंक के माध्यम से छात्र आसानी से ही इस योजना की जानकारी ले सकते हैं।

इस लिंक को व्हाट्सएप के माध्यम से भी छात्रों को भेजा जाएगा ताकि कोई भी छात्र इस योजना के लाभ से वंचित ना रह सके। सोशल मीडिया के माध्यम से इस योजना को बढ़ावा देने का यह बेहतरीन तरीका है। जिससे कोई भी छात्र परेशान नहीं हो सकेगा। प्रत्येक सप्ताह 15 से 18 घंटे की क्लास होगी।

स्‍वर्ण जयंती विद्यार्थी अनुशि‍क्षण योजना क्‍या है?

यह योजना सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत नवी से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए आरंभ की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत पात्र विद्यार्थियों को मेडिकल व इंजीनियरिंग की मुफ्त कोचिंग की व्यवस्था की जाएगी ।

स्‍वर्ण जयंती विद्या‍र्थी अनुशिक्षण योजना किस राज्य की योजना है?

यह योजना हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई है ।

इस योजना के अंतर्गत विद्यार्थियों को सप्ताह में कितने दिन कोचिंग दी जाएगी?

एक हफ्ते में शनिवार और रविवार को कोचिंग की व्यवस्था इस योजना के अंतर्गत की जाएगी।

क्या इस योजना के अंतर्गत नीट एवं जेईई की कोचिंग निशुल्क प्रदान की जाएगी?

इस योजना के अंतर्गत नीट एवं जेईई की कोचिंग पूर्णतया निशुल्क प्रदान की जाएगी ।

कौन से छात्रों को नीट एवं जेईई की फ्री कोचिंग सुविधा प्रदान की जाएगी?

कक्षा 9 से 12 तक सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत छात्र छात्राओं को नीट एवं जेईई की फ्री कोचिंग सुविधा प्रदान की जाएगी ।

क्या स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना का लाभ प्रदेश के सभी छात्र छात्राओं को प्रदान किया जाएगा?

नहीं, इस योजना का लाभ केवल सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत छात्र छात्राएं ही प्राप्त कर सकती हैं।

स्वर्ण जयंती अनु शिक्षण योजना की ऑफिशल वेबसाइट कौन सी है?

अभी इस योजना के लिए ऑफिशल वेबसाइट शुरू नहीं की गई है।

अंतिम शब्द

इस प्रकार से आज हमने आपको हिमाचल प्रदेश की एक विशेष योजना “स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना” के बारे में जानकारी दे रहे हैं। जिससे आप भी समय रहते इस योजना का लाभ ले सके और घर के बच्चों को आगे बढ़ा सके। इस बेहतरीन योजना के माध्यम से बच्चे देश का नाम रोशन करते हुए आगे बढ़ सकते हैं। और किसी भी परेशानी से बच सकते हैं।। धन्यवाद ।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment