सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के नियम | सुकन्या का पैसा कैसे निकाल सकते हैं?

|| सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के नियम, rules to withdraw money from Sukanya samriddhi account, सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट बैलेंस चेक Post Office, सुकन्या समृद्धि योजना किस बैंक में खुलता है, सुकन्या समृद्धि योजना में 3000 जमा करने पर कितना मिलेगा, सुकन्या समृद्धि योजना टोल फ्री नंबर, सुकन्या समृद्धि योजना के नुकसान ||

प्रत्येक व्यक्ति चाहता है कि उसके बच्चे अच्छे से अच्छा खाएं, पहने एवं उच्च शिक्षा प्राप्त करें। कई लोग इसके लिए उनके नाम बचत खाता भी खुलवाते हैं, ताकि उन्हें भविष्य में चलकर कोई दिक्कत न हो। इसी प्रकार से बच्चियों के भविष्य को देखते हुए भी लोग अनेक बचत योजनाओं में निवेश करते हैं, ताकि भविष्य में यह राशि उनके विवाह, उच्च शिक्षा अथवा किसी अन्य आवश्यकता पर खर्च की जा सके।

कन्या के पिता को सहूलियत देते हुए केंद्र सरकार ने आज से सात वर्ष पूर्व सुकन्या समृद्धि योजना का आरंभ किया था। इस योजना के तहत जमा धन पर बेहतर ब्याज का प्रावधान किया गया था। इस राशि को टैक्स से भी छूट प्रदान की गई थी। अधिकांश लोग यही जानते हैं कि इस खाते के मैच्योर होने के बाद ही इससे पैसे निकाले जा सकते हैं।

लेकिन ऐसा नहीं है। इससे अन्य कई विशेष परिस्थितियों में भी पैसा निकालना संभव है। आज हम आपको इस पोस्ट में सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के नियमों के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे-

सुकन्या समृद्धि खाता क्या है? (what is Sukanya samriddhi account)

सुुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के नियम | सुकन्या का पैसा कैसे निकाल सकते हैं?

इससे पूर्व कि हम सुकन्या समृद्धि खाते (Sukanya samriddhi account) से पैसा निकालने के लिए नियम आपको बताएं, जान लेते हैं कि सुकन्या समृद्धि खाता (Sukanya samriddhi account) यानी एसएसवाई खाता (SSY account) क्या है? आपको बता दें कि यह एकाउंट 21 वर्ष के लिए खोला जाता है।

शुरूआती 15 वर्ष तक इसमें पैसा जमा करना पड़ता है एवं इसके पश्चात बगैर पैसा जमा किए 6 साल तक यह अकाउंट चलता रहता है। जब 21 वर्ष की अवधि पूरी हो जाती है यानी खाता मैच्योर हो जाता है तो इस एकाउंट में जमा राशि एवं उस पर ब्याज का पैसा दोनों खाताधारक कन्या (account holder girl) को वापस मिल जाते हैं। इस खाते के विशेष बिंदु इस प्रकार से हैं-

  • सुकन्या समृद्धि योजना को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के अंतर्गत आज से करीब सात वर्ष पूर्व 2015 में लांच किया है।
  • यह छोटी बचत योजनाओं (small savings schemes) में सबसे बेहतर ब्याज देने वाली योजना है। आपको बता दें कि वित्तीय वर्ष (financial year) 2021-22 की चौथी तिमाही के लिए ब्याज दर 7.6 प्रतिशत तय की गई है।
  • इस योजना के अंतर्गत बच्ची के जन्म लेने के पश्चात एवं उसके 10 वर्ष की आयु पूर्ण करने से पूर्व एकाउंट (Account) खुलवाया जा सकता है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना खाता केवल 250 रूपये के जमा के साथ खोला जा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत कोई भी व्यक्ति अपनी दो पुत्रियों के लिए खाता खुलवा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत न्यूनतम 250 एवं अधिकतम डेढ़ लाख रूपये वार्षिक जमा किए जा सकते हैं।
  • इस खाते की मैच्योरिटी अवधि (maturity period) 21 वर्ष है। यानी इस अवधि के पूरा होने के पश्चात आपकी बेटी इस पैसे को निकाल सकेगी।
  • सुकन्या समृद्धि खाता किसी भी बैंक अथवा पोस्ट आफिस (bank or post office) की व्यावसायिक शाखा से खुलवाया जा सकता है।
  • इस खाते में जमा राशि को आयकर अधिनियम (Income tax act)-1961 की धारा 80(सी) के तहत टैक्स से छूट दी गई है।
  • सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खोले गए एकाउंट को माता-पिता, अभिभावक के देश में कहीं भी ट्रांसफर होने पर कहीं भी आसानी से ट्रांसफर किया जा सकता है।
  • 18 वर्ष पूर्ण करने के पश्चात आवश्यक केवाईसी (KYC) कराने के पश्चात लड़की स्वयं खाता संचालन (operate) कर सकती है।

सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के नियम | What Are The Rules To Withdraw Money From SSY Account)

अब आपके मन में इस एकाउंट से पैसा निकालने से संबंधित कई सवाल उठ रहे होंगे। जैसे-क्या मैच्योरिटी यानी 21 वर्ष की अवधि पूरी होने पर ही इस खाते से पैसा निकाला जा सकता है? यदि खाता 21 साल नहीं चलाया जाता तो किन विशेष परिस्थितियों में इस खाते से पैसा निकाला जा सकता है, अथवा किन परिस्थितियों में इस एकाउंट को बंद किया जा सकता है, आदि। अब हम आपको तफसील से इन सब बातों का जवाब देंगे। जान लेते हैं कि सुकन्या समृद्धि खाते से पैसा निकालने के क्या नियम हैं-

1. एकाउंट की मैच्योरिटी अवधि के बाद पैसा निकाला जा सकता है? (money can be withdrawn if the account gets matured)

यह तो हम आपको बता ही चुके हैं कि यह खाता 21 वर्ष के लिए खोला जाता है। यानी यह इसका मैच्योरिटी पीरियड है। कन्या के 18 वर्ष पूरे कर लेने के बाद एकाउंट वह आपरेट करती है।

मैच्योरिटी के बाद पूरा पैसा एवं इस पर मिलने वाला ब्याज, सब उसी के खाते में जाता है। वह 21 वर्ष पश्चात इस राशि को निकाल सकती है।

2. जिस कन्या के नाम एकाउंट है, उसकी शादी के लिए आधा पैसा निकाला जा सकता है (half balance can be withdrawn in case of marriage of account holder girl)

आपको जानकारी दे दें कि सुकन्या समृद्धि एकाउंट जिस कन्या के नाम पर खोला गया है, यदि 18 वर्ष की उम्र पूरी करने के पश्चात उसकी शादी होती है तो इस एकाउंट में मौजूद बैलेंस (balance) का 50 प्रतिशत निकाला जा सकता है। आपको बता दें कि यह 50 फीसदी भी पिछले फाइनेंशियल ईयर (financial year) के बैलेंस का होना चाहिए।

जैसे मान लीजिए कि आपकी बेटी की शादी 14 फरवरी, 2022 को है। आपके इसके लिए पैसा निकाल रहे हैं तो अधिकतम राशि 31 मार्च, 2021 को इस खाते में जो बैलेंस था, उसकी 50 प्रतिशत होगी।

यानी अगर इसमें तीन लाख रूपये जमा हैं तो आप डेढ़ लाख रुपए निकाल सकेंगे। इस विशेष परिस्थिति में पैसा निकालने की एक शर्त यह भी है कि कन्या की शादी के एक महीने से पूर्व से लेकर शादी के तीन माह पश्चात तक इस खाते से पैसा निकाला जा सकता है।

3. कन्या को उच्च शिक्षा दिलाने के लिए भी आधा पैसा निकाला जा सकता है? (half balance can be withdrawn for higher education of the girl)

10वीं की पढ़ाई के पश्चात कन्या की उच्च शिक्षा (higher education) भी एक ऐसी विशेष परिस्थिति है, जिसके लिए इस खाते से आधा पैसा निकाला जा सकता है। यह सुविधा कन्या के 18 वर्ष की उम्र पूरी करने के पश्चात मिल जाती है।

50 प्रतिशत राशि की गणना पिछले वित्तीय वर्ष में खाते में मौजूद बैलेंस के आधार पर ही होगी। इसके लिए यह शर्तें रखी गई हैं-

क) आपको कन्या को उच्च शिक्षा दिलाने का प्रूफ (proof) देना होगा। जैसे- जिस शैक्षिक संस्थान में उसने प्रवेश लिया है, वहां की फीस की रसीद (fee receipt) अथवा कोई अन्य प्रमाण (proof)। इसी से कितने पैसे की आवश्यकता है, यह पता चल सकेगा।

ख) इस कार्य के लिए पैसा एक साल में एक ही बार मिलेगा। पैसा एकमुश्त (lump sum) या अधिकतम पांच साल तक किश्त (instalment) में लिया जा सकता है।

4. 15 वर्ष तक पैसे जमा करने पर ही वक्त से पहले पैसा निकाल सकते हैं (one can withdraw money only if he/she has deposited money till 15 years)

सुकन्या समृद्धि एकाउंट (Sukanya samriddhi account) से मैच्योरिटी पीरियड (maturity period) से पहले पैसा निकालने के लिए यह आवश्यक है कि इस खाते में पूरे 15 वर्ष तक पैसा डिपाजिट (deposit) किया गया हो। यदि ऐसा नहीं किया गया है तो संबंधित व्यक्ति को समय से पहले पैसा निकालने की इजाजत नहीं होगी।

इसका अर्थ यह है कि यदि किसी व्यक्ति ने अपनी कन्या के 7 वर्ष पूरे होने के पश्चात यह खाता खुलवाया है तो उसे मैच्योरिटी से पहले पैसा निकासी की सुविधा नहीं मिलेगी।

5. यदि कन्या की मृत्यु हो जाती है तो उसके मां-बाप को पूरा पैसा मिल जाएगा (if girl suddenly dies, her parents will get all the amount)

यदि सुकन्या समृद्धि खाताधारक कन्या की आकस्मिक मृत्यु (sudden death) हो जाती है तो इस खाते का पैसा एवं ब्याज संबंधित कन्या के मां-बाप को मिल जाएगा।

आपको बता दें कि इस खाते के नामांकित (nominee) कन्या के मां-बाप ही होते हैं। लेकिन इसके लिए उन्हें कन्या का मृत्यु प्रमाण पत्र यानी डेथ सर्टिफिकेट (death certificate) पेश करना होगा।

6. कन्या के मां-बाप की मृत्यु होने पर भी अकाउंट बीच में बंद किया जा सकता है (if parents of the girl die account can be be closed in between)

यदि सुकन्या समृद्धि खाताधारक कन्या के मां-बाप अथवा कानूनी अभिभावक की इस खाते की मैच्योरिटी से पूर्व मृत्यु हो जाती है तो यह खाता बीच में बंद किया जा सकता है।

इसके लिए मां-बाप के मृत्यु प्रमाण पत्र (death certificate) के साथ ही एकाउंट बंद करने का रिक्वेस्ट फाॅर्म (request form) भरकर जमा करने की प्रक्रिया है। लेकिन ऐसा तभी किया जा सकता है, जब खाता खुले हुए पांच साल हो गए हों।

7. कन्या को कोई गंभीर बीमारी है तो भी खाता बंद किया जा सकता है (if the girl is seriously ill account can be closed)

आपको बता दें कि यदि सुकन्या समृद्धि खाताधारक कन्या कोई गंभीर अथवा जानलेवा बीमारी (serious illness) है तो ऐसी स्थिति में उसकी पैसे की आवश्यकता को देखते हुए इस खाते को बंद किया जा सकता है।

इसके लिए बीमारी संबंधी दस्तावेज (illness related documents) के साथ ही एकाउंट बंद करने का रिक्वेस्ट फाॅर्म भरकर जमा करना होगा। शर्त वही रहेगी कि ऐसा खाता खोले जाने की तारीख से पांच साल बाद ही किया जा सकेगा।

सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के कौन से दस्तावेज चाहिए (what documents are required to withdraw money from SSY account)

साथियों, अब आते हैं सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के लिए निर्धारित की गई प्रक्रिया (process) पर।

आपको बता दें कि आपको पैसा निकालने के रिक्वेस्ट फाॅर्म (request form) के साथ ही अपनी पहचान (identity) एवं नागरिकता (citizenship) को प्रमाणित करने वाले दस्तावेज documents भी साथ लगाने होंगे। जैसे-आधार कार्ड/वोटर आईडी/पासपोर्ट आदि में से कोई दस्तावेज।

यदि आप परिपक्वता अवधि के बाद पैसा नहीं निकालते तो क्या होगा (what if you don’t withdraw money after account’s maturity)

आपको जानकारी दे दें कि सुकन्या समृद्धि एकाउंट में पीपीएफ एकाउंट (PPF account) की भांति सुविधा नहीं मिलती। यदि आप खाते के 21 वर्ष पूरे हो जाने पर भी पैसा नहीं निकालते तो उस पर कोई ब्याज नहीं जुड़ता। ऐसे में बेहतर यही है कि आप खाता मैच्योर होते ही उसमें जमा राशि निकाल लें।

सुकन्या समृद्धि खाते में निवेश की क्या प्रक्रिया है what is the (process of investment in Sukanya samriddhi account)

जो लोग यह नहीं जानते कि सुकन्या समृद्धि खाते में निवेश कैसे कर सकते हैं, उनके लिए हम बता दें कि यह प्रक्रिया बेहद आसान है-

  • आवेदक को केवल SSY account का एक फार्म भरना होगा।
  • इसके साथ उसे निर्धारित केवाईसी दस्तावेज (KYC documents) जैसे-आधार कार्ड, पासपोर्ट आदि में से किसी की फोटोकापी (photo copy) लगानी होगी।
  • निर्धारित राशि का चेक/ड्राफ्ट (cheque/draft) साथ में जमा करना होगा।

आवेदक सुकन्या समृद्धि योजना का फाॅर्म कहां से ले सकता है (where applicant can get SSY account from)

दोस्तों, आपको बता दें कि केवल बच्ची के मां-बाप (parents) अथवा कानूनी अभिभावक (legal guardian) ही सुकन्या समृद्धि योजना खाता खोल सकते हैं। इस योजना का फार्म किसी भी पोस्ट आफिस, सरकारी/निजी बैंक से लिया जा सकता है।

यदि आप चाहें तो आवेदन फार्म को आनलाइन (online) बैंक अथवा संबंधित पोस्ट आफिस की वेबसाइट (website) से भी डाउनलोड (download) भी कर सकते हैं। इन वेबसाइट से फार्म डाउनलोड किया जा सकता है-

  • रिजर्व बैंक आफ इंडिया (RBI) की वेबसाइट से।
  • इंडिया पोस्ट आफिस (India post office) की वेबसाइट से।
  • सरकारी बैंकों जैसे-एसबीआई (SBI), पीएनबी (PNB), बीओबी (Bob) आदि की वेबसाइट से।
  • निजी क्षेत्र के प्रतिभागी बैंकों जैसे-आईसीआईसीआई (ICICI), एक्सिस (Axis) एवं एचडीएफसी (HDFC) की वेबसाइट से।

सुकन्या समृद्धि खाते के फाॅर्म में क्या क्या डिटेल भरनी होगी (what details need to be filled in SSY account)

अब आपको जानकारी देते हैं कि आपको सुकन्या समृद्धि खाते के फार्म में कौन कौन सी डिटेल भरनी होगी। यह इस प्रकार से है-

  • कन्या का नाम (प्राइमरी एकाउंट होल्डर)।
  • खाता खोलने वाले मां-बाप/ अभिभावक का नाम। (ज्वाइंट एकाउंट होल्डर)।
  • कन्या की जन्म तिथि।
  • डिपाजिट किए जाने वाली आरंभिक राशि।
  • चेक/डिमांड ड्राफ्ट नंबर एवं तिथि।
  • कन्या के जन्म प्रमाण पत्र की डिटेल्स।
  • अभिभावक की पहचान पत्र की डिटेल्स-जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, आधार कार्ड आदि।
  • पहचान पत्र के अनुसार वर्तमान एवं स्थाई पता।
  • पैन, वोटर आईडी कार्ड आदि की केवाईसी डिटेल्स।
  • फार्म को जमा करने के पश्चात इस पर हस्ताक्षर करके निर्धारित दस्तावेजों संग इसे बैंक अथवा पोस्ट आफिस में जमा करना होगा।

यदि किसी वर्ष खाते में न्यूनतम राशि जमा नहीं होती तो क्या होगा (what if one can not deposit minimum balance in one’account in a year)

सरकार ने सुकन्या समृद्धि खाते में न्यूतनम 250 रूपये एवं अधिकतम 1.5 लाख रूपये जमा कर सकने का नियम (rule) इसीलिए बनाया है, ताकि प्रत्येक आर्थिक वर्ग के लोग इस खाते का लाभ उठा सकें एवं अपनी कन्या के विवाह अथवा उच्च शिक्षा के लिए एक मजबूत आर्थिक आधार तैयार कर सकें।

लेकिन ऐसे बहुत से निर्धन लोग हैं, जिनके लिए 250 रूपये सालाना डिपाजिट करना भी आसान नहीं होता। ऐसे में जिन खातों में सालाना 250 रूपये न्यूनतम की राशि जमा नहीं की जाती, सरकार इन खातों को बंद नहीं करती। वह इन्हें डिफाॅल्ट एकाउंट (default account) घोषित कर देती है।

मैच्योरिटी तिथि (maturity date) तक इस डिफाॅल्ट खाते (default account) में योजना के तहत निर्धारित ब्याज (interest) पहुंचता रहता है। खाता खुलने से 15 साल तक के बीच इस खाते को रिवाइव (revive) कराया जा सकता है। इसके लिए आवेदक को 250 रूपये के साथ ही प्रत्येक डिफाॅल्ट वर्ष (default year) के लिए 50 रूपये जमा करने होंगे।

किस विशेष परिस्थिति में एसएसवाई खाते दो बालिकाओं से अधिक के लिए भी खोले जा सकते हैं (in which special condition SSY account can be opened for more than two girls)

मित्रों, अभी हमने आपको बताया कि सुकन्या समृद्धि खाता कोई भी व्यक्ति अपनी दो पुत्रियों के लिए खुलवा सकता है। लेकिन ऐसी विशेष परिस्थिति भी है, जिसमें यह खाता दो से अधिक बालिकाओं के लिए भी खुलवाया जा सकता है। ये स्थिति इस प्रकार से हैं-

यदि कोई कन्या जुड़वां (twin) अथवा ट्रिपलेट से पहले पैदा हुई हो अथवा तीन बच्चियां पहले पैदा हुई हों, ऐसे में एक तीसरा एकाउंट भी खुलवाया जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि खाता किस योजना के अंतर्गत खोला जाता है?

सुकन्या समृद्धि खाता सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत खोला जाता है।

सुकन्या समृद्धि योजना की की शुरूआत कब हुई?

सुकन्या समृद्धि योजना की शुरूआत आज से सात वर्ष पूर्व सन् 2015 में हुई।

सुकन्या समृद्धि खाता कितने वर्ष के लिए खोला जाता है?

सुकन्या समृद्धि खाता 21 वर्ष के लिए खोला जाता है।

इस खाते को कौन खुलवा सकता है?

इस खाते को किसी भी बच्ची के मां-बाप अथवा उसके कानूनी अभिभावक खुलवा सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि खाता खोलने के लिए बालिका की न्यूतनम उम्र कितनी होनी आवश्यक है?

इस योजना के अंतर्गत खाता बालिका के जन्म से लेकर 10 वर्ष की आयु पूर्ण होने से पूर्व तक खोला जा सकता है।

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत न्यूनतम एवं अधिकतम राशि कितनी जमा की जा सकती है?

इस योजना के तहत न्यूनतम 250 रूपये एवं अधिकतम 1.5 लाख रूपये जमा किए जा सकते हैं।

यदि किसी वर्ष कोई एसएसवाई खाते में न्यूनतम राशि नहीं जमा करता तो क्या खाता बंद हो जाएगा?

जी नहीं, यदि किसी वर्ष कोई एसएसवाई खाते में न्यूनतम राशि जमा नहीं करता तो यह खाता बंद नहीं होगा।

एक परिवार में कितने एसएसवाई खाते खुलवाए जा सकते हैं?

एक परिवार को केवल एक खाता खोलना ही अलाउड है।

क्या सुकन्या समृद्धि खाते में निवेश पर कोई टैक्स कटता है?

जी नहीं, इसे आयकर अधिनियम-1961 की धारा(सी) के तहत टैक्स फ्री रखा गया है।

सुकन्या समृद्धि खाते में जमा पैसे पर कितनी ब्याज दर है?

इस खाते में जमा पैसे पर वित्तीय वर्ष 2021-22 की चौथी तिमाही में ब्याज दर 7.6 प्रतिशत है।

सुकन्या समृद्धि खाते में कितने वर्ष तक पैसा जमा करना होता है?

सुकन्या समृद्धि खाते में 15 वर्ष तक पैसा जमा करना आवश्यक होता है।

यदि योजना के अंतर्गत कोई डिफाॅल्ट एकाउंट है तो उसे कैसे रिवाइव किया जा सकता है?

ऐसे खाते को 15 वर्ष से पूर्व रिवाइव किया जा सकता है।

क्या सुकन्या समृद्धि खाते से मैच्योरिटी से पूर्व भी पैसे निकाले जा सकते हैं?

जी हां, ऐसी कई परिस्थितियां हैं, जिनमें मैच्योरिटी से पूर्व भी पैसे निकाले जा सकते हैं। इनका विस्तृत ब्योरा हमने ऊपर पोस्ट में दिया है।

सुकन्या समृद्धि योजना का फार्म कहां से लिया जा सकता है?

सुकन्या समृद्धि योजना का फार्म सरकारी बैंक, प्रतिभागी निजी बैंक अथवा किसी भी पोस्ट आफिस की शाखा से लिया जा सकता है।

क्या सुकन्या समृद्धि खाते को बीच अवधि में ही बंद किया जा सकता है?

जी हां, ऐसी कई परिस्थितियां हैं, जिनमें इस खाते को बीच में ही बंद किया जा सकता है। इनका विवरण हमने ऊपर दिया है।

कितनी उम्र के पश्चात कन्या को खाता संचालन का अधिकार मिल जाता है?

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत कन्या को 18 वर्ष पूर्ण करने पर खाता संचालन का अधिकार मिल जाता है।

दोस्तों, हमने आपको सुकन्या समृद्धि एकाउंट से पैसा निकालने के नियम | सुकन्या का पैसा कैसे निकाल सकते हैं? के बारे में विस्तार से बताया। उम्मीद है कि यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी। यदि आपका इस पोस्ट से जुड़ा कोई सवाल है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बाक्स में अपना सवाल टाइप करके हमें भेज सकते हैं। आपकी प्रतिक्रियाओं का हमें इंतजार है। ।।धन्यवाद।।

—————————

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment