एसआईपी कैलकुलेट कैसे करें? एसआईपी कैलकुलेटर इन हिंदी

|| what is SIP calculator?, What is the formula of calculating SIP?, SIP calculator in hindi?, एसआईपी कैलकुलेटर डाउनलोड, ग्रो एसआईपी कैलकुलेटर, म्यूचुअल फंड कैलकुलेटर, एसआईपी कैसे शुरू करें, सिप में कितना रिटर्न मिलता है, एकमुश्त घूंट कैलकुलेटर, Sip में निवेश कैसे करें SBI, एसबीआई एसआईपी कैलकुलेटर ||

इन दिनों बेहतर कमाई का एक जरिया एसआईपी (SIP) यानी सिप भी हैं। छोटी बचत (small savings) वाले निवेशक (investors) आसानी से सिप में निवेश करके अपने लिए अच्छी आय का जरिया तलाश सकते हैं। बहुत से नए निवेशक, नौकरीपेशा एसआईपी में बड़े पैमाने पर निवेश करते हैं। एसआईपी में निवेश की सुविधा आनलाइन (online) भी उपलब्ध है।

यदि आप भी एसआईपी में निवेश करने के इच्छुक हैं तो एसआईपी कैलकुलेटर (sip calculator) के माध्यम से पहले किसी भी एसआईपी से होने वाले रिटर्न (return) का अनुमान लगा सकते हैं। क्या आपको पता है कि एसआईपी कैलकुलेटर (SIP calculator) क्या होता है?

इससे कैलकुलेशन (calculation) का क्या फार्मूला (formula) है? यदि नहीं, तो आज हम आपको एसआईपी (SIP) के विषय में विस्तार से जानकारी देंगे। आशा है कि आपको यह पोस्ट (post) पसंद आएगी-

एसआईपी क्या होता है? (What is SIP?)

एसआईपी कैलकुलेटर पर बात करने से पहले आपके लिए जानना आवश्यक है कि आखिर एसआईपी (SIP) क्या होता है। इसकी फुल फाॅर्म (full form) की बात करें तो वह सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (systematic investment plan) होती है। इस प्लान में अधिकांशतः वे निवेशक हर माह किश्तों (instalments) में अपना पैसा निवेश करते हैं, जो एकमुश्त पैसा निवेश नहीं कर सकते।

इस प्रकार एसआईपी एक ऐसा जरिया है, जिसके माध्यम से कोई व्यक्ति एक निर्धारित अंतराल में एक निर्धारित रकम म्युचुअल फंड/इक्विटी (equity/mutual fund) की किसी भी योजना में निवेश (investment) करता है। निवेश की रकम मासिक (monthly), त्रैमासिक (quarter) अथवा किसी अन्य निर्धारित अवधि में किश्तों के रूप में अदा की जाती है।

एसआईपी कैलकुलेट कैसे करें? एसआईपी कैलकुलेटर इन हिंदी

एसआईपी कैलकुलेटर क्या होता है? (What is SIP calculator?)

एसआईपी कैलकुलेटर (SIP calculator) एक सरल सा आनलाइन टूल (online tool) है। इसकी सहायता से कोई भी व्यक्ति अपने एसआईपी निवेश (SIP investment) पर अनुमानित रिटर्न (expected return) का आंकलन कर सकता है। एक आइडिया (Idea) ले सकता है।

यद्यपि वास्तविक रिटर्न (actual return) की बात करें तो वह अन्य कई परिस्थितियों पर निर्भर करता है, किंतु एसआईपी कैलकुलेटर (SIP calculator) से आपको आपके निवेश पर रिटर्न (return on investment) का एक मोटा-मोटी अंदाजा हो जाता है। यह सालाना रिटर्न रेट (annual return rate) पर आधारित अनुमान बताता है।

एसआईपी कैलकुलेट करने का क्या फार्मूला है? (What is the formula of SIP calculator?)

यदि आप भी एसआईपी में निवेश करते हैं अथवा निवेश के इच्छुक हैं तो अब आपको यह जानने की उत्सुकता अवश्य हो रही होगी कि एसआईपी कैलकुलेट करने का फार्मूला (formula of calculating SIP) क्या है।
यह फार्मूला निम्नवत है-

M = P × ({[1 + i]n – 1} / i) × (1 + i)

इसमें ‘M’ से अर्थ मैच्योरिटी (maturity) पर मिलने वाली राशि (amount) से है। ‘P’ से अर्थ एक निश्चित समयांतराल पर निवेश की जाने वाली रकम से है। ‘n’ का अर्थ है कि आपने कितनी बार भुगतान (payment) किया है। वहीं, ‘i’ का अर्थ periodic अर्थात सावधिक ब्याज दर (periodic interest rate) से है। इस फार्मूले की मदद से आप कहीं भी आराम से बैठे बैठे एसआईपी पर अनुमानित रिटर्न का अनुमान लगा सकते हैं।

एसआईपी कैलकुलेटर का इस्तेमाल करते समय कौन से वेरिएबल्स भरने होंगे? (What variables should be filled while using SIP calculator?)

(a) एसआईपी में अनुमानित निवेश राशि-

इसका अर्थ है कि आप एसआईपी में हर माह कितनी राशि निवेश करेंगे। यह जानकारी आपको दे दें कि एसआईपी में निवेश की न्यूनतम राशि पांच सौ रुपए है।

(b) एसआईपी में निवेश (investment in sip) की अवधि-

इसका अर्थ है कि आप कितने समय के लिए निवेश करने के इच्छुक हैं। यह आपके वित्तीय लक्ष्यों (financial goals), आपकी आय एवं बचत (income and savings) के अनुसार मासिक, त्रैमासिक, सालाना हो सकती है।

(c) निवेश पर दीर्घकालिक विकास दर-

आपको मुद्रास्फीति (inflation) एवं बाजार की विकास दर (development rate of market) का भी अनुमान लगाना होगा। औसत मुद्रास्फीति दर (average inflation rate) 4-5 प्रतिशत सालाना ली जा सकती है। वहीं, विकास दर (development rate) को 12-14 प्रतिशत सालाना ले सकते हैं। कोई अपनी धारणा के अनुसार इनमें घटत-बढ़त भी कर सकता है।

यह सारी जानकारी भरने के बाद कैलकुलेटर आपको रिटर्न के रूप में मिलने वाली अनुमानित राशि कैलकुलेट करके सामने रख देगा।

एसआईपी कैलकुलेटर से किन सवालों का जवाब मिलता है? (What answers you can get from SIP calculator?)

एसआईपी कैलकुलेटर की महत्ता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि इससे एक निवेशक को उसके निवेश से जुड़े कई सवालों का जवाब मिलता है। ये जवाब कई तरह के हो सकते हैं-जैसे एसआईपी में कितना निवेश करें? सबसे अच्छा एसआईपी कौन सा रहेगा? इत्यादि।

यदि कोई व्यक्ति इन सवालों को दिमाग में रखकर इन्वेस्ट करता है तो निश्चित रूप से वह रिटर्न का अच्छा आंकलन कर अपने लिए एक अच्छे एसआईपी का चुनाव कर सकता है।

एसआईपी में रिटर्न किन किन बातों पर निर्भर होता है? (What are the things on which return on investment depends?)

अधिकांश लोग एसआईपी के जरिए म्युचुअल फंड (mutual fund) में निवेश करना पसंद करते हैं। बाजार के जोखिमों (market risks) के अधीन काम करते हैं। ऐसे में इनसे होने वाला रिटर्न भी बाजार की चाल पर निर्भर करता है। उसी के अनुसार इसमें घटत अथवा बढ़त संभव है। इसी के अनुसार आपका अनुमानित रिटर्न का आंकडा भी परिवर्तित हो सकता है।

सिप के क्या क्या लाभ होते हैं? (What are the benefits of SIP?)

  • छोटी बचत वाले निवेशकों के लिए लाभप्रद। वे न्यूनतम 500 रुपये भी निवेश कर सकते हैं।
  • एकमुश्त बड़ी रकम निवेश करने की आवश्यकता नहीं होती।
  • मार्केट में छोटी अवधि में होने वाले उतार-चढ़ाव के जोखिम से बचाव संभव।
  • अपनी इच्छा से निवेश अवधि का चयन। अर्थात कोई निवेशक मासिक, त्रैमासिक, छमाही अथवा सालाना निवेश का विकल्प चुन सकता है।

अभी तक के प्रदर्शन के आधार पर निवेश के लिए कौन कौन से फंड बेहतर हैं? (Which funds are better for investment on the basis of their performance?)

अब हम आपको उन फंड्स की जानकारी देंगे, जो कि अब तक के प्रदर्शन के आधार पर एक निवेश के लिए निवेश का सबसे अच्छा प्लेटफाॅर्म बन सकते हैं। ये निम्नवत हैं-

  • एसबीआई टेक्नोलाॅजी अपाॅरचुनिटीज फंड
  • एसबीआई मैग्नम कोमा फंड
  • आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल टेक्नोलाजी फंड
  • आदित्य बिरला सन लाइफ डिजिटल इंडिया फंड
  • टाटा डिजिटल इंडिया फंड
  • कोटक स्माॅलकैप फंड
  • आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल स्माॅलकैप फंड
  • पीजीआईएम इंडिया मिडकैप अपाॅरचुनिटीज फंड
  • फ्रैंकलिन इंडिया टेक्नोलाॅजी फंड
  • निप्पन इंडिया स्माॅल कैप फंड

यहां इन प्लांस का अर्थ यह नहीं है कि हम आपको इन योजनाओं में निवेश करने की सलाह दे रहे हैं, बल्कि हमने आपको पिछले कुछ समय के प्रदर्शन के आधार पर यह नाम बताए हैं, ताकि आपको निवेश से जुड़ा एक आइडिया मिल सके।

सिप में कितना रिटर्न मिलता है? (How much return is expected from SIP?)

अब आपको जानकारी देते हैं सिप में कितना रिटर्न मिलता है। दरअसल, लंबी अवधि के रिटर्न की बात करें तो इस प्रकार के कई प्लान हैं, जिनमें आम तौर पर निवेशकों को 12 प्रतिशत तक का रिटर्न मिल जाता है। यदि आप भी लंबी अवधि के लिए निवेश के इच्छुक हैं तो यह कमाई का एक बेहतर जरिया साबित होगा।

सिप में निवेश करते समय किन-किन बातों का ध्यान रखें? (What things should be kept in mind while investing in SIP?)

यदि आप भी सिप में निवेश करना चाह रहे हैं तो आपको कुछ बातों को अवश्य ध्यान रखना चाहिए, जो कि निम्नवत हैं-

  • एसआईपी में निवेश की राशि उतनी ही तय करनी चाहिए, जितनी आप नियमित रूप से जमा कर सकें। यदि आप इसे लगातार कंटीन्यू (continue) नहीं रख पाते तो निवेश का कोई फायदा नहीं।
  • यदि आप मासिक आधार पर किश्त भरने में सक्षम नहीं तो आप त्रैमासिक आधार का चुनाव कर सकते हैं। असल बात यह है कि आपकी किस्त समय पर जमा हो। यद्यपि एक किश्त के टूटने से आपके रिटर्न पर कोई असर नहीं पड़ता।
  • एसआईपी की रकम उतनी ही हो, जितनी आप आराम से भुगतान कर सकें। न तो यह इतनी ज्यादा हो कि आप पर अतिरिक्त प्रेशर पड़े और न ही इतनी कम कि रिटर्न न निकल पाए।
  • किसी की देखा-देखी अथवा किसी के कहने पर जल्दबाजी में सिप में निवेश करना न शुरू करें। आप जिस भी म्युचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं पहले उसकी बैक हिस्ट्री, उसकी परफाॅर्मेंस पता कर लें। सिप कैलकुलेटर के जरिए किसी सिप का रिटर्न कैलकुलेट कर लें। इसके बाद ही इसमें निवेश शुरू करें।

एसआईपी के जोखिम क्या क्या हैं? (What are the risks of SIP?)

यदि आप भी ऐसे ही निवेशकों में हैं, जो सिप को बेहद लाभ का सौंदा मानते हुए इसे जोखिममुक्त समझते हैं। हकीकत में ऐसा नहीं है। अब नीचे दिए गए बिंदुओं के आधार पर हम आपको बताएंगे कि एसआईपी के जोखिम क्या क्या हैं। ये निम्नवत हैं-

  • लोग सोचते हैं कि सिप इक्विटी में निवेश राशि को जोखिम मुक्त कर देता है, लेकिन ऐसा नहीं है।
  • बाजार की कमजोरी का असर सिप पर भी पड़ता हैं। यहां तक कि कई लोग निवेश करना भी बंद कर देते हैं।
  • यह आवश्यक नहीं कि लगातार 10 साल निवेश करने के बाद भी रिटर्न पाॅजिटिव (positive) ही मिले। यह निगेटिव (negative) भी हो सकता है।

एसआईपी की फुल फाॅर्म क्या है?

एसआईपी की फुल फाॅर्म सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान है।

एसआईपी में निवेश का क्या अर्थ है?

एसआईपी में निवेश से अर्थ इक्विटी/म्युचुअल फंड में एक निर्धारित अवधि तक एक निश्चित रकम का निवेश है।

एसआईपी में निवेश किन निवेशकों के लिए बेहतर है?

एसआईपी में निवेश ऐसे निवेशकों के लिए बेहतर है, जो एकमुश्त रकम निवेश करने की क्षमता नहीं रखते।

एसआईपी कैलकुलेटर क्या होता है?

यह एक आनलाइन टूल है, जो आपको आपके एसआईपी निवेश पर अनुमानित रिटर्न को कैलकुलेट करता है।

एसआईपी कैलकुलेटर का क्या लाभ होता है?

इससे किसी निवेशक को यह निर्णय लेने में सहूलियत होती है कि वह किस एसआईपी में निवेश करे।

एसआईपी में किसी की देखा-देखी निवेश करना कितना सही रहता है?

एसआईपी में किसी की देखा-देखी निवेश करना सही नहीं रहता। आप किसी कंपनी अथवा म्युचुअल फंड की बैक हिस्ट्री, उसकी परफाॅर्मेंस देखकर ही उसमें निवेश करने के बारे में निर्णय लें।

हमने आपको इस पोस्ट में एसआईपी कैलकुलेटर के विषय में महत्वपूर्ण जानकारी दी। यह जानकारी आपको एसआईपी निवेश के लिए आपका रिटर्न जानने में सहायता करेगी। साथ ही, आपको एक बेहतर एसआईपी चुनने में भी सहायता करेगी। वित्तीय जागरूकता के उद्देश्य से आप इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करना न भूलें। धन्यवाद।

———————–

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

शेयर मार्किट से पैसे कैसे कमाए? जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या है? OTT कैसे काम करता है? सरकारी बैंकों से लोन कैसे लें? इनकम टैक्स चोरी की शिकायत कैसे करें?