Shreyas Scheme 2019 क्या है ? फ्री स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग स्कीम | श्रेयस योजना 2019

बेरोजगारी की समस्या से निपटने के लिए सरकार द्वारा एक नई योजना का शुभारंभ किया गया है, जिसका नाम है Shreyas Scheme 2019 | इसके अंतर्गत बेरोजगार युवाओं को फ्री में स्किल डेवलपमेंट की ट्रेनिंग दी जाती है | जिसके माध्यम से बेरोजगार पढ़े लिखे युवाओं को नौकरी के लिए सक्षम करना हो सकता है | मानव संसाधन विकास मंत्रालय (Ministry of Human Resource Development) ने उच्च शिक्षा प्राप्त युवाओं के प्रशिक्षण एवं कोशल विकास के लिए श्रेयस (Scheme for Higher Education Youth in Apprenticeship and Skills- SHREYAS) योजना की शुरुआत की है |

Shreyas Scheme 2019 क्या है ? फ्री स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग स्कीम | श्रेयस योजना 2019

श्रेयस योजना से युवाओं को रोजगार प्राप्त करने और देश की प्रगति में योगदान करने में सहायता मिलेगी | Shreyas Scheme 2019 के अंतर्गत फ्री स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग स्कीम निकली गई है |

मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय शिक्षुता प्रोत्साहन योजना (नेशनल अप्रेंटिसशिप प्रमोशनल स्कीम -NAPS) के माध्यम से आने वाले सत्र के सामान्य स्नातकों को उध्योग शिक्षुता अवसर प्रदान करने के लिए उच्च शिक्षा के युवाओं के लिए प्रशिक्षण और कौशल प्रदान करने के लिए बनाया गया है |

श्रेयस स्कीम 2019 उच्च शिक्षा प्रणाली की सीखने की प्रक्रिया में रोजगार से जुड़ी बातों को जोड़कर छात्रों की रोजगार क्षमता में सुधार करेगा | स्थाई आधार पर शिक्षा और उद्योगों के बीच संबंध बनाना, छात्रों को कौशल प्रदान करने के साथ साथ वजीफा देना, उद्योग और व्यापार के लिए अच्छी गुणवत्ता वाले वर्कर उपलब्ध कराने में भी श्रेयस सहायक होगा |

Shreyas Scheme 2019 क्या है –

वर्तमान समय में कौशल के साथ शिक्षा समय की आवश्यकता है | SHREYAS कार्यक्रम इस दिशा में एक बड़ा प्रयास होगा | देश के डिग्रीधारी छात्रों को अर्थव्यवस्था की जरूरतों के लिये अधिक कुशल, सक्षम, रोज़गारपरक और संगठित किये जाने की आवश्यकता है ताकि वे देश की प्रगति में अधिकतम योगदान कर सकें और लाभकारी रोज़गार भी प्राप्त कर सकें |

Shreyas Scheme 2019 के अंतर्गत युवाओं को छह माह से लेकर एक वर्ष तक की ट्रेनिंग दी जाएगी | ऐसे में नियमित विद्यार्थियों की कक्षाएं बाधित होंगी, इसलिए नियमित विद्यार्थियों को श्रेयस योजना 2019 में शामिल नही होने दिया जाएगा | यह ट्रेनिंग मानव संसाधन एवं विकास मंत्रालय की ओर से तय इंडस्ट्रीज देंगी | युवाओ का चयन भी इन इंडस्ट्रीज की ओर से ही किया जाएगा | जिनका चयन होगा उन युवाओं को इंडस्ट्री हर माह स्टाइपेंड के तौर पर 6 हज़ार रुपये माहवर देगी |

SHREYAS कार्यक्रम तीन केंद्रीय मंत्रालयों की पहल शामिल है – मानव संसाधन विकास मंत्रालय, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय और श्रम एवं रोज़गार मंत्रालय | साथ ही इस कार्यक्रम में सभी राज्यों से सहयोग की भी अपेक्षा की गई है |

इसके लिए वो छात्र आवेदन कर सकते हैं जो या तो अपनी डिग्री पूरी कर चुके हैं या डिग्री पूरी करने वाले हैं और अंतिम वर्ष में हैं |

इस दौरान मानव संसाधन विकास मंत्रालय और कौशल विकास के लिये विज्ञान और उद्यमिता के क्षेत्र में 7 अन्य अपरेंटिसशिप पाठ्यक्रम को

BBA (Bachelor of Business Administration) और BVOC  (Bachelor of Vocation) पाठ्यक्रम के साथ संलग्न किया गया है |

6 क्षेत्रीय कौशल परिषदों –

  • सूचना प्रौद्योगिकी (IT),
  • रिटेल (Retail), लॉजिस्टिक्स
  • (Logistics), टूरिज़्म (Tourism),
  • BFSI (Banking, Financial Services and Insurance),
  • फूड प्रोसेसिंग (Food Processing) ने कौशल विकास के क्षेत्र में बढ़त बना ली है |
  • वर्तमान में चल रहे अधिकतर पाठ्यक्रमों में हेल्थकेयर (Healthcare),
  • इलेक्ट्रॉनिक्स (Electronics) और
  • मीडिया क्षेत्र (Media Sectors) शामिल हैं |

Shreyas Scheme 2019 कार्यक्रम में 3 ट्रैको को साथ-साथ जोड़ा जाएगा |

पहला ट्रैक – ऐड-ऑन अपरेंटिसशिप (Degree apprenticeship) –

इसके तहत वो छात्र जो अपनी डिग्री पूरी करने वाले हैं, उन्हें सरकार द्वारा दी गयी एक लिस्ट में से  उनके पसन्द का एक काम चुनने की छूट दी जाएगी | यह अप्रेंटिसशिप प्रोग्राम करीब 6 महीने तक का होता है और इसमें आवेदक को बेसिक ट्रेनिंग दी जाएगी |

इस अप्रेंटिसशिप के दौरान छात्र को 6,000 रुपये महीने का स्टाइपेंड भी दिया जाएगा |

अप्रेंटिसशिप के अंत में संबन्धित सेक्टर स्किल काउंसिल एक टेस्ट लेगा जिसके आधार पर छात्रों को सर्टिफिकेट मिलेंगे |

दूसरा ट्रैक – एंबेडेड अप्रेंटिसशिप (Embedded Apprentisship) –

इसके तहत वर्तमान के B. Voc Progrrames को BA (Professional)  या B.Sc (Professional) कोर्स में बदल दिया जाएगा | इससे सिर्फ शैक्षणिक कुशलता ही नहीं कौशल का भी विकास होगा और साथ में छात्र को कोर्स के अनुसार 6 से 10 महीने तक की अप्रेंटिसशिप भी करनी होगी | इस दौरान भी छात्र को 6,000 रुपये हर महीने स्टाइपेंड मिलेगा | और अंत में संबंधित सेक्टर स्किल कौंसिल के टेस्ट के बाद इन्हें सर्टिफिकेट दे दिया जायेगा |

कौशल संबंधित कोर्सों को एक साथ एकेडमिक कोर्सों से जोड़ने का काम चल रहा है ताकि कोर्स में  क्लासरूम वाला भाग कम हो | सरकार 2018-19 एकेडमिक वर्ष से ही श्रेयस योजना 2019 को जारी करने की तैयारी में थी |

तीसरा ट्रैक – कॉलेजों के साथ राष्ट्रीय कैरियर सेवा को जोड़ना –

इसके तहत श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के National Career Service पोर्टल को उच्च शिक्षा संस्थानों से जोड़ा जाएगा | सरकारी वेबसाइट के अनुसार अब तक 9,000 कम्पनियों ने 2 लाख से ज्यादा की वैकेंसी दी है | इससे उन छात्रों को फायदा मिलेगा जिनके यहां कैम्पस प्लेसमेंट की सुविधा नहीं है | इसके अतिरिक्त, छात्रों को उन स्किल्स में ट्रेन किया जाएगा जिनकी जरूरत मार्केट में पड़ती है |

SHREYAS कार्यक्रम के निम्नलिखित उद्देश्य हैं-

उच्च शिक्षा प्रणाली सीखने की प्रक्रिया के दौरान छात्रों में रोज़गार प्रासंगिकता की शुरुआत कर उनकी क्षमता में सुधार करना |

  • स्थायी तौर पर शिक्षा और उद्योग/सेवा क्षेत्रों के बीच सकारात्मक कार्य करना |
  • छात्रों को समय की मांग के अनुसार प्रगतिशील तरीके से कौशल प्रदान करना |
  • उच्च शिक्षा के दौरान सीखने के साथ आय अर्जन सुनिश्चित करना |अच्छी गुणवत्ता वाली जनशक्ति सुनिश्चित करके व्यापार/उद्योग क्षेत्र में सहयोग करना |
  • सरकार के प्रयासों को सुविधाजनक बनाने के साथ ही छात्र समुदाय को रोज़गार से जोड़ना |

Shreyas Scheme 2019 में आवेदन कैसे करें –

श्रेयस योजना 2019 के लिए www.shreyas.ac.in पर जाकर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं | हालांकि यह पोर्टल सिर्फ आपके शिक्षण संस्थान के लिए है | उन्हें इस पोर्टल पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा | उसके पश्चात संस्थान की तरफ से छात्रों को श्रेयस योजना 2019 से जोड़ा जाएगा |

अगर आपका कॉलेज श्रेयस योजना 2019 से नहीं जुड़ा है तो आपको अपने संस्थान के प्रमुख से इस संबन्ध में बात करनी चाहिये | श्रेयस योजना 2019 से अवश्य ही छात्रों का बहुत फायदा हो सकेगा | डिग्री पूरी करने के बाद उन्हें नौकरी के लिए भटकना नहीं पड़ेगा |

दोस्तों,  इस लेख के माध्यम से आप को Shreyas Scheme 2019 In Hindi से संबंधित सभी जरूरी जानकारियों को सांझा किया है | जिस से आप भी श्रेयस योजना 2019 का लाभ ले सकें | इस विषय से संबंधित अगर आप कोई अन्य जानकारी या सवाल पूछना चाहते हैं तो अआप हमे नीचे कमेंट बॉक्स में मेसज लिखकर पूछ सकते हैं | हम जल्द से जल्द आप के सभी सवालों के  उचित जवाब देने की कोशिश करेंग | साथ ही अगर आप को यह जानकारी पसंद आती है तो आप इसे अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ भी शेयर कर सकते हैं || धन्यवाद ||

Spread the love

3 thoughts on “Shreyas Scheme 2019 क्या है ? फ्री स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग स्कीम | श्रेयस योजना 2019”

Leave a Comment