सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम 2022 ब्याज दर, योग्यता, लाभ और कैलकुलेशन

|| सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (senior citizen savings scheme, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम 2022, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम in Post Office, सीनियर सिटीजन पेंशन स्कीम, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम कैलकुलेटर, सीनियर सिटीजन टैक्स सेविंग स्कीम, सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम interest rate ||

चाहे बैंक हों अथवा पोस्ट आफिस हमारे देश में सीनियर सिटीजंस के लिए कई प्रकार की स्कीमें चलाई जा रही हैं, जिनमें उन्हें बेहतर रिटर्न मिल रहा है। यह तो आप जानते ही होंगे कि वरिष्ठ नागरिकों को इन्कम टैक्स में भी छूट का प्रावधान किया गया है। यदि बात पोस्ट आफिस की करें तो वह भी सीनियर सिटीजन के लिए एक सेविंग स्कीम लेकर आया है।

इस पोस्ट में हम आपको इसी सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (senior citizen savings scheme) के बारे में जानकारी देंगे। उम्मीद करते हैं कि यह पोस्ट आपको पसंद आएगी-

पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम क्या है? (what is post office senior citizen savings scheme)

पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन स्कीम (post office senior citizen savings scheme) यानी एससीएसएस (SCSS) जैसा कि नाम से ही पता चल जाता है, वरिष्ठ नागरिकों (senior citizens) के लिए पोस्ट आफिस (post office) की ओर से चलाई जा रही है।

यह स्कीम उन लोगों के लिए है, जो अपने निवेश (investment) पर बेहतर रिटर्न (return) पाना चाहते हैं। इस स्कीम में कई छोटी बचत योजनाओं की अपेक्षा अच्छा रिटर्न है। वर्तमान में इस योजना के अंतर्गत 7.4 प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज मिल रहा है।

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम 2022 ब्याज दर, योग्यता, लाभ और कैलकुलेशन

इस योजना में निवेश कौन कर सकता है? (who can invest in this scheme)

अब हम आपको वह पात्रता (eligibility) बताते हैं, जिसके आधार पर कोई व्यक्ति इस योजना के अंतर्गत खाता (account) खोलकर निवेश कर सकता है-

  • 1. निवेश करने वाले व्यक्ति की उम्र न्यूनतम 60 वर्ष हो।
  • 2. 55 वर्ष से अधिक एवं 60 वर्ष से कम उम्र का कोई भी सरकारी कर्मचारी, जिसने रिटायरमेंट
  • (retirement) अर्थात वीआरएस का लाभ लिया हो, वीआरएस (vrs) लेने के एक माह के भीतर इस योजना में निवेश कर सकता है।
  • 3. 50 वर्ष से अधिक, किंतु 60 वर्ष से कम उम्र का कोई भी सेवानिवृत्त रक्षा कर्मचारी (defence personnel), वह सेवानिवृत्ति के एक माह के भीतर निवेश कर सकता है।
  • 4. यह खाता कोई व्यक्तिगत (individual) तौर पर अथवा अपने जीवनसाथी संग संयुक्त (joint) रूप से खुलवा सकता है।
  • 5. खाते में डिपाजिट (deposit) की गई समस्त राशि प्राथमिक एकाउंट होल्डर (primary account holder) को ही देय होगी।

पोस्ट आफिस सेविंग स्कीम में न्यूनतम कितना निवेश आवश्यक है (what is the minimum investment required for post office SCSS)

पोस्ट आफिस की वरिष्ठ नागरिकों के लिए चलाई जा रही इस बचत योजना के अंतर्गत न्यूनतम (minimum) 1,000 रूपये से भी खाता खुलवाया जा सकता है। साथ ही विशेष बात यह है कि इस खाते में अधिकतम (maximum) 15 लाख रूपये तक का निवेश किया जा सकता है।

लोग अपनी राशि इस खाते में निवेश करना इसलिए भी पसंद करते हैं, क्योंकि इस निवेश पर उन्हें आयकर अधिनियम (income tax)-1961 की धारा 80सी के अंतर्गत छूट (rebate) का प्रावधान किया गया है।

योजना कितने वर्ष में मैच्योर हो जाएगी (in how many years scheme will be mature)

पोस्ट आफिस की इस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम का मैच्योरिटी पीरियड (maturity period) पांच वर्ष है। इसका अर्थ यह है कि इसमें केवल पांच साल तक के लिए ही निवेश किया जा सकता है।

यदि कोई व्यक्ति चाहे तो इसे पांच वर्ष पश्चात पुनः तीन साल तक के लिए बढ़ा सकता है, लेकिन इसके लिए निवेश की अवधि बढ़ाने के इच्छुक वरिष्ठ नागरिक को स्कीम मैच्योर होने के साल भर के भीतर पुनः पोस्ट आफिस जाकर इसके लिए आवेदन करना होगा। अवधि बढ़ाए जाने पर खाते पर वही ब्याज देय होगा, जो योजना की मैच्योरिटी अवधि पर लागू था।

क्या योजना की मैच्योरिटी से पूर्व खाता बंद कराया जा सकता है? (can account be closed before maturity under this scheme)

यदि खाताधारक वरिष्ठ नागरिक चाहे तो वह मैच्योरिटी से पूर्व भी इस योजना के अंतर्गत खोला गया अपना खाता बंद कर सकते हैं। यदि वह खाता खोले जाने के एक वर्ष से पूर्व अपना खाता बंद कराता है तो उस पर कोई चार्ज नहीं पड़ेगा, लेकिन यदि वह एक वर्ष के बाद इसे बंद करता है तो इसके लिए उस पर चार्ज लगेगा।

आपको जानकारी दे दें कि यदि कोई वरिष्ठ नागरिक खाता खुलने के एक साल बाद इसे बंद कराता है तो उसे खाते में जमा राशि का 1.5 फीसदी बतौर एकाउंट क्लोजर चार्ज कटवाना पड़ेगा। यदि वह दो साल बाद इस एकाउंट को बंद कराता है तो उसे 1 प्रतिशत जमा राशि बतौर क्लोजिंग चार्ज चुकानी होगी।

जमा राशि पर कितना ब्याज टैक्स फ्री रहेगा (how much interest is tax free under this scheme)

यूं तो इस पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम (post office senior citizen savings scheme) के अंतर्गत जमा राशि पर मिलने वाले ब्याज को टैक्स मुक्त किया गया है, लेकिन यदि योजना के अंतर्गत ब्याज एक वित्तीय वर्ष में 50 हजार रूपये से अधिक हो तो यह टैक्सेबल (taxable) होगा।

इस राशि पर टीडीएस (TDS) काटा जाएगा। लेकिन यदि ब्याज निर्धारित सीमा से अधिक नहीं है एवं आपने 15 जी/15एच फाॅर्म भरा है तो टीडीएस नहीं काटा जाएगा।

यदि खाताधारक की मृत्यु हो जाती है तो ऐसी स्थिति में क्या होगा (in case of account holder death what will happen)

पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम को पांच वर्ष के बाद पासबुक (passbook) के साथ पोस्ट आफिस (post office) जाकर एक निर्धारित फाॅर्म भरकर बंद किया जा सकता है। लेकिन यदि किसी खाताधारक की मृत्यु हो जाती है तो उसकी मृत्यु की तिथि से इस खाते पर पोस्ट आफिस सेविंग्स एकाउंट (post office savings account) के अनुसार ब्याज देय होगा।

यदि जीवनसाथी (spouse) संयुक्त खाताधारक (joint account holder) अथवा एकल नाॅमिनी (single nominee) है तो खाता मैच्योरिटी तक चलाया जा सकता है। इसकी शर्त यह है कि जीवनसाथी एकाउंट स्कीम के तहत एकाउंट ओपन करने की शर्त पूरी करता हो एवं उसका कोई अन्य सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के तहत एकाउंट न हो।

एक नजर में इस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के मुख्य बिंदु (main features of this senior citizen savings scheme)

एक नजर में इस पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम अर्थात एससीएसएस (SCSS) के मुख्य बिंदुओं पर प्रकाश डाल लेते हैं-

  • इस योजना में पांच वर्ष तक के लिए निवेश किया जा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत वार्षिक ब्याज दर 7.4 प्रतिशत है।
  • योजना को मैच्योरिटी पर तीन साल के लिए और बढ़ाया जा सकता है।
  • 60 वर्ष से अधिक का कोई भी व्यक्ति इस योजना में खाता खुलवा सकता है।
  • जिन नागरिकों ने वीआरएस लिया है वे भी इस योजना के अंतर्गत खाता खुलवा सकते हैं।
  • इस स्कीम के अंतर्गत न्यूनतम 1,000 रूपये से एकाउंट खुलवाया जा सकता है।
  • इस योजना में अधिकतम 15 लाख रूपये तक का निवेश किया जा सकता है।
  • इस योजना के अंतर्गत इन्कम टैक्स-1961 की धारा 80सी के अंतर्गत टैक्स छूट का प्रावधान किया गया है।
  • एकाउंट खोलने के एक साल के भीतर एकाउंट बंद कर देते हैं तो आपकी जमा राशि का 1.5 प्रतिशत काट लिया जाएगा।
  • यदि आप दो साल के बाद इसे बंद करते हैं तो आपके खाते में जमा राशि की 1 प्रतिशत राशि कट जाएगी।

निवेश पर बेहतर रिटर्न होने की वजह से वरिष्ठ नागरिकों को योजना भा रही

कोई भी व्यक्ति अपने पैसे को ऐसी योजना में निवेश करना चाहता है, जिसमें उसे सबसे अच्छा रिटर्न मिले। वरिष्ठ नागरिक खास तौर से अपने जीवन के उत्तरार्ध को इस पैसे के साथ एक बेहतर आयाम देना चाहते हैं।

इन दिनों ब्याज दर बेहतर होने की वजह से इस पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के प्रति वरिष्ठ नागरिकों में आकर्षण देखने को मिल रहा है। वे इस बचत योजना के माध्यम से अपने निवेश पर अच्छा रिटर्न प्राप्त करने के तलबगार हैं।

पोस्ट आफिस जो बचत योजनाएं चला रहा है, उनमें इस योजना की परफाॅर्मेंस बेहद बेहतर है। वरिष्ठ नागरिकों को बैंक एफडी (bank FD) से भी बेहतर ब्याज इस योजना से मिलता है। ऐसे में वे अपनी मेहनत की गाढ़ी कमाई का निवेश बतौर बैंक में एफडी के तौर पर लाॅक करने के स्थान पर उसे पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में करना बेहतर समझ रहे हैं।

यह तो आप जानते ही हैं कि भारत में वरिष्ठ नागरिकों की एक बड़ी आबादी है। उन्हें एक वक्त के बाद जीवन में कई प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। आर्थिक स्तर पर उन्हें किसी किस्म की परेशानी न उठानी पड़े, इसी को नजर में रखकर पोस्ट आफिस ने इस योजना की शुरूआत की थी।

इस योजना की खास बात यह है कि इस योजना में निवेश करने के लिए बुजुर्गों को किसी किस्म की भाग-दौड़ की आवश्यकता नहीं पड़ती। इस योजना में एकाउंट ओपन (account opening) करने की प्रक्रिया अपेक्षाकृत आसान है।

इस योजना के दायरे में आने वाला कोई भी वरिष्ठ नागरिक, (जो पात्रता हमने आपको पोस्ट में ऊपर बताई है उसके अनुसार) इस योजना को पोस्ट आफिस में जाकर आसानी से खुलवा सकता है।

पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में कितने साल के लिए खाता खोला जा सकता है?

इस योजना के अंतर्गत पांच साल तक के लिए खाता खोला जा सकता है।

क्या योजना की मैच्योरिटी अवधि पूरी होने के बाद भी इसे बढ़ाया जा सकता है?

जी हां, मैच्योरिटी के पश्चात भी इस योजना को तीन साल के लिए बढ़ाया जा सकता है

इस योजना में खाता कौन खुलवा सकता है?

इस योजना के अंतर्गत न्यूनतम 60 वर्ष का कोई भी व्यक्ति खाता खुलवा सकता है।

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के तहत खाता कितने रूपये से खुलवाया जा सकता है?

इस योजना के तहत खाता न्यूनतम 1,000 रूपये से खुलवाया जा सकता है।

पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम के अंतर्गत अधिकतम कितनी राशि का निवेश किया जा सकता है?

इस योजना के अंतर्गत अधिकतम 15 लाख रूपये तक का निवेश किया जा सकता है।

क्या मैच्योरिटी अवधि से पूर्व भी इस खाते को बंद किया जा सकता है?

जी हां, मैच्योरिटी से पूर्व भी इस खाते को बंद किया जा सकता है।

वर्तमान में पोस्ट आफिस सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम पर कितना ब्याज मिल रहा है?

वर्तमान में इस योजना के अंतर्गत खाताधारक को 7.4 प्रतिशत वार्षिक की दर से ब्याज मिल रहा है।

क्या इस स्कीम में निवेश पर टैक्स छूट का प्रावधान है?

जी हां, इस योजना के अंतर्गत निवेश को आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80सी के तहत कर मुक्त किया गया है।

मैच्योरिटी से पूर्व एकाउंट बंद कराने पर क्या कोई चार्ज भी देना होगा?

जी हां, इसके लिए अलग अलग राशि निर्धारित की गई है। इस संबंध में पूरी जानकारी हमने आपको ऊपर पोस्ट में दे दी है। वहां से पढ़ा जा सकता है।

आज हमने आपको इस पोस्ट में सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम की जानकारी दी। इस पोस्ट को आप अधिक से अधिक शेयर करें, ताकि 60 वर्ष की उम्र के करीब के अधिक से अधिक व्यक्ति इस योजना से लाभ उठा सकें। आपको यह पोस्ट कैसी लगी? बताना मत भूलिएगा। धन्यवाद।

————————————–

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

शेयर मार्किट से पैसे कैसे कमाए? जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? ओटीटी प्लेटफॉर्म क्या है? OTT कैसे काम करता है? सरकारी बैंकों से लोन कैसे लें? इनकम टैक्स चोरी की शिकायत कैसे करें?