RIP Full Form क्या है? RIP शब्द का इस्तेमाल कब किया जाता है? RIP के अन्य अर्थ

RIP Full Form for death in Hindi – आपने देखा होगा कि यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके सगे-संबंधियों, रिश्तेदारों के मोबाइल फोन का text inbox, whatsapp फोल्डर, facebook messanger RIP के संदेशों से भर जाता है। जबकि सच यह है कि अधिकांश लोगों का इस शब्द का अर्थ तक नहीं मालूम। हाल ही में फिल्म सितारों इरफान और ऋषि कपूर का देहांत हुआ तो सोशल मीडिया पर उनकी तस्वीरों पर RIP लिखकर लोगों ने धडाधड़ post share किए।

दोस्तों, कहीं आप भी उन्हीं लोगों में तो नहीं जो RIP Full Form और इसका मतलब नहीं जानते। यदि आपका जवाब हां में है तो भी चिंता न कीजिए। आज इस post के माध्यम से हम आपको RIP का अर्थ, यह शब्द कहां से लिया गया, इसका इस्तेमाल कहां किया जाता है, जैसे बिंदुओं पर सारी जानकारी देंगे। आइए शुरू करते हैं-

RIP की फुल फॉर्म क्या है? What is the RIP Full Form In Hindi?

RIP Full Form होता है Rest In Peace (शान्ति से आराम करो)। जैसा कि हम जानते हैं कि Rest का अर्थ होता है आराम और Peace का शांति। ऐसे में इस वाक्य का शाब्दिक अर्थ है शांति से आराम। यह मृत व्यक्तियों की आत्मा की शांति के लिए बोला जाता है। आत्मा शांति के साथ आराम करे।

RIP Full Form क्या है? RIP शब्द का इस्तेमाल कब किया जाता है? RIP अन्य अर्थ

RIP Full Form in Hindi –

R – Rest

I – In

P – Peace

RIP शब्द कहां से लिया गया है?

मित्रों, कई लोगों को यह गलतफहमी होती है कि RIP एक अंग्रेजी का शब्द है, लेकिन ऐसा है नहीं। हम आपको इस बारे में सही-सही जानकारी देंगे। दोस्तों, दरअसल RIP एक latin शब्द है। इसे Requiescat in Pace से लिया गया है। अब आपको बताते हैं कि इस शब्द का इस्तेमाल कहां होता है। दोस्तों, यह शब्द मृत व्यक्ति के लिए इस्तेमाल होता है। जैसा कि आप जानते हैं कि मुस्लिम और ईसाई धर्म में मृत्यु के पश्चात व्यक्ति को दफनाए जाने की परंपरा है। आपको बता दें कि ईसाई धर्म में मनुष्य के मरने के बाद जब उसे दफना दिया जाता है।

अमूमन जिस ताबूत में शव को रखा जाता है उसके ऊपर और कई स्थानों पर कब्र के ऊपर Rest In Peace लिखा होता है। ऐसा मृत व्यक्ति के प्रति सहानुभूति और आदर प्रकट करने के लिए भी प्रयोग में लाया जाता है। मुस्लिम और ईसाई धर्म की मान्यताओं के अनुसार यह भी बताया गया है कि जब कभी ‘जजमेंट डे’ या ‘कयामत का दिन’ आएगा, उस दिन कब्र में पड़े ये सभी शव दोबारा जीवित हो जाएंगे।

तब तक उस दिन के इंतजार में ‘शांति से आराम करो’। इन धर्मों में यह माना जाता है कि इंसान को कब्र में तब तक शांति से रहने की जरूरत पड़ती है, जबकि तक कि ईश्वर उनके कर्मों का फैसला न कर दें। इन धर्मों के अनुयायी आज भी इन मान्यताओं पर विश्वास रखते हैं।

RIP शब्द का अर्थ जाने बिना लोग इस्तेमाल करते हैं

दोस्तों, यह शार्ट कट का जमाना है। तेजी से भागती इस दुनिया में ऐसे ढेरों लोग हैं, जो हर चीज के लिए शॉर्ट कट का इस्तेमाल करते हैं। मसलन good morning के लिए GM का प्रयोग करते हैं तो वहीं, good night के लिए GN लिखकर भेजते हैं। यदि इन्हें किसी को oh my god कहना होता है तो उसके लिए OMG का इस्तेमाल करते हैं।

ऐसे ही लोग इस RIP शब्द का इस्तेमाल इसका इस्तेमाल धड़ल्ले से करते हैं। और अब तो यह शब्द इतना common हो गया है कि ज्यादातर लोग कोई भी मरता है तो उसके आगे RIP लिखने की होड़ में लग जाते हैं। और आपको यह जानकार आश्चर्य होगा कि इनमें से अधिकांश लोगों को इस शब्द का अर्थ ही पता नहीं होता।

RIP शब्द को कई लोग विदेशी नकल मानते हैं।

मित्रों कई लोग इस शब्द के इस्तेमाल को उचित नहीं मानते। वह इसे विदेशी नकल की संज्ञा देते हैं। इसे कान्वेंटी दुष्प्रचार बताते हैं। उनका मानना है कि हिंदू धर्म में मृत व्यक्ति को जलाए जाने की परंपरा रही है। हिंदी धर्म की मान्यता के अनुसार शरीर नश्वर है, आत्मा अमर है। मनुष्य की मृत्यु होते ही उसकी आत्मा निकलकर किसी दूसरे नए जीव में, काया में, शरीर में, नवजात में प्रवेश कर जाती है। उस आत्मा को गति प्रदान करने के लिए श्रादकर्म की परंपरा है।

इसके साथ ही शांतिपाठ आयोजित किए जाते हैं। श्रदांजलि प्रदान की जाती है। ऐसे में उनके लिए RIP लिखा जाना उचित नहीं है। यह उनके लिए उचित है, जिनको कब्र में दफनाया गया है कि उनकी आत्मा कब्र में शांति से आराम करे। हिंदू धर्म के व्यक्तियों की मृत्यु पर यही लिखना उचित है कि ईश्वर मृत व्यक्ति की आत्मा को शांति प्रदान करें।

RIP शब्द के अन्य अर्थ – Other meanings of RIP word 

दोस्तों, यदि अंग्रेजी भाषा की डिक्शनरी पर ध्यान दें तो RIP का इस्तेमाल एक verb के रूप में होता है। इसका अर्थ किसी वस्तु को चीर देना। या तेजी से और जोर लगाकर किसी वस्तु को हटाया (प्राय: खींचकर)। जिनकी अंग्रेजी अच्छी है दोस्तों, वह इस शब्द के इस अर्थ से निश्चित रूप से परिचित होंगे, लेकिन जिनकी इस भाषा से नजदीकी नहीं, वह निश्चित रूप से इसका अर्थ नहीं जानते होंगे। और साथियों, जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि अधिकांश लोगों को इस शब्द का अर्थ नहीं पता है, ऐसे में डिक्शनरी में दिए गए इस शब्द का भी उन्हें ज्ञान नहीं है। बगैर जाने इस शब्द के गाहे-बगाहे प्रयोग से कई लोग कई बार अर्थ का अनर्थ भी कर देते हैं।

RIP Full Form – Return if possible लिखने वाले भी कम नहीं

मित्रों, RIP लिखने वाले ढेरों लोग ऐसे हैं, जो इसे Return If Possible के शार्टकट के रूप में भी लिखते हैं। वह अपने प्रिय व्यक्ति को, जो कि दूर चला गया है, RIP लिखकर संदेश भेज वापस बुलाने के लिए गुहार लगाते हैं। कई बार उनका प्रिय उनके इस संदेश को समझ जाता है, लेकिन कई बार RIP Full Form यानी इसके अर्थ को लेकर गड़बड़ भी देखने को मिलती है।

लेकिन, दोस्तों इस तरह की यह गड़बड़ केवल वही लोग करते हैं, जो वास्तव में RIP के वास्तविक अर्थ को नहीं जानते। बगैर जाने संदेश देते या आए हुए संदेश को forward करने का ही कार्य करते हैं। आश्चर्य इस बात की है कि अधिकांश अच्छी अंग्रेजी जानने वाले व्यक्ति भी इस तरह की गड़बड़ियों को दोहराते हैं। उनकी यह गलती जारी रहती है, जब तक कि उन्हें कोई correct नहीं कर देता या फिर वह स्वयं अपने बारे में नहीं जानते।

प्रतियोगी परीक्षाओं में भी पूछा जाता है RIP Full Form एंव अर्थ

यदि आप एक छात्र हैं और अक्सर प्रतियोगी परीक्षाओं में बैठते हैं तो आप जानते ही होंगे कि RIP शब्द परीक्षाओं में भी बहुत पूछा जाता है। जो लोग english speaking और grammer की class करते हैं, उनके लिए भी यह ऐसा शब्द है, जो बहुत महत्वपूर्ण है। उनके कोच अक्सर उनसे इस शब्द का पूरा अर्थ और उसका वाक्य में प्रयोग अवश्य कराते हैं।

स्कूल, कालेज की पढ़ाई के दौरान भी कई बार students की knowledge परखने के लिए teacher उनसे अंग्रेजी के अन्य शब्दों के अर्थ और full form तो पूछते ही हैं। वह उनसे RIP शब्द की जानकारी के साथ ही इस शब्द का अर्थ भी जानने की अपेक्षा करते हैं। यह भी जानने की कोशिश करते हैं कि इस शब्द का वास्तविक उपयोग कब और कहां किया जाता है। हालांकि, यह अलग बात है कि ज्यादातर students उनकी इस परीक्षा में सफल नहीं हो पाते।

RIP के इस्तेमाल पर कई बार हो चुकी है भेड़चाल

और दोस्तों जैसा कि आपने खुद देखा होगा कि इन दिनों सोशल मीडिया पर किसी भी शब्द को लेकर भेड़चाल चलती है। ऐसे में RIP शब्द को लेकर भी भेड़चाल चलती है। कई बार तो जल्दबाजी में बगैर किसी की मृत्यु को confirm किए लोग RIP लिखकर posts डालते हैं। इससे कुछ जगहंसाई का कारण बनते हैं तो कुछ को लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ती है। ऐसा कई बार हो चुका है, कि जब किसी फिल्मी सितारे की मरने की खबर आई और वायरल post पर लोगों ने RIP लिख-लिखकर अपनी संवेदनाएं तक जता दीं। सितारों के परिवारों की ओर से उनका हेल्थ बुलेटिन जारी किया गया। इसे बाद ही इस तरह की खबरों का खंडन किया गया।

बालीवुड के सुपर स्टार माने जाने वाले और ट्रेजिडी किंग के नाम से मशहूर दिलीप कुमार को लेकर ऐसी पोस्ट आ चुकी हैं। बाद में संबंधित वेबसाइट या news medium को विशेष रूप से खंडन करना पड़ा या सितारे के स्वस्थ होने की कामना करती post update पड़ी। breaking की जल्दबाजी में अधिकांश वेबसाइट या news medium इस तरह की गलती कर देते हैं। वह confirm करने से पूर्व ही hits बटोरेन के लिए इस तरह की न्यूज को flash कर देते हैं, जो आगे चलकर उनके लिए मुसीबत भरी साबित होती है।

शार्टकट की वजह से अधिक प्रयोग होता है – Shortcut causes more use

साथियों, जहां पहले किसी व्यक्ति की मृत्यु पर श्रदांजलि दिए जाने का चलन था। वहीं, अब हिंदी शब्दों का इस्तेमाल लगभग गायब ही हो गया है, या यूं कह सकते हैं कि इनका प्रयोग बेहद सीमित होकर रह गया है। जिस तरह अन्य शब्दों के लिए शार्टकट ढूंढकर इस्तेमाल किए जाने लगे हैं, उसी तरह अब शार्टकट की वजह से लोग किसी की मृत्यु पर RIP शब्द का अधिक इस्तेमाल करते हैं। इसे समय बचाने की प्रक्रिया भी कहा जा सकता है। इसे चलन भी कहा जा सकता है। यह भी कह सकते हैं कि हिंदी शब्दों के प्रयोग के स्थान पर RIP शब्द का इस्तेमाल कहीं अधिक सुविधाजनक है।

एक और वजह भी है कि यह शब्द युवा अधिक इस्तेमाल करते हैं। इंटरनेट युग की यह पीढ़ी हर वक्त मोबाइल फोन में लगी रहती है। अपने समय को वह लंबे लंबे वाक्यों का प्रयोग कर kill करना उचित नहीं समझती। जबकि आपको बता दें कि बड़ी उम्र के लोग अभी भी मृतक के लिए कहीं अधिक संवेदनापूर्ण शब्दों के इस्तेमाल को उचित समझते हैं। और ऐसे लोगों की संख्या भी कतई कम नहीं है।

दोस्तों, आपने इस पोस्ट के माध्यम से हासिल की RIP से जुड़ी पूरी जानकारी प्राप्त की है। उम्मीद है कि यह पोस्ट आपको जरूर पसंद आई होगी। यदि आप इस विषय या इससे जुड़े किसी बिंदु पर कुछ और जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए टिप्पणी बॉक्स में टिप्पणी करके अपनी बात हम तक पहुंच गई हैं। यदि आप हमें कोई सुझाव देना चाहते हैं तो भी नीचे दिए गए टिप्पणी बॉक्स में टिप्पणी कर सकते हैं। हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि हम आपके द्वारा दिए गए सुझाव को अमल में ला सकें। आपकी अमूल्य राशि का हमें शिद्दत से इंतजार है। ..धन्यवाद ..

Spread the love

Leave a Comment