रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? आवेदन प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेज, 60 हजार रोजगार के अवसर

पेट्रोल पंप खोलने का खर्च 2020, रिलायंस पेट्रोल पंप हेड ऑफिस कांटेक्ट नंबर, रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? रिलायंस पेट्रोल पंप डीलरशिप एप्लीकेशन फॉर्म, रिलायंस पेट्रोल पंप की दूरी, भारत पेट्रोलियम डीलरशिप विज्ञापन 2020, पेट्रोल पंप के लिए लोन, पेट्रोल पंप कर्मचारी का वेतन, पेट्रोल पंप न्यूज़.

देश में बेरोजगारी वर्तमान में केंद्र में काबिज नरेंद्र मोदी सरकार के आने के बाद लगातार बढ़ी है। खास तौर पर तो कोरोना संक्रमण को देखते हुए लागू लाकडाउन ने न केवल लोगों की नौकरियां खाई हैं, बल्कि लोगों के रोजगार को भी चौपट कर दिया है। सरकार युवाओं को रोजगार के मकसद से मेक इन इंडिया, स्टार्ट अप योजना जैसी योजनाओं को लेकर आई है, लेकिन रोजगार के हालात में कोई सुधार नहीं आया।

अब इंटरनेशनल ब्रिटिश पेट्रोलियम यानी बीपी और रिलायंस इंडस्ट्रीज ने जियो-बीपी ब्रांड नाम से ईंधन की खुदरा बिक्री करने की घोषणा की है। दोस्तों, आपको बता दें कि इसके लिए रिलायंस बीपी-मोबिलिटी लिमिटेड (आरबीएमएल) नाम से एक संयुक्त उद्यम गठित किया गया है। माना जा रहा है कि इनकी जुगलबंदी देश में रोजगार के बड़े अवसर पैदा करेगी। आज हम इस post में आपको रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? के बारे में पूरी जानकारी देंगे। आइए शुरू करते हैं-

रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? रिलायंस खोलेगी 3500 नए पेट्रोल पंप

दोस्तों, आपको बता दें कि मुकेश अंबानी के होल्ड वाली कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज और बहुराष्ट्रीय पेट्रोलियम कंपनी ब्रिटिश पेट्रोलियम (बीपी) के बीच हुए समझौते की बात अब जगजाहिर है। बीपी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के 1,400 पेट्रोल पंपों तथा विमानन ईंधन (एटीएफ) स्टेशनों की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी पिछले साल एक अरब डॉलर में खरीद ली थी। अब यह कंपनियां जियो-बीपी (Jio-BP) ब्रांड नाम से ईंधन की रिटेल बिक्री के क्षेत्र में उतरने वाली है।

रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? आवेदन प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेज, फ्रेंचाइजी

बताया जा रहा है कि मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज अब जियो पेट्रोल पंप खोलने की तैयारी में है। अगले कुछ सालों में देशभर में जियो-बीपी नाम से 3500 नए पेट्रोल पंप खोले जाने की तैयारी है। इससे बेरोजगार युवाओं को भी पेट्रोल पंप का मालिक बनने का अवसर प्राप्त होगा। कुल मिलाकर ईंधन क्षेत्र में क्रांति आने वाली है।

पांच साल में रोजगार के 60 हजार अवसर पैदा होंगे –

माना जा रहा है कि जियो-बीपी की इस पहल से देश में अगले पांच साल में रोजगार के 60 हजार अवसर यानी मौके पैदा होंगे। दरअसल, कंपनी का लक्ष्य अगले पांच साल में देशभर में 3500 पेट्रोल पंप खोलने का है। जैसा कि हम आपको बता चुके हैं कि बेरोजगार भी फ्रेंचाइजी लेकर जियो-बीपी पेट्रोल पंप का मालिक बनने की इच्छा संजो सकते हैं। यदि आप भी ऐसा चाहते हैं तो आपके पास भी कमाई का बहुत अच्छा मौका है।

पेट्रोल पंप के अलावा आप लुब्रिकेंट्स, ट्रांस कनेक्‍ट फ्रेंचाइजी, ए1 प्‍लाजा फ्रेंचाइजी, एविएशन फ्यूल से लेकर अन्‍य कई तरीकों से जियो-बीपी कंपनी के साथ काम कर सकते है। असल बात रोजगार की है। यानी आपके मन को जो भी काम भाए, आप चुन सकते हैं, अभी यह स्थिति नहीं आ सकी है। अभी आपको रोजी रोटी चलाने के नाम पर अपना रोजगार चुनना पड़ रहा है।

रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? जियो-बीपी पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदन कैसे करें?

यदि आप भी जियो-बीपी पेट्रोल पंप खोलने के इच्छुक हैं तो उसके लिए आपको एक निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुए आवेदन करना होगा। साथ ही आप कंपनी की योजना और अन्य रोजगार के अवसरों के संबंध में पूरी जानकारी नीचे बताई जा रही प्रक्रिया से ही हासिल कर सकतें हैं। दोस्तों, आपको बता दें कि अगर आप फ्रेंचाइजी के लिए इच्छुक हैं तो बड़ी आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

आइए, आपको बताते हैं कि यह तरीका क्या है। आप किस तरीके से कंपनी के साथ काम कर सकते हैं।

  • इस बारे में सारी जानकारी हासिल करने के लिए आप कंपनी की आधिकारिक वेबसाइट https://www.reliancepetroleum.com/businessEnquiry पर login कर सकते हैं।
  • ओफ्फ्सिअल वेबसाइट पर पहुचने के पश्चात् आपको नीचे दिखाई दे रही इमेज की तरह फॉर्म दिखाई देगा। आपको इस फॉर्म को भरना होगा।

रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? जियो-बीपी पेट्रोल पंप खोलने के लिए आवेदन कैसे करें?

  • इस फॉर्म में आपको कंपनी को अपनी कुछ मामूली सी जानकारी देनी होगी। जो कि इस प्रकार से है-
  1. पार्टनर टाइप
  2. आवेदक का नाम
  3. आवेदक का मोबाइल नंबर
  4. ईमेल id
  5. आवेदक का पता
  6. आवेदक अभी क्या काम करते हैं/नहीं करते
  7. फ्रेंचाइजी किस शहर के लिए चाहिए

दोस्तों, आपको यह भी बता दें कि इसके अलावा देश में पेट्रोल पंप खोलने के जो नियम हैं, वही यहां भी लागू होंगे। आपको इन नियमों का भी पूरी तरह से पालन करना होगा। इन नियमों की जानकारी आपको कंपनी वाले भी दे देंगे।

रिलायंस पेट्रोल पंप लाइसेंस के नियम – Reliance petrol pump license rules 2020

अब आपको यह बताते हैं कि यदि आप पेट्रोल पंप खोलने का लाइसेंस लेना चाहते हैं तो उसके लिए क्या शर्त है। सामान्य तौर पर यह शर्त सभी तरह के पेट्रोल पंप के लाइसेंस के लिए समान रूप से लागू होती हैं। दोस्तों, यह शर्तें इस प्रकार से है-

  • सबसे पहली शर्त तो यह है कि आवेदक भारत का नागरिक हो।
  • दूसरी बाध्यता यह है कि पेट्रोल पंप का लाइसेंस लेने वाले व्यक्ति की उम्र 21 साल से लेकर 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए। न तो इससे कम और न ही इससे अधिक उम्र वाले को लाइसेंस प्रदान करने का प्रावधान है।
  • दोस्तों इसके अलावा उसके पास दसवीं पास का प्रमाणपत्र भी होना चाहिए। यह उसकी शिक्षा के साथ ही जन्मतिथि प्रमाण पत्र के तौर पर भी काम करेगा।

रिलायंस पेट्रोल पंप लाइसेंस जारी करने की प्रक्रिया – Procedure for issuing Reliance Petrol Pump License

रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? पेट्रोल पंप लाइसेंस जारी करने के लिए कुछ प्रक्रिया को फॉलो करता है। जिसे पूरा करने के बाद ही आपको लाइसेंस जारी किया जायेगा –

दस्तावेजों का सत्यापन करेगी कंपनी –

आपके लिए यह जानना भी बेहद जरूरी है कि जियो-बीपी पेट्रोल पंप के लिए आवेदन करने पर कंपनी आपके दस्तावेजों का सत्यापन करेगी। इस दौरान कंपनी आपकी ओर से बताई गई जमीन का निरीक्षण भी करेगी। इसके लिए कंपनी के नुमाइंदे आपकी बताई गई जमीन पर पहुंचेंगे। साथियों, इस निरीक्षण के बाद आप की जमीन यदि कंपनी को सही पाई जाती है तो वह इसके लिए हरी झंडी दे देती है। यह इस बात का संकेत है कि अब आप पेट्रोल कंपनी की डीलरशिप के योग्य हैं।

सत्यापन के एक माह के अंदर बन सकते हैं डीलर

अब आपके दिमाग में सवाल आ रहा होगा कि निरीक्षण के बाद क्या औपचारिकता शेष रहती है, तो आपको बता दें मित्रों कि जमीन के निरीक्षण के बाद इसके सही पाए जाने पर कंपनी एक महीने के भीतर के पेट्रोल पंप डीलरशिप का ऑफर दे देगी। यानी आप पेट्रोल पंप डीलर बन जाएंगे। जाहिर है कि यह रोजगार का बेहतरीन जरिया साबित होगा। योजना के तहत उम्र का दायरा भी विस्तृत है, ऐसे में यह निश्चित है कि एक बड़ी संख्या को कारपोरेट कंपनियों की इस योजना का लाभ अवश्य मिलेगा।

देश में लगातार बढ़ रही बेरोजगारों की संख्या

आप जानते ही हैं कि देश में बेरोजगारों की संख्या लगातार बढ़ रही है। कुछ समय पूर्व स्वयं सांख्यिकी विभाग की सर्वे रिपोर्ट इस बात पर मुहर लगा चुकी है। उसमें सीजनल बेकारी का जिक्र तो है ही, यह भी बताया गया है कि कर्मचारियों को उनकी शिक्षा के मुताबिक काम भी नहीं मिल रहा। बेरोजगारी दर में साल दर साल इजाफा ही हुआ है। विपक्ष इस मुद्दे पर कुछ समय हमलावर रहा, लेकिन वह इसे बड़ा मसला बनाने से चूक गया। भारत की विडंबना यह भी है कि हमारे देश में चुनाव के दौरान बेरोजगारी जैसे मुद्दे पीछे छूट जाते हैं। धार्मिक मसले हावी हो जाते हैं।

रिलायंस पहले भी खोल चुका पेट्रोल पंप –

साथियों, आपको बता दें कि इससे पहले रिलायंस कंपनी ने अपने पेट्रोल पंप कई जगह खोले थे। हालांकि कई जगह ये पेट्रोल पंप बंद भी हो चुके हैं। शुरुआत में रिलायंस ने अन्य कंपनियों से सस्ता पेट्रोल देकर मैदान में अपनी जगह बनाई थी। लेकिन धीरे-धीरे कई जगहों के पेट्रोल पंप अच्छे रिस्पांस के अभाव में बंद हो गए। रिलायंस ने अपने पेट्रोल पंप पर फूड आउटलेट्स भी शुरू किए थे। और साफ-सफाई की सुविधा भी वहां अन्य जगहों से ज्यादा अच्छी थी।

अभी भी देश के ढेरों शहरों में उनका यह प्रोजेक्ट चल रहा है। हरे और नीले रंग की प्रमुखता के चलते इन पंपों को दूर से ही पहचाना जा सकता था। बगैर किसी मिलावट का पेट्रोल हालांकि आज भी देश के ज्यादातर वाहन चालकों का सपना ही है। यहां तक कि काफी समय तक पेट्रोल की घटतौली भी एक समस्या बनी रही। अब कुछ समय से इस पर रोक है, लेकिन अब हर रोज पेट्रोल की घटती-बढ़ती कीमतों ने ग्राहकों को मुश्किल में डाला हुआ है।

जैसा कि आप जानते ही हैं कि हर रोज इनकी कीमत तय होती है। और आपको यह भी पता होगा कि पहली बार डीजल की कीमत पेट्रोल से भी ऊंचे स्तर पर जा पहुंची। जैसा कि अन्य सभी मसलों पर हुआ, इस पर दो दिन हाय-तौबा मची और उसके बाद सभी को चीन के मसले ने भावुक कर दिया।

सिस्टम पर रिलायंस की अच्छी पकड़ –

दोस्तों, आपको यह भी बता दें कि सरकार में अच्छा दखल होने की वजह से मुकेश अंबानी के लिए इस क्षेत्र में नई शुरुआत अन्य उद्यमियों की अपेक्षा सरल है। सिस्टम पर उनकी अच्छी पकड़ है। इसका लाभ कंपनी को निश्चित तौर पर मिलता है। ऐसी कई डील हुई हैं, जिनका सीधा फायदा रिलायंस इंडस्ट्रीज को मिला है। वह चाहे पेट्रोलियम की बात हो या एजुकेशन की। एविएटर की बात हो या फिर एनजीओ की। उनके हर उपक्रम को सरकार की नज़दीकी से मदद मिली है।

यहां आपको यह बताना भी असंगत नहीं होगा कि रिलायंस फाउंडेशन उत्तराखंड में पोषण अभियान चला रहा है। इसकी शुरुआत पायलट प्रोजेक्ट के रूप में हुई है और प्रशासन जी जान से इस अभियान को सफलता दिलाने में जुटा हुआ है। इसके तहत 20 नाली जमीन पर पोषक तत्वों से भरी सब्जी और फलों की खेती की जा रही है। खेती का जिम्मा गांव वालों के पास है। अतिरिक्त सब्जी को रिलायंस बेचने का काम करेगी।

अभियान पहाड़ की महिलाओं में खून और पोषक तत्वों की कमी रोकने के लिए चलाया जा रहा है। दोस्तों, आपको बता दें कि इससे पहले रिलायंस के प्रतिनिधियों ने कुछ महिलाएं, युवतियों और युवाओं का वजन लेने के साथ ही उनके हीमोग्लोबिन की भी जांच की थी। इसके बाद पोषक फल, सब्जियों का सेवन कराने के बाद फिर से इनकी जांच की, जिसके बेहतर नतीजे सामने आए थे। इसके नतीजे देखने के बाद प्रशासन ने भी इन प्रतिनिधियों का सहयोग किया।

रिलायंस पेट्रोल पंप हेड ऑफिस कांटेक्ट नंबर – Reliance Petrol Pump Head Office Contact Number

किसी भी प्रकार के सवाल, सहायता एंव जानकारी के लिए आप रिलायंस पेट्रोल पंप टोल फ्री कांटेक्ट नंबर पर सम्पर्क कर सकतें हैं –

रिलायंस पेट्रोल पंप टोल फ्री कांटेक्ट नंबर – 1800 223 023

ऑफिसियल वेबसाइट – www.reliancepetroleum.com

तो दोस्तों, यह थी जियो-बीपी पेट्रोल पंप और रिलायंस खुदरा इंधन बिक्री योजना। इस post के माध्यम से हमने आपको रिलायंस पेट्रोल पंप कैसे खोलें? आवेदन प्रक्रिया, आवश्यक दस्तावेज, फ्रेंचाइजी के जरिए मिलने वाले रोजगार की भी जानकारी दी। उम्मीद है कि यह post आपके लिए बड़े काम की साबित होगी। दोस्तों, यदि आप इस post के संबंध में कोई भी प्रतिक्रिया हमें देना चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए comment box पर comment करके अपनी बात हम तक भेज सकते हैं। यदि आप इसी तरह की किसी अन्य जनहित से जुड़ी योजना के बारे में जानकारी चाहते हैं, तो उसके लिए भी हमें नीचे दिए गए comment box में comment कर सकते हैं। हम आपकी अपेक्षा को अवश्य पूरा करेंगे। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment