राजस्थान ई-सखी योजना ऑनलाइन आवेदन, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, Rajasthan e-sakhi Yojana

राजस्थान राज्य सरकार द्वारा प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने के लिए राजस्थान ई-सखी योजना – Rajasthan e-sakhi Yojana का संचालन किया जा रहा है। राजस्थान ई-सखी योजना एक महत्वपूर्ण योजना है। जिसके माध्यम से प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल साक्षर बनाने का उद्देश्य रखा गया है। इस योजना के अंतर्गत प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाया जाएगा। प्रदेश की महिलाओं को घर घर जाकर ई-सखियों द्वारा ऑनलाइन सरकारी सेवाओं का लाभ प्रदान प्राप्त करने के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी। उन्हें सिखाया जाएगा। कि किस तरह से घर बैठे ऑनलाइन मोबाइल के द्वारा प्रदेश की महिलाएं सरकारी योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकती हैं। इसके साथ ही यदि महिलाओं को किसी समस्या का सामना करना पड़ता है। तो उनकी समस्याओं का निदान भी ई-सखियों द्वारा किया जाएगा।

राज्य सरकार द्वारा प्रदेश की खास तौर पर महिलाओं के लिए चलाई जा रही राजस्थान ई-सखी योजना एक महत्वपूर्ण योजना है। राजस्थान ई-सखी योजना – Rajasthan e-sakhi Yojana के लिए लगभग 40000 ई-सखियों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। जो घर घर जाकर प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल शिक्षा प्रदान करें। राजस्थान राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही ई-सखी योजना योजना क्या है। इस योजना का लाभ आप कैसे प्राप्त कर सकते हैं। इसकी पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको यह आर्टिकल लास्ट तक पढ़ना होगा। हम आपको इस आर्टिकल में सभी जानकारी प्रदान करेंगे।

राजस्थान ई-सखी योजना क्या है? What is Rajasthan e-Sakhi scheme?

राजस्थान की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे द्वारा प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल साक्षर बनाने के लिए यह अभियान चलाया गया था। ई-सखियों द्वारा प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल रूप से साक्षर बनाने का प्रयास किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत डेढ़ लाख महिलाओं को निशुल्क रूप से डिजिटल प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। जिससे प्रदेश सरकार का डिजिटल राजस्थान का सपना साकार होगा। इस योजना के अंतर्गत घर घर जाकर ई-सखियां प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल शिक्षा प्रदान करेंगी।

राजस्थान ई-सखी योजना ऑनलाइन आवेदन, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, Rajasthan e-sakhi Yojana

शहरों एवं दूर-दराज के गांव में भी यह अभियान चलाया जा रहा है। ताकि दूरदराज के गांव की महिला नागरिक भी प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही सभी सुविधाओं का लाभ अपने मोबाइल के माध्यम से ही घर बैठे प्राप्त कर सके। इसके साथ ही राज्य सरकार हर भामाशाह कार्ड धारी परिवार को स्मार्ट फोन और इंटरनेट कनेक्टिविटी के लिए ₹1000 की प्रोत्साहन राशि भी प्रदान कर रही है। ताकि प्रदेश के नागरिक डिजिटल आधारित सेवाओं का पूरा लाभ प्राप्त कर सके।

डिजिटल शिक्षा को प्रभावी ढंग से आम नागरिकों तक पहुंचाने के लिए राज्य सरकार द्वारा सखियों को ट्रेनिंग प्रदान की जा रही है। ताकि वह घर घर जाकर प्रदेश की महिलाओं को डिजिटल शिक्षा प्रदान कर सकें। इसके साथ ही प्रदेश सरकार द्वारा ई-सखियों की ट्रेनिंग पूरी होने के बाद प्रदेश की महिलाओं को इंटरनेट कनेक्टिविटी और मोबाइल सेवा को बरकरार रखने के लिए 2500 की आर्थिक सहायता भी प्रदान की जाएगी। प्रदेश सरकार द्वारा ₹2500 की आर्थिक सहायता किस्तों में प्रदान की जाएगी। ₹1000 की पहली किस्त ट्रेनिंग पूरी करने पर और 15 सो रुपए की दूसरी किस्त ई-सखियों द्वारा लोगों को प्रशिक्षण देने के बाद प्राप्त होगी।

राजस्थान ई-सखी कौन बन सकता है? Who can become Rajasthan e-Sakhi?

राजस्थान राज्य सरकार द्वारा प्रदेश की महिला नागरिकों को डिजिटल शिक्षा प्रदान करने के लिए ई-सखियों को ट्रेनिंग प्रदान की जा रही है। जो शहरों के साथ साथ दूरदराज के गांवों में भी घर घर जाकर महिलाओं को महिलाओं को डिजिटल प्रशिक्षण प्रदान करेंगी। डिजिटल शिक्षा प्रदान करने के लिए सरकार द्वारा ई-सखियों की भर्ती भी की जा रही है। आप भी राजस्थान ई-सखी – Rajasthan e-sakhi Yojana बनकर घर-घर जाकर महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदान करना चाहती हैं।

तो आप भी राजस्थान राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही राजस्थान ई-सखी योजना के अंतर्गत आवेदन करके ई-सखी – Rajasthan e-sakhi Yojana बन सकती हैं। और अपने आस-पास के गांव में जाकर महिलाओं को डिजिटल प्रशिक्षण प्रदान कर सकती हैं। ई-सखी बनने के लिए आपके आपको निम्नलिखित योगिता पूरी करनी होगी।

ई-सखी के लिए आवश्यक योग्यता – Essential Qualification for e-Sakhi

इसकी में आवेदन करने के लिए आपको निम्नलिखित योग्यता होनी चाहिए –

  • आवेदन कर्ता की उम्र 18 वर्ष से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • ई-सखी बनने के लिए केवल लड़की अथवा महिला ही आवेदन कर सकती है। इसके लिए कोई पुरुष आवेदन नहीं कर सकता।
  • इसकी में आवेदन करने के लिए आवेदन कर्ता कम से कम 12 वीं पास होना होना चाहिए।
  • ई-सखी बनने के लिए केवल राजस्थान के मूल निवासी नागरिक आवेदन कर सकते हैं।
  • आवेदक के पास भामाशाह आईडी कार्ड होना आवश्यक है।
  • आवेदन कर्ता के पास स्मार्टफोन भी होना आवश्यक है।
  • इसके साथ ही आवेदन कर्ता के पास ईमेल आईडी होना भी आवश्यक है।
  • साथ ही आवेदन कर्ता को सामाजिक कार्यों में रुचि होनी चाहिए। और समाज के लिए कुछ करने का जज्बा भी होना चाहिए।

यह भी पढ़ें –

ई-सखी बनने के लिए आवेदन कैसे करें? How to apply to become e-Sakhi?

राजस्थान ई-सखी योजना में आवेदन करने के लिए आपको नीचे बताए जा रहे आसान से स्टेप्स को फॉलो करना होगा। जिसे आप फॉलो करके ई-सखी – Rajasthan e-sakhi Yojana के लिए आवेदन कर सकते हैं –

  • ई-सखी के लिए आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट www.esakhi.rajasthan.gov.in पर जाना होगा। आप चाहे तो यहां क्लिक करके डायरेक्ट भी जा सकते हैं। अथवा आपको ई-सखी एप डाउनलोड करना होगा।
  • वेबसाइट अथवा राजस्थान ई-सखी ऐप डाउनलोड करने के पश्चात आपको अपना रजिस्ट्रेशन विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट अथवा एप में करना होगा।
  • आवेदन करने के लिए आपको SSO ID के माध्यम से आवेदन करना होगा। यदि अभी तक SSO ID नहीं बनी है। तो आप सबसे पहले SSO ID के लिए पंजीकरण करें।
  • आप विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट https://sso.rajasthan.gov.in/register पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। और उसके पश्चात आप विभाग की ऑफिसियल या मोबाइल अप्प में जाकर एसएसओ आईडी के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। जिसके पश्चात आप को विभाग द्वारा संपर्क किया जाएगा

राजस्थान ई-सखी योजना के प्रमुख उद्देश्य – Major objectives of Rajasthan e-Sakhi scheme –

प्रदेश की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे द्वारा शुरू की गई राजस्थान ई-सखी योजना – Rajasthan e-sakhi Yojana का संचालन करने के मुख्य उद्देश से कुछ इस प्रकार है –

  • राजस्थान ई-सखी योजना का संचालन करने का मुख्य उद्देश्य दूरदराज ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को डिजिटल प्रशिक्षण प्रदान करना है। ताकि वह भी सरकार द्वारा प्रदान की जा रही डिजिटल सुविधाओं का लाभ घर बैठे आसानी से अपने मोबाइल द्वारा ही प्राप्त कर सकें।
  • इस योजना के अंतर्गत अधिक से अधिक लोगों को डिजिटल साक्षर बनाने का उद्देश्य रखा गया है।
  • ई-सखी योजना के अंतर्गत कम से कम प्रदेश की 150000 महिलाओं को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • इसके साथ ही राज्य की लगभग डेढ़ लाख स्वयंसेवक महिलाओं को इस ई-सखीयों के रूप में इस अभियान से जोड़कर
  • प्रत्येक ग्रामीण परिवार से कम से कम एक नागरिक को डिजिटल साक्षर बनाया जाएगा।
  • डेढ़ लाख स्वयंसेवक ई-सखी के रूप में नामांकित करके उनके संबंधित गांव और शहर के क्षेत्र में कम से कम 100 लोगों को प्रशिक्षित किया जाएगा।
  • डिजिटल साक्षरता अभियान मई 2018 से शुरू हो चुका है। और दिसंबर 2018 तक जारी रहेगा। और इस योजना के अंतर्गत करीब डेढ़ करोड़ लोगों को साक्षर बनाया जाएगा।

यह भी पढ़ें –

डिजिटल प्रशिक्षण हेतु पाठ्यक्रम –

  • भामाशाह योजना
  • भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना
  • ईमित्र योजना
  • ईपीडीएस योजना
  • राजस्थान संपर्क

प्रशिक्षण की अवधि राजस्थान –

राजस्थान राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही ई-सखी योजना – Rajasthan e-sakhi Yojana के अंतर्गत प्रशिक्षण की अवधि एवं स्थान निम्न है –

ई-सखी प्रशिक्षण 14 घंटे तक प्रदान किया जाना है। और प्रतिदिन 2 घंटे का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। इस तरह 7 दिन में प्रशिक्षण पूरा होगा। प्रशिक्षण का स्थान आरकेसीएल (राजस्थान नॉलेज कारपोरेशन लिमिटेड) के नजदीकी ज्ञान केंद्रों पर दिया जाएगा।

तो दोस्तों यह थी राजस्थान ई-सखी योजना ऑनलाइन आवेदन, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, Rajasthan e-sakhi Yojana के बारे में जानकारी। यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें साथ ही यदि आपका किसी प्रकार का सवाल हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करें। हम जल्द ही आपके सवालों के जवाब देंगें।। धन्यवाद।।

Spread the love

4 thoughts on “राजस्थान ई-सखी योजना ऑनलाइन आवेदन, आवेदन फॉर्म, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, Rajasthan e-sakhi Yojana”

  1. इ सखी राजस्थान में बहुत ही प्रसिध्य योजना है, जो मुख्य रूप से वहां की महिलाओं को मजबूत बनाने के लिए शुरू हुई थी. योजना की सबसे बात है कि इसमें महिलाओं को डिजिटल दुनिया का प्रैक्टिकल ज्ञान दिया जाता है, जिससे वे कमजोर, कम पढ़ी लिखी महिलाएं भी आज के समय के अनुसार चल सके. ये इ सखी को ट्रेनिंग देकर उन्हें तैयार किया जाता है, ताकि आगे वे दूसरों को भी डिजिटल दुनिया से जोड़ सकें.

    Reply

Leave a Comment