राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना | लाभ, पात्रता, दस्तावेज व अप्लाई प्रक्रिया

|| राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना | Rajasthan mukhymantri Rajshri Yojana | राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के पीछे सरकार का क्या उद्देश्य है? | राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए कैसे आवेदन करें? ||

यह हमारे देश की विडंबना है कि बेटियों को बेटों से कमतर माना जाता है। शिक्षा के प्रसार के साथ बेशक इस स्थिति में सुधार हो रहा है, लेकिन फिर भी दूर दराज गांवों में स्थिति अभी भी बेटियों के लिए विपरीत ही है। बेटियों के जन्म के साथ ही मां-बाप का मुंह उतर जाता है। ऐसे में बेटियों के जन्म को प्रोत्साहित करने और उन्हें सशक्त बनाने के लिए हमारे देश की विभिन्न राज्य सरकारों द्वारा अपने-अपने स्तर पर कई योजनाएं चलाई जा रही हैं।

इसी प्रकार की एक योजना राजस्थान सरकार द्वारा भी चलाई जा रही है, जिसे राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना नाम दिया गया है। आज इस पोस्ट में हम आपको इसी योजना के संबंध में विस्तार से जानकारी देंगे आइए, शुरू करते हैं-

Contents show

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना क्या है? (Rajasthan mukhymantri Rajshri Yojana?)

मित्रों, आपको बता दें कि राजस्थान सरकार (Rajasthan government) द्वारा बेटियों की पैदाइश को बढ़ावा देने तथा उन्हें शिक्षित एवं सशक्त (educated and empowerd) बनाने के लिए राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का संचालन किया जा रहा है।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना लाभ, पात्रता, दस्तावेज व अप्लाई प्रक्रिया

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा बेटियों के जन्‍म से लेकर उनकी 12वीं कक्षा की पढ़ाई तक कुल 50 हजार रुपए की सहायता दी जाती है। दोस्तों, आपको बता दें कि सरकार द्वारा यह यह सहायता एक साथ न देकर अलग-अलग चरणों (different phases) में प्रदान की जाती है। इस योजना का लाभ अधिकतम दो बेटियों तक मिल सकेगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के पीछे सरकार का क्या उद्देश्य है? (What is the objective of government behind Rajasthan mukhymantri Rajshri Yojana?)

दोस्तों, आपको बता दें कि राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना की शुरुआत आज से करीब सात वर्ष पूर्व सन् 2016-17 में की गई थी। इस योजना के पीछे सरकार का प्राथमिक उद्देश्य राज्य में बेटियों की पैदाइश को प्रोत्साहित करना एवं उन्हें सशक्त बनाना था। यदि इस योजना के मुख्य उद्देश्यों की बात करें तो वे इस प्रकार से हैं-

  • राजस्थान में बेटियों के जन्म को प्रोत्साहित करना।
  • बेटियों को 12वीं तक की शिक्षा/पढ़ाई सुनिश्चित करना।
  • बेटियों को आत्मनिर्भर बनाना यानी उन्हें उनके पैरों पर खड़ा करना।
  • समाज में लिंगभेद समाप्त करना, समभाव विकसित करना।
  • बेटियों को बेहतर भविष्य बनाने का अवसर उपलब्ध कराना।

लाभार्थियों को योजना की राशि कितने चरणों में प्रदान की जाती है? (In how many steps scheme amount is given to the beneficiaries?)

दोस्तों, आपको जानकारी दे दें कि राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को योजना राशि 6 किश्तों में प्रदान की जाती है, जो कि इस प्रकार से हैं-

बेटी का जन्म होने पर2,500 रुपए।
बेटी के एक वर्ष के टीकाकरण पर2,500 रुपए।
किसी राजकीय विद्यालय में पहली कक्षा में प्रवेश लेने पर4,000 रुपए।
राजकीय विद्यालय में 6ठी कक्षा में प्रवेश लेने पर5,000 रुपए।
राजकीय विद्यालय में 10वीं कक्षा में प्रवेश लेने पर11,000 रुपए।
राजकीय विद्यालय से 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर25,000 रुपए।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभार्थी कौन हो सकता है? (Who can be the beneficiary of Rajasthan mukhymantri rajshri Yojana?)

  • इस योजना का लाभ केवल राजस्थान राज्य की बेटियों को मिलेगा।
  • एक जून, 2016 के पश्चात पैदा हुईं बेटियां ही इस योजना की लाभार्थी होंगी।
  • यदि एक या दो किश्तों के जारी होने के पश्चात किसी वजह से बालिका की मृत्यु हो जाती है, तो ऐसे में उसके माता-पिता की अगली संतान लड़की होने पर वह योजना की लाभार्थी होगी।
  • इस योजना की पहली दो किश्त किसी सरकारी अस्पताल एवं जननी सुरक्षा योजना (JSY) के साथ पंजीकृत (registered) निजी चिकित्सा संस्थान में जन्म लेने वाली बेटियों को ही मिलेंगी।
  • शिक्षा के लिए किश्तों (instalments) की अधिकारी बालिकाएं तभी होंगी, जब वे राज्‍य सरकार (State government) द्वारा संचालित किसी शिक्षण संस्‍थान में अध्ययनरत हों।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ लेने के लिए कौन से दस्तावेज आवश्यक हैं? (What documents are required to get benefit of Rajasthan mukhyamantri rajshri Yojana)

मित्रों, आइए अब एक नजर उन दस्तावेजों पर डाल लेते हैं, जो कि लाभार्थी को राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करने को आवश्यक हैं। ये दस्तावेज इस प्रकार से हैं-

  • बालिका के माता-पिता/अभिभावक का भामाशाह कार्ड (bhamashah card)।
  • बालिका के माता-पिता/अभिभावक का आधार कार्ड (aadhar card)।
  • बालिका का जन्म प्रमाण पत्र (birth certificate)/
  • ममता कार्ड।
  • बालिका का आधार कार्ड।
  • मातृ-शिशु स्वास्थ्य कार्ड (health card)।
  • बालिका के माता-पिता/अभिभावक का दो संतानों से संबंधित स्व घोषणा पत्र self (declaration)।
  • बालिका का विद्यालय में प्रवेश का प्रमाण पत्र (admission certificate)।
  • बालिका के माता-पिता/अभिभावक का मोबाइल नंबर (mobile number)।
  • लाभार्थी बालिका की 12वीं कक्षा की अंक तालिका (marksheet)।
  • बालिका के माता-पिता/ अभिभावक के बैंक एकाउंट की डिटेल्स (bank account details)।
  • बालिका एवं उसके माता-पिता/ अभिभावक की पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ (passport size photo) आदि।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए कैसे आवेदन करें? (How to apply for Rajasthan mukhymantri rajshri yojana?)

दोस्तों, अब हम आपको इस योजना का सबसे अहम हिस्सा बताएंगे। और वो यह है कि यदि आप पात्र हैं तो राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए कैसे आवेदन कर सकते हैं? दोस्तों, आपको बता दें कि राजस्थान सरकार की इस महत्वाकांक्षी योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपको

अपने नजदीकी ई-मित्र केंद्र (E-mitra Kendra) या फिर अटल सेवा केंद्र (Atal Sewa Kendra) में जाना होगा। यहां आपको केंद्र संचालक को अपना प्रयोजन बताना होगा और सभी दस्तावेज संचालक को देने होंगे। इसके पश्चात केंद्र संचालक द्वारा योजना का आवेदन फॉर्म (application form) आपके द्वारा दी गई सारी जानकारी एवं दस्तावेजों के आधार पर सही-सही भरा जाएगा। आवेदन पत्र (application form) के सबमिट (submit) हो जाने के बाद आपको एक रेफरेंस नंबर (reference number) प्रदान किया जायेगा। याद रखिए कि इस

रेफरेंस नंबर आपको भविष्य के संदर्भ के लिए दिया जाएगा। इसके सहारे आप कभी भी अपने आवेदन की स्थिति को चेक कर सकेंगे। इस प्रकार राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए आपका आवेदन पूरा हो जाएगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना से जुड़ी अन्य खास बातें क्या-क्या हैं? (What are the other main features of Rajasthan mukhyamantri Rajshri Yojana?)

साथियों, आइए अब एक नजर इस योजना से जुड़ी अन्य मुख्य बातों पर भी डाल लेते हैं, जो कि इस प्रकार से हैं-

  • बालिका को योजना के तहत एक यूनिक आईडी नंबर (unique Id number) प्रदान किया जायेगा।
  • बालिका के एक वर्ष का हो जाने के पश्चात टीकाकरण (vaccination) के लिए आवेदन बाद चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाभार्थी बालिका के अभिभावक के बैंक खाते (bank account) में राशि ट्रांसफर (transfer) की जाएगी।
  • लाभार्थी बालिका के जन्म के बाद पहली और दूसरी किश्का लाभ लेने के लिए अभिभावक को आवेदन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • शुभ लक्ष्मी योजना के तहत पहली एवं दूसरी किस्त का लाभ लाभार्थी को प्रदान किया जायेगा।
  • कक्षा एक में प्रवेश लेने पर बालिका को तीसरी किश्त का लाभ मिलेगा। इसके लिए आवेदन करने हेतु अभिभावकों को मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड (mother-child safety card) के साथ दो संतानों से संबंधित घोषणा पत्र (declaration) को भी अपलोड (upload) करना होगा।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना किसके द्वारा चलाई जा रही है?

जैसा कि नाम से ही स्पष्ट है, यह योजना राजस्थान की कांग्रेस नीत अशोक गहलोत सरकार द्वारा चलाई जा रही है।

राजस्थान सरकार द्वारा इस योजना को चलाए जाने के पीछे क्या उद्देश्य है?

राजस्थान द्वारा इस योजना को चलाए जाने के पीछे उद्देश्य बेटियों की पैदाइश को बढ़ावा दिए जाना एवं उन्हें शिक्षित व सशक्त बनाए जाना है।

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को कितनी आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है?

इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को कुल ₹50 हजार की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

क्या लाभार्थी को सारी राशि एक साथ दी जाती है?

जी नहीं, लाभार्थी को सारी राशि विभिन्न चरणों में प्रदान की जाती है।

download app

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के लिए आवेदन कैसे किया जा सकता है?

इस योजना के लिए आवेदन की पूरी जानकारी हमने आपको ऊपर पोस्ट में दी है। आप वहां से देख सकते हैं।

राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ कितनी संतानों तक लिया जा सकता है?

इस योजना का लाभ अधिकतम दो बालिकाओं तक लिया जा सकता है।

क्या किसी अन्य राज्य की बालिकाएं भी इस योजना की लाभार्थी बन सकती हैं?

जी नहीं, केवल राजस्थान राज्य की बेटियों को ही इस राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना का लाभ मिल सकता है।

लाभार्थी को राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना की सहायता राशि कितनी किश्तों में दी जाती है?

लाभार्थी को इस योजना के तहत दी जाने वाली राशि कुल 6 किश्तों में प्रदान की जाती है। इसका पूरा ब्योरा हमने आपके ऊपर पोस्ट में दिया है। आप वहां से देख सकते हैं।

लाभार्थी बालिका को कौन सी कक्षा उत्तीर्ण करने तक या सहायता राशि मिलती है?

लाभार्थी बालिका को 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करने तक यह सहायता राशि प्रदान की जाती है।

दोस्तों, इस पोस्ट (post) में हमने आपको राजस्थान मुख्यमंत्री राजश्री योजना के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। यदि आप राजस्थान के रहने वाले हैं तो इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करें। इस पोस्ट को लेकर आपका कोई भी सवाल अथवा सुझाव आप हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स (comment box) में कमेंट (comment) करके भेज सकते हैं। ।।धन्यवाद।।

प्रवेश
प्रवेश
मास मीडिया क्षेत्र में अपनी 15+ लंबी यात्रा में प्रवेश कुमारी कई प्रकाशनों से जुड़ी हैं। उनके पास जनसंचार और पत्रकारिता में मास्टर डिग्री है। वह गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर से वाणिज्य में मास्टर भी हैं। उन्होंने गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय से व्यक्तिगत प्रबंधन और औद्योगिक संबंधों में डिप्लोमा भी किया है। उन्हें यात्रा और ट्रेकिंग में बहुत रुचि है। वह वाणिज्य, व्यापार, कर, वित्त और शैक्षिक मुद्दों और अपडेट पर लिखना पसंद करती हैं। अब तक उनके नाम से 6 हजार से अधिक लेख प्रकाशित हो चुके हैं।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Comment (1)

Leave a Comment