[पंजीकरण] Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana क्या है | इंटर कास्ट मैरिज स्कीम इन राजस्थान

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana – राजस्थान सरकार ने प्रदेशवासियों के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है | इस योजना का नाम राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना रखा गया है| इस योजना के अंतर्गत राजस्थान के नागरिकों को अंतर्जातीय विवाह करने पर उन्हें प्रोत्साहन के तौर पर एक मुश्त राशि प्रदान की जाएगी| इस योजना का मुख्य उद्देश्य अंतरजातीय विवाह को बढ़ावा देना है| राजस्थान सरकार प्रदेश के अंतरजातीय विवाह करने वाले नौजवानों को प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana

युवा सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री डॉ अरुण चतुर्वेदी ने कहा कि इस योजना के तहत जारी की जाने वाली प्रोत्साहन राशि का सत प्रतिशत सदुपयोग को लेकर कड़े नियम भी बनाए गए हैं| ताकि इस योजना का लाभ सिर्फ पात्र व्यक्तियों को ही मिले| जिससे योजना अधिक से अधिक सफल हो सके| इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने वाले युवक अथवा युवती द्वारा किसी मिथ्या तथ्य या फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत करने या किसी और प्रकार के तथ्यों को छुपाने पर विधिक कार्यवाही भी की जा सकती है|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana 2019 –

राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के नागरिकों को अंतर जाति विवाह करने पर प्रोत्साहित करना है| अंतर्जातीय का मतलब दो अलग- अलग जाति होता है| मतलब जो लोग अपनी जाति के अतिरिक्त किसी और जाति के लोगों से विवाह करते हैं| उन्हें अंतरजातीय विवाह कहा जाता है| कई बार ऐसा होता है कि कोई प्रेमी युगल को समाज द्वारा अंतर जाति विवाह पर प्रतिबंध के कारण घर से भागना पड़ता है|

और कभी कभी तो ऐसा भी होता है कि प्रेमी युगल को इस दुनिया से विदा भी होना पड़ जाता है| ऐसी समस्याओं को देखते हुए प्रदेश सरकार ने अंतरजातीय विवाह को प्रोत्साहित करने के लिए राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना लागू की है| जिसमें देश के नागरिकों को एकमुश्त सहायता राशि प्रदान की जाएगी | ताकि वह इस क्लास से अपने नए जीवन की शुरुआत कर सकें| और उन्हें नया घर बसाने में कुछ राहत प्राप्त हो सके|

हाल में ही सामाजिक अधिकारिता विभाग और सामाजिक न्याय विभाग की रिपोर्ट के अनुसार 2011-12 में  130 जोड़ों को 6500000 रूपय, वर्ष 2012-13 में 175 जोड़ों को 87.5 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की गई थी | इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए प्रदेश सरकार ने इस वर्ष 2013-14 मई अंतर्जातीय विवाह करने वाले 261 शादीशुदा जोड़ों को 726 लाख रुपए की स्वीकृति प्रदान की है|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana की विशेषताएं –

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana की विशेषताएं या लाभ कुछ इस प्रकार हैं –

  • समाज द्वारा  अंतरजातीय विवाह पर प्रतिबंध के कारण घर से भागने वाले जोड़ों को सरकार द्वारा सुरक्षा प्राप्त होगी|
  • अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को एकमुश्त धनराशि प्राप्त होगी| जिससे उन्हें अपना नया जीवन से बात करने में काफी सहायता प्राप्त होगी |
  • इस योजना द्वारा प्राप्त प्रोत्साहन राशि से नए जोड़ों को अपना घर बसाने में कोई दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा | यही इस योजना का मुख्य उद्देश्य है |
  • अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना समाज में व्याप्त कुरीतियों को नष्ट करके समाज में समानता की भावना व्यक्त करना चाहती है|

राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि –

प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा अंतरजातीय विवाह करने वाले जोड़ों को प्रदान की जाने वाली एकमुश्त धनराशि कुछ इस प्रकार है –

प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही डॉक्टर सविता बेन अंबेडकर Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana के अंतर्गत जोड़ों के  जीवन को सुरक्षित करने के लिए पति पत्नी दोनों को 5 लाख  की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है| इनमें से 2.5 लाख  रूपय में दोनों व्यक्तियों के संयुक्त खाते में 8 वर्ष के लिए फिक्स डिपॉजिट कर दिया जाता है |बाकी ढाई लाख रुपए जोड़ों के दांपत्य जीवन की शुरुआत करने के लिए आवश्यक घरेलू वस्तुओं की खरीद के लिए नगद संयुक्त बैंक खाते में प्रदान किया जाता है|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana के लिए पात्रता मापदंड –

राजस्थान सरकार द्वारा चलाई जा रही अंतरजातीय प्रोत्साहन योजना के लिए पात्रता मापदंड कुछ इस प्रकार निर्धारित किए गए हैं –

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन कर्ता राजस्थान का स्थाई निवासी होना चाहिए|
  • आवेदक की उम्र 35 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए |
  • इस योजना के लिए आवेदन करें नए वाले आवेदनकर्ता किसी आपराधिक मामले में दोषी नहीं होने चाहिए |
  • योजना के लिए आवेदन करने के लिए मैरिज सर्टिफिकेट होना भी आवश्यक है |
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक की आय ढाई लाख रुपए वार्षिक से अधिक नहीं होनी चाहिए |
  • योजना का लाभ ऐसे आवेदनकर्ताओं को प्रदान किया जाएगा| जिन्होंने पहली बार शादी की हो| जिन्होंने इससे पहले की शादी की होगी| वह इस योजना के पात्र नहीं है |
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए विवाह के 1 साल के अंदर ही आवेदन करना होगा तभी इस योजना का लाभ प्राप्त होगा|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज –

अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपके पास निम्नलिखित आवश्यक दस्तावेज होने चाहिए –

  • आधार कार्ड की कॉपी
  • वोटर ID कॉपी
  • पैन कार्ड
  • जात प्रमाणपत्र
  • बर्थ सर्टिफिकेट
  • आय प्रमाण पत्र
  • जोड़े की संयुक्त फोटो
  • और मरीज मैरिज सर्टिफिकेट होना आवश्यक है|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana के लिए आवेदन कैसे करें –

यदि आपको Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं | तो आप नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करके अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं |

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट https://sjms.rajasthan.gov.in पर जाकर आवेदन कर सकते हैं| आप यहां क्लिक करके डायरेक्ट वेबसाइट पर जा सकते हैं|

Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana kya hai . iska labh kaise prapt kare

  • इसके अतिरिक्त इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको अपने गृह जनपद में ई मित्र राजस्थान SSO के माध्यम से भी आवेदन कर सकते हैं| आवेदन करते समय आपके पास आवश्यक सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी होनी चाहिए|

तो दोस्तों क्या थी Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana यदि आपको यह जानकारी | यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगे | तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें | साथ ही यदि आपका किसी प्रकार का सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें |

Recommended For –

इंटर कास्ट मैरिज राजस्थान|राजस्थान में अंतर जाति विवाह लाभ|राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना|इंटर कास्ट मैरिज स्कीम इन राजस्थान|अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना राजस्थान|राजस्थान अंतर्जातीय विवाह योजना| How to claim money for intercaste marriage in Rajasthan|inter caste marriage benefits in hindi|other caste marriage benefits|अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना rajasthan|राजस्थान अंतरजातीय विवाह प्रोत्साहन योजना|अंतर जाति विवाह लाभ|अंतर जाति विवाह लाभ आवेदन फार्म|

Sharing is caring

99 thoughts on “[पंजीकरण] Rajasthan Antarjatiy Vivah Protsahan Yojana क्या है | इंटर कास्ट मैरिज स्कीम इन राजस्थान”

  1. इस प्रोहत्साहन राशि के आवेदन के बाद विभाग राशि स्वीकृत किस आधार पर करता है
    क्या शादी की गोपनीयता समाज से रखी जाती है या अपने गांव घर पर आकर पूछताछ करके पता लगाया जाता है या जो सरकारी दस्तावेज जो पेश किए है उसे मान कर सीधा स्वीकृति दी जाती है

अपना सवाल यहाँ पूछें। कमेंट में अपना मोबाइल नंबर, आधार नंबर और अकाउंट नंबर जैसी पर्सनल जानकारी न शेयर करें।