पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना 2022: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, एप्लीकेशन फॉर्म Punjab Divyag Saktikaran Yojana

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 18 नवंबर 2020 को पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना शुरुआत की थी। इस योजना के द्वारा प्रदेश मे रह रहे विकलांग व्यक्तियों और बूढ़े लोगों को आर्थिक इस सहायता प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से ऐसे लोगों सशक्तिकरण किया जाएगा। ताकि वह अपने आपको समाज के साथ जोड़ कर अपने जीवन को आगे की तरफ ले जा पाएंगे।

अगर आप घर बैठे मोबाइल के द्वारा पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना का लाभ उठाना चाहते हैं। दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना क्या है? आवेदन करने का तरीका क्या है? कौन कौन से डॉक्यूमेंट देने होंगे। शर्तें और योग्यता क्या होनी चाहिए? दोस्तों आप इसके बारे में कुछ भी नहीं जानते हैं तो कोई बात नहीं है। मैं आज आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताऊंगा की पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण 2022 Punjab divyagjan saktikaran yojna आइए मैं उसके बारे में आपको विस्तार पूर्वक बताऊं-

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना क्या है?

दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना पंजाब की शुरुआत 18 नवंबर 2020 को किया गया था उस समय इसे कैबिनेट के द्वारा भी मंजूरी दी गई थी। योजना में विशेष तौर पर विकलांग लोगों को शामिल किया गया है। इस योजना को दो चरणों में लागू किया जाएगा पहले चरण में विकलांग लोगों के लिए चल रही योजनाओं को प्रबल बनाया जाएगा जबकि दूसरे चरण में सरकार 13 नए प्रावधान को इसमें शामिल करेगी। ताकि विकलांग लोगों का सशक्तिकरण मजबूती के साथ हो सके।

योजना का नामपंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना
किस ने लांच कीपंजाब सरकार
उद्देश्यराज्य के दिव्यांग नागरिकों को सशक्त बनाना।
लाभार्थीपंजाब के दिव्यांग नागरिक।
आधिकारिक वेबसाइटdiprpunjab.gov.in
योजना की शुरुआत2022

पंजाब दिव्यांगजन योजना कितने चरणों में लागू किया जाएगा [In how many phases will the Punjab Divyangjan Yojana be implemented?] –

Punjab divyagjan saktikaran yojna को दो चरणों में लागू किया जाएगा जिनका विवरण में आपको नीचे बिंदु अनुसार दूंगा जो इस प्रकार है-

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना 2021 | Punjab divyag jan saktikaran yojana

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना का पहला चरण- [First phase of Punjab Divyangjan Empowerment Scheme-]

Punjab sarkar पहले चरण में इस बात को सुनिश्चित करेगी कि उसने जो योजना का आरंभ प्रदेश में किया है। उसका लाभ विकलांग व्यक्तियों के के पास पहुंच रहा है कि नहीं। पहले चरण में प्रदेश में रहने वाले वाले विकलांग व्यक्तियों को अनेकों प्रकार के सरकारी सुख सुविधा प्रदान की जाएगी। जिसमें उन्हें स्वास्थ्य संबंधित सुविधा’ नौकरी और शिक्षा जैसी चीजों को इसमें शामिल किया गया है।

इसके अलावा सरकार इस बात को भी निश्चित करेगी कि राज्य में जितने भी सरकारी नौकरी है उसमें विकलांग कोटा के तहत विकलांग व्यक्तियों को नौकरी देने का काम तेजी के साथ हो रहा है कि नहीं। अगले छह माह में राज्य में जितने भी सरकारी नौकरी हैं। विकलांग कोटा के तहत विकलांग लोगों की भर्ती की जाएगी। ताकि कोई भी विकलांग व्यक्ति किसी दूसरे व्यक्ति के ऊपर निर्भर ना रहे।

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना का दूसरा चरण – [The second phase of Punjab Divyangjan Empowerment Scheme -]

इस योजना के दूसरे चरण में सरकार ने 13 नए प्रावधान को इसमें शामिल किया है। ताकि इस योजना को और भी ज्यादा सशक्त और मजबूत बनाया जा सके। 13 नए प्रावधान के बारे में मैं आपको नीचे बिंदु अनुसार जानकारी दूंगा। जो इस प्रकार है-

  1. विकलांग लोगों का उपचार किया जाएगा [People with disabilities will be treated]
  2. मुफ्त में उन्हें शिक्षा प्रदान की जाएगी [Education will be provided to them for free]
  3. एक कैलेंडर वर्ष में 5 दिन का अतिरिक्त अवकाश उन्हें दिया जाएगा [They will be given 5 days extra leave in a calendar year]
  4. विकलांग छात्रों का सशक्तिकरण [Empowerment of Students with Disabilities]
  5. एड्स गतिशीलता [AIDS mobility]
  6. मनोरंजन से जुड़ी हुई गतिविधियां उन्हें प्रदान करना [Providing them with recreational activities]
  7. सहयोगी यंत्र प्रदान करना [Provide aids]
  8. आवश्यकता वाले छात्रों को भी गृह विद्यालय प्रदान करना है [Also have to provide home school to students in need]
  9. विकलांग शिक्षकों द्वारा किया जाने वाला उत्कृष्ट कार्य के लिए उन्हें सम्मानित करना

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना का मुख्य उद्देश्य [Main objective of Punjab Divyangjan Empowerment Scheme] –

दोस्तों जैसा कि आप लोग जानते हैं कि जब आपके पास कोई रोजगार नहीं होता है तो लोग आपको एक प्रकार का बोझ समझते हैं। ऐसे में हमारे समाज में और देश में ऐसे अनेक विकलांग हमारे भाई बहन हैं जिनके पास हाथ और पैर नहीं होने की वजह से वह कुछ नहीं कर पाते हैं, और दूसरे पर हमेशा आश्रित रहते हैं।

इसलिए सरकार ने ऐसे विकलांग भाई बहनों को सशक्त बनाने के लिए इस योजना का निर्माण किया है। ताकि उन्हें आर्थिक सहायता दिया जा सके। इसके द्वारा प्रदेश में रह रहे सभी विकलांग भाई बहनों को सरकार रोजगार प्रदान करेगी ताकि वह अपने परिवार के लोगों के ऊपर आश्रित ना रहे।

दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना पंजाब का लाभ क्या है [What is the benefit of Divyangjan Empowerment Scheme Punjab]

  • विकलांग व्यक्तियों का सशक्तिकरण
  • इस योजना को दो चरणों में लागू किया जाएगा।
  • योजना की शुरुआत 18 नवंबर 2020 को पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने किया था।
  • पहले चरण में विकलांग लोगों को सरकारी सुख सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।
  • दूसरे चरण में 13 नए प्रकार के प्रावधान इसमें शामिल किया गया है। जिससे राज्य में रह रहे विकलांग व्यक्तियों को और भी सरकारी सुख सुविधाएं दी जाएंगी। जो अब तक किसी भी राज्य और केंद्र सरकार ने नहीं दिया होगा।
  • पंजाब सरकार इस योजना के माध्यम से इस बात की जानकारी भी प्राप्त करना चाहती है, कि विकलांग लोगों को इस योजना का लाभ पहुंच रहा है कि नहीं।
  • पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना के अंतर्गत शिक्षा स्वास्थ्य रोजगार जैसी सरकारी सुख सुविधा को शामिल किया गया है।
  • 6 महीने के अंदर राज्य में जो भी सरकारी नौकरी के पद खाली हैं उसे तुरंत विकलांग कोटा के तहत भरा जाएगा।

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना कार्यान्वयन [Punjab Divyangjan Empowerment Scheme Implementation] –

इस योजना को सफलतापूर्वक कार्यान्वयन करनेेे के लिए राज्य के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंंह ने और विकास मंत्री के नेतृत्व में कैबिनेट मंत्री और एक सलाहकार समूह को शामिल कियाा है। इन सभी लोगों का प्रमुख काम इस योजना को जमीनी स्तर पर लागू करना है। इसके अलावा इस बात को भी सुनिश्चित करना है कि योजना का लाभ विकलांग व्यक्ति को पहुंच रहा है कि नहीं।

दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना पंजाब का लाभ लेने की योग्यता क्या है [What is the eligibility to take advantage of Divyangjan Empowerment Scheme Punjab]

  • पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना का लाभ उठाने के लिए निम्नलिखित प्रकार की योग्यता पंजाब सरकार के द्वारा निर्धारित की गई है जिनका विवरण मैं आपको नीचे दूंगा-पंजाब का मूल निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ केवल विकलांग व्यक्ति उठा सकते हैं
  • अगर कोई विकलांग व्यक्ति पंजाब सरकार में किसी भी सरकारी पद पर काम कर रहा है तो वह इस योजना का लाभ नहीं उठा सकता है।
  • आपके पास सभी प्रकार के जरूरी डॉक्यूमेंट होने चाहिए

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना का लाभ लेने के लिए कौन कौन से डॉक्यूमेंट लगेंगे [What documents will be required for Punjab Divyangjan Empowerment Scheme] –

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण का लाभ देने के लिए आपको निम्नलिखित प्रकार केेे डॉक्यूमेंट देने होंगे जिनका विवरण मैं आपको नीचे बिंदु अनुसार दूंगा जो इस प्रकार है –

  • आधार कार्ड [Aadhar card]
  • वोटर कार्ड निवास प्रमाण पत्र के तौर पर [Voter Card as Residence Certificate]
  • पासपोर्ट साइज का फोटोग्राफ [Passport size photograph]
  • विकलांगता सर्टिफिकेट [Disability certificate]
  • मोबाइल नंबर [Mobile number]

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना में आवेदन कैसे करें? [How to apply for Punjab Divyangjan Empowerment Scheme?]

यदि आप दिव्यांग सशक्तिकरण योजना में आवेदन करना चाहते हैं, तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। आवेदन करने से पहले आपको इसके लिए जरूरी दस्तावेज अपने पास कलेक्ट करके रखना है। ताकि आवेदन फार्म भरने के टाइम आपको किसी प्रकार की कोई समस्या का सामना ना करना पड़े। साथ ही आवेदन फार्म गलत ना हो गलत फॉर्म भर कर जमा कर देने से आपका आवेदन रिजेक्ट भी किया जा सकता है। आवेदन करने की प्रक्रिया नीचे बताई जा रही है जिसे आप फॉलो कर सकते हैं –

Total Time: 1 day

ऑफिशल वेबसाइट पर जाएं

सबसे पहले आप इसके ऑफिशल वेबसाइट https://socialjusticehry.gov.in/forms/ पर जाएंगे। जहां इस के होम पेज पर आपको आवेदन फार्म का एक लिंक दिखाई देगा, उस पर आपको क्लिक करना है।पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना 2021 | Punjab divyag jan saktikaran yojana

फॉर्म डाउनलोड करें –

ऑफिशियल वेबसाइट पर उपलब्ध दिव्यांग सशक्तिकरण योजना फार्म पर क्लिक करने के पश्चात आपको फार्म डाउनलोड कर लेना है। और उसका प्रिंट आउट निकाल लेना है।

फॉर्म भरें –

फॉर्म का प्रिंट आउट निकाल कर फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी आपको सही सही भरना है। साथ ही आवश्यक दस्तावेजों की फोटोकॉपी भी संलग्न करना है।

समाज कल्याण विभाग में जमा करें –

पूरी तरह कंप्लीट फॉर्म भरकर आपको जिला समाज कल्याण विभाग में जाकर जमा करना होगा। जिला समाज कल्याण विभाग में फॉर्म जमा करने के पश्चात आग के फॉर्म की पात्रता की जांच की जाएगी। यदि आप पात्र होंगे तो आपको इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। जिसकी सूचना आपको मोबाइल मैसेज के माध्यम से प्रदान कर दी जाएगी।

पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना से जुड़े सवाल जवाब –

दिव्यांग सशक्तिकरण योजना का लाभ कौन कौन ले सकता है?

पंजाब दिव्यांग सशक्तिकरण योजना का लाभ पंजाब के दिव्यांग नागरिक ले सकते हैं। अन्य प्रदेश के नागरिक उनके प्रदेश में शुरू की गई दिव्यांग योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

क्या ऑनलाइन दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना में आवेदन कर सकते हैं?

पंजाब दिव्यांग सशक्तिकरण योजना में आवेदन करने के लिए अभी ऑनलाइन पोर्टल लॉन्च नहीं किया गया है। इसलिए इस योजना के लिए आप ऑनलाइन आवेदन नहीं कर सकते हैं।

दिव्यांग सशक्तिकरण योजना के लिए कहां आवेदन करना होगा?

दिव्यांग सशक्तिकरण योजना के लिए आप जिला समाज कल्याण विभाग में आवेदन कर सकते हैं।

क्या पंजाब दिव्यांग सशक्तिकरण योजना के लिए कोई फीस का भुगतान करना होगा?

सरकार द्वारा इस योजना में आवेदन करने के लिए किसी प्रकार की कोई फीस निर्धारित नहीं की गई है। हालांकि यदि ऑनलाइन आवेदन शुरू किए जाते हैं जन सेवा केंद्र के माध्यम से आवेदन करने पर आपको ₹30 का भुगतान करना पड़ सकता है।

इस योजना को कितने चरणों में लागू किया जाएगा?

पंजाब दिव्यांग सशक्तिकरण योजना को दो चरणों में लागू किया जाएगा प्रदान की गई है। जिसकी जानकारी आपको ऊपर प्रदान की गई है।

उम्मीद करता हूं कि आपको समझ में आ गया होगा पंजाब दिव्यांगजन सशक्तिकरण योजना क्या होता है। आवेदन करने की प्रक्रिया क्या हैै कौन कौन से डॉक्यूमेंट लगेंगे सभी प्रकार के के सवालों का जवाब आपको इस आर्टिकल के माध्यम से मिल गया होगा। इसके बाद भी अगर आपके मन में कोई सवाल है तो कमेंट बॉक्स में पूछे उसका उत्तर देनेे के लिए आपकी सेवा में उपस्थित रहूंगा। तब तक के लिए धन्यवाद

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment