प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021: PMAY List (pmaymis.gov.in), पीएमएवाई सूची

केंद्र सरकार का लक्ष्य है कि 2022 तक हर किसी के पास अपना पक्का घर हो। इसके लिए प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) चलाई जा रही है। देश भर में लाभार्थी इस योजना का लाभ उठा रहे हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने वालों के नाम केंद्र सरकार की ओर से सभी दस्तावेजों का सत्यापन कर योजना की लिस्ट में शामिल किया गया है।

PMAY Yojana के अंतर्गत आवेदन करने वाला आसानी से पीएमएवाई सूची में अपना नाम खोज सकता है । आज इस पोस्ट में हम आपको Pradhan Mantri Awas Yojana List 2021 के संबंध में विस्तार से जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

Pradhan Mantri Awas Yojana क्या है?

दोस्तों, प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) PMAY (urban) का आगाज 25 जून, 2015 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था। इसके माध्यम से देश के शहरी इलाको के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आयवर्ग के गरीब परिवारों को पक्का घर मुहैया कराना था। इस योजना में ऐसे लोगों को शामिल किया गया, जिनके पास खुद का घर न हो या कच्चा घर हो। उन्हें पक्का मकान बनाने के लिए ऋण उपलब्ध कराने का भी प्रावधान किया गया।

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021: PMAY List (pmaymis.gov.in), पीएमएवाई सूची

इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार का लक्ष्य वर्ष 2022 तक प्रत्येक पात्र परिवार को स्वयं का घर उपलब्ध कराना है। आपको बता दें कि PM Awas Yojana 2021 के तहत शहरी क्षेत्रो मे झुग्गी झोपड़ी, कच्चे मकानो मे रहने वालों, EWS, LIG तथा MIG Income Group के लोगों को भी शामिल किया गया है।

योजना के तहत 2022 तक 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया है | इसका पहला चरण 1 अप्रैल, 2015 से मार्च 2017 तक चला। दूसरा चरण दो अप्रैल, 2017 से मार्च, 2019 तक चला। PMAY का तीसरा चरण 3 अप्रैल 2019 से शुरू हुआ है, जो मार्च 2022 तक चलेगा।

न्यू प्रधानमंत्री आवास योजना डिटेल्स

योजनाप्रधानमंत्री शहरी आवास योजना
लाभार्थीगरीब नागरिक
शुरुआत किसने कीPM जी द्वारा
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://pmaymis.gov.in

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में सिर्फ पात्रों का नाम

PMAY List 2021 के अंतर्गत केवल उन्हीं परिवारों को शामिल किया गया है, जो प्रधानमंत्री आवास योजना की पात्रता पूरी करते हैं। ऐसे सभी परिवारों का सत्यापन कर केंद्र सरकार list बनाकर आधिकारिक वेबसाइट पर मुहैया कराती है। ताकि लाभार्थियों को जल्द से जल्द खुद का पक्का मकान उपलब्ध कराया जा सके।

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट को ऑनलाइन उपलब्ध कराने का उद्देश्य यह है कि सरकार और नागरिकों के बीच पारदर्शिता कायम हो। साथ ही, योजना के कार्यान्वयन तेजी से हो सके।

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021 में नाम कैसे देखें

Time needed: 20 minutes.

दोस्तों, प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021 में नाम देखना बेहद आसान है। केवल अपने आधार कार्ड की सहायता से कोई भी लाभार्थी प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी (PMAY List- Urban) में अपना नाम खोज सकता है। इसकी एक आसान प्रक्रिया है। आपको बस ये steps follow करने होंगे-

  1. सबसे पहले आपको पीएमएवाई की आधिकारिक (official) वेबसाइट pmaymis.gov.in पर जाना होगा

  2. अब आपके सामने इस official वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।

  3. इसके ऊपरी भाग में आपको Search Beneficiary का option दिखेगा। आपको इस option पर click करना होगा।[न्यू शहरी लिस्ट] Pradhan Mantri Awas Yojana Shahri / Urban List 2019 में अपना नाम कैसे देखें ?

  4. अब आपको अपने 12 अंको का आधार कार्ड नंबर दर्ज करना होगा। इसके बाद search के option पर क्लिक कर दें|[न्यू शहरी लिस्ट] Pradhan Mantri Awas Yojana Shahri / Urban List 2019 में अपना नाम कैसे देखें ?

  5. beneficiary की details सामने आ जाएंगी।[न्यू शहरी लिस्ट] Pradhan Mantri Awas Yojana Shahri / Urban List 2019 में अपना नाम कैसे देखें ?

दोस्तों, आपको बता दें कि यदि आपने अपना आधार कार्ड नंबर सही-सही भरा होगा केंद्र सरकार ने आपको एक लाभार्थी के रूप में स्वीकृत किया होगा तभी आपका नाम इस सूची में शामिल होगा।

SLNA List कैसे देखें

जो लाभार्थी SLNA (state level nodal agency) List देखना चाहते हैं, वे इस प्रकार से देख सकते हैं-

  • सबसे पहले आपको योजना की official website http://pmaymis.gov.in/ पर जाना होगा।
  • यहां आपके सामने website का होम पेज खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको SLNA List का option दिखाई देगा।
  • आपको इस option पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने नया पेज खुल जाएगा।
  • आपके सामने SLNA List खुल कर आ जाएगी।

केंद्र की ओर से subsidy का प्रावधान

मित्रों, पीएमएवाई (शहरी) list में जिन लाभार्थियों का नाम शामिल होगा, उन्हें केंद्र की ओर से पहली बार खुद का घर खरीदने पर 2.35 लाख से लेकर 2.50 लाख तक ब्याज पर सब्सिडी का प्रावधान किया गया है। आर्थिक रूप से कमजोर तथा निम्न आय वर्ग के लाभार्थियों लिए योजना के तहत 20 साल की अवधि के लिए छह लाख तक का लोन उपलब्ध कराया जाएगा। एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप के व्यक्तियो को 20 साल के लोन पर 4 फीसदी तथा 3 फीसदी की ब्याज सब्सिडी प्रदान दी जाएगी।

सब्सिडी subsidy कैसे कैलकुलेट (calculate) करें

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की official वेबसाइट pmaymis.gov.in पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • यहां आपको सब्सिडी केलकुलेटर (subsidy calculator) के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपके सामने एक फॉर्म जाएगा।
  • इसमें आपको अपनी सालाना आय, लोन की राशि आदि भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको submit के option पर क्लिक करना होगा।
  • इतना करने के बाद सब्सिडी राशि आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी।

एसेसमेंट फॉर्म (assessment form) ऐसे edit करें

  • सबसे पहले आपको PM Awas Yojana की official वेबसाइट pmaymis.gov.in पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • यहां आपको सिटीजन असेसमेंट (citizen assessment) के option पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको एडिट एसेसमेंट फॉर्म के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा।
  • इसमें आपको अपनी एसेसमेंट आईडी assessment ID और मोबाइल नंबर (mobile number) दर्ज करना होगा।
  • अब आपको show के option पर क्लिक करना होगा।
  • आपके सामने एसेसमेंट फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आपको edit के option पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आप एसेसमेंट फॉर्म एडिट कर सकेंगे।

एसेसमेंट फॉर्म किस तरह प्रिंट करें

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की official वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • यहां आपको सिटीजन असेसमेंट (citizen assessment) के option पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको प्रिंट एसेसमेंट के option पर click करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया फॉर्म खुलकर आएगा। इसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब search के option पर क्लिक करना होगा।
  • यहां आपके सामने एसेसमेंट फॉर्म खुल जाएगा।
  • अब आप इस फॉर्म को डाउनलोड (download) करके प्रिंट कर सकते हैं।

किन स्थितियों में अटकती है सब्सिडी?

साथियों, आपको बता दें कि कई लाभार्थियों की प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम (credit linked subsidy scheme) अटक जाती है। वे इसे प्राप्त नहीं कर पाते। ऐसा कई वजहों से होता है, जो कि इस प्रकार हैं-

  • आधार कार्ड के अनुसार अन्य दस्तावेजों में नाम न होने पर।
  • सह मालिक में महिला का नाम न होने पर।
  • यह अनिवार्य है कि आप पहली बार घर खरीद रहे हों। यदि आप पहले घर खरीद चुके हैं तो आपको इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा।
  • यदि किसी व्यक्ति की आय और घर की श्रेणी में अंतर आता है तो उसे क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ नहीं मिलता।

जांच प्रक्रिया में कोरोना की वजह से देरी

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) PMAY (urban) की जांच प्रक्रिया में देरी हो गई थी। जिसकी वजह से इस योजना के लाभार्थियों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा। अब एक बार फिर कोरोना की वजह से यह मामला ठप हो गया है।

योजना के तहत अब तक करीब सवा करोड़ घर बने

मित्रों, आपको बता दें कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अब तक 1.29 करोड घर बनाए जा चुके हैं। इसके अलावा आने वाले 2 साल के भीतर में 94 लाख और पक्के मकान का लक्ष्य है। इस योजना के पहले चरण में लगभग 1 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। और 91.22 लाख पक्के मकान बनवाए गए थे। इन पर कुल 1.13 लाख करोड़ रुपए खर्च किए गए थे।

आपको बता दें कि आवास योजना के दूसरे चरण में 1.23 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य रखा गया था। कुल 91.93 लाख मकान बनवाए गए। इन पर 72 हजार करोड़ रुपए का खर्च आया।

साथियों, आपको बता दें कि इन मकानों में हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध हैं। मसलन स्वच्छ भारत अभियान और मनरेगा के तहत शौचालय, जल जीवन मिशन के तहत हर घर को पेयजल आपूर्ति के लिए नल, सौभाग्य योजना के तहत मुफ्त बिजली कनेक्शन तथा उज्जवला योजना के तहत सभी घरों में रसोई गैस का मुफ्त कनेक्शन।

यदि कोई पैसे की मांग करें तो शिकायत करें

दोस्तों, आपको बता दें कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया में कहीं भी पैसा इन्वाल्व नहीं है। यदि कोई भी अधिकारी इसके लिए आपसे पैसों की मांग करता है तो आप अपने विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन (cm helpline) या आईवीआरएस (ivrs) पर उसकी शिकायत कर सकते हैं। सरकार की ओर से रिश्वत मांगने वालों की संपत्ति जब्त करने का प्रावधान किया गया है।

जियो टैगिंग की सुविधा भी दी जाएगी

PM Awas Yojana के अंतर्गत जियो टैगिंग की सुविधा उपलब्ध कराए जाने की योजना बनाई गई है। इसके लिए सरकार की ओर से एक विशेष अभियान चलाने की बात कही गई है। इसके अलावा आधार सीडिंग की कार्रवाई भी जल्द से जल्द पूरी किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। इस कार्य में लापरवाही करने वालों के खिलाफ सख्त कदम उठाए जाने की बात कही गई है।

लाभार्थियों की श्रेणी का निर्धारण आय के आधार पर

दोस्तों, आप जानते ही हैं कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत तीन वर्गों के लोगों को लोन दिया जाता है। आपको बता दें कि यह श्रेणी लोगों की सालाना आय के हिसाब से निर्धारित की जाती है। लोगों के मन में यह सवाल आता है कि वे किस श्रेणी में आते हैं। इसका निर्धारण इस प्रकार होता है-

आर्थिक कमजोर वर्गआर्थिक कमजोर वर्ग के तहत ₹300000 या फिर उससे कम सालाना आय वाले लोग आते है।
निम्न आय वर्गनिम्न आय वर्ग के तहत ₹300000 से ₹600000 तक की सालाना आय वाले लोग आते है।
मध्यम आय वर्गमध्यम आय वर्ग के अंतर्गत ₹600000 से ₹1800000 तक की वार्षिक आय वाले लोग आते है।

आपको यह भी बता दें कि PM Awas Yojana 2021 का लाभ उठाने के लिए शहरी क्षेत्र के MIG I के लिए लाभार्थी की वार्षिक आय 6 लाख से 12 लाख रुपए के बीच होनी चाहिए। MIG II के लिए वार्षिक आय 12 लाख से 18 लाख के बीच हो |

योजना से अब तक सवा करोड़ रोजगार

साथियों, आपको बता दें कि प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से अब तक 1.20 करोड़ रोजगार पैदा हुआ है। यह रोजगार अधिकांश निर्माण क्षेत्र में है। अब तक इस योजना में 17.7 मिलियन मेट्रिक टन सीमेंट की खपत हुई है। वहीं, 13 मिलियन मेट्रिक टन स्टील की खपत हुई है। दोस्तों, आपको बता दें कि इस योजना के जरिए अब तक 5.8 लाख वरिष्ठ नागरिकों, 3.5 लाख श्रमिकों, एक लाख उद्यमियों, 1.5 लाख कामगारों, 0.63 लाख दिव्यांगों आदि को रोजगार मिला है।

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) से जुड़ी खास खास बातें-

  • जिन लोगों के पास अपना पक्का घर नहीं, ऐसे लाभार्थी इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।
  • देश के आर्थिक रूप से कमजोर, निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आय वर्गो के लाभार्थियों को केंद्र सरकार की ओर से Benefits under 3 components में रखा गया है|
  • योजना के लिए 60,000 करोड़ रुपए का नेशनल अर्बन हाउसिंग फंड आवंटित किया गया है।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग फंड के तहत इनिशियल कॉरपस प्रदान किया जाएगा जो कि 10000 करोड रुपए का होगा।
  • इनकम टैक्स एक्ट के सेक्शन 80-IBA के तहत टैक्स छूट प्रदान की जाएगी।

योजना के संबंध में कोई भी जानकारी यहां से लें

दोस्तों, यदि आप योजना के संबंध में कोई जानकारी हासिल करना चाहते हैं तो इसके लिए हेल्पलाइन पर संपर्क कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर (Helpline Number) इस प्रकार से हैं- 011-23060484, 011-23063285, 011-23061827, 011-23063620, 011-23063567

प्रधानमंत्री आवास योजना से सम्बंधित सवाल जवाब

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) को क्यों आरंभ किया गया?

इसके योजना का प्राथमिक उद्देश्य, देश के प्रत्येक व्यक्ति को उसका पक्का घर मुहैया कराना है।

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की आधिकारिक वेबसाइट का लिंक क्या है?

इस वेबसाइट का लिंक है- pmaymis.gov.in

क्या इस योजना का लाभ कोई भी व्यक्ति उठा सकता है?

केंद्र सरकार ने सालाना आय के आधार पर लाभार्थियों की श्रेणी निर्धारित की है, उसी के आधार पर योजना का लाभ दिया जाएगा।

योजना के संबंध में कोई सवाल होने पर कहां संपर्क किया जा सकता है?

इसके लिए केंद्र की ओर से कुछ हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। इनकी जानकारी पोस्ट में दी गई है। इन पर संपर्क किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) कब तक चलेगी?

इसके लिए 2022 तक का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

दोस्तों, यह थी प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2021: PMAY List (pmaymis.gov.in), पीएमएवाई सूची संबंधी जानकारी। यदि आप इसी तरह के किसी अन्य जनहित से जुड़े विषय पर हम से जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भेज सकते हैं। उम्मीद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी साबित होगी। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment