पटवारी कैसे बने? पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करें? How to become Patwari

पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करें? हमारे देश भारत में बेरोजगारी का आलम यह है कि एक-एक पद के लिए हजारों, लाखों आवेदक लाइन में हैं। और हाल इतना बुरा है कि अगर किसी पद के लिए योग्यता 12वीं पास है तो उसके लिए पीएचडी पास अभ्यर्थी भी आवेदन कर रहे हैं। नौकरी मिलना असमान से तारे तोड़ लेने के बराबर हो गया है। हाल ही में ऐसे कई उदाहरण देखे गए, जब नगर निगम के नाला गैंग लीडर के पद के लिए एमबीए पास अभ्यर्थियों तक ने आवेदन किया।

दोस्तों, पटवारी का पद भी एक ऐसा ही पद है जिसके लिए हजारों की संख्या में अभ्यर्थी आवेदन करते हैं। आज इस post के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि पटवारी कौन होता है? वह क्या करता है? पटवारी कैसे बना जा सकता है? पटवारी बनने के लिए क्या योग्यता चाहिए? भर्ती परीक्षा के लिए तैयारी कैसे करें? आदि। आइए शुरू करते हैं-

पटवारी कौन होता है? पटवारी क्या करता है?

दोस्तों, पटवारी का पद राजस्व विभाग में सृजित होता है। उसके पास आय, जाति, आयु प्रमाण पत्र बनाने के साथ ही जमीन की पैमाइश कराने का जिम्मा होता है। उसकी नियुक्ति तहसील में होती है। उसे एक क्षेत्र सौंपा जाता है, जिसमें जमीन यानी भूमि से जुड़ी तमाम समस्याओं के निपटारे का जिम्मा पटवारी के ऊपर होता है। इसे अलग-अलग राज्यों में अलग अलग नामों से पुकारा जाता है। कहीं पटवारी तो कहीं लेखपाल और कहीं शानबोगस या किसी अन्य नाम से।

आपको बता दें कि जमीन की खरीद बिक्री पटवारी की ही मदद से होती है। वहीं, राजस्व अभिलेखों को अपडेट करने का महत्वपूर्ण कार्य भी पटवारी ही करता है। और इसके साथ ही भूमि का आवंटन भी उसी के जिम्मे है। दोस्तों, अगर किसी जगह आपदा आती है तो आपदा के वक्त राहत और बचाव अभियान में भी पटवारी सक्रिय भूमिका अदा करता है।

पटवारी कैसे बनें? पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

पटवारी बनने के लिए शैक्षिक योग्यता क्या है?

दोस्तों, पटवारी कहिए, लेखपाल या शानबोगस। पटवारी बनने के लिए शैक्षिक योग्यता निर्धारित है। इसके लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों को 12 वीं पास होना चाहिए। साथ ही उसके पास एनआईईआईएलआईटी का कोर्स ऑन कंप्यूटर कॉन्सेप्ट्स यानी सीसीसी सर्टिफिकेट होना जरूरी है।

पटवारी बनने के लिए आयु कितनी होनी चाहिए? What should be the age to become a patwari?

साथियों, अब हम आपको बताएंगे कि पटवारी बनने के लिए आयु संबंधी योग्यता क्या है। दोस्तों, इसके लिए न्यूनतम आयु 18 साल और अधिकतम उम्र 40 वर्ष निर्धारित की गई है। आपको यह भी बता दें कि इसमें विभिन्न राज्यों में आरक्षित वर्ग के लिए आयु में छूट का प्रावधान किया गया है। किसी जगह यह छूट तीन साल की है तो किसी स्थान पर पांच साल तक की छूट का प्रावधान किया गया है। इस संबंध में सारी जानकारी सरकार की ओर से पटवारी भर्ती के लिए जारी अधिसूचना में दी गई होती है। इसी के अनुसार भर्ती को अंजाम दिया जाता है।

पटवारी का वेतन क्या है? What is Patwari’s salary?

अब आते हैं पटवारी के वेतन पर। दोस्तों, यदि पटवारी पद पर वेतन की बात करें तो यह 5,200 से लेकर 20,200 ग्रेड पे 2,100 है। यानी एक पटवारी को 25 हजार के करीब वेतन प्राप्त होता है। ज्यादातर अभ्यर्थी पटवारी पद से जुड़े कार्यों के आकर्षण में भी इस पद के लिए बढ़ चढ़कर आवेदन करते हैं।

पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करे?

दोस्तों, पटवारी बनने के लिए अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा में शामिल होना जरूरी है। पहले इसमें इंटरव्यू भी लिया जाता था, लेकिन बाद में इसको समाप्त कर दिया गया। सरकार पटवारी भर्ती के संबंध में अधिसूचना जारी करती है। इसमें पटवारी पद के लिए आवश्यक योग्यता, पद संख्या, परीक्षा आदि के संबंध में जानकारी दी गई होती है। इसके आधार पर आवेदक पद के लिए आवेदन करते हैं। आवेदन के बाद परीक्षा आयोजित की जाती है।

इसके पश्चात परीक्षा का परिणाम घोषित होता है। इसके आधार पर मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है। इसके अनुक्रम में बेहतरीन अंक प्राप्त करने वालों का डाक्यूमेंट वेरीफिकेशन किया जाता है। वेरीफिकेशन में डाक्यूमेंट्स के सही पाए जाने पर संबंधित अभ्यर्थियों को बुलावा पत्र भेज दिया जाता है।

परीक्षा पैटर्न क्या है?

दोस्तों, अब हम आपको इस परीक्षा के पैटर्न के संबंध में जानकारी देंगे। साथियों, परीक्षा में चार विषयों से जुड़े प्रश्न होते हैं। ये हैं-सामान्य हिंदी, गणित, सामान्य ज्ञान और ग्राम समाज एवं विकास। साथियों, हर विषय से 25-25 अंकों के सवाल आते हैं। प्रत्येक प्रश्न के लिए एक इस है। हर एक प्रश्न के लिए एक-एक अंक निर्धारित है। तो मित्रो, इस तरह प्रश्न पत्र में 100 सवाल आते हैं, जो 100 अंकों के होते हैं।

परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न, निगेटिव मार्किंग का प्रावधान –

दोस्तों, पटवारी पद के लिए होने वाली परीक्षा में बहुविकल्पीय प्रश्न आएंगे। परीक्षा की अवधि डेढ़ घंटे की होती है। इस परीक्षा में निगेटिव मार्किंग का प्रावधान किया गया है। इसका अर्थ यह है कि अगर आपने कोई ग़लत जवाब दिया तो उसके लिए आपके सही जवाब के अंकों में कटौती कर ली जाएगी।

आफलाइन आयोजित की जाएगी परीक्षा –

साथियों, आपको यह भी बता दें कि जहां इस वक्त हर विभाग में आनलाइन परीक्षा का दौर है, वहीं पटवारी पद के लिए ऑफलाइन मोड में परीक्षा का आयोजन किया जाता है। परीक्षा ओएमआर शीट के जरिए ली जाती है। जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि परीक्षा के लिए सरकार अधिसूचना जारी करती है। इसमें पद की योग्यता और संख्या समेत आवेदन की संपूर्ण जानकारी दी जाती है। जिसके आधार पर अभ्यर्थी आवेदन करता है।

पटवारी परीक्षा प्रश्न पत्र का विषय विवरण | Subject Description of Patwari Exam Question Paper –

साथियों, अब हम आपको बताएंगे प्रश्नपत्र के विषय विस्तार के बारे में। यह इस प्रकार से है-

सामान्य हिंदी-

अलंकार, विलोम, पर्यायवाची, रस, संधि, तद्भव समान, वचन, कारक, काल, लोकोक्ति, मुहावरे, वाक्य के लिए एक शब्द, अनेकार्थी शब्द, वाक्य-संशोधन-वचन, वर्तनी।

गणित-

आवृत्ति, आवृत्ति वितरण, सारणीकरण, संचयी आवृत्ति, तथ्यों का निर्धारण, बार चार्ट, पाई चार्ट, हिस्टोग्राम, आवृत्ति बहुभुज, केंद्रीय माप, समानांतर मीन, माध्य और मोड, बहुपद, संख्या प्रणाली, प्रतिशत, लाभ हानि, सांख्यिकी, तथ्यों का वर्गीकरण, एलसीएम और एचसीएफ के बीच संबंध, एलसीएम और एचसीएफ, समकालीन समीकरण, कारक क्षेत्र, प्रमेय, आयत स्क्वायर ट्रैपिजियम, मिलो ग्राम की परिधि और क्षेत्र, त्रिभुज, पाइथागोरस प्रमेय, परिधि, सर्किल एरिया।

सामान्य ज्ञान-

भारतीय इतिहास, स्वतंत्रता आंदोलन, भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल और जनसंख्या। राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के मामले, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और विशेषताएं, भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के तहत राष्ट्रवाद का उदय, वित्तीय सामाजिक धार्मिक प्रभाव, राजनीतिक दल, भौतिक, पारिस्थितिकी, आर्थिक, सामाजिक मामले, जनसांख्यिकीय मुद्दे।

ग्राम समाज एवं विकास-

ग्राम विकास अनुसंधान, ग्राम स्वास्थ्य योजना, ग्राम समाज, ग्राम विकास, भारत ग्राम विकास कार्यक्रम और प्रबंधन विकास।

पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

दोस्तों, पटवारी भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे की जाए, अब हम आपको इससे जुड़े कुछ मंत्र देंगे। आइए शुरू करते हैं-

  • सबसे पहले आप पुराने प्रश्न पत्रों को हल करने की कोशिश करें। इससे आपको परीक्षा पैटर्न का अंदाजा होगा। इसके साथ ही प्रश्न पत्रों को हल करने से आपको निर्धारित अवधि में सवाल हल करने की प्रैक्टिस होगी।
  • इसके अलावा आप एक टाइम टेबल (समय सारणी) बनाएं। इसमें प्रत्येक विषय के लिए समान समय निर्धारित करें। यदि किसी विषय में आप कमजोर हैं तो उसके लिए अधिक समय निर्धारित कर सकते हैं। यह आपके लिए लाभदायक रहेगा।
  • आप अपनी तैयारी के लिए इंटरनेट की मदद ले सकते हैं। यूट्यूब पर भर्ती परीक्षा की तैयारी से जुड़े वीडियो देख सकते हैं। आनलाइन mock test में शामिल हो सकते हैं। आपको बता दें कि कई website मुफ्त में mock test में शामिल करती हैं, जबकि कुछ इसके लिए fee charge करती हैं।
  • आप भर्ती परीक्षा में सफल होने के लिए इसमें कामयाब होने वाले अभ्यर्थियों की बातचीत को भी पढ़ सकते हैं। यह बातचीत कई वेबसाइट और मैगजीन ओं में प्रकाशित होती है। इसके अलावा इस बातचीत से आप टिप्स भी ग्रहण किए जा सकते हैं।
  • साथियों, आपको बता दें कि कई छोटे शहरों में पटवारी भर्ती परीक्षा के लिए कोचिंग भी आयोजित की जाती है। कई कोचिंग सेंटर यह कोचिंग कराते हैं। आप चाहें तो यह सुविधा भी ले सकते हैं। आप इस परीक्षा में सफल होने के लिए विशेषज्ञों से आनलाइन टिप्स भी ले सकते हैं।
  • जैसा कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि इस परीक्षा में निगेटिव मार्किंग का प्रावधान है, लिहाजा, अपनी तैयारी पुख्ता करें। अगर आपको किसी सवाल का जवाब नहीं आता तो उसे छोड़ देने में ज्यादा समझदारी है। बजाय इसके कि तुक्का मारा जाए।
  • क्योंकि तुक्के की स्थिति में इस बात की आशंका है कि यदि आपका जवाब गलत हुआ तो सही जवाब के लिए मिले अंकों से हाथ धोना पड़ेगा।

हजारों उच्च शिक्षा प्राप्त युवा करते हैं आवेदन

मित्रों, पटवारी भर्ती परीक्षा में शामिल होने के लिए हजारों अभ्यर्थी आवेदन करते हैं। इनमें बारहवीं पास ही नहीं, बल्कि बड़ी संख्या में उच्च शिक्षा प्राप्त युवा आवेदन करते हैं। ऐसा इसलिए भी है क्योंकि हमारे देश में बेरोजगारी की दर बहुत ज्यादा है।

पटवारी भर्ती परीक्षा भी घोटालों से मुक्त नहीं

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि पटवारी का काम जमीन की पैमाइश से जुड़ा है। ऐसे में यह पद अक्सर विवादों से घिरा रहता है। पटवारी पर कई बार पैसा लेकर गड़बड़ी करने के आरोप लगते हैं। हाल ही में उत्तराखंड के रुड़की में पटवारी का घूस लेकर जमीन की पैमाइश के दौरान एक पक्ष को लाभ पहुंचाने का मामला बेहद चर्चा में रहा। इतना ही नहीं दोस्तों, भर्ती परीक्षा में भी बड़े घोटाले सामने आते हैं। यह देखा गया है कि रिश्वत लेकर अभ्यर्थियों की नियुक्ति करा दी जाती है। ऐसे कई घोटाले हाल में खुले हैं जिसके बाद उन पर जांच बैठी है। कई राज्यों के मामलों में जांच अभी चल ही रही है।

प्रश्न उत्तर

पटवारी क्या कौन होता है?

पटवारी ग्राम लेवल का एक सरकारी अधिकारी होता है। जो राजस्व विभाग से सबंधित कार्य जैसे आय, जाति, निवास प्रमाण आदि बनाने कार्य करता है। इसके साथ ही पटवारी भूमि से जुड़े विवाद का निपटारा भी करता है।

पटवारी बनने की आयु सीमा कितनी है

पटवारी (लेखपाल) बनने के लिए 18 से 40 बर्ष की आयु निर्धारित की गई है। आयु सीमा आरक्षण के हिसाब से अलग-अलग भी हो सकती है।

पटवारी (लेखपाल) का वेतन कितना होता है?

पटवारी को प्रतिमाह 7वे वेतन आयोग के अनुसार 20000 रुपये से लेकर 35000 रुपये वेतन दिया जाता है।

पटवारी बनने के लिए कौन सी डिग्री होनी चाहिए?

पटवारी बनने के लिए लाभार्थी 12वी पास होना चाहिए।

क्या पटवारी बनने के लिए इंटरव्यू भी देना होता है?

जी हाँ, पटवारी बनने के लिए आपको लिखित परीक्षा के पास करने बाद इंटरव्यू ही देना होता है। लेकिन कुछ राज्यों में इसे समाप्त कर दिया गया है।

पटवारी और लेखपाल में क्या अंतर है?

पटवारी और लेखपाल में कोई अंतर नही है। बस पटवारी अधिकारी को अन्य कई नामो से भी जाना जाता है। जैसे उत्तर प्रदेश में लेखपाल के नाम से जाना जाता है।

तो दोस्तों, यह थी पटवारी पद से जुड़ी सारी जानकारी। हम आशा करते हैं कि आपको यह post पसंद आई होगी। आपके लिए ज्ञानवर्धक साबित हुई होगी। अगर आप पटवारी पद से जुड़े किसी अन्य पहलू पर जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए हम तक अपनी बात नीचे दिए गए comment box के जरिए पहुंचा सकते हैं। यदि आप किसी अन्य विषय पर जानकारी चाहते हैं तो भी नीचे दिए comment box में comment करके हमें अवगत करा सकते हैं।

दोस्तों, अगर आपके पास कोई सुझाव है और आप उसे हमसे साझा करना चाहते हैं तो भी बेझिझक कर सकते हैं। तरीका आप समझ ही गए होंगे। जी हां, इसके लिए आपको हमें अपनी बात नीचे दिए गए comment box में comment करके पहुंचानी होगी। आपकी टिप्पणी, प्रतिक्रिया, सुझाव का हमें इंतजार रहेगा। ।। धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment