पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in

हर इंसान जीवन को सही तरीके से चलाने के लिए बल्कि जीवन को बेहतर बनाने के लिए कठोर परिश्रम करता है। जीवन में जितनी भी कठिनाई आती हैं, उन कठिनाइयों को इंसान अपने संघर्ष के माध्यम से दूर कर देता है। किसान हमारे देश का अभिन्न अंग है। हमें जो अन्न प्राप्त होता है, वह सब उन्हीं की बदौलत है। सरकार ने हमेशा किसानों के हित के लिए वाजिब कदम उठाए हैं जिससे किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा हो सके। जीवन में आने वाली कठिनाइयों को किसान भी दूर कर सकते हैं। ऐसे ही उत्तर प्रदेश सरकार ने किसानों के हित के लिए पारदर्शी किसान सेवा योजना का शुभारंभ किया है, जो कि किसानों के हित में कार्य करती है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? What is Transparent Farmer Service Scheme?

कई बार ऐसा देखा जाता है कि किसानों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। यदि बारिश कम हो या बारिश ज्यादा हो, तब भी उन्हें होने वाली हानि का अंदाजा नहीं लगाया जा सकता है। कभी-कभी फसलों का सही प्रकार से वृद्धि नहीं हो पाना भी उनकी समस्याओं का मुख्य कारण होता है। इन सब समस्याओं को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने किसान विकास सेवा योजना का शुभारंभ किया है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना के अंतर्गत किसानों को कृषि की उत्पादकता में वृद्धि करना होगा। कृषि के विकास की दर को बढ़ाने का कार्य किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को मजबूत बनाकर उनकी आर्थिक स्थिति को सही करना है, जिससे उनकी समस्याएं कम हो सके।

पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in

किसान पारदर्शी सेवा योजना का उद्देश्य – Objectives of transparent farmer service scheme

दोस्तों, पारदर्शी किसान सेवा योजना का उद्देश्य उत्तर प्रदेश के किसानों को आर्थिक लाभ पहुंचाना है। इसके लिए किसानों को कृषि व्यवसाय पर कृषि संबंधी अनुदान आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किया जाएगा, जो किसानों की बेहतरी के लिए होगा। इस योजना का उद्देश्य किसानों को शुरू की गई सेवाओं का लाभ उठाना भी होता है, इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त राज्य सरकार ने प्रदेश के क्षेत्रीय असंतुलन को भी दूर कर सकते हैं। इस योजना के तहत किसानों को रोजगार के नए अवसर भी प्रदान होते हैं तथा पारदर्शी किसान सेवा योजना में बंजर भूमि को उपजाऊ बनाने का भी कार्य किया जाता है, जो कृषि के क्षेत्र में बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना पंजीकरण कैसे करें? How to register for Transparent Kisan Seva Yojana?

यह योजना किसानों के हित के लिए शुरू की गई है। इसके माध्यम से किसान अपने हित को ध्यान में रखकर फैसले ले सकते हैं।

  • सर्वप्रथम आवेदक को पारदर्शी किसान सेवा योजना कृषि विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट upagripardarshi.gov.in पर जाना होगा। आप चाहें तो यहाँ क्लीक करके डायरेक्ट जा सकतें हैं। जब किसान वेबसाइट पर जाएंगे, तो एक होम पेज खुल जाता है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in

  • इस होम पेज में जाने पर किसान पंजीकरण का विकल्प दिखाई देता है। इस विकल्प पर क्लिक करने पर अगला पेज खुल जाता है। इस पेज पर पंजीकरण फॉर्म होता है, जो खुल जाता है।
  • पंजीकरण में अपनी सारी जानकारी नाम, पता, आधार कार्ड नंबर, बैंक अकाउंट डिटेल भरना होगा। सभी जानकारी भरने पर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद फॉर्म पूरा हो जाएगा और पोर्टल में मिलने वाली सभी सुविधाओं का फायदा उठाया जा सकेगा।

किसान पारदर्शी सेवा योजना के लिए अनिवार्य दस्तावेज – Necessary documents for transparent farmer service scheme

पारदर्शी किसान सेवा योजना के लिए कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता होती है –

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • राशन कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • किसान के पास स्वयं की भूमि का खाता नंबर भी होना चाहिए
  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी हो
  • आवेदक का बैंक अकाउंट नंबर

ये भी पढ़ें –

उत्तर प्रदेश पारदर्शी किसान सेवा योजना का लाभ – Benefits of Uttar Pradesh Transparent Farmer Service Scheme

इस योजना के पंजीकरण से किसानों को आर्थिक स्तर पर लाभ होते हैं, जो जीवन स्तर को ही सही तरीके से फायदा पहुंचाते हैं

  1. यह योजना मुख्य रूप से उत्तर प्रदेश के किसान भाइयों को प्रदान किया गया है।
  2. इस योजना के माध्यम से किसान फसलों की तकनीकी गुणवत्ता के बारे में सीख सकते हैं।
  3. किसानों को जितनी भी राशि प्राप्त होगी, वह सीधे ही बैंक अकाउंट में पहुंचा दी जाएगी।
  4. इस योजना के तहत किसानों को बीज यंत्र तथा कृषि रक्षा रसायनो संबंधित अनुदान प्राप्त कर सकते हैं।
  5. किसानों को किसी प्रकार की समस्या होने पर भी शिकायत की जा सकती है।

किसान पारदर्शी सेवा योजना पर उपलब्ध सेवाएं – Services available on Transparent Kisan Seva Yojana Portal

इस योजना के अंतर्गत किसानों को बहुत सारे सुविधा प्रदान की जाती हैं, जो आगे चलकर उनके लिए फायदेमंद साबित हो सकती हैं

  • किसान क्रेडिट कार्ड
  • उन्नतशील खेती के तरीके
  • असली खाद को पहचानना
  • मिट्टी के रंग की पहचान
  • कृषि उपयोगी यंत्र
  • कृषि को को देय सुविधाएं
  • फसलों को होने वाले रोग की पहचान

ये भी पढ़ें –

पारदर्शी किसान सेवा पोर्टल पर अपनी शिकायत कैसे दर्ज करें? How to file your complaint on the transparent Kisan Seva Portal?

इस योजना में होने वाली शिकायतों को भी दूर किया जा सकता है। इन शिकायतों को ऑनलाइन के माध्यम से भी दूर कर सकते हैं

  1. इसके लिए उत्तर प्रदेश के कृषि विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट upagripardarshi.gov.in पर क्लिक करें। आप चाहें तो यहाँ क्लीक करके डायरेक्ट जा सकतें हैं।
  • क्लिक करने पर सामने होम पेज खुल जाता है। इस होम पेज पर आपको “संपर्क करें “का विकल्प दिखाई देगा, यहां पर आपको “शिकायत दर्ज करें” के विकल्पों को क्लिक करना होगा।

पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in

  • जैसे ही क्लिक करेंगे तो अगला पेज खुल जाता है जिसमें एक फॉर्म मिलता है। उस फॉर्म में सारी जानकारी जैसे नाम, पता, जनपद, विषय, शिकायत, फोन नंबर, कैप्चा कोड भरना होगा।
  • जानकारी भरने के बाद “सुरक्षित करें” बटन पर क्लिक करें। इस माध्यम से आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं और आपको समाधान भी मिल जाएगा।

पारदर्शी किसान सेवा योजना अपने शिकायत की स्थिति कैसे देखें? How to check the status of your complaint on the transparent Kisan Seva Yojana Portal?

यदि आप अपनी शिकायत की स्थिति देखना चाहते हैं, तो वह भी बड़ी आसानी से किया जा सकता है

  • इसके लिए सर्वप्रथम कृषि विभाग की ऑफिशल वेबसाइट upagripardarshi.gov.in पर क्लिक करें। आप चाहें तो यहाँ क्लीक करके डायरेक्ट जा सकतें हैं।
  • क्लिक करने पर होम पेज खुल जाता है।

पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in

  • इस पेज पर “संपर्क करें” के विकल्पों में “शिकायत की स्थिति” के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही ऑप्शन पर क्लिक करेंगे, तो अगले पेज में अपनी शिकायत संख्या को दर्ज करना होगा।
  • उसके बाद “खोजे” के बटन पर क्लिक करना होगा। यह प्रक्रिया होने के बाद आप अपने शिकायत की स्थिति को आसानी से देख पाएंगे।

लक्ष्य से भटकाव –

किसान पारदर्शी योजना के तहत यह देखा गया है कि कभी-कभी लक्ष्य से भटकाव भी होने लगता है। यह योजना किसानों के हित के लिए शुरू की गई है फिर भी बहुत से किसान ऐसे हैं, जो इस पंजीकरण प्रक्रिया में पीछे रह जाते हैं। यहां पर यह कहा जा सकता है कि अभी भी किसानों में जागरूकता की कमी देखी गई है, जहां पर विभागीय स्तर पर भी लापरवाही बरती जा रही है। पारदर्शी किसान सेवा योजना का लाभ किसानों को मिल पाएगा जिन्होंने पंजीकरण करवाया हो पर अभी भी ऐसे किसान हैं, जिन्होंने पंजीकरण करवाया ही नहीं है। किसानों को मिलने वाली सुविधाओं का लाभ आसानी से मिल पाएगा इसके लिए किसानों को जागरूक होने की आवश्यकता है।

पंजीकृत किसान होने के फायदे – Benefits of being a registered farmer

यदि कोई किसान पंजीकृत हो जाता है, तो इसके भी कई प्रकार के फायदे किसान व उसके परिवार को मिल पाते हैं

1) राज्य सरकार को यह बात समझ आ जाती है कि आप एक किसान हैं?

किसान पंजीकरण होने से किसी अप्रिय प्रकार की स्थिति नहीं रहती हैं और सही रूप से किसानों को लाभ मिलने लगता है।

2) किसानों का अपने लाभ से वंचित ना होना

किसानों को पंजीकृत होने से कोई भी किसान अपने लाभ से वंचित नहीं हो पाएगा। किसानों को मिलने वाला लाभ सीधे ही उनके बैंक अकाउंट में आ जाएगा।

3) आगामी योजना के लिए किसान को प्राथमिकता देना

यदि किसान पंजीकृत है, तो आने वाली योजना के लिए प्राथमिकता जरूर मिल पाएगी जो भविष्य में फायदेमंद होगी।

4) सुझाव एवं शिकायत

पंजीकृत होने पर किसान को शिकायत करने या किसी प्रकार का सुझाव का भी अधिकार मिल जाता है। यह फैसला किसानों के हित में है।

कृषि विभाग की महत्वपूर्ण सूचनाएं – Important information of Agriculture Department

  • इसके अंतर्गत समस्त भुगतान पारदर्शी किसान योजना के पोर्टल से करने के संबंध में होता है।
  • इसके माध्यम से पोर्टल से किसानों को भुगतान के संबंध में दिशा निर्देश मिलते हैं।
  • इसमें कृषि रक्षा उपकरण के अनुदान के सरलीकरण में सहयोग होता है।
  • कृषि विभाग की सभी योजना हेतु प्रक्रिया एवं दिशा निर्देशों के संबंध में है।

यदि किसानों ने किसान पारदर्शी सेवा योजना पंजीकरण ना कराया हो –

किसानों का पंजीकरण कराना आवश्यक हो गया है। उत्तर प्रदेश में पारदर्शी किसान सेवा योजना किसानों की बेहतरी के लिए लागू किया गया है। यदि कारणवश पंजीकरण नहीं कराया गया हो, तो इससे किसानों को मिलने वाली सुविधा नहीं मिल पाएगी। पंजीकरण ना होने से नई तकनीकों का ज्ञान बीजों के बारे में जानकारी नहीं मिल पाती है। ऐसी स्थिति में किसानों के बैंक खाते में लाभ की राशि नहीं पहुंच पाएगी जिससे उनके परिवार को इस राशि से मिलने वाला सहयोग भी नहीं प्राप्त होगा, जिससे अपना सामाजिक व आर्थिक जीवन प्रभावित होगा।

अंतिम शब्द –

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित पारदर्शी विकास सेवा योजना किसानों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण योजना है। महत्वपूर्ण इसलिए भी है क्योंकि इसके माध्यम से किसान अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत कर पाएंगे। उत्तर प्रदेश सरकार ने आज से पहले कई प्रकार की योजनाएं किसानों के लिए हैं परंतु योजना किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभान्वित कर सकती है। राज्य के किसान भाइयों को एकजुट होकर अपने अधिकार जरूर लेने चाहिए।

राज्य की पारदर्शी विकास सेवा योजना किसानों को पूरे अधिकार प्रदान करती हैं। ज्यादा संख्या में राज्य के किसानों को इसका लाभ उठाकर भविष्य को सुरक्षित करना चाहिए। इस योजना से अपने परिवार की जिम्मेदारियां भी सही तरीके से पूर्ण करने में सहयोग मिल सकता है अतः किसानों को जागरूक होकर इस योजना से लाभान्वित रहना होगा। तो चुप ना जाओ जी।

तो दोस्‍तों यह थी मेरी आज की पोस्‍टपारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in यदि आपके मन में पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया से संबंधित कोई अन्‍य प्रश्‍न है। तो आप हमसे बिना किसी झिझक के कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं। आपके प्रश्‍नों का हर संभव उत्‍तर देने का प्रयास किया जाएगा।धन्यवाद

Spread the love

अनुक्रम

2 thoughts on “पारदर्शी किसान सेवा योजना क्या है? किसान पंजीकरण, रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, upagripardarshi.gov.in”

Leave a Comment