नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2021: नई MGNREGA कार्ड सूची, NREGA Card रजिस्ट्रेशन

मनरेगा ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए रोजगार का एक जरिया है। बीपीएल परिवारों को अपने घर के नजदीक ही रोजगार मुहैया कराने के लिए केंद्र सरकार मनरेगा योजना लेकर आई थी। यह योजना देश भर में लागू है। आज इस पोस्ट के जरिए हम आपको नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2021: नई MGNREGA कार्ड सूची, NREGA Card रजिस्ट्रेशन से जुड़ी जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

नरेगा (NREGA) क्या है?

नरेगा जॉब कार्ड (NREGA) (राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम) को 2 अक्टूबर, 2005 को पारित किया गया था। भारत में इसकी शुरुआत सबसे पहले 2 फरवरी, 2006 को आंध्र प्रदेश के बांदावाली जिले के अनंतपुर गांव में की गई। शुरुआत में इस योजना को लगभग 200 जिलों में लागू किया गया। बाद में इसे एक अप्रैल, 2008 को पूरे देश में लागू कर दिया गया।

यह योजना प्रत्येक वित्तीय वर्ष में किसी भी ग्रामीण परिवार के वयस्क सदस्यों को घर से पांच किलोमीटर के दायरे में आवश्यक रूप से 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराती है। 2009 में इस योजना का नाम बदलकर इसे मनरेगा (MNREGA) कर दिया गया।

नरेगा जॉब कार्ड योजना डिटेल्स

योजना का नाम नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2021
इनके द्वारा शुरू की गयी केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थी सभी राज्यों के नरेगा जॉब कार्ड धारक
विभाग भारत के ग्रामीण विभाग सरकार का मंत्रालय
लिस्ट देखने का तरीका ऑनलाइन
ऑफिसियल वेबसाइट https://nrega.nic.in/netnrega/home.aspx
नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2021, NREGA Card रजिस्ट्रेशन

नरेगा जॉब कार्ड योजना का उद्देश्य

मित्रों, जैसा कि हमने आपको बताया कि यह योजना प्रत्येक वित्तीय वर्ष में किसी भी ग्रामीण परिवार के वयस्क सदस्यों को 100 दिन का रोजगार उपलब्ध कराती है। दरअसल, नरेगा को ग्रामीण लोगों की क्रय शक्ति को बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू किया गया था। मकसद अर्ध-कुशल या अकुशल कार्य प्रदान कर रोजगार मुहैया कराना है। इसके लिए श्रमिकों को एक जाब कार्ड प्रदान किया जाता है।

मनरेगा के तहत आने वाले कार्य

दोस्तों, मनरेगा के तहत श्रमिकों से कई तरह के कार्य कराए जाते हैं। इनमें से कुछ इस प्रकार से है-

  • पौधरोपण।
  • जल संरक्षण।
  • सूखे की रोकथाम।
  • बाढ़ नियंत्रण।
  • भूमि विकास।
  • आवास निर्माण।
  • लघु सिंचाई।
  • बागवानी।
  • ग्रामीण सम्पर्क मार्ग निर्माण।

इसके अलावा भी कई कार्य हैं, जो मनरेगा के तहत जाब कार्ड धारक श्रमिकों से कराए जाते हैं।

नरेगा जाब कार्ड क्या है?

नरेगा के तहत रोजगार प्राप्त करने वाले पंजीकृत परिवारों को ग्राम पंचायत की ओर से एक रोजगार पत्र यानी जॉब कार्ड (job card) जारी किया जाता है। आपको बता दें कि इस कार्ड में संबंधित लोगों का पूरा ब्यौरा होता है। यह कार्ड पत्र जारी होने की तिथि से लेकर 5 वर्ष तक के लिये वैध होता है। प्रत्येक 5 वर्ष की समाप्ति के पश्चात एक माह के अंदर ग्राम पंचायत द्वारा इसे renew कराया जा सकता है।

दोस्तों, आपको बता दें कि जॉब कार्ड बीपीएल सर्वे (bpl survey) पर आधारित होता है। जॉब कार्ड में किसी भी प्रकार का परिवर्तन चाहते हैं तो ग्राम पंचायत कर सकती है। आपको जानकारी दे दें कि कार्ड गुम होने, खराब होने पर निर्धारित शुल्क जमा करके नया कार्ड बनवाया जा सकता है।

नरेगा जॉब कार्ड के लिए आवेदन कैसे करे – (NREGA Card Registration)

मनरेगा जॉब कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन कराने के इच्छुक इसके लिए आनलाइन (online) आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें एक निर्धारित प्रक्रिया का पालन करना होगा, जिसके steps इस प्रकार से हैं-

Total Time: 20 minutes

आवेदक को सबसे पहले मनरेगा की official website mnrega.nic.in पर जाना होगा। इसके होम पेज (home page) पर आपको Gram Panchayat का सेक्शन दिखाई देगा।

अब आपको इस सेक्शन में से Data Entry के option पर क्लिक करना होगा। इतना करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।NREGA Card registration

यहां से आपको अपना स्टेट चुनना होगा। इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा। इसके बाद आपके सामने login form खुल जाएगा।NREGA Card registration online

इस फॉर्म में आपको Financial Year, District, Block , Panchayat चुनने के बाद User ID और Password डालना होगा। इतना करने के बाद निर्धारित स्थान पर कैप्चा कोड भरना होगा।NREGA Card registration online in hindi

इसके पश्चात आपको Login के option पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा।

इस पेज पर आपको Registration & Job Card के option पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपको आपको BPL Data के option पर क्लिक करना होगा।

अब आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा। इस फॉर्म में पूछी गई सारी जानकारी आपको सही सही भरनी होगी।

इसके बाद आपको save के option पर क्लिक करना होगा। अब आपके सामने नया पेज खुल जाएगा। यहां आपको आपका रजिस्ट्रेशन नंबर मिल जाएगा।

नरेगा जाब कार्ड के लिए आफलाइन आवेदन कैसे करें?

  • इसके लिए सबसे पहले अपने ग्राम प्रधान के पास जाएं।
  • अपने साथ नरेगा जॉब कार्ड आवेदन से जुड़े दस्तावेज भी ले लें।
  • ग्राम प्रधान आवेदक के सभी दस्तावेज संबंधित कार्यालय में दिए जाते हैं।
  • इसके बाद आवेदक का नाम नरेगा कार्ड लिस्ट में दर्ज कर दिया जाता है।
  • इस प्रकार मनरेगा जॉब कार्ड आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

नरेगा जॉब कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज-

साथियों, आपको बता दें कि जाब कार्ड बनवाने के लिए आवेदक को कुछ दस्तावेज आवश्यक हैं, जो कि इस प्रकार से हैं-

  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • पहचान पत्र
  • राशन कार्ड
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर

कार्ड परिवार के केवल पांच सदस्यों के लिए बनता है

साथियों, आपको बता दें कि यह योजना ग्रामीण क्षेत्रों के बेरोजगार लाेगों के लिए ही चलाई गई है। शहरी क्षेत्रों के लोगों के लिए यह योजना नहीं हैं। आपको बता दें कि नरेगा का यह जाब कार्ड परिवार के केवल पांच सदस्यों तक के लिए बनता हैं।

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखें?

मित्रों, अब हम आपको बताएंगे कि आप नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देख सकते हैं। आपको बता दें कि आप देश के चाहे किसी भी राज्य राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, गुजरात, उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र, झारखण्ड, छत्तीसगढ़ आदि से हों, मनरेगा लिस्ट आसानी से देख सकते हैं। चाहे अपने मोबाइल पर या कम्प्यूटर पर भी। इसके लिए आपको निम्न प्रक्रिया का पालन करना होगा-

  • सबसे पहले आपको मनरेगा की official website mnrega.nic.in पर जाना होगा।
  • इसके बाद अपना state और अपना जिला चुन लें।
नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखें?
  • अब आपके सामने नरेगा की साइट ओपन हो जाएगी। अब आपको जिस भी वर्ष की सूची देखनी हो, उसे select कर लें।
  • इसके बाद ब्लॉक यानि तहसील/पंचायत समिति को select करें। आखिर में आपको अपनी ग्राम पंचायत चुननी हैं। इसके बाद Proceed के option पर क्लिक कर दें।
नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखें?
  • Proceed के option पर क्लिक करने के बाद नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट आपके सामने open हो जाएगी।
नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखें?
  • आपके सामने जॉब कार्ड संख्या और आपका नाम आ जाएगा। आपको अपने नाम के आगे जॉब कार्ड संख्या पर क्लिक करना हैं।
नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखें?
  • अब आपके सामने आपकी जॉब की डिटेल्स आ जाएंगी।

नरेगा रोजगार कार्ड लिस्ट 2021

राज्य वार नाम Job Card Details
अंडमान और निकोबार Check Job Card List
आंध्र प्रदेश Check Job Card List
अरुणाचल प्रदेश Check Job Card List
असम Check Job Card List
बिहार Check Job Card List
चंडीगढ़ Check Job Card List
छत्तीसगढ़ Check Job Card List
दादरा और नगर हवेली Check Job Card List
दमन और दीव Check Job Card List
गोवा Check Job Card List
गुजरात Check Job Card List
हरियाणा Check Job Card List
हिमाचल प्रदेश Check Job Card List
जम्मू और कश्मीर Check Job Card List
झारखंड Check Job Card List
कर्नाटक Check Job Card List
केरल Check Job Card List
लक्षद्वीप Check Job Card List
मध्य प्रदेश Check Job Card List
महाराष्ट्र Check Job Card List
मणिपुर Check Job Card List
मेघालय Check Job Card List
मिज़ोरम Check Job Card List
नागालैंड Check Job Card List
ओडिशा Check Job Card List
पुदुच्चेरी Check Job Card List
पंजाब Check Job Card List
राजस्थान Check Job Card List
सिक्किम Check Job Card List
तमिलनाडु Check Job Card List
त्रिपुरा Check Job Card List
उत्तर प्रदेश Check Job Card List
उत्तराखंड Check Job Card List
पश्चिम बंगाल Check Job Card List

एक अप्रैल, 2020 से बढ़ाई गई मजदूरी

अब केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से जॉब कार्ड धारकों के लिए मजदूरी में इजाफा कर दिया गया है। बीते वित्तीय वर्ष यानि एक अप्रैल, 2020 से जिले के मनरेगा मजदूरों को 201 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से मजदूरी मिलने लगी है।

मनरेगा के तहत करीब 14 करोड़ जाब कार्ड

मित्रों, आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि मनरेगा के तहत 13.87 यानी करीब 14 करोड़ जाॅबकार्ड जारी किए गए हैं। इन पर 27 करोड़ श्रमिक दर्ज हैं। देश के अलग-अलग राज्यों की बात करें तो मई, 2020 तक उत्तरप्रदेश में 1.85 करोड़, बिहार में 1.86 करोड़, पश्चिम बंगाल में 1.27 करोड़, गुजरात में 40.95 लाख, राजस्थान में 1.08 करोड़ और मध्यप्रदेश में 71.33 लाख जॉबकार्ड थे। इनमें से 7.81 करोड़ (56 प्रतिशत) जाबकार्ड धारक ऐसे हैं, जो पिछले तीन सालों में इस मनरेगा योजना में श्रम करते रहे हैं।

आप जानते ही हैं कि बिहार से सबसे ज्यादा पलायन होता है। वहां 1.86 करोड़ जॉबकार्ड धारक परिवारों में से केवल 54.12 लाख (29.1 प्रतिशत) ही सक्रिय कार्ड धारक हैं। अन्य की बात करें तो छत्तीसगढ़ में 41.16 लाख जाॅबकार्डों में से 33.41 (81.2 प्रतिशत), मध्यप्रदेश में 71.33 लाख में से 52.58 लाख (73.7 प्रतिशत), पश्चिम बंगाल में 83.48 लाख (65.6 प्रतिशत) और राजस्थान में 69.88 लाख (64.6 प्रतिशत) जाॅबकार्ड सक्रिय हैं।

ज्यादातर डीबीटी से भुगतान, लेकिन कई जगह कैश भी

दोस्तों, आपको बता दें कि मनरेगा के तहत किए जाने वाले कार्यों के लिए ज्यादातर डीबीटी (direct benefit transfer) भुगतान होता है। इसके लिए जॉब कार्ड धारक का बैंक खाता (bank account) होना बेहद आवश्यक है। लेकिन कई ऐसे स्थानों पर जहां बैंक या डाकघर आदि की सुविधा उपलब्ध नहीं है, वहां पर श्रमिकों को यह भुगतान नगद यानी कैश (cash) किया जाता है।

जिन जगहों पर कैश भुगतान किया जाता है, ऐसे ही कई स्थानों से घोटाले आदि की खबरें आती हैं। आपको बता दें कि ऐसे ही कई मामलों में जांच भी बिठाई गई है।

रोजगार गारंटी योजना भी घोटालों से मुक्त नहीं

दोस्तों, यद्यपि अन्य रोजगार गारंटी योजनाओं की तुलना में यह साफ सुथरी है लेकिन फिर भी घोटालों से मुक्त नहीं हैं। आज भी मजदूरी योजना के तहत मजदूरी या श्रम करने वालों के जीवन स्तर में विकास की दर बहुत धीमी है। वे अब भी काम के लिए सरकार पर निर्भर हैं।

जहां मनरेगा को लागू करने वालों का ध्यान मार्केटिंग, कोल्ड स्टोरेज आदि जैसे दूसरे मुद्दों पर होना चाहिए था, वहीं यह अभी भी उन बुनियादी कार्यों पर है। हालांकि, कमियों को नजरंदाज कर दिया जाए तो यह जरूर कहा जा सकता है कि मनरेगा जो एक सामाजिक सुरक्षा जाल है। यह पूर्व ही की भांति प्रासंगिक है।

शहरी क्षेत्रों को भी शामिल करने की पैरवी

कोरोना काल में ढेरों लोगों के हाथ से काम छूट गया। ऐसे में मनरेगा राहत की एक आस बंधाए हुए है। इस सीजन में काम ढूंढने वालों की संख्या में बेतहाशा बढ़ोतरी देखी गई है। उच्च शिक्षित युवा भी मनरेगा के तहत काम करने के लिए आ रहे हैं।

विशेषज्ञ मानते हैं कि योजना के तहत शहरी क्षेत्रों एवं उनकी आवश्यकताओं को भी शामिल किए जाने की भी आवश्यकता है। इसके अलावा कुशल कारीगरों को भी इस योजना में शामिल किए जाने की पैरवी की जा रही है।

नरेगा जॉब कार्ड योजना को लेकर हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करें

यदि आप नरेगा जाब कार्ड से जुड़ी किसी तरह की जानकारी चाहते हैं या फिर इस योजना के संबंध में कोई सहायता चाहते हैं तो केंद्र की ओर से जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर (helpline number) पर संपर्क कर सकते हैं। यह नंबर है- 1800111555 ।

नरेगा का नाम मनरेगा कब किया गया?

नरेगा का नाम दो अक्टूबर, 2009 को नरेगा से बदलकर मनरेगा किया गया।

क्या जाब कार्ड के लिए आवेदन को किसी दस्तावेज की आवश्यकता है?

जी हां, इन दस्तावेजों की लिस्ट ऊपर पोस्ट में देखी जा सकती है।

नरेगा जाब कार्ड की लिस्ट किस वेबसाइट पर देखी जा सकती है?

इसके जाब कार्ड की लिस्ट mnrega.nic.in वेबसाइट पर देखी जा सकती है।

क्या यह योजना शहरी क्षेत्रों में भी लागू है?

जी नहीं, नरेगा शहरी क्षेत्रों में लागू नहीं है।

मनरेगा के तहत मजदूरी के भुगतान का क्या तरीका है?

मनरेगा के तहत मजदूरी का भुगतान डीबीटी से होता है। जहां बैंक सुविधा नहीं, वहां कैश भुगतान भी होता है।

दोस्तों, यह थी नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2021: नई MGNREGA कार्ड सूची, NREGA Card रजिस्ट्रेशन संबंधी जानकारी। उम्मीद है कि वह जानकारी आपके लिए बेहद उपयोगी साबित होगी। यदि इस पोस्ट में दी गई जानकारी के बाद आपके मन में कोई सवाल है तो आप हमें नीचे दिए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। आपकी प्रतिक्रिया की हमें प्रतीक्षा है। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment