NO COST EMI क्या है ? नो कॉस्ट ईएमआई के फायदे | नो कॉस्ट एमी मीनिंग इन हिंदी

जब कोई व्यक्ति किसी प्रोडक्ट्स को पूरी रकम देकर खरीदने में असमर्थ रहता है | तो कंपनिया और रिटेल्स उसे EMI पर खरीदने का ऑप्शन देती है | लेकिन आजकल एक नया ऑप्शन चर्चा में काफी चला हुआ है | और वह है – NO COST EMI | नो कॉस्ट ईएमआई के बारे आपने अक्सर flipcart या फिर amazon पर देखा ही होगा | कि No Cost EMI पर लैपटॉप ले लीजिये, फोन ले लीजिये या फिर कैमरा खरीद लीजिये | वहां पर जितने भी लार्ज appliance होते है | उन पर सभी शौपिंग साईट No Cost EMI देते है |

NO COST EMI क्या है ? नो कॉस्ट ईएमआई के फायदे | नो कॉस्ट एमी मीनिंग इन हिंदी

हम No Cost EMI के बारे में पढ़ तो लेते है | लेकिन हमसे से ऐसे बहुत सारे लोग है | जिन्हें इस बात की कोई जानकारी नही है | कि नो कॉस्ट ईएमआई होता क्या है | और इसके फायदे क्या है | अगर आपको भी इसके बारे में कोई जानकारी नही है | तो आज हम आपको बतायेंगे कि No Cost EMI होता क्या है ?

NO COST EMI क्या है –

ये बात तो आप जानते ही है | कि अगर आप कोई भी सामान EMI पर लेते है | तो उसके लिए आपके पास credit card होना अनिवार्य है | debit कार्ड से आप EMI नही कर सकते है | जितनी भी ऑनलाइन शौपिंग कंपनिया है | जो No Cost EMI का ऑफ़र देती है | दरअसल इन कंपनियों ने कुछ बैंको के साथ हाथ मिलाया होता है | इसके लिए अगर आपके पास कुछ चुने हुए बैंक जैसे कि – HDFC और AXIX बैंक आदि के क्रेडिट कार्ड है | तो आपको इन दोनों कार्डो पर सबसे ज्यादा ऑफर मिलते है | भारत देश में इस समय सबसे ज्यादा ऑफर नो कॉस्ट ईएमआई ऑफर flipcart और AMAZON पर मिलते है |

उदाहरण के लिए – आमतौर पर अगर आप साधारण EMI पर अगर किसी प्रोड्क्ट को खरीदते है | तो आपको उसकी पूरी कीमत 3 से 4 किश्तों में देनी पडती है | इसके आलावा आपको उन किश्तों के साथ कुछ ब्याज भी देना पड़ता है | यानी अगर आप 12,000 का कोई प्रोडक्ट खरीदते है | तो वही प्रोडक्ट्स आपको EMI के साथ 14 हजार तक पड़ता है | जबकि No Cost EMI पर अगर आप 12000 का कोई प्रोडक्ट्स खरीदते है | तो उसमे आपको किसी तरह का कोई भी ब्याज नही देना पड़ता है | और आपको वही प्रोडक्ट्स उसकी वास्तविक कीमत यानी कि 12000 रूपये में ही मिलता है | आपको 3 से 4 EMI देने पर भी किसी तरह का कोई ब्याज नही देना पड़ता है |

रिजर्व बैंक ने बैंकों को दिए निर्देश –

2013 से RBI ने बैंकों के उत्पादों पर Zero Cost EMI देने पर प्रतिबंध लगा दिया है | जिसके कारण NO COST EMI का उदय हुआ | जबकि RBI के नियम अनुसार बैंक बिना ब्याज लोन नहीं दे सकते |

यदि बैंक बिना ब्याज के लोन नही दे सकतें तो फिर नो कॉस्ट ईएमआई  कैसे वर्क करता है | ये आप इस तरह समझ सकतें हैं –

नो कॉस्ट ईएमआई का आप्शन बैंक नहीं बल्कि इकॉमर्स साईट जैसे अमेज़न और फ्लिप्कार्ट चला रही हैं | और ये साईट आपको कैश पेमेंट पर जो डिस्काउंट और ऑफर देती हैं | वही नो कॉस्ट ईएमआई में ब्याज के रूप में बैंक को दे देती हैं | इस तरह आपको भी बिना ब्याज के सामान मिल जाता है , और बैंक को भी ब्याज मिल जाता है |

No Cost EMI कैसे काम करती है –

जिस तरह से कपड़ो की दूकान पर दुकानदार बाहर कुछ अच्छे अच्छे कपड़े टांग देता है | ताकि लोग उन्हें देखकर उनकी तरफ आकर्षित हो इसी तरह कुछ कंपनिया ने भी अपने ग्राहकों को लुभाने के लिए No Cost EMI को एक जरिया बनाया है | साधारण EMI में दिए जाने वाले ब्याज की तरह कंपनिया इसमें भी ब्याज काउंट कर लेती है | इसके दो तरीके होते है | इनमे से पहला तरीका ये है कि कंपनिया No Cost EMI का ऑप्शन देती है | तो प्रोडक्ट के एकमुश्त पेमेंट पर डिस्काउंट देती है |

वही दूसरी तरफ नो कॉस्ट ईएमआई पर आपको वही प्रोडक्ट पूरी कीमत पर खरीदना होता है | दूसरा तरीका ये है | कि इंट्रेस्ट प्रोडक्ट कोस्ट में ही शामिल कर दिया जाता है | लेकिन लोगो को लगता है | कि साधारण EMI में उनके पैसे ज्यादा लग जाते है | और No Cost EMI में उनके पैसे बच जाते है | जबकि दोनों में उन्हें बराबर पैसे देने पड़ते है |

No Cost EMI के फायदे क्या क्या है –

No Cost EMI से आपको क्या क्या फायदे होतें हैं | इसके बारे में आप इस तरह समझ सकतें हैं –

  • No Cost EMI का सबसे बड़ा फायदा कस्टमर को होता है | इसमें उन्हें एक साथ किसी भी प्रोडक्ट की पूरी कीमत नही देनी पडती है | यदि कोई प्रोडक्ट्स 20,000 का है | और व्यक्ति उसे बाज़ार से नही खरीद सकता है | तो वह उसे No Cost EMI पर खरीद सकता है | इसके अलावा उसे साधारण EMI पर लगने वाला ब्याज भी नही देना पड़ता है | वह प्रोडक्ट की पूरी कीमत को 3 से 4 किश्तों में आराम से चूका सकता है |
  • इससे दूसरा सबसे बड़ा फायदा शोपिंग साईटस को होता है | जिसके बारे में बहुत कम लोगो को जानकारी रहती है | तो आपको बता दें ऑनलाइन शोपिंग साईट्स असल में उन प्रोडक्ट्स को No Cost EMI पर देती है | जो बहुत कम बिकते है | या फिर जिनकी डिमांड बहुत कम रहती है | इसमें कंपनी को ये फायदा रहता है | कि उनके कम बिकने वाले प्रोडक्ट्स भी No Cost EMI के जरिये तेजी से बिकने शुरू हो जाते है |
  • तीसरा फायदा इससे बैंक को होता है | क्योंकि इसमें उनके बैंक के क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है | हम सभी ये जानते है कि credit कार्ड और डेबिट कार्ड से शोपिंग करने पर बैंक भी कुछ प्रतिशत टैक्स काट लेती है |

तो दोस्तों आपको अब समझ आ गया होगा | कि No Cost EMI क्या होता है | और इससे क्या फायदे होते है | आपको पता चल गया होगा | कि इससे कस्टमर, ऑनलाइन शोपिंग साईट और बैंक तीनो को फायदा होता है | हालांकि इससे फायदा होते हुए भी आपको बहुत कम प्रोडक्ट में नो कॉस्ट ईएमआई का ऑफ़र मिलता है | लेकिन इससे फायदा सभी को होता है |

यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना न भूलें | साथ ही यदि आपका किसी प्रकार का कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें | हम जल्द ही आपके सवालों के जवाब देगें || धन्यवाद ||

NO COST EMI क्या है ? नो कॉस्ट ईएमआई के फायदे | नो कॉस्ट एमी मीनिंग इन हिंदी
5 (100%) 1 vote[s]
Spread the love

जरुरी सूचना :- यह वेबसाइट किसी भी सरकारी योजना के लिए आधिकारिक वेबसाइट नहीं है | और न ही किसी सरकारी संस्था से जुड़ी है। कृपया इसे आधिकारिक वेबसाइट न समझें और अपना संपर्क / व्यक्तिगत जानकारी जैसे - आधार नंबर या मोबाइल नंबर की जानकारी नीचे कमेंट बॉक्स में न दें | इस साईट को हमारी टीम द्वारा आपको सामाजिक , सरकारी , बैंकिंग और अन्य तरह की जरुरी जानकारी आप तक पहुचाने के लिए बनाया गया है | साईट पर उपलब्ध सभी जानकारी विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट , खबरों की वेबसाइट और न्यूज़ पेपर द्वारा ली जाती हैं | जिसमें ऑफिसियल वेबसाइट की लिंक भी दी जाती है |

कोई भी जानकारी का उपयोग करने से पहले विभाग की ऑफिसियल साईट जरुर चेक करें | कभी कभी लेख लिखने के बाद ऑफिसियल वेबसाइट में फेरबदल कर दिया जाता है | इसके साथ ही लेख लिखने में गलती संभव है | इसलिए प्रत्येक जानकारी की समीक्षा अन्य श्रोंतों से भी कर ले | यदि साइट पर उपलब्ध किसी जानकारी से आपको कोई परेशानी है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरुर बताएं | हमें उसे जल्द से जल्द सही करने की कोशिश करेंगें |

|| धन्यवाद ||

Leave a Comment