नाटा क्या है? नाटा की फुल फार्म? नाटा के बारे में सब कुछ यहां जानें।

नाटा क्या है? नाटा की फुल फार्म? नाटा के बारे में सब कुछ यहां जानें। (What is NATA? Full form of NATA? Know everything about NATA here)

इन दिनों आर्किटेक्चर का कोर्स युवाओं की पसंद बनकर उभर रहा है। हमारे देश में बहुत से ऐसे छात्र छात्राएं हैं, जो आर्किटेक्ट बनकर अपना जीवन संवारना चाहते हैं। वे अपनी कल्पनाओं के रंगों से खूबसूरत घर एवं इमारतें डिजाइन कर नाम-दाम दोनों कमाना चाहते हैं।

यह तो आप जानते ही हैं कि आर्किटेक्ट बनने के लिए सबसे अच्छा कोर्स पांच वर्षीय बीआर्क डिग्री कोर्स है। लेकिन इसके लिए किसी अच्छे कालेज में एडमिशन लेना जरूरी है।

यह संभव होता है नाटा (NATA) के जरिए। नाटा की फुल फार्म क्या है? नाटा क्या है? (What is the full form of NATA?, What is NATA?) जैसे सवालों और नाटा के बारे में आज इस पोस्ट में हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

नाटा क्या है? (What is NATA?)

देश भर के प्रतिष्ठित कालेजों एवं संस्थानों में पांच वर्षीय बीआर्क डिग्री कोर्स (BArch degree course) में एडमिशन के लिए नाटा एक क्वालिफाइंग एग्जाम (qualifying exam) है यानी प्रवेश के लिए अर्हता निर्धारित करता है। आर्किटेक्चर कोर्स में प्रवेश नाटा में प्राप्त स्कोर (score) के आधार पर होता है।

यह एक सीबीटी (CBT) यानी कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (computer based test) होता है। नाटा का आयोजन कौंसिल आफ आर्किटेक्चर (council of architecture) यानी सीओए (COA) करती है। इसका मुख्यालय (headquarter) नई दिल्ली (New Delhi) में है।

नाटा क्या है? नाटा की फुल फार्म? नाटा के बारे में सब कुछ यहां जानें।

नाटा की फुल फार्म क्या है? (What is the full form of NATA?)

मित्रों, नाटा के बारे में जानकारी से पूर्व इसकी फुल फार्म जानना सबसे आवश्यक है। आपको बता दें कि नाटा (NATA) की फुल फार्म है-नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट इन आर्किटेक्चर (national aptitude test in architecture)। इस टेस्ट के जरिए अभ्यर्थी का आर्किटेक्चर के प्रति एप्टीट्यूड खास तौर पर जांचा जाता है।

नाटा में कौन शामिल हो सकता है? (Who can take NATA?)

मित्रों, आपको सबसे पहले इस बात की जानकारी देते हैं कि नाटा में कौन शामिल हो सकता है अथवा इस टेस्ट में शामिल होने की क्या योग्यता है। यह इस प्रकार से है-

आवेदक ने 10+2 की परीक्षा फिजिक्स, केमिस्ट्री एवं मैथ्स (physics, chemistry, maths) विषयों के साथ 50 फीसदी अंकों से उत्तीर्ण की हो।
अथवा
आवेदक ने 10+3 डिप्लोमा (Diploma) मैथ्स एक विषय के साथ में 50 प्रतिशत अंकों के साथ हासिल किया हो।
जो छात्र/छात्राएं 10+2 अथवा 10+3 की इन परीक्षाओं में बैठ रहे हैं वे भी प्रोविजिनली (provisionally) नाटा के एग्जाम में बैठ सकते हैं।

नाटा का टेस्ट पैटर्न क्या होता है? (What is the test pattern of NATA?)

नाटा अभ्यर्थी को तीन टेस्ट में शामिल होने का मौका देता है। ये टेस्ट अलग अलग तिथियों में होते हैं। यदि कोई छात्र पहला टेस्ट दे चुका है तो उसे दूसरा या तीसरा टेस्ट देने की आवश्यकता नहीं है।

इसके बावजूद यदि छात्र दो टेस्ट में शामिल होता है तो उसका इन दो टेस्ट का स्कोर वैलिड (valid) होता है। यदि कोई छात्र तीनों प्रयासों में शामिल होता है तो उसके दो टेस्ट स्कोर का एवरेज वैलिड होता है।

नाटा कितने सेशन में होता है और कितने सवाल आते हैं? (NATA is held in how many sessions and how many questions are there?)

मित्रों, आपको जानकारी दे दें कि प्रत्येक परीक्षा दो सेशन में होती है। पहला सेशन (first session) 10 बजे से दोपहर एक बजे तक, जबकि दूसरा सेशन (second session) दोपहर ढाई बजे से शाम साढ़े पांच बजे तक चलता है।

यह दोनों सेशन 180-180 मिनट यानी 3-3 घंटे के होते हैं। इन दोनों सेशन में कुल मिलाकर 125 सवाल हल करने होते हैं। इनके लिए 200 अंक निर्धारित हैं। प्रत्येक प्रश्न एक, दो अथवा तीन अंक का होगा।

नाटा देने के लिए क्या उम्र निर्धारित की गई है? (What minimum age is decided to take NATA?)

साथियों, यह तो आप जानते ही हैं कि विभिन्न परीक्षाओं में शामिल होने के लिए आयोजक संस्थाओं की ओर से अभ्यर्थियों के लिए एक न्यूनतम उम्र (minimum age) निर्धारित की जाती है। अच्छी बात यह है कि नाटा के साथ न्यूनतम उम्र जैसी कोई बाध्यता नहीं रखी गई है।

नाटा में किस प्रकार के सवाल पूछे जाते हैं? (Which type of questions are asked in NATA?)

अब आते हैं नाटा में पूछे जाने वाले सवालों के प्रकार पर। दोस्तों, आपको जानकारी दे दें कि नाटा में मिले जुले प्रकार के प्रश्न पूछे जाते हैं। जैसे-

  • मल्टीपल च्वाइस टाइप (multiple choice type)।
  • मल्टीपल सेलेक्ट टाइप (multiple select type)।
  • प्रीफेरेंशियल च्वाइस टाइप (preferential choice type)।
  • न्युमेरिकल आंसर टाइप (numerical answer type)।
  • मैच द फालोइंग टाइप (Match the following type)।

साथियों, आपको जानकारी दे दें कि परीक्षार्थी को अपने सवालों का जवाब आवश्यक रूप से इंगलिश (English) में ही देना होगा। यद्यपि कुछ सवालों के जवाब वे अपनी क्षेत्रीय भाषा (regional language) में भी दे सकेंगे।

नाटा अभ्यर्थियों का एप्टीट्यूड जानने के लिए किन तकनीकों का सहारा लेता है? (NATA uses which techniques to know the aptitude of contestents?)

एक सवाल यह परीक्षार्थियों के मन में उठता है कि नाटा कितन तकनीकों के माध्यम से उनका एप्टीट्यूड जानने की चेष्टा करता है, तो इसका जवाब इस प्रकार है-

  • 1. डायग्रामेटिक रीजनिंग (diagrammatic reasoning): डायग्राम एवं दृश्य के माध्यम से अभ्यर्थी की लाजिकल एबिलिटी (logical ability ) की जांच।
  • 2. न्युमेरिकल रीजनिंग (numerical reasoning): जनरल प्राब्लम्स के जरिए अभ्यर्थी की गणितीय क्षमता की जांच।
  • 3. वर्बल रीजनिंग (verbal reasoning): वर्बल लाजिक तक पहुंचाने की क्षमता की जांच।
  • 4. इंडक्टिव रीजनिंग (inductive reasoning): दिए गए डाटा के पैटर्न एवं उसके विश्लेषण (data pattern and analysis) की क्षमता जांचना।
  • 5. सिचुएशनल जजमेंट (situational judgement): समस्याओं के समाधान की क्षमता की जांच।
  • 6. लाजिकल रीजनिंग (logical reasoning) : विभिन्न आकारों एवं चित्रों के बीच पैटर्न, सीक्वेंस एवं संबंध (pattern, sequence and relation) पहचानने की क्षमता की जांच।
  • 7. एब्सट्रैक्ट रीजनिंग (abstract reasoning): अभ्यर्थी के सामान्य ज्ञान एवं इस ज्ञान के नई परिस्थितियों में इस्तेमाल करने की क्षमता की जांच।

नाटा क्वालिफाई करने के लिए कितने मार्क्स आवश्यक हैं? (How much marks are necessary to qualify NATA?)

दोस्तों, यह तो हम आपको बता ही चुके हैं कि नाटा में 125 प्रश्न पूछे जाते हैं। यह 200 अंकों की परीक्षा होती है। नाटा क्वालिफाई करने के लिए अभ्यर्थी को 200 में से 70 अंक हासिल करने होते हैं। नाटा का रिजल्ट (result) नाटा की वेबसाइट https://www.nata.in पर ही उपलब्ध होता है। इससे पूर्व नाटा द्वारा आंसर की (answer key) पब्लिश (publish) की जाती है।

इससे छात्र/छात्राओं को अपने नतीजे का अनुमान हो जाता है। फाइनल रिजल्ट क्वालीफाईड/नाट क्वालीफाइड (qualified/not qualified) के फार्मेट (format) पर घोषित किया जाता है। यदि छात्र ने तीनों टेस्ट दिए हैं तो तीनों के अंक उसके स्कोर कार्ड (score card) पर अंकित किए जाते हैं।

यदि कोई नतीजे से संतुष्ट नहीं है तो क्या कर सकता है? (What if you are not satisfied with result?)

यदि कोई व्यक्ति नतीजे से संतुष्ट नहीं है तो वह अपनी आंसर स्क्रिप्ट (answer script) की मांग कर सकता है। लेकिन इसके लिए उसे नतीजा घोषित होने के तीन दिन के भीतर एक आनलाइन रिक्वेस्ट फार्म (online request form) भरना होगा। इसके साथ ही उसे इसके लिए 3,000 रूपए बतौर शुल्क (fee) चुकाने होंगे।

नाटा के लिए आवेदन को आवश्यक दस्तावेज क्या हैं? (What are the necessary documents to apply for NATA?)

साथियों, अब आपको जानकारी देते हैं कि नाटा के लिए आवेदन को आपको किन किन जानकारी एवं दस्तावेज (documents) मुहैया कराने की आवश्यकता होती है। ये इस प्रकार से हैं-

1. आवेदक की पर्सनल डिटेल्स एवं संबंधित प्रमाण (applicant’s personal details and related proof):

आवेदक को फार्म में अपनी पर्सनल डिटेल्स (personal details) भरनी होंगी। जैसे-

  • * अभ्यर्थी का नाम (46 कैरेक्टर से अधिक न हो। नाम के आगे मिस्टर, श्री आदि शब्द न लगाएं)।
  • * अभ्यर्थी के पिता का नाम (अधिकतम 46 कैरेक्टर)।
  • * अभ्यर्थी की माता का नाम (अधिकतम 46 कैरेक्टर)।
  • * अभ्यर्थी की जन्म तिथि (dd-mm-yy फार्मेट में)। साथ ही यह 10वीं के प्रमाण पत्र अथवा स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट के अनुसार हो)।
  • * अभ्यर्थी का जेंडर (पुरुष/महिला/ट्रांसजेंडर)।
  • * अभ्यर्थी की कैटेगरी (जनरल/ओबीसी/सीएसटी/ओबीसी-एनसीएल)।
  • * यदि कोई डिसैबिलिटी हो तो उसका प्रकार।
  • * अभ्यर्थी का आवास (शहरी, ग्रामीण, अर्द्धशहरी)।
  • * राष्ट्रीयता।
  • * पहचान का दस्तावेज (आधार कार्ड/ वोटर आईडी कार्ड/पैन कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस/स्कूल आईडी कार्ड में से कोई एक दस्तावेज)।
  • * आईडी संख्या (जो भी लागू हो उसे दर्ज करें)।
  • * एग्जामिनेशन सेंटर (प्राथमिकता के आधार पर तीन च्वाइस भरें)।
  • * च्वाइस आफ टेस्ट: (तीनों टेस्ट में से च्वाइस भरें। जैसे- पहला, पहला+दूसरा अथवा तीनों)।
  • * अभ्यर्थी की शैक्षिक योग्यता (पाठ्यक्रम, पासिंग वर्ष, विषय, अनुक्रमांक नंबर, अंकों एवं शैक्षिक संस्थान के उल्लेख सहित)।
  • * आवासीय पता (50 कैरेक्टर में दर्ज करें)।
  • * डोमिसाइल राज्य (जिस राज्य में आवेदक का जन्म हुआ हो)।
  • * डोमिसाइल जिला (जिस जिले में आवेदक क जन्म हुआ हो)।
  • * पिन कोड (आवेदक के आवासीय क्षेत्र का पिनकोड)।
  • * आवेदक की ईमेल आईडी: यह ईमेल आईडी एक्टिव होनी चाहिए।
  • * आवेदक का मोबाइल नंबर (यदि कोई लैंडलाइन नंबर हो तो वह भी दर्ज करें)।

2. आवेदक का कलर फोटोग्राफ (colour photograph of applicant):

याद रखें कि फोटोग्राफ का साइज (size) 4केबी से लेकर अधिकतम 100केबी तक हो। इसकी हाइट (height) साढ़े चार एवं चौड़ाई साढ़े तीन सेंटीमीटर हो। फोटोग्राफ सामने से (front view) लिया गया हो एवं इसमें अभ्यर्थी के दोनों कान साफ नजर आ रहे हों।

3. आवेदक के सिग्नेचर (signature of the applicant):

आवेदक के सिग्नेचर का साइज एक केबी से लेकर अधिकतम (maximum) 30 केबी तक हो। इनका आकार डेढ़ सेंटीमीटर से साढ़े तीन सेंटीमीटर तक हो। याद रखें कि आवेदक का सिग्नेचर एवं फोटोग्राफ जेपीईजी अथवा जेपीजी फार्मेट (JPEG/JPEG format) में हों।

नाटा के लिए आवेदन कैसे करें (how to apply for NATA?)

मित्रों, किसी भी अन्य एप्टीट्यूड टेस्ट (apptitude test) की तरह नाटा (NATA) के लिए आवेदन की भी एक विशेष आवेदन प्रक्रिया है। यह प्रक्रिया आनलाइन ही होती है। इसके लिए आपको यह स्टेप्स फालो करने होंगे-

  • सबसे पहले नाटा (NATA) की आफिशियल वेबसाइट (official website) https://www.nata.in पर जाएं।
  • यहां होम पेज (home page) पर आपको रजिस्ट्रेशन फार नाटा (registration for NATA) का विकल्प (option) दिखेगा।
  • आपको इस पर क्लिक (click) करना होगा।
  • अब आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन फार्म (registration form) खुल जाएगा।
  • यहां अभ्यर्थी को अपनी शैक्षिक योग्यता (educational qualification) समेत सारी पर्सनल डिटेल्स (personal details) भरनी होंगी।
  • इसके पश्चात उसे निर्धारित स्थान पर मांगे गए दस्तावेज (documents) जैसे फोटो, सिग्नेचर आदि अपलोड (upload) करने होंगे।
  • इतना करने के बाद इलेक्ट्रानिक पेमेंट गेट वे (electronic payment gateway) यानी ईपीजी (EPG) जैसे-क्रेडिट कार्ड/डेबिट कार्ड/यूपीआई के जरिए फीस का भुगतान (fee payment) करना होगा।
  • अब आवेदक के सामने एक सिक्योरिटी प्रश्न (security question) आएगा। इसे चुनकर उसके जवाब को अभ्यर्थी को जवाब रिकार्ड करना होगा। साथ ही पासवर्ड जनरेट (password generate) करना होगा। याद रखें कि यह पासवर्ड 8-13 कैरेक्टर का हो। इसमें एक अपर केस (upper case), एक लोअर केस (lower case), एक न्यूमेरिक नंबर (numeric number) एवं एक स्पेशल कैरेक्टर (special character) अवश्य हो।
  • इतना करने के बाद कन्फर्मेशन पेज (confirmation page) जनरेट हो जाएगा।
  • आवेदन पूरा होने के पश्चात एप्लिकेशन नंबर एवं पासवर्ड (application number and password) अभ्यर्थी के मोबाइल नंबर एवं ईमेल आईडी पर भेज दिया जाएगा।
  • अभ्यर्थी को भविष्य के संदर्भ (future reference) के लिए इस पेज का प्रिंट (print) लेना होगा।
  • बाद में वह एप्लिकेशन नंबर एवं पासवर्ड का इस्तेमाल कर नाटा की वेबसाइट पर लागिन कर सकता है। एंट्री कार्ड डाउनलोड करते वक्त यह काम आएगा।
  • इसके पश्चात अभ्यर्थी को एक अवसर उसके द्वारा दी गई डिटेल्स करेक्ट (correct) करने के लिए दिया जाएगा।
  • परीक्षा तिथि से पूर्व अभ्यर्थी अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड (admit card download) कर सकेंगे एवं परीक्षा में सम्मिलित हो सकेंगे।
  • उन्हें परीक्षा केंद्र में अपने प्रवेश पत्र के साथ ही अपनी एक ओरिजिनल फोटो आईडी (original photo id) लेकर जानी होगी। जैसे-वोटर आईडी/आधार कार्ड/पैन कार्ड/ड्राइविंग लाइसेंस में से कोई भी एक डाक्यूमेंट।

नाटा में शामिल के लिए कितनी फीस का भुगतान करना होगा? (How much fee one should pay for NATA?)

अब सबसे महत्वपूर्ण बात। जिस प्रकार प्रत्येक प्रतियोगी परीक्षा में बैठने के लिए आवेदक को कोई न कोई शुल्क चुकाना होता है, उसी प्रकार नाटा में शामिल होने के लिए भी उसे अच्छी खासी फीस चुकानी होगी। इसका ब्योरा इस प्रकार से है-

जनरल/ओबीसी नान क्रीमी लेयर (general/obc-ncl)

पुरुष:

  • एक टेस्ट के लिए—2,000 रुपए।
  • दो टेस्ट के लिए—-4,000 रुपए।
  • तीन टेस्ट के लिए—5,400 रुपए।

महिला:

  • एक टेस्ट के लिए—1,500 रुपए।
  • दो टेस्ट के लिए—-3,000 रुपए।
  • तीन टेस्ट के लिए—4,050 रुपए।

एससी/एसटी/पीडब्ल्यूडी (SC/ST/PWD)
——————

पुरुष/महिला:

  • एक टेस्ट के लिए–1,500 रुपए।
  • दो टेस्ट के लिए—3,000 रुपए।
  • तीन टेस्ट के लिए–4,050 रुपए।

ट्रांसजेंडर (transgender)
———-

  • एक टेस्ट के लिए–1,500 रुपए।
  • दो टेस्ट के लिए—3,000 रुपए।
  • तीन टेस्ट के लिए–4,050 रुपए।

भारत से बाहर (foreign)
————

  • एक टेस्ट के लिए–10,000 रुपए।
  • दो टेस्ट के लिए–20,000 रुपए।
  • तीन टेस्ट के लिए–27,000 रुपए।

(नोट: प्रोसेसिंग फीस एवं जीएसटी (processing fee and GST) भी परीक्षार्थी को ही वहन करने होंगे।)

नाटा का आयोजन देश विदेश के कितने शहरों में होता है? (In how many cities of country and abroad NATA is organised?)

नाटा का आयोजन देश विदेश के 168 शहरों में होता है। पहले बात अपने भारत देश की करते हैं। यहां विभिन्न प्रदेशों के आयोजन स्थल इस पकार से हैं-

  • उत्तर प्रदेश (UP)-आगरा, अलीगढ़, इलाहाबाद, बरेली, बिलासपुर, गाजियाबाद, गोरखपुर, ग्रेटर नोएडा, झांसी, कानपुर, लखनऊ, मेरठ, मुरादाबाद मुजफ्फरनगर, नोएडा, वाराणसी।
  • उत्तराखंड (uttarakhand)- देहरादून, हल्द्वानी, रुड़की।
  • पंजाब (punjab)- अमृतसर, भटिंडा, जालंधर, लुधियाना, मोहाली, पठानकोट, पटियाला।
  • राजस्थान (Rajasthan)- अजमेर, बीकानेर, जयपुर, जोधपुर, उदयपुर, श्रीगंगानगर, कोटा।
  • बिहार (Bihar)- भागलपुर, गया, मुजफ्फरपुर, पटना, पूर्णिया।
  • चंडीगढ़ (Chandigarh)- चंडीगढ़।
  • छत्तीसगढ़ (chattisgarh)- भिलाई, बिलासपुर, रायपुर।
  • दिल्ली (Delhi)- दिल्ली
  • गोवा (Goa)- पणजी।
  • गुजरात (Gujarat)- आनंद, अहमदाबाद, दमन, गांधीनगर, जामनगर, राजकोट, सूरत, वडोदरा
  • हरियाणा (haryana)- अंबाला, फरीदाबाद, गुड़गांव, हिसार, करनाल, नारनौल, रोहतक, सोनीपत।
  • हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)- हमीरपुर, शिमला।
  • जम्मू-कश्मीर (j&k)- जम्मू, श्रीनगर।
  • झारखंड (jharkhand)- बोकारो स्टील सिटी, धनबाद, हजारीबाग, जमशेदपुर, रांची।
  • कर्नाटक (Karnataka)- बेलगाम, बेल्लारी, बंगलुरू, देवांगेरे, गुलबर्गा, हुबली, मंगलोर, मैसूर, उडुपी।
  • केरल (Kerala)- अल्लापुझा, एर्नाकुलम, कन्नूर, कोल्लम, कोट्टायम, कोझिकोड, त्रिसूर, त्रिवेंद्रम।
  • मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh)- ग्वालियर, भोपाल, जबलपुर, इंदौर, रतलाम, रीवा, सागर, उज्जैन।
  • महाराष्ट्र (Maharashtra)- अहमदनगर, अकोला, अमरावती, औरंगाबाद, चंद्रपुर, चिंचवाड़, जलगांव, कल्याण, कोल्हापुर, लातूर, मुंबई, नागपुर, नांदेड़, नासिक, नवी मुंबई, नवी मुंबई-नेरुल, पनवेल, पुणे, रत्नागिरी, सांगली, सतारा, शोलापुर।
  • मणिपुर (Manipur)- इंफाल।
  • मेघालय (Meghalaya)- शिलांग।
  • मिजोरम (Mizoram)- ऐजवाल।
  • नागालैंड (Nagaland)- कोहिमा, दीमापुर।
  • ओडिशा (Odisha)- भुवनेश्वर, कटक, राउरकेला, संभलपुर।
  • पुड्डुचेरी (puducherry)- पुड्डुचेरी।
  • सिक्किम (Sikkim)- गंगटोक।
  • तमिलनाडु (Tamilnadu)- मदुरै, चेन्नई, कोयंबटूर, इरोड, नागरकोइल, सलेम, त्रिचुरापल्ली, तिरूनेवेली, वेल्लोर।
  • तेलंगाना (Telangana)- हैदराबाद, करीमनगर, वारंगल।
  • त्रिपुरा- अग्रतला।
  • अंडमान निकोबार (andman nicobar)-पोर्ट ब्लेयर
  • आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh)- गुंटूर, कर्नाटक, कुमोई, राजमुंदरी, तिरूपति, विजयवाड़ा, विशाखापट्नम।
  • अरूणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh)- ईटानगर।
  • असम (Assam)- डिब्रूगढ़, गुवाहाटी, सिल्चर।
  • पश्चिम बंगाल (West Bengal)- आसनसोल, दुर्गापुर, हावड़ा, कोलकाता, सिलिगुड़ी।

विदेशों में नाटा के आयोजन वाले शहर

  • यूएई-दुबई (UAE-dubai)।
  • बहरीन-मनाना (beharine-manana)
  • कतर-दोहा (Qatar-doha)।
  • कुवैत-खैतान (Kuwait-khaitan)।
  • ओमान-मस्कट (Oman-muskat)।
  • सउदी अरब-रियाद (Saudi Arabia-riyadh)।
  • नेपाल (Nepal)।
  • श्रीलंका (srilanka)।
  • साउथ अफ्रीका (south africa)।
  • सिंगापुर (Singapore)।

दोस्तों, विशेष बात यह है कि विदेशों में अभ्यर्थियों को टेस्ट सेंटर संबंधी च्वाइस नहीं दी जाएगी। नेपाल, श्रीलंका, साउथ अफ्रीका एवं सिंगापुर में टेस्ट सेंटरों का निर्धारण अभ्यर्थियों की उपलब्धता पर निर्भर करेगा। यदि कोई अभ्यर्थी भारत का है तो वह टेस्ट सेंटर को लेकर विदेशों में अपनी दूसरी और तीसरी च्वाइस नहीं भर सकता।

नाटा को क्वालिफाई कर लेना क्या किसी अच्छे कालेज/संस्थान में एडमिशन की गारंटी है? (Is qualifying NATA guarantee to admission in a good college/institute?)

बहुत से छात्र छात्राओं को यह लगता है कि नाटा को क्वालिफाई करने से ही उनका किसी अच्छे कालेज या संस्थान में एडमिशन हो जाएगा तो आपको बता दें मित्रों कि यह क्वालिफाइंग एग्जाम है।

इसे पास करना कालेज में प्रवेश के लिए जरूरी है, लेकिन इसके अतिरिक्त आपको संबंधित कालेज अथवा राज्य द्वारा संबंधित कालेज/संस्थान में प्रवेश के लिए निर्धारित नियम व शर्तें (rules/regulations) भी आवश्यक रूप से पूरी करनी होंगी।

नाटा के संबंध में कोई सवाल अथवा सहायता चाहिए तो कहां संपर्क करें? (Where to contact if you have any question or need any help?)

यदि नाटा के संबंध में कोई जानकारी चाहिए तो आप इसकी वेबसाइट https://www.nata.in की मदद ले सकते हैं। यदि आपका नाटा के संबंध में किसी भी प्रकार का सवाल है तो [email protected] पर ई-मेल करके पूछ सकते हैं।

इसके अतिरिक्त कोई अभ्यर्थी यदि चाहे तो इसके आधिकारिक हेल्प डेस्क नंबर (official helpdesk number) 8045549467 पर काल करके भी नाटा (NATA) के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकता है।

नाटा की फुल फार्म क्या है?

नाटा की फुल फार्म है-नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट इन आर्किटेक्चर।

नाटा क्या है?

यह एक क्वालिफाइंग टेस्ट है, जो देश के विभिन्न कालेजों/संस्थानों में पांच वर्षीय बीआर्क डिग्री कोर्स के लिए प्रवेश के लिए परीक्षार्थी की अर्हता निर्धारित करता है।

नाटा किस प्रकार का टेस्ट है?

नाटा एक सीबीटी यानी कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट है।

नाटा परीक्षार्थी को कितने मौके देता है?

कोई भी परीक्षार्थी तीन बार नाटा दे सकता है। यद्यपि परीक्षार्थी यदि एक बार टेस्ट दे चुका है तो उसे दूसरे और तीसरे में एपियर होना जरूरी नहीं है।

नाटा में कितने अंकों के कितने सवाल पूछे जाते हैं?

नाटा में 200 अंकों के 125 सवाल पूछे जाते हैं। एक टेस्ट दो सेशन में होता है।

नाटा का संचालन कौन करता है?

नाटा का संचालन कौंसिल ऑफ आर्किटेक्चर यानी सीओए करता है।

नाटा में बैठने के लिए प्रवेशार्थी के पास क्या योग्यता होनी चाहिए?

नाटा में बैठने के लिए अभ्यर्थी का फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथ्स विषयों के साथ किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड/संस्थान से 50 प्रतिशत अंकों संग 10+2 उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

क्या 10+3 डिप्लोमाधारक भी नाटा में शामिल हो सकते हैं?

जी हां, 10+3 डिप्लोमाधारक भी नाटा में शामिल हो सकते हैं।

नाटा का आयोजन क्या विदेश में भी होता है?

जी हां, 12 बाहरी देशों में नाटा का आयोजन होता है?

देश विदेश के कुल कितने शहरों में नाटा आयोजित होता है?

देश विदेश के कुल 168 शहरों में नाटा का आयोजन होता हैं।

नाटा के लिए आवेदन की फीस कितनी है?

इसका पूरा ब्योरा हमने आपको ऊपर पर पोस्ट में दिया है। आप सारी जानकारी वहां से प्राप्त कर सकते हैं।

क्या नाटा क्वालिफाई करना किसी भी अच्छे कालेज में प्रवेश की गारंटी है?

जी नहीं, नाटा केवल अर्हता परीक्षा है। प्रवेश के लिए विद्यार्थी को संबंधित कालेज एवं राज्य द्वारा निर्धारित नियम-शर्तों को भी पूरा करना होगा।

दोस्तों, हमने आपको इस पोस्ट (post) में नाटा के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। यदि आपको यह पोस्ट अच्छी लगी है तो इसे अधिक से अधिक लोगों तक शेयर करें। यह पोस्ट आर्किटेक्चर का कोर्स करने वाले छात्र छात्राओं के लिए अत्यधिक उपयोगी साबित होगी। आप इस पोस्ट के संबंध में हम तक अपनी कोई प्रक्रिया अथवा सुझाव पहुंचाना चाहते हैं तो नीचे दिए गए कमेंट बाक्स (comment box) में कमेंट (comment) करें। ।।धन्यवाद।।

————————-

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

एक देश एक राशन कार्ड योजना नानाजी देशमुख कृषि संजीवनी योजना यूपी जनसंख्या कानून क्या है? मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना झारखण्ड कम्युनिकेशन स्किल इम्प्रूव करने के 8 तरीके