नारी को नमन योजना 2022 आवेदन प्रक्रिया, पात्रता व उद्देश्य | Nari Ko Naman Yojana

|| HP nari ko naman Yojana हिमाचल प्रदेश नारी को नमन योजना, Mukhyamantri Nari Ko Naman Yojana, Nari Ko Naman Scheme Registration, Application Form, Eligibility and Objective ||

हिमाचल प्रदेश में नारी शक्ति को सम्मान देने की प्रथा पुरानी है। वहां प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के हित के लिए अनेक योजनाएं चलाई जा रही हैं। अब वहां की भाजपानीत जयराम ठाकुर सरकार महिलाओं के लिए एक नई योजना लेकर आई है।

इसका नाम हिमाचल नारी को नमन योजना रखा गया है। यह योजना क्या है? इसके अंतर्गत प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं को किस प्रकार की सुविधा प्रदान की जाएगी? आदि बिंदुओं पर आज हम आपको विस्तार से जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

हिमाचल नारी को नमन योजना क्या है? (What is Himachal nari ko naman Yojana?)

दोस्तों, सबसे पहले आपको जानकारी देते हैं कि हिमाचल नारी को नमन योजना क्या है? (What is Himachal nari ko naman Yojana?) आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश की सरकार (Himachal Pradesh state government) ने प्रदेश की महिलाओं की सुविधा के लिए यह योजना शुरू की है।

हिमाचल नारी को नमन योजना (Himachal nari ko naman Yojana) के अंतर्गत प्रदेश की महिलाओं से हिमाचल प्रदेश राज्य पथ परिवहन निगम (Himachal State road transport corporation) यानी (HRTC) की साधारण बसों (ordinary buses) में केवल आधा किराया वसूला जाएगा। इस समय हिमाचल प्रदेश में साधारण बसों के किराए की बात करें तो मैदानी इलाकों में यह 1.12 रुपए प्रति किलोमीटर है, जबकि पहाड़ी क्षेत्रों में साधारण बसों का किराया 2.17 रुपए प्रति किलोमीटर है।

दोस्तों, यहां यह भी स्पष्ट कर दें कि हिमाचल नारी नमन योजना के तहत किराए में छूट की यह सुविधा महिलाओं को केवल राज्य के भीतर होने वाली यात्राओं (intrastate travel) पर प्रदान की जाएगी। राज्य से बाहर के लिए होने वाली यात्राओं (interstate travel) के लिए यह छूट उपलब्ध नहीं होगी।

नारी को नमन योजना 2022 आवेदन प्रक्रिया, पात्रता व उद्देश्य | Nari Ko Naman Yojana
योजना का नामनारी को नमन योजना
किसके दवारा शुरू की गईहिमाचल सरकार दवारा
लाभार्थीराज्य की महिलाएँ
प्रदान की जाने वाली सहायताबस किराए मे छुट प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइटwww.hrtchp.com

हिमाचल नारी को नमन योजना की शुरूआत कब हुई? (When Himachal nari ko naman Yojana was started?)

अब जान लेते हैं कि इस योजना की शुरुआत कब हुई? मित्रों, आपको जानकारी दे दें कि हिमाचल नारी को नमन योजना (Himachal nari ko naman Yojana) का शुभारंभ 30 जून, 2022 को किया गया है। धर्मशाला (dharamshala) के सरकारी कालेज आडिटोरियम में योजना की शुरूआत करते हुए हिमाचल प्रदेश की भाजपा नीत सरकार के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM jairam thakur) ने प्रदेश की महिलाओं के लिए योजना का एक रियायती टिकट भी जारी किया।

खास बात यह रही कि उन्हें हिमाचल सड़क परिवहन निगम की पहली महिला बस ड्राइवर सीमा ठाकुर (first woman bus driver Seema thakur) ने बस चलाकर उन्हें समारोह स्थल तक पहुंचाया। नारी को नमन योजना का शुभारंभ करने के बाद मुख्यमंत्री ने ट्विटर (twitter) पर पहली प्रतिक्रिया भी दी।

उन्होंने लिखा, ‘आज का दिन प्रदेश के लिए ऐतिहासिक है, क्योंकि आज सरकारी बसों में महिला यात्रियों को 50 प्रतिशत छूट देने वाले नारी को नमन कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ है। यह योजना महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने में सहायक सिद्ध होगी’।

हिमाचल नारी को नमन योजना का क्या लाभ है? (What are the advantages of Himachal nari ko naman Yojana?)

दोस्तों, यदि हिमाचल प्रदेश की भौगोलिक संरचना की बात करें तो यहां सड़क संपर्क (road connectivity) ही अधिकांश जगहों पर पहुंचने का साधन है। लोगों के पास हवाई अथवा रेल विकल्प (air or rail option) काफी कम हैं। ऐसे में जाहिर सी बात है कि हिमाचल नारी को नमन योजना (Himachal nari ko naman Yojana) से महिलाओं को बड़े पैमाने पर लाभ होगा।

एक बात तो पूरी तरह स्पष्ट है कि महिलाओं के खर्च में सीधे सीधे कटौती होगी। इस कदम को महिलाओं के सशक्तीकरण (women empowerment) की दिशा में एक कदम माना जा रहा है। इसके अतिरिक्त इस हिमाचल नारी को नमन योजना के अन्य भी कई लाभ हैं, जो कि इस प्रकार से है-

  • * महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने में सहायता मिलेगी।
  • * बसों में अधिकतर वही लोग सफर करते हैं, जिनके पास निजी वाहन नहीं होते, उन्हें राहत मिलेगी।
  • * महिलाओं के खर्च में कटौती होगी, इस राशि को वह अन्य किसी कार्य में इस्तेमाल कर सकती हैं।
  • * परिवार की बचत में बढ़ोत्तरी होगी।।

हिमाचल के मुख्यमंत्री ने इस योजना की घोषणा कब की थी? (When did CM Himachal declare this scheme?)

दोस्तों, आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने इस नारी को नमन योजना की घोषणा हिमाचल दिवस (Himachal day) के दिन 15 अप्रैल, 2022 को की थी। उन्होंने कहा था कि राज्य के भीतर यात्रा करने वाली महिलाओं को टिकटों में 50 प्रतिशत की छूट दी जाएगी।

इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री ने राइड विद प्राइड टैक्सी सेवा (ride with pride taxi service) के लिए महिला चालकों के 25 नए पदों को मंजूरी देने एवं सभी यात्रियों के लिए बस के न्यूनतम किराए में कटौती किए जाने की भी घोषणा की थी। प्रदेश में न्यूनतम किराया सात रुपए की जगह पांच रुपए किए जाने की घोषणा की गई थी।

आपको जानकारी दे दें दोस्तों कि हिमाचल में राइड विद प्राइड टैक्सी सेवा विशेष रूप से महिलाओं एवं वरिष्ठ नागरिकों (women and senior citizens) के लिए चलाई जा रही है।

नारी को नमन योजना से कितनी महिलाओं को लाभ होगा? (How many women will get the benefit of nari ko naman Yojana?)

मित्रों, अब आप भी यह जानने को उत्सुक होंगे कि हिमाचल प्रदेश सरकार की नारी को नमन योजना से प्रदेश की कितनी महिलाओं को लाभ पहुंचेगा? तो आपको जानकारी दे दें कि हिमाचल प्रदेश में प्रतिदिन करीब एक लाख, 25 हजार यानी लगभग सवा लाख महिलाएं बस में सफर करती है।

साफ है कि सरकार की नारी को नमन योजना से प्रदेश की सवा लाख महिलाओं के सफर के किराए का बोझ आधा रह जाएगा। इस योजना के शुभारंभ के पश्चात हिमाचल प्रदेश की महिलाओं ने इस योजना का स्वागत किया है। उन्होंने विभिन्न माध्यमों से अपनी खुशी हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने पहुंचाई भी है।

नारी को नमन योजना से हिमाचल सरकार पर कितना वित्तीय बोझ पड़ेगा? (How much financial burden nari ko naman Yojana will imposed on state government’s treasure?)

अब सवाल यह खड़ा होता है कि हिमाचल नारी को नमन योजना से हिमाचल प्रदेश सरकार पर कितना वित्तीय बोझ (financial burden) पड़ेगा? अभी तक जो अनुमान लगाया गया है, उसके अनुसार इस योजना से प्रदेश सरकार के खजाने पर करीब 60 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ पड़ेगा।

यद्यपि नारी को नमन योजना को लेकर विपक्ष ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उसका कहना है कि सरकार इस प्रकार की योजनाओं के माध्यम से राज्य में मुफ्तखोरी को बढ़ावा दे रही है। यद्यपि दोस्तों, अधिकांश लोगों की ओर से इस योजना को हिमाचल प्रदेश में आने वाले दिनों में संभावित विधानसभा चुनाव (assembly election) से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

उनका मानना है कि सरकार इस योजना के माध्यम से महिला वोटरों को अपनी ओर आकर्षित करना चाहती है। आपको जानकारी दे दें दोस्तों कि हिमाचल की भाजपा नीत जयराम ठाकुर सरकार का कार्यकाल 8 जनवरी, 2023 को खत्म हो जाएगा। राज्य में इससे पूर्व चुनाव कराए जाने हैं।

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा की कुल 68 सीटें हैं। पिछली बार के विधानसभा चुनाव की बात करें तो उस वक्त प्रदेश में 75 प्रतिशत से भी अधिक वोटिंग हुई थी। अधिक वोटिंग (voting) हमेशा सत्ता परिवर्तन की परिचायक मानी जाती है।

हिमाचल में महिलाओं के हित के लिए और कौन कौन सी योजनाएं चलाई जा रही हैं? (What more schemes Himachal government is running for the women?)

अब आपको जानकारी देते हैं कि हिमाचल प्रदेश में महिलाओं के लिए हित के लिए वहां की सरकार कौन कौन सी योजनाएं चला रही है। इनमें से कुछ का ब्योरा इस प्रकार से है-

1. बेटी है अनमोल योजना:

इस योजना के अंतर्गत बीपीएल परिवार (BPL scheme) में बेटी के जन्म के उपरांत 10 हजार रूपए की राशि दी जाती है। यह राशि उसके 18 वर्ष की आयु होने तक उसके नाम पर डाकघर (post office) में बतौर एफडी (FD) जमा कराई जाती है। इसके अतिरिक्त पात्र बेटी की शिक्षा के दौरान 12वीं कक्षा तक 300 रूपए से लेकर डेढ़ हजार रूपए तक छात्रवृत्ति (scholarship) प्रदान की जाती है।

2. मुख्यमंत्री कन्यादान योजना:

यह योजना ऐसी बेसहारा लड़कियों के लिए लाई गई है, जिनके पिता शारीरिक/मानसिक (physically/mentally) रूप से असमर्थ हों एवं बिस्तर पर हों। साथ ही परित्यक्ता/तलाकशुदा महिलाओं, जिनकी सालाना आय 35 हजार रूपए से अधिक न हो, की पुत्रियां भी इस योजना के तहत लाभ की पात्र हैं। उन्हें शादी के लिए प्रति पुत्री 25 हजार रूपए का अनुदान प्रदान किया जाता है।

3. महिला स्वयं रोजगार सहायता:

ऐसी महिलाएं जिनकी वार्षिक आय 35 हजार रूपए से अधिक न हो एवं अपना कोई छोटा कार्य करना चाहती हों, उन्हें बतौर अनुदान 25 हजार रूपए प्रदान किए जाते हैं। इसके अतिरिक्त महिला विकास निगम (women development corporation) के माध्यम से उन्हें सरकारी बैंकों से लोन प्राप्त करने में सहायता भी प्रदान की जाती है।

4. विधवा पुनर्विवाह योजना:

इस योजना उद्देश्य विधवाओं का पुनर्विवाह कर उनका पुनर्वास कराना है। इस योजना के तहत प्रत्येक विधवा को पुनर्विवाह (remarriage of women) पर 50 हजार रूपए का अनुदान प्रदान किया जाता है।

हिमाचल प्रदेश सड़क परिवहन निगम के पास कितनी साधारण बसें हैं? (How much ordinary buses HRTC has?)

जब हम बात हिमाचल नारी नमन योजना के तहत महिलाओं को साधारण बसों में किराए में 50 फीसदी छूट की कर रहे हैं तो हमारे लिए यह जानना भी आवश्यक है कि हिमाचल प्रदेश सड़क परिवहन निगम के पास कितनी साधारण बसें हैं?

दोस्तों, आपको जानकारी दे दें कि हिमाचल प्रदेश सड़क परिवहन निगम यानी एचआरटीसी (HRTC) के बेड़े में 3,300 बसें हैं। वहीं, बेड़े में इतनी ही निजी बसें भी हैं, लेकिन इनमें से संचालन (operation) केवल 33 प्रतिशत बसों का ही हो पाता है।

क्या इससे पूर्व भी हिमाचल में महिलाओं को बस किराए में छूट दी गई है? (Did women of Himachal get any rebate in bus fare earlier also?)

जी हां, दोस्तों, आपको बता दें कि आज से करीब 7 वर्ष पूर्व यानी सन् 2015 में हिमाचल प्रदेश सरकार ने महिलाओं को बस किराए में 25 प्रतिशत की छूट दी थी। यह सुविधा उन्हें प्रदेश से बाहरी रूटों (out of state routes) पर चलने वाली बसों में प्राप्त नहीं थी, केवल प्रदेश में ही चलने वाली हिमाचल सड़क परिवहन निगम की बसों के लिए उन्हें यह छूट प्रदान की गई थी।

उस समय हिमाचल प्रदेश के तत्कालीन परिवहन मंत्री जीएस बाली ने मंडी (Mandi) में हुए जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह में इस सुविधा की घोषणा की थी, जिसे प्रदेश भर में लागू किया गया था।

हिमाचल नारी नमन योजना के खास खास बिंदु क्या हैं? (What are the main features of Himachal nari ko naman Yojana?)

मित्रों, आइए अब आपको एक नजर में हिमाचल नारी को नमन योजना के खास बिंदु बता देते हैं, जो कि इस प्रकार से हैं-

  • * हिमाचल नारी नमन योजना की घोषणा 15 अप्रैल, 2022 को हिमाचल दिवस के मौके पर की गई थी।
  • * हिमाचल नारी नमन योजना 30 जून, 2022 को लागू की गई है।
  • * इस योजना का लाभ केवल हिमाचल प्रदेश के नागरिक ही उठा सकेंगे।
  • * इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश की महिला यात्रियों को साधारण बसों के किराए में 50 प्रतिशत छूट मिलेगी।
  • * छूट के लिए महिलाओं को अपना आधार कार्ड दिखाना होगा।
  • * महिलाओं को काउंटर पर केवल सीट नंबर मिलेगा, टिकट बस में ही काटी जाएगी।
  • * महिलाओं को इस सुविधा के मिलने पर किसी अन्य किराया छूट का लाभ नहीं मिलेगा।
  • * यह छूट महिलाओं को केवल प्रदेश के भीतर के रूटों पर मिलेगी, बाहरी राज्यों की यात्रा पर नहीं।
  • * यदि महिला के साथ कोई पुरुष सवारी है तो उससे उसका पूरा टिकट वसूला जाएगा।

हिमाचल नारी को नमन योजना क्या है?

इस योजना के अंतर्गत हिमाचल प्रदेश में राज्य के भीतर सफर करने वाली महिलाओं से आधा किराया वसूला जाएगा?

हिमाचल नारी को नमन योजना की शुरूआत किसने की?

हिमाचल नारी को नमन योजना की शुरूआत हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने की।

इस योजना की घोषणा सीएम ने कब की थी?

इस योजना की घोषणा सीएम ने 15 अप्रैल, 2022 को हिमाचल दिवस के दिन की थी।

सरकार की इस योजना से प्रदेश की कितनी महिलाएं लाभान्वित होंगी?

सरकार की इस योजना से करीब सवा लाख महिलाएं लाभान्वित होंगी।

नारी को नमन योजना से हिमाचल सरकार के खजाने पर कितना असर पड़ेगा?

नारी को नमन योजना से हिमाचल सरकार के खजाने पर करीब 60 करोड़ रुपए का बोझ पड़ेगा।

यह योजना किस तरह की बसों में लागू होगी?

यह योजना हिमाचल राज्य सड़क परिवहन निगम की साधारण बसों में लागू होगी।

क्या प्रदेश से बाहर की यात्रा पर भी महिलाओं को नारी नमन योजना के तहत किराए में छूट लाभ मिलेगा?

जी नहीं, प्रदेश से बाहर की यात्रा पर महिलाओं को नारी नमन योजना के तहत किराए में छूट का लाभ नहीं मिलेगा।

साथियों, इस पोस्ट (post) में हमने आपको हिमाचल नारी को सम्मान योजना 2022 की जानकारी दी। उम्मीद है कि यह पोस्ट आपके लिए उपयोगी साबित हुई होगी। यदि आप इसी प्रकार की जानकारीप्रद पोस्ट हमसे चाहते हैं तो नीचे दिए गए कमेंट बाक्स (comment box) में कमेंट (comment) करके हमें बता सकते हैं। ।।धन्यवाद।।

—————–

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम अपने बिज़नेस को ऑनलाइन कैसे करे? मुख्यमंत्री गौमाता पोषण योजना फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे करें? जिम कैसे खोले? | नया जिम खोलने की लागत, मुनाफा व मशीनें