[10th,12th] एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन कैसे भरें? MP Board Supplementary Exams Form 2020

11 वीं पूरक परीक्षा 2020, सप्लीमेंट्री पेपर 2020, 11 वीं पूरक परीक्षा तिथि 2020, एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन कैसे भरें? MP Board Supplementary Exams Form 2020, 11th Supplementary Exam Date 2020, MP 11 वीं सप्लीमेंट्री का रिजल्ट, 11th Supplementary Exam Date 2020 MP.

कुछ समय पूर्व MP यानी मध्य प्रदेश education बोर्ड ने अपने 10वी और 12वी की मुख्य परीक्षा के नतीजे अपनी official website पर घोषित किए थे। इसमें ढेरों छात्रों ने बेहद अच्छे अंक हासिल किए थे तो बोर्ड के बहुत से छात्रों की supplementary भी आई थी। दोस्तों, अब छात्रों के पास कक्षा उत्तीर्ण करने के लिए एक मौका है। उन्हें अपना एक साल खराब होने से बचाने के लिए एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा देना होगा ।

[10th,12th] एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन कैसे भरें? MP Board Supplementary Exams Form 2020

दोस्तों, आपको बता दें कि अब मध्य प्रदेश शिक्षा बोर्ड ने 10वी और 12वी एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू कर दी है। आज इस post के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि इस पूरक परीक्षा यानी supplementary exam में बैठने के लिए आवेदन किस प्रकार से किया जा सकता है। आपको बस इस post को पूरा पढ़ना होगा। आइए, शुरू करते हैं-

एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन कैसे भरें? How to fill MP supplementary exam form online?

हम आपको बता चुके हैं कि एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं के सप्लीमेंट्री एग्जाम में बैठने के लिए परीक्षार्थियों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। बहुत सारे छात्र छात्राओं को ऑनलाइन आवेदन करने में दिक्कत आती है। इससे निजात पाने के लिए हम आपको बताएंगे कि वह ऑनलाइन आवेदन किस प्रकार से भर सकते हैं। साथियों, यह एक सामान्य प्रक्रिया है जो कि बहुत ही आसान है। यदि आप भी supply exam में बैठने की तैयारी कर रहे हैं तो इसके लिए Online आवेदन इस प्रकार करें-

  • सबसे पहले MP Board की official website पर https://mpbse.mponline.gov.in/RAS/RAS/RAS?supp=Supplementary जाएं। आप यहाँ क्लीक करके डायरेक्ट जा सकतें हैं। 
  • लिंक पर click करने के बाद आपके सामने home page खुल जाएगा।

एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन कैसे भरें? How to fill MP supplementary exam form online?

  • home page पर supplementary exam से संबंधित notification दिखेगा।
  • इस notification में ही application form का भी link दिया होगा।
  • application form link पर click करने के बाद आपके monitor पर एक form खुल जाएगा।
  • इस form में पूछी गई सभी details stepwise सही सही भर दें। जैसे कि application type, class, exam type, pass year, roll number आदि।
  • Form भरने के बाद आपको fee जमा करनी होगी। Fee कितनी रहेगी, इसकी जानकारी हम आपको पहले ही दे चुके हैं।
  • इसके बाद आप submit के option पर click कर दें। इस प्रकार आपका आवेदन जमा हो जाएगा।

सप्लीमेंट्री परीक्षा में कितने छात्र बैठेंगे – How many students will sit in the supplementary examination

एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा में regularऔर private दोनों ही तरह के छात्र शामिल होंगे। अब हम आपको उन छात्रों की संख्या की जानकारी देंगे। एमपी बोर्ड के जो आंकड़े हैं, उनके अनुसार कक्षा 12 के 97,960 नियमित यानी Regular परीक्षार्थी और 23,577 प्राइवेट छात्र एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा देंगे। दोस्तों, यदि 10वीं की बात करें तो 1,08,448 नियमित यानी रेगुलर और 29,083 प्राइवेट परीक्षार्थी supplementary परीक्षा में शामिल होंगे। इस तरह से आपने यह भी देखा कि 10वीं के supplementary exam में बैठने वाले परीक्षार्थियों की संख्या 12वीं के परीक्षार्थियों के मुकाबले ज्यादा है।

आपको एक रोचक तथ्य की भी जानकारी दे दें कि तकरीबन हर राज्य में इसी प्रकार का trend देखने को मिलता है। हाईस्कूल यानी कि 10वीं कक्षा के परीक्षार्थियों की संख्या सदैव 12वीं कक्षा के परीक्षार्थियों से अधिक ही होती है। अब चाहे वह परीक्षा नियमित यानी Regular हो या फिर व्यक्तिगत यानी private परीक्षा। अधिकांशतः परीक्षा देने वालों में छात्रों की संख्या छात्राओं की बनिस्बत अधिक होती है।

यह अलग बात है कि इन परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने वाली छात्राओं के प्रतिशत में लगातार इजाफा हो रहा है। इसे एक अच्छे संकेत के तौर पर भी देखा जा सकता है। क्योंकि यह अभी भी सच है कि बालिकाओं में उच्च शिक्षा को लेकर अलख जगाना अभी बड़ी बात है।

10th व 12th एमपी बोर्ड सप्लीमेंट्री परीक्षा तिथि – 10th and 12th MP Board Supplementary Examination Date

मित्रों, आपको बता दें कि MP Board ने कक्षा 10वीं और 12वीं की पूरक परीक्षाओं यानी एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा डेट की घोषणा कर दी है। कक्षा 12 की पूरक परीक्षा अगले महीने 14 सितंबर से आरंभ होगी तो वहीं कक्षा 10 के छात्र-छात्राओं की पूरक परीक्षा आने वाली 15 सितंबर से शुरू होने जा रही हैं। दोस्तों, आपको यह जानकारी भी दे दें कि परीक्षाओं को लेकर एमपी बोर्ड ने 10वीं कक्षा का time table जारी कर दिया है। हालांकि, अभी वहीं कक्षा 12 का time table जारी नहीं किया गया है। इस class का time table भी विषयवार जल्दी ही जारी किया जाएगा।

आपको यह भी बता दें कि पूरक परीक्षाएं यानी Supplementary exam सुबह नौ बजे से दोपहर 12 बजे तक की पाली में आयोजित कराए जाएंगे। अब चूंकि time table बन चुका है, ऐसे में छात्रों को चाहिए कि वह इसके अनुसार अभी से अपनी तैयारी में जुट जाएं, ताकि वह supplementary exam में अच्छे अंक लाकर अपने भविष्य को संवारने की राह प्रशस्त कर सकें।

10 वीं के सप्लीमेंट्री परीक्षा का टाइम टेबल – 10th supplemental exam time table

10वीं एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा टाइम टेबल इस प्रकार से है-

जैसा कि हम आपको बता चुके हैं कि 10वीं और 12वीं के एग्जाम की शुरुआत की तिथि घोषित की जा चुकी है। ऐसे में, अब हम आपको बताएंगे कि दसवीं की परीक्षा का टाइम टेबल क्या रहेगा। यह इस प्रकार से है-

  • 16 सितंबर-गणित
  • 17 सितंबर-(तृतीय भाषा) उर्दू, मराठी गुजराती, पंजाबी और सिंधी
  • 18 सितंबर-सामाजिक विज्ञान
  • 19 सितंबर-(द्वितीय व तृतीय भाषा) अंग्रेजी
  • 21 सितंबर-विज्ञान
  • 22 सितंबर-नेशनल स्किल्स क्वालीफिकेशन फ्रेमवर्क यानी NSQF की परीक्षा होगी। छात्र छात्राओं को इसी time table के अनुसार परीक्षा देने के लिए परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा।

सप्लीमेंट्री परीक्षा शुल्क कितनी है? How much is the supplementary exam fee?

10वीं और 12वीं (regular/private) कै लिए 350/- प्रति विषय शुल्क रखा गया है। वहीं, higher secondary vocational के दो विषयों के लिए 350, जबकि चार विषयों के लिए 500/- fee निर्धारित की गई है। चार से अधिक विषयों के लिए 600/- बतौर शुल्क चुकाने होंगे। एमपी Online kiosk fee के रूप में 25/- का भुगतान करना होगा। दोस्तों, लगे हाथ आपको यह भी बता दें कि हर साल supply exam में MP Board के हजारों परीक्षार्थियों की मौजूदगी होती है। इसके लिए शिक्षक छात्र छात्राओं को विशेष दिशा निर्देश जारी करते हैं।

Students अंक सुधार का भी प्रयास करते हैं –

ऐसा नहीं है कि केवल एमपी बोर्ड के फेल हुए परीक्षार्थी ही सप्लीमेंट्री एग्जाम में बैठते हैं, बल्कि बड़ी संख्या में इसमें वह छात्र भी शामिल होते हैं, जिनकी किसी वजह से परीक्षा ठीक नहीं हो पाती, जिससे उनका अंक प्रतिशत गिर जाता है। ऐसे छात्र जो कि अपने अंकों में सुधार चाहते हैं, वह भी बड़ी संख्या में इस परीक्षा में बैठते हैं, ताकि उनके अंक प्रतिशत में सुधार आ सके। दोस्तों, इनमें ऐसे छात्र भी बहुत होते हैं, जिन्हें किसी न किसी प्रतियोगी परीक्षा में बैठना होता है। अंक प्रतिशत में सुधार इनके लिए इस नजरिए से बहुत लाभदायक सिद्ध होता है।

इसके अलावा दोस्तों, अनेक छात्र ऐसे होते हैं, जो परिवार में किसी ट्रेजिडी के चलते, रोजगार की मजबूरी की वजह से या अन्य किसी कारण से परीक्षा में बैठ तो जाते हैं, लेकिन अच्छे अंक नहीं ला पाते। वह भी supplementary exam के माध्यम से नतीजा अच्छा कर अपने अंक पत्र यानी मार्क्स शीट को वजनदार बना लेने में सक्षम हो पाते हैं।

हालांकि, समाज में ऐसे छात्रों को दूसरे छात्र हेय दृष्टि से देखते हैं, जिनकी कि supplementary आती है, लेकिन लगे हाथों आपको यह भी बता दें कि ढेरों ऐसे उदाहरण हैं, जहां 10वीं या 12वीं में छात्रों की supplementary आई, लेकिन भविष्य में आगे चलकर उन्होंने खूब नाम अर्जित किया।

10वीं, 12वीं फ़ैल छात्र को पास होने का दूसरा विकल्प – रुक जाना नहीं योजना | Another option for the student to pass – Ruk Jana Nahi Yojana

मध्य प्रदेश के 10वीं और 12वीं के छात्र छात्राओं के लिए परीक्षा में फेल होने पर केवल supplementary एग्जाम ही एकमात्र विकल्प नहीं है। सरकार ने एक अन्य योजना भी ऐसे छात्रों के लिए शुरू की है। इस योजना का नाम है-रुक जाना नहीं। इस योजना के तहत फेल हुए परीक्षार्थी को साल में दो बार ‘ फिर से परीक्षा देने का मौका मिलेगा।

यदि परीक्षार्थी छह महीने में पहली बार आयोजित होने वाली परीक्षा में भी कामयाब नही होता तो दूसरे छह महीने में आयोजित होने वाली ‘रुक जाना नहीं योजना’ के तहत परीक्षा देकर उसके दूसरी बार पास होने का मौका होगा। पढ़ाई में कमज़ोर छात्र इस योजना से लाभान्वित होंगे।ऐसा माना जा रहा है।

कोरोना संक्रमण की वजह से भी पड़ा प्रभाव

अन्य राज्यों की भांति मध्य प्रदेश बोर्ड की परीक्षाओं पर भी कोरोना संक्रमण का प्रभाव पड़ा है, जिसकी वजह से इस परीक्षा को देरी से आयोजित करना पड़ रहा है। आपको बता दें कि यह परीक्षा अपने सही समय पर आयोजित नहीं हो सकी है। और अन्य राज्यों मसलन उत्तराखंड की ही बात करें तो वहां पर आवेदन के साथ ही साथ परीक्षा भी ऑनलाइन कराए जाने की व्यवस्था की गई है। उनका नतीजा भी online ही घोषित किया जाएगा। ऐसी सावधानी इसलिए बरती जा रही है, ताकि परीक्षार्थियों को एक साथ कहीं एकत्र न होना पड़े।

वह एक दूसरे के संपर्क में न आएं और कोरोना संक्रमण से बचै रहें। विभिन्न कक्षाओं में छात्रों की परीक्षा न कराकर उन्हें प्रोन्नत किया गया। गढ़वाल विश्वविद्यालय में छात्र अभी तक इसलिए संघर्ष रत हैं, क्योंकि विश्वविद्यालय प्रशासन ने परीक्षा कराने का निर्णय लिया है, जबकि छात्र नहीं चाहते कि परीक्षा हो। वह इसके लिए बीते दिनों कालेजों के बंद रहने, छात्रों की पढ़ाई न हो पाने, यातायात व्यवस्था की मुश्किल और कोरोना संक्रमण की आशंका को प्रबल वजह करार देते हैं।

MP Board को होती है शुल्क से अच्छी आय

आपको बता दें कि जहां सप्लीमेंट्री परीक्षा छात्र-छात्राओं के लिए एक पास होने का अच्छा जरिया है, वहीं यह एमपी बोर्ड के लिए भी इसलिए महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे उसकी सप्लीमेंट्री परीक्षा के शुल्क के रूप में अच्छी कमाई होती है। जिसको वह बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए सुविधाएं जुटाने में इस्तेमाल करता है। अन्य तमाम राज्यों की ही तरह यह भी बोर्ड की आय की एक अलग मद है।

यह अलग बात है कि मध्य प्रदेश राज्य में शिक्षा विभाग बोर्ड परीक्षा के लिए अलग से बजट जारी करता है। हालांकि हम परीक्षाओं की बात कर रहे हैं तो आपको यह भी याद होगा कि मध्य प्रदेश ही वह राज्य है, जहां व्यापम जैसे घोटाले हुए हैं। जिसकी आंच ने पूरे देश को झुलसाया है।

साथियों, यह थी MP board के 10वीं और 12वीं के छात्र छात्राओं के लिए ऑनलाइन आवेदन करने से जुड़ी सारी जानकारी। हमें पूरी उम्मीद है कि यह post आपके लिए मददगार साबित हुई होगी। साथियों, यदि आप इसी प्रकार की अन्य कोई जानकारी हमसे लेना चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए comment box में comment कर सकते हैं आपकी प्रतिक्रियाओं और आपकी ओर है आने वाले सुझावों का हमें हमेशा की तरह इंतजार है। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

1 thought on “[10th,12th] एमपी सप्लीमेंट्री परीक्षा फॉर्म ऑनलाइन कैसे भरें? MP Board Supplementary Exams Form 2020”

Leave a Comment