मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं? ऑनलाइन रिज्यूम कैसे बनाएं? रिज्यूम फॉर्मेट इन हिंदी

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं? रिज्यूम के बारे में जानता हर कोई हैं। और यह नौकरी पाने का प्रथम चरण भी होता है। लेकिन इसके बारे में बेहतर (Resume kaise banate hain) तरीके से शायद ही कोई जानता हो। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं। कि जो रिज्यूम कहीं भी नौकरी के लिए आवेदन करते समय सबसे पहले देखा जाता है। और अगर उसी में ही खामियां हैं। या वह अच्छे से नही बना हुआ (Resume kaise banta hai) हैं। तो आप चाहे कितने भी अच्छे क्यों ना हो, आपको रिजेक्ट कर दिया जाएगा।

ऐसे में यदि आप चाहते हैं। कि आपका रिज्यूम एकदम परफेक्ट और सबसे अलग हो जो आपके बारे में सबकुछ बताये तो आज हम आपको रिज्यूम क्या है।, रिज्यूम कैसे बनाते है। (How to make resume in phone in Hindi), मोबाइल की सहायता से रिज्यूम कैसे बनाते है।, रिज्यूम में क्या क्या होना चाहिए इत्यादि सभी विषयों के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे (Resume kaise banaye mobile se)। इसको जानने के बाद आप अपने मोबाइल से आसानी से रिज्यूम बना पाएंगे।

रिज्यूम कैसे बनाएं? (Resume kaise banaye)

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं? ऑनलाइन रिज्यूम कैसे बनाएं? (Mobile se resume kaise banaye)

रिज्यूम बनाना तो हम सीख लेंगे और इसको बनाने में क्या क्या चीज़े प्रमुख रूप से चाहिए उसके बारे में भी जान लेंगे लेकिन उससे पहले हमारा यह जानना आवश्यक (Resume kaise banaye in Hindi) हैं। कि आखिरकार एक रिज्यूम होता क्या है। या फिर रिज्यूम किसे कहा जाता हैं। इसलिए आइए पहले रिज्यूम के बारे में बेहतर तरीके से जान लेते हैं।

रिज्यूम क्या होता है (Resume kaisa hota hai)

आप कहीं भी नौकरी के लिए आवेदन करें फिर चाहे वह ऑनलाइन तरीके से हो या ऑफलाइन, आपको सबसे पहले रिज्यूम देने को कहा जाएगा (Resume ka kya matlab hai)। अब आखिरकार यह रिज्यूम क्या बला होती हैं। दरअसल एक रिज्यूम आपके जीवन का अभी तक का सार होता हैं। जिसमे आपके काम व पढ़ाई के बारे में सबकुछ लिखा हुआ होता हैं।

उदाहरण के तौर पर जब हम किसी मोबाइल को खरीदने जाते हैं। तो उसे उसके देखने के आधार पर नही खरीदते बल्कि उसके गुणों के आधार पर उसे ख़रीदा जाता हैं। इन गुणों को देखने के लिए हम मोबाइल के स्पेसिफिकेशन को पढ़ते हैं। जिसमे उसके बारे में हर महत्वपूर्ण जानकारी लिखी होती हैं। जिसके बारे में हमारा जानना आवश्यक होता हैं।

ठीक उसी तरह जब आप किसी कंपनी में आवेदन करते (Resume ka hindi arth) हैं। तो आपसे सबसे पहले आपका रिज्यूम माँगा जाता हैं। जिसमे आपके बारे में लिखा हुआ होता हैं। इसमें आपको अपने बारे में आलतू फालतू जानकारी नही बल्कि अपनी प्रोफेशनल व एजुकेशनल जीवन के बारे में लिखना होता हैं।

इसके बाद सामने वाला आपके रिज्यूम के आधार पर ही आगे की प्रक्रिया के लिए आपका चयन करता हैं। ऐसे में अब आपके मन में यह प्रश्न उठने लगा होगा कि आखिरकार एक रिज्यूम में ऐसा क्या लिखा जाता हैं। जिसे पढ़कर इंटरव्यू लेने वाला आगे के प्रोसेस के लिए आपका चयन कर लेता हैं। तो आइए इसके बारे में भी जान लेते हैं।

रिज्यूम फॉर्मेट इन हिंदी (Resume format in Hindi)

यदि आप चाहते हैं। कि आप सही तरह में रिज्यूम बनाए तो आपका रिज्यूम का फॉर्मेट (Phone se resume kaise banaye) भी परफेक्ट होना चाहिए। फॉर्मेट से हमारा तात्पर्य यह हुआ कि आपके रिज्यूम में क्या क्या चीज़ आनी चाहिए और क्या नही, उसमे कौन सी चीज़ कहां होनी चाहिए, उसमे क्या क्या लिखा हुआ होना चाहिए इत्यादि।

यदि आप रिज्यूम का फॉर्मेट (Resume ka format) सही रखेंगे तो अवश्य ही सामने वाले की नज़र में आएंगे और वह आपको आगे के लिए सेलेक्ट कर लेगा। इसलिए रिज्यूम का फॉर्मेट जाना भी बहुत आवश्यक हैं। आइए जाने रिज्यूम का सही फॉर्मेट।

#1. अपनी पर्सनल डेटल

सबसे पहले अर्थात रिज्यूम में सबसे ऊपर आपको अपना नाम, पता, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी इत्यादि लिखनी चाहिए। ध्यान रखें अपने नाम को हमेशा बोल्ड में बाकियों अक्षरों से बड़ा लिखे ताकि वह दूर से ही देखा जा सके कि यह किस व्यक्ति का रिज्यूम में हैं।

इसके साथ ही अपनी निजी जानकारी के साथ अपनी एक पासपोर्ट साइज़ फोटो भी लगाए। यह फोटो आपकी फेसबुक प्रोफाइल या स्टाइल मारते हुए नही होनी चाहिए। रिज्यूम के लिए पासपोर्ट साइज़ फोटो का मतलब हुआ चेहरा सामने की ओर, हलकी सी स्माइल, बाल ठीक से बने हुए और कालर वाली शर्ट।

#2. ऑब्जेक्टिव भी लिखें

कुछ लोग ऑब्जेक्टिव को बाद में लिखते हैं। लेकिन हमारी सलाह हैं। कि इसे आप अपनी निजी जानकारी के तुरंत बाद लिखे। अब आपके मन में प्रश्न होगा कि यह ऑब्जेक्टिव क्या होता हैं। तो ऑब्जेक्टिव का अर्थ हुआ कि जिस कंपनी में आप आवेदन कर रहे हैं।, वह व्यक्ति आपको ही उस नौकरी के लिए क्यों चुने। आखिर आपमें ऐसा क्या खास हैं। जो आपको ओरों से अलग व उस कंपनी के लिए सबसे बेहतर कर्मचारी बनाता हैं?

इसलिए अपना ऑब्जेक्टिव लिखते समय सतर्क रहे और इसमें कोई भी फालतू चीज़ ना लिखें। यदि आप निष्पक्ष होकर अपने बारे में 2-3 पंक्तियों में सही से लिख देंगे तो इससे सामने वाले पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा।

#3. एजुकेशनल डिटेल के बारे में जानकारी

अब बात आती हैं। कि आपने अपनी पढ़ाई कहां तक की हैं।, कहां से की हैं। और कितने नंबर से आप पास हुए हैं। उदाहरण के तौर पर आपको अपनी पढ़ाई का संपूर्ण ब्यौरा सीमित शब्दों में यहाँ लिख देना हैं। इसका अर्थ यह नही हुआ कि आप नर्सरी से लेकर बारहवीं तक की हर कक्षा के बारे में लिखें और उसमे कितने नंबर ए फलाना फलाना।

इसमें आपको अपने स्कूल की दसवीं व बारहवीं कक्षा के बारे में लिखना हैं। जैसे कि आपने यह दोनों कक्षाएं किस स्कूल से पास की, किस वर्ष में पास की, उस स्कूल का माध्यम कौन सा था अर्थात राज्य बोर्ड, सीबीएसई बोर्ड या कोई और बोर्ड, उसमे आपके कितने प्रतिशत आये इत्यादि।

इसके बाद यदि आपने स्नातक या ग्रेजुएशन या डिप्लोमा किआ हुआ हैं। तो उसके बारे में भी लिखें। जैसे कि आपके कॉलेज या यूनिवर्सिटी का नाम, डिग्री किस विषय में हैं।, कौनसे वर्ष में पास की, उसमे मिला ग्रेड या प्रतिशत इत्यादि। इसी तरह आपने आगे भी कोई पढ़ाई की हैं। तो उसके बारे में भी मेंशन करें।

#4. स्किल्स में बताये अपनी दक्षता के बारे में

कुछ लोग अपनी पढ़ाई की जानकारी देने के बाद सीधे अपनी नौकरी के बारे में बताने लग जाते हैं। जो कि गलत भी नही हैं। हालाँकि यदि आप इसके बाद अपनी स्किल्स लिख देंगे तो इससे सामने वाले पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा। वह इसलिए क्योंकि इससे वह आपके बारे में बेहतर तरीके से जान पाएगा कि आप किस काम को अच्छे से कर सकते हैं।

स्किल्स में आपको वह सब चीज़े लिखनी हैं। जो आपको अच्छे से आती हैं। या जिसके लिए आप उस कंपनी में आवेदन कर रहे हैं। ध्यान रखें इसमें आपको कोई स्किल एक्स्ट्रा नही लिखनी हैं। केवल वही स्किल लिखें जो आपको आती हो।

उदाहरण के तौर पर यदि सॉफ्टवेर इंजिनियर के लिए आवेदन कर रहे हैं। तो आप अपनी स्किल्स में अपने द्वारा सीखी गयी और अभी तक काम की गयी कोडिंग भाषाओँ को जोड़ सकते हैं। जैसे कि सी++, पाइथन, जावा इत्यादि। मैनेजर हैं। तो टीम बिल्डिंग, रिलेशनशिप मैनेजमेंट, प्रोडक्ट मैनेजमेंट इत्यादि।

#5. एक्सपीरियंस में लिखें अपने काम के बारे में

अब आते हैं। आपके पिछले अनुभव या नौकरी के बारे में। जो लोग फ्रेशर होंगे वह यह देखकर घबरा गए होंगे कि उन्होंने तो कोई कम किया ही नही और वे तो पहली बार नौकरी के लिए अपना रिज्यूम बना रहे है। तो वे इसमें क्या जोड़ेंगे। तो ऐसे में आप डरे नही और यह है।डिंग ही ना डाले। आप अपनी स्किल्स को बढ़ाने पर ध्यान दे ताकि आप अपने बारे में ज्यादा से ज्यादा स्किल्स को जोड़ सके।

जो लोग अनुभवी हैं। और कई कंपनी में काम कर चुके हैं। वे इसके बारे में लिखें। सबसे पहले तो अपनी कंपनी का नाम लिखें और हो सके तो उसकी वेबसाइट भी मेंशन करे। अब आप अपनी पोस्ट के बारे में लिखे जो आपकी उस कंपनी में थी। इसके बाद पॉइंट्स में बताये कि आपने उस कंपनी में क्या क्या काम किया। इसी तरह क्रमानुसार अपनी सभी कंपनी के बारे में संक्षेप में जानकारी रिज्यूम में जोड़े।

#6. Achievements व Extra Curricular Activities

अब सामने वाला केवल आपके काम के आधार पर ही आपको नही पहचान सकता। साथ ही यदि आप अपने रिज्यूम को बेहतर बनाना चाहते हैं। तो आपको अपने काम के अलावा बाकि हुनर के बारे में भी दिखाना होगा। जैसे कि आपने अपने काम के अलावा किसी और चीज़ में भाग लिया हो या कुछ हटके किया हो। उसके लिए आपको प्रोत्साहन मिला हो या कोई सर्टिफिकेट मिला हो।

इसमें आपको वह चीज़े मेंशन करनी हैं। जो आपने अभी तक हासिल की हैं। या जिनमे आपने भाग लिया हैं। एक उदाहरण के तौर पर यदि आपने किसी वाद विवाद प्रतियोगिता में भाग लिया हो और उसमे आपको पहला स्थान या सर्टिफिकेट मिला हो तो आप उसे इसमें मेंशन कर सकते हैं। ध्यान रखें यह चीज़ ऐसी हो जो आपके बारे में प्रोफेशनल तरीके से बताये ना कि कोई आलतू फालतू चीज़ जैसे कि नींबू चम्मच की रेस में जीत जाना इत्यादि।

#7. Hobbies में लिखें अपनी रुचि की चीज़े

जो आपका रिज्यूम चेक करता हैं। या आपका इंटरव्यू लेता हैं। वह आपकी हॉबी या रुचि वाली चीज़ों के बारे में भी जानना चाहता होगा। वह इसलिए क्योंकि इससे वह आपके व्यक्तित्व का अनुमान लगा सकता हैं। और यह समझ सकता हैं। कि आप किस तरह के व्यक्ति हैं।

इसमें आपको वह चीज़ लिखनी हैं। जिसे आप अपनेखाली समय में करना पसंद करते हैं। अब आप इसमें मूवी देखना या सोशल मीडिया पर चैट करना या गलियों में आवारा बनकर घूमना इत्यादि सम मत लिखियेगा। इसमें कोई अच्छी चीज़ लिखी होनी चाहिए जैसे कि पेंटिंग बनाना, प्रकृति के साथ समय बिताना, अच्च्जी पुस्तके पढ़ना इत्यादि।

इस बात का भी ध्यान रखें कि हॉबी में वही चीज़ लिखे जो आप करते हैं। स्टाइल मारने के लिए अपने आप से कोई चीज़ ना जोड़ दे क्योंकि सामने वाला आपसे आपकी हॉबी के बारे में डिटेल में पूछ सकता हैं। ऐसे में आप फंस गए तो सब की कराई मेहनत पर पानी फिर जाएगा।

इसके अलाव आप अपने रिज्यूम में ऐसी बहुत सी और चीज़े हैं। जो जोड़ सकते हैं। जैसे कि किसी का रेफेरेंस, भाषाएँ, प्रोजेक्ट्स की डिटेल, पब्लिकेशन इत्यादि। किंतु आप ऊपर दी गयी सभी चीज़ों को आवश्यक रूप से लिखें। आइए अब जानते हैं। मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाया जाता हैं।

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं (Mobile se resume kaise banaye)

अभी तक आपने जान लिया कि रिज्यूम में क्या क्या अनिवार्य रूप से होना चाहिए और आप इसमें क्या क्या लिख सकते हैं। अब हम जानेंगे कि (Resume kaise taiyar karen) आखिरकार मोबाइल से एक अच्छा और सही रिज्यूम कैसे बनाया जा सकता हैं। इसके लिए आपको हमारे द्वारा बताये गए हर चरण का क्रमानुसार पालन करना होगा तभी आप एक बेहतर रिज्यूम बना पाएंगे। आइए जाने मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाते हैं।

स्टेप #1. सबसे पहले तो आप अपने मोबाइल के प्ले स्टोर पर जाए और वहां जाकर “Resume Maker App” या “रिज्यूम मेकर ऐप” सर्च कीजिए।

स्टेप #2. जैसे ही आप रिज्यूम मेकर ऐप प्ले स्टोर पर लिखेंगे तो आपके पास रिज्यूम बनाने की कई ऐप्स आ जाएँगी। इनमे से कुछ प्रमुख रिज्यूम बनाने की ऐप्स हैं।:

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं? ऑनलाइन रिज्यूम कैसे बनाएं? रिज्यूम फॉर्मेट इन हिंदी
  • रिज्यूम बिल्डर और सीवी मेकर
  • Resume Builder App, CV Maker
  • Resume PDF Maker / CV Builder
  • Resume Builder
  • रिज्यूम बनाइये

आप चाहे तो इनमे से कोई भी ऐप चुन सकते हैं। और इउस डाउनलोड कर इनस्टॉल कर सकते हैं। किंतु हम यहाँ आपको चौथा विकल्प चुनने की सलाह देंगे क्योंकि यह ऐप बहुत लोगों के द्वारा इस्तेमाल की गयी हैं। साथ ही इस ऐप पर बने रिज्यूम परफेक्ट भी होते हैं।

इस ऐप का नाम हैं। Resume Builder जिसे Nithra के द्वारा डिजाईन किया गया हैं। इस ऐप का साइज़ 10 एमबी हैं। और इसे आज तक 50 लाख से ज्यादा लोग डाउनलोड कर चुके हैं। कहने का अर्थ यह हुआ कि रिज्यूम बिल्डर ऐप की सहायता से आज तक 50 लाख से ज्यादा लोग अपने रिज्यूम को बना चुके हैं।

इसके साथ ही इस ऐप को 1 लाख से ज्यादा लोग अपने रिव्यु दे चुके हैं। इसी के साथ इस ऐप की 5 में से कुल रेटिंग 4.3 हैं। जो कि एक अच्छी ऐप की पहचान हैं।

स्टेप #3. आप रिज्यूम बिल्डर ऐप को डाउनलोड कर इनस्टॉल कर लीजिए। जैसे ही आप इसे इनस्टॉल कर ले तो इसे ओपन कर लीजिए।

स्टेप #4. ओपन करते ही आपके सामने Enter Resume Name करके आएगा अर्थात आपको अपने रिज्यूम का एक नाम देना हैं। इसे आप अपना नाम भी दे सकते हैं। जैसे कि Krishna Resume. इसके बाद Create New बटन पर क्लिक करें।

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं? ऑनलाइन रिज्यूम कैसे बनाएं? रिज्यूम फॉर्मेट इन हिंदी

स्टेप #5. जैसे ही आप create न्यू पर क्लिक करेने तो आपको अगले पेज पर ले जाया जाएगा जहाँ आपसे निम्नलिखित जानकारी मांगी जाएगी।

  • Name
  • Address
  • Email Id
  • Mobile Number

आप इसमें अपना नाम, पता, ईमेल आईडी व फोन नंबर भर दीजिए और उसके बाद Save बटन पर क्लिक करे।

स्टेप #6. Save बटन पर क्लिक करते ही वह बटन Update में बदल जाएगा अर्थात यदि आपने कोई गलत जानकारी भर दी थी तो आप उसे अपडेट भी कर सकते हैं।

स्टेप #7. अब आपको सबसे नीचे देखना हैं। जहाँ आपको कई विकल्प दिखाई देंगे। यह विकल्प होंगे:

  • Contact Info
  • Academic
  • Work Exp
  • Project
  • FOI, CSS, Str&Hob
  • IV, Ach, Curr
  • Reference
  • Photo, Sign
  • Obj, Dec
  • Cover Letter
  • Generate
  • View

इतने सारे विकल्प को देखकर घबराने की कोई आवश्यकता नही हैं। दरअसल यह सभी अलग अलग पेज के नाम हैं। जिनकी शोर्ट फॉर्म लिखी गयी हैं। लेकिन जैसे ही आप उस पर क्लिक करेंगे तो आपको सही से सब जानकारी मिल जाएगी। इसलिए आइए एक एक करके इनके बारे में जाने।

स्टेप #8. Contact Information वाला पेज वही पेज हैं। जो आपने अभी भरा हैं। अर्थात जिसमे आपने अपना नाम, पता इत्यादी भरा है। इसलिए इसके अगले पेज पर क्लिक करें।

स्टेप #9. Academic वाले विकल्प पर क्लिक करते ही आपको खाली पेज दिखाई देगा और उस पर एक प्लस का निशान बना होगा। इसी प्लस के निशान के ऊपर लिखा होगा “Tap ‘+’ to create Academic Details”. कहने का अर्थ हुआ अपनी पढ़ाई से संबंधित जानकारी को भरने के लिए प्लस के निशान को दबाये।

जैसे ही आप इस बटन पर क्लिक करेंगे तो आपको सबसे ऊपर एक मैसेज दिखाया जाएगा जिस पर लिखा होगा “List your highest level of education first”. इसके बाद आपसे आपकी डिग्री या कोर्स की जानकारी, उसका कॉलेज या यूनिवर्सिटी का नाम, आपके उसमे आये मार्क्स, पासिंग इयर इत्यादि लिखा होगा।

इसमें आपको सबसे पहले अपने द्वारा पढ़े गए सबसे बड़े लेवल की पढ़ाई बतानी होगी। जैसे कि यदि आपने पोस्ट ग्रेजुएशन की हुई हैं। तो सबसे पहले उसके बारे में जानकारी दे और फिर ग्रेजुएशन, फिर बारहवीं व अंत में दसवीं कक्षा की जानकारी।

स्टेप #10. Work Experience में आपको क्लिक करने पर वही प्लस का बटन दिखाई देगा। इस पर क्लिक करते ही आपसे आपके जॉब के बारे में जानकारी मांगी जाएगी जैसे कि आपकी कंपनी का नाम, आपकी वहां पर पोस्ट, आप उस कंपनी से कब जुड़े, क्या आप अभी भी उस कंपनी में हैं। या आपने उसे छोड़ दिया, छोड़ दिया तो कब छोड़ा, इत्यादि।

इस तरह आपको अपने वर्क एक्सपीरियंस में अपने द्वारा पिछली हर कंपनी के बारे में जानकारी देनी होगी जिस जिसमे आपना अभी तक आक किया हैं। या कर चुके हैं।

स्टेप #11. Projects में आपको उन प्रोजेक्ट्स के बारे में लिखना हैं। जिनमें आपने अपने कॉलेज, स्कूल या कंपनी में काम किया हैं। यह इंटरव्यू लेने वाले को आपको बेहतर तरीके से समझने में सहायता करेगा। इसमें आपसे आपके प्रोजेक्ट का नाम, डिस्क्रिप्शन, टाइम, रोल, टीम साइज़ इत्यादि चीज़ों के बारे में पूछा जाएगा।

स्टेप #12. अब करते हीब अगले ऑप्शन पर क्लिक। इसमें आपसे आपके बारे में कई तरह की जानकारी मांगी जाएगी। आइए एक एक करके इनके बारे में जाने।

  • Field of Interest: इसमें अओको उन चीज़ों के बारे में लिखना हैं। जिनमे आपकी रुचि हैं।
  • Skills: यह एक महत्वपूर्ण कॉलम हैं। और इसमें आपको अपनी स्किल्स के बारे में मेंशन करना हैं।
  • Strength: आप किस चीज़ में मजबूत हैं। या किस किस चीज़ को सही से हैं।डल कर सकते हैं।, उसके बारे में लिखें।
  • Hobbies: आप अपने खाली समय में जो काम करना पसंद करता हैं।, उसके बारे में मेंशन करे।

स्टेप #13. अगले विकल्प में आपसे आपकी Achievements, Industrial Experience, Co-curricular activities, extra curricularactivites इत्यादि के बारे में जानकारी मांगी जाएगी। इसमें से जो भी चीज़ आपने की हुई हैं। या आप मेंशन करना चाहते हैं।, उसके बारे में लिखें।

स्टेप #14. अगले विकल्प के तौर पर आपको Reference का विकल्प दिखाई देगा। इसमें आप उस व्यक्ति का नाम व उसके काम के बारे में बता सकते हैं। जो आपके काम के बारे में पूछे जाने पर उसके बारे बता सके। इसमें आप अपने किसी सहकर्मी, बॉस या ऐसे किसी व्यक्ति का रेफेरेंस दे सकते हैं। जो उस कंपनी में काम करता हैं। या आपकी पिछली कंपनी में काम करता हो।

स्टेप #15. अगले विकल्प के रूप में आपसे आपकी फोटो व सिग्नेचर मांगे जाएंगे। इसमें आप अपनी एक प्रोफेशनल पासपोर्ट साइज़ फोटो को अपलोड करें। इसके बाद अगले विकल्प के रूप में अपने हस्ताक्षर की फोटो अपलोड करें या फिर उसी पर हस्ताक्षर करें।

स्टेप #16. इसके बाद अगले विकल्प पर जैसे ही आप क्लिक करेंगे तो आपसे 4 चीज़े मांगी जाएँगी।

  • Objective: आप उस कंपनी को क्यों ज्वाइन करना चाहते हैं। या फिर आप बाकियों से बेहतर क्या दे सकते हैं।
  • Date: आपने किस तारीख को यह रिज्यूम बनाया या फिर जिस दिन आप वह रिज्यूम लेकर जाएंगे उस दिन की तारीख लिखें।
  • Place: आप अभी कहां रह रहे हैं। उस शहर या गाँव के बारे में लिखें।
  • Declaration: आप यह डिक्लेअर करे कि अभी तक आपने जो भी जानकारी दी हैं। वह संपूर्ण रूप से सत्य हैं। और कुछ भी एक्स्ट्रा नही जोड़ा गया हैं।

स्टेप #17. जब भी आप किसी को अपना रिज्यूम देंगे तो आप सीधे उसे अपना रिज्यूम थोड़ी ना पकड़ा देंगे। आप अपने रिज्यूम के साथ एक कवर लेटर भी देंगे। यह कवर लेटर उस कंपनी के एचआर के नाम होगा जिसे आप अपने रिज्यूम देने का कारण बताएँगे।

स्टेप #18. अब अगले विकल्प के रूप में आपको Generate का विकल्प मिलेगा जिसमें आपसे रिज्यूम के दो विकल्प पूछे जाएंगे। पहले विकल्प होगा Classic Format अर्थात बिना किसी तामझाम का एक सिंपल रिज्यूम। दूसरे विकल्प के रूप में Color Format होगा अर्थात रिज्यूम में कुछ रंग जोड़ देना।

दूसरे विकल्प का चुनाव करने पफर आपके रिज्यूम की बॉर्डर लाइन, है।डिंग इत्यादि अलग रंग में दिखाई देंगी जबकि बाकि सब जानकारी काले रंग में जबकि पहले विकल्प के रूप में संपूर्ण रिज्यूम काले रंग में होगा। इसलिए इसमें आप अपनी पसंद के अनुसार किसी भी रिज्यूम के फॉर्मेट पर क्लिक करेंगे तो आपको कई अन्य विकल्प दिखाई देंगे।

स्टेप #19. इनमें से आपको किसी एक विकल्प को अपनी पसंद के अनुसार चुनना होगा। यह विकल्प आपको क्लासिक व कलर दोनों तरह के विकल्प में दिखाई देंगे। इसमें आपको कई तरह के ऑप्शन मिलेंगे जिसके अनुसार आप अपने तरीके से रिज्यूम को फॉर्मेट व कलर कर सकते हैं।

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं? ऑनलाइन रिज्यूम कैसे बनाएं? रिज्यूम फॉर्मेट इन हिंदी

स्टेप #20. अंत में जब आप अपने अनुसार रिज्यूम का एक फॉर्मेट पक्का कर लेंगे तो उसे generate कर दे और अंतिम विकल्प View पर क्लिक करें। यहाँ आपको आपके द्वारा बनाया गया रिज्यूम दिखाई देगा। अब आप इस रिज्यूम को डाउनलोड कलर सकते हैं।

मोबाइल से रिज्यूम कैसे बनाएं – Related FAQs

प्रश्न: जॉब के लिए रिज्यूम कैसे बनाये?

उत्तर: जॉब के लिए रिज्यूम बनाने के लिए आप किसी भी प्रोफेशनल रिज्यूम बिल्डर ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं।

प्रश्न: रिज्यूम बनाने के लिए कौन सा ऐप डाउनलोड करें?

उत्तर: रिज्यूम बनाने के लिए आप रिज्यूम बिल्डर एप्को डाउनलोड कर सकते हैं।

प्रश्न: मैं फ्री में रिज्यूम कहां से बना सकता हूं?

उत्तर: आप फ्री में अपना रिज्यूम मोबाइल बिल्डर ऐप या सीवी मेकर ऐप की सहायता से बना सकते हैं।

प्रश्न: रिज्यूम में क्या क्या लिखना चाहिए?

उत्तर: रिज्यूम में आपको अपनी पर्सनल डिटेल के साथ-साथ एजुकेशनल व प्रोफेशनल डिटेल के बारे में लिखना चाहिए।

प्रश्न: रिज्यूम को हिंदी में क्या कहते हैं?

उत्तर: रिज्यूम को हिंदी में रिज्यूम ही कहा जाता हैं। या फिर आप इसे सीवी भी कह सकते हैं।

प्रश्न: पीडीऍफ़ में रिज्यूम कैसे बनाये?

उत्तर: यदि आपका रिज्यूम किसी और फाइल में हैं। जैसे कि वर्ड डॉक्यूमेंट या कुछ और तो आप उसको एडिट करें और सेव एस पर क्लिक कर पीडीएफ में सेव कर लीजिए।

https://www.youtube.com/watch?v=8-fCDZ2j_2k

इस तरह आपका रिज्यूम बनकर तैयार हो जाएगा जिसे आप प्रिंट आउट के तौर पर निकाल सकते हैं। या फिर किसी को ऑनलाइन भेज सकते (Mobile se resume kaise banate hain) हैं। तो आज आपने सीखा कि मोबाइल से रिज्यूम किस तरह बनाया जाता हैं। और उसके लिए आपको क्या क्या करना पड़ता है इत्यादि।

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

इनकम टैक्स चोरी की शिकायत कैसे करें? जीएसटी सुविधा केंद्र कैसे खोले? उत्तर प्रदेश सोलर पंप योजना मेडिकल स्टोर कैसे खोले? बिहार हर घर बिजली योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन