मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे पाए? | शैक्षिक योग्यता, कार्य, सैलरी व अप्लाई प्रक्रिया | Merchant navy me job kaise paye

| मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे पाए? | Merchant navy me job kaise paye | Merchant navy me job ke liye apply kaise kare | मर्चेंट नेवी क्या है? | Merchant navy kya hai | Merchant navy cook age limit ||

Merchant navy me job kaise paye :- भारतीय सेना के तीन अंग होते हैं जिसमे थल सेना, वायु सेना व जल सेना आती है। अब इसमें जो जल सेना होती है उसे हम नेवी भी कह देते हैं। अब इसी नेवी के कई रूप होते हैं जिनका अलग अलग काम होता है। मुख्य नेवी का काम होता है युद्ध की स्थिति में शत्रुओं का सामना करना व देश की समुद्री सीमाओं की रक्षा (Merchant navy me naukri kaise paye) करना। वहीं इसमें एक अन्य प्रकार होता है जिसे हम मर्चेंट नेवी के नाम से जानते हैं। मर्चेंट नेवी का काम युद्ध में भाग लेना या देश की सुरक्षा करने का नहीं होता है लेकिन फिर भी यह देश की सेना का एक महत्वपूर्ण अंग मानी जाती है।

ऐसे में यह मर्चेंट नेवी क्या होती है और इसका क्या काम है? इसके बारे में आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताने वाले हैं। इसी के साथ आपको यह भी जानने को मिलेगा कि यदि आप मर्चेंट नेवी में जॉब करना चाहते हैं तो वह कैसे (Merchant navy me naukri kaise milegi) लगेगी। आज का यह लेख मर्चेंट नेवी में जॉब करने के ऊपर ही है। मर्चेंट नेवी में आठवीं पास छात्र से लेकर स्नातक तक पढ़े हुए छात्रों के लिए अलग अलग स्तर की जॉब होती है। आइए जाने मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे ली जाए।

Contents show

मर्चेंट नेवी क्या है? (Merchant navy kya hai)

मर्चेंट नेवी भारतीय जल सेना या नेवी का ही एक अभिन्न अंग है जिसका मुख्य उद्देश्य देश के व्यापारिक ढांचे को मजबूत करना होता है। इन्हें लोजिस्टिक्स के क्षेत्र में काम करना होता (Merchant navy ke bare mein jankari) है अर्थात एक जगह से दूसरी जगह सामान की आवाजाही सुनिश्चित करवाना। अब आप क्या सोचते हैं कि पूरे विश्व में एक जगह से दूसरी जगह जो सामान पहुँचाया जाता है वह क्या हवाई मार्ग से या रेल मार्ग से होता होगा।

मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे पाए शैक्षिक योग्यता, कार्य, सैलरी व अप्लाई प्रक्रिया Merchant navy me job kaise paye

हवाई मार्ग से तो वह होना असंभव है क्योंकि एक हवाई जहाज में लिमिटेड सामान ही आ पाएगा और उसके लिए आवाजाही बहुत खर्चीली हो (Merchant navy meaning in hindi) जाएगी। रेल मार्ग से उसकी आवाजाही तभी हो सकती है जब दोनों देश जमीन से एकदम जुड़े हुए हो अर्थात एक ही महाद्वीप में हो और उन दोनों के बीच रेल सुविधा चालू हो। ऐसे में जो देश एक दूसरे से कटे हुए हुए हैं या अलग अलग महाद्वीपों पर हैं तो उनके बीच सामान का आदान प्रदान या व्यापार इन्हीं समुंद्री मार्गों से होता है।

इसलिए प्रतिदिन हजारों शिप एक देश से दूसरे देश के लिए निकलती हैं जिनमे बहुत ज्यादा सामान भरा हुआ होता है। इस काम में महीनो महीने का समय लग जाता है। इसके लिए मर्चेंट नेवी की ही सहायता मुख्य तौर पर ली जाती है। वह ही इस शिप का पूरा संचालन, प्रबंधन व नियंत्रण कर सामान की एक देश से दूसरे देश में आवाजाही को नियंत्रित करती है। तो नेवी के इस अंग को ही मर्चेंट नेवी के नाम से जाना जाता है।

मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे पाए? (Merchant navy me job kaise paye)

अब जब आप यह जान चुके हैं कि सेना में मर्चेंट नेवी क्या होती है और उसके क्या कार्य होते हैं तो अब बारी है यह जानने की कि आखिरकार इसमें क्या क्या जॉब होती है और उन्हें कैसे पाया जा सकता (Merchant navy me job kaise milegi) है। अब यह सामान्य सी बात है कि इतना बड़ा जहाज सामान को लेकर इतनी दूर जा रहा है या इतनी बड़ी समुद्री यात्रा पर निकल रहा है तो उसके लिए शिप ऑफिसर, इंजीनियर सहित खाना बनाने वाला, सामान को लोड अनलोड करने वाला इत्यादि हर तरह के व्यक्ति की आवश्यकता पड़ती है।

तो मर्चेंट नेवी में कोई किसी भी तरह का काम कर रहा हो, वह मर्चेंट नेवी का ही एक सदस्य कहा जाता है। बस उनकी पोस्ट व सैलरी भिन्न भिन्न हो जाती है और उसके लिए चयन कि प्रक्रिया भी। तो यदि आप भी मर्चेंट नेवी में जॉब पाना चाहते हैं तो आपको हम एक एक करके मर्चेंट नेवी में निकलने वाली अलग अलग भर्तियों सहित उनके लिए योग्यता, पात्रता इत्यादि सभी बातों के बारे में विस्तार से जानकारी देने वाले हैं। आइए जानते हैं मर्चेंट नेवी में नौकरी करने से संबंधित जानकारी के बारे में।

कुक (Cook)

मर्चेंट नेवी में जो सबसे पहली नौकरी होती है वह होती है कुक की। अब यह तो हमने आपको ऊपर ही बता दिया था कि यदि जहाज कई कई महीनो तक समुद्र में रह रहा है तो वहां रहने वाले सभी मर्चेंट नेवी के अधिकारियों व लोगों के खाने की व्यवस्था भी (Merchant navy me cook ki job kaise kare) करनी होगी। इसके लिए मर्चेंट नेवी में कुक की भर्ती स्थायी तौर पर की जाती है जिनका कार्य उस समय के लिए खाना बनाना होता है।

इसके लिए जो कोर्स करवाया जाता है उसका नाम सलून रेटिंग होता है। साथ ही मर्चेंट नेवी में कुक लगने के लिए निर्धारित की गई योग्यता भी सबसे कम होती है। इसके लिए आपका बस आठवीं पास होना ही जरुरी होता (Merchant navy me cook ki naukri kaise paye) है। तो यदि आपने आठवीं कक्षा तक की पढ़ाई की हुई है तो समझ जाइये कि आप मर्चेंट नेवी में नौकरी करने के लिए आवेदन कर सकते हैं। आइए इसके बारे में विस्तार से जान लेते हैं।

आठवीं पास के बाद मर्चेंट नेवी कैसे ज्वाइन करें? (Merchant navy me 8th pass kaise join kare)

अब यदि आपने आठवीं तक की पढ़ाई की हुई है और आप मर्चेंट नेवी से जुड़ना चाहते हैं तो इसके लिए भी दरवाजे खुले हुए हैं। इसके लिए आप मर्चेंट नेवी में कुक की नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। यहाँ हम यह कहना चाह रहे हैं कि जिन छात्रों ने आठवीं तक की पढ़ाई की हुई है और उनकी खाना बनाने में रुचि है तो वे आसानी से मर्चेंट नेवी को ज्वाइन कर सकते हैं। इसके लिए उन्हें बस मर्चेंट नेवी की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा जिसके बारे में हम आपको नीचे बतायेंगे।

मर्चेंट नेवी में कुक बनने के लिए आयु सीमा (Merchant navy cook age limit)

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में कुक बनना चाहते हैं तो आपकी न्यूनतम आयु 17.6 वर्ष की होनी चाहिए। अब चाहे आपने अपनी आठवीं कक्षा को कभी भी पास किया हो लेकिन उसके लिए न्यूनतम आयु को 17.6 वर्ष ही रखा गया (Merchant navy me cook banne ke liye age kitni honi chahiye) है। आप इसके बाद ही मर्चेंट नेवी में कुक की भर्ती के लिए आवेदन दे सकते हैं। वहीं मर्चेंट नेवी में कुक बनने के लिए अधिकतम आयु सीमा 24 वर्ष रखी गयी है।

मर्चेंट नेवी में कुक की सैलरी (Merchant navy me cook ki salary)

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में कुक के पद पर तैनात हो जाते हैं तो आपकी सैलरी प्रति माह 12 हज़ार रुपए से लेकर 24 हज़ार रुपए के बीच में होगी। तो इस तरह से आप मर्चेंट नेवी में कुक का काम करके भी अच्छा खासा रूपया कमा सकते हैं।

वेल्डर फिटर (Welder Fitter)

मर्चेंट नेवी में सामान को बड़े बड़े जहाजों में एक जगह से दूसरी जगह पर ले जाने का काम किया जाता है तो उसके लिए वेल्डिंग और फिटिंग की भी तो जरुरत पड़ती (Merchant navy me welder fitter ka kaam kaise milega) होगी। इनके द्वारा ही जहाज और उसके पार्ट्स का निर्माण सुनिश्चित करवाने में मदद की जाती है। साथ ही इनकी जरुरत कभी भी पड़ सकती है अर्थात जहाज के बाहर भी और अंदर भी।

चूँकि यह एक जिम्मेदारी वाली पोस्ट हो गयी और उसके लिए वेल्डिंग व फीटिंग इत्यादि की भी जानकारी होनी चाहिए तो उसके लिए योग्यता भी अधिक रखी गयी (Merchant navy me welder fitter ki job kaise kare) है। इसके लिए आपको दसवीं पास करने के साथ साथ आईटीआई भी करनी होगी। उसके बाद ही आप मर्चेंट नेवी में वेल्डर फिटर का काम करना शुरू कर पाएंगे। आइए जाने मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर कैसे बना जाए।

आईटीआई करके मर्चेंट नेवी कैसे ज्वाइन करें? (Merchant navy me ITI kaise join kare)

यदि आप मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर बनने का सोच रहे हैं तो उसके लिए सबसे पहले तो आपको दसवीं कक्षा तक की पढ़ाई करनी होगी। इसी के साथ आपको वेल्डिंग व फीटिंग के क्षेत्र में ही अपनी आईटीआई करनी होगी और उसके बाद ही आप मर्चेंट नेवी में इस पद के लिए अपना आवेदन दे सकते हैं। इसमें आपकी आईटीआई को देखा जाएगा और आपकी जानकारी के आधार पर ही मर्चेंट नेवी में नौकरी दी जाएगी।

मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर बनने के लिए आयु सीमा (Merchant navy me welder fitter ki age limit)

इसके लिए न्यूनतम आयु सीमा वही है जो मर्चेंट नेवी में कुक के लिए रखी गयी है। तो यदि आप मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर बनने को इच्छुक हैं तो आपकी न्यूनतम आयु सीमा 17.6 वर्ष है जबकि अधिकतम आयु सीमा को 30 वर्ष रखा गया (Merchant navy me welder fitter banne ke liye age kitni honi chahiye) है। इसलिए आपको 17.6 वर्ष से लेकर 30 वर्ष की आयु के बीच में ही मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर बनने के लिए आवेदन करना चाहिए।

मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर की सैलरी (Merchant navy me welder fitter ki salary)

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में वेल्डर व फिटर के पद पर नियुक्त हो जाते हैं तो आपको मिलने वाली सैलरी 16 हज़ार रुपए से लेकर 40 हज़ार रुपए के बीच में होगी। इसी के साथ साथ हर वर्ष इसमें बढ़ोत्तरी देखने को मिलेगी। तो इस तरह से एक वेल्डर भी मर्चेंट नेवी में अच्छा खासा रूपया कमा लेता है।

सीमैन (Seaman)

मर्चेंट नेवी में सीमैन का पद बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योंकि शिप में हो रही गतिविधियों के लिए इन्हें ही जिम्मेदारी दी जाती है। कहने का अर्थ यह हुआ कि उस शिप के लिए ऑफिसर या इंजीनियर जो भी आदेश देते हैं, उन्हें करने का काम इन्हीं सीमैन का ही होता (Merchant navy me seaman ki job kaise milegi) है। इसमें हम कारपेंटरी, प्लम्बिंग, मशीन शिप, इलेक्ट्रिकल शॉप व हॉट वर्क सम्मिलित कर सकते हैं।

तो उस जहाज पर सामान की लोडिंग व अनलोडिंग, मैनेजमेंट इत्यादि को करने का काम इन्हीं सीमैन का ही होता है। इसके लिए आप अपनी दसवीं कक्षा के बाद ही आवेदन दे सकते हैं। कहने का अर्थ यह हुआ कि यदि आप केवल दसवीं कक्षा ही पास है तो भी आप मर्चेंट नेवी में नौकरी पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए जनरल पर्पस रेटिंग का कोर्स करवाया जाता है।

दसवीं पास मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे पाए? (Merchant Navy me 10th pass ko job kaise milegi)

अब यदि आपने किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से दसवीं कक्षा को पास कर लिया है तो फिर आप मर्चेंट नेवी में नौकरी पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए दसवीं कक्षा में आपके कम से कम 40 प्रतिशत अंक होने चाहिए और उसी के साथ साथ अंग्रेजी विषय में भी न्यूनतम 40 प्रतिशत अंक होने चाहिए। इसके बाद ही आप मर्चेंट नेवी में सीमैन के पद के लिए आवेदन कर सकते हैं।

मर्चेंट नेवी में सीमैन बनने के लिए आयु सीमा (Merchant navy me seaman ki age limit)

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में सीमैन के पद पर नौकरी करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको न्यूनतम 17.6 वर्ष की आयु का होना चाहिए। वही अधिकतम आयु सीमा 25 वर्ष रखी गयी है।

मर्चेंट नेवी में सीमैन बनने के लिए पात्रता (Merchant navy seaman eligibility)

इसके लिए शिक्षा की पात्रता तो आपने जान ही ली है लेकिन उसके अलावा आपका मेडिकल रूप से एकदम फिट होना जरुरी होता है। साथ ही आपको कलर ब्लाइंडनेस नहीं होनी चाहिए और आपकी eyesight 6/6 होनी आवश्यक है।

मर्चेंट नेवी में सीमैन की सैलरी (Merchant navy me seaman ki salary)

इसके लिए सैलरी के कई पैमाने होते हैं जो अलग अलग देशों में काम के आधार पर तय किये जाते हैं। आम तौर पर मर्चेंट नेवी में सीमैन को शुरुआती तौर पर 40 हज़ार रुपए की सैलरी दी जाती है जो बढ़ कर एक लाख तक भी हो सकती है।

सीफरेर्स डेवलपमेंट प्रोग्रामर (Seafarers Development Programmer)

अब मर्चेंट नेवी के द्वारा क्या काम मुख्य तौर पर किया जा रहा है? आपका उत्तर होगा कंपनियों के सामान को एक देश से दूसरे देश में पहुँचाने का काम। अब वह सामान कुछ भी सकता है जो टीवी, फ्रिज से लेकर टूथपेस्ट या साबुन तक हो सकती है। जिस देश में जिस चीज़ की मांग रहती है और वह कंपनी वहां अपना व्यापार करती है तो ऐसे सामान को पहुँचाना मर्चेंट नेवी का ही काम होता है।

तो इन सामान का प्रबंधन करने का काम और इनकी रिपोर्ट रखने का काम इन्हीं डेवलपमेंट प्रोग्रामर का होता (Merchant navy me seafarers development programmer kaise bane) है। एक तरह से यह मर्चेंट नेवी और कंपनियों के बीच प्रतिनिधि का काम करते हैं जो होते तो मर्चेंट नेवी के ही अधिकारी है लेकिन उस कंपनी को जवाब देने का काम इन्हीं का ही होता है।

10वीं के बाद करें मर्चेंट नेवी में नौकरी 

इसके लिए भी आपका दसवीं कक्षा में पास होना जरुरी होता है। इसके साथ ही आपके पास दसवीं कक्षा में अनिवार्य रूप से गणित व विज्ञान का होना जरुरी होता है। इसी के साथ आपके उसमे 40 प्रतिशत अंक होने चाहिए और अंग्रेजी विषय में भी 40 प्रतिशत अंक होने चाहिए।

मर्चेंट नेवी में डेवलपमेंट प्रोग्रामर का कोर्स करना (Merchant navy me development programmer ka course karna)

इसके लिए आपको मर्चेंट नेवी में डेवलपमेंट प्रोग्रामर के रूप में रखने के लिए एक कोर्स करवाया जाएगा जिसका नाम प्री सी ट्रेनिंग होता है जिसे शोर्ट फॉर्म में पीएसटी कह देते हैं। इस कोर्स को करने की अवधि 4 माह की होती है। तो चार माह तक पीएसटी कोर्स को करने के बाद आप मर्चेंट नेवी में प्रोग्रामिंग डेवलपमेंट में आ जाते हैं।

मर्चेंट नेवी में डेवलपमेंट प्रोग्रामर बनने के लिए आयु सीमा

इसके लिए न्यूनतम आयु सीमा 17.6 वर्ष रखी गयी है जबकि अधिकतम आयु सीमा 25 वर्ष है। तो आप 17.5 वर्ष से लेकर 25 वर्ष की आयु के बीच में मर्चेंट नेवी में डेवलपमेंट प्रोग्रामर बनने के लिए आवेदन दे सकते हैं। 

मरीन इंजीनियर (Marine Engineer)

अब हम बात करने जा रहे हैं मर्चेंट नेवी में ऑफिसर के पद पर काम करने के बारे में जिन्हें ऑफिसर या इंजीनियर दोनों ही कह दिया जाता है। तो इनका काम जगह के अंदर बैठ कर उनका संचालन करना नहीं होता है बल्कि जगह के निर्माण में योगदान देना होता (Merchant navy me marine engineer ki job kaise milegi) है। इसलिए ही इन्हें मरीन इंजीनियर कह दिया जाता है।

मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियर बनने के लिए आपको बारहवीं पास करनी होगी और उसके बाद मर्चेंट नेवी में बीटेक करने के लिए आवेदन करना होगा। इसका ध्यान रखे कि इसके लिए आपको मर्चेंट नेवी के कॉलेज से ही मरीन इंजीनियरिंग में बीटेक की डिग्री लेनी होगी। आइए जाने इसके बारे में।

बारहवीं पास मर्चेंट नेवी में कैसे ज्वाइन करें?

यदि आप बारहवीं पास है तो आप आसानी से मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियरिंग के लिए आवेदन कर सकते हैं किंतु उसके लिए आपके पास बारहवीं कक्षा में फिजिक्स, केमिस्ट्री व गणित विषयों का होना जरुरी होता है। इसी के साथ बारहवीं में आपके अंक न्यूनतम 60 प्रतिशत आने चाहिए और साथ ही अंग्रेजी विषय में 50 प्रतिशत से अधिक अंक होने चाहिए।

मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियर बनने के लिए आयु सीमा

इसके लिए न्यूनतम आयु सीमा की कोई लिमिट नहीं रखी गयी है लेकिन अधिकतम आयु सीमा 25 वर्ष है। तो आप 25 वर्ष के बाद मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियर बनने के लिए आवेदन नहीं दे पाएंगे।

मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियर कैसे बने? (Merchant navy me marine engineer kaise bane)

इसके लिए आप बारहवीं कक्षा को न्यूनतम 60 प्रतिशत अंक के साथ पास कर लें। उसके बाद आपको मर्चेंट नेवी की वेबसाइट पर जाकर मरीन इंजीनियरिंग के कोर्स के लिए आवेदन करना होगा जो कि 4 वर्ष की अवधि का होगा। इसके लिए आपको aptitude टेस्ट देना होगा और आपका पूर्ण मेडिकल टेस्ट लिया जाएगा। इन सभी में पास होने के बाद ही आपको मरीन इंजीनियरिंग का कोर्स करवाया जाएगा और उसके बाद मर्चेंट नेवी में नौकरी दी जाएगी।

मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियर की सैलरी

अब यदि हम मर्चेंट नेवी में मरीन इंजीनियर की सैलरी की बात करें तो वह बहुत ज्यादा होती है। हालाँकि इसके लिए भी अलग अलग पैमाने बनाए गए हैं किंतु सामान्य तौर पर आपको 1 से 2 लाख रुपए प्रति माह मिला करेंगे। उसके बाद समय के साथ साथ यह बढ़ती चली जाएगी।

डेक ऑफिसर (Deck Officer)

इनका काम मर्चेंट नेवी में जहाज का संचालन करना होता है और यही वहां के मुख्य कार्यवाहक माने जाते हैं। इसलिए इन्हें डेक ऑफिसर कह दिया जाता है जिनका काम जगह की दिशा व दशा तय करने का होता (Merchant navy me deck officer ki job kaise milegi) है। इसके लिए आपको बीएससी का कोर्स करना होता है और जगह के अंदर रह कर सभी को जरुरी दिशा निर्देश देने होते हैं।

हालाँकि आप चाहे तो अपनी बारहवीं कक्षा के बाद ही मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर के लिए आवेदन दे सकते हैं और फिर मर्चेंट नेवी के कॉलेज में बीएससी का कोर्स कर सकते हैं। आइए इसके बारे में विस्तार से जान लेते हैं ताकि आपके मन में कोई शंका शेष ना रहने पाए।

मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर कैसे बने? (Merchant navy me deck officer kaise bane)

मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर बनने के लिए आपको सबसे पहले तो नॉन मेडिकल स्ट्रीम से या फिर फिजिक्स, केमिस्ट्री व गणित विषयों के साथ उसे कम से कम 60 प्रतिशत अंकों के साथ पास करना होगा। यदि आपने यह किया हुआ है तो आपको सीधे मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर के लिए आवेदन करना होगा। उसके बाद आपका टेस्ट लिया जाएगा और मेडिकल जांच की जाएगी। यदि आप चुन लिए जाते हैं तो 3 वर्ष के लिए बीएससी का कोर्स करने के बाद आपको मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर के पद पर नियुक्ति दे दी जाएगी।

यदि आपने किसी मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से नेचुरल साइंस में अपनी बीएससी की हुई है और उसमे आपके न्यूनतम अंक 55 प्रतिशत है तो भी आप मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर की पोस्ट के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए लिए जाने वाले टेस्ट का स्तर बढ़ जाता है और उसे पास कर लेने के बाद आपकी मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर के पद पर नियुक्ति हो जाएगी।

मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर बनने के लिए आयु सीमा

इसके लिए आपकी अधिकतम आयु 25 वर्ष होनी चाहिए। वही न्यूनतम आयु के लिए कोई सीमा नहीं रखी गयी है।

मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर की सैलरी

अब यदि हम मर्चेंट नेवी में डेक ऑफिसर को मिलने वाली सैलरी की बात करें तो वह शुरूआती तौर पर 2 से 3 लाख रुपए प्रति माह की होती है जो समय के साथ बढ़ती चली जाती है।

ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर (Graduate Marine Engineer)

मर्चेंट नेवी में जो पद सबसे बड़ा माना जाता है वह यही होता है जिसे हम चीफ मरीन इंजीनियर भी कह देते हैं। इन्हें हम संयुक्त रूप से मरीन इंजीनियर व डेक ऑफिसर का पद भी कह सकते हैं जिन्हें दोनों की ही जानकारी होती (Merchant navy me graduate marine engineer ki job kaise milegi) है। इनके लिए पात्रता मापदंड व सैलरी दोनों ही अधिकतम रहती है और उस शिप के मैनेजमेंट के लिए इनकी ही जवाबदेही होती है।

एक तरह से कहा जाए तो इन्हें हम उस शिप का कप्तान कह सकते हैं जिनके ऊपर उस पूरे जहाज का उत्तरदायित्व होता है। किसी भी स्थिति में शीर्ष अधिकारियों के द्वारा इन्हीं चीफ मरीन इंजीनियर के साथ संपर्क साधा जाता है। इसके लिए आपका स्नातक पास होना जरुरी होता है और उसके बाद ही आप इसमें आवेदन दे सकते हैं। इसके लिए ही इनका नाम ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर रखा गया है।

मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर कैसे बने? (Merchant navy me graduate marine engineer kaise bane)

इसके लिए सबसे पहले तो आपको AICTE के द्वारा मान्यता प्राप्त कॉलेज या यूनिवर्सिटी से अपनी मैकेनिकल में इंजीनियर को पूरा करना होगा। यह 4 वर्ष का कोर्स होता है जिसमे आपके न्यूनतम अंक 50 प्रतिशत होने चाहिए। इसी के साथ आपके दसवीं व बारहवीं कक्षा में अंग्रेजी विषय में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक होने चाहिए। उसके बाद आपको मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर के पद के लिए आवेदन करना होगा।

इसमें भर्ती करने की प्रक्रिया को बहुत ही जटिल व कठिन बनाया गया है। इसके लिए आपको कई तरह के टेस्ट देने होंगे और पूर्ण शरीर का मेडिकल टेस्ट करवाना होगा। इसके लिए आपका Aptitude टेस्ट लिया जाएगा, आपका आईक्यु लेवल जांचा जाएगा, रीजनिंग व psychometric का टेस्ट लिया जाएगा। उसके बाद आपका इंटरव्यू भी होगा और फिर मर्चेंट नेवी के ही डॉक्टर के द्वारा आपके पूरी स्वास्थ्य की जांच की जाएगी। उसके बाद ही आपको मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट इंजीनियर के पद पर नियुक्त किया जाएगा।

मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर बनने के लिए आयु सीमा

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर के पद पर काम करने को इच्छुक हैं तो अधिकतम आयु सीमा 28 वर्ष रखी गयी है। इसके लिए न्यूनतम आयु सीमा नहीं है।

मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर की सैलरी

अब यदि हम मर्चेंट नेवी में ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर को मिलने वाली सैलरी की बात करें तो उसका आंकलन नहीं किया जा सकता है। वह इसलिए क्योंकि इसमें ग्रेजुएट इंजीनियर बनने के बाद आपको जूनियर मरीन इंजीनियर के पद पर नियुक्त किया जाता है जिसमे आपको कप्तान के नीचे रह कर काम करना होता है। उसके बाद धीरे धीरे आपका प्रोमोशन होता है और 4 से 5 वर्षों में आपको जगह की पूर्ण रूप से कमान दे दी जाती है।

तो इसके लिए आपकी सैलरी महीने की 3 लाख के आसपास होती है जो आगे बढ़ कर 10 लाख रुपए प्रति माह तक भी पहुँच जाती है। इसलिए यदि आप मर्चेंट नेवी में सीनियर मरीन इंजीनियर बनने जा रहे हैं तो आपका पद व सैलरी दोनों ही बहुत ऊँचे होते हैं।

इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर (Electro Technical Officer)

यह भी ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर के समकक्ष ही होते हैं लेकिन इनका पद व सैलरी उतनी ज्यादा नहीं होती है। अब जगह को सही तरीके से चलाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक्स व इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की बहुत ज्यादा जरुरत होती है और उसी के लिए ही मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर की नियुक्ति की जाती (Merchant navy me electro technical officer ki job kaise milegi) है। इनका काम जगह की वायरिंग, इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग इत्यादि को देखना होता है।

इसके लिए आपका स्नातक पास होना जरुरी होता है और उसके बाद ही आप मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल इंजीनियर के पद पर नियुक्त किये जाते हैं। आइए जाने किस तरह से या किस प्रक्रिया के तहत आप मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर के पद पर नियुक्त हो पाते हैं।

मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर कैसे बने? (Merchant navy me electro technical officer kaise bane)

इसके लिए सबसे पहले तो आपको इलेक्ट्रॉनिक्स व इलेक्ट्रिकल में इंजीनियरिंग, बीटेक, डिप्लोमा या EEE करनी होगी। साथ ही उसमे न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक लाने होंगे। इसी के साथ आपको अपनी बारहवीं कक्षा में अंग्रेजी विषय में भी न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक लाने होंगे। उसी के बाद ही आप मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल इंजीनियर या ऑफिसर के लिए आवेदन दे सकते हैं।

इसके लिए आवेदन प्रक्रिया के बाद जो चयन प्रक्रिया है, वह उपर बताई गयी ग्रेजुएट मरीन इंजीनियर के समान ही होती है। इसके लिए आपको उसी तरह के टेस्ट देने होते हैं। इसके बाद आपको मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर के पद पर नियुक्ति दे दी जाएगी।

मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर बनने के लिए आयु सीमा

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर बनने के लिए आवेदन करने जा रहे हैं तो आपकी अधिकतम आयु सीमा 26 वर्ष होनी चाहिए। न्यूनतम की कोई सीमा नहीं है।

मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर की सैलरी

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में इलेक्ट्रो टेक्निकल ऑफिसर के पद पर नियुक्त हो जाते हैं तो आपकी शुरूआती सैलरी एक से दो लाख रुपए के बीच में होती है जो समय के साथ बढ़ती ही चली जाती है।

मर्चेंट नेवी में जॉब पाने के लिए आवेदन करना (Merchant navy job apply online in Hindi)

अब यदि आप मर्चेंट नेवी में ऊपर बताई गई किसी भी नौकरी के लिए आवेदन करना चाहते हैं तो उसके लिए ऑनलाइन प्रक्रिया दी गयी है जिसमे आप कभी भी और कैसे भी आवेदन कर सकते हैं। तो इसके लिए सबसे पहले तो आपको मर्चेंट नेवी की वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक http://www.indianmerchantnavy.com/ है। इनकी वेबसाइट पर पहुँचने के बाद आपको सबसे उपर ही दिए गए मेन्यू में अप्लाई ऑनलाइन का विकल्प मिल जाएगा जिस पर आपको क्लिक करना है।

इस पर क्लिक करने के बाद एक लंबा चौड़ा फॉर्म दिखाई देगा जिसे आपको भरना (Merchant navy me job ke liye apply kaise kare) होगा। इसे भरते ही आपका आवेदन मर्चेंट नेवी को मिल जाएगा। अब यदि उन्हें लगता है कि आपके साथ बात आगे बड़ाई जा सकती है तो आपको उसके लिए चुन लिया जाएगा अन्यथा आपका आवेदन निरस्त कर दिया जाएगा। आपके आवेदन को चुन लिए जाने के बाद आगे क्या कुछ होता है, यह पूर्ण रूप से आपके द्वारा अप्लाई की गयी पोस्ट पर ही निर्भर करेगा।

download app

मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे पाए – Related FAQs

प्रश्न: मर्चेंट नेवी में जॉब कैसे मिलती है?

उत्तर: मर्चेंट नेवी में जॉब मिलने के बारे में समूची जानकारी हमने आपको इस लेख के माध्यम से दे दी है जिसे आपको पढ़ना चाहिए।

प्रश्न: मर्चेंट नेवी का वेतन कितना है?

उत्तर: मर्चेंट नेवी का वेतन अलग अलग पोस्ट के लिए अलग अलग होता है जो 50 हज़ार से लेकर 10 लाख रुपए तक का होता है।

प्रश्न: मर्चेंट नेवी की भर्ती कब आती है?

उत्तर: मर्चेंट नेवी की भर्ती किसी भी समय आ सकती है और यह पूर्ण रूप से नेवी डिपार्टमेंट पर ही निर्भर करता है।

प्रश्न: मर्चेंट नेवी में कितने रैंक होते हैं?

उत्तर: मर्चेंट नेवी में 4 रैंक होते हैं।

इस तरह से आज के इस लेख के माध्यम से आपने मर्चेंट नेवी में जॉब पाने के ऊपर पूरी जानकारी ले ली है। तो क्या अब आप मर्चेंट नेवी में नौकरी करने को लेकर आश्वस्त है या अभी भी आपके मन में किसी तरह की शंका शेष रह गयी है। यदि ऐसा है तो आप नीचे कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं।

लविश बंसल
लविश बंसल
लविश बंसल वर्ष 2010 में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में प्रवेश लिया और वहां से वर्ष 2014 में बीटेक की डिग्री ली। शुरुआत से ही इन्हें वाद विवाद प्रतियोगिता में भाग लेना या इससे संबंधित क्षेत्रों में भाग लेना अच्छा लगता था। इसलिए ये काफी समय से लेखन कार्य कर रहें हैं। इनके लेख की विशेषता में लेख की योजना बनाना, ग्राफ़िक्स का कंटेंट देखना, विडियो की स्क्रिप्ट लिखना, तरह तरह के विषयों पर लेख लिखना, सोशल मीडिया कंटेंट लिखना इत्यादि शामिल है।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Leave a Comment