मेरा राशन कार्ड एप्प डाउनलोड, सुविधाएँ, लाभ, एक राष्ट्र एक राशन कार्ड

Mera Ration App Download, वन नेशन वन राशन, मेरा राशन कार्ड एप्प डाउनलोड लिंक, सुविधाएँ, और लाभ, Mera Ration App One Nation One Ration, Download, Features, Benefits

केंद्र सरकार की ओर से वन नेशन, वन राशन कार्ड स्कीम (One Nation, One Ration Card Scheme) शुरू की गई है। इसके तहत आर्थिक रूप से कमजोर और प्रवासी भी दूसरे शहरों में राशन डीलर से अनाज ले सकते हैं। लेकिन कई बार यह होता है कि भीड़ और लंबी लाइनों की वजह से लोगों को राशन लेने में दिक्कत होती थी। राशन कार्ड बुक की सार संभाल करनी पड़ती थी।

इस दिक्कत से निजात के लिए केंद्र सरकार की ओर से मेरा राशन एप (Mera Ration App) लांच किया गया है। आज इस पोस्ट में हम आपको इसी app के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

मेरा राशन कार्ड एप्प क्या है?

दोस्तों, आपको बता दें कि लोगों को घर बैठे ही राशन आर्डर करने और देश में किसी भी राशन डीलर से राशन प्राप्त करने‌ की सुविधा मुहैया कराने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने मेरा राशन कार्ड एप्प शुरू किया है। इसे खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण विभाग के सचिव सुधांशु पांडेय ने 15 मार्च, 2021 को लांच किया। यह मोबाइल एप सरकार की ओर से शुरू की गई वन नेशन वन राशन कार्ड योजना का ही हिस्सा है। इस योजना से देश भर में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (national food security act) यानी एनएसएफए (NFSA) के तहत आने वाले 69 करोड़ उपभोक्ता जुड़े हैं।

Mera Ration App | मेरा राशन कार्ड एप्प One Nation One Ration, Download, Features, Benefits

दोस्तों, यह एक एंड्रॉयड एप्लिकेशन है, जिसे राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (National informatics center) यानी NIC (एनआईसी) ने डेवलप किया है। इस app को उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय ने लांच किया है।

मेरा राशन कार्ड एप्प पर ऐसे रजिस्ट्रेशन करें?

दोस्तों, आपको बता दें कि इस एप पर रजिस्ट्रेशन की एक प्रक्रिया है, जिसके तहत आपको कुछ निर्धारित steps follow करने होंगे, जो कि इस प्रकार से हैं-

Total Time: 15 minutes

आपको सबसे पहले अपने मोबाइल के Google Play Store में जाना होगा।

इसके सर्च बॉक्स में Mera Ration app लिखकर सर्च करेंगे तो उसका आइकन (icon) सामने आ जाएगा।

इस पर click करके आप मेरा राशन कार्ड एप्प को install कर लेंगे। आप चांहे तो यहाँ क्लीक करके डायरेक्ट भी डाउनलोड कर सकतें हैं।Mera Ration App | One Nation One Ration, Download, Features, Benefits

ऐप डाउनलोड करने के बाद आपको इसमें अपना राशन कार्ड रजिस्टर्ड करना होगा। इसके लिए सबसे पहले ऐप को open करें।

यहां आपको Registration का option दिखाई देगा। आपको इस पर क्लिक करना होगा।

अब अपना राशन कार्ड नंबर इसमें डालकर Submit के option पर click कर दें। इस तरह एप पर आपके राशन कार्ड का रजिस्ट्रेशन हो जाएगा।

इस तरह आप आसानी से एप को इंस्टॉल कर सकते हैं और उस पर अपने राशन कार्ड को रजिस्टर कर सकते हैं।

मित्रों, आपने देखा कि यह प्रक्रिया कितनी आसान है। इन दिनों हर किसी के पास एंड्रॉयड स्मार्टफोन होता है। लिहाजा, कोई भी परिवार अपने मोबाइल फोन पर मेरा राशन कार्ड एप्प download करके राशन की दुकान को हर वक्त अपने मोबाइल में साथ लेकर चल सकता है।

मेरा राशन कार्ड एप्प के लाभ-

मेरा राशन कार्ड एप्प बेहद लाभकारी है। एक नज़र में देखें तो इसके लाभ इस प्रकार से हैं-

  • यह आपके डिजिटल राशन कार्ड (digital ration card) की तरह काम करेगा।
  • देश के किसी भी कोने में राशन ले सकते हैं।
  • एप के जरिए आप आसपास के राशन डीलरों (ration dealers) की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उन्हें locate कर सकते हैं।
  • राशन डीलर का लाइसेंस नंबर, नाम, पता आदि जानकारी हासिल की जा सकती है।
  • एप के जरिए आप जान सकते हैं कि आपको कितना गेहूं और चावल दिया जा रहा है? उसकी कीमत क्या है? आपको कितना राशन मिला है? आपको अभी कितना राशन मिलना बाकी है?
  • राशन कार्ड पर अब तक के वितरण का ब्योरा रख सकते हैं।
  • राशन डीलर को बदल सकते हैं। नजदीकी डीलर से राशन उठा सकते हैं।
  • आपका राशन कार्ड आधार (aadhar) से लिंक है या नहीं, इसे भी जांच सकते हैं।
  • इससे आपका समय भी बचता है।
  • सबसे बड़ा फायदा इससे राशन वितरण में पारदर्शिता आएगी।
  • राशन डीलर किसी के साथ बेईमानी नहीं कर सकेंगे।

दोस्तों, यह थे मेरा राशन कार्ड एप्प के कुछ लाभ। आपको बता दें कि इससे अन्य कई सुविधाएं होंगी। सबसे बड़ी बात कि आपका राशन कार्ड हर वक्त आपके मोबाइल फोन में आपके साथ रहेगा। आपको राशन कार्ड बुक की सार संभाल की जरूरत नहीं होगी।

दूसरे, जो लोग रोजगार के लिए एक शहर से दूसरे शहर जाने के लिए मजबूर हैं, उन्हें वहां उन दुकानों की पूरी जानकारी मिलेगी, जहां से वे राशन ले सकते हैं। साथ ही इस बात का भी पता चल जाएगा कि राशन कब और कितना आएगा और उन्हें कितना राशन मिलेगा। यह डाटा भी रहेगा कि आपने कब-कब, किस-किस दुकान से राशन लिया है।

कोरोना काल को देखते हुए यह एप विशेष उपयोगी

मित्रों, आपको बता दें कि कोरोना (corona) काल को देखते हुए यह एप विशेष सुविधा जनक है। आप जानते ही हैं कि कोरोना संक्रमण काल में प्रवासी मजदूरों को राशन के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। उसी समय लोगों की दूसरे राज्यों में राशन से जुड़ी दिक्कतों को देखते हुए केंद्र सरकार ने देश के नागरिकों के लिए वन नेशन वन राशन कार्ड योजना शुरू की थी। जिसके बाद देश का कोई भी नागरिक देश के किसी भी कोने से राशन लेने में समर्थ है।

हिंदी और अंग्रेजी में उपलब्ध, अब 14 भाषाओं में लाने की तैयारी

मित्रों, आपको बता दें कि यह एप अभी केवल हिंदी और अंग्रेजी भाषा में उपलब्ध है। लेकिन केंद्र सरकार जल्द ही इसे अन्य 14 भाषाओं में भी उपलब्ध कराने की तैयारी कर रही है। इससे इस एप को देश भर में लोग अपनी भाषा में use कर पाएंगे। उन लोगों को विशेष लाभ होगा, जो हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं का ज्ञान नहीं रखते। ऐसे में अपनी भाषा में एप होने से उनके लिए आसानी होगी। वे राशन से जुड़ी अपनी सारी जरूरतें इस एप के जरिए अपनी भाषा में solve कर सकेंगे।

हर महीने हो रहे डेढ़ करोड़ ट्रांजेक्शन्स (transactions)

दोस्तों, आपको बता दें कि my ration app लोगों के लिए बेहद उपयोगी साबित हो रहा है। इस एप के जरिए हर महीने डेढ़ करोड़ ट्रांजेक्शन्स हो रहे हैं। आपको बता दें कि इस वन नेशन वन राशन कार्ड सिस्टम की शुरुआत आज से करीब दो साल पहले अगस्त, 2019 में हुई थी। उस वक्त इसे सिर्फ 4 राज्यों में शुरू किया गया था। इसकी बढ़त का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दिसंबर, 2020 तक इसकी पहुंच देश के 32 राज्यों और क्रेंद्र शासित प्रदेशों तक हो गई है।

इस वक्त दुनिया के साथ ही भारत देश भी कोरोना की दूसरी लहर की चपेट में है। इस बार यह वायरस सीधे फेफड़ों पर अटैक कर रहा है। इसके साथ ही ब्लैक फंगस भी देखने को मिल रहा है। लोगों के लिए घर से बाहर निकलना बेहद मुश्किल बना हुआ है। ऐसे में यह एप लोगों को घर बैठे ऑर्डर की सुविधा भी प्रदान कर रहा है। आखिर इंसान सारी सुविधाएं छोड़ सकता है, लेकिन जिंदा रहने के लिए उसे खाने पीने यानी राशन की जरूरत तो हर हाल में है।

NFSA के तहत 81 करोड़ से अधिक को खाद्यान्न

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम यानी National Food Security Act (NFSA) के तहत सरकार सार्वजनिक वितरण प्रणाली यानी public distribution system (PDS) के जरिए 81 करोड़ से भी अधिक लोगों को एक रुपए से लेकर 3 रुपये प्रति किलोग्राम पर अधिक सब्सिडी के साथ खाद्यान्न मुहैया कराती है।

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के अनुसार अभी तक दिल्ली, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़ और असम में यह योजना लागू नहीं हो पाई है। यह तो आपको पता ही है कि पश्चिम बंगाल और असम में हाल ही में चुनाव होकर गुजरे हैं। उम्मीद है कि इन राज्यों में भी इस योजना को जल्द लागू किया जाएगा।

वन नेशन वन राशन कार्ड से पहले एक राज्य का राशन कार्ड दूसरे में नहीं चलता था

आपको बता दें कि माई राशन एप ने प्रवासियों की भी काफी मुश्किल आसान कर दी है। कोरोना संक्रमण की पहली लहर जब आई थी तो उस वक्त प्रवासियों को राशन के लिए बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ा था। लोगों को काम धंधा बंद हो जाने के बाद किराया और राशन की चिंता से साबका पड़ा तो उन्हें अपने घर लौट जाने के लिए मजबूर होना पड़ा था।

दरअसल, उस वक्त बाध्यता यह थी कि एक राज्य के राशन कार्ड पर दूसरे राज्यों में राशन नहीं लिया जा सकता था। उनकी इस दिक्कत को देखते हुए ही केंद्र सरकार वन नेशन, वन राशन कार्ड की योजना लाई थी। बाद में बहुत सारे राज्यों ने इसे अपने यहां लागू किया था। योजना के तहत अब इस एप से उनकी राशन कार्ड (ration card) संबंधी मुश्किल आसान हुई है।

मेरा राशन कार्ड एप्प से जुड़े सवाल

मेरा राशन कार्ड एप्प को किसने लांच किया है?

इसके app को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने लांच किया है।

मेरा राशन कार्ड एप्प का क्या लाभ है?

यह एप आपके लिए डिजिटल राशन कार्ड की तरह काम करेगा। इस पर आपके द्वारा लिए गए राशन का सारा ब्योरा दर्ज होगा।

इस एप के जरिए किन राज्यों में राशन लिया जा सकेगा?

मेरा राशन कार्ड एप्प के माध्यम से देश भर में किसी भी कोने से राशन लिया जा सकेगा।

मेरा राशन कार्ड एप्प कितनी भाषाओं में उपलब्ध है?

यह एप अभी केवल दो भाषाओं हिंदी और अंग्रेजी में उपलब्ध है। इसे जल्द ही 14 भाषाओं में लाए जाने की तैयारी है।

क्या इस एप के जरिए घर के नजदीकी राशन डीलर को locate किया जा सकता है?

जी हां, इस एप के जरिए यह संभव है।

अंतिम शब्द

जिन्होंने भी कोरोना संक्रमण काल के दौरान शहरों में काम धंधा गंवा चुके लोगों को अपने गांव-घर लौटते देखा होगा, वह उसकी विभीषिका भुला न पाया होगा। सड़क पर चलते चलते कई लोगों ने दम भी तोड़ दिया। इस एप से इस तरह के प्रवासी श्रमिकों की समस्या काफी हद तक हर हुई।

एक तरफ जहां कोरोना की वजह से लोगों का शहर छुटा तो गांवों के लिए अच्छी बात यह हुई कि लोगों ने लौटकर अपने अपनों, अपने छोड़े गए घरों की सुध ली। उत्तराखंड की ही बात करें तो पलायन कर चुके सैकड़ों प्रवासियों ने गांवों में रहकर वहीं रोजगार का फैसला किया, जिसमें सरकार ने भी उनकी बहुत सहायता की। बहुत ऐसे लोग थे, जो कोरोना की दूसरी लहर में अपने गांव लौटे। One nation, one card योजना से उनकी बहुत सहायता हुई। Mera ration app से उन्हें और सहूलियत मिली है।

दोस्तों, यह थी मेरा राशन कार्ड एप्प से जुड़ी सारी जानकारी। उम्मीद है कि यह जानकारी भरी post आपके लिए उपयोगी साबित होगी। यदि आप इसी प्रकार के किसी अन्य विषय के बारे में जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स (comment box) में कमेंट (comment) करके हमें बता सकते हैं। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment