महाराष्ट्र स्वाधार योजना | लाभ, पात्रता, उद्देश्य व आवेदन प्रक्रिया

महाराष्ट्र स्वाधार योजना क्या है? | Maharashtra swadhar yojana kya hai? | What is Maharashtra swadhar scheme? | महाराष्ट्र स्वाधार योजना का पात्र कौन होगा? | महाराष्ट्र स्वाधार योजना के लिए आवेदन कैसे करें? ||

हमारे देश में केंद्र सरकार के साथ ही विभिन्न राज्य सरकारें भी गरीब छात्रों की सहायता के लिए विभिन्न योजनाएं संचालित कर रही हैं। यदि बात महाराष्ट्र सरकार की करें तो वह भी गरीब छात्रों के लिए विभिन्न योजनाओं का संचालन कर रही है। इसी प्रकार की एक योजना महाराष्ट्र स्वाधार योजना भी है। इस योजना के माध्यम से महाराष्ट्र सरकार छात्र छात्राओं की आवास संबंधी एक बड़ी समस्या का हल करने का महती कार्य कर रही है। आज इस पोस्ट में हम इसी योजना के बारे में जानेंगे । आपको बताएंगे कि यह योजना क्या है? इसकी पात्रता क्या है? योजना के लिए आवेदन कैसे करें? इसके लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता होगी? किन स्थितियों में इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा आदि। उम्मीद करते है कि आपको यह पोस्ट पसंद आएगी-

Contents show

महाराष्ट्र स्वाधार योजना-2024 क्या है? (What is Maharashtra swadhar yojana-2023)

महाराष्ट्र स्वाधार योजना का पूरा नाम बाबा साहेब अंबेडकर महाराष्ट्र स्वाधार योजना है। आप इसके नाम से ही समझ सकते हैं कि यह महाराष्ट्र सरकार की योजना है। इस योजना को महाराष्ट्र के सामाजिक न्याय एवं विशेष सहायता विभाग (social justice and special assistance department) द्वारा संचालित किया जा रहा है।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना लाभ, पात्रता, उद्देश्य व आवेदन प्रक्रिया

इस योजना के अंतर्गत महाराष्ट्र के अनुसूचित जाति (shedule caste) एवं नव बौद्ध श्रेणी के 10वीं एवं 12वीं, डिप्लोमा (Diploma) एवं व्यावसायिक पाठ्यक्रमों (professional courses) के छात्रों को उनके आवास (boarding/lodging) आदि खर्च पूरे करने के लिए 51 हजार रुपए की सहायता राशि प्रदान की जाती है।

योजना का नाम स्वाधार योजना
राज्य महाराष्ट्र
साल 2024
विभागमहाराष्ट्र समाज कल्याण विभाग
लाभार्थीअनुसूचित जाति और नव बौद्ध श्रेणी के छात्र
उद्देश्यछात्रों को आर्थिक सहायता देना
आर्थिक सहायताप्रतिवर्ष 51 हजार रूपये

51 हजार की सहायता राशि में कौन कौन से खर्च शामिल हैं? (What expenses are included in the 51 thousands financial help?)

हमने आपको अभी बताया कि महाराष्ट्र स्वाधार योजना के अंतर्गत छात्र को 51 हजार रूपए की आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है। अब आप यह जरूर जानना चाहते होंगे कि इस राशि में कौन कौन से खर्च शामिल होते हैं। आइए, एक नजर उन पर डाल लेते हैं, जो कि निम्नवत हैं-

  • बोर्डिंग सुविधा (boarding facility)–28,000 रुपए
  • लॉजिंग सुविधा (lodging facility)–15,000 रुपए
  • विविध खर्च (different expenses)—8,000 रुपए

महाराष्ट्र स्वाधार योजना का पात्र कौन होगा? (Who will be eligible for Maharashtra swadhar yojana?)

यदि पात्रता की बात करें तो इस योजना का पात्र केवल वही छात्र होंगे, जिन्हें सरकार हास्टल में प्रवेश नहीं मिल सका है। यह राशि उन्हें उनके आवास एवं अन्य खर्चों के लिए दी जाती है। इस योजना का पात्र बनने के लिए छात्र को यह शर्तें पूरी करनी होंगीं-

  • आवेदक महाराष्ट्र का स्थाई निवासी हो।
  • आवेदक अनुसूचित जाति अथवा नव बौद्ध श्रेणी से ताल्लुक रखता हो।
  • आवेदक के परिवार की वार्षिक आय ढाई लाख रुपए अथवा इससे कम हो।
  • आवेदक का अपना बैंक खाता हो, जो आधार कार्ड से लिंक हो।
  • आवेदक के पिछली कक्षा में 60 प्रतिशत से कम अंक न हों। (दिव्यांग छात्रों के लिए यह अंक सीमा 40 प्रतिशत रखी गई है।)
  • 10वीं अथवा 12वीं के बाद छात्र जिस पाठ्यक्रम के लिए आवेदन करें वह दो वर्ष से अधिक का न हो।

नव बौद्ध कौन होते हैं? (Who are nav Buddhist?)

हमने आपको बताया कि नव बौद्व भी इस योजना के पात्र होंगे, ऐसे में आपके भीतर यह सवाल उठना स्वाभाविक है कि यह नव बौद्ध कौन हैं। दरअसल, यह केंद्र एवं राज्य सरकारों द्वारा भारत के धर्म परिवर्तन कर बौद्ध बने लोगों के लिए इस्तेमाल होने वाली एक सरकारी संज्ञा है। इन्हें अंबेडकरवादी बौद्ध भी पुकारा जाता है। इसकी वजह यह है कि ये सभी भारत के संविधान निर्माता डॉ. भीमराव रामजी अंबेडकर की प्रेरणा पाकर बौद्ध बने हैं।

यदि कुल भारतीय बौद्धों की बात करें तो इनमें 95 प्रतिशत के आस पास नव बौद्ध ही हैं। यदि हमारे देश में इनकी आबादी की बात करें तो वह करीब 24-25 करोड़ हैं। खास बात यह है कि हिंदू धर्म छोड़कर इन बौद्ध बनने वालों में अधिकांशतः अनुसूूचित जाति से ताल्लुक रखते थे। एक रिपोर्ट बताती है कि बौद्ध बने इन लोगों के शिक्षा के स्तर में गजब का सुधार हुआ है। महाराष्ट्र सरकार भी इनकी शिक्षा की ओर से विशेष रूप से ध्यान केंद्रित कर रही है, ताकि ये अपने जीवन में आगे बढ़ सकें व तरक्की कर सकें।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना का क्या उद्देश्य है? (What is the objective of Maharashtra swadhar yojana?)

महाराष्ट्र सरकार का इस योजना को चलाए जाने का मकसद छात्रों को उनके आवास की उचित व्यवस्था के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है ताकि उन्हें अपनी पढ़ाई जारी रखने में किसी प्रकार की समस्या न हो। किसी भी छात्र या छात्रा की पढ़ाई में उसकी आर्थिक स्थिति की वजह से कोई बाधा न आए। सरकार की इस योजना के सकारात्मक परिणाम भी देखने को मिल रहे हैं।

दरअसल, छात्र-छात्राएं अपने संस्थान के आसपास या शहर में नहीं रहते कुछ ऐसे होते हैं, जो संस्थानों से खासी दूरी पर स्थित गांवों में रहते हैं। ऐसे में पढ़ाई के लिए रोज आना जाना कई बार मुश्किल होता है, जबकि कई बार आने जाने में ही उनका सारा समय निकल जाता है। यह पढ़ाई पर पूरा फोकस नहीं कर पाते और ना ही उनके पास अपने डेली अप डाउन के लिए पैसा ही होता है। सरकार की इस आवास संबंधी योजना से ऐसे छात्रों का भला हो रहा है।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना-2024 के लिए अप्लाई करने को आवश्यक दस्तावेज क्या हैं? (What documents are required to apply for Maharashtra swadhar yojana?)

यदि आप भी महाराष्ट्र स्वाधार योजना की पात्रता पूरी करते हैं और इसके लिए अप्लाई करना चाहते हैं तो आपको कुछ दस्तावेज (documents) आवश्यक रूप से सबमिट (submit) करने होंगे। यह दस्तावेज निम्न प्रकार से हैं-

  • आवेदक का आधार कार्ड।
  • आवेदक के बैंक खाते का ब्योरा। (याद रखें कि यह खाता आधार कार्ड से लिंक हो।)
  • आवेदक का आय प्रमाण पत्र।
  • आवेदक का जाति प्रमाण पत्र।
  • आवेदक का पासपोर्ट साइज फोटो।
  • आवेदक का मोबाइल नंबर। (याद रखें कि यह मोबाइल नंबर एक्टिव होना चाहिए।)

महाराष्ट्र स्वाधार योजना के लिए आवेदन कैसे करें? (How to apply for Maharashtra swadhar yojana?)

महाराष्ट्र स्वाधार योजना के लिए आवेदन करन को महाराष्ट्र सरकार द्वारा आनलाइन सुविधा (online facility) मुहैया नहीं कराई गई है। यदि आप चाहें तो आनलाइन फार्म डाउनलोड (online form download) कर सकते हैं। लेकिन बेहतर होगा कि आप अपने जिला समाज कल्याण विभाग जाकर सहायक समाज कल्याण आयुक्त (assistant commissioner social welfare) से जाकर यह फार्म लें। आवेदन की प्रक्रिया इस प्रकार से है-

  • सबसे पहले महाराष्ट्र स्वाधार योजना की आधिकारिक वेबसाइट sjsa.maharashtra.gov.in पर जाएं।
  • यहां होम पेज पर बाबा साहेब डॉ. अंबेडकर स्वाधार योजना फार्म पीडीएफ (application form pdf) का लिंक होगा।
  • आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इतना करते ही आपके सामने इस योजना का फार्म खुल जाएगा।
  • आपको इस फार्म को डाउनलोड (download) कर उसका प्रिंट (print) निकालना होगा।
  • आप चाहें तो समाज कल्याण विभाग के कार्यालय जाकर भी इस योजना का फार्म ले सकते हैं।
  • इसके बाद आप फार्म में पूछी गई सारी जानकारी सही सही भरें और अपने कोर्स के हिसाब से मांगे गए सारे दस्तावेज इस फार्म के साथ अटैच करें।
  • इसके बाद मय दस्तावेज इस फार्म को अपने नजदीकी समाज कल्याण विभाग में जमा कर दें।
  • आपके द्वारा जमा किए गए दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा।
  • इनके सही पाए जाने पर सहायता राशि आपके बैंक खाते में भेज दी जाएगी।

यदि योजना के लिए आवेदन में कोई समस्या आए तो कहां संपर्क करें? (Where to contact if there in any problem in applying for the scheme?)

यदि आपको इस योजना के लिए आवेदन करने में कोई कठिनाई आ रही हो अथवा आप इस योजना के संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो फोन नंबर 020-26127569 पर संपर्क कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त यदि आप चाहें तो swadhar.swho@gmail.com पर अपनी कठिनाई के बारे में लिखकर ईमेल कर सकते हैं और अपनी दिक्कत का समाधान प्राप्त कर सकते हैं.

महाराष्ट्र स्वाधार योजना की शुरूआत कब हुई? यह कितनी उपयोगी है? (When did Maharashtra swadhar yojana start? It is how much useful?)

महाराष्ट्र स्वाधार योजना की शुरुआत कोई आज कल में नहीं, बल्कि आज से करीब पांच वर्ष पूर्व सन् 2017 में हुई थी। यह तो आप जानते ही हैं कि लगातार नए शिक्षण, इंजीनियरिंग एवं अन्य संस्थान खुल रहे हैं। ऐसे में बच्चे इन संस्थानों में प्रवेश भी खूब ले रहे हैं। अब सभी को हास्टल मुहैया कराना सरकार के वश की बात नहीं, क्योंकि हास्टल सीमित हैं। ऐसे में गरीब छात्र छात्राओं को आवास संबंधी समस्या हो जाती है। छात्र छात्राओं की यह दिक्कत दूर करने के लिए महाराष्ट्र सरकार द्वारा यह योजना चलाई गई थी, जिसका पांच सालों में हजारों छात्र लाभ उठा चुके हैं। कोरोना काल में अवश्य ऐसे छात्रों की संख्या में कमी देखने को मिली थी, लेकिन अब उसके बाद अनुसूचित जाति एवं नव बौद्ध श्रेणी के छात्र छात्राएं इस योजना का भरपूर लाभ उठा रहे हैं।

किन स्थितियों में इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा? (In which conditions benefits of this scheme can’t be availed?)

महाराष्ट्र स्वाधार योजना की संपूर्ण जानकारी तो हमने आपको दे दी, लेकिन इसके पश्चात अब जरा आप यह भी जान लीजिए कि किन स्थितियों में इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। यदि कोई छात्र पहले से ही किसी सरकारी छात्रावास में रह रहा है तो वह इस योजना के लिए आवेदन करने का पात्र नहीं होगा। यदि कोई छात्र अथवा छात्रा पहले से ही सरकार द्वारा वित्त पोषित किसी योजना का लाभार्थी है तो वह भी इस योजना के तहत आवेदन नहीं कर सकेगा। किसी भी अभ्यर्थी को योजना के बारे में पूरा पढ़कर ही आवेदन करना चाहिए, ताकि उसका समय व श्रम बच सके।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना किस सरकार की योजना है?

यह महाराष्ट्र सरकार की योजना है।

इस योजना की शुरुआत कब हुई थी?

इस योजना की शुरुआत महाराष्ट्र में आज से पांच वर्ष पूर्व सन् 2017 में हुई थी।

इस योजना के अंतर्गत छात्रों को क्या सुविधा दी जाती है?

इस योजना के अंतर्गत छात्रों को आवास एवं अन्य खर्चों के लिए 51 हजार रुपए की सहायता राशि प्रदान की जाती है।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना किस वर्ग के छात्रों के लिए लाई गई है?

यह योजना अनुसूचित जाति एवं नव बौद्ध श्रेणी के छात्रों के लिए लाई गई है।

महाराष्ट्र स्वाधार योजना के तहत क्या किसी भी राज्य का छात्र आवेदन कर सकता है?

जी नहीं, इसके लिए महाराष्ट्र का स्थाई निवासी होना आवश्यक है।

क्या इस योजना का लाभ किसी भी आय वर्ग के विद्यार्थी ले सकते हैं?

जी नहीं, इस योजना का लाभ लेने के लिए अभ्यर्थी की पारिवारिक सालाना आय ढाई लाख रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए।

यदि छात्र पहले ही किसी सरकारी हास्टल में रह रहा है तो क्या वह स्वाधार योजना में आवेदन कर सकता है?

जी नहीं, वह ऐसा नहीं कर सकता।

क्या किसी अन्य सरकारी वित्त पोषित योजना का लाभार्थी इस योजना के लिए आवेदन कर सकता है?

जी नहीं, वह ऐसा नहीं कर सकता।

क्या महाराष्ट्र स्वाधार योजना के लिए आनलाइन आवेदन किया जा सकता है?

जी नहीं, इस योजना के लिए अभी केवल आफलाइन आवेदन की ही सुविधा दी गई है।

download app

इस योजना का संचालन किसके जिम्मे है?

इस योजना का संचालन सामाजिक न्याय एवं विशेष सहायता विभाग के जिम्मे है।

स्वाधार योजना में आवेदन के लिए किन दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी?

इन दस्तावेजों की पूरी सूची हमने आपको ऊपर र पोस्ट में बताई है। आप वहां से विस्तार में पढ़ सकते हैं।

योजना में आवेदक के बैंक खाते से जुड़ी क्या शर्त है?

योजना में यह शर्त रखी गई है कि आवेदक का बैंक खाता उसके आधार कार्ड से लिंक होना चाहिए।

आवेदक को अपनी आय एवं जाति के सत्यापन के लिए कौन से प्रमाण देने होंगे?

आवेदक को अपनी आय एवं जाति के सत्यापन के लिए अपने आवेदन पत्र के साथ क्रमशः अपना आय प्रमाण पत्र एवं जाति प्रमाण पत्र लगाना होगा।

आवेदक को सहायता राशि का भुगतान कैसे होगा?

आवेदक के लिए मंजूर आर्थिक सहायता राशि सीधे उसके बैंक खाते में भेजा दी जाएगी।

इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि महाराष्ट्र स्वाधार योजना 2024 क्या है? यदि महाराष्ट्र में आपका कोई परिचित अथवा जानकार है, जिसकी वित्तीय स्थिति अच्छी नहीं और वह आगे पढ़ाई करना चाहता है तो इस पोस्ट को उसके साथ अवश्य शेयर करें, ताकि वह महाराष्ट्र सरकार की इस योजना का लाभ उठा सके। धन्यवाद।

मृदुला वर्मा
मृदुला वर्मा
मृदुला हिंदी में स्नातकोत्तर हैं। उसके पास बीएड की डिग्री भी है। वह अध्यापन के पेशे में हैं और जब शैक्षिक विषयों की बात आती है तो उन्हें लिखना अच्छा लगता है। वह वंचितों के लिए शिक्षा की प्रबल समर्थक और सभी के लिए शिक्षा की हिमायती हैं। उनकी रुचि में समाजसेवा, लेखन और लोगों से बात कर उनकी समस्याओं को जानना शामिल था ताकि वे उन्हें हल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकें।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Leave a Comment