माचिस बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? माचिस बनाने की विधि, लागत और प्रॉफिट (Matchbox Manufacturing Business Hindi)

Matchbox Manufacturing Business Hindi:- क्या आप माचिस बनाने का बिज़नेस करना चाहते हैं? दरअसल किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी होना बहुत आवश्यक हैं। फिर चाहे वह माचिस का बिज़नेस (Machis ka business kaise kare) ही क्यों ना हो। यदि आप माचिस जैसा बिज़नेस करना चाहते हैं तो आपको माचिस बनाने की मशीन, उसमे आने वाली लागत (Machis ka business kaise karen), उससे मिलने वाला फायदा इत्यादि के बारे में पता होना चाहिए।

ऐसे में यदि आप भी माचिस बनाने का बिज़नेस शुरू करने जा रहे हैं तो आज हम आपको इस लेख के माध्यम से (Machis banane ka business) माचिस बनाने के ऊपर हर एक जानकारी देंगे। इस लेख के माध्यम से आप जान पाएंगे कि आखिरकार माचिस बनाने के लिए आपको (Machis banane ka karkhana) किस किस चीज़ की आवश्यकता पड़ेगी और उसके लिए आप क्या क्या कर सकते हैं।

Contents show

माचिस बनाने के बिज़नेस की जानकारी (Matchbox Manufacturing Business Hindi)

माचिस दिखने में भले ही छोटी हो या फिर इसकी कीमत कम लगे। आपको शायद यह भी लगे कि यह एक या दो रुपए की माचिस बनाकर आप क्या ही कमा लेंगे। तो आज हम आपको बता दे कि माचिस की कीमत कम होने के बाद भी यह हर घर में इस्तेमाल की जाने वाली चीज़ हैं। साथ ही यह महँगी ना होने के कारण लोग इसे बहुत मात्रा में खरीदते हैं।

बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें माचिस बनाने की विधि लागत और प्रॉफिट Matchbox Manufacturing Business Hindi

ऐसे में आपको माचिस बनाने के बिज़नेस के बारे में शुरू से ही पूरी जानकारी होनी चाहिए। यदि आप इसके बारे में जानकारी नही रखेंगे तो फिर आपको नुकसान हो सकता हैं। कहने का अर्थ यह हुआ कि माचिस भले ही दिखने में छोटी लगती हो लेकिन इसका बिज़नेस बहुत बड़ा हो सकता हैं। इसलिए आपको पहले से ही बहुत सारी चीजों का ध्यान रखना होगा और उसी के अनुसार आगे बढ़ना होगा।

माचिस बनाने के बिज़नेस में आपको कई तरह की चीज़े देखनी होगी, जैसे कि इसके लिए कौन सी मशीन आती हैं या आपको क्या क्या रॉ मटेरियल की आवश्यकता पड़ेगी, इसके लिए जमीन कहां की सही रहेगी, इसमें कितना निवेश करना पड़ेगा या कितना पैसा लगेगा, फायदा कितना होगा, आप इसकी मार्केटिंग कैसे करेंगे इत्यादि। तो आज हम आपको इन्ही सब चीजों के बारे में विस्तार से बताएँगे ताकि आप चिंता मुक्त होकर माचिस का बिज़नेस शुरू कर सके।

माचिस का बिज़नेस करने के लिए एक बिज़नेस प्लान (Machis business plan in Hindi)

अब आप एक नया बिज़नेस शुरू करने जा रहे हैं और वह आप केवल हवा हवा में ही शुरू करने का सोच रहे हैं तो इससे ना केवल आप अपना नुकसान कर रहे हैं बल्कि अपने घरवालो पर भी आर्थिक नोझ लाद रहे है। आपने कही से माचिस के बिज़नेस के बारे में सुन लिया और आपको यह अच्छा लगा। इसके बाद आपने बिना किसी प्लान के इसे शुरू करने का भी निर्णय ले लिया तो एक तरह से आप अपने पैर पर कुल्हाड़ी मार रहे हैं।

किसी भी बिज़नेस को सफल करने और उसे आगे ले जाने के लिए आपको एक बिज़नेस प्लान की आवश्यकता होती हैं। इस बिज़नेस प्लान में आप यह सब चीज़े शामिल करेंगे जैसे कि आप माचिस का बिज़नेस कैसे और कहां शुरू करने जा रहे हैं, आपके पास कितना पैसा है लगाने को और आप इसे किस लेवल पर शुरू करने जा रहे हैं, क्या आपको बैंक या अन्य किसी जगह से ऋण लेने की भी आवश्यकता है या नही।

इसी के साथ कई अन्य चीज़े आएँगी जो आपको अपना माचिस का बिज़नेस शुरू करने से पहले देखनी होगी। यदि आपने एक सही प्लान बनाए बिना इसे शुरू किया तो यह शुरू होने से पहले ही बंद हो जाएगा। वही यदि आपने एक प्रॉपर बिज़नेस प्लान बना लिया और फिर माचिस बनाने का बिज़नेस हरु करेंगे तो अवश्य ही यह बहुत आगे जाएगा।

माचिस के बिज़नेस के लिए जगह (Machis banane ke liye jagah)

अब आपके मन में यह प्रश्न उठ रहा होगा कि आप अपना माचिस बनाने का बिज़नेस शुरू कहां से करे। दरअसल जो किसी चीज़ को बेचने जा रहा हैं उसे जगह की सबसे बड़ी दिक्कत होती हैं लेकिन आप तो किसी चीज़ का निर्माण करने जा रहे हैं, ऐसे में आपको जगह की दिकत ना के बराबर ही होगी। कहने का अर्थ यह हुआ कि आप अपने स्तर पर इसे कही भी शुरू कर सकते हैं।

यदि आप माचिस का बिज़नेस एक छोटे स्तर पर शुरू करने का सोच रहे हैं तो इसे आप अपने घर पर या घर की छत पर शुरू कर सकते हैं। आप चाहे तो घर के (Machis banane wali factory) किसी खाली पड़े कमरे में भी इसे शुरू कर सकते हैं। फिर जैसे जैसे आपका माचिस बनाने का बिज़नेस बढ़ने लगे तो आप इसे अगले स्तर तक लेकर जा सकते हैं। कहने का अर्थ यह हुआ कि आप इसके लिए एक बड़ी जगह खरीद सकते हैं।

हालाँकि माचिस बनाना कोई इतना मुश्किल काम नही होता हैं और यह कही भी खोला जा सकता है। यह केवल इस बात पर निर्भर करता हैं कि व्यक्ति किस तरह से और किस लेवल पर माचिस बनाने का बिज़नेस शुरू करने जा रहा हैं। उसी के अनुसार उसे जगह का चुनाव करना होता है फिर चाहे वह उसके घर का कोई कमरा हो या एक बड़ी जगह।

माचिस बनाने के लिए कच्चा माल (Machis banane ke liye raw material)

अब आप माचिस बनाने का बिज़नेस हरु करने जा रहे हैं तो आपको इसके लिए कच्चा माल भी खरीदना होगा। इसे रॉ मटेरियल कहा जाता है जो माचिस बनाने के काम आता है। इसी से आप माचिस बनाकर लोगों को बेच पाओगे और अपना बिज़नेस आगे बढ़ा पाओगे। तो माचिस के कच्चे माल में यह सब चीज़े आएँगी।

  • लकड़ी
  • पोटैशियम क्लोरेट
  • गोंद
  • रंग
  • गंधक
  • पैकेजिंग पेपर
  • स्टीकर
  • लाल फास्फोरस
  • पाउडर गिलास
  • मोटा कागज इत्यादि।

माचिस बनाने के लिए मशीन (Machis banane ke liye machine)

अब यदि आप केवल कच्चा माल ले आएंगे और उसके लिए मशीन नही लायेंगे तो फिर माचिस बनायेंगे कैसे। कहने का अर्थ यह हुआ कि माचिस बनाने के लिए (Machis banane ka udyog) आपको मशीन की भी आवश्यकता पड़ेगी। अब यदि आप बाजार से कटी कतई लकड़ियाँ लेकर आएंगे तो कोई बात नही लेकिन आप साबुत लकड़ियाँ लेकर आ रहे हैं तो आपको उसके लिए मशीन भी लानी होगी।

इसके लिए आपको लड़की को आकर देने और उसे काटने (Machis banane ki machine price) के लिए ही मशीन चाहिए होगी। बाकि सब काम तो आप अपने हाथ से ही कर लेंगे। हालाँकि यदि आप इसे बड़े स्तर पर खोलना चाहते हैं तो फिर आपको माचिस बनाने की हर मशीन खरीदनी होगी। इसमें आपको चैन सॉ, रोटेटिंग ड्रम, केमिकल टैंक, फिलिंग मशीन, पैकेजिंग मशीन इत्यादि आएँगी।

माचिस बनाने की प्रक्रिया (Machis banane ka tarika)

अब यदि आप माचिस बनाने का बुसिनेस शुरू करने जा रहे हैं तो आपको माचिस बनाने की प्रक्रिया के बारे में भी जानना होगा। यदि आपको इसकी प्रक्रिया के बारे में सही से और पूरी जानकारी हो गयी तो फिर आप आसानी से इस बिज़नेस को सफल बना सकते हैं। आइए जाने माचिस बनाने की संपूर्ण प्रक्रिया के बारे में विस्तार से।

  • सबसे पहले तो आपको माचिस की बिना बारूद की तिल्ली तैयार करनी होगी। इसके लिए आपको लकड़ी को पतले और महीन आकर में और वो भी एक ही शेप में काटना होगा। यह आप मशीन की सहायता से ही कर पाएंगे क्योंकि यह काम हाथ से नही हो सकता है।
  • अब आपको उस तिल्ली को फास्फोरस के घोल में डुबोना होगा ताकि वह अच्छे से साफ हो जाए और इसमें किसी तरह की गंदगी ना हो।
  • इसके बाद आप माचिस की तिल्ली पर रसायन का मिश्रण लगाए जिसे बारूद भी कहा जा सकता है। इसी मिश्रण को रगड़ने पर माचिस की तिल्ली जलती है और अपना काम करती है। यह मिश्रण आप गोंद की सहायता से चिपका पाएंगे। इससे वह बारूद माचिस की तिल्ली से उतरेगा नही।
  • अब आपकी माचिस की तिल्ली तो तैयार हो चुकी हैं। अगला लक्ष्य है माचिस की डिब्बी को तैयार करना। इसके लिए भी आपको अलग से मेहनत करने की आवश्यकता हैं। सबसे पहले तो आप यह देखिये कि आपको माचिस की डिब्बी कितनी बड़ी या छोटी तैयार करनी हैं।
  • फिर आप उसी के अनुसार माचिस की डिब्बी तैयार करे। इसे तैयार करने में आप लकड़ी की छाल या लकड़ी ही या मोटा कागज इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे डिब्बी को एक आकार दे और उसे खुलने और बंद होने का स्थान दे।
  • जब डिब्बी का आकार तय हो जाए तब उस पर चिपकाने के लिए एक स्टीकर लगाए। यह स्टीकर ही आपकी पहचान होगा क्योंकि इसी पर आपके बिज़नेस का नाम लिखा होगा। इसलिए इस स्टीकर पर एक अच्छा सा बिज़नेस का नाम सोचकर लिखवा दे और बाकि सब जानकारी भी अंकित करवा दे जैसे कि उसका मूल्य, तिल्लियों की संख्या, निर्माण की जगह इत्यादि।
  • अब जब डिब्बी तैयार हो जाए तो आप माचिस को उसमे भर दे। हर माचिस की डिब्बी में तिल्लियो की संख्या एक ही रखे। आप चाहे तो माचिस को खुशबूदार बनाने के लिए उसमे कुछ गंध भी मिला सकते हैं ताकि यह आकर्षक लगे।

तो इस तरह से आप माचिस की तिल्ली और माचिस की डिब्बी को तैयार कर संपूर्ण माचिस तैयार कर पाएंगे। इसमें इस बात का पूरा पूरा ध्यान रखे कि यह आप एक ही आकार में और आपके कंपनी के नाम के साथ ही छापे। साथ ही इसमें तिल्लियो की संख्या और आकार भी सब बराबर ही हो।

माचिस का बिज़नेस शुरू करने की लागत

अब हम बात करेंगे कि आपको माचिस का बिज़नेस शुरू करने में कितना निवेश करना पड़ेगा या फिर आपका इसमें कितना खर्चा हो जाएगा। दरअसल किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले उसके लिए बजट बना लिया जाए तो आसानी रहती हैं। यदि वह बजट के बाहर चला जाए तो फिर परेशानी का सामना करना पड़ सकता हैं।

इसलिए आपका यह जानना बहुत ही आवश्यक हैं कि माचिस का बिज़नेस शुरू करने में आपका कितना खर्चा हो सकता हैं। तो यदि आप माचिस का बिज़नेस शुरू करने का सोच रहे हैं और इसे छोटे स्तर पर शुरू करने जा रहे हैं तो फिर इसे शुरू करने आपका 50 हज़ार से लेकर एक लाख तक का खर्चा हो सकता हैं। हालाँकि यह आप पर निर्भर करता हैं कि आप इसे किस तरह से शुरू करते हैं।

वही यदि आप माचिस के बिज़नेस को बड़े स्तर पर शुरू करें जा रहे हैं तो आपको इसके लिए बहुत पैसा खर्च करना पड़ेगा। वह इसलिए क्योंकि इसके लिए आपको मशीन खरीदनी पड़ेगी। वह इसलिए क्योंकि बड़े स्तर पर काम हाथ से ही नही हो सकता हैं और इसके लिए मशीन की आवश्यकता पड़त ही पड़ती हैं। ऐसे में माचिस का बिज़नेस शुरू करने में आपका 5 से 10 लाख तक का खर्चा हो सकता हैं।

तो आप जिस भी स्तर पर माचिस का बिज़नेस शुरू करें जा रहे हैं उसे पूरा सोच समझ कर ही करे। यदि आप बिना सोचे समझे इसे शुरू कर देंगे तो बाद में पैसो की दिक्कत हो सकती हैं। फिर आपको ही नुकसान झेलना पड़ेगा और किसी को नही।

माचिस का बिज़नेस शुरू करने के लिए लाइसेंस (Machis ka business karne ke liye licence)

अब यदि आप माचिस का बिज़नेस शुरू करने जा रहे हैं तो उसके लिए आपको कुछ लाइसेंस भी लेने आवश्यक हैं अन्यथा आप यह काम नही कर पाएंगे। कहने का तात्पर्य यह हुआ कि किसी भी बिज़नेस को शुरू करने से पहले उसका लाइसेंस लेना आवश्यक होता हैं और उसके बिना आप उस बिज़नेस को शुरू नही कर पाते हैं।

यदि आप बिना लाइसेंस लिए माचिस का बिज़नेस शुरू कर देंगे और उसका निर्माण करने लगेंगे तो आपके ऊपर कानूनी कार्यवाही की जा सकती हैं। ऐसे में आपका दानदा तो बंद हो ही जाएगा बल्कि आपको जेल में भी डाल दिया जाएगा। इसलिए आप पहले से यह लाइसेंस अवश्य लेकर रख ले।

  • अपने बिज़नेस का पंजीकरण
  • अपने बिज़नेस के नाम का भी पंजीकरण
  • एक ट्रेड मार्क
  • बिज़नेस करने के लिए पैन कार्ड
  • व्यापार करने का लाइसेंस
  • बिज़नेस बड़ा है तो उसका बीमा तथा अन्य आवश्यक दस्तावेज।

माचिस का बिज़नेस करने के लिए लोन

अब यदि आप माचिस का बिज़नेस शुरू करने जा रहे हैं लेकिन आपके पास इतना पैसा नही हैं तो आप चिंता मत कीजिए। इसके लिए आप कई जगह से लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं। आजकल तो भारत सरकार के द्वारा भी सरकारी बैंक में कई तरह की योजनाएं चलाई जा रही हैं जिसके तहत लोगों को अपना व्यापार शुरू करने के लिए लोन की सुविधा प्रदान की जाती हैं।

आप प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत बिज़नेस लोन प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा आपको सरकारी बैंक से कई अन्य तरह के ऋण की भी सुविधा मिल जाएगी। इस तरह से आप लोन ले सकते हैं। आप चाहे तो किसी प्राइवेट बैंक से भी लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं या किसी धनी व्यापारी से फाइनेंस पर पैसे उधार ले सकते हैं।

आपको लोन लेने के लिए अपना बिज़नेस प्लान उन्हें दिखाना होगा। साथ ही लोन को चुकाने वाले समझौते पर हस्ताक्षर करना होगा। इसमें आप यह बताएँगे कि आप कितने समय में और कितने ब्याज पर लोन की पूरी राशि को चुका देंगे। इसके बाद आपको माचिस के बिज़नेस के लिए लोन मिल जाएगा।

माचिस के बिज़नेस की मार्केटिंग (Machis ke business ki marketing)

अब यदि आप माचिस का बिज़नेस शुरू करने जा रहे हैं तो आपको इसकी कमाई के लिए इसकी मार्केटिंग भी करनी होगी। बिना माचिस की मार्केटिंग किये कैसे आपकी माचिस बिक पाएंगी। इसलिए किसी भी बिज़नेस की शुरुआत में उसकी मार्केटिंग करना बहुत ही आवश्यक कार्य होता है। अब यदि आप माचिस के बिज़नेस की मार्केटिंग करने का सोच रहे हैं तो उसके लिए आप इन तरीको को अपना सकते हैं।

  • सबसे पहले तो आप अपने इलाके के दुकानदारो से संपर्क साधे। कहने का अर्थ यह हुआ कि यदि आपके अपने आसपास की दुकानों पर ही पकड़ मजबूत बनी बनेगी तो आप कैसे ही अपना माचिस का बिज़नेस आगे बढ़ा पाएंगे। आप उन्हें अपनी माचिस का सैंपल दे और उन्हें इसका इस्तेमाल करने को कहे। यह आप उन्हें बिल्कुल मुफ्त में दे।
  • अब जब आपने उन्हें माचिस का सैंपल दे दिया हैं तो फिर वे आपसे संपर्क करेंगे। वे आपसे तभी संपर्क करेंगे जब आपकी माचिस की गुणवत्ता अच्छी होगी। अब आप उन्हें अपनी माचिस को बेचने को कहे। अभी तक वे जिस माचिस को खरीदते आते हैं आप उन्हें उससे कम दाम में वह माचिस उपलब्ध करवाए। ऐसा करके वे ज्यादा मार्जिन कमा पाएंगे और आपसे ही माचिस खरीदेंगे।
  • अब जब आपकी माचिस आसपास की दुकानों पर बिकने लग जाए तो बिज़नेस को आगे बढ़ाने के लिए केवल इतना ही काफी नही होता है। इसके लिए आपको और भी बहुत कुछ करने की आवश्यकता है। इसलिए आप माचिस का बिज़नेस आगे बढ़ाने के लिए अपने बिज़नेस के पोस्टर बनवाए। अब उन पोस्टर को शहर में अलग अलग जगह लगवाए खासकर ऐसी जगह जहाँ दुकाने ज्यादा हो।
  • अब जब आप दुकानों के बाहर और शहर में अपने माचिस के बिज़नेस के पोस्टर लगवा देंगे तो लोगों का ध्यान आपकी माचिस पर जाएगा। इससे आपको दो फायदे मिलेंगे। एक तो लोगों को आपकी माचिस दिखेगी और दूसरा वह दुकानदारो की नज़र में भी आएगी। इससे दोनों ही आपकी माचिस को खरीदने लगेंगे।
  • माचिस के बिज़नेस की मार्केटिंग करने के लिए आपको ना केवल ऑफलाइन माध्यम से उसका प्रकार करना चाहिए बल्कि ऑनलाइन भी उसका जमकर प्रचार करना चाहिए। इसके लिए आप व्हाट्सऐप, फेसबुक, instagram इत्यादि सोशल मीडिया ऐप का इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे भी आपके माचिस का बिज़नेस बहुत तेज गति से आगे बढ़ेगा।

तो यह थी कुछ तकनीक या प्लान जिनका पालन करने आप अपने माचिस के बिज़नेस का प्रमोशन अपने शहर में ही नही बल्कि दूर दराज के क्षेत्रो में भी कर सकते हैं। एक बात का हमेशा ध्यान रखे कि जैसे जैसे आपका बिज़नेस बढ़ने लगेगा वैसे वैसे ही इसका प्रमोशन भी और बढ़ेगा। इसलिए माचिस के बिज़नेस को आगे बढ़ाने में कोई भी कमी ना रह जाने दे।

माचिस के बिज़नेस में प्रॉफिट (Machis ke business me profit)

अब सबसे अंतिम और जरुरी बात जो है माचिस के बिज़नेस में आपको लाभ क्या मिलेगा। कहने का अर्थ यह हुआ कि आप इतना सब जो कर रहे हैं और इतनी मेहनत करके माचिस का बिज़नेस खोल रहे हैं तो आपको इसका ग्फायदा क्या होगा या माचिस का बिज़नेस शुरू करना प्रॉफिट का बिज़नेस रहेगा या नही। इसलिए आज हम आपकी इस शंका का भी समाधान कर देते हैं।

दरअसल यदि आपको लगता हैं कि माचिस का बिज़नेस समय के साथ साथ कम होता जा रहा हैं तो आप गलत है ।बल्कि इसका बिज़नेस तो पहले की अपेक्षा बढ़ा है। वह इसलिए क्योंकि जैसे जैसे इलेक्ट्रिक चूल्हे आ रहे हैं वैसे वैसे ही सिगरेट पीने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ती जा रही है। ऐसे में हर कोई लाइटर का इस्तेमाल तो करता नही है और इसके लिए ज्यादातर लोग माचिस का इस्तेमाल करना ही पसंद करते है।

ऐसे में आपकी माचिस बिकेगी नही बल्कि धड़ल्ले से बिकेगी। आप इसके लिए केवल दुकानदारो से ही नही बल्कि सिगरेट के खोखे खोलने वाले व्यापारियों से भी संपर्क करे। वे आपकी माचिस को बिकवाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। इसलिए माचिस के बिज़नेस में आप कुल मिलाकर बहुत ही प्रॉफिट में ही रहने वाले हैं।

माचिस का बिज़नेस कैसे शुरू करे – Related FAQs

प्रश्न: माचिस कैसे बना सकते हैं?

उत्तर: माचिस बनाने के लिए आपको पहले एक लकड़ी कटने वाली मशीन खरीदनी होगी और फिर माचिस की तिल्ली के आकर में उसको काटकर उस पर बारूद लगाना होगा।

प्रश्न: माचिस कितने की है?

उत्तर: एक माचिस की डिब्बी एक से दो रुपए की आती है।

प्रश्न: माचिस उद्योग के लिए कौन सा वृक्ष उपयोगी है?

उत्तर: माचिस उद्योग के लिए अफ्रीकन ब्लैक वुड वृक्ष उपयोगी है।

प्रश्न: माचिस की तीली में कौन सा केमिकल होता है?

उत्तर: माचिस की तीली में फास्फोरस केमिकल होता है।

2 thoughts on “माचिस बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें? माचिस बनाने की विधि, लागत और प्रॉफिट (Matchbox Manufacturing Business Hindi)”

Leave a Comment