Maan Haani IPC ACT 499-500 क्या है ? मानहानि केस कब हो सकता है ?

आजकल हम अक्सर अखबारों, न्यूज़ चैनल और इंटरनेट पर मानहानि के बारे में पढ़ते रहते हैं। कि कोर्ट में किसी के खिलाफ Maan Haani IPC ACT 499-500 का केस दर्ज कराया। इस तरह  के अक्सर समाचार हमारे पास आते रहते हैं । लेकिन हममें से बहुत ही कम ऐसे लोग होंगे जिन्हें पता होगा की मानहानि क्या होता है ? और मानहानि का केस कैसे ? और कब दर्ज किया जाता है। यदि आपको भी जानकारी नहीं है । कि मानहानि क्या होता है ? मानहानि के नियम क्या हैं ? मानहानि का केस क्या है ? तो आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से Maan Haani IPC ACT 499-500 केस के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं।

Maan Haani IPC ACT 499-500 kanoon kya hai

Maan Haani IPC ACT 499-500 क्या है –

Maan Haani IPC ACT 499-500 के बारे में जानने से पहले हम मानहानि क्या होता है। इसके बारे जान लेते है। साधारण शब्दो मे कहे तो मानहानि वह प्रभाव है। जब किसी व्यक्ति द्वारा किसी व्यक्ति पर आधार हीन आरोप, आलोचना, और उसके बारे में गलत धारणा बिना किसी पुख्ता सबूत के समाज मे पेश किया जाता है। जिससे प्रभावित व्यक्ति की छवि पर समाज मे बुरा असर पड़ता है। उसकी छवि समाज मे धूमिल होती है। तब प्रभावित व्यक्ति कोर्ट में अपने खिलाफ हो रहे दुष्प्रचार और अपनी छवि को हुए नुकसान की भरपाई करने के लिए केस फाइल करता है । तब हम उसे मानहानि कहते हैं।

बात करें Wikipedia की तो Wikipedia ने शुद्ध हिंदी भाषा में Maan Haani IPC ACT 499-500 को इस प्रकार परिभाषित किया है –

“किसी व्यक्ति, व्यापार, उत्पाद, समूह, सरकार, धर्म या राष्ट्र के प्रतिष्ठा को हानिहुँचाने वाला असत्य कथन मानहानि (Defamation) कहलाता है। अधिकांश न्यायप्रणालियों में मानहानि के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही के प्रावधान हैं । ताकि लोग विभिन्न प्रकार की मानहानियाँ तथा आधारहीन आलोचना अच्छी तरह सोच विचार कर ही करें। “

Maan Haani IPC ACT 499-500 के प्रकार –

अक्सर हम मानहानि के बारे में सुनते रहते हैं । बहुत से लोग बिना कुछ सोचे समझे किसी के बारे में कुछ भी बोल देते हैं । और बाद में उनके वही शब्द उनके लिए मुसीबत बन जाते हैं।  समाज में मानहानि को 2 प्रकार से परिभाषित किया गया है।  मानहानि के यह दो प्रकार निम्नलिखित है –

जाति या समुदाय से संबंधित –

जब कोई व्यक्ति किसी व्यक्ति को नीचा दिखाने की मंशा से उसकी जाति, समुदाय और उसके धर्म के बारे में अपशब्दों का उपयोग करता  है।  तब उसे जातिगत या समुदायिक मानहानि की श्रेणी में रखा जाता है । इस श्रेणी के अंतर्गत किसी को जातिगत शब्दो ( जैसे – तुम भंगी हो, चमार हो , शुद्र हो, धानक हो, नीच जाति के हो इत्यादि) का उपयोग करके गाली देना सम्मिलित किया जाता है। साथ ही यदि कोई व्यक्ति किसी को उसके व्यवसाय को लेकर गाली देता है। तो उसे भी इस श्रेणी में सम्मिलित किया जाता है।

ऐसी स्थिति में जिस व्यक्ति या समुदाय के लिए इन अपमानजनक अपशब्दों का उपयोग किया जाता है । वह उस व्यक्ति जिसने ऐसे शब्दों का प्रयोग किया है , के खिलाफ मानहानि का मुकदमा कर सकता है । जिसका साबित होने पर कोर्ट द्वारा ऐसे व्यक्ति को सजा दी जा सकती है।

योग्यता और साख गिराना –

जब कोई व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति की योग्यता उसके ज्ञान अनुभव और तजुर्बे को झूठा साबित करने की कोशिश करता है । तो इस प्रकार के सभी मानहानि के अंतर्गत आते हैं।  इस तरह की केस में कोई व्यक्ति किसी विशेष व्यक्ति के खिलाफ झूठी अफवाह फैलाता है – जैसे वह चोर है , बेईमान है , अपराधी है , इत्यादि।  इसके साथ ही किसी को अपमानित करने के लिए उसे चरित्रहीन, रंडी ,पापी, नाजायज सन्तान और किसी के शारीरिक स्थिति देखकर उसे लगड़ा लूला, बदसूरत, पागल अंधा इत्यादि कहना भी इस श्रेणी में आते है।

तब इससे प्रभावित व्यक्ति उस व्यक्ति जिसने इस तरह से उसकी छवि समाज में धूमिल करने की कोशिश की है।  के खिलाफ Maan Haani IPC ACT 499-500 का मुकदमा कर सकता है । और आरोप साबित होने के पश्चात तो ऐसे व्यक्ति को न्यायालय द्वारा दंडित किया जाता है।

साइबर मानहानि कानून –

आधुनिक युग में जहां लोगों के जीवन जीने का ढंग बदल चुका है।  लोग डिजिटल होते जा रहे हैं।  डिजिटलीकरण के इस युग में अपराध करने के भी तरीके बदल गए हैं । बदले  इस समय में अब  फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब जैसी सोशल साइट पर भी किसी व्यक्ति , समाज या समुदाय के लिए उपयोग किए जा रहे अपशब्दों को अपराध घोषित किया गया है ।

सूचना और प्रौद्योगिकी अधिनियम 2000 की धारा 66 ए के तहत कोई भी व्यक्ति किसी कंप्यूटर, मोबाइल , इंटरनेट की मदद से फेसबुक, ट्विटर,  इंस्टाग्राम और यूट्यूब जैसी अन्य सोशल वेबसाइट पर किसी समाज,  संस्था,  व्यक्ति के खिलाफ उपर्लिखित अपमानजनक शब्दों का उपयोग करता है।  तो उस पर भी Maan Haani IPC ACT 499-500 का केस किया जा सकता है । ऐसी स्थिति में दोषी पाए गए अपराधी को कानून द्वारा निर्धारित की गई 3 वर्ष तक की कैद या जुर्माना या अपराध  की गंभीरता को देखते हुए अपराधी को सजा और जुर्माना दोनों हो सकती है ।

ऐसे तथ्य जो Maan Haani IPC ACT 499-500 के अंतर्गत नहीं आते हैं –

ऐसा नहीं है कि कोई भी व्यक्ति किसी भी व्यक्ति के खिलाफ बिना किसी आधार के मानहानि का केस कर सकता है । बल्कि किसी भी व्यक्ति को किसी अन्य व्यक्ति के खिलाफ Maan Haani IPC ACT 499-500 का केस दायर करने के लिए उसके पास सबूत भी होना आवश्यक है । यदि कोई व्यक्ति किसी व्यक्ति पर Maan Haani IPC ACT 499-500 का झूठा मुकदमा दायर करता है । तो उसके खिलाफ भी हमारे संविधान में सजा का प्रावधान किया गया है । कुछ ऐसे तथ्यों  के बारे में हम यहां पर बता रहे हैं । जिनका उपयोग करना मानहानि के अंतर्गत नहीं आता है वह इस प्रकार है –

  • किसी प्रकार के लड़ाई झगड़े में या सामान्य रूप से किसी व्यक्ति को अभद्र , चिड़चिड़ा , पिछड़ा और अनाड़ी जैसे शब्दों से संबोधित करना मानहानि के अंतर्गत नहीं आता है ।  हालाँकि फिर भी आपके द्वारा  किसी को ऐसे शब्दों से सम्बोधित किये जाने पर दण्डित किये जा सकते है ।
  • कोई व्यक्ति या समाज को किसी अपराधी, चोर और बेईमान व्यक्ति से आगाह करना भी मानहानि के अंतर्गत नहीं शामिल किया गया है ।
  • किसी पुस्तक, फिल्म , नाटक,  व्यक्ति या आदेश की आलोचनात्मक समीक्षा करना भी मानहानि के अंतर्गत नही शामिल किया गया है।
  • यदि किसी ने व्यक्ति पर किसी समाज की भलाई के लिए आरोप लगाए गए हो । तो वह भी मानहानि केश से बच सकता है। हालांकि उसे यह साबित करना होगा, कि उसने यह कार्य समाज की भलाई के लिए किया है।

Maan Haani IPC ACT 499-500 में सजा के प्रावधान –

भारतीय संविधान में मानहानि जैसे अपराध के लिए सजा का प्रावधान किया गया है । इस अपराध के लिए भारतीय कानून में दो धाराएं हैं । जो इसके लिए बनाई गई है । IPC यानी इंडियन पैनल कोर्ट के अनुसार धारा 499 धारा 500 के अनुसार  मानहानि के अपराध में दोषी पाए जाने वाले अपराधी को दंडित किया जाता है ।

भारतीय दंड संहिता की धारा 499 के अंतर्गत दोषी पाए जाने वाले अपराधी को भारतीय न्यायालय द्वारा दंडित किया जाता है । मानहानि के केस में प्रयोग की जाने वाली धाराएं और उनके अनुसार अपराधियों को दंड प्रदान करने की धाराएं कुछ इस प्रकार हैं –

IPC धारा 500 – धारा 500 के अनुसार यदि कोई व्यक्ति किसी दूसरे अन्य व्यक्ति की मानहानि करता है । तो उसे धारा 500 के तहत 2 साल की कैद और आर्थिक जुर्माना दिया जाता है । अपराध की गंभीरता को देखते हुए अपराधी को कैद की सजा और जुर्माना दोनों भी दी जा सकती है । 

IPS धारा 501 – इस धारा के अंतर्गत जब कोई व्यक्ति जानबूझकर किसी व्यक्ति विशेष की मानहानि करता  है । तो उसे धारा 501 के तहत 2 साल की सजा और आर्थिक जुर्माना द्वारा दंडित किया जाता है। या फिर जुर्माना और सजा दोनों दी जाती है ।

IPC धारा 502 – धारा के अंतर्गत जब कोई व्यक्ति किसी को आर्थिक उद्देश्य से  किसी व्यक्ति विशेष की मानहानि करता है । तो उसे धारा 502 के तहत 2 साल कैद की सजा या जुर्माना या सजा और जुर्माना दोनों दंड प्रदान किए जाते हैं ।

IPC धारा 505 – इस धारा के अंतर्गत किसी खबर, रिपोर्ट को इस तरह से पेश करना जिससे भारतीय जल , स्थल , वायु सेना का कोई भी सैनिक और अधिकारी विद्रोह या बगावत करने के लिए तैयार हो जाए । इसके साथ ही कोई भी ऐसी भ्रामक जानकारी जिससे समाज या समुदाय में डर और भय का माहौल उत्पन्न हो जाये । और लोग सरकार के खिलाफ हो जाये । इस दौरान आरोपित व्यक्ति को धारा 505 अंतर्गत 2 साल की कैद या जुर्माना या फिर दोनों सजाएं दी जा सकती है।

मानहानि होने पर मिलने वाला जुर्माना –

यदि किसी व्यक्ति के मानहानि से किसी प्रकार की आर्थिक क्षति पहुंची है। तो वह न्यायालय में मुवावजे के लिए अपील कर सकता है। ऐसी स्थित में पीड़ित व्यक्ति को अपनी हुई आर्थिक क्षति की रकम न्यायालय को लिखित रूप में बतानी होगी । साथ ही उसके साक्ष्य भी प्रस्तुत करने होंगे। जिसके पश्चात न्यायालय पीड़ित व्यक्ति के हुए आर्थिक नुकसान की भरपाई अपराधी से करवाती है।

तो दोस्तों यह थी Maan Haani IPC ACT 499-500  के बारे में कुछ आवश्यक जानकारी। यदि आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे। साथ ही यदि आपका किसी भी प्रकार का सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें। धन्यवाद।

Rate this post
Spread the love

250 thoughts on “Maan Haani IPC ACT 499-500 क्या है ? मानहानि केस कब हो सकता है ?”

  1. Ek party me muze sirf is baat ke liye ek anjaan aurat menars nahi aate kya apko
    Chillakaar chali gai qki me ne piza corner se uski beti shayad mere niche khadi thi use na dekhte hue piza pahale mene le liyaa
    Bataiye aap kya mera koi case banta hi

  2. सोशल मीडिया पर एक व्यक्ति ने दुसरे पार्टी के वोटरो को अभृद शब्द कहे है क्या हो सकता है इसमे

  3. Sir ek ldki n mere bhai par phosco ka case dala hua h wo bh 2 bar bina kisi baat k 2 bar tihar jail mai 15-15 din lgake aya h.. wo ladki ki maa chahti h hum usse paise de.. bhai he h hmare ghr m jo kaam krta h hum bhai k jail jane se hmara sara kaam band hogya jo ki wo ladki chahti thi maa baap mere heart k patients h bhai jail m bnd pada h toh kya hum maan haani ka case dal skte h??

  4. Sir ji.
    Mare sadhi ma na rista Tay hua
    Or na hi koi lan Dan.
    Mujhe bo biyakti fijul ma jhuta
    Aarop laga Raha hai
    Ki mane in logo ko
    Ek lakh cash or kuch saman Diya hai
    Jab ki sab jhut hai
    To mujhe kiya krna chaye
    Or bo mujhe baar bar phone krke
    Parsan kr Raha hai
    Or bolta hai
    Ki dahaj parta lag baounga
    Bo ek advocate hai
    Sir Kiya isne maan Hani ka case ho jayga

    • Sir ji Mai janha Pe Kaam karta hu security guard ka to ek madam NE aake mere pass Se bhaiya mujhe aapke sath ek Photo leni hai to Maine puchha madam se aapko mere sath Q photo chahiye to boil mujhe jara Kaam hai to Maine unke sath photo click karwa like Usne kam Se kam 30 photos liye hain Usne mere sath wali photo apne instagram me dal Di baiger mere Jane Mera aur mere Kaam ko leke Usne ek status chhota bada likha watchman chacha mujhse bahot Different hain mujhe is baat. Ki complain karni hai. K koi Bhi vakti bager uski izazat Se social media me kisi ki photo dalne se complain kar sakta hai kya aur kaise complain Karen

  5. Sir kuch din pehhle mere pdos se ek ladki kisi ladke k saath khud bhag gai thi jis ka baad mai pulis ne khulasa bhi kr liya or ladke ko saja b ho gai lekin is case mai ladki k ghr walo ne mujh pe ilzam lagaya tha ki ladki ko mai apnni car mai le k gya or mere phone se baat b hoti thi lekin pulis investigation mai ye sab jhut nikla or lgaye gaye ilzam be bunniyad nikle mujhe or meri wife ko choki k chakkar katne pade meri 5 month ki ladki b hai or 1 hafte tak meri family or mera parivar bhut prbhvit huwa log mere bare mai galat sochne lage lekin jab mera koi haath nahi tha toh unhone mujhe fasane ki kosis ki wo bhi apharan case mai mai ladki walo k khilaf kya karvahi kkaru ki wo age se kisi pe ilazam na lgaue

  6. Respected sir
    मे
    ऐक सैनिक हूँ और कुछ लोगों के द्वारा ऐक सामाजिक wtsp ग्रुप में विना किसी तथ्य के मुझ पर समाज में बिगठन फैलाने, और कई प्रकार के फर्जी और मिथ्या आरोप लगाकर मुझे बेहद अपमानित किया गया है बेहद गंदी और अभद्र गालियो के साथ जान से मारने की धमकी दी गई और षडयंत्र स्वरूप कई प्रकार की बैठक आयोजित कर मुझे और मेरे परिवार को समाज से बहिष्कृत करबाने का प्रयास किया जा रहा है इस संदर्भ में मैने पुलिस अधीक्षक महोदय जिला कलेक्टर महोदय तथा थाना प्रभारी सभी जगह शिकायत कर चुका हूँ लेकिन राजनीति संरक्षण की बजह से उक्त वयक्तियो के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हो रही है । तथा बाहरी दुनिया से अलग रहने के कारण किसी बकील तथा कानून की जानकारी भी नही है मे बेहद हताश और निराश हो चुका हूँ मेरी आपसे निवेदन है कि मेरी तकलीफ को दृष्टिगत रखते हुए मेरा मार्गदर्शन करें

    मेरा नंबर है
    8650209061wtsp
    7000422771

  7. Sir mera question hai ki agar koi baikti kisi dosre baikti ko uske WhatsApp par uske status par galat comment karta hai fhir vo baikti use samjhata but wo nahi manta to wo baikti uski report kar deta hai to kya uski report bapas li ja sakti he

  8. Hlw sir,

    Working in a private MNC and a girl recently joined has put allegations on me and my friend of indirect comments without having proper witnesses and facts. And now my reputation has totally affected in front of a company and employees. Can i file a petition for this.

  9. Sir legal action kese lu agr wakewl karunga toh wahan time or mony dono waste hoge koi esa solution btao jis se mera time bach jaye or un par karwahi b ho

  10. Sir mere bhabhi ne… Jo ek saal bhi nahi rahi.. Aur humne bina dahej ke shadi ki.. Mere bhai par aur family par false case daala hai. Dahej aur maar pit ka. Unmarried behno ke character ko lekar gande comments kiye hai… Our family is well mannered n well educated… Sisters ki abhi shadi honi hai… Kya sisters maan haani ka dava kar sakti hai?
    Pls guide

    Thanks & regards

  11. humare ek padosi aisa keh rahe hai ki unhe life threat call aa rahe hai or wo humari wajha se aa rahe hai.. is condition mai hum kya kar sakte hai. pls advise.

    Thanks

  12. Good evening sir meri shadi abhi 10th july 2018 ko hui thi meri sister in law in hamari shadi shuda life me bohut jyada interference kar diya hai and aaj ki situation ye ho gyi hai ki uski wajah se aaj me apne husband se dur hu ab uska husband kehta hai ki meri wife ke baare me kuch bolne ki jarurat nhi hai uski koi galti nhi hai agar bologe toh me mann haani ka case kar dunga or may be kar bhi diya hoga toh isse kaise check kare kya ispar ye case karna chaiyae tha

  13. सर ,
    कल २३ मार्च २०१९ में मुझे दो पुलिस वालों ने बिना किसी कारण के गाजियाबाद बस स्टैंड पर शाम को करीब ७ बजे के आसपास पकड़ा और थाने के अंदर ले जाकर मुझे बहुत प्रताड़ित किया बिना किसी सबूत के आधार पर मुझे परेशान करते रहे, फिर बाद में छोड़ दिया। मैं अपने जीवन में पहली बार थाने में गया वो भी बिना किसी कारण। क्या इस स्थिति में मैं मानहानि का मुकदमा दर्ज कर सकता हूं। परंतु मेरे पास उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं है। कृप्या मार्गदर्शन करें।

  14. Mera friend hai unko do wives hai second wife ne police me jake husband aur first wife ke nam per domestic violence ka juta complaint kiya hai,ab mera dost ko kya karna Chahiye kyu ki vo jyada samay second wife ke sath reheta tha phir bhi usne pure jute ilzam lagaya hai lakin abi use vo bahut pareshan hai kya kare aap batayeye sir.

  15. Sir mera friend Muslim hai unki do wives hai,dusre shadi ko 11saal ho chuka hai 11 Saal se mera friend second wife ke sath rehta hai aur usko hi jyada priority dete the,phir bhi 1 month pahele second wife ne uski husband aur first wife ke nam per marpit karne Ka, dekhbal acha Nahi karta hai aise galth complaint police me darj kiya hai Ye sare ke Sare galath hai kyu ki mai unko 9 saal se pehechanti hu..Ab aap batayeye mere friend ko kya karna Chahiye . Legal step lena Chahiye aur kaise please.

    • Aapke dost ne 2 sadi ki hai ye bhartiy kanoon.me apradh hai. Sath hi ydi unhone apne ptni ke sath kuch glt nahi kiya hai. To pareshan na ho . Police ke pass jaye aur puri sachhai bataye . Aapki help jarur hogi.

  16. Patwari/RI per manhani dava lgana h.kyoki Nayab Teh,dwara diy gay ord, ko nakara h,eske bad lagbhag 2 vars ke bad ord,ka paln ker karya punh camplaint kerne per kiya gaya h.jisse mujhe hani hua h.

  17. sir mere pariwar or patni or mere upar meri patni ke duskarm ke case me kisi weqti se paise lene ki juthi afwa faila rahe hai hamare pariwar ko samaj me badnam kar rahe hai jabki hamne kisi se koi paisa nahi liya to hum manhani ka case kar saqte hai kiya

  18. Sir,main ek vyakti se friendship mein thi lekin ek maheene se bilkul bhi nahin hai,per uski wife mujhe aksar messages ke dwara dhamki deti hai aur bahut bura bhala kehti hai main ek reputed mahila hoon mujhe bahut depression hota hai main kya karoon ?

  19. Sir please help me mai ek reputed lady hoon but meri friendship ek married vyakti se thi but ek mahine se kucch bhi nahi hai lekin uski wife mujhe aksar messages kar ke dhamki deti hai aur bura bhala bhi kehti hai kya wo mujhper koi case bhi file kar sakti hai ya phir main legally safe hoon please help me

  20. sir mai eak electric work karta hun mujhe material chori ke jhute case me likhit complent de kar police station me bulakar prtadit kiya gaya ab jab sahi chor pakda gaya hai to kya मानहानि का मुकदमा kar sakte hai?

  21. Meri fmly repution wali he or kuch log hme bina vajah hmari tarrrki dekh kr hmse jalte h

    Sr meri fmly ko pichle 10 sal se pdosiyo ne milkr preshn krke rkha h
    Or unhone hmare upr 6 7 juthi report krwa chuke
    Unsbne milkr meri sis k upr blk megic krwa kr use mar diya h
    Pr hmare pass unk khilaff koi prooof nhi he
    Ese logo k upr kya kiya jay

Leave a Comment