ओपन यूनिवर्सिटीज कौन कौन सी हैं? List Of Open Universities In India

|| लिस्ट ऑफ ओपन यूनिवर्सिटीज इन इंडिया, list of open universities in india, खुला विश्वविद्यालय की विशेषताएं, खुला विश्वविद्यालय की आवश्यकता, मुक्त विश्वविद्यालय की स्थापना कब हुई, मुक्त विश्वविद्यालय के उद्देश्य, मुक्त विश्वविद्यालय की शिक्षा व्यवस्था, खुला विश्वविद्यालय क्या है ||

यदि कोई व्यक्ति पढ़ना चाहता है और आगे बढ़ना चाहता है तो उसके लिए कोई न कोई राह निकल ही आती है। स्वयं सरकार भी ऐसे लोगों की सहायता करती है। उसकी ओर से अनेक ऐसी ओपन यूनिवर्सिटीज (open universities) खोली गई हैं, जहां व्यक्ति बगैर जाए भी पढ़ाई कर सकता है।

वह दूरस्थ शिक्षा (distance education) के माध्यम से अपनी रोजगार संबंधी अथवा अन्य दिक्कतों से जूझते हुए भी पढ़ना जारी रख सकता है एवं डिग्री प्राप्त कर सकता है।

आज इस पोस्ट में हम आपको इस प्रकार की ओपन यूनिवर्सिटीज की जानकारी देंगे, जो भारत में छात्र छात्राओं को शिक्षा प्रदान कर रही हैं। ये मुक्विश्वविद्यालय निम्नवत हैं-

Contents show

ओपन यूनिवर्सिटी से क्या तात्पर्य है? (What is the meaning of open University?)

ओपन यूनिवर्सिटीज (open universities) डिस्टेंस मोड (distance mode) में शिक्षा प्रदान करती हैं। इसे हिंदी में दूरस्थ शिक्षा भी पुकारा जाता है। मूलतः शिक्षा का यह माध्यम उन लोगों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए रखा गया हैं, जो लोग विभिन्न कारणों से रेगुलर कोर्स कर पाने में, कक्षाओं में लगातार हाजिरी देने में सक्षम नहीं हैं।

ऐसा उनकी जॉब अथवा किसी भी दूसरे कारण से हो सकता है। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि विश्वविद्यालयीय शिक्षा प्राप्त करने वाले 25 प्रतिशत के करीब लोग इस समय ओपन मोड (open mode) में शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं।

उच्च शिक्षा विशेषज्ञ (higher education specialist) इसे ओपन एंड डिस्टेंस लर्निंग (open and distance learning) अर्थात ओडीएल सिस्टम (ODL system) की कामयाबी मानकर चल रहे हैं।

ओपन यूनिवर्सिटीज कौन कौन सी हैं? List Of Open Universities In India

ओपन यूनिवर्सिटी से किस प्रकार के छात्र छात्राएं लाभान्वित होते हैं? (What type of students get benifitted from open University?)

ओपन यूनिवर्सिटी से किस प्रकार के छात्र छात्राएं लाभान्वित होते हैं, इसका कुछ हिंट हमने आपको पोस्ट की शुरूआत में ही दे दिया है। यदि विस्तार की बात करें तो इससे निम्न छात्र छात्राओं को विशेष सुविधा हो जाती है-

  • जिन विद्यार्थियों के घर के समीप उच्च शिक्षा के संसाधन (higher education resources) उपलब्ध नहीं हैं।
  • यदि विद्यार्थी किसी स्थान पर सेवारत है एवं वह नियमित शिक्षा (regular education) प्राप्त नहीं कर पा रहा है।
  • ऐसे छात्र छात्राएं, जिन्होंने देरी से पढ़ाई शुरू की है।
  • जो व्यक्ति तमाम झंझावातों के बीच अपनी शैक्षिक योग्यता (educational qualification) बढ़ाना चाहते हैं।

ओपन यूनिवर्सिटी में शिक्षा किस प्रकार दी जाती है? (How education is delivered in an open University?)

जब भी लोग ओपन यूनिवर्सिटी का नाम सुनते हैं तो यह सवाल बहुत से लोगों के मन में आता है कि ओपन यूनिवर्सिटी में शिक्षा किस प्रकार प्रदान की जाती है? सामान्यतया ओपन यूनिवर्सिटीज लचीले सिलेबस (flexible syllabus) रखती हैं, जिनमें औपचारिक योग्यता न रखने वाले, लेकिन 18 वर्ष पूर्ण कर चुके छात्र छात्राएं नाम लिखा सकते हैं।

अध्ययन-अध्यापन का कार्य प्रिंटेड मैटीरियल (printed material) एवं नोडल सेंटर (nodal center) पर मल्टीमीडिया सेटअप (multimedia set-up) के जरिए दी जाती है। इसके अतिरिक्त ये विश्वविद्यालय दूरदर्शन एवं रेडियो (doordarshan and radio) के जरिए भी एजुकेशन प्रोग्राम (education program) चलाते हैं।

इसमें कोई छोटे मोटे कोर्स (course) नहीं, बल्कि डिप्लोमा (diploma) के साथ ही ग्रेजुएशन (graduation), पोस्ट ग्रेजुएशन (post graduation), एमफिल (MPhil), पीएचडी (PhD) तक के कोर्स कराए जाते हैं। खास बात यह है कि इनमें से अधिकांश कोर्स रोजगार एवं करियरपरक (job and career oriented) होते हैं।

इस समय भारत में कितनी ओपन यूनिवर्सिर्टीज हैं? (How many open universities are there in india at this time?)

इस समय भरत में सेंट्रल (central), स्टेट (state), प्राइवेट (private) एवं डीम्ड (deemed) सभी तरह की यूनिवर्सिटी मिलाकर कुल 1027 विश्वविद्यालय हैं। यह डाटा यूजीसी (UGC) अर्थात विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (University grants commission) द्वारा 4 मार्च, 2023 को अपडेट (update) किया गया है।

इसके तहत देश में इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (Indira Gandhi National open University) के अतिरिक्त 14 स्टेट ओपन यूनिवर्सिटीज अथवा खुले/मुक्त विश्वविद्यालय हैं। यदि इनकी सूची की बात करें तो वह निम्नवत है-

  • 1. इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी, नई दिल्ली (Indira Gandhi National open University, New Delhi)।
  • 2. उत्तराखंड ओपन यूनिवर्सिटी, हल्द्वानी (uttarakhand open University, haldwani)।
  • 3. यूपी राजर्षि टंडन ओपन यूनिवर्सिटी, इलाहाबाद (up rajrishi Tandon open University, allahabad)।
  • 4. अंबेडकर ओपन यूनिवर्सिटी, हैदराबाद (Ambedkar open University, Hyderabad)।
  • 5. तमिलनाडु ओपन यूनिवर्सिटी, चेन्नई (Tamilnadu open University, chennai)।
  • 6. वर्धमान महावीर ओपन यूनिवर्सिटी, कोटा (vardhan mahaveer open University, kota)।
  • 7 जगतगुरू नानकदेव पंजाब स्टेट ओपन यूनिवर्सिटी, पटियाला (jagatguru nanakdev punjab open University, patiala)।
  • 8. ओडिशा स्टेट ओपन यूनिवर्सिटी, संबलपुर (Odisha state open University, Sambalpur)।
  • 9. यशवंत रावत चव्हाण महाराष्ट्र ओपन यूनिवर्सिटी, नासिक (yashwant Rawat Chavan Maharashtra open University, nashik)।
  • 10. एमपी भोज ओपन यूनिवर्सिटी, भोपाल (mp bhoj open University, bhopal)।
  • 11. कर्नाटक स्टेट ओपन यूनिवर्सिटी, मैसूर (Karnataka state open University, mysuru)।
  • 12. डॉ. बाबा साहेब अंबेडकर ओपन यूनिवर्सिटी, अहमदाबाद (Dr Baba Saheb Ambedkar open University, ahemdabad)।
  • 13. पंडित सुंदरलाल शर्मा ओपन यूनिवर्सिटी, बिलासपुर (pandit sunder lal sharma open University, bilaspur)।
  • 14. नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी, पटना (Nalanda open University, Patna)।
  • 15. केके हैंडीक्यू स्टेट ओपन यूनिवर्सिटी, गुवाहाटी (KK handique state open University, Guwahati)।

देश की पहली ओपन यूनिवर्सिटी कौन सी है एवं कब खुली थी? (Which is first open University of India and when it was opened?)

देश की पहली ओपन यूनिवर्सिटी कौन सी थी एवं कब खुली थी, यह जानने की इच्छा हम सब में है। आपको जानकारी दे दें कि देश की पहली ओपन यूनिवर्सिटी इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (Indira Gandhi National open University) थी। इसे नई दिल्ली (New Delhi) में आज से लगभग 37 साल पहले 1985 में खोला गया था।

देश की पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी (former PM Indira Gandhi) के नाम पर इस ओपन यूनिवर्सिटी का नामकरण किया गया था। वर्तमान में इस विश्वविद्यालय के माध्यम से 33 देशों में छात्र छात्राएं विभिन्न कोर्सेज की पढ़ाई कर रहे हैं। यह बहुत ही प्रतिष्ठित ओपन यूनिवर्सिटी (recognised open University) है।

भारत की ओपन यूनिवर्सिटीज के बारे में अधिक जानकारी कहां से प्राप्त की जा सकती है? (Where more details of India’s open Universities can be had)?

यदि आप इन ओपन यूनिवर्सिटीज (open Universities) के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो उसके लिए यूजीसी (UGC) के डिस्टेंस एजुकेशन ब्यूरो (distance education bureau) में संपर्क कर सकते हैं। इसका पता है-

यूजीसी, डिस्टेंस एजुकेशन ब्यूरो, 35 फिरोज शाह रोड, नई दिल्ली-110001।

यदि आप चाहें तो फोन से भी संपर्क कर सकते हैं। वहां का फोन नंबर है-011-23604674।

ओपन यूनिवर्सिटी का महत्व इस उदाहरण से समझें (know the importance of open University by this example)

हम आपको ओपन यूनिवर्सिटी का महत्व एक उदाहरण से समज्ञाने की कोशिश करते हैं। मान लीजिए कोई व्यक्ति 12वीं करके किसी कार्यालय में क्लर्क भर्ती होता है, लेकिन यहां प्रबंधक बनने के लिए उसे ग्रेजुएशन की डिग्री की आवश्यकता है। अपने दैनिक सेवा कार्य के घंटों की वजह से वह किसी यूनिवर्सिटी में रेगुलर एडमिशन (regular admission) नहीं ले सकता।

ऐसे में वह ओपन यूनिवर्सिटी से कोर्स करना प्रीफर करता है। जहां से उसे डिग्री मिलती है, जो उसकी शैक्षिक योग्यता (educational qualification) को बढ़ाती है। इस तरह बगैर कालेज जाए उसे डिग्री मिलती है और वे प्रबंधक पद के लिए आवेदन करने के योग्य हो जाता है।

बहुत से छात्र छात्राएं संसाधन के अभाव में अपनी रूटीन पढ़ाई (routine study) छोड़ने को मजबूर हो जाते हैं। ओपन लर्निंग (open learning) के जरिए उन्हें भी मौका मिलता है कि वे अपनी अधूरी पढ़ाई को पूरी कर सकें। यदि हिमालयी राज्यों (Himalayan states) की बात करें तो ग्रामीण क्षेत्रों (rural areas) के युवा खास तौर पर भौगोलिक परिस्थितियों (geographical condition) एवं शिक्षा के संसाधनों की कमी की वजह से यह दंश झेलते हैं।

बहुत से लोग अतिरिक्त योग्यता के लिए ओपन यूनिवर्सिटी का रूख करते है, ताकि उन विषयों में कोर्स कर सकें, जो उनके भविष्य के लिए बेहतर साबित होंगे।

कोई ओपन यूनिवर्सिटी फर्जी तो नहीं, इनकी सत्यता कहां से जांचें? (How to know , whether open University is fake?)

बहुत से छात्र छात्राएं केवल विज्ञापन देखकर किसी यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लेते हैं। वे इसकी सत्यता की जांच नहीं करते। बाद में उन्हें इसका पता चलता है तो वे पछताते हैं। उनका समय एवं पैसा दोनों डूब जाता है। इसलिए पहले ही विश्वविद्यालय की वास्तविकता को लेकर जांच लेने में ही समझदारी है।

अब सवाल उठता है कि आप ऐसा कैसे कर सकते हैं। तो जान लीजिए कि कोई ओपन यूनिवर्सिटी फर्जी तो नहीं, इसकी सत्यता की जांच विश्वविद्यालय अनुदान आयोग अर्थात यूजीसी की आधिकारिक वेबसाइट (official website) https://www.ugc.ac.in के माध्यम से की जा सकती है।

यूजीसी समय समय पर ऐसे फर्जी विश्वविद्यालयों की लिस्ट (list of fake universities) अपनी वेबसाइट पर जारी करती रहती है साथ ही छात्र छात्राओं को आगाह करती है कि वे इस प्रकार के विश्वविद्यालयों में प्रवेश न लें। वह ऐसे विश्वविद्यालयों के खिलाफ कार्रवाई भी करती है। आप भी एक सतर्क एवं जागरूक विद्यार्थी बनें एवं इस प्रकार के विश्वविद्यालयों में एडमिशन के प्रति सतर्क रहें।

उच्च शिक्षा के क्षेत्र में किस प्रकार के बड़े बदलाव देखने को मिलेंगे? (What type of changes will be seen in the field of higher education?)

भारत में केंद्र सरकार (Central Government) नई शिक्षा नीति (New education policy) अर्थात नेप (NEP) के अंतर्गत कई प्रकार के बदलाव (changes) लाने जा रही है। इसके अंतर्गत उसने उच्च शिक्षा (higher education) से संबंधित विभिन्न पक्षों के सुझाव (suggestions) भी मांगे थे।

हाल ही में उसने घोषणा (declaration) की है कि छात्र छात्राएं दो डिग्री कोर्स एक साथ कर सकते हैं। इससे ऐसे छात्र छात्राओं में खुशी की लहर है, जो वक्त बचाने के लिए अपने मुख्य कोर्स से संबंधित कोर्स (related course) एक साथ करना चाहते थे।

इसी प्रकार माना जाता है कि अनौपचारिक शिक्षा एवं ओपन लर्निंग (informal education and open learning) के क्षेत्र में भी आने वाले समय में बड़े बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

भारत में कुल कितने विश्वविद्यालय हैं?

यूजीसी के आंकड़े के अनुसार भारत में सेंट्रल, स्टेट, प्राइवेट एवं डीम्ड यूनिवर्सिटीज को मिलाकर कुल 1027 विश्वविद्यालय हैं।

भारत में कुल कितनी ओपन यूनिवर्सिटी हैं?

भारत में इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी के अतिरिक्त कुल 14 स्टेट ओपन यूनिवर्सिटीज हैं।

देश की पहली ओपन यूनिवर्सिटी कौन सी है?

देश की पहली ओपन यूनिवर्सिटी इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी है।

इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी की स्थापना कब हुई?

इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी की स्थापना आज से लगभग 37 वर्ष पूर्व सन् 1985 में हुई।

ओपन यूनिवर्सिटी किस प्रकार के छात्र छात्राओं के लिए मददगार है?

जो लोग रेगुलर कोर्स अटैंड नहीं कर सकते। ऐसे छात्र छात्राओं के लिए ओपन यूनिवर्सिटीज मददगार हैं।

ओपन यूनिवर्सिटीज में किस प्रकार के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं?

ओपन यूनिवर्सिटीज में डिप्लोमा, ग्रेजुएशन, पोस्ट ग्रेजुएशन, एमफिल, पीएचडी तक के कोर्स चलाए जा रहे हैं।

हमने इस पोस्ट के माध्यम से आपके समक्ष भारत में ओपन यूनिवर्सिटी की लिस्ट रखी है। उम्मीद करते हैं कि यह पोस्ट आपको जानकारी में वृद्धि करेगी। यदि आप अथवा आपके सर्किल में कोई व्यक्ति ओपन यूनिवर्सिटी से कोर्स करना चाहता है तो यह पोस्ट उसकी सहायता करेगी। शिक्षा के प्रति जागरूकता के मकसद से इस पोस्ट को अधिक से अधिक शेयर करना न भूलें। धन्यवाद।

—————————————

Leave a Comment

सवर्ण 10% आरक्षण लाभ कैसे मिलेगा ? मोबाइल से Slow Motion Video कैसे बनाए? दिल्ली रोजगार बाजार पोर्टल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन आत्मनिर्भर कृषक समन्वित विकास योजना 2023 मुख्यमंत्री बालक बालिका प्रोत्साहन योजना 2023 ऑनलाइन आवेदन