[रजिस्ट्रेशन] Kushum Yojana 2018 |एप्लीकेशन फॉर्म,ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

भारत सरकार ने बजट 2018 में देश के नागरिकों के लिए कई योजनाओं की घोषणा की | केंद्र सरकार  के वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली ने बजट 2018 – 19 में देश के नागरिकों के लिए बनाई गई महत्वकांक्षी योजनाओं की घोषणा की | इन योजनाओं में सबसे ज्यादा ध्यान देश के किसानों का रखा गया है | देश के किसानों के लिए केंद्र सरकार द्वारा कई योजनाओं का संचालन किया जाएगा | देश के किसानों के लिए घोषणा की गई योजनाओं में कुसुम योजना 2018 भी एक महत्वपूर्ण योजना है | Kushum Yojana 2018 के अंतर्गत किसान अपनी भूमि पर सौर ऊर्जा संयंत्र लगा सकते हैं |

[रजिस्ट्रेशन] Kushum Yojana 2018 |एप्लीकेशन फॉर्म,ऑनलाइन आवेदन कैसे करें ?

सौर ऊर्जा संयंत्र को लगाने के लिए सरकार की तरफ से किसानों को संपूर्ण लागत का 60% केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा | इस तरह यदि किसी संयत्र को लगाने में ₹1 लाख का खर्च आता है | तो केंद्र सरकार द्वारा किसानों को ₹60 की सहायता धनराशि प्रदान की जाएगी | बाकी का ₹40000 किसानों को अपने पास से लगाना होगा | साथ ही इसमें मात्र 10 % धनराशी किसानो को अग्रिम जमा करनी होगी | केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही किसानों के लिए Kushum Yojana 2018 के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त करने , और कुसुम योजना 2018 का लाभ आप कैसे प्राप्त कर सकते हैं | इसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको यह आर्टिकल ध्यानपूर्वक लास्ट तक पढना होगा |

Kushum Yojana 2018 –

भारत में 75 फ़ीसदी से भी ज्यादा लोग खेती – किसानी करते हैं | देश में की अर्थव्यवस्था किसानों पर ही निर्भर है | लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में अक्सर देखा गया है , कि किसानों को फसल बोने, सिंचाई करने , बीज लेने आदि  के लिए बैंक या साहूकार से लोन लेने पड़ता है | यदि अच्छी फसल हो जाती है | तो किसानों को कम समस्याओं का सामना करना पड़ता है | यदि दुर्भाग्यवश किसी  प्रकार सिंचाई आदि के अभाव में किसानों की फसल नष्ट हो जाती है | तो उन्हें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है | कभी-कभी ऐसे  किसानों को आत्महत्या जैसे घातक कदम भी उठाने पड़ते हैं | केंद्र सरकार ने देश के ऐसे किसानों की सहायता करने के लिए कई योजनाओं का सञ्चालन किया जा रहा है |

भारत के किसानों को अपनी फसलों की सिंचाई करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है | हालांकि किसानों की सिंचाई करने के लिए आजकल उन्नत तकनीक के कई संसाधन मौजूद है | लेकिन इन संसाधनों का उपयोग भारत के ऐसे किसान नहीं कर पाते हैं | जिनकी आर्थिक स्थिति मजबूत नहीं है | इसलिए ऐसे किसानों को ईश्वर पर निर्भर रहना पड़ता है | यदि कभी समय पर बारिश ना हो तो इन किसानों की फसलें भी नष्ट हो जाती है | लेकिन केंद्र सरकार द्वारा देश के ऐसे किसानों के लिए Kushum Yojana 2018 चलाई गई है | कुसुम योजना 2018 के अंतर्गत किसान केंद्र सरकार द्वारा सहायता धनराशि प्राप्त करके अपने जमीन पर सौर संयंत्र लगा सकते हैं | ताकि वह अपने खेतों की सिंचाई समय पर कर सकें | जिससे उनकी नष्ट होने वाली फसलों को बचाया जा सके |

Kushum Yojana 2018 के उद्देश्य –

भारत सरकार द्वारा देश के किसानों के लिए Kushum Yojana 2018 का संचालन किया जाएगा | कुसुम योजना 2018 को लागू करने के लिए भारत सरकार के निम्नलिखित उद्देश्य है |

  • Kushum Yojana 2018 का पूरा नाम किसान ऊर्जा सुरक्षा व उत्थान महाअभियान (कुसुम) है |
  • कुसुम योजना के अंतर्गत देश में 3 करोड़ पम्पों  को सौर ऊर्जा से चलाने का लक्ष्य रखा गया है |
  • कुसुम योजना के अंतर्गत पूरे देश में 1. 40 लाख करोड रुपए की लागत आएगी |
  • इसमें केंद्र सरकार 48 हजार करोड रुपए की सहायता प्रदान करेगी | जबकि इतनी ही धनराशि की सहायता राज्य सरकारों द्वारा प्रदान की जाएगी |
  • कुसुम योजना 2018 के अंतर्गत कुल लागत का सिर्फ 10 फ़ीसदी ही  किसानों को देना पड़ेगा |
  • इसके साथ ही लगभग ₹45 हजार करोड़ का इंतजाम केंद्र सरकार द्वारा बैंक लोन से किया जाएगा |
  • कुसुम योजना 2018 के अंतर्गत पहले चरण में उन पंपों को शामिल किया जाएगा | जो अभी डीजल से चल रहे है |
  • इस तरह करीब 17.5 लाख सिंचाई पंपों को सौर ऊर्जा से चलाने की व्यवस्था की जाएगी |
  • इससे ईंधन की भी बचत होगी |
  • कुसुम योजना 2018 से 28000 मेगावाट की अतिरिक्त बिजली का उत्पादन किया जाएगा |

Kushum Yojana 2018 के लाभ –

Kushum Yojana 2018 का गठन डायरेक्ट किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए किया गया है | कुसुम योजना 2018 के फलस्वरुप किसानों को निम्नलिखित लाभ प्राप्त होंगे –

  • कुसुम योजना 2018 के फलस्वरुप किसानों को मात्र 10% का अग्रिम भुगतान करने पर सौर ऊर्जा संयंत्र का लाभ प्रदान किया जाएगा |
  • इसके साथ ही केंद्र सरकार द्वारा कुसुम योजना 2018 में प्रदान की जाने वाली सब्सिडी डायरेक्ट उनके खातों में प्रदान की जाएगी |
  • इसका लाभ प्राप्त करने के लिए किसान बंजर भूमि का भी उपयोग कर सकते हैं |
  • इस योजना के अंतर्गत किसानों को बैंक ऋण के रूप में कुल व्यय का 30% हिस्सा प्रदान किया जाएगा |
  • इसके साथ ही सौर ऊर्जा संयंत्र लगाने की कुल लागत का 60% हिस्सा सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा |
  • योजना के संचालन से बिजली की बचत होगी | और इसके साथ ही ईंधन की बचत होगी |
  • दूसरी तरफ अब किसान कम लागत में अपनी फसलों की सिंचाई कर सकेंगे |

 

Kushum Yojana 2018 के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें –

  • केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों के लिए सिलाई गठित की गई Kushum Yojana 2018 के लिए अभी तक आवेदन प्रक्रिया शुरू नहीं की गई है |
  • जल्द ही कुसुम योजना 2018 को शुरू किया जाएगा | जिसके पश्चात ऑनलाइन ऑफलाइन पंजीकरण भी शुरू कर दिया जाएंगे |
  • जैसे ही कुसुम योजना 2018 के लिए पंजीकरण शुरू किए जाते हैं | हम आपको पूरी जानकारी प्रदान कर देंगे  |

तो दोस्तों यह थी देश के किसानों के लिए बजट 2018 – 19 में गठित की गई Kushum Yojana 2018 के बारे में थोड़ी सी जानकारी | यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें | ताकि उन्हें भी यह जानकारी प्राप्त हो सके | इसके साथ ही यदि आपका किसी भी प्रकार का सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें | हम आपके सवालों का जल्द ही जवाब देंगे || धन्यवाद ||

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here