झारखंड पेट्रोल सब्सिडी ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? झारखंड पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें?

|| झारखंड पेट्रोल सब्सिडी, झारखंड में पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें?, Jharkhand Petrol Subsidy Yojana Apply Online, झारखण्ड पेट्रोल सब्सिडी योजना, CM Supports Mobile App, पेट्रोल सब्सिडी योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन ||

देश में पेट्रोल, डीजल की बढ़ती कीमतों ने आम लोगों की जेब को राख कर डाला है। अधिकांश जगह पेट्रोल की कीमतें 90 रूपये से ऊपर चल रही है। चुनाव की घोषणा के बाद लोगो को कुछ राहत मिली है। पेट्रोल-डीजल के दाम उस तेजी से ऊपर नहीं जा रहे, जितने पांच राज्यों उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, मणिपुर, गोवा एवं पंजाब में विधानसभा चुनाव की घोषणा के पूर्व जा रहे थे। विपक्ष ने इसे बड़ा मुद्दा बनाया हुआ था।

लग रहा था कि इस बार चुनाव में सबसे बड़ा मुद्दा महंगाई ही रहने वाला है। इस बीच झारखंड सरकार ने पेट्रोल पर प्रति लीटर 25 रूपये सब्सिडी घोषित कर बाइक रखने वाले राज्यवासियों को राहत देने का कार्य किया है। झारखंड के लोग झारखंड पेट्रोल सब्सिडी का लाभ कैसे उठा सकते हैं, आज हम आपको इस पोस्ट में इसी संबंध में जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना क्या है? (what is jharkhand petrol subsidy scheme)

दोस्तों, सबसे पहले आपको बताते हैं कि झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना क्या है। दरअसल, झारखंड की हेमंत सेारेन (Hemant Soren) सरकार ने राज्य के दुपहिया वाहन रखने वाले राशनकार्ड धारकों को एक महीने में 10 लीटर पेट्रोल तक प्रति लीटर 25 रुपये की सब्सिडी (subsidy) प्रदान किए जाने का ऐलान किया है।

यानी एक राशन कार्ड धारक प्रत्येक माह ढाई सौ रुपये तक की सब्सिडी ले सकेगा। यह योजना 26 जनवरी, 2022 से लागू हो जाएगी। इससे करीब सप्ताह भर पहले 20 जनवरी, 2022 को मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने Cm Support App लांच किया है। राज्य के राशनकार्ड धारक इस योजना का लाभ उठाने के लिए इस एप के माध्यम से रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं।

इस app की अभी testing चल रही है। इसके अतिरिक्त राज्य की खाद्य सुरक्षा योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://jsfss.jharkhand.gov.in/ पर भी झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन की सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

झारखंड पैट्रोल सब्सिडी योजना Key Highlights

योजना का नामझारखंड पैट्रोल सब्सिडी योजना
किसने आरंभ कीझारखंड सरकार
लाभार्थीझारखंड के नागरिक
उद्देश्यसब्सिडी प्रदान करना
अधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2022
राज्यझारखंड
सब्सिडी की अधिकतम सीमा₹250 रुपए
झारखंड पेट्रोल सब्सिडी, झारखंड पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें? (what is Jharkhand petrol subsidy? how to get a petrol subsidy in Jharkhand?)

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी राशि लाभार्थी को कैसे मिलेगी? (how a beneficiary can get subsidy)

दोस्तों, इन दिनों सरकार सब्सिडी का पैसा लाभार्थी के खाते में सीधे भेजने में यकीन रखती है ताकि योजना राशि के भुगतान में पारदर्शिता रहे। कोई बिचैलिया इस राशि पर हाथ साफ न कर सके।

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना के अंतर्गत भी सरकार डीबीटी (DBT) यानी डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (direct benefit transfer) के जरिए लाभार्थी के बैंक एकाउंट में यह पैसा भेजेगी। राज्य सरकार की इस योजना को लेकर काफी समय से वैट घटने का इंतजार कर रहे राज्यवासियों को काफी राहत पहुंचेगी।

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना के लिए क्या पात्रता निर्धारित की गई है? (what qualifications required for jharkhand petrol subsidy scheme)

साथियों, आइए, अब आपको जानकारी दे दें कि झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना (jharkhand petrol subsidy scheme) का लाभार्थी बनने के लिए झारखंड राज्य सरकार की ओर से क्या क्या पात्रता निर्धारित की गई है। यह इस प्रकार से है-

  • आवेदक झारखंड का स्थाई निवासी हो।
  • सब्सिडी केवल झारखंड में रजिस्टर्ड टू-व्हीलर्स के लिए मिलेगी।
  • आवेदक का दुपहिया वाहन उसी के नाम पर रजिस्टर्ड होना चाहिए।

आवेदक को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (national food security act) अथवा झारखंड राज्य खाद्य सुरक्षा योजना (jharkhand state food safety scheme) का लाभार्थी होना आवश्यक है।

संबंधित सारी जानकारी प्राप्त हो जाएगी । हर महीने आपके पेट्रोल की सब्सिडी आपके डायरेक्ट अकाउंट में भेजी जाएगी । जब भी आप पेट्रोल खरीदें तब आप अपना राशन कार्ड नंबर जरूर प्रदान करें ताकि आप की सब्सिडी आपके बैंक अकाउंट में भेजे जा सके ।
  • आवेदक के पास वैध ड्राइविंग लाइसेंस हो।
  • राशन कार्ड में परिवार के सभी सदस्यों के आधार कार्ड के नंबर दर्ज होने आवश्यक हैं।
  • आवेदक का बैंक खाता उसके आधार से लिंक हो।
  • आवेदक का मोबाइल नंबर अपडेट हो।

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? [How to Apply Jharkhand Petrol Subsidy Online?]

यदि आप झारखंड के राशनकार्ड धारक निवासी हैं एवं आपके नाम पर रजिस्टर्ड दोपहिया वाहन के मालिक हैं तो अब आपको जानकारी देते हैं कि आप झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कर सकते हैं। इसकी आनलाइन प्रक्रिया (online process) इस प्रकार से है-

Total Time: 15 minutes

ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं –

सबसे पहले आपको अपनी वेबसाइट https://jsfss.jharkhand.gov.in/ को ओपन करना होगा। आप यहां क्लिक करके डायरेक्ट भी जा सकते हैं ।

राशन कार्ड होल्डर लॉगइन ऑप्शन पर क्लिक करें

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी, झारखंड में पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें? (what is Jharkhand petrol subsidy? how to get a petrol subsidy in Jharkhand?)

ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचकर आपको राशन कार्ड होल्डर लॉगइन ऑप्शन पर क्लिक करना होगा । यदि आपका पहले से राशन कार्ड नहीं है तो आप यहां पर नए राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

राशन कार्ड अकाउंट में लॉगिन करें –

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी, झारखंड में पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें? (what is Jharkhand petrol subsidy? how to get a petrol subsidy in Jharkhand?)

अपने अकाउंट में लॉगिन करने के लिए आपको राशन कार्ड नंबर राशन कार्ड का प्रकार एवं पासवर्ड भरना होगा । इसके साथ ही आपको नीचे दिए गए कैप्चा कोड को दिए गए बॉक्स में भरकर लॉगइन बटन पर क्लिक करना होगा ।

अपडेट व्हीकल डीटेल्स ऑप्शन पर क्लिक करें –

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी, झारखंड में पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें? (what is Jharkhand petrol subsidy? how to get a petrol subsidy in Jharkhand?)

अपने अकाउंट में लॉगिन करने के पश्चात आपको आपके अकाउंट में पेट्रोल सब्सिडी लेने के लिए आपको अपने राशन कार्ड में अपडेट व्हीकल डीटेल्स ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

वाहन डिटेल्स भरें –

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी, झारखंड में पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें? (what is Jharkhand petrol subsidy? how to get a petrol subsidy in Jharkhand?)

जैसे ही आप अपडेट व्हीकल डीटेल्स ऑप्शन पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज ओपन होकर आ जाएगा । यहां पर आपको उस नंबर का नाम सेलेक्ट करना है, जिस मेंबर के नाम से आपके परिवार में वाहन है । इसके पश्चात आपको वाहन नंबर और आर सी पर लिखा हुआ नाम भरना होगा । साथ ही नीचे दिए गए बॉक्स में आपको ड्राइविंग लाइसेंस नंबर भरकर एवं घोषणा के कॉलम में टिक करके वैलिडेट पर क्लिक करना होगा ।

डिटेल वैलिडेट करें

जैसे ही आप सारी जानकारी भरकर वैलिडेट ऑप्शन पर क्लिक करेंगे आपके फैमिली मेंबर के आधार कार्ड से जुड़े मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी भेजा जाएगा । जिसे आप यहां दिया के बॉक्स में भरकर अपने वाहन को अपने राशन कार्ड से जोड़ सकते हैं । आपका वाहन आपके राशन कार्ड के साथ सीडिंग होने के पश्चात हर महीने आपके पेट्रोल की सब्सिडी आपके अकाउंट में डायरेक्ट भेजी जाएगी ।

झारखंड के कितने जिलों के लोग झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना से लाभान्वित होंगे (how many districts’ people will get benefitted from this scheme)

दोस्तों, आपको बता दें कि झारखंड राज्य की स्थापना आज से करीब 22 वर्ष पूर्व 15 नवंबर के दिन सन् 2000 में हुई थी। बिहार के दक्षिणी हिस्से को विभाजित करके झारखंड राज्य बनाया गया था। स्थापना के समय झारखंड राज्य में कुल 18 जिले थे। कुछ जिलों को पुनर्गठित करके छह नए जिले बनाए गए, जिनमें लातेहार, सराईकेला, खरसावां, जामताड़ा, खुंटी एवं रामगढ़ शामिल थे। इस समय झारखंड प्रदेश में कुल 24 जिले हैं।

पांच कमिश्नरी हैं। जिलों की बात करें तो इनमें कोडरमा, गढ़वाह, गिरीडीह, गुमला, चतरा, जामताडा, दुमका, देवघर, गोड्रडा, धनबाद, पलामू, पश्चिमी सिंहभूम, पूर्वी सिंहभूम, बोकारो, रांची, लातेहार, लाोहरदग्गा, सरायकेला खरसावां, साहिबगंज, सिमडेगा, हजारीबाग, रामगढ़, पाकुड़, खुंटी जिलाा शामिल हैं। जाहिर सी बात है कि इन 24 जिलों के निवासियों को झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ मिलेगा।

यदि झारखंड से जुड़े अन्य तथ्यों पर गौर करें तो आपको बता दें कि झाड़ का तात्पर्य जंगल झाड़ी से होता है, ऐसे में इसे झाड़-जंगलों का प्रदेश झारखंड तो कहते ही हैं, छोटानागपुर पठार में बसा होने की वजह से इसे छोटानागपुर प्रदेश कहकर भी पुकारा जाता है। वर्तमान में झारखंड की राजधानी रांची है, जबकि झारखंड का का सबसे बड़ा शहर जमशेदपुर है।

अन्य मुख्य शहरों में धनबाद, बोकारो आदि का नाम लिया जा सकता है। खनिज संपदा के लिए मशहूर इस राज्य के राज्यपाल इस समय रमेश बैंस हैं। यहां विधानसभा की 82, जबकि लोकसभा की 14 सीटें हैं। विधानसभा की 81 सीटों पर चुनाव होता है, जबकि एक सीट पर मनोनीत विधायक की ताजपोशी की जाती है।

सीएम ने सरकार के दो साल पूरे होने पर पेट्रोल सब्सिडी का वादा किया था (cm promised petrol subsidy on the occasion of completion two years of the government)

झारखंड में इस समय झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) की सरकार है। सरकार के साथ साथ ही झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी 29 दिसंबर, 2021 को दो साल पूरे किए हैं। उन्हें इस सरकार में कांग्रेस (congress) के 18, राजद (RJD), एनसीपी (NCP) एवं सीपीआईएमएल (CPIML) के एक विधायक समेत एक निर्दलीय विधायक का समर्थन प्राप्त है।

पेट्रोल एवं डीजल पर वैट (VAT) यानी value added tax कम न किए जाने को लेकर विपक्षी भाजपा ने झारखंड सरकार पर कई आरोप भी लगाए थे। इसे उसका एक जनविरोधी निर्णय बताया था। इस पर 29 दिसंबर को ही मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से सीएम हेमंत सोरेन को टैग (tag) कर एक ट्वीट (tweet) किया गया, जिसमें राज्य स्तर से दुपहिया वाहन के लिए पेट्रोल पर प्रति लीटर 25 रुपये की राहत देने की घोषणा की गई।

ट्वीट में लिखा था, ‘पेट्रोल-डीजल के मूल्य में लगातार इजाफा हो रहा है। इससे गरीब और मध्यम वर्ग के लोग सबसे अधिक प्रभावित हैं। इसलिए सरकार राज्य स्तर से दुपहिया वाहन के लिए पेट्रोल पर प्रति लीटर 25 रुपये की राहत देगी। इसका लाभ 26 जनवरी, 2022 से मिलना शुरू हो जाएगा।

पेट्रोल डीजल पर कितने प्रकार के टैक्स लगते हैं? (how many taxes are imposed on petrol diesel)

दोस्तों, यदि आप झारखंड के रहने वाले हैं तो पेट्रोल पर सब्सिडी लेने के लिए रजिस्ट्रेशन संबंधी जानकारी हमने आपको दी है। अब आपको जानकारी देंगे कि पेट्रोल-डीजल पर कितने प्रकार के टैक्स अथवा चार्ज लगते हैं। मित्रों, पहला है उत्पाद शुल्क यानी एक्साइज ड्यूटी (excise duty)। इसे केंद्र सरकार लगाती है।

दूसरा है डीलर का कमीशन (dealer’s commission)। यह पेट्रोल पर लगभग 3.78 रुपए है। राज्य के हाथ में केवल वैट होता है, जिसे घटाकर राज्य पेट्रोल की कीमतें कम कर सकते हैं। फिलहाल विपक्षी दलों की निगाह इस पर लगी है कि केंद्र सरकार के एक्साइज ड्यूटी कम करने के बाद भी जिस झारखंड सरकार ने पेट्रोल डीजल पर वैट को नहीं घटाया था, वह नागरिकों को पेट्रोल सब्सिडी देने के लिए किस उपाय का इस्तेमाल करेगा।

झारखंड में पेट्रोल-डीजल पर कितना वैट लगता है? (how much vat is on petrol diesel in Jharkhand)

साथियों, आपको जानकारी दे दें कि इस वक्त झारखंड में पेट्रोल-डीजल पर 22 प्रतिशत वैट लगता है। यदि रुपये में इसकी गणमना करें तो यह कीमत करीब साढ़े 17 रुपए प्रति लीटर बैठती है। झारखंड भर में इसे लगातार घटाने की मांग हो रही है।

इससे साफ है कि झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को अपना राज्य के लोगों को पेट्रोल सब्सिडी देने का वादा पूरा करने के लिए न केवल पूरा वैट छोड़ना पड़ेगा, बल्कि 7.40 रुपए प्रति लीटर एडिशनल सब्सिडी का भी प्रावधान करना होगा।

झारखंड में हर माह कितने ईंधन की खपत होती है? (how much fuel is used in jharkhand)

मित्रों, अब हम केवल दुपहिया ही नहीं, बल्कि ओवर आल ईंधन खपत की बात करते हैं। विशेषकर डीजल की। आपको बता दें कि झारखंड में हर महीने सवा लाख किलोलीटर डीजल की खपत हो रही है। यह तो आप जानते ही हैं कि एक किलोमीटर में एक हजार लीटर होता है। यहां 22 प्रतिशत वैट लगता है।

ऐसे में सरकार को करीब सवा दो सौ करोड़ का राजस्व डीजल के माध्यम से प्राप्त होता रहा है। पेट्रोलियम उत्पादों की बिक्री (sale) में हर वर्ष करीब पांच से छह फीसदी की बढ़त होती है। इसमें बढ़ोत्तरी का सीधा सा असर ट्रांसपोर्ट (transport) की दरों पर पड़ता है। इससे महंगाई भी बढ़ जाती है। यात्री वाहन होने की स्थिति में यात्री किराए में बढ़ोत्तरी कर दी जाती है।

सरकार के पेट्रोल पर सब्सिडी देने से महंगाई से जूझ रहे मध्यम वर्ग को राहत मिलेगी (middle man will get relief from this decision)

महंगाई की दर लगातार ऊपर की तरफ बढ़त कर रही है। झारखंड सरकार के पेट्रोल पर सब्सिडी शुरू किए जाने के कदम से महंगाई से जूझ रहे आम आदमी को राहत मिलेगी। यह तो आप जानते ही हैं कि कोरोना महामारी की मार की वजह से न केवल भारत बल्कि दुनिया भर की अर्थव्यवस्था (economy) में मंदी देखी जा रही थी।

हालांकि बहुत से देश इससे उबर चुके हैं, लेकिन भारत अभी अर्थव्यवस्था की पतली हालत से जूझ रहा है। कोरोना काल में लाखों लोग बेरोजगार हुए हैं। उन्हें अपनी नौकरी एवं जमे-जमाए काम-धंधे से हाथ धोना पड़ा है। ऐसे में केंद्र सरकार (central government) की ओर से लगातार बढ़ रही पेट्रोल डीजल की कीमतों ने लोगों के घर का बजट डांवाडोल किया हुआ था।

अब झारखंड सरकार ने अपने राज्य के लोगों के लिए 25 रुपये की पेट्रोल सब्सिडी घोषित कर उन्हें राहत देने का काम किया है, इसमें कोई दोराय नहीं है। इतना ही नहीं, प्रदेश में मार्च तक हर हाल में पंचायत चुनाव कराया जाना है। स्वयं प्रदेश के ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज्य मंत्री आलमगीर आलम ने बताया है कि राज्य में 15 फरवरी के पश्चात कभी भी पंचायत चुनाव कराए जा सकते हैं।

ऐसे में पेट्रोल सब्सिडी योजना एक बड़े वर्ग को प्रभावित करेगी, इससे इंकार नहीं किया जा सकता। इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन 22 जनवरी को 14 राइस मिलों (rice mills) का शिलान्यास करने जा रहे हैं। ये भी झारखंड राज्य में युवाओं के लिए रोजगार के विकास के द्वार खोलेंगी, इसमें कोई दोराय नहीं है।

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना क्या है?

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने इस योजना के अंतर्गत राज्यवासियों के लिए पेट्रोल पर प्रति लीटर 25 रुपये सब्सिडी देने की घोषणा की है।

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना कब से लागू होगी?

यह योजना 26 जनवरी, 2022 से लागू होगी।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने योजना के लिए रजिस्ट्रेशन को कौन सा एप लांच किया है?

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने योजना के लिए रजिस्ट्रेशन को cm support app लांच किया है।

झारखंड सरकार ने इसके लिए किस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी है?

झारखंड सरकार ने इसके लिए वेबसाइट https://jsfss.jharkhand.gov.in/ पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी है।

झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे करा सकते हैं?

इस योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की प्रक्रिया की जानकारी हमने आपको पोस्ट में दी है।

पेट्रोल सब्सिडी का लाभ किसे मिलेगा?

पेट्रोल सब्सिडी का लाभ भारतीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के लाभार्थी को मिलेगा।

पेट्रोल सब्सिडी का लाभ किस श्रेणी के वाहन को मिलेगा?

पेट्रोल सब्सिडी का लाभ केवल दोपहिया मालिकों को ही मिलेगा।

क्या पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए दुपहिया का व्यक्ति के नाम पर रजिस्ट्रेशन होना आवश्यक है?

जी हां, इस योजना का लाभ लेने के लिए दुपहिया का उसके मालिक के नाम रजिस्ट्रेशन होना आवश्यक है।

क्या झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए केवल मुखिया के आधार कार्ड नंबर से काम चल जाएगा?

जी नहीं, पूरे परिवार के सदस्यों के आधार कार्ड नंबर की जानकारी इस योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक होगी।

दोस्तों, हमने आपको झारखंड में पेट्रोल सब्सिडी कैसे लें, विषय पर आवश्यक जानाकरी दी। उम्मीद है कि यह जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। आप इसके माध्यम से झारखंड पेट्रोल सब्सिडी योजना का लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन (registration) करा सकेंगे। यदि आप ऐसे ही किसी ज्ञानवर्धक विषय पर हमसे लेख चाहते हैं तो हमें नीचे दिए गए कमेंट बाक्स में कमेंट करना न भूलें। ।।धन्यवाद।।

——————————————-

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment