झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, लाभ | Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana

झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना :- आज देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया कोविड-19 के संक्रमण से जूझ रही है तथा सारे देश अपनी स क्षमता तथा स्त्रोतों के अनुसार कई प्रकार की योजनाएं लागू कर रहे हैं। जिससे कि इस कोविड-19 के संक्रमण को रोका जा सके। आज लगभग पूरे देश में इसके संक्रमण के रोगी दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहे हैं।

भारत में इस संक्रमण ने लगभग 50 हजार से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर चुके है। इस संक्रमण के कारण भारत की अर्थव्यवस्था पर गहरी चोट पड़ी है। आज सबसे ज्यादा परेशान तथा असहाय मज़दूर, कामगार तथा ग़रीब परिवार है।

लॉक डाउन के चलते भारत के सारे कार्य रुक चुके हैं। जिससे कि प्रवासी तथा मज़दूरों को रोज़गार प्राप्त नहीं हो रहे हैं जिससे वह अपने दैनिक ज़रूरतों की पूर्ति नहीं कर पा रहे हैं। इसको देखते हुए हैं,सरकार ने कई योजनाएं निकाली है।

इन योजनाओं का लाभ प्रवासी मज़दूर तथा कामगारों को हो रहा है भारत के ऐसे कई राज्य है जिन्होंने मज़दूर वर्ग तथा कामगारों के लिए विभिन्न तरीके योजनाओं को लागू किया है। जिससे कि उन्हें फायदा हो सके इन्हीं में से एक ऐसा राज्य है जिन्होंने मज़दूरों के हित में एक योजना निकाली है यह झारखंड राज्य है जिसने मज़दूरों के लिए Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana निकाली है।

झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, लाभ | Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना के बारे में विस्तारपूर्वक बताएँगे तथा आपको यह भी बताएँगे कि झारखंड सरकार ने मज़दूरों के लिए और कौन सी योजनाओं को निकाला है। जिससे कि मज़दूर वर्ग को फायदा हो सके से संबंधित हम वह तमाम जानकारियां आपको देंगे।

झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना क्या है? What is Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana?

इस योजना का शुरुआत राज्य के मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन ने किया है। इसका लाभ उन तमाम मज़दूरों को मिलेगा जिन्होंने रोज़गार के लिए दूसरे राज्यों में जाकर रोज़गार किया और अपने दैनिक जीवन को मजबूत किया इसके लिए राज्य सरकार ने यह योजना बनाई है जैसा कि आप जानते हैं कि लॉक डाउन की वजह से दूसरे राज्य में प्रवासी मज़दूर फंसे हुए हैं।

योजना का नामझारखण्ड मजदूर रोजगार योजना
किसके द्वारा शुरू की गयीमुख्यमंत्री हेमंत सोरेन
लाभ किसे मिलेगाराज्य के प्रवासी मजदूर
उद्देश्यप्रवासी मजदूरों को रोजगार प्रदान
करना
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://www.jharkhand.gov.in/

इस वजह से उन्हें काफी परेशानी हो रही है क्योंकि ना ही रोज़गार और ना ही भोजन प्राप्त हो पा रहा है इसीलिए उनकी इस परिस्थिति को देखते हुए राज्य सरकार ने झारखंड मज़दूर योजना लागू किया। इस प्रकार झारखंड सरकार ने अपने मज़दूर वर्ग के लिए चिकित्सा सुविधा से लेकर रोज़गार सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया झारखंड सरकार ने ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत प्रवासी मज़दूरों के लिए रोज़गार प्रदान करने के लिए अन्य 3 योजनाएं लागू की है। जो इस प्रकार है:-

  • बिरसा हरित ग्राम योजना
  • नीलांबर पीतांबर जल समृद्धि योजना
  • वीर शहीद पोटो हो खेल विकास योजना

यह भी जाने –

बिरसा हरित ग्राम योजना (Birsa Green Village Scheme)

इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार के आदेश अनुसार लोगों को पौधे लगाने की जिम्मेदारी दी गई है इसमें सरकार आपसे सड़क के किनारे परती भूमि व्यक्तिगत एवं सरकारी फलदार पौधे लगाएंगे। आपको लगाने के लिए सारे पौधे सरकार द्वारा प्राप्त होंगे। इसकी देखरेख की जिम्मेदारी गांव में रहने वाले लोगों की होगी। तथा उन्हें पौधे लगाने के लिए ज़मीन पट्टे पर दी जाएगी जिससे कि गांव में हरा-भरा बना रहे और इससे लोगों को रोज़गार प्राप्त हो सके जिससे कि पर्यावरण को स्वच्छ रहेगा।

इस योजना के तहत लोगों की आर्थिक मदद भी हो पाएं। इस योजना के अंतर्गत मज़दूरों को 50000 की सालाना आमदनी हो सकें। राज्य के जो भी इच्छुक प्रवासी मज़दूर है वह इस योजना से रोज़गार प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना से सरकार झारखंड को हरा भरा बनाना चाहती है जब राज्य में किसी प्रकार के इंधन की आवश्यकता होगी तो हम लगाए गए हैं पौधों से प्राप्त लकड़ी हो को ईंधन के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

नीलांबर पीतांबर जल समृद्धि योजना – Nilambar Pitambar Jal Samridhi Yojana

इस योजना के अंतर्गत जल संरक्षण कार्यक्रम किए जाएंगे इसके अंतर्गत 5 लाख करोड़ लीटर की जल संरक्षण क्षमता बढ़ाई जाएंगी जिससे कि जिन क्षेत्रों में सूखा हुआ करता था। उन्हें पानी उपलब्ध कराया जाएगा। यह योजना के माध्यम से बंजर भूमि को खेती योग्य भूमि में बदलना है।

इस योजना का उद्देश्य यह भी है कि जल को पीने योग्य तथा लोगों के काम योग्य बनाने का है इस योजना के तहत प्रवासी मज़दूरों को रोज़गार प्राप्त होगा और उनके आर्थिक सुधार तथा सामाजिक सुधार में यह योजना महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे nilamber-pitamber जल समृद्धि योजना मनरेगा के तहत 5 लाख एकड़ बंजर भूमि का संवर्धन तथा संरक्षण किया जाएगा।

वीर शहीद पोटो हो खेल विकास योजना – Veer Shahid Poto Ho Khel Vikas Yojana

जहां योजना झारखंड सरकार द्वारा हर पंचायत में 5000 खेल के मैदान तैयार करना है। इस योजना के तहत राज्य के शामिल लोगों को खेल से संबंधित सामग्री तथा व्यवस्था की जाएंगी इस खेल का उद्देश्य यह है कि राज्य को खेल के क्षेत्र में अग्रणी लाना है इसमें सभी खिलाड़ियों की प्रतिभा को लोगों के सामने निखार कर लाना जिससे लोगों में खेल के प्रति जागरूक किया जा सके।

इसमें प्रशिक्षण केंद्र भी बनाए जाएंगे खिलाड़ियों को सरकारी नौकरी तथा विशेष आरक्षण दिया जाएगा खिलाड़ियों को इस योजना के माध्यम से उनके स्वास्थ्य का भी ध्यान रखा जाएगा तथा उनके खान-पान से संबंधित सामग्री भी उपलब्ध कराई जाएंगी।

Benefits of Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana

झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना के अनुसार सरकार के द्वारा मजदूरों को किस प्रकार लाभ जाएगा वह इस प्रकार है –

  • इस योजना से झारखंड निवासियों को रोज़गार प्राप्त होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत प्रवासी मज़दूरों को तीन अन्य योजनाओं का लाभ प्राप्त होगा।
  • झारखंड में लगभग 6 लाख प्रवासी मज़दूर है जिन्हें इस योजना के अंतर्गत लाकर उन्हें रोज़गार दिया जाएगा।
  • इस योजना से लोगों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा।
  • झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना के कारण प्रवासी मज़दूर के सामाजिक तथा न्यायिक व्यवस्था को आधार मिलेगा।
  • इन योजनाओं के अंतर्गत जल का संरक्षण तथा भंडारण किया जाएगा।
  • झारखंड को हरा-भरा करने के लिए विरसा हरित ग्राम योजना लाया गया।
  • इस योजना के अंतर्गत खेल के मैदान बनेंगे जिससे लोगों को रोज़गार प्राप्त होगा।
  • इस योजना के अंतर्गत खिलाड़ियों को आरक्षण दिया जाएगा।

यह भी जाने –

झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना हेतु पात्रता – Eligibility for Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana

किसी भी सरकार के द्वारा जब किसी योजना को शुरू किया जाता है तो उसके लिए कुछ पात्रता निर्धारित की जाती है बैसे ही झारखंड सरकार के द्वारा झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना का लाभ मज़दूरों तक पहुँचाने के लिए कुछ पात्रता को निर्धारित किया है जो की इस प्रकार है –

  • आवेदक झारखंड का निवासी हो।
  • आवेदक के पास झारखंड मूल निवास प्रमाण पत्र होना अति आवश्यक है।
  • मज़दूर, प्रवासी मज़दूर होना चाहिए। मज़दूर के पास झारखंड स्थाई निवासी पता होना चाहिए।

यह भी जाने –

झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें? How to apply for Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana online?

जो मज़दूर अन्य किसी राज्य में फंसे है तो उन्हें वापस लाने के लिए तथा उन्हें रोज़गार दिलाने के लिए इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है। अभी आवेदन करने की समस्त जानकारी नहीं आई है इसके लिए आपको थोड़ा इंतजार करना होगा आशा करते हैं कि जल्द ही सरकार इससे संबंधित जानकारी साझा करेंगे। जिससे कि हम आपको अपने लेख के माध्यम से उपयुक्त सही जानकारी आप तक पहुंचा सके जिससे कि आप इस योजना का लाभ ले सकेंगे।

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण मज़दूरों को हो रही समस्या से निजात दिलाने के लिए झारखंड सरकार के द्वारा शुरू की गयी झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना झारखंड मज़दूरों के लिए काफी अहम योजना साबित होने वाली है।

दोस्तों, उम्मीद है कि इस पोस्ट के जरिये झारखंड मजदूर रोजगार योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, लाभ | Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana के बारे में दी गई जानकारी आपके बेहद काम की होगी। यदि आप ऐसी ही अन्य किसी योजना के संबंध में हमसे जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए कमेंट बाक्स में उस योजना का नाम लिखकर हमें भेज सकते हैं। हम उसके बारे में जानकारी उपलब्ध कराने का पूरा प्रयास करेंगे। यदि कोई सुझाव आप हमें देना चाहते हैं तो उसके लिए भी अपनी बात कमेंट बाक्स में कमेंट करके हम तक पहुंचा सकते हैं। हमें इस पोस्ट पर आपकी प्रतिक्रियाओं का इंतजार रहेगा।। धन्यवाद।।

Spread the love

1 thought on “झारखंड मज़दूर रोज़गार योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, लाभ | Jharkhand Mazdoor Rozgar Yojana”

Leave a Comment