राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? राशन कार्ड करेक्शन फॉर्म

राशन कार्ड में आधार कार्ड कैसे जोड़े, राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं?, राशन कार्ड करेक्शन फॉर्म, राशन कार्ड अप्लाई वेबसाइट, राशन कार्ड से नाम हटाना, राशन कार्ड में नाम देखना है, ग्राम पंचायत राशन कार्ड सूची, परिवार के सदस्य को जोड़ना, राशन कार्ड शुद्धिकरण आवेदन पत्र.

आज राशन कार्ड एक ऐसा दस्तावेज है, जिसे न केवल सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान से गेहूं, चावल जैसा राशन लेने बल्कि पहचान पत्र की तरह भी इस्तेमाल किया जाता है। उपभोक्ता की पारिवारिक स्थिति और उसकी सालाना आय के आधार पर आय राज्‍य सरकार की ओर से कई तरह के राशन कार्ड बनाये जाते हैं, जैसे गरीबी रेखा के ऊपर(APL), गरीबी रेखा के नीचे(BPL) और अन्‍तोदय परिवारों के लिए राशन कार्ड।

कई बार यह होता है कार्ड बनवाते वक्त उसमें परिवार के सदस्य का नाम गलत लिखा जाता है। ऐसे में राशन कार्ड से मिलने वाली सुविधाओं का उपभोग करने के लिए इस गलत नाम को सही करवाना जरूरी होता है। दोस्तों, आज इस post के जरिए हम आपको इसी प्रक्रिया की जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

राशन कार्ड में नाम सही कराना क्यों जरूरी है? Why is it necessary to get the name corrected in the ration card?

राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? राशन कार्ड करेक्शन फॉर्म

राशन कार्ड में नाम सही कराने की प्रक्रिया जानने से पहले आइए आपको यह बताएं कि राशन कार्ड में नाम सही कराना जरूरी क्यों है। दोस्तों, यह इसलिए भी बेहद जरूरी है, क्योंकि विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ लेने के लिए राशन कार्ड एक आवश्यक दस्तावेज होता है खासतौर पर केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही आर्थिक योजनाओं का लाभ लेने में राशन कार्ड एक अहम दस्तावेज निर्धारित किया गया है।

यदि इसमें किसी व्यक्ति का नाम गलत होता है तो वह योजना का लाभ लेने से वंचित हो सकता है ऐसे में यह बेहद आवश्यक है कि जिस भी किसी सदस्य आपका नाम गलत है तो उसे आप जल्दी से जल्दी सही कराएं ताकि आपको किसी योजना का लाभ लेने से वंचित ना होना पड़े।

राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? How to modify the name in ration card?

विभिन्न राज्यों में खाद्य, आपूर्ति, उपभोक्ता मामले और सार्वजनिक वितरण प्रणाली से जुड़े विभागों ने उपभोक्ताओं को राशन कार्ड में नया नाम जोड़ने या कोई भी सुधार करने के लिए आवेदन करने की एक पूरी प्रक्रिया निर्धारित की है। यानी कि सरल शब्दों में कहें तो नाम में कोई भी गड़बड़ी या गलती होने पर उसे सही कराने के लिए आपको इस प्रक्रिया का पालन करना ही होगा। 

शहरी राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? How to modify the name in the Urban Ration Card?

साथियों, यह भी नोट कर लीजिए कि कई स्थानों पर यह शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के लिहाज से अलग अलग है। यह प्रक्रिया इस प्रकार से है-

  • सबसे पहले आपको जिला पूर्ति अधिकारी के नाम एक प्रार्थना पत्र लिखना होगा। इसमें बताना होगा कि आपका या आपके परिवार के सदस्य का नाम गलत लिखा गया है। उसे संशोधित किया जाए। इसमें राशन कार्ड और डीलर के ब्योरे के साथ ही नीचे अपना नाम, पता लिखना होगा।
  • शहरी क्षेत्र के आवेदकों को आवेदन पत्र भरकर निर्धारित दस्तावेज लगाने होंगे। इनमें राशन कार्ड की ओरिजनल और फोटो कापी, आधार कार्ड की कापी, पानी/बिजली का बिल और अगर किराए पर रह रहे हैं तो किराए की रसीद जमा करनी होगी।
  • इसके बाद आवेदन पत्र डीएसओ ऑफिस में जाकर क्लर्क के पास जमा करना होगा।
  • क्लर्क आपके लिए आवेदन पत्र और इसके साथ नत्थी दस्तावेज को चेक करेगा।
  • इसके बाद क्लर्क आपको एक पावती दे देगा।
  • इसके पश्चात आपके आवेदन पत्र को क्लर्क आपूर्ति निरीक्षक यानी एसआई को भेजेगा।
  • आपूर्ति निरीक्षक मास्टर रजिस्टर के साथ आपके दस्तावेज का मिलान करेगा।
  • इनके सत्यापन के लिए जरूरत पड़ेगी तो वह आवेदक यानी आपके घर का दौरा भी करेगा।
  • संतुष्ट होने के बाद वह संशोधन और आपको राशन कार्ड की नई कॉपी जारी किए जाने की मंजूरी दे देगा।
  • एसआई की मंजूरी के बाद क्लर्क मास्टर रजिस्टर को और राशन कार्ड को भी अपडेट करेगा।
  • जरूरत पड़ेगी तो वह आपको राशन कार्ड की नई कॉपी जारी कर देगा।
  • कार्यालय में पावती दिखाकर आप अपना संशोधित राशन कार्ड हासिल कर सकते हैं।

ग्रामीण राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? How to modify the name in rural ration card?

अब आते हैं ग्रामीण क्षेत्रों में राशन कार्ड में नाम संशोधन की प्रक्रिया पर। वहां भी प्रक्रिया तो शहरों ही जैसी है, लेकिन यहां आपको क्लर्क की जगह जीपीओ में जाकर अपना आवेदन पत्र और अन्य दस्तावेजों को जमा करना होगा। इतना ही नहीं, आप राशन कार्ड में सुधार के लिए ई सेवा केंद्रों की भी सहायता बखूबी ले सकते हैं।

यहां आपको अपना पहचान, निवास और आधार के साथ ही राशन कार्ड की कॉपी दिखानी होगी। आपको लगे हाथ यह भी जानकारी दें कि राशन कार्ड की नई प्रति हासिल करने के लिए आपको एक मामूली सा शुल्क भी चुकाना पड़ता है। और यदि हम उत्तराखंड राज्य की बात करें तो यह शुल्क महज पांच रुपए निर्धारित किया गया है।

राशन कार्ड करेक्शन फॉर्म कहां से लें? Where to get Ration Card Correction Form?

दोस्तों, आपको बता दें कि आप राशन कार्ड में नाम सही कराने के लिए आवेदन पत्र अपने निकटतम राशन कार्ड डीलर के पास से प्राप्त कर सकते हैं। जिला पूर्ति अधिकारी यानी डीएसओ के कार्यालय से ले सकते हैं। या फिर आप इसे खाद्य, आपूर्ति और उपभोक्ता विभाग की आधिकारिक वेबसाइट से भी डाउनलोड कर सकते हैं।

आप गूगल सर्च करके संबंधित प्रदेश या जिले की खाद्य, आपूर्ति और उपभोक्ता विभाग की वेबसाइट पर जा सकते हैं। जैसे कि यदि आप उत्तराखंड राज्य की वेबसाइट पर जाना चाहें तो उसके लिए fcs.uk.gov.in पर जा सकते हैं। झारखंड की वेबसाइट पर जाने के लिए aadhar.jharkhand.gov.in पर जा सकते हैं।

राशन कार्ड में नाम कितने दिन में सही हो जाता है? In how many days does the name get correct in the ration card?

मित्रों, हम आपको बता दें कि राशन कार्ड में नाम सुधार की प्रक्रिया में आमतौर पर लगभग 15 दिन लग जाते हैं। क्योंकि जैसा कि हम आपको ऊपर बता चुके हैं कि अधिकारियों की ओर से आपके आवेदन पत्र की जांच की जाएगी। खाद्य आपूर्ति निरीक्षक आपके इलाके में जाकर आवेदन की जांच कर सकते हैं। वह आवेदन फॉर्म में दिए गए विवरणों को सत्यापित करेंगे और इसके बाद ही आप अपने राशन कार्ड को उसी कार्यालय से प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों, आपको बता दें कि जब से राशन कार्ड प्राप्त करने के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया ऑनलाइन हुई है तब से जिला पूर्ति निरीक्षक के कार्यालय में भी भीड़ कम देखने को मिलती है। वहां मौजूद स्टाफ के ऊपर से कार्य का भार कम हो गया। साथ ही फाइलों के अवांछित ढेर से भी छुटकारा मिला है। पहले ऐसा नहीं था। आवेदकों की भीड़ लगी रहती थी। ऐसे में राशन कार्ड में नाम सुधार जैसे कार्य में बहुत ज्यादा समय लग जाता था। पहले की अपेक्षा अब तस्वीर बहुत बदल गई है।

जिला पूर्ति विभाग स्वयं भी कर रहा संशोधन

साथियों, जैसा कि आप जानते हैं, अधिकांश राशन कार्ड आधार कार्ड से लिंक हो चुके हैं। कई बार देखा जाता है कि लोगों के राशन कार्ड या आधार कार्ड में गलत जानकारी दी जाती है। या फार्म भरते समय लोग स्वयं ही गलत जानकारी दे देते हैं, जिससे उन्हें काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

इस समस्या के समाधान के लिए जिला आपूर्ति विभाग स्वयं कार्ड धारकों के ब्योरे का सत्यापन कर रहा है। जिन लोगों की फार्म में दी गई जानकारी में अंतर सामने आएगा, उन्हें शुद्धिकरण का एक मौका दिया जाएगा। उसके बाद आधार की आधिकारिक वेबसाइट यूएडीआइ पर कार्ड धारकों के डाटा को अपलोड कर दिया जाएगा।

आनलाइन केवल फार्म डाउनलोड कर सकते, नाम डीएसओ से ही सही होगा

कुछ राज्यों ने राशन कार्ड में नाम बदलवाने की सुविधा ऑनलाइन भी दी है। लेकिन वह केवल फार्म डाउनलोड करने की सुविधा तक ही सीमित है आपको नाम बदलवाने के लिए खाद्य आपूर्ति कार्यालय जिला पूर्ति निरीक्षक के कार्यालय में संपर्क करना ही होगा। उसके बाद ही आपको नाम सुधार के बाद नया राशन कार्ड डिलीवर किया जा सकता है। उदाहरण के लिए आप झारखंड को ले।

  • यहां आपके पास आनलाइन सेवा के विकल्प के तहत नाम सुधार की सुविधा का आप्शन मिलता है, जैसे ये- 
  • झारखण्ड की ऑफिसियल वेबसाइट https://aahar.jharkhand.gov.in/ पर उपलब्ध आनलाइन आवेदन पर click के बाद अगले पेज पर नाम सुधार का option मिलता है।

राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? राशन कार्ड करेक्शन फॉर्म

  • लेकिन आप click करके आगे बढ़ते हैं तो आपसे जिला पूर्ति कार्यालय से संपर्क करने को कहा जाता है।

राशन कार्ड में नाम कैसे संशोधित कराएं? राशन कार्ड करेक्शन फॉर्म

कई स्थानों पर चलाई जा रही राशन कार्ड नवीनीकरण की प्रक्रिया

कई स्थानों पर राशन कार्ड नवीनीकरण की प्रक्रिया चलाई जा रही है। जैसे उत्तराखंड की ही बात करें तो यहां के 13 जिलों के कई शहरों में राशन कार्ड के नवीनीकरण की प्रक्रिया शुरू की गई है। सभी डीलरों से कहा गया है कि वह अपने क्षेत्र में घर-घर जाकर अपने साथ जुड़े ग्राहकों का ब्योरा जुटा लें। राशन कार्डो को अद्यतन करें।

मसलन, यदि किसी की मृत्यु हो गई है तो उसके नाम को राशन कार्ड से काट दे और परिवार में यदि कोई नया सदस्य जुड़ा हो तो उसका नाम जोड़ लें। इसी प्रकार से यदि किसी को अपने नाम में बदलाव करना है तो वह भी कर दिया जाए। ताकि राशन कार्ड शुद्धिकरण के साथ आधार की वेबसाइट पर अपलोड किया जा सके।

दोस्तों, आपको बता दें कि बहुत सारे डीलर अपना कार्य पूरा कर चुके हैं लेकिन बहुत सारी जगह अभी यह कार्य बाकी है। लाक डाउन किए जाने के बाद से तो यह प्रक्रिया बिल्कुल ठप पड़ी हुई है। इस वजह से इस बार प्रदेश में राशन कार्ड के नवीनीकरण के इस कार्य में देरी होने की भी पूरी पूरी संभावना जताई जा रही है।

राशन कार्ड बनवाने में फर्जीवाड़े भी बहुत सामने आते हैं?

राशन कार्ड बनवाने में कई बार फर्जीवाड़ा भी बहुत सामने आता है। अमूमन देखा जाता है कि जिन परिवारों की सालाना आय निर्धारित सीमा से ऊपर है वह भी राशन कार्ड बनवाते हैं और सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान के राशन का लाभ उठाते हैं। इन्हें दूसरों को बेच देते हैं। जैसे कि आप जानते ही हैं कि इन दिनों राशन कार्ड में मुखिया के स्थान पर ग्रहणी का नाम दिया जा रहा है। ऐसे में फर्जीवाड़े बहुत बढ़ गए हैं।

इस तरह के कई के जिला पूर्ति विभाग के पास आते हैं। और कई स्थानों पर तो दोस्तों और खराब हालात हैं। वहां उलटी गंगा बहती देखने को मिलती है। जहां डीलर खुद उस राशन को बेच देते हैं, जहां राशन कार्ड धारक अपना निर्धारित राशन लेने नहीं पहुंचते हैं। इस तरह के भी कई मामले पकड़ में आते हैं। और कई बड़े मामलों में इस वक्त जांच भी चल रही है। कई जगह यह भी देखने को मिलता है कि किसी और के राशन कार्ड का लाभ कोई और उठा रहा होता है। जिला पूर्ति कार्यालय अक्सर लोगों की शिकायतों पर ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई को अंजाम देता है।

तो दोस्तों, यह थी राशन कार्ड में नाम कैसे सही करवाएं, इस संबंध में जानकारी। यदि आप इसी तरह के किसी अन्य विषय पर हम से कोई जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भेज सकते हैं। यदि कोई सुझाव आप हमें देना चाहते हैं तो उसका भी स्वागत है। आपकी प्रतिक्रियाओं का हमें इंतजार रहेगा। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment