यूएएन नंबर क्या हैं? | यूएएन नंबर ऑनलाइन कैसे बनाएं? | How to create UAN number in Hindi

|| यूएएन नंबर कैसे बनाएं? | How to create UAN number in Hindi | UAN activate kaise kare 2024 in Hind | यूएएन नंबर ऑनलाइन कैसे बनाएं? | यूएएन नंबर को एक्टिवेट करने की प्रक्रिया | यूएएन नंबर की फुल फॉर्म क्या है? ||

How to create UAN number in Hindi :- यदि आप नौकरी करते हैं तो निश्चित तौर पर आपका पीएफ कटता होगा और अब पीएफ कटता है तो निश्चित तौर पर ही आपका यूएएन नंबर होगा। ऐसे में आप जिस कंपनी में नौकरी कर रहे हैं वहां से अपने यूएएन नंबर के बारे में पता कर सकते हैं या फिर उनसे पीएफ खाते की जानकारी माँग सकते हैं। हालाँकि यह सब जानकारी आपको हर महीने मिलने वाली सैलरी स्लिप पर भी लिखी हुई होती (UAN activate kaise kare 2024 in Hindi) है।

ऐसे में यदि आप नौकरी शुरू करने जा रहे हैं या आपका यूएएन नंबर नहीं है तो आप इसे खुद भी बना सकते हैं। आज के इस लेख में हम आपके साथ यूएएन नंबर के बारे में ही बात करने जा रहे हैं। इस लेख को पढ़कर आपको अपना यूएएन नंबर तो बनाना आ ही जाएगा बल्कि इसी के साथ ही आपको इसके बारे में कुछ अन्य मूलभूत जानकारी भी जानने को मिलेगी। तो आइये जाने किस तरह से आप अपना खुद का यूएएन नंबर बना सकते (UAN number kaise activate kare) हैं।

यूएएन नंबर कैसे बनाएं? (How to create UAN number in Hindi)

यूएएन नंबर को बनाने से पहले आपको इसके बारे में जानना जरुरी होता है क्योंकि जिन्हें यही नहीं पता होता है कि यूएएन नंबर का काम क्या होता है या वह करता क्या है और यह जरुरी क्यों होता है, तो फिर वे इसे बनाकर कर भी क्या लेंगे। ऐसे में हम सबसे पहले आपको यह बतायेंगे कि यूएएन नंबर होता क्या है और इसका क्या काम होता है। इसके बाद हम आपको यह जानकारी देंगे कि किस तरह से आप अपना खुद का यूएएन नंबर बना सकते हैं और वो भी कुछ ही मिनट में घर (How to generate UAN yourself in Hindi) बैठे।

How to create UAN number in Hindi

जी हां, सही सुना आपने। आज के समय में भारत सरकार ने लगभग हर सरकारी सुविधा को ऑनलाइन किया हुआ है ताकि आपको किसी कार्यालय के चक्कर ना काटने पड़े। ऐसे में आप अपना यूएएन नंबर भी ऑनलाइन ही बनवा सकते हैं और इसमें आपके चंद मिनट ही लगने वाले हैं। तो आइये एक एक करके यूएएन नंबर के बारे में हरेक बारीक जानकारी ले लेते (UAN number kaise banaye) हैं।

यूएएन नंबर क्या होता है? (UAN number kya hai)

यूएएन नंबर एक ऐसा नंबर होता है जो भारत में काम कर रहे या नौकरी कर रहे हरेक कर्मचारी को दिया जाता है। यह उनके पीएफ खाते को प्रबंधित या मैनेज करने की दृष्टि से दिया जाता है। कहने का अर्थ यह हुआ कि भारत में चाहे सरकारी कंपनी हो या निजी कंपनी, हर कर्मचारी के वेतन में से कुछ पैसा पीएफ की राशि के तौर पर काट लिया जाता है और उसे उसके पीएफ खाते में ही भविष्य की निधि के तौर पर जमा करवा दिया जाता (What is UAN number in Hindi) है।

ऐसे में इस पीएफ खाते को मैनेज करने के लिए ही यूएएन नंबर को जारी किया जाता है। ऐसे में व्यक्ति के पीएफ खाते की पूरी जानकारी इसी यूएएन नंबर में ही निहित होती है। यह हरेक कर्मचारी के पास होना जरुरी होता है जो या तो उसकी पहली कंपनी बना देती है या फिर वह खुद भी बना सकता है। यह हर उस कंपनी में जरुरी होता है जहाँ कर्मचारियों की संख्या 20 से अधिक होती (UAN number kya hai) है।

यूएएन नंबर की फुल फॉर्म क्या है? (UAN number Full form in Hindi)

आपको यह भी जान लेना चाहिए कि जिस यूएएन नंबर की हम इतनी बात कर रहे हैं, आखिरकार उसकी फुल फॉर्म क्या होती है। तो यूएएन नंबर तो एक शोर्ट फॉर्म है जिसका हम सभी इस्तेमाल करते हैं लेकिन इसकी फुल फॉर्म अलग होती (UAN number full form) है। ऐसे में यदि हम इसकी फुल फॉर्म को देखें तो यह यूनिवर्सल अकाउंट नंबर होती है जिसे अंग्रेजी के शब्दों में Universal Account Number के तौर पर लिखा जाता है।

तो इस तरह से यूएएन नंबर का पूरा नाम यूनिवर्सल अकाउंट नंबर या यूनिवर्सल खाता संख्या हो जाती है। हालाँकि सामान्य तौर पर इसकी शोर्ट फॉर्म अर्थात यूएएन नंबर का ही उपयोग किया जाता है।

यूएएन नंबर कितने अंकों का होता है? (How many digits UAN number in Hindi)

तो अब हम बात करते हैं कि यह यूएएन नंबर कितने अंकों का होता है या इसमें कितने अक्षर होते हैं। तो यह यूएएन नंबर कुल 12 अंकों का होता है और इसमें अंग्रेजी वर्णमाला का कोई अक्षर नहीं होता है और ना ही कोई अन्य स्पेशल करैक्टर होता है। यह गणित के अंकों से मिलकर बना हुआ होता है जिसमें कुल 12 अंक होते हैं। तो इस तरह से हम यूएएन नंबर को 12 अंकों से परिभाषित कर सकते हैं जो हर व्यक्ति के लिए अलग होता है।

यूएएन नंबर क्यों जरुरी है?

अब बात करते हैं कि आखिरकार यह यूएएन नंबर जरुरी क्यों होता है। तो हम जहाँ भी नौकरी कर रहे होते हैं वहां पर हमारा एक कर्मचारी भविष्य निधि संगठन अर्थात EPFO के तहत एक खाता खुला हुआ होता है। हालाँकि यह हरेक कंपनी के अनुसार अलग अलग हो सकता है अर्थात यदि हम कंपनी बदलते हैं तो हमारा EPFO अकाउंट भी बदल सकता है लेकिन वह सभी यूएएन नंबर के द्वारा ही प्रबंधित किये गए होते हैं।

तो हमारे जितने भी पीएफ खाते हैं और हमने कितनी भी कंपनी में काम किया हुआ हो, वह सभी हमारे एक ही यूएएन नंबर के द्वारा मैनेज की जाती है। इस तरह से हम यूएएन नंबर के जरिये अपने सभी तरह के पीएफ खातों को प्रबंधित करने और उन्हें मर्ज करने का काम कर रहे होते हैं।

यूएएन नंबर बनाने का तरीका (UAN number banane ka tarika)

अब जब आपने यूएएन नंबर के बारे में इतनी सब जानकारी ले ली है तो अवश्य ही आपको यूएएन नंबर बनाने के बारे में भी जानकरी होनी (UAN number banana hai) चाहिए। तो यूएएन नंबर बनाने का तरीका बहुत ही सरल और कुछ ही मिनट का काम होता है। आइये इसके बारे में भी विस्तार से जानकारी ले लेते हैं।

  • यूएएन नंबर बनाने के लिए सबसे पहले तो आपको EPFO की वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक https://www.epfindia.gov.in/site_hi/index.php है।
  • इस वेबसाइट में ही आपको यूएएन नंबर बनाने या उनकी वेबसाइट पर जाने का विकल्प मिल जाएगा जिस पर क्लिक करते ही आप यूएएन नंबर की वेबसाइट पर पहुँच जाएंगे।
  • यदि किसी कारणवश आपको वह विकल्प नहीं मिलता है या आपको नहीं समझ में आता है तो आप सीधे ही इस https://unifiedportal-mem.epfindia.gov.in/memberinterface/ लिंक पर क्लिक कर यूएएन नंबर बनाने की वेबसाइट पर पहुँच सकते हैं।
  • यह यूएएन नंबर को generate करने की या अपने अभी के यूएएन नंबर के द्वारा उसमे लॉग इन करने की आधिकारिक वेबसाइट है।
  • तो इसमें आपको दायी ओर अपने यूएएन नंबर और पासवर्ड के जरिये लॉग इन करने का विकल्प मिल जाएगा जिसे हम Sign In करना भी कह सकते हैं।
  • हालाँकि आपका तो अभी तक यूएएन नंबर बना ही नहीं हुआ है तो पहले तो आपको यह बनाने की आवश्यकता है।
  • ऐसे में आपको उस लॉग इन वाले के नीचे ही कई तरह के विकल्प दिख रहे होंगे जिन्हें Important Links के अंतर्गत सूचीबद्ध किया गया होगा।
  • तो इसमें से आपको Direct UAN Allotment by Employees वाले विकल्प पर क्लिक करना होगा और आगे बढ़ जाना।
यूएएन नंबर क्या हैं  यूएएन नंबर ऑनलाइन कैसे बनाएं  How to create UAN number in Hindi
  • जब आप इस पर क्लिक करेंगे तो एक नया पेज खुलेगा जहाँ पर आपसे आपका आधार कार्ड नंबर डालने को कहा जाएगा।
यूएएन नंबर क्या हैं  यूएएन नंबर ऑनलाइन कैसे बनाएं  How to create UAN number in Hindi
  • इसी के साथ ही आपको कैप्चा कोड भी डालना होगा और फिर उसके बाद आपके अधिकृत मोबाइल नंबर पर एक कोड भेजने को कहा जाएगा।
  • जैसे ही आप इस पर क्लिक करेंगे तो आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक कोड आएगा जो आपको सामने दिख रही स्क्रीन में बॉक्स पर डालना होगा और उसे सबमिट कर देना होगा।
  • अब आपसे पूछा जाएगा कि क्या आप किसी निजी कंपनी में काम कर रहे है या नहीं। यदि आप सरकारी में काम कर रहे होते हैं तो आपका यूएएन नंबर पहले से ही बन चुका होता जबकि निजी में यह जरुरी नहीं है।
  • ऐसे में यदि आप नौकरी कर रहे हैं तो आपको हां वाले विकल्प पर क्लिक कर आगे बढ़ जाना होगा।
  • उसके बाद आपसे आपकी अभी की कंपनी के बारे में जानकारी मांगी जाएगी या उसे दी गयी सूची में से चुनने को कहा जाएगा।
  • यह आपकी कर्मचारी श्रेणी या एम्प्लोयी केटेगरी के बारे में जानकारी लेगा और यदि यह उसमें पंजीकृत है तो आपका पीएफ नंबर भरने को कहा जाएगा और नहीं है तो आपको अपनी कंपनी की पूरी जानकारी वहां भरनी होगी।
  • अब जब आप अपनी कंपनी की पूरी जानकारी वहां भर देते हैं तो इसी के साथ ही आपने उस कंपनी को कब ज्वाइन किया था और कितना समय हो गया है, इसके बारे में भी जानकारी मांगी जाएगी।
  • एक तरह से आप उस कंपनी में क्या काम करते हैं, आपने उसे कब ज्वाइन किया, उस कंपनी में क्या कुछ काम होता है इत्यादि सभी की जानकारी भरने के बाद उसे प्रमाणित करना होगा।
  • इसके लिए फिर से आपके मोबाइल नंबर या ईमेल आईडी पर एक कोड आएगा जो आपको सामने दिख रही स्क्रीन पर भर देना होगा।
  • इस कोड के भरते ही कुछ समय के बाद आपका यूएएन नंबर बन जाएगा या generate हो जाएगा।
  • इसके बारे में आपको ईमेल भेजकर या मैसेज करके सूचित कर दिया जाएगा।

इस तरह से आपका यूएएन नंबर बनकर आ जाएगा। नए यूएएन नंबर और उसके पासवर्ड के बारे में आपको ईमेल भेजकर सूचित कर दिया जाएगा और यह आपको सामने स्क्रीन पर भी दिख जाएगा। अब आपको ऊपर दी गयी वेबसाइट को फिर से खोलकर उसमें अपना यूएएन नंबर और पासवर्ड डालकर लॉग इन करना होगा। इसके बाद आपको अपना पासवर्ड बदल देना होगा और कोई मजबूत पासवर्ड रखना होगा।

इस बात का ध्यान रखें कि यूएएन नंबर में पासवर्ड बनाने के लिए कई तरह की शर्तें रखी गयी होती है ताकि इसे जल्दी से क्रैक नहीं किया जा सके। ऐसे में आप अपने अन्य खातों में जो एक जैसे पासवर्ड रखते हैं, उनकी तुलना में यूएएन नंबर का पासवर्ड अलग हो सकता है। ऐसे में आप उसे जो भी रखें लेकिन उसे अवश्य याद रखें। वह इसलिए क्योंकि बहुत बार यह देखने में आया है कि लोग UAN खाते में पासवर्ड तो रख लेते हैं लेकिन बाद में उन्हें भूल जाते हैं।

यूएएन नंबर को एक्टिवेट करने की प्रक्रिया (UAN activate kaise kare)

भारत सरकार ने यूएएन नंबर को और मजबूती प्रदान करने के लिए उसके generate होने के बाद भी एक प्रक्रिया को और जोड़ दिया है और वह है यूएएन नंबर को एक्टिवेट करना अर्थात उसे सक्रिय करना। तो इसके लिए भी आपको उसी तरह ही EPFO या फिर सीधे यूएएन नंबर वाली वेबसाइट पर जाना होगा जिसका लिंक ऊपर दिया गया (UAN number activate kaise kiya jata hai) है। यहाँ पर आपको जहाँ से यूएएन नंबर बनाने का विकल्प मिला था, उसी सूची में ही एक विकल्प होगा जिस पर Activate UAN करके लिखा हुआ होगा।

तो आपको इसी विकल्प पर ही क्लिक करना है और उसके बाद आपके सामने एक नया फॉर्म खुल जाएगा जहाँ पर आपसे कुछ जानकारी मांगी गयी होगी। यह जानकारी होगी:

  • यूएएन नंबर या मेंबर आईडी
  • आधार कार्ड नंबर
  • आपका नाम
  • जन्म तिथि
  • मोबाइल नंबर

इसके बाद आपको नीचे बॉक्स में दिख रहे कैप्चा कोड को उक्त बॉक्स में भर देना (UAN number activate online in Hindi) होगा। अब इसके नीचे एक नियम दिया गया होगा जिस पर टिक मार्क करना होगा। यह नियम होगा:

“मैं अपनी पहचान स्थापित करने के उद्देश्य से आधार आधारित प्रमाणीकरण के लिए अपना आधार नंबर, वन टाइम पिन (ओटीपी) डेटा प्रदान करने के लिए सहमत हूं और मैं यूएएन को सक्रिय करने के उद्देश्य से आधार के साथ उपलब्ध अपने मूल विवरण को साझा करने के लिए सहमत हूं।”

तो इस नियम पर टिक मार्क करके आपको नीचे दिख रहे बटन Get Authorization Pin पर क्लिक करना होगा। उसके बाद आपके अधिकृत मोबाइल नंबर पर एक कोड आएगा जिसे आपको सामने दिख रही स्क्रीन पर भरना होगा। इस कोड को डालते ही आपका यूएएन नंबर एक्टिवेट अर्थात सक्रिय हो जाएगा और आपका पासवर्ड आपके मोबाइल नंबर पर या ईमेल आईडी पर भेज दिया जाएगा।

अब आप इस पासवर्ड के जरिये अपने UAN खाते में लॉग इन कर सकते हैं और ऊपर बताई गयी प्रक्रिया के अनुसार उसे बदल सकते हैं। बहुत से लोग अपना पासवर्ड वही रखते हैं जो सिस्टम ने आपको दिया है जो कि अनुचित है। ऐसे में आपको बिना देरी किये इसे बदल देना चाहिए ताकि आपके खाते की सुरक्षा पक्की हो सके।

यूएएन नंबर कैसे बनाएं – Related FAQs 

download app

प्रश्न: क्या मैं अपना खुद का uan नंबर बना सकता हूं?

उत्तर: हां आप अपना खुद का uan नंबर बना सकते हैं जिसकी प्रक्रिया हमने ऊपर के लेख में विस्तार से दी है।

प्रश्न: यूएएन नंबर कैसे बनाया जाता है?

उत्तर: यूएएन नंबर बनाने की प्रक्रिया को हमने ऊपर के लेख में विस्तार से बताया है जो आपको पढ़ना चाहिए।

प्रश्न: मैं अपना यूएएन कैसे सक्रिय कर सकता हूं?

उत्तर: यूएएन सक्रिय करने की प्रक्रिया हमने ऊपर के लेख में विस्तार से दी है जो आपको पढ़ना चाहिए।

प्रश्न: यूएएन नंबर कितने अंको का होता है?

उत्तर: यूएएन नंबर 12 अंकों का होता है।

प्रश्न: UAN की फुल फॉर्म क्या है?

उत्तर: UAN की फुल फॉर्म Universal Account Number है।

तो इस तरह से इस लेख के माध्यम से आपने यूएएन नंबर बनाने के बारे में जानकारी हासिल कर ली है। साथ ही आपने जाना कि यूएएन नंबर क्या होता है यह कितने अंकों का होता है यह जरूरी क्यों होता है और इसको एक्टिवेट करने की प्रक्रिया क्या है इत्यादि। आशा है कि जो जानकारी लेने के लिए आप इस लेख पर आए थे वह आपको मिल गई होगी। फिर भी यदि कोई सवाल आपके मन में शेष है तो आप हम से नीचे कॉमेंट करके पूछ सकते हैं।

लविश बंसल
लविश बंसल
लविश बंसल वर्ष 2010 में लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी में कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में प्रवेश लिया और वहां से वर्ष 2014 में बीटेक की डिग्री ली। शुरुआत से ही इन्हें वाद विवाद प्रतियोगिता में भाग लेना या इससे संबंधित क्षेत्रों में भाग लेना अच्छा लगता था। इसलिए ये काफी समय से लेखन कार्य कर रहें हैं। इनके लेख की विशेषता में लेख की योजना बनाना, ग्राफ़िक्स का कंटेंट देखना, विडियो की स्क्रिप्ट लिखना, तरह तरह के विषयों पर लेख लिखना, सोशल मीडिया कंटेंट लिखना इत्यादि शामिल है।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Leave a Comment