GST लाटरी योजना क्या है? इस योजना से कैसे बन सकते हैं करोड़पति?

GST Lottery Yojana In Hindi – आपको मालामाल करने वाली खबर है। लाटरी को बेशक कई राज्यों में प्रतिबंधित किया गया हो, लेकिन अब केंद्र सरकार खुद GST भरने वालों के लिए एक लाटरी लाने जा रही है, जो लोगों को करोड़पति तक बना सकती है। बस यह समझिए कि आपका GST का bill ही आपका लाटरी का ticket होगा। अब आपके दिमाग में सवाल आएगा कितनी आखिर ऐसा होगा कैसे? तो धीरज रखिए दोस्तों। बस इस post को पूरा पढ़ने पर concentrate करिए।

आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताएंगे कि GST Lottery Yojana क्या है? केंद्र सरकार का इस लाटरी को लाने के पीछे मकसद क्या है? इस लाटरी के लकी ड्रा में कैसे हिस्सा लिया जा सकता है? आदि आदि। तो आइए, शुरू करते हैं-

GST Lottery Yojana क्या है?

केंद्र सरकार क्योंकि जीएसटी टैक्स भरने वालों के लिए यह लाटरी योजना ला रही है, इसलिए इसे GST Lottery Yojana योजना का नाम दिया गया है। सरकार इस योजना को आने वाली एक अप्रैल को लांच करने की तैयारी कर रही है। इसी को देखते हुए केंद्रीय कर विभाग में बैठकों का दौर जारी है। एक बड़ी बैठक इस संबंध में होली के बाद आने वाली 14 मार्च को होगी। इस बैठक के बाद ही जीएसटी लाटरी योजना से जुड़े नियम और कायदे-कानून पूरी तरह साफ हो सकेंगे।

फिलहाल सरकार और जीएसटी विभाग इस कवायद को लेकर बहुत उत्साहित हैं। उनकी नजर इसके जरिए भविष्य की राजस्व प्राप्ति पर लगी हुई है। वह इसे जीएसटी भरने वाले टैक्स पेयर्स के लिए भी फायदे और जीएसटी के प्रति जागरूकता का सौदा मान रहे हैं।

GST Lottery Yojana लाने का उद्देश्य क्या है?

दोस्तों, सीधे और आसान शब्दों में कहें तो यह सरकार की तरफ से जीएसटी का कलेक्शन बढ़ाने के लिए और मुनाफाखोरी रोकने के लिए लाए जाने वाली योजना है। दरअसल, कुछ महीने पहले तक जीएसटी कलेक्शन बहुत गिरा हुआ था, जिसे उठाने के प्रति सरकार बहुत चिंतित थी। इसके लिए बहुत प्रयास भी किए गए, लेकिन कुछ खास कामयाबी हाथ नहीं लगी। आर्थिक मंदी की वजह से हालात बहुत खराब रहे। सितंबर, 2019 तक जीएसटी कलेक्शन 91,916 करोड़ रुपये था। यानी आंकड़ों के आईने से देखें तो जीएसटी कलेक्शन में सीधे सीधे एक लाख करोड़ की गिरावट दर्ज की गई।

GST लॉटरी योजना | GST Lottery scheme

यह अलग बात है कि पिछले कुछ समय में जीएसटी कलेक्शन में इजाफा जरूर दर्ज किया गया है, लेकिन यह उतना नहीं है, जितना सरकार ने लक्ष्य निर्धारित किया था। उसी के लिए यह सारी कवायद की जा रही है। माना जा रहा है कि लाटरी के लिए उपभोक्ता बिल लेने के लिए प्रेरित होंगे और इससे जीएसटी कलेक्शन बढ़ेगा। साथ ही भ्रष्टाचार पर भी लगाम कसने की उम्मीद सरकार कर रही है।

GST Lottery Yojana में हर महीने निकाला जाएगा लकी ड्रा –

मित्रों, इस योजना से जुड़ी अच्छी खबर यह है कि जीएसटी लाटरी योजना के तहत हर महीने लकी ड्रॉ निकाले जाएंगे जिसके जरिए लोग 10 लाख रुपये से लेकर एक करोड़ रुपये तक के इनाम जीत सकते हैं। हालांकि इसके लिए कुछ न कुछ नियम, कायदे लागू होंगे, जैसा कि हर लाटरी सिस्टम में होता है। फिलहाल इस योजना को लेकर हर किसी में एक अलग किस्म का उत्साह देखने को मिल रहा है।

GST Lottery Yojana योजना में आवेदन कैसे करें? कैसे होंगे मालामाल?

साथियों, अब हम आपको यह बताएंगे कि आप इस योजना का हिस्सा कैसे बन सकते हैं और कैसे मालामाल होंगे। कैसे करोड़पति बन सकेंगे। जैसा कि हम बता चुके हैं कि सरकार जीएसटी टैक्स पेयर्स के लिए लॉटरी ला रही है। यानी आपका जीएसटी का बिल ही आपका लाटरी टिकट होगा। यह होगी प्रक्रिया –

  • आपको करना यह होगा कि आप जो भी सामान खरीदें, उसके साथ ही दुकानदार से उसकी रसीद भी लें।
  • ध्यान रखें कि यह बिल यानी रसीद पक्की हो। इसमें सामान पर कितना जीएसटी कटा है, इसका उल्लेख होगा। बिल पर एक जीएसटी नंबर दर्ज होगा।
  • इसके बाद इस बिल को स्कैन करके एक ऐप अपलोड करना होगा। यह ऐप अभी डाउनलोड करने के लिए अभी उपलब्ध नहीं है। लेकिन क्योंकि योजना आने वाली एक अप्रैल से लांच होने की तैयारी है तो माना जा रहा है कि यह ऐप इस महीने यानी मार्च माह के अंत तक एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हो जाएगा।
  • इसके पश्चात मतलब यह है कि है कि आप चाहें तो गूगल प्ले स्टोर से या फिर ऐपल प्ले स्टोर से इस ऐप को डाउनलोड कर सकेंगे। कोई भी व्यक्ति ऐप पर कितने भी बिल स्कैन करके अपलोड कर सकता है। इसकी कोई सीमा नहीं रखी गई है।
  • जिसका बिल चुना जाएगा वही लकी ड्रा के जरिये लॉटरी के इनाम का हकदार होगा। एक बड़े विजेता के साथ ही राज्यों के विजेताओं के नामों का भी ऐलान किया जाएगा।

GST लॉटरी योजना के लिए उपभोक्ता कल्याण निधि से इनाम का इंतजाम होगा –

साथियों, आप यह जान लें कि आने वाली 14 मार्च को इस योजना को लेकर जीएसटी यानी goods and sales tax काउंसिल की बैठक भी होने वाली है। माना जा रहा है कि इस बैठक के बाद ही इस जीएसटी लाटरी योजना के बारे में विस्तार से जानकारी दी जाएगी। और जहां तक इनाम की राशि का संबंध है तो इसका इंतजाम उपभोक्ता कल्याण निधि से किया जाएगा।

आपको बताते हैं कि यह निधि क्या है। दरअसल, कई ऐसे व्यापारी, व्यवसायी हैं, जो जीएसटी टैक्स नहीं भरते या उसे भरने में अनियमितता के दायरे में आए हैं। ऐसे लोगों पर लगाया गया जुर्माना उपभोक्ता कल्याण निधि में जाता है। लाटरी के तहत लकी ड्रा की राशि इसी निधि से दिए जाने का इंतजाम किया जा रहा है।

GST लॉटरी योजना में बिल अपलोड करने की कोई सीमा नहीं –

केंद्रीय कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड यानी सीटीबीएसई ने भी इस संबंध में जानकारी दी है। उन्होंने बताया कि इसके तहत किसी ग्राहक के लिए सामान की खरीदारी और बिल एकत्र करने की कोई सीमा नहीं रखी गई है। यानी कि ग्राहकों के लिए मौका ही मौका कितने भी बिल अपलोड कर अपने इनाम जीतने के चांस में बढ़ोतरी करें।

दिल्ली सरकार भी पांच साल पहले लाई थी ऐसी योजना –

आपके लिए जानना यह भी जरूरी है कि मोदी सरकार की ओर से लाई जा रही है जीएसटी लॉटरी योजना के पीछे की सोच कोई नई नहीं है। इससे पहले दिल्ली सरकार भी आज से पांच साल पहले 2015 में ‘बिल बनवाओ, इनाम पाओ’ स्कीम चला चुकी है। यह भी एक तरह की लॉटरी ही थी और इसमें पक्का बिल बनवाने पर लोगों को लकी ड्रॉ के जरिये इनाम दिया जाता था।

यह इनाम उनके बिल पर काटे गए टैक्स का पांच गुना फिर 50 हजार तक का होता था। यह इनाम तीन श्रेणियों में रखे गए थे। इस योजना के जरिये दिल्ली सरकार की ओर से लाखों के इनाम बांटे गए। अब इसी तर्ज पर केंद्र सरकार भी चलने की तैयारी कर रही है।

तीन साल पहले लागू हुआ था जीएसटी –

मित्रों, आपको बता दें कि जीएसटी को आज से तीन साल पहले सन् 2017 में लागू किया गया था। आने वाली जुलाई में इसे लागू हुए पूरे तीन साल हो जाएंगे। इसको इसलिए लाया गया था ताकि देश भर में एक ही टैक्स लागू हो सके। एक ही व्यवस्था लागू हो सके। लोगों को अलग-अलग टैक्स के झंझट से निजात मिल सके।

तत्कालीन वित्त मंत्री अरुण जेटली ने उस वक्त इस व्यवस्था की खूबियां गिनाई थी। और यह कहा था कि यह टेक्स लोगों को प्रगति के पथ पर ले जाने पर अग्रसर होगा। अलबत्ता ऐसा हुआ नहीं। कई जगह टोल टैक्स तक कायम है। लोग देश भर में एक ही टैक्स का हवाला देते हुए इसे हटवाने की वकालत कर रहे हैं, लेकिन अभी तक ऐसा हुआ नहीं है।

जम्मू कश्मीर भी जीएसटी लाटरी योजना में शामिल होगा –

साथियों, आपको यह भी बता दे कि जीएसटी जब लागू हुआ था तो जम्मू-कश्मीर को छोड़कर उसे पूरे देश में लागू किया गया था। जम्मू कश्मीर में यह पूरे एक सप्ताह बाद लागू हो पाया था। इसकी वजह यह थी कि जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 की वजह से दोहरे संविधान का प्रावधान लागू था और वहां की चुनी गई सरकार ने इसे लागू करने की इजाजत नहीं दी।

क्योंकि महबूबा मुफ्ती ने सरकार भाजपा के साथ साझे में बनाई थी। उसे बाद में जीएसटी को लागू करना पड़ा। लेकिन अब दोहरे संविधान का प्रावधान समाप्त हो चुका है, क्योंकि अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया है और उसे केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है। इसलिए जीएसटी लॉटरी योजना के सारे प्रावधान वहां भी लागू होंगे। कहने का मतलब यह है कि इस योजना का लाभ सीधे-सीधे वहां के नागरिक भी आराम से उठा सकेंगे।

अभी तक लोगों को जंजाल लगता है जीएसटी –

अभी तक लोग जीएसटी भरने में परेशानी का सामना करते रहे हैं। किसी जगह इंटरनेट स्लो चलने की दिक्कत की बात कही जाती है तो किसी जगह वेबसाइट न खुलने जैसी दिक्कतें पेश आती हैं। कई बार व्यापारी जीएसटी विभाग को इस संबंध में शिकायतें कर चुके हैं, लेकिन उनकी दिक्कत दूर नहीं होती। हालांकि कई बार सरकार की ओर से जीएसटी रिटर्न फाइल करने के लिए तारीखों में रियायत दी गई। लेकिन इसका बहुत ज्यादा असर देखने को नहीं मिला।

ज्यादातर व्यापारियों की राय आज भी यही है कि जीएसटी की वजह से उनके व्यापार पर असर पड़ा। ढेरों तो ऐसे हैं, जिन्हें जीएसटी का फंडा आज भी क्लियर नहीं। इसके साथ ही वह नोटबंदी को भी व्यापार की खराब स्थिति और देश में आर्थिक मंदी के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए कोसते हैं।

GST लाटरी योजना के बारे में अंतिम शब्द –

दोस्तों, आपने देखा कि इस पोस्ट के जरिए हमने आपको सरकार की जीएसटी लॉटरी जैसी रोचक जानकारी दी है। जिसके जरिए आप करोड़पति बन सकते हैं। मालामाल हो सकते हैं। अगर आप इस लाटरी योजना के संबंध में और किसी प्वाइंट पर जानकारी चाहते हैं तो हमसे अपनी इच्छा को share कर सकते हैं।

मित्रों, इसके अलावा अगर किसी अन्य रोचक विषय पर भी आप हमसे जानकारी लेना चाहते हैं तो नीचे दिए गए comment box पर comment लिखकर हम तक भेज सकते हैं। हमारी पूरी कोशिश रहेगी कि हम आपके भेजे गए विषय पर आपको पूरी जानकारी उपलब्ध कराएं। इसके अलावा अगर आपके मन में कोई अन्य सुझाव हमारे लिए है तो उसको भी आप बेफिक्र होकर हमसे साझा कर सकते हैं। इसके लिए आपको नीचे दिए गए comment box में comment करना होगा। हम उस सुझाव पर अमल करने की अपनी ओर से पूरी पूरी कोशिश करेंगे। हमको आप की ओर से आने वाली प्रतिक्रियाओं का इंतजार रहेगा। ।। धन्यवाद।।

GST Online Lottery Scheme & Latest News, जीएसटी कस्टमर ऑनलाइन लॉटरी स्कीम पोर्टल-प्राइज, Check Customers Paying GST Daily/Monthly Portal In Hindi.

Spread the love

1 thought on “GST लाटरी योजना क्या है? इस योजना से कैसे बन सकते हैं करोड़पति?”

  1. सर आप मेरे ई मेल व फोन नम्बर को आप के साथ जोडो ताकि हमे नई जानकारी मिल सके सर दया…कर के जमीन लिज पर देनी हे क्या करे आप हैल्प करो please

    Reply

Leave a Comment