ग्रीन राशन कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन, उद्देश्य, पात्रता, दस्तावेज, एप्लीकेशन फॉर्म, लाभार्थी सूची

Green Ration Card Yojana Online Apply, ग्रीन राशन कार्ड योजना एप्लीकेशन फॉर्म, ग्रीन राशन कार्ड योजना लाभार्थी सूची, Gree Ration Card Yojana In Hindi, ग्रीन राशन कार्ड योजना 2022 ऑनलाइन आवेदन, एप्लीकेशन फॉर्म, लाभार्थी सूची

केंद्र सरकार देश की जनता के हित में कई योजनाएं चलाती है। इस बार वह ग्रीन राशन कार्ड योजना लेकर हाजिर हुई है। इस योजना के जरिय उसका मकसद देश की गरीब जनता के लिए राशन की समुचित व्यवस्था करना है। आपको बता दें कि देश में आज भी लाखों ऐसे परिवार हैं, जिनके लिए दो वक्त की रोटी जुटाना मुश्किल होता है। इस योजना के दायरे में विशेष रूप से ऐसे ही परिवारों को शामिल किए जाने का इरादा है। इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी को आवेदन करना होता है। आज हम आपको इस ग्रीन राशन कार्ड योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। आइए शुरू करते हैं –

ग्रीन राशन कार्ड योजना क्या है? Green Ration Card Yojana In Hindi –

दोस्तों, आपको बता दें कि ग्रीन राशन कार्ड योजना का शुभारंभ केंद्र सरकार की ओर से किया गया है। इस योजना के अंतर्गत कार्डधारक को रियायती दरों पर राशन प्रदान किया जाएगा। कार्डधारक को एक रूपये प्रति किलो की दर से प्रतिमाह पांच किलो अनाज प्रदान किया जाएगा। योजना का लाभ गरीब परिवारों के लिए है। इस योजना का लाभ बीपीएल श्रेणी के लोग भी उठा सकते हैं। इस योजना को झारखंड में 15 नवंबर से लागू किया गया है।

हरियाणा समेत अन्य राज्यों ने भी इस योजना के तहत लाभार्थियों को लाभ देना शुरू कर दिया है। यह योजना सभी राज्यों में लागू की जाएगी। इस योजना को पीएमओ से मानिटर किया जाएगा। यह देखा जाएगा कि योजना को लागू करने में कोताही तो नहीं बरती गई। साथ ही इस पर भी निगाह रखी जाएगी कि योजना का लाभ इसके वास्तविक हकदारों तक पहुंच रहा है या नहीं।

योजना का नामग्रीन राशन कार्ड योजना
किस ने लांच कीभारत सरकार
लाभार्थीभारत के नागरिक
उद्देश्यरियायती दरों पर राशन प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
साल2022

ग्रीन राशन कार्ड योजना का उद्देश्य 

ग्रीन राशन कार्ड योजना का मकसद आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों की सहायता करना है। उन्हें न्यूनतम दरों पर राशन उपलब्ध कराकर राशन की आपूर्ति सुनिश्चित करना है। देश के कई राज्यों में इस योजना को 2021 में ही तथा कुछ राज्यों में 2021 के आरंभ से लागू कर दिया जाएगा।

ग्रीन राशन कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन, उद्देश्य, पात्रता, दस्तावेज, एप्लीकेशन फॉर्म, लाभार्थी सूची

साधारण शब्दों में कहा जाए तो वह सभी लोग, जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम (National food security act) के लाभ से वंचित हैं, वह इस योजना के दायरे में आएंगे। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि बड़े पैमाने पर लाभार्थियों को इस योजना से लाभ पहुंचेगा।

ग्रीन राशन कार्ड योजना के लिए कितना बजट निर्धारित किया गया है

इस ग्रीन राशन कार्ड योजना के लिए केंद्र सरकार की ओर से ढाई सौ करोड़ रूपये का बजट निर्धारित किया गया है। इस बजट के जरिये देश के गरीब परिवारों तक न्यूनतम दरों पर राशन पहुंचाया जाएगा, ताकि कोई भी परिवार अन्न से वंचित न रहे, उसकी पहली जरूरत रोटी का समाधान हो सके। आपको बता दें कि पेट भरा होने के बाद ही व्यक्ति दूसरी जरूरतों के बारे में विचार करता है। मसलन बच्चों की शिक्षा आदि।

यदि उसको राशन उपलब्ध होगा तो वह परिवार की अन्य जरूरतों पर भी फोकस कर पाएगा। आपको बता दें कि गरीब परिवारों में रोटी के लिए ही सारा श्रम व्यापित होने की वजह से बच्चे ढंग से पढ़ लिख भी नहीं पाते हैं। यह बच्चे शिक्षा के अभाव में आगे चलकर मेहनत मजदूरी करके ही अपना परिवार चलाने पर विवश होते हैं। उन्हें ऐसी स्थिति से निकलने में मदद करने में यह योजना मदद कर सकती है, ऐसा मानने में कोई हर्ज नहीं है।

ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत आवेदन के लिए आवश्यक पात्रता और दस्तावेज

अब हम आपको बताएंगे कि ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत आवेदन के लिए आपके पास क्या पात्रता होनी चाहिए और आपको कौन कौन से दस्तावेज लगाने होंगे। यह इस प्रकार से हैं-

  • सबसे पहली शर्त यह है कि आवेदक भारत का निवासी हो।
  • आवेदक का आधार कार्ड।
  • आवेदक के बैंक खाते का ब्योरा।
    एंव आवेदक का पहचान पत्र।
  • आवेदक का बीपीएल कार्ड।
  • आवेदक का निवास प्रमाण पत्र।
  • और आवेदक का मोबाइल नंबर

ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

मित्रों, आपको बता दें कि ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत online और Offline दोनों माध्यमों से आवेदन किया जा सकता है। यदि Offline आवेदन करना चाहते हैं तो इसके लिए खाद्य आपूर्ति यानी फूड सप्लाई आफिस या फिर जन सेवा केंद्र (CSC) या पीडीएस (PDS) सेंटर के जरिये आवेदन करना होगा। यहां से आपको एक आवेदन फाॅर्म मिलेगा। आपको उस फाॅर्म को भरकर इन्हीं केंद्रों पर उसे जमा करना होगा। यदि आप online आवेदन के इच्छुक हैं तो इसके लिए योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।

ग्रीन राशन कार्ड योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

आइए, सबसे पहले आपको बताएं कि आप offline आवेदन कैसे कर सकते हैं। इसकी प्रक्रिया इस प्रकार से है-

  • सबसे पहले आपको खाद्य आपूर्ति विभाग, जनसेवा केंद्र या पीडीएस केंद्र जाना होगा। यहां से आपको ग्रीन राशन कार्ड योजना का आवेदन फाॅर्म लेना होगा।
  • आपको आवेदन फाॅर्म में पूछी गई जानकारी सही-सही भरनी होगी। यह जान लीजिए कि जानकारी गलत होने की दशा में फाॅर्म कैंसिल हो सकता है।
  • फाॅर्म के साथ आवेदन के लिए आवश्यक सभी दस्तावेजों को संलग्न करना होगा। इसके पश्चात आपको संबंधित विभाग में जाकर यह फाॅर्म जमा करना होगा।
  • इस प्रकार आपका ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत offline आवेदन संपन्न हो जाएगा।

Green Ration Card Yojana Online Apply कैसे करें?

अब हम आपको ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत आवेदन की online प्रक्रिया की जानकारी देंगे। दोस्तों, यह प्रक्रिया इस प्रकार से है-

  • सबसे पहले आपको खाद्य आपूर्ति विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। यहां आपके सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको ग्रीन राशन कार्ड के लिए आवेदन करें के लिंक पर क्लिक करना होगा। इसके बाद आपके सामने आवेदन फाॅर्म खुल जाएगा।
  • आपको आवेदन फाॅर्म में पूछी गई सभी जानकारी सही-सही भरनी होगी। इसके बाद आपको आवेदन फाॅर्म के साथ मांगे गए सभी आवश्यक दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इतना करने के बाद आपको सबमिट के option पर क्लिक करना होगा। इस तरह आपका ग्रीन राशन कार्ड योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन पूरा हो जाएगा।

दोस्तों, आपने देखा कि ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत आवेदन कितनी आसानी से संभव है। सरकार इस योजना का प्रचार प्रसार बहुत बेहतर तरीके से कर रही है ताकि जरूरतमंदों तक इस योजना के बारे में जानकारी पहुंचे और वह इसका लाभ उठा सकें। यदि आपकी जान पहचान में भी ऐसे लोग हैं, जो इस योजना के लाभार्थी बनने के इच्छुक हों तो उन तक इस योजना के बारे में जानकारी अवश्य पहुंचाएं।

जन सेवा केंद्र सीएससी निभा सकते हैं महत्वपूर्ण भूमिका

मित्रों, जन सेवा केंद्र यानी सीएससी सेंटर ग्रीन राशन कार्ड योजना के लिए आवेदन का एक महत्वपूर्ण जरिया है। गांव में गरीबों के पास कंप्यूटर या स्मार्ट फोन की उपलब्धता अभी भी बड़ी चीज है। खाद्य सुरक्षा विभाग तक जाने में भी गरीबों का रोजी-रोटी जुटाने का समय नष्ट होता है। ऐसे में वह जन सेवा केंद्र की मदद से इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। सरकार की ओर से ग्रामीण क्षेत्रों में हर पांच किलोमीटर के अंतराल पर एक जन सेवा केंद्र को मंजूरी दी गई है।

यहां योजना के लिए आवेदन करने के इच्छुकों को केवल अपने दस्तावेज मुहैया कराने होंगे। उनकी दी गई जानकारी के आधार पर आवेदन फाॅर्म भरने का जिम्मा सेंटर संचालक का रहेगा। जो लोग अधिक पढ़े-लिखे नहीं हैं, वह भी इन केंद्रों की मदद से आसानी से ग्रीन राशन कार्ड योजना के लिए आवेदन फाॅर्म भर सकते हैं और योजना का लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा सरकार जो ग्रामीण इलाकों में डिजिटल साक्षरता अभियान चला रही है, उसके तहत Training लेकर भी निर्धन परिवारों के बच्चे अपने अभिभावकों के लिए सरकारी योजनाओं का फाॅर्म भरने में सहायता कर सकते हैं।

इसके अलावा यदि वह offline आवेदन भरना चाहते हैं तो खाद्य आपूर्ति विभाग से आवेदन फाॅर्म लेकर वहां संबंधित काउंटर से इसे भरने में सहायता ले सकते हैं। विभागीय कर्मचारी या वहां मौजूद अन्य व्यक्ति अमूमन फाॅर्म भरने में लोगों की मदद कर देते हैं।

आवेदन फाॅर्म में मोबाइल नंबर सही सही भरें?

आपको बता दें कि यदि आप आवेदन फाॅर्म में मोबाइल नंबर भर रहे हैं तो उसे सही सही भरें, क्योंकि योजना से जुड़े सभी मैसेज आपके मोबाइल फोन पर ही आएंगे। ऐसे में यदि यह नंबर गलत हुआ तो परेशानी भुगतनी पड़ सकती है। आवेदन फाॅर्म में अन्य जानकारी भरते हुए भी खास तौर पर यह ध्यान रखें कि सभी जानकारी सही सही भरें। इसके लिए एक बार आवेदन फाॅर्म भरने के बाद उसे पुनः चेक जरूर कर लें। यदि कोई गड़बडी हो गई हो तो उसे ठीक करके ही आगे बढ़ें। यदि आप पढ़ पाने में सक्षम न हों, तो किसी ऐसे व्यक्ति को जरूर आवेदन फाॅर्म भरने में साथ रखें, जो आपका मददगार साबित हो सकता हो।

अंतिम शब्द –

दोस्तों, आपको पता ही होगा कि हमारे देश में आय का असमान वितरण है। कोई अमीर है तो बहुत अमीर है और कोई गरीब है तो बहुत गरीब। आलम यह है कि लाखों लोगों की तश्तरी में दो रोटी मुश्किल से पहुंच पाती है। भुखमरी भी देश के लिए एक दंश है। हंगर इन्डेक्स (Hunger Index) में भारत की स्थिति खराब ही हुई है। यहां तक कि उसकी रेटिंग पाकिस्तान तक से खराब है। रोटी, कपड़ा और मकान जो एक व्यक्ति की बेसिक जरूरते हैं, इन्हें पूरा करना भी कई लोगों के लिए बेहद मुश्किल बना हुआ है।

समाज के इस वंचित वर्ग तक राशन के जरिये रोटी पहुंचाने की एक कोशिश ग्रीन राशन कार्ड योजना के जरिए करने की कोशिश की जा रही है। जैसा कि हम आपको बता चुके हैं कि झारखंड जैसे कई राज्य इस योजना को लागू कर चुके हैं, वहीं कई राज्यों में अभी इस योजना के अमल में लाए जाने का इंतजार किया जा रहा है। विभिन्न राज्यों में निर्धन लोगों की राशन की जरूरत इस योजना के माध्यम से पूरी हो सकेगी, ऐसा माना जा सकता है। यही वजह है कि इस योजना के तहत राशन की दर महज एक रूपये प्रति किलो रखी गई है।

Green Ration Card Yojana FAQ

ग्रीन राशन कार्ड योजना क्या हैं?

केंद्र सरकार ने देश के गरीब परिवार के लिए Green Ration Card Yojana की शुरुआत की हैं। जिसके अंतर्गत देश के गरीब परिवारों के लिए प्रति सदस्य के अनुसार रियायती दरों में राशन उपलब्ध कराया जाएगा।

ग्रीन राशन कार्ड पर कितना राशन दिया जाएगा?

ग्रीन राशन कार्ड पर गरीब परिवार के सदस्यों को प्रति यूनिट के हिसाब से 1 रुपये प्रति किलो के हिसाब से 5 किलो राशन दिया जाएगा।

Green Ration Card Yojana को कहां शुरू किया गया हैं?

ग्रीन राशन कार्ड केंद्र सरकार के द्वारा शुरू किया गया है। इसलिए इस योजना को पूरे देश मे लागू किया गया है। देश के सभी गरीब परिवार के नागरिक इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

ग्रीन राशन कार्ड योजना के तहत आवेदन कैसे करें?

Green Ration Card Yojana 2022 में अपना अगर आवेदन करना चाहते है तो हमने इसमे आवेदन करने के ऊपर तरीक़े बताये है जिसे फॉलो करके योजना में अपना आवेदन कर सकते हैं।

साथियों, हमने आपको ग्रीन राशन कार्ड योजना के बारे में बताया। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो उपर बताई गई प्रक्रिया को अपनाकर आवेदन कर सकते हैं। उम्मीद है ग्रीन राशन कार्ड योजना के बारे में दी गई यह जानकारी आपके लिए कारगर साबित होगी। यदि आप इसी तरह की किसी अन्य योजना के बारे में हमसे जानकारी चाहते हैं तो हमें नीचे दिए गए कमेंट बाक्स में कमेंट करके भेज सकते हैं। हमें आपके कमेंट्स, आपकी प्रतिक्रियाओं, आपके सुझावों का इंतजार रहेगा।

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment