यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें? ग्राम पंचायत का नक्शा ऑनलाइन कैसे देखें?

|| यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें? डीह की जमीन क्या होती है, ग्राम पंचायत की जमीन का नक्शा, ग्राम समाज की जमीन पर अवैध कब्जा, राजस्व ग्राम की सूची UP, जमीन का पट्टा कैसे देखें, आबादी की जमीन कैसे देखें, ग्राम समाज भूमि क्या है ||

अब वह जमाना नहीं है कि आपको गांव की चकरोड, खलिहान, ऊसर, बंजर हो चुकी सरकारी जमीनों की जानकारी के लिए तहसील अथवा लेखपाल के चक्कर लगाने पडें। अब इस प्रकार की जानकारी आनलाइन (online) एक क्लिक (click) पर उपलब्ध (available) हैं।

यदि आप उत्तर प्रदेश के निवासी हैं एवं ग्राम समाज की जमीन का ब्योरा देखना चाहते हैं तो यह भी अब बेहद आसान हो गया है। आप जहां हैं, वहीं से यह जानकारी हासिल कर सकते हैं।

आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं। आप यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण (details) कैसे देखें, इस पोस्ट में हमने आपको यही जानकारी मुहैया कराई है। इसकी प्रक्रिया (process) क्या है, आइए, आपको बताते हैं-

सरकारी जमीन कितने प्रकार की होती है?

ग्राम समाज की जमीन भी सरकारी जमीन होती है। इसका स्वामित्व (ownership) प्रदेश सरकार (state government) का होता है, अलबत्ता देख रेख एवं सार संभाल का जिम्मा ग्राम पंचायतों का होता है।

अब आपको जानकारी देते हें कि सरकारी जमीन कितने प्रकार की होती है? राजस्व विभाग (revenue department) द्वारा उपयोग के आधार पर on the (basis of uses) निर्धारित किए गए ये प्रकार इस प्रकार से हैं-

  • कृषि योग्य भूमि।
  • वन भूमि।
  • बंजर एवं कृषि अयोग्य भूमि।
  • गैर कृषि उपयोग में दी गई जमीन।
  • सामुदायिक क्षेत्र जमीन।
  • सड़क जमीन।
  • वृक्षों एवं झाड़ियों के अंतर्गत भूमि।
  • स्थाई चारागाह एवं पशुचारण भूमि।
  • धार्मिक न्यास भूमि।
  • चालू परती।
  • शुद्ध बोया गया क्षेत्र।
  • एक से अधिक बार बोया गया क्षेत्र।

ग्राम समाज की जमीन पर किसका अधिकार होता है?

दोस्तों, क्या आप जानते हैं कि ग्राम समाज की जमीन पर किसका हक होता है? नहीं जानते? तो सबसे पहले यह जान लेते हैं कि ग्राम समाज की जमीन पर किसका अधिकार होता है? आपको बता दें कि गांवों में करीब 20-25 प्रतिशत जमीन ग्राम समाज की होती है।

यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें? ग्राम पंचायत का नक्शा ऑनलाइन कैसे देखें?

यह तो हमने आपको बताया ही है कि इस जमीन की मालिक को प्रदेश सरकार होती है, लेकिन जमीन की देख-रेख एवं रख-रखाव का जिम्मा सरकार ग्राम पंचायतों को सौंपती है। खास बात यह है कि सरकार ने दुर्बल एवं गरीब वर्ग के उत्थान एवं कल्याण के लिए ग्राम समाज की जमीन पर ग्राम पंचायतों को पट्टे (lease) का भी अधिकार (right) दे रखा है।

यानी ग्राम पंचायतें इस जमीन जमीन को पट्टे पर देने की शक्ति रखती हैं। गांव में सामुदायिक भवन, पंचायत भवन, डिस्पेंसरी, विद्यालय, आंगनबाड़ी निर्माण आदि के लिए भी इस जमीन का इस्तेमाल किया जाता है।

ग्राम समाज की जमीन की जानकारी लेने की आवश्यकता क्यो पड़ती है?

साथियों, आपने देखा होगा कि शहर की जिंदगी बेशक बहुत सुख सुविधाओं से परिपूर्ण हो, लेकिन एक व्यक्ति को अपने जीवन में जिन मूलभूत चीजों की आवश्यकता है, वे गांव में प्रचुर मात्रा में उपलब्ध हैं। जैसे-ताजा हवा, प्रदूषण रहित वातावरण, स्वास्थ्यकारक भोज्य पदार्थ आदि।

बहुत से लोग बजाय शहरों के डिब्बानुमा मकानों में रहने के गांव में उतने ही पैसे में अधिक जमीन खरीदकर विशाल गृह में रहने को प्राथमिकता देते हैं। कई कृषि भूमि का लैंड यूज (land use) बदलकर उसे आवासीय उपयोग में लाने को प्राथमिकता देते हैं।

ऐसे में जमीन कहां है? चकबंदी कहां से कहां तक है? जमीन के अगल-बगल क्या है? आदि मूलभूत चीजों को जानने के लिए ग्राम समाज की जमीन की जानकारी लेने की आवश्यकता पड़ती है।

ग्राम समाज की जमीन की जानकारी आनलाइन कैसे देखें?

मित्रों, अब हम आपको जानकारी देंगे कि आप ग्राम समाज की जमीन की जानकारी आनलाइन (online) कैसे देख सकते हैं। इसके लिए आपको यह steps फाॅलो करने होंगे-

  • सबसे पहले आप नीचे दिए गए जिलों की टेबल में से अपने जिले के नाम पर क्लिक करना होगा। जैसे यहां पर हम लखनऊ जिला पर क्लिक करते हैं।
  • अपने जिले के नाम पर क्लिक करने के पश्चात अगले पेज पर आपको आपके जिले में उपलब्ध सभी तहसील का नाम दिखाया जाएगा। आप जिस तहसील में रहते हैं आप उस तहसील के आगे खतौनी विलेज नंबर पर क्लिक करें।
यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें [How to see the land details of UP Gram Samaj]
  • जैसे ही आप अपनी तहसील के नाम पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा यहां पर आपको आपके तहसील में उपलब्ध सभी ग्राम पंचायतों का नाम दिखाया जाएगा यहां पर आपको अपने गांव के नाम पर क्लिक करना है।
यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें [How to see the land details of UP Gram Samaj]
  • जैसे ही आप अपने गांव के नाम पर क्लिक करेंगे आपके सामने आपके गांव में सरकारी जमीन का विवरण ओपन होकर आ जाएगा।
यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें [How to see the land details of UP Gram Samaj]
  • यहां पर आपको आपके गांव में जिन लोगों को पट्टा दिया गया है, उनका विवरण मिल जाएगा। साथ ही आपको अन्य ग्राम समाज की जमीन जैसे – नाली, ऊसर, बंजर, स्कूल, अस्पताल, देवभूमि, मरघट, तालाब, नदी, नाला, सड़क या अन्य प्रकार की जमीन का विवरण भी मिल जाएगा।

नोट –जो ग्राम पंचायत अभी तक चकबंदी में है उन ग्राम पंचायतों का विवरण पोर्टल पर उपलब्ध नहीं है।

आप नीचे दिए गए लिस्ट में से अपने जिले के नाम पर क्लिक करें।

Serial No.District Name (Hindi)Total Chakbandi Village KhatauniTotal Survey Village KhatauniGram KhatauniTotal Village KhatauniTotal Revenue Village
1आगरा(146)1309911004985
2अलीगढ़(143)104122712411231
3अम्बेडकरनगर(178)107179018071792
4अमेठी(203)73092710001000
5अमरोहा(137)440109111351133
6औरैया(162)630837900851
7अयोध्या(177)165129013111300
8आजमगढ(191)800405341334133
9बदांयू(149)810166417451713
10बागपत(139)320328351315
11बलिया(193)4714235624172410
12बलरामपुर(182)152101310301017
13बाँदा(170)320736768761
14बाराबंकी(176)430182918721845
15बरेली(150)690211221812149
16बस्ती(185)7113329333773376
17बहराइच(180)294135413871387
18भदोही(198)00127012701257
19बिजनौर(134)6272290530393007
20बुलन्द शहर(142)400122112611254
21चन्दौली(196)250162616511651
22चित्रकूट(171)870566653600
23देवरिया(190)9843208222232178
24एटा(201)570835892883
25इटावा(161)90786795705
26फर्रूखाबाद(159)44098210261020
27फतेहपुर(172)140172717411552
28फिरोजाबाद(147)310794825824
29गौतम बुद्ध नगर(141)131367399398
30गाजियाबाद(140)130253266264
31गाजीपुर(195)282340534353435
32गोंडा(183)462179218401820
33गोरखपुर(188)85105335935493454
34हमीरपुर(168)200616636631
35हापुड़(204)203346369367
36हरदोई(155)1690195521242073
37हाथरस(144)140673687683
38जालौन(165)20116211641155
39जौनपुर(194)750345435293441
40झांसी(166)713837857857
41कन्नौज(160)7435656765761
42कानपुर देहात(163)70104010471036
43कानपुर नगर(164)320107811101099
44कासगंज(202)360697733719
45कौशाम्बी(174)410839880880
46खीरी(153)392177018111796
47कुशीनगर(189)75164716591646
48ललितपुर(167)810676757754
49लखनऊ(157)80953961961
50महाराजगंज(187)1060115612621262
51महोबा(169)220504526521
52मैनपुरी(148)120856868858
53मथुरा(145)828869905891
54मऊ(192)272163416631653
55मेरठ(138)330695728712
56मिर्जापुर(199)894192220152003
57मुरादाबाद(135)310118212131210
58मुजफफर नगर(133)3620668724710
59पीलीभीत(151)420140814501437
60प्रतापगढ(173)560221022660
61प्रयागराज(175)882308831780
62रायबरेली(158)450157316181597
63रामपुर(136)170118512021202
64सहारनपुर(132)3520160816631624
65सम्भल(205)70097810481022
66सन्तकबीर नगर(186)760165717331733
67शाहजहांपुर(152)360235023862335
68शामली(206)615318339322
69श्रावस्ती(181)50531536536
70सिद्धार्थनगर(184)620248625482545
71सीतापुर(154)529234524062370
72सोनभद्र(200)450139314471441
73सुल्तानपुर(179)240174117651737
74उन्नाव(156)9810171318211798
75वाराणसी(197)111141614281427
Total3062543106746110351103505

ग्राम पंचायतों का अस्तित्व समाप्त होने की दशा में इस जमीन का क्या होता है?

यदि ग्राम पंचायतों का अस्तित्व समाप्त हो जाता है तो संबंधित भूमि प्रदेश सरकार के राजस्व विभाग (revenue department) में निहित कर दी जाती है। ऐसे में विभाग को इस जमीन का पुनर्ग्रहण करने की प्रक्रिया नहीं करनी पड़ती। राजस्व विभाग के विवेक पर है कि वह इस जमीन का उपयोग किस प्रकार करता है।

हालांकि होता यह है कि ग्राम समाज की जमीन अक्सर अतिक्रमण की भेंट चढ़ जाती है। बहुत जगह पुलिस के हस्तक्षेप से इस अतिक्रमण को खुर्द-बुर्द कराया जाता है। ऐसे मामलों में बवाल कटता भी खूब देखा जा सकता है। दरअसल, लोग खाली जमीन देख वहां कब्जा कर लेते हैं।

कई तो धार्मिक पूजास्थल बना देते हैं। ऐसे में उन पर हाथ डालना कई बार मधुमक्खी के छत्ते में हाथ डालना साबित होता है। जमीन के चक्कर में कई बार खूनी संघर्ष भी होता है। पुलिस प्रशासन को ऐसे मामलों में बहुत धैर्य के साथ काम लेना पड़ता है।

सरकारी राजस्व जमीन पर कब्जा करने वाले पर कौन सी धारा लगती है?

अभी हमने आपको ग्राम समाज की जमीन पर अवैध कब्जे के मामलों के बारे में जानकारी दी थी। आपको बता दें कि सरकारी राजस्व भूमि पर कब्जा करने वाले व्यक्ति के खिलाफ धारा (section) 91 में मुकदमा दर्ज होता है। इसमें लगान का 50 गुना जुर्माना (fine) एवं तीन माह तक की सजा का प्रावधान किया गया है। पटवारी शिकायत (complaint) पर मामला दर्ज करा सकता है।

क्या विकास कार्य को ग्राम समाज की जमीन लेने से पूर्व भूमि प्रबंधन समिति से अनुमति आवश्यक है?

मित्रों, दो वर्ष पूर्व तक विकास कार्यों (development works) के लिए ग्राम समाज की जमीन लेने से पूर्व ग्राम सभा की भूमि प्रबंधन समिति से इजाजत लेना अनिवार्य था। लेकिन सरकार ने करीब दो वर्ष पूर्व इस प्रक्रिया (process) को आसान करते हुए उत्तर प्रदेश राजस्व संहिता (तृतीय संशोधन) नियमावली 2020 को मंजूरी दे दी, जिसके बाद से विकास कार्यो के लिए ग्राम सभा की भूमि प्रबंधन समिति (land management committee) से अनुमति लेने की बाध्यता को समाप्त कर दिया गया।

एसडीएम (SDM) की संस्तुति पर डीएम (DM) के माध्यम से प्रस्ताव (proposal) भेजे जाने और इसके आधार पर जमीन मिल जाने की राह प्रशस्त कर दी गई।

उत्तर प्रदेश में ग्राम समाज की जमीनों की क्या स्थिति है?

मित्रों, आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में ग्राम समाज की जमीन पर अवैध कब्जों की भरमार है। हालांकि पुलिस प्रशासन इस संबंध में शिकायत मिलते ही कार्रवाई कर रहा है। ऐसा ही कुछ बरेली में हुआ, जहां भू माफिया ने ग्राम समाज की जमीन कब्जाकर उस पर गेहूं की फसल बुआ दी थी।

यह करीब एक पखवाड़े पहले की ही बात है। बरेली के दातागंज में भू माफिया ने तहसील क्षेत्र के चार गांवोें किशनी खेड़ा, उदैया नगला, बेला डांडी एवं कुड़रा खरसाई में नौ हेक्टेयर से भी अधिक भूमि पर अवैध कब्जा कर रखा था। इस पर गेहूं की फसल बो दी गई थी।

पुलिस प्रशासन ने कड़ी कार्रवाई करते हुए इस जमीन पर खड़ी फसल को नीलाम करने के बाद राशि को सरकारी खजाने में जमा कराया और कब्जाई गई जमीन पर बुलडोजर चलवा दिया। इन दिनों बुलडोजर यूं भी सियासी गलियारों में बहुत चर्चित है। आम आदमी की जुबान पर है।

लेकिन आपको बता दें दोस्तों कि कई स्थानों पर इस प्रकार का खेल भी उजागर हुआ है, जहां प्रशासन (administration) की मिलीभगत से ग्राम समाज की जमीन पर कब्जे किए गए। ऐसी जगहों पर अभी तक किसी प्रकार की कार्रवाई भी सामने नहीं आ सकी है।

गांवों में करीब कितनी जमीन ग्राम समाज की होती है?

गांवों में करीब 20-25 फीसदी जमीन ग्राम समाज की होती है। इसका स्वामित्व प्रदेश सरकार के पास होता है। इसकी देख-रेख एवं रख-रखाव का जिम्मा ग्राम पंचायतों के पास होता है।

क्या ग्राम पंचायतें सरकारी जमीन को पट्टे पर दे सकती हैं?

जी हां, उन्हें इसका अधिकार प्राप्त है।

यूपी ग्राम समाज की जमीन का आनलाइन ब्योरा किस वेबसाइट पर देखा जा सकता है?

प्रदेश भूलेख की इस आधिकारिक वेबसाइट का एड्रेस www.upbhulekh.gov.in है।

यूपी ग्राम समाज की जमीन का किस प्रकार का ब्योरा आनलाइन देखा जा सकता है?

ग्राम समाज के पास कितनी सरकारी जमीन है। चकरोड़, खेत खलिहान, ऊसर, बंजर आदि तमाम जमीनों की जानकारी देखी जा सकती है।

यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण आनलाइन देखने की प्रक्रिया साझा करें?

यह प्रक्रिया हमने आपको ऊपर पोस्ट में विस्तार से बताई है। कृपया वहां से देखने का कश्ट करें।

सरकारी राजस्व जमीन कब्जाने वाले पर किस धारा में मुकदमा दर्ज होता है?

ऐसा करने वाले के खिलाफ धारा 91 में मुकदमा दर्ज होता है।

क्या विकास कार्य को ग्राम समाज की जमीन लेने के लिए भूमि प्रबंधन समिति की अनुमति आवश्यक है?

जी नहीं, उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने दो वर्ष पूर्व 2020 में यह अनिवार्यता समाप्त कर दी है।

दोस्तों, हमने आपको इस पोस्ट (post) में बताया कि आप यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देख सकतेे हैं। उम्मीद है कि यह पोस्ट आपको पसंद आई होगी। यदि इसी प्रकार की जानकारीपरक पोस्ट आप हमसे चाहते हैं तो उसके लिए नीचे दिए गए कमेंट बाक्स (comment box) में कमेंट (comment) करके अपनी बात हम तक पहुंचा सकते हैं। ।।धन्यवाद।।

—————————

Contents show
Spread the love:

4 thoughts on “यूपी ग्राम समाज की जमीन का विवरण कैसे देखें? ग्राम पंचायत का नक्शा ऑनलाइन कैसे देखें?”

Leave a Comment

सुकन्या समृद्धि योजना के नियम अपने बिज़नेस को ऑनलाइन कैसे करे? मुख्यमंत्री गौमाता पोषण योजना फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे करें? जिम कैसे खोले? | नया जिम खोलने की लागत, मुनाफा व मशीनें