मुफ्त गैस सिलेंडर योजना आवेदन, आवश्यक दस्तावेज, लाभ, बजट

उज्जवला योजना के तहत गृहिणियां घरेलू गैस सिलेंडर मुफ्त में पा रही थीं। अब वह एक साल तक घरेलू गैस सिलेंडर का मुफ्त में ले सकेंगे। लॉकडाउन को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सितंबर तक यह सिलेंडर हासिल करने की मियाद बढ़ा दी है। दोस्तों, क्या आप जानते हैं कि मुफ्त गैस सिलेंडर योजना क्या है? इससे कितनी महिलाओं को लाभ होगा? योजना को बढ़ाने का निर्णय क्यों लिया गया? यदि नहीं तो भी कोई बात नहीं। आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से इस संबंध में जानकारी देंगे। आइए शुरू करते हैं-

मुफ्त गैस सिलेंडर योजना क्या है? What is free gas cylinder scheme?

मुफ्त गैस सिलेंडर योजना के लिए आवेदन कैसे करें? How to apply for free gas cylinder scheme?

यह जानकारी आपके लिए जरूरी है। आपको बता दें कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के गरीब परिवरों को मुफ्त रसोई गैस सिलेंडर योजना मुहैया कराए जाने की योजना को तीन महीने के लिए और बढ़ा दिया है। इसका अर्थ यह है कि देश की करीब साढ़े सात करोड़ से अधिक गरीब परिवारों की महिलाएं मुफ्त में सितंबर के अंत तक गैस सिलेंडर ले सकेंगी। कोराना को देखते हुए लागू लॉकडाउन की वजह से यह निर्णय लिया गया है। इस दौरान नौकरी, उद्योग धंधे, रोजगार की अनिश्चितता को देखते हुए गरीब परिवार मुसीबत झेल रहे हैं।

इसी में मदद देने के लिए सरकार की ओर से यह कदम उठाया गया है। इससे पहले सरकार ने उज्जवला योजना के तहत गरीब परिवारों की महिलाओं को अप्रैल से जून तक तीन सिलेंडर मुफ्त देने की घोषणा की थी। इसके तहत सरकार ने 11.97 करोड़ रसोई गैस सिलेंडर बांटे। आपको बता दें कि इस योजना के तहत गरीब परिवार की महिलाओं को गैस कनेक्शन मुफ्त आवंटित किए जाते हैं।

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट बैठक में फैसला –

आपको जानकारी होगी कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में उज्जवला लाभार्थियों को तीन महीने और मुफ्त एलपीजी रसोई गैस सिलेंडर देने का फैसला किया गया था। इसके तहत ही यह तय किया गया कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना (PMGKY) के तहत उज्जवला लाभार्थियों को अब सितंबर तक फ्री रसोई गैस सिलेंडर मुहैया कराया जाएगा। फैसले की जानकारी कैबिनेट मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दी थी।

इस मार्च में कोरोना संक्रमण को देखते हुए लॉकडाउन के बीच केंद्र सरकार ने गरीब परिवारों को राहत देने के लिए करीब पौने दो लाख करोड़ रुपये के पैकेज का एलान किया था। इसी के तहत उज्जवला योजना को लेकर भी बड़ा कदम उठाया गया था। गरीब परिवारों को अगले तीन माह तक फ्री गैस सिलेंडर देने की घोषणा की गई थी। कहा गया था कि इसका लाभ करीब आठ करोड़ परिवारों को मिलेगा।

लगे हाथों आपको यह भी बता दें कि उज्जवला योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा से जीवन बिता रहे परिवारों के लिए घरेलू रसोई गैस यानी एलपीजी कनेक्शन सरकार मुहैया कराती है। इसका जिम्मा पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के पास है। 2011 की जनगणना के मुताबिक जो बीपीएल परिवार हैं, उन्हें इस योजना का लाभ मिलता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक मई, 2016 को इस योजना को उत्तर प्रदेश के बलिया में लांच किया था। दोस्तों, इसे योजना का की लांचिंग के स्थान पर रीलांच कहना अधिक उपयुक्त होगा।

मुफ्त गैस सिलेंडर योजना के तहत मुफ्त सिलेंडर देने में कितना खर्च आएगा – How much will it cost to deliver a free cylinder under the free gas cylinder scheme

आपको बता दें कि मुफ्त गैस सिलेंडर योजना के तहत तीन महीने और मुफ्त सिलेंडर देने पर साढ़े 13 करोड़ रुपये का खर्च संभावित है। हालांकि कई लोग अप्रैल से जून तक मिलने वाले सिलेंडरों की घोषणा किए जाने के बाद भी सरकार के इस लक्ष्य को पूरा न कर पाने पर सवाल उठा रहे हैं। उनका कहना है कि सरकार ने केवल लोकप्रियता हासिल करने के लिए इस योजना को सितंबर तक बढ़ाए जाने की घोषणा की है। होना तो यह चाहिए था कि इससे पहले वह पूर्व में किए वायदों पर अमल करती और इसके बाद महिलाओं को भविष्य का सपना दिखाती।

लेकिन विपक्षियों के बहुत मजबूत और सक्रिय न होने की वजह से वह इस मामले को सही ढंग से नहीं उठा पा रहे। यही वजह है कि सरकार पर इस संबंध में किसी तरह का कोई दबाव नहीं बन पा रहा है। बहुत सी ऐसी योजनाएं हैं, जिनकी सरकार की ओर से केवल घोषणाएं की गईं, लेकिन न तो यह योजनाएं पूरी हुईं और न ही किसी अंजाम तक पहुंचीं। कई योजनाएं बीच ही में चलकर बंद हो गईं या फिर लाभार्थियों ने उनकी ओर रुचि नहीं दिखाई। ऐसे में इन योजनाओं का शुभारंभ किसी के लिए कोई मायने लेकर नहीं आया।

ढेरों ऐसी योजनाएं थीं, जिनके लिए सरकार की ओर से फंड जारी हुआ, लेकिन उनमें किसी ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। दोस्तों, आपको यह भी बता दें कि एमएसएमई सेक्टर से जुड़ीं ऐसी ढेरों योजनाएं हैं। ऐसा इसलिए भी संभव है कि लोगों को उन योजनाओं की या तो जानकारी नहीं थी, यानी उनका प्रचार-प्रसार ढंग से नहीं किया गया। दूसरी बात, लोगों को यह नहीं पता था कि उन्हें इन योजनाओं के लिए रजिस्ट्रेशन कैसे कराना था।

मुफ्त गैस सिलेंडर योजना की यहां से लें विस्तार से जानकारी – Get detailed information of free gas cylinder scheme from here

यदि आप भी ऐसे ही किसी परिवार से संबंध रखते हैं तो तुरंत योजना का लाभ उठाने के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। यदि आप यह नहीं जानते हैं कि आप रजिस्ट्रेशन कैसे करा सकते हैं, तो हम आपको इसकी विस्तार से जानकारी देंगे। यह जानकारी देने से पहले हम आपको बता दें कि योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmuy.gov.in/ पर इस संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई है।

आप इस वेबसाइट पर क्लिक करके इस योजना से जुड़ी सारी खास बातों की जानकारी हासिल कर सकते हैं। किसी भी तरह की कोई शंका होने पर समाधान के लिए हमें इस पोस्ट के अंत में दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं। एक नजर हम आपको यहां बता देते हैं कि आप इस योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदन किस तरह से कर सकते हैं।

मुफ्त गैस सिलेंडर योजना के लिए आवेदन कैसे करें? How to apply for free gas cylinder scheme?

आपके दिमाग में यह सवाल जरूर उठ रहा होगा कि इस योजना के लिए आवेदन किस तरह से किया जा सकता है। हर सरकारी योजना की तरह इस योजना का लाभ उठाने के लिए भी एक प्रक्रिया निर्धारित की गई है। आपको उस प्रक्रिया का पूरी तरह से पालन करना होगा। उसके बाद ही आप इस योजना का लाभ उठा सकेंगे। दोस्तों, यह कदम इस प्रकार से हैं-

  • प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के अंतर्गत बीपीएल परिवार की एक महिला ही एलपीजी कनेक्शन के लिए आवेदन कर सकती है। महिला को ही राशन कार्ड के संदर्भ में घर का मुखिया माना जाता है। लिहाजा, उसी की फोटो भी राशन कार्ड के पृष्ठ पर भी लगती है।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए इसी परिवार की मुखिया महिला को एक निर्धारित फॉर्मेट में आवेदन पत्र भरकर अपने नजदीकी एलपीजी वितरक के पास जमा करना होगा।
  • आपको बता दें कि इस आवेदन पत्र के साथ महिला को अपना पूरा पता, जन-धन बैंक की खाता संख्या और खाते के अन्य ब्योरे के साथ ही अपने परिवार के सभी सदस्यों का आधार नंबर भी जमा कराना होगा।
  • इस आवेदन संबंधी प्रक्रिया पूरी होने के बाद देश की तेल कंपनियां लाभार्थी को एलपीजी कनेक्शन जारी करती हैं।
  • यदि कोई उपभोक्ता ईएमआई का विकल्प चुनता है तो ईएमआई की राशि सिलिंडर पर मिलने वाली सब्सिडी में एडजस्ट की जाती है।

आपको बता दें कि ऐसा भी जरूरी नहीं कि हर महीने एक सिलेंडर की जरूरत सभी को पड़े। ऐसे में हर महीने एक सिलेंडर के हिसाब से अब सितंबर अंत तक तीन सिलेंडर मुफ्त देने की सुविधा बढ़ाई गई है।

जनधन खातों में आती है गैस सिलेंडर सब्सिडी

यह तो आप जानते ही हैं कि घरेलू गैस सिलेंडर पर मिलने वाली सब्सिडी परिवार की मुखिया महिलाओं या जिन महिलाओं के नाम यह कनेक्शन हैं, उनको दी जाती है। यह सब्सिडी उन तक उनके बैंक खाते के जरिये पहुंचती है। करोड़ों महिलाओं को हर माह में एक तयशुदा गैस सब्सिडी मिलती है। इसके लिए उनके मोबाइल पर मैसेज आ जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि इन महिलाओं का आधार कार्ड उनके बैंक से लिंक होता है।

मोबाइल नंबर को भी उसी से लिंक किया जाता है। यदि किसी का मोबाइल नंबर बदल गया है तो उसे तुरंत अपने बैंक मैनेजर के पास उसके बदल जाने से संबंधित आवेदन करना होगा, ताकि खाते के साथ नए मोबाइल नंबर को एड किया जा सके और किसी भी धनराशि के खाते में पहुंचने या वहां से निकलने पर मैसेज के जरिये खाताधारक तक सूचना पहुंच सके।

किसी भी तरह की गड़बड़ी दिखे तो तुरंत शिकायत करें?

आपको बता दें कि कई बार ऐसे मामलों में फ्राड भी हो जाता है। इसलिए सावधानी बरतनी चाहिए और यह जरूरी है कि आप अपने बैंक खाते को समय समय पर जांच लें। इसके लिए बैंकों ने नेटबैंकिंग की भी सुविधा उपलब्ध कराई है। यदि आपको अपने खाते से जुड़ी किसी भी तरह की गड़बड़ी दिखाई दे तो आपको चाहिए कि आप बैंक मैनेजर को सूचित करें और इसके साथ ही आवश्यकता पड़े तो संबंधित थाना पुलिस को भी इस गड़बड़ी के बारे में सूचित करें।

पुलिस इस मामले को गंभीरता से लेती है और तुरंत एक्शन होता है। यदि आपको निचले स्तर पर किसी तरह की कोताही देखने को मिले तो आप उच्च स्तर पर भी मामले की शिकायत पहुंचा सकते हैं। इन दिनों ट्वीट कर संबंधित अधिकारी को टैग कर देना भी एक प्रभावी कदम होता है।

  • प्रधानमंत्री किसान ट्रैक्टर योजना 2020 ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, उद्देश्य

परिचितों को भी दें मुफ्त गैस सिलेंडर योजना की जानकारी

यदि आप गरीब परिवार से ताल्लुक नहीं रखते या फिर आपको मुफ्त सिलेंडर की जानकारी नहीं, फिर भी आप इतना जरूर करें कि इस योजना का प्रचार-प्रसार अपने स्तर पर करें। परिचितों को इस योजना की जानकारी दें। यह योजना बेहद काम की है। कम से कम कोरोना संक्रमण को देखते हुए अभी जिस तरह की परिस्थिति बनी हुई है, उसे देखते हुए यह योजना मुश्किल से अपना राशन-पानी जुटा रहे परिवारों के लिए तो बेहद काम की है। आपकी एक मामूली सी कोशिश, उनकी एक बड़ी मुश्किल हल कर सकती है। तो फिर देर किस बात की। अपने जानने वालों, परिचितों तक पहुंचाएं इस योजना की खास बातें।

तो दोस्तों, यह थी रसोई गैस सिलेंडर मुफ्त लेने की योजना की सभी जानकारी। यदि आप इसी तरह की किसी अन्य योजना के बारे में हमसे जानकारी चाहते हैं तो उसके लिए हमें नीचे दिए गए कमेंट बाक्स पर कमेंट करके भेज सकते हैं। हमारी पूरी कोशिश होगी कि हम आपको संबंधित योजना के संबंध में जानकारी प्रदान कर सकें। दोस्तों, आपकी प्रतिक्रियाओं और सुझावों का हमें हमेशा की तरह शिद्दत से इंतजार रहेगा। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

Leave a Comment