फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे करें? लागत, मुनाफा नियम व शर्ते (Flex Printing Business in Hindi)

Flex Printing Business in Hindi:- विज्ञापन हर बिज़नेस और काम के लिए बहुत जरुरी हो गया हैं। हर तरह का बिज़नेस फिर चाहे वह छोटा हो बड़ा, अपने लिए विज्ञापन पर खुलकर खर्चा करता हैं और इसी के आधार पर ही उसकी बिक्री भी बढ़ती हैं। जिस प्रकार आप ऑनलाइन (Flex printing business kaise kare) कई तरह के विज्ञापन देखते हैं ठीक उसी तरह ऑफलाइन भी कई तरह के विज्ञापन आपको अपने आसपास या अपने शहर या गाँव में देखने को मिल जाएंगे। इसके लिए फ्लेक्स का ही सहारा लिया जाता हैं।

अब यदि आप भी फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस में हाथ आजमाना चाहते हैं तो इसमें बिज़नेस करने की अपार संभावनाएं आपके पास होंगी। बस आपको (Flex printing business plan in Hindi) इसे सही से समझ कर आगे बढ़ने की जरुरत हैं। यदि आप एक सही रणनीति के तहत आगे बढ़ते हुए इस बिज़नेस को करेंगे तो अवश्य ही बहुत लाभ में रहेंगे। किसी भी बिज़नेस को करने से पहले उसकी सही रणनीति बनाना और उसके बारे में सब जानकारी लेना अति आवश्यक होता हैं।

तो ऐसे में आज हम आपको इस लेख के माध्यम से फ्लेक्स प्रिटिंग जा बिज़नेस करने के ऊपर संपूर्ण जानकारी देंगे ताकि आप आसानी से इस बिज़नेस को शुरू कर सके और इसके जरिये बहुत सारा पैसा बना सके। तो आइए जाने कैसे आप अपना खुद का फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू कर सकते हैं और आगे बढ़ सकते हैं।

Contents show

फ्लेक्स प्रिंटिंग क्या होता है (What is Flex printing in Hindi)

आप जब अपने घर से बाहर निकलते होंगे तो आपको अपने शहर की मुख्य जगहों, चौराहों या बाजार में कई तरह के होअर्डिंग, पोस्टर व बैनर दिखाई देते होंगे जिन पर कई चीजों का विज्ञापन आपको दिखाई देते होंगे। यह विज्ञापन किसी भी तरह के हो सकते हैं फिर चाहे यह किसी के नए बिज़नेस से जुड़ा हुआ हो या किसी उत्पाद या सेवा का प्रचार किया गया हो या फिर इसमें किसी फंक्शन या सभा की जानकारी दी गयी हो।

प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे करें लागत मुनाफा नियम व शर्ते Flex Printing Business in Hindi

तो यह सभी विज्ञापन जिस चीज़ पर छापे जाते हैं उसे ही फ्लेक्स कहा जाता हैं। यह प्लास्टिक के जैसा दिखने वाला उत्पाद होता हैं जो कि बहुत ही सस्ता पड़ता हैं और यह मजबूत भी बहुत होता हैं। इसके जरिये आप अपने बिज़नेस को बहुत आगे ले जा सकते हैं। एक तरह से आपको फ्लेक्स पर लोगों के लिए विज्ञापन छापने होंगे और उन्हें देने होंगे। आज के समय में यह बिज़नेस बहुत फलफूल रहा हैं और हजारों लोग इसके जरिये लाखों रुपए कमा भी रहे हैं।

फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे करें (Flex Printing Business in Hindi)

अब जब आप फ्लेक्स प्रिंटिंग के बारे में जान लिया हैं तो अगला प्रश्न यह उठता हैं कि आखिर किस तरीके से आप अपने लिए यह बिज़नेस शुरू कर पाएंगे। फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस जितना सुनने में रूचिकर और लाभदायक लगता हैं उतना ही इसे शुरू करने की तकनीक मुश्किल हैं या फिर यूँ कहे कि इसे शुरू करते समय आपको कई तरह की चीज़ों को ध्यान में रखकर चलना होता हैं।

तो आज के इस लेख में आप फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस को शुरू करने के ऊपर सब जानकारी लेंगे। हम शुरुआत इसकी स्ट्रेटेजी या योजना से करेंगे और उसके बाद चरण दर चरण तरीके से आगे बढ़ते जाएंगे। आइए जाने फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस को करने के लिए आपको क्या कुछ करना पड़ सकता हैं।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस की स्ट्रेटेजी बनाना (Flex printing business plan in Hindi)

आप चाहे कोई भी बिज़नेस शुरू करें, उससे पहले उसकी एक बेहतर योजना बनाया जाना बहुत जरुरी होता हैं। यदि आप बिना योजना के आगे बढ़ेंगे तो यह आगे चलकर आपके लिए ही संकट का कारण बन सकता हैं। इसलिए जब भी आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करने का सोच रहे हो उस समय से ही आप उसकी एक प्रॉपर प्लानिंग करना शुरू कर देंगे तो बेहतर रहेगा।

सबसे पहले तो आप यह देखे कि आप अपना यह फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कहां शुरू करेंगे और इसके लिए सामान कहां कहां से मंगवाएंगे। फ्लेक्स प्रिंटिंग के लिए आपको कई तरह की मशीन और कंप्यूटर इत्यादि की भी आवश्यकता पड़ेगी और आपको ग्राफ़िक्स डिजाइनिंग भी सीखनी होगी। आप चाहे तो इसके लिए एक व्यक्ति को भी रख सकते हैं जिसे ग्राफ़िक्स डिजाइनिंग आती हो। इसके साथ ही आप फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस में कितना निवेश करने जा रहे हैं और उसके लिए पैसों की व्यवस्था कहां से हो पायेगी, इसका भी ध्यान रखना होगा। तो आइए एक एक करके इन सभी बातों के बारे में जाने।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के प्रकार (Flex printing business types in Hindi)

फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस करने के लिए आपको कई तरह के बिज़नेस करने वाले आईडिया मिलेंगे। यह आवश्यक नही कि आप फ्लेक्स प्रिंटिंग में केवल पोस्टर या बैनर ही बनाए। आप जो ग्रीटिंग कार्ड या विजिटिंग कार्ड देखते हैं वह भी फ्लेक्स प्रिंटिंग का ही एक भाग होता हैं। तो ऐसे में आपके सामने फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस करने के लिए कई तरह की संभावनाएं होती हैं। अब यह आप पर निर्भर करेगा कि क्या आप इसमें से किसी एक बिज़नेस में जाना चाहते हैं या आप इसे बड़ा रूप देते हुए इसमें हर तरह के फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस करेंगे।

वैसे यदि हम आपको राय दे तो आपको फ्लेक्स प्रिंटिंग में हर तरह का काम करना चाहिए ताकि आपके पास ज्यादा से ज्यादा काम आ सके। आज के बदलते परिवेश में लोगों की आवश्यकताएं भी बहुत बदल चुकी हैं। किसी को किसी चीज़ के लिए फ्लेक्स प्रिंटिंग करवानी होती हैं तो किसी को अन्य चीज़ के लिए। तो इसके लिए उनकी जरुरत के अनुसार फ्लेक्स प्रिंटिंग का काम करना लाभदायक होता हैं और यह तभी संभव हो पाएगा जब आप फ्लेक्स प्रिंटिंग में हर तरह का काम करते होंगे।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के लिए मार्किट रिसर्च (Flex printing business market research)

आप जहाँ भी फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करने जा रहे हैं उसके लिए अपने आसपास के बारे में रिसर्च अवश्य कर ले। कहने का तात्पर्य यह हुआ कि किसी शहर में किसी चीज़ की ज्यादा मांग होती हैं तो दूसरे शहर में किसी अन्य फ्लेक्स प्रिंटिंग के काम की ज्यादा मांग होती हैं। यह आपको यह समझने में सहायता करेगी कि आपको फ्लेक्स प्रिंटिंग में किस चीज़ पर ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता हैं।

यदि आपने मार्किट के बारे में अच्छे से रिसर्च कर ली और लोगों की नब्ज पकड़ ली तो अवश्य ही आपका फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस बहुत जल्दी ही गति पकड़ लेगा और देखते ही देखते यह प्रसिद्ध भी हो जाएगा। फिर लोग अपने फ्लेक्स प्रिंटिंग के काम के लिए आपके पास ही आना पसंद करेंगे। यहीं कारण हैं कि फ्लेक्स प्रिंटिंग का काम शुरू करने से पहले आप उसके बारे में प्रॉपर तरीके से मार्किट रिसर्च अवश्य कर ले।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के लिए जगह (Flex printing business location)

अब जब आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस करेंगे तो उसके लिए एक जगह का होना भी आवश्यक हो जाता हैं। यह आवश्यक नही कि यह जगह शहर की मुख्य जगह या बाजार में ही हो। आप इसे चाहे किसी भी जगह पर खोले या फिर अपने घर पर, यह आप पर ही निर्भर करेगा क्योंकि इसमें आपके संपर्क ही मायने रखेंगे। कहने का अर्थ यह हुआ कि आपके ग्राहक आम नागरिक ना होकर बड़े लोग होंगे जो अपने बिज़नेस या काम का प्रमोशन करने के लिए आपसे पास आएंगे।

तो आपको बस एक सही जगह का चुनाव कर उसका इंटीरियर और डिजाईन सही से करना होगा। वहां पर फ्लेक्स प्रिंटिंग करने के लिए मशीन इत्यादि रखने की व्यवस्था सुनिश्चित करनी होगी ताकि आप अपना काम बिना किसी झंझट के आसानी से कर सके। साथ ही जगह के आकार का भी पूरा पूरा ध्यान रखे ताकि बाद में यह जगह छोटी ना पड़े।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के लिए रजिस्ट्रेशन व लाइसेंस (Flex printing business licence and registration)

आप जब भी फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करने जाएंगे तो उससे पहले यह पक्का कर ले कि आप संबंधित बिज़नेस के लिए सभी तरह के रजिस्ट्रेशन अवश्य करवा ले ताकि आगे चलकर कोई कानूनी समस्या आड़े ना आने पाए। यदि आप बिना लाइसेंस और पंजीकरण के यह काम करेंगे तो आपके पास काम भी कम आएगा और कानूनी अड़चन भी आ सकती हैं।

इसलिए अपने बिज़नेस का पंजीकरण करवा लेंगे तो आपके लिए ही बेहतर सिद्ध होगा। इससे आपको भी बिज़नेस करने में आसानी होगी और लोग भी आप पर विश्वास कर लिया करेंगे। इसलिए फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करने से पहले सभी तरह के लाइसेंस ले ले और उसका रजिस्ट्रेशन भी करवा ले।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के लिए मशीन व कच्चा माल (Flex printing business raw material)

फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस करने के लिए आपको सामान की भी आवश्यकता होगी और बिना इसके आप अपना काम भी शुरू नही कर पाएंगे। तो इसके लिए जिस चीज़ की सबसे पहले आवश्यकता होगी वह होगी फ्लेक्स प्रिंटिंग की मशीन। इसी मशीन की सहायता से ही तरह तरह के फ्लेक्स के प्रिंट निकल कर आएंगे जो आप अपने ग्राहकों को देंगे। यह मशीन आप कितनी बड़ी लेंगे और कितनी महँगी, यह तो पूर्ण रूप से आप पर ही निर्भर करेगा।

इसके अलावा आपको एक अच्छे कंप्यूटर की भी आवश्यकता होगी जिसमें अच्छी रैम और ग्राफ़िक्स कार्ड हो। ऐसा इसलिए क्योंकि आपको ही कंप्यूटर पर फ्लेक्स प्रिंटिंग के लिए तरह तरह के डिजाईन बनाने होंगे और उन्हें फ्लेक्स पर प्रिंट करके निकालना होगा। तो कंप्यूटर पर फोटोशॉप व इससे संबंधित सॉफ्टवेर भी होने चाहिए जहाँ पर आप ग्राफ़िक्स को बना सके या उन्हें एडिट कर सके।

इन सभी चीज़ों के अलावा आपको फ्लेक्स प्रिंटिंग के लिए कच्चा माल अर्थात फ्लेक्स को खरीदना होना। अब यह फ्लेक्स भी कई तरह का आता हैं जो इनकी गुणवत्ता पर निर्भर करता हैं। साथ ही फ्लेक्स प्रिंटिंग में आप किस किस तरह की प्रिंटिंग करने जा रहे हैं, उसके अनुसार भी आपको फ्लेक्स में भिन्न भिन्न तरह के फ्लेक्स खरीदने होंगे ताकि आप सभी तरह की फ्लेक्स प्रिंटिंग कर सके।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के लिए कर्मचारियों को रखना (Flex printing business graphics designer)

अब जब आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करेंगे तो यह तो संभव नही कि आप ही सब काम कर ले। कहने का अर्थ यह हुआ कि आप ही फ्लेक्स प्रिंटिंग भी कर ले, ग्राफ़िक्स डिजाइनिंग भी कर ले, ग्राहकों के साथ डील भी कर ले और उन्हें माल डिलीवर भी करवा दे तो यह एक व्यक्ति के बस की बात नही हो सकती हैं। तो इसके लिए आपको कम से कम 2 कर्मचारी तो रखने ही होंगे जो आपके काम में आपका सहयोग कर सके और बिज़नेस को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दे सके।

बेहतर यह रहेगा कि आप अपने बिज़नेस के लिए एक अच्छा ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर रखे जो आपके बिज़नेस को आगे बढ़ाने के लिए अच्छे ग्राफ़िक्स डिजाईन कर सके। इस बात का ध्यान रखे कि आपके फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस की उन्नति इसी बात पर ही निर्भर करेगी कि आप कितने बेहतर तरीके से सामने वाले के लिए ग्राफ़िक्स डिजाईन कर सकते हैं और फिर उन्हें फ्लेक्स पर प्रिंट करके देते हैं। तो एक अच्छा ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर अवश्य रखें। इसके अलावा भी अन्य काम के लिए आप कुछ कर्मचारी रख सकते हैं।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस के लिए निवेश करना (Flex printing business investment)

जब आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करने का सोच रहे हैं तो उसके लिए पैसे भी लगाने होंगे। यह पैसे जगह की खरीद में भी लगेंगे तो जगह को डिजाईन करने में भी लगेंगे। इसके साथ ही आपको फ्लेक्स प्रिंटिंग के लिए कई तरह का सामान खरीदना होगा जो हमने आपको ऊपर बताया ही हैं। इन सभी के अलावा आपको कर्मचारी रखने के लिए भी उसे वेतन देना होगा और बाकि छोटे मोटे खर्चे भी होंगे।

तो इन सभी बातो को ध्यान में रखते हुए आपक्जा कितना खर्चा हो सकता हैं, यह निर्धारित कर ले या इसका एक अनुमान निकाल ले ताकि आपको पहले से ही पता चल जाए कि आपका कितना तक खर्चा हो सकता हैं। यह आपको यह जानने में मदद करेगा कि क्या आपके पास इतना पैसा हैं या फिर आपको कहीं से पैसे उधार पर लेने की या ऋण लेने की आवश्यकता हैं। उसी के अनुसार ही आप अपनी आगे की रणनीति भी बना पाएंगे।

फ्लेक्स प्रिंटिंग बिज़नेस की मार्केटिंग व प्रमोशन करना (Flex printing business marketing and promotion)

जब भी आप फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करेंगे तो वह बिज़नेस कैसा चलता हैं और कितनी तेजी के साथ आगे बढ़ता हैं, यह पूर्ण रूप से इस बात पर निर्भर करेगा कि आप उसकी मार्केटिंग व प्रमोशन कैसे करते हैं। इसके लिए आपको एक सही मार्केटिंग स्ट्रेटेजी बनाने की आवश्यकता होगी और उसी को ही ध्यान में रखकर आगे बढ़ना होगा। यदि आप एक सही टेकनिक के साथ आगे बढ़ेंगे तो बहुत सफल होंगे।

इसके लिए आप प्रचार करने के कई माध्यम अपना सकते हैं। वैसे तो आपका बिज़नेस ही दूसरों का प्रचार करने का हैं लेकिन आपका बिज़नेस भी तो तभी सफल होगा जब आप भी उसका सही से प्रचार कर पाएंगे। इसके लिए आवश्यक हैं प्रचार के सभी साधनों का बेहतर और बुद्धिमानी से उपयोग किया जाना। आप इसके लिए सभी तरह की सोशल मीडिया मार्केटिंग का आश्रय ले सकते हैं। सोशल मीडिया पर मार्केटिंग करना किसी भी बिज़नेस को आगे ले जाने में बहुत ही सहायक सिद्ध होता हैं।

साथ ही अपने फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस को आगे ले जाने के लिए आप अपने संपर्क सूची, रिश्तेदारों, मित्रों तथा जानने वाले लोगों की सहायता ले। आप उन्हें बताएं कि आपके द्वारा फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू किया गया हैं और यदि उन्हें या उनकी नज़र में किसी को फ्लेक्स प्रिंटिंग करवानी हो तो वे आपसे संपर्क करें। ऐसे करके धीरे धीरे ही सही लेकिन फ्लेक्स प्रिंटिंग का आपका यह बिज़नेस गति पकड़ लेगा।

फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस में कमाई (Flex printing business benefits in Hindi)

अब यदि आप फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस में होने वाली कमाई को लेकर आशंकित हैं तो आज हम आपकी सभी तरह की शंका को दूर करते हुए यह बता दे कि इस तरह के बिज़नेस में आपकी कमाई देखते ही देखते बढ़ते चली जाएगी और आप इसमें बहुत नाम कमाएंगे। एक तरह से आपको बहुत नाम कमाने को मिलेगा और शहर भर में भी आपका यह बिज़नेस बहुत प्रसिद्ध हो जाएगा।

यह एक ऐसा बिज़नेस हैं जो कभी भी मंदा नही पड़ सकता हैं। बल्कि यह तो समय के साथ साथ बढ़ता ही चला जाएगा। वह इसलिए क्योंकि आजकल कर कोई अपने बिज़नेस या काम को आगे बढ़ाने के लिए और प्रसिद्ध होने के लिए ऑफलाइन व ऑनलाइन विज्ञापन का आश्रय लेता हैं और यही उसकी सफलता का आधार माना जाता हैं। तो आप इस बात की चिंता करना छोड़ दे कि इस बिज़नेस में आपकी कमाई नही हो पायेगी या कम होएगी।

फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे करें – Related FAQs

प्रश्न: फ्लेक्स का प्राइस कितना है?

उत्तर: यह पूर्ण रूप से फ्लेक्स की गुणवत्ता और प्रकार पर निर्भर करता है जो कि 10 रुपए से लेकर 300 रुपए तक का हो सकता है।

प्रश्न: फ्लेक्स मशीन कितने की होती है?

उत्तर: फ्लेक्स मशीन 5 से 10 लाख रुपए के बीच में आती है।

प्रश्न: FLEX को डिजाइन करने के लिए कौन से सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है?

उत्तर: FLEX को डिजाइन करने के लिए फोटोशॉप सॉफ्टवेयर का उपयोग किया जाता है।

प्रश्न: फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस कैसे शुरू करें?

उत्तर: फ्लेक्स प्रिंटिंग का बिज़नेस शुरू करने के लिए पहले फ्लेक्स प्रिंटिंग की मशीन, कंप्यूटर खरीदें और उसके बाद एक ग्राफ़िक डिज़ाइनर की सहायता से इस बिज़नेस को शुरू करें।

तो इस तरह से आज आपने जान लिया कि किस तरह से आप अपने फ्लेक्स प्रिंटिंग के बिज़नेस को आगे ले जा सकते हैं और उसके लिए क्या कुछ कर सकते हैं। बस इस बात का ध्यान रखे कि किसी भी बिज़नेस को आगे ले जाने के लिए भगवान श्री गणेश का नाम अवश्य ले ताकि सब कुछ मंगल हो और कभी भी लालच ना करें।

Leave a Comment