ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट 2022 | ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की आखिरी डेट क्या है?

ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट क्या है? क्या यह डेट बढ़ गई है? ई-श्रम पोर्टल पर कब तक रजिस्ट्रेशन कराया जा सकता है? इस तरह के सवालों को लेकर श्रमिकों एवं कामगारों में अफरा-तफरी है। वे एक-दूसरे से लगातार यह सवाल पूछे जा रहे हैं।

कुछ श्रमिक तो इसलिए परेशान थे, क्योंकि उन्हें 31, 2021 ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट होने को लेकर असमंजस पैदा हो गया। लेकिन दोस्तों कन्फ्यूज होने की आवश्यकता नहीं। इस पोस्ट में हम आपको ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कब तक कराया जा सकता है? सरकार की ओर से ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट क्या निर्धारित की गई है? जैसे आपके दिल में उमड़ने-घुमड़ने वाले सभी सवालों के जवाब देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

जब तक 38 करोड़ श्रमिकों को ई-श्रम कार्ड नहीं मिल जाते, ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन चालू रहेगा

दोस्तों, ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट क्या है? सवाल का जवाब यह है कि जब तक देश के 38 करोड़ श्रमिकों का ब्योरा ई-श्रम पोर्टल पर दर्ज नहीं हो जाता है, तब तक यह रजिस्ट्रेशन चलता रहेगा। जैसा कि आप जानते हैं, देश भर के असंगठित क्षेत्र के 38 करोड़ श्रमिकों, कामगारो का नेशनल डाटाबेस तैयार करने एवं उन्हें सामाजिक सुरक्षा योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए ई-श्रम पोर्टल की शुरूआत की गई है।

दोस्तों, ऐसे में साफ है कि ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट नियत नहीं। जब तक केंद्र सरकार का यह लक्ष्य पूरा नहीं होता, तब तक ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन जारी रहेगा।

अब दूसरा सवाल कि क्या ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की डेट बढ़ाई गई है? तो आपको बता दें कि सरकार की ओर से ऐसा कुछ नहीं किय गया है। यह कोरी अफवाह है। आप इस संबंध में किसी भी प्रकार के झांसे में न आएं।

ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट 2022 –

विभाग का नामश्रम एवं रोजगार मंत्रालय
योजना का नामई-श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन
पोर्टल का नामई-श्रम पोर्टल
लाभार्थीभारत के श्रमिक नागरिक
ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेटकोई लास्ट डेट नही निर्धारित है
लेवलराष्ट्रीय स्तर
श्रेणीSarkari Yojana
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफिशियल वेबसाइटeshram.gov.in
ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट | ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने की आखिरी डेट बढ़ गई है?

31 दिसंबर, 2021 के ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख को लेकर असमंजस क्यों पैदा हुआ

मित्रों, यह तो आप जानते ही हैं कि उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की ओर से ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले ऐसे श्रमिकों एवं कामगारों को, जिन्होंने पहले किसी श्रम योजना का लाभ नहीं उठाया है, 500 रूपये प्रतिमाह बतौर भरण-पोषण भत्ता प्रदान किए जा रहे हैं।

इसका लाभ फिलहाल उन्हीं श्रमिकों को मिला है, जिन्होंने 31 दिसंबर, 2021 तक रजिस्ट्रेशन कराया है। यह भत्ते के लिए ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट घोषित की गई थी। ऐसे में श्रमिकों एवं कामगारों के बीच ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की तिथि को लेकर असमंजस पैदा हो गया। उन्हें लगा कि ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की सुविधा 31 दिसंबर, 2021 तक ही थी, जबकि ऐसा कतई नहीं है।

ई-श्रम पोर्टल रजिस्ट्रेशन 2021 | ई श्रमिक कार्ड कैसे बनाएं?

ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट की चिंता मत करिए, ऐसे पता चलेगा

यदि आप भी इस चिंता में खोए हैं कि ई-श्रम पोर्टल (e-shram portal) पर रजिस्ट्रेशन (registration) कराने की आखिरी तारीख कब होगी? इसका कैसे पता चलेगा? तो आपको इस संबंध में चिंता करने की कतई आवश्यकता नहीं दोस्तों। केंद्र सरकार के श्रम एवं रोजगार मंत्रालय (ministry of labour and employment) की ओर से जब भी ई-श्रम कार्ड के लिए ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने की कोई अंतिम तिथि जारी की जाएगी तो हम आपको उस संबंध में तुरंत अपडेट (update) करेंगे।

इसके लिए आप निरंतर हमारी वेबसाइट (website) चेक करते रहें। इस संबंध में किसी भी प्रकार की अफवाह पर गौर न करें। बात पैसे से जुड़ी है तो निरंतर आपको इस संबंध में कुछ न कुछ सुनने को मिलता रहेगा, किंतु अपनी जिम्मेदारी समझते हुए आपको एकदम सही जानकारी हम मुहैया कराएंगे। ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन से जुड़े छोटे से छोटे अपडेट हम आपको लगातार देते रहेंगे।

घर बैठे ई-श्रम कार्ड कैसे बनायें? e-Shram Portal Self Registration Process –

साथियों, अब हम आपको बताएंगे कि आप ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे सकते हैं। दोस्तों, यह एक बेहद आसान सी प्रक्रिया है। आपको इसके लिए निम्न steps follow करने होंगे-

ई-श्रम पोर्टल पर जाएँ –

आवेदक को सबसे पहले ई-श्रम पोर्टल की अधिकृत वेबसाइट https://eshram.gov.in/home पर जाना होगा। आप यहाँ क्लीक करके डायरेक्ट भी जा सकतें हैं।

ई-श्रम पर रजिस्टर करे आप्शन पर क्लीक करें –

आगे आवेदक के सामने वेबसाइट का होम पेज खुल जाएगा। यहां आवेदक को ई-श्रम पर रजिस्टर करे (register on e-shram) के option पर click करना होगा।
ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें? e-Shram Portal Self Registration Process

आधार से जुड़ा मोबाइल नंबर भरें –

यहां उसे अपनी आधार से जुड़ा मोबाइल नंबर के साथ ही कैप्चा (captcha) कोड भरना होगा। इसके पश्चात उसे बताना होगा कि वह ईपीएफओ अथवा ईएसआई में रजिस्टर्ड है या नहीं।
ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें? e-Shram Portal Self Registration Process

वेरीफाई OTP –

इसके पश्चात आवेदक के अधिकृत मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी (OTP) आएगा, जिसे उसे वेरिफाई (verify) करना होगा। इतना करने के बाद आवेदक के सामने एक नया पेज जाएगा। आवेदक को यहां पूछी गई सारी जानकारी सही सही भरनी होगी।

ई-शर्म रजिस्ट्रेशन फॉर्म भरें –

वन टाइम पासवर्ड वेरीफाई करने के पश्चात आपके सामने आश्रम रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन होकर आ जाएगा। यह फार्म सात भागों में विभाजित है जिसे आप को बारी-बारी से भरना है।
ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें? e-Shram Portal Self Registration Process
सबसे पहले आपको अपने पर्सनल इंफॉर्मेशन भरनी होगी। उसके पश्चात एड्रेस, एजुकेशन क्वालिफिकेशन, व्यवसाय, बैंक डिटेल्स, सेल्फ डिक्लेरेशन फॉर्म और अंत में आपको अपना श्रम कार्ड डाउनलोड करना होगा।

डॉक्यूमेंट अपलोड करें –

साथ ही आपको कुछ आवश्यक दस्तावेज जैसे – शिक्षा से जुड़े दस्तावेज एवं आय प्रमाण पत्र अपलोड करना होगा।
ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें? e-Shram Portal Self Registration Process

श्रम कार्ड डाउनलोड –

सारी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी करने के पश्चात आपको श्रम कार्ड डाउनलोड करने का ऑप्शन दिखाई देगा। आप अपना श्रम कार्ड डाउनलोड करके प्रिंट आउट निकाल सकते हैं।
ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कैसे करें? e-Shram Portal Self Registration Process

सरकार द्वारा दिए जा रहे पैसे के लिए ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की बाढ़

उत्तर प्रदेश में ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वालों के बीच से एक रोचक जानकारी सामने आई है। इधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले डेढ़ करोड़ श्रमिकों के बीच भरण पोषण भत्ते की राशि वितरित करने के कार्यक्रम का शुभारंभ किया, उधर ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वालों की बाढ़ सी आ गई।

हर किसी को यही लग रहा था कि कहीं वह इस राशि से वंचित न रह जाए। आपको बता दें कि तीन जनवरी, 2022 तक उत्तर प्रदेश से जहां साढ़े पांच करोड़ श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन ई-श्रम पोर्टल पर हुआ था, पांच जनवरी, 2022 की सुबह तक ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वालाें का आंकड़ा सात करोड़ से अधिक से भी ऊपर पहुंच चुका था।

हम फिर से आपको कहेंगे कि यदि आप भी सरकार द्वारा की गई इस पहल के दायरे में आते हैं एवं अभी तक आप ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन से चूके हैं तो देर कतई मत करिए। तुरंत ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराइए।

देश भर में 19.24 करोड़ ई-श्रम कार्ड इश्यू किए जा चुके

केंद्र सरकार की ओर से 26 अगस्त, 2021 को शुरू किए गए ई-श्रम पोर्टल पर 2 जनवरी, 2022 तक के उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार अभी तक देश भर में 19 करोड़ से अधिक, यानी कुल मिलाकर 19,24,96,982 ई-श्रम कार्ड इश्यू किए गए हैं। इससे साफ होता है कि प्रतिदिन लाखों श्रमिक, कामगार ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं। इस योजना को लेकर सरकार प्रचार प्रसार पर भी पूरा जोर लगा दे रही है।

कहीं शिविर लग रहे हैं तो कहीं गोष्ठी हो रही है। कहीं नुक्कड़ नाटक के माध्यम से श्रमिकों एवं कामगारों को ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने के लिए जागरूक/प्रेरित किया जा रहा है। विभिन्न राज्यों में इस संबंध में हो रही गतिविधियों को ई-श्रम पोर्टल पर प्रदर्शित भी किया जा रहा है।

आपको यह भी जानकारी दे दें कि केवल ई-श्रम पोर्टल ही नहीं, बल्कि श्रम एवं रोजगार मंत्रालय यूट्यूब (YouTube), फेसबुक (Facebook), इंस्टाग्राम (instagram) एवं ट्विटर (twitter) के माध्यम से भी लोगों को इस योजना के संबंध में जागरूक करने में लगा हुआ है। इसका भी बड़ा असर आम लोगों पर देखने को मिल रहा है।

ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वाली सूची में टाॅप-10 राज्य

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश में श्रमिकों, कामगारों का ई-श्रम पोर्टल पर बड़ी संख्या में रजिस्ट्रेशन कराने का सिलसिला जारी है। उनके अधिकारी लोगों को गांव-गांव जाकर कैंप लगाकर ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराकार कार्ड जारी कर रहे हैं।

इसी का नतीजा है कि ई-श्रम कार्ड पाने वालों में उत्तर प्रदेश टाॅप पर बना हुआ है। श्रम एवं रोजगार मंत्रालय के अनुसार टाॅप-10 राज्यों में ई-पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वालों की संख्या इस प्रकार है-

राज्य ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन

उत्तर प्रदेश70139773़
पश्चिम बंगाल23718690
बिहार17728228
ओडिशा12794328
झारखंड6862395
छत्तीसगढ़5629524
असम5289976
तमिलनाडु5035209
मध्य प्रदेश4994258
केरल4953718

सेल्फ रजिस्ट्रेशन के स्थान पर सीएससी जाकर रजिस्ट्रेशन कराने वाले अधिक

दोस्तों, आपको यह जानकर अजब लगेगा कि सरकार ने बेशक श्रमिकों एवं कामगारों को घर बैठे सेल्फ रजिस्ट्रेशन की सुविधा उपलब्ध कराई है, किंतु सीएससी जाकर ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वालाें की संख्या अधिक है। केवल उत्तर प्रदेश की ही बात लें। यहां 29240275 सेल्फ रजिस्ट्रेशन हुए हैं, जबकि सीएससी सेंटर के जरिए 40662860 श्रमिकों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया है।

एक खास बात यह देखने में आई है कि सबसे ज्यादा 18 से 40 साल के लोग ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने में दिलचस्पी दिखा रहे हैं। इनकी संख्या कुल रजिस्ट्रेशन की 61.43 प्रतिशत है। एक और बात ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने वालों में सर्वाधिक ओबीसी (OBC) यानी अन्य पिछड़ा वर्ग के श्रमिक 45.16 प्रतिशत हैं।

सामान्य वर्ग (general category) के कुल 25.82 प्रतिशत श्रमिकों एवं कामगारों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। हालांकि एससी (sc) एवं एसटी (st) का ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने में रुझान कम देखने को मिल रहा है। रजिस्ट्रेशन कराने वालों में एससी श्रमिकों एवं कामगारों की संख्या 22.06 प्रतिशत एवं एसटी श्रमिकों, मजदूरों की तादाद 6.97 प्रतिशत है।

इसकी एक बड़ी वजह यह भी हो सकती है कि इनमें से अधिकांश सरकार की ओर से प्रदान किए गए आरक्षण की वजह से सरकारी नौकरी में हैं। इस वर्ग के बहुत कम लोग असंगठित क्षेत्र (unorganised sector) में श्रमिक अथवा कामगार की श्रेणी में काम करते नजर आते हैं।

श्रमिक के ई-श्रम कार्ड पर क्या-क्या डिटेल रहेगी

दोस्तों, बहुत सारे लोगों को लगता है कि यह आधार कार्ड जैसा ही एक कार्ड है। उन्हें यह जानकारी नहीं कि इसमें कौन कौन सी डिटेल्स प्रदर्शित की जाती हैं। यदि आप भी ऐसे ही लोगों में हैं तो हम आपको बताएंगे कि इस ई-श्रम कार्ड पर श्रमिक अथवा कामगार की कौन कौन सी डिटेल रहेगी।

जैसा कि हम आपको पूर्व में भी बता चुके हैं यह ई-श्रम कार्ड आपका एक 12 अंकों की सार्वभौमिक खाता संख्या यानी यूनिवर्सल एकाउंट नंबर (universal account number) वाला कार्ड होगा। इसमें कार्ड धारक का नाम, उसके पिता/पति का नाम, जन्म तिथि एवं लिंग के साथ ही यूएएन (UAN) का जिक्र रहेगा। इसके लाभों के बारे में भी हम आपको पूर्व में बता चुके हैं।

जैसे कि ई-श्रम कार्ड धारक को अब इसी कार्ड के जरिए दुर्घटना बीमा सुविधा (accidental insurance cover), विभिन्न सामाजिक सुरक्षाओं (social security schemes) का लाभ मिलेगा। विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार (employment) के लिए भी असंगठित क्षेत्र के श्रमिक एवं कामगार इस ई-श्रम कार्ड का इस्तेमाल कर सकेंगे।

दरअसल, ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के वक्त श्रमिक एवं कामगार की योग्यता एवं स्किल (qualifications and skills) का भी ब्योरा (details) पूछा जाता है। बहुत से लोगों के पास स्किल होता है, लेकिन उससे जुड़े अपग्रेडेशन के लिए ट्रेनिंग होती।

सरकार ने साफ किया है कि यदि किसी ई-श्रम कार्ड धारक को रोजगार के मामले में यदि ट्रेनिंग की आवश्यकता पड़ी तो सरकार इनके लिए ट्रेनिंग की भी व्यवस्था कराएगी, ताकि इन्हें रोजगार मिलने में आसानी हो।

श्रमिकों को भरण पोषण भत्ते के लिए योगी सरकार 4 हजार करोड का प्रावधान कर चुकी है

मित्रों, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों, कामगारों को दो किस्तों में भरण पोषण भत्ता राशि उपलब्ध करा रही है। पहले चरण में 3 जनवरी, 2022 को वह डेढ़ करोड़ श्रमिकों के बैंक खातों में यह राशि भेज चुकी है।

अब वह बचे हुए श्रमिकों के बैंक खातों में दूसरी किस्त में यह राशि भेजेगी। इसके लिए वह चार हजार करोड़ रुपये का प्रावधान कर चुकी है। आपको बता दें कि विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान पेश वर्तमान वित्तीय वर्ष (financial year) के दूसरे सप्लीमेंट्री बजट (supplementary budget) में योगी सरकार की ओर से यह राशि दिए जाने की व्यवस्था की गई है।

यह कोई छोटी राशि नहीं है। इससे सरकार का मकसद अपने निर्धन श्रमिकों एवं कामगारों तक वित्तीय सहायता पहुंचाना है। सरकार पहले भी श्रमिकों एवं कामगारों के प्रति विभिन्न योजनाओं के माध्यम से अपनी सहभागिता प्रदर्शित कर चुकी है।

जो श्रमिक पहले से भरण पोषण भत्ता पा रहे, उन्हें यह राशि नहीं मिलेगी

साथियों, आपको स्पष्ट कर दें कि जो भूमिहीन कृषक, मजदूर, श्रमिक अथवा कामगार पहले से ही किसान सम्मान निधि अथवा किसी अन्य योजना के अंतर्गत भरण पोषण भत्ता प्राप्त कर रहे हैं, उन्हें ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने पर इस भत्ता राशि का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

सरकार इसके लिए पूरी सावधानी भी बरत रही है। उसने योजना से लाभान्वित होने वाले श्रमिकों को आधार से लिंक कराने के निर्देश दिए हैं।

कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते जल्द दी जाएगी किस्त

मित्रों, उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने आटो चालकों, रिक्शा चालकों, स्ट्रीट वेंडर्स, नाई, दर्जी, कुम्हार, मोची बढ़ई, घरेलू कामगारों जैसे असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों एवं कामगारों को कोरोना की पहली एवं दूसरी लहर में भरण पोषण के लिए भत्ता राशि मुहैया कराई थी।

अब देश कोरोना की तीसरी लहर के कगार पर खड़ा है। ऐसे में उसकी कोशिश भरण पोषण भत्ते की दूसरी किस्त भी जल्द से जल्द प्रदान करने की है। ताकि प्रभावित लोगों तक समय से यह राशि पहुंच सके। एवं उन्हें कोरेाना की तीसरी लहर में परेशानी का सामना न करना पड़े।

क्या ई-श्रम रजिस्ट्रेशन लास्ट डेट निर्धारित की गई है?

जी नहीं, ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की कोई आखिरी डेट अभी तक निर्धारित नहीं की गई है?

इस पोर्टल पर श्रमिकों एवं कामगारों का रजिस्ट्रेशन कब तक होगा?

जब केंद्र सरकार का 38 करोड़ श्रमिकों एवं कामगारों का डाटाबेस तैयार करने का लक्ष्य पूरा नहीं हो जाता, ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया चलती रहेगी।

ई-श्रम पोर्टल पर अब तक कितने रजिस्ट्रेशन हुए हैं?

ई-श्रम पोर्टल पर 2 जनवरी, 2022 तक उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार देश भर में 19,24,96,982 ई-श्रम कार्ड जारी किए जा चुके हैं।

31 दिसंबर, 2021 के ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन की आखिरी तारीख होने को लेकर भ्रम क्यों फैला?

उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से भरण पोषण भत्ता राशि प्रदान करने के लिए 31 दिसंबर, 2021 तक ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन आवश्यक किया गया था। इसी को लेकर श्रम एवं कामगार भ्रमित होते रहे।

दोस्तों, हमने इस पोस्ट के जरिए ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन को लेकर आपके मस्तिष्क में उठने वाली जिज्ञासाओं को शांत करने की कोशिश की एवं आपको बताया कि अभी आपके पास ई-श्रम पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराने का भरपूर मौका है। आप जल्द से जल्द केंद्र सरकार के श्रम मंत्रालय की ओर से उपलब्ध कराई गई ई-श्रम कार्ड योजना का लाभ उठाएं एवं स्वयं को भविष्य की परेशानियों से बचाएं। ।।धन्यवाद।।

—————————————–

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment

उपभोक्ता फोरम में शिकायत कैसे दर्ज़ करे? प्रापर्टी ट्रांसफर कैसे करें? स्माम किसान योजना ऑनलाइन आवेदन, आवश्यक दस्तावेज, लाभ गर्भावस्था सहायता योजना एप्लीकेशन फॉर्म प्रधानमंत्री बालिका अनुदान योजना आवेदन, दस्तावेज, पात्रता, उद्देश्य