ई चालान स्टेटस कैसे चेक करें? Pay Challan Online (echallan.parivahan.gov.in)

E-Challan Status & Online Payment Check | Traffic Police e Challan Status Online | ई चालान स्टेटस चेक | ई चालान ऑनलाइन स्थिति और भुगतान करें | ई चालान स्टेटस कैसे चेक करें? ऑनलाइन चालान पेमेंट चेक | ई-चालान यूपी, दिल्ली, उत्तराखंड, राजस्थान, बिहार ऑनलाइन चेक|

देश में यातायात (traffic) से जुड़े नियम इतने सख्त हैं कि इनका उल्लंघन करना आपको भारी पड़ सकता है। ट्रैफिक पुलिस आपका चालान काट देती है। और अब तो ट्रैफिक सिग्नल पर लगे कैमरों के द्वारा गाड़ी का चालान ऑनलाइन काट दिया जाता है। अलबत्ता, कई बार हमें पता नहीं होता है कि हमारा चालान कटा भी है या नहीं? या फिर कहीं गलत चालान तो नहीं कट गया है?

परिवहन मंत्रालय के पोर्टल की वेबसाइट echallan.parivahan.gov.in के जरिए इसका पता अब आसानी से लगाया जा सकता है। साथ ही गाड़ी का चालान online भी भुगतान किया जा सकता है। आज इस पोस्ट के जरिए हम आपको अपने E-Challan स्टेटस का पता लगाने और इसके online payment के बारे में जानकारी देंगे। आइए, शुरू करते हैं-

E-Challan Status Online Details –

जानकारी ई चालान ऑनलाइन स्थिति, E-Challan Status Online Payment
लॉन्च किया गयाभारत सरकार द्वारा
पोर्टल का नामई चालान डिजिटल ट्रैफिक / परिवहन प्रवर्तन समाधान
आधिकारिक वेबसाइटhttps://echallan.parivahan.gov.in
ट्रैफिक नियम 2021मोटर वाहन (संशोधन) अधिनियम, 2021 एंव जुर्मानें की नयी दरें
ई चालान स्टेटस कैसे चेक करें? Pay Challan Online (echallan.parivahan.gov.in)

ई चालान स्टेटस कैसे पता लगाएं? [How to Check E-Challan Status?]

ई चालान स्टेटस पता लगाने की एक बेहद आसान सी प्रक्रिया है। इसके लिए आपको कुछ steps follow करने होंगे, जो कि इस प्रकार से हैं-

Total Time: 15 minutes

परिवहन विभाग की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं –

सबसे पहले echallan.parivahan.gov.in वेबसाइट पर जाएं। जैसे ही आप वेबसाइट पर जाएंगे वेबसाइट के होम पेज पर आपको कई सारे ऑप्शन दिखाई देंगे। आपको वेबसाइट पर मौजूद Check Challan Status ऑप्शन पर क्लिक करना है।

गाड़ी का चालान चेक करने का तरीका सेलेक्ट करें –

परिवहन विभाग की वेबसाइट पर ऑनलाइन चालान चेक करने के लिए आपके पास 3 तरीके उपलब्ध है। आप चालान नंबर, वाहन (vehicle) नंबर और ड्राइविंग लाइसेंस (DL) से अपना चालान चेक कर सकते हैं। आपको किस तरह से चालान चेक करना है यहां आपको सेलेक्ट करना होगा।

व्हीकल डिटेल्स भरें –

यहां आपको वाहन नंबर (vehicle number) वाले option पर click करना होगा। इसके बाद आपको अपने वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर (registration number) दर्ज करना होगा। इसके पश्चात आपको कैप्चा कोड (captcha code) भरना होगा। साथ ही आपको अपनी गाड़ी के चेचिस नंबर अथवा इंजन नंबर के लास्ट 5 डिजिट भी भरने होंगे। चेचिस नंबर और इंजन नंबर के लास्ट 5 डिजिट भरने की प्रक्रिया इसलिए जोड़ी गई है ताकि कोई अन्य व्यक्ति किसी वाहन मालिक की निजी जानकारी चेक ना कर सके।
ऑनलाइन चालान कटा है या नहीं कैसे पता करें? How to check E Challan Status online?

गेट डीटेल्स ऑप्शन पर क्लिक करें –

गाड़ी से जुड़ी सारी जानकारी भरने के पश्चात आपको Get Details का option आ जाएगा। आपको इस option पर click करना होगा।ऑनलाइन चालान कटा है या नहीं कैसे पता करें? How to check E Challan Status online?

अपना चालान चेक करें –

अब आपके सामने आपके चालान से जुड़ी सारी जानकारी आ जाएगी। आप जान जाएंगे कि आपका चालान हुआ है या नहीं। यहां पर आपको कितने रुपए का चालान कटा हुआ है, साथ ही डेट टाइम और किस कारण चालान कटा हुआ है उसकी एक फोटो भी आपको दिखाई जाएगी।ऑनलाइन चालान कटा है या नहीं कैसे पता करें? How to check E Challan Status online?

चालान का भुगतान करें –

यदि नहीं कटा है तो कोई बात नहीं, लेकिन यदि कटा है तो आपके पास इसे भुगतने के अलावा कोई चारा नहीं है। यह सुविधा जरूर है कि आप अब घर बैठे इसका आनलाइन भुगतान कर सकते हैं। और प्रिंट आप्शन पर क्लीक करके आप अपना चालान प्रिंट कर सकतें हैं या डिटेल्स में चालान का विवरण देख सकतें हैं।ऑनलाइन चालान कटा है या नहीं कैसे पता करें? How to check E Challan Status online?

E-Challan भुगतान ऑनलाइन कैसे करें? [How to Make E-Challan Payment Online?]

दोस्तों, आप जानते ही हैं कि परिवहन मंत्रालय ने घर बैठे ऑनलाइन गाड़ी का चालान जमा करने की सुविधा दी है। आप भी इसकी वेबसाइट के जरिए E-Challan का payment कर सकते हैं। इसकी प्रक्रिया इस प्रकार से है-

  • सबसे पहले echallan.parivahan.gov.in वेबसाइट पर जाएं। इसके पश्चात वेबसाइट पर मौजूद Check Challan Status के option पर click करें। जैसे की प्रक्रिया ऊपर आपको बताई गई है।
  • इतना करने के बाद आपको स्क्रीन पर चालान नंबर, वाहन (vehicle) नंबर और ड्राइविंग लाइसेंस (DL) नंबर के options दिखाई देगें। यहां आपको वाहन नंबर (vehicle number) वाले option पर click करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपने वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर (registration number) दर्ज करना होगा। इसके पश्चात आपको कैप्चा कोड (captcha code) भरना होगा.
  • अब इतना करने के बाद आपके सामने Get Details का option आ जाएगा। आपको इस option पर click करना होगा।
ऑनलाइन चालान कटा है या नहीं कैसे पता करें? How to check E Challan Status online?
  • आपके सामने आपके चालान से जुड़ी सारी जानकारी आ जाएगी। अब आप चालान के आगे दिए गए Pay Now के ऑप्शन पर क्लिक करें। इसके बाद आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर एक OTP आएगा।
  • इसे भरने के बाद आपके राज्य की ई-चालान पेमेंट वेबसाइट स्क्रीन पर खुल जाएगी। इसके बाद आपको Next के option पर click करना होगा।
  • इतना करने के बाद आपके पेज पर पेमेंट कंफर्मेशन (payment confirmation) का पेज खुल जाएगा। इसके पश्चात आपको Proceed के option पर click करना होगा।
  • अब आप डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड/इंटरनेट बैंकिंग के जरिए पेमेंट कर सकते हैं।

गलत चालान की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? [How to complain against wrong challan online?]

यदि आपका गलत चालान कट गया है। और आप इसकी शिकायत करना चाहते हैं, तो इसके लिए परिवहन विभाग ने ऑनलाइन व्यवस्था की है। आप परिवहन विभाग के ऑफिशल पोर्टल पर ऑनलाइन कंप्लेंट कर सकते हैं। ऑनलाइन शिकायत दर्ज कराने के लिए आप नीचे बताया जा रहे हैं आसान से स्टेप्स को फॉलो कर सकते हैं –

  • गलत चालान या अन्य किसी शिकायत मामले में शिकायत दर्ज कराने के लिए सबसे पहले आपको परिवहन विभाग की ऑफिशल वेबसाइट https://echallan.parivahan.gov.in/gsticket/ पर जाना होगा। आप चाहे तो यहां क्लिक करके डायरेक्ट भी ऑफिशियल वेबसाइट हो जा सकते हैं।
  • ऑफिशियल वेबसाइट पर पहुंचने के पश्चात आपको ऊपर मेनू में कंप्लेंट ऑप्शन दिखाई देगा आपको इस अवसर पर क्लिक करना होगा।
गलत चालान की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? [How to complain against wrong challan online?]
  • कंप्लेंट ऑप्शन पर क्लिक करने के पश्चात आपके सामने एक फॉर्म ओपन होकर आएगा। इस फार्म के जरिए आपको अपनी शिकायत दर्ज करानी है।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे – नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, चालान नंबर, गाड़ी नंबर, राज्य, जिला, और किस शहर में चालान काटा है। इसके साथ ही आगे आपको चालान में क्या दिक्कत है, वह भी सेलेक्ट करना है। आप dropdown-menu में से कोई एक ऑप्शन जैसे – Payment issue [भुगतान मुद्दा], Wrong challan [गलत चालान], Wrong image [गलत इमेज], Offence not showing [अपराध नहीं दिख रहा], Document impound [दस्तावेज़ जब्त], Challan already pay but pending in vahan service [चालान पहले ही भुगतान हो चुका है लेकिन वाहन सेवा में लंबित है], Others [अन्य समस्या]
गलत चालान की ऑनलाइन शिकायत कैसे करें? [How to complain against wrong challan online?]
  • इसके साथ ही आप नीचे दिए गए Describe Your Issue बॉक्स में अपनी समस्या 500 शब्दों में लिख सकते हैं। और साथ ही नीचे आप जरूरी दस्तावेज भी अपलोड कर सकते हैं।
  • सारी जानकारी भरने एवं दस्तावेज अपलोड करने के पश्चात आपको नीचे दिखाई दे रहे कैप्चा कोड को दिए गए बॉक्स में भरकर सबमिट बटन पर क्लिक करना है। जैसे ही आप उस सबमिट बटन पर क्लिक करेंगे। आपकी शिकायत दर्ज हो जाएगी।
  • शिकायत दर्ज होने के बाद आपकी स्क्रीन पर एक रजिस्टर्ड कंप्लेंट नंबर भी दिखाई देगा। इसे आप लोग अपने पास कहीं सुरक्षित लिखकर रख लीजिए। यह कंप्लेंट नंबर आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर भी भेज दिया जाएगा। ताकि भविष्य में आप अपने की गई शिकायत की स्थिति को इस कंप्लेंट नंबर के द्वारा चेक कर सकें।
  • आपकी वाहन चालान संबंधित शिकायत पर विभाग द्वारा 7 दिनों के अंदर जवाब प्रस्तुत किया जाएगा। यदि आपका चालान गलत कट गया है, तो आपका चालान रद्द कर दिया जाएगा। साथ ही यदि चालान सही है तो आपको इसकी जानकारी भी प्रदान की जाएगी।

नोट – यदि आप ऑनलाइन की गई शिकायत में जो भी निस्तारण हुआ है उससे आप संतुष्ट नहीं हैं तो आप हो चालान संबंधित व मुद्दों को कोर्ट तक ले जा सकते हैं

केंद्र सरकार के ई-चालान सिस्टम के लाभ [Benefits of Central Government’s E-Challan System] –

साथियों, केंद्र सरकार ने जो E challan system लागू किया है, उसके कई लाभ हैं। इनमें से कुछ इस प्रकार से हैं-

  • user के लिए आसान। उसे ज्यादा किसी औपचारिकता का सामना नहीं करना पड़ता।
  • इस सिस्टम से समय की बचत होती है, क्योंकि offline सिस्टम की तरह वाहन स्वामी को थाने के चक्कर नहीं काटने पड़ते।
  • वाहन स्वामी के पास उसके चालान भुगतान का प्रमाण होता है।
  • लोग अपनी सुविधा के अनुसार भुगतान कर सकते हैं।

वाहन चालान क्यों काटा जाता है? [Why vehicle challan is deducted?]

दोस्तों, आपको बता दें कि ट्रैफिक नियमों को तोड़ने की वजह से चालान काटा जाता है। जैसे रेड लाइट जंप करना, गाड़ी का ओवर लोडेड होना आदि। सीधे सीधे यह स्थितियां चालान काटे जाने की वजह बनती हैं-

  • वाहन चालक के पास लाइसेंस न होना।
  • गाड़ी के कागजात न होना।
  • नो पार्किंग स्पेस में गाड़ी खड़ी करना।
  • रैश और रफ ड्राइविंग।
  • नाबालिग का ड्राइविंग करना।

आपको यह भी बता दें दोस्तों कि ट्रैफिक के अलग-अलग नियमों का उल्लंघन करने पर अलग अलग चालान फीस निर्धारित होती है। जुर्माना राशि अलग अलग प्रदेशों में अलग अलग होती है। यानी आपसे ट्रैफिक के किसी नियम के उल्लंघन पर दिल्ली में कुछ तो चंडीगढ़ में कुछ और जुर्माना राशि वसूली जा सकती है। इस फीस की जानकारी संबंधित राज्य की ट्रैफिक पुलिस की वेबसाइट पर उपलब्ध कराई गई है।

गाड़ी का गलत चालान कटने पर शिकायत कैसे करें? [How to make a complaint for deducting wrong challan?]

मित्रों, यदि आप कार या बाइक पर सफर करते हैं और आपने कोई ट्रैफिक नियम नहीं छोड़ा है, इसके बावजूद आपका गलत चालान कट गया है तो आप ट्रैफिक पुलिस (traffic police) की हेल्पलाइन (helpline) पर contact करके इस बारे में जानकारी दे सकते हैं।

आपको बता दें कि हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज कराने के अलावा आप ई-मेल के माध्यम से भी अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं। ट्रैफिक पुलिस (Traffic Police) इस तरह की शिकायतों की जांच करके गलत कटे चालान को कैंसिल कर देती है। शिकायत करने के लिए हेल्पलाइन लाइन नंबर और ईमेल एड्रेस संबंधित राज्य की ट्रैफिक पुलिस वेबसाइट से लिया जा सकता है।

ई चालान वाहन का गलत चालान कैसे कट जाता है? [How to get wrong vehicle challan deducted?]

साथियों, आपको बता दें कि इन दिनों ओवर स्पीड, रेडलाइट जंप और स्टॉप लाइन से आगे गाड़ी रोकने जैसे ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन (raffic rules violation) पर नजर रखने के लिए दिल्ली समेत तमाम शहरों में जगह-जगह कैमरे लगाए गए हैं। इनके जरिए ई चालान जेनरेट हो जाता है और चालान का मैसेज वाहन स्वामी के रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर चला जाता है।

ऐसी कई शिकायतें आती हैं कि कैमरे कई बार गाड़ी की नंबर प्लेट को ठीक से रीड नहीं कर पाते। इसके चलते गलती करने वाले के बजाय किसी और व्यक्ति का चालान कट जाता है। ऐसा कई बार लोगों की गाड़ी की नंबरप्लेट पर नंबर सही तरीके से न लिखें होने या फिर नंबरप्लेट पर मिट्टी या धूल लगी होने से गाड़ी के नंबर साफ नजर न आने की वजह से होता है।

ट्रैफिक पुलिस चलाती है विशेष अभियान

साथियों, आपको बता दें कि विभिन्न राज्यों की यातायात यानी ट्रैफिक पुलिस जनता को यातायात नियमों के प्रति जागरूक करने के लिए विशेष अभियान चलाती है। इसके साथ ही वाहन दौड़ा रहे नाबालिगों की धरपकड़ के लिए भी उनकी ओर से विशेष अभियान चलाए जाते हैं और चालान काटे जाते हैं। वे स्कूलों की पार्किंग पर भी छापा मारते हैं। नाबालिग के गाड़ी चलाते पकड़े जाने पर उनके अभिभावकों पर कार्रवाई की जाती है।

न्यू मोटर व्हीकल एक्ट 2021 में ट्रैफिक नियम उल्लंघन पर जुर्माने/चालान की राशि

साथियों, आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने न्यू मोटर व्हीकल एक्ट 2021 (new motor vehicle act 2021) लागू किया है। इसमें ट्रैफिक नियमों (traffic laws) के उल्लंघन पर जुर्माना/चालान को बढ़ा दिया गया हैं| पहले सामान्य जुर्माना सिर्फ सौ रुपए था, जिसे बढ़ाकर पांच सौ रुपए कर दिया गया है।

इसकी सबसे खास बात यह है कि अब आपको भौतिक दस्तावेजों को हर जगह ले जाने की जरूरत नहीं है| आप अपने सभी दस्तावेज तथा ड्राइविंग लाइसेंस की सॉफ्ट कॉपी अपने पास रख सकते हैं। यह फैसला डिजिटलीकरण (digitalization) को बढ़ावा देने के लिए किया गया है। इसके अंतर्गत इस तरह रहेगी व्यवस्था-

न्यू मोटर व्हीकल एक्ट 2021 जुर्माना राशी

  • सड़क पर तेज रफ्तार से गाड़ी चलाने पर 1,000 से 2,000 रुपये का जुर्माना।
  • नाबालिग के गाड़ी चलाते हुए पकड़े जाने पर 25 हज़ार रूपये तक का जुर्माना होगा, गाड़ी का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया जायेगा और नाबालिग का ड्राइविंग लाइसेंस 25 की उम्र तक नहीं बन पायेगा।
  • अथॉरिटी के आदेश की अवहेलना पर पांच सौ की जगह दो हजार जुर्माना।
  • बगैर लाइसेंस गाड़ी चलाने पर पांच सौ की जगह पांच हजार जुर्माना।
  • ओवर साइज वाहन पर पांच हजार जुर्माना।
  • ओवर स्पीडिंग पर चार सौ की जगह एक हजार।
  • खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाने पर पांच हजार जुर्माना।
  • शराब पीकर गाड़ी चलाने पर दो हजार के स्थान पर अब दस हजार का जुर्माना।
  • ओवर लोडिंग पर दस हजार तक जुर्माना।
  • सीट बेल्ट पर सौ के स्थान पर एक हजार का दंड।
  • बिना परमिट गाड़ी चलाने पर पांच हजार की जगह दस हजार जुर्माना।
  • दोपहिया वाहन पर ओवर लोडिंग में सौ रुपए की जगह दो हज़ार रूपए का जुर्माना और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द होगा।
  • हेलमेट न पहनने पर सौ रुपए की जगह एक हजार रूपए देने होंगे और और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द रहेगा।
  • इमरजेंसी वाहन को रास्ता न देने पर दस हजार तक जुर्माना।
  • बिना इंशोरेंस के गाड़ी चलाने पर 1000 के स्थान पर 2000 रूपए जुर्माना।

कई शहर ट्रैफिक नियमों के सख्ती से पालन के लिए मशहूर

दोस्तों, कुछ शहर ऐसे हैं जो ट्रैफिक नियमों के सख्ती से पालन के लिए मशहूर हैं, जैसे चंडीगढ़। इस शहर में एंट्री लेने से पहले ही सारे वाहन चालक अपनी सीट बेल्ट दुरुस्त कर लेते हैं। चेक कर लेते हैं कि उनके पास उनके ड्राइविंग लाइसेंस या गाड़ी के अन्य कागजात की soft copy है या नहीं। उनकी गाड़ी की speed भी चालान और दूसरी सख्त कार्रवाई के डर से एकदम कंट्रोल में आ जाती है।

मोटरसाइकिल पर कितना जुर्माना है?

नई मोटर व्हीकल एक्ट 2021 के अनुसार मोटरसाइकिल अथवा टू व्हीलर द्वारा ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर जुर्माने की राशि में बढ़ोतरी की गई है। बढ़ोतरी, पहले के जुर्माने की राशि के तुलना में चार पांच गुणा तक हो चुकी है। जिसकी जानकारी आप नीचे दी गई टेबल के अनुसार समझ सकते हैं –

अपराध [Crime] पहले चालान या जुर्मानाअब चालान या जुर्माना
सामान्य [Regular] (177)100 रूपये500 रूपये
रेड लाइट जंप [Violation of red regulation rule] (177A)100 रूपये500 रूपये
अथॉरिटी के आदेश की अवहेलना [Disobeying authority orders] (179)500 रूपये2000रूपये
अनाधिकृत गाड़ी बिना लाइसेसं चलाना [Driving an unauthorized vehicle without a license] (180)1000रूपये5000 रूपये
अयोग्यता के बावजूद ड्राइविंग [Driving despite disqualification] (182)500 रूपये10000 रूपये
बिना लाइसेंस गाड़ी चलाना [Driving without a license] (181)500रूपये5000 रूपये
ओवर साइज वाहन [Over size vehicle] (182B) 5000 रूपये
ओवर स्पीडिंग [Over speeding] (183)    400 रूपये1000 रूपये
खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाना [Dangerous driving] (184)1000 रूपये5000 रूपये
शराब पीकर गाड़ी चलाना [Drink driving] (185)2000रूपये10000 रूपये
रेसिंग और तेज़ गति से गाड़ी चलाना [Racing & Speeding] (189)500 रूपये5000 रूपये
ओवर लोडिंग [Overloading] (194)2  हज़ार रूपये और 10000 रूपये प्रति टन अतिरिक्त20 हज़ार रूपये और 2 हज़ार रूपये प्रति टन
बिना पर्मिट के गाड़ी चलाना [Driving without a permit] (192A)5 हज़ार रूपये तक10 हज़ार रूपये तक
लाइसेंस नियम का उल्लंघन [License rule violation] (193)कुछ भी नहीं25 हज़ार रूपये से 1 लाख रूपये तक
दोपहिया वाहन पर ओवर लोडिंग [Overloading on two wheeler] 100 रूपये2 हज़ार रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द
बिना हेलमेट [Without helmet] 100 रूपये1000 रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस  रद्द
एमरजेंसी वाहन को रास्ता न देने पर [For not giving way to an emergency vehicle] (194E)कुछ भी नहीं     10000 रूपये
बिना इंशोरेंस के गाड़ी चलाने पर [Driving without insurance] (196)1000 रूपये2000 रूपये

ई चालान स्टेटस से जुड़े कुछ सवाल

ई चालान भुगतने की आनलाइन व्यवस्था केंद्र के किस मंत्रालय ने की है?

यहां व्यवस्था परिवहन मंत्रालय की ओर से की गई है?

हेलमेट का चालान कितने का है 2021?

बिना हेलमेट टू व्हीलर ड्राइविंग करने पर पहले ₹500 का चालान करता था। लेकिन नए ट्रैफिक नियम लागू होने के बाद अब यदि कोई व्यक्ति बिना हेलमेट टू व्हीलर ड्राइविंग करते हुए पकड़ा जाता है, तो अब ₹2000 का चालान काटा जाएगा।

ई चालान स्टेटस का पता किस पोर्टल के माध्यम से लगाया जा सकता है?

यह जानकारी echallan.parivahan.gov.in के माध्यम से ली जा सकती है।

ई चालान से लोगों को क्या लाभ है?

वाहन स्वामी के समय की बचत होती है। उसके पास आनलाइन चालान भुगतान का प्रूफ रहता है आदि।

क्या ग़लत ई चालान काटे जाने भी संभव हैं?

जी हां, इस तरह की कई शिकायतें ट्रैफिक पुलिस को प्राप्त होती हैं। इस संबंध में पुलिस की हेल्पलाइन पर भी संपर्क कर जानकारी दी जा सकती है।

क्या ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर जुर्माने की राशि में बढ़ोतरी की गई है?

जी हां, न्यू मोटर व्हीकल एक्ट 2021 में विभिन्न ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर जुर्माना राशि में बढ़ोतरी का प्रावधान किया गया है।

दोस्तों, यह थी E Challan Status: Pay Challan Online (echallan.parivahan.gov.in) से जुड़ी जानकारी। यदि आपको इसी तरह की किसी और जनता से जुड़े विषय के बारे में जानकारी चाहिए तो उसके लिए हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके बता सकते हैं। आपकी प्रतिक्रियाओं का हमें इंतजार है। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment