DMCA Kya Hai? DMCA Protection Badge Kaise Add Kare

What is DMCA in Hindi : दोस्‍तों आज में आपको एक ऐसी ऑनलाइन सेवा के बारे में बताने जा रहा हूं। जो दुनिया भर की वेबसाइटस पर मौजूद कंटेंट को Protection प्रदान करती है।

इंटरनेट के जन्‍म के समय से लेकर आज तक लगातार इंटरनेट का विस्‍तार हो रहा है। बिल्‍कुल ब्रंहमांड की तरह। आने वाले समय में इंटरनेट पर और अधिक वेबसाइट आएंगीं और उन पर मौजूद कंटेंट Billion & Billion Gigabytes को भी पार कर जाएगी। ऐसे में आप केवल DMCA Protection की मदत से ही अपना कंटेंट चोरी होने से रोक सकते हैं।

What is DMCA in Hindiआपका कंटेंट Text, Videos, Music अथवा Pictures के रूप में भी हो सकता है। जब आप अपना खुद का तैयार किया हुआ कंटेंट अपनी वेबसाइट पर डालते हैं, यदि कोई बंदा आपके द्धारा तैयार किये गये Original Content को Copy करके अपनी Website पर डाल देता है।

तो आपके पास उस बंदे से 2-2 हाथ करने के अलावा कोई और चारा रह नहीं जाता है। अपना कंटेंट वापस मांगनें और हर्जा खर्चा वसूल करने में DMCA हमारी मदत करता है।

What is DMCA Full Form? DMCA Full Form क्‍या है?

DMCA का Full Form है – Digital Millennium Copyright Act है।

Digital Millennium Copyright Act (DMCA) कब और क्‍यों लागू किया गया था?

Digital Millennium Copyright Act (DMCA) कानून अमेरिका में लागू किया गया है। जिसका पालन सभी वैश्विक देशों के निवासियों को करना पड़ता है।

डीएमसीए कानून को सन 1998 में अमेरिका के भूतपूर्व राष्‍ट्रपति बिल क्लिंटन (Bill Clinton) के कार्यकाल में लागू किया गया था।

DMCA दुनिया का एक मात्र ऐसा कानून है, जो Copyright पर वैश्विक रूप से लगाम लगाने में सक्षम है।

DMCA से Protection कैसे मिलती है?

डीएमसीए के तहत दुनिया भर के वेबसाइट संचालको को सुरक्षा प्रदान की जा रही है। यह सुरक्षा dmca.com के द्धारा प्रदान की जाती है।

डीएमसीए की आधिकारिक वेबसाइट को आप तीसरी आंख भी कह सकते हैं। इस वेबसाइट पर लाखों की संख्‍या मे नई तथा पुरानी वेबसाइट Add हैं। जिन वेबसाइटस पर डीएमसीए लोगो लगा होता है। उस वेबसाइट को DMCA के ‘द्धारा स्‍कैन किया जाता है।

जिससे पता चलता है, कि अमुक वेबसाइट का कंटेंट दुनिया के किस किस हिस्‍से में तथा कौन कौन सी वेबसाइटस पर कॉपी करके पब्लिश किया गया है।

यदि किसी ब्‍लॉगर को लगता है, कि उसे कोई देख नहीं रहा है, तो वह भारी भूल कर रहा है। डीएमसीए की नजर दुनिया की लगभग हर वेबसाइट पर है।

ऐसे में यदि आप किसी का कंटेंट चोरी करके डालते हैं। तो आपको भंयकर मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। इसलिये वेबसाइट संचालकों को चाहिए कि वह अपना काम करते समय थोड़ी सावधानी बरतें और अपना काम मेहनत व ईमानदारी से करें।

Also Read :

डीएमसीए कानून की जद में आने वाले व्‍यक्ति पर कौन से कठोर कदम उठाये जाते हैं?

यदि कोई व्‍यक्ति अपनी वेबसाइट पर किसी और का कंटेंट पब्लिश कर रहा है। तो यह देखा जाता है, कि उसने किस हद तक और कितना Content कॉपी/चोरी किया है।

यदि किसी ने पूरे का पूरा कंटेंट अपनी वेबसाइट पर डाल रखा है, तो डीएमसीए के द्धारा Take Down Notice जारी किया जा सकता है।

यह नोटिस सीधे गूगल जैसी तमाम एजेंसियों को सीधे भेजा जाता है। जिसके बाद गूगल, बिंग जैसे सर्च इंजिन उस वेबसाइट के ऊपर सख्‍त कार्रवाही कर सकते हैं।

ऐसे में यदि आप किसी का कंटेंट कॉपी करके अपनी वेबसाइट पर डाल रहे हैं, तो आपको उस वेबसाइट तथा उसके लेखक को पूरा Credit विधिवत रूप से देना होगा।

यदि आपने ऐसा नहीं किया तो DMCA Take Down Notice जारी होने के बाद आपको अमेरिकी कानून के तहत कार्रवाही का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही बड़ा जुर्माना भी देना पड़ सकता है। फिर चाहे आप भारत के रहने वाले हों, पाकिस्‍तान के अथवा भूटान के। यदि आप ऐसा सोचते हैं कि अमेरिकी कानून आप पर लागू नहीं होगा, तो आप भंयकर भूल कर रहे हैं।

DMCA के कार्यक्षेत्र में कौन कौन सी चीजे आती हैं?

डीएमसीए दुनिया भर की Digital Media को Regulate तथा Deal करने वाली वैधानिक ऐजेंसी है। Digital World में जितनी भी Copy Right से संबंधित चुनौतियां हैं। वह सब डीएमसीए के कार्यक्षेत्र में आती हैं।

DMCA के कार्यक्षेत्र में Copyright Infringement Issues आते हैं, इन सभी मामलों में डीएमसीए यूजर्स की मदत करती है तथा कॉपीराइट उल्‍लंघन मामले में Penalties भी लगाती है।

डीएमसीए का मुख्‍य काम Original Content को चोरी होने से रोकना तथा चोरी करने वाले पर अर्थदंड लगाना है।

डीएमसीए का इतिहास | डीएमसीए की शुरूआत कैसे हुई?

अमेरिका में Digital Millennium Copyright Act लागू होने के बाद जिस प्रकार डीएमसीए नामक ऐजेंसी अस्तित्‍व में आई, उसके पीछे कुछ कारण भी हैं। इसके लिये हमें थोड़ा इतिहास के पन्‍नों के भीतर झांक कर देखना होगा।

इसकी शुरूआत सन 1990 के दशक में Peer to Peer File sharing व अन्‍य के मामलों से हुई है। उस समय बहुत से लोग वेबसाइटस पर मौजूद कई प्रकार की सामग्री को कॉपी करके अपनी साइटस पर इस्‍तेमाल कर लेते थे।

जिसका पुरजोर तरीके से विरोध किया गया। अमेरिका की Recording Industry Association of America (RIAA) ने इस मामले को लेकर अमेरिकी सीनेट में लॉबिंग करना शुरू किया।

जिसकी वजह से Copyright Holders के हकों की आवाज बुलंद हुई। इस विरोध ने इतना जोर पकड़ लिया कि अमेरिकी संसद को Copyright Holders की मांग पर गंभीरता पूर्वक विचार करना पड़ा।

जिसके बाद Third Party वेबसाइट में बिना Permission डाले गये सभी कॉपी किये गये कंटेंट को हटाने का काम शुरू हुआ।

Websites Owners को DMCA Protection की जरूरत क्‍यों पड़ती है?

एक वेबसाइट संचालक को अपने Original Content को सुरक्षित रखने के लिये DMCA की जरूरत पड़ती है।

जिस वेबसाइट पर DMCA LOGO / DMCA Badge लगा होता है, वह दूसरे के लिये एक इशारा होता है, कि कोई उसके कंटेंट को कॉपी करने की भूल न करे।

कंटेंट चोरी करने वाले DMCA Badge लगा देख कर कंटेंट चोरी करने से बचते हैं। क्‍योंकि वह जानते हैं, कि उन्‍होंनें आपका आर्टिकल चोरी किया तो उन्‍हें गंभीर नतीजे भुगतने पड़ सकते हैं।

डीएमसीए प्रोटक्‍शन लेने वाला कोई भी बंदा Takedown Notice जारी करवा कर अपना कंटेंट वापस पा सकता है और अर्थदंड भी वसूल कर सकता है।

डीएमसीए के उपयोग से आप अपनी वेबसाइट के सभी Pages को Monitor कर सकते हैं और उन्‍हें Secure भी रख सकते हैं।

इस सुरक्षा का इस्‍तेमाल करने वाले व्‍यक्ति की वेबसाइट से यदि कोई कंटेंट करके कॉपी करके डाला जाता है, तो Proper Credit देना तथा उसका लिंक प्रोवाइड करना अनिवार्य होता है। यदि आप क्रेडिट देकर उसकी साइट का लिंक भी उपलब्‍ध कराते हैं, तो कंटेंट का गलत इस्‍तेमाल करने वाले के ऊपर गाज गिरने से बच सकती है।

डीएमसीए Logo / Badge क्‍या होता है?

What is DMCA Logo? What is DMCA Badge? दोस्‍तों जब आप डीएमसीए की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर Signup करते हैं। तो आपको इस ऐजेंसी के द्धारा 1 Badge दिया जाता है।

Choose a Badge

जो एक HTML Code के रूप में होता है। इसे आप अपनी वेबसाइट पर डाल कर लोगों को Badge के रूप में दिखा सकते हैं।

डीएमसीए पर अकाउंट कैसे बनायें?

DMCA Protection पाने के लिये आपको dmca.com पर जाकर अपना Account बनाना होगा। आप नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करके भी अपना अकाउंट बना सकते हैं।

Step two for dmca Setup

आज जैसे ही ऊपर दिये गये गये लिंक पर क्लिक करते हैं, तो आप DMCA की वेबसाइट के होम पेज पर पहुंच जाते हैं।

यहां आपको Signup का Option दिखाई देगा। आप इस पर क्लिक करें और फिर अपनी Email ID डाल कर साइन अप कर लें।

इसके तुरंत बाद आप अपने Account में लॉगिन करने में सक्षम हो जाएंगें।

DMCA Protection Badge Kaise Add Kare

जब आप डीएमसीए में साइन अप प्रोसेस के लिये जाते हैं, तो आपके सामने साइन अप करने के लिये 2 Option होते हैं।

1 – Select a Badge

2 – No Badge Protection

आप Select a Badge का चुनाव करें और फिर सामने दिखाई पड़ रहे बॉक्‍स में अपना नाम तथा ईमेल आईडी डाल कर साइन अप कर लें।

इतना करने के बाद आपको अगले पेज में एक HTML Code दिखाई देगा। आप अपने मनपसंद Badge का चुनाव करके यहां कोड हासिल कर सकते हैं।

Final Step

इसके बाद आपको इस कोड को Copy करना है और फिर अपनी वेबसाइट के Wedget एरिया में जाकर पेस्‍ट कर देना है।

अब आप अपने Wedget एरिया में डाले गये कोड को Done करें। इसके साथ ही आपका Badge पब्लिश हो चुका है। इस तरह आपका DMCA Protection Badge Add हो जाएगा।

यदि आपका कोड अभी भी लोगों को दिखाई नहीं दे रहा है तो आप अपनी वेबसाइट की Cache Delete कर दें। जिससे यह सबको तुरंत दिखाई पड़ने लगेगा।

What is DMCA Notice? डीएमसीए नोटिस क्‍या है हिंदी में

जब कोई व्‍यक्ति कंटेंट चोरी करने वाले व्‍यक्ति की Complaint करता है। तो डीएमसीए के द्धारा साइट ऑनर तथा गूगल, बिंग आदि को नोटिस जारी किये जाते हैं।

कार्रवाही के लिये जारी किये जाने वाले इसी नोटिस को DMCA Notice कहते हैं। इस नोटिस की बहुत वैल्‍यू होती है। इसके जरिये वेबसाइट बैन भी की जा सकती हैं। गूगल द्धारा दिये जा रहे विज्ञापनों को भी वापस लिया जा सकता है।

What is Takedown Notice Procedure?

यदि आप डीएमसीए की सुरक्षा लिये हुये हैं, तो आप कॉपी करने वाले किसी भी व्‍यक्ति को Takedown Notice दे सकते हैं।

Takedown Notice Procedure यह है, कि आप सबसे पहले डीएमसीए में अपनी वेबसाइट का यूआरएल Add करें और फिर उसे स्‍कैन करवायें।

यदि स्‍कैन करने के दौरान कोई पेज कॉपी पाया जाता है, तो DMCA की वेबसाइट पर Takedown Notice जारी करने का एक विकल्‍प मौजूद होता है। आप इसके जरिये अपना Takedown Notice जारी करवा सकते हैं।

क्‍या डीएमसीए Free Services प्रदान करती है?

जी हां दोस्‍तों, DMCA दुनिया भर के वेबसाइट संचालकों को फ्री सेवा प्रदान करती है। लेकिन फ्री सेवा के तहत कुछ सीमित सुविधायें प्रदान की जाती हैं। यदि आप अपने लिये अधिक सुविधायें इस वेबसाइट से पाना चाहते हैं, तो आप इसका Paid वर्जन इस्‍तेमाल कर सकते हैं।

डीएमसीए सेवाओं के 2 प्रकार –

  • 1 – DMCA Free Plan
  • 2- DMCA Paid Plan

इन दोनों ही प्‍लान से आपको DMCA Protection मिलती है। यह आपके ऊपर है कि आप इसकी Free Service इस्‍तेमाल करना चाहते हैं अथवा Paid Plan को अपनी वेबसाइट के लिये इस्‍तेमाल करना चाहते हैं।

DMCA Certificate कब मिलता है?

  • जब आप अपनी वेबसाइट पर डीएमसीए की वेबसाइट पर साइन अप करके Badge हासिल कर लेते हैं और उसे अपनी साइट पर Add कर देते हैं। तब कुछ दिनों के बाद डीएमसीए के द्धारा आपको एक प्रमाण पत्र दिया जाता है।
  • इस प्रमाण पत्र को ही DMCA Certificate कहा जाता है। जिस साइट के लिये यह प्रमाण पत्र जारी होता है। उसके पूरे पेज जैसे Page Title, URL आदि की पूरी जानकारी इस सार्टिफिकेट में दर्ज होती है।
  • इस प्रमाण पत्र के जरिये किसी भी Original Content की पहचान करना बहुत आसान होता है। इस प्रमाण पत्र को पाने वाला कोई भी बंदा अपनी वेबसाइट को Live Monitor कर सकता है।
  • इसी सार्टिफिकेट के जरिये आप कंटेंट कॉपी करने वाले व्‍यक्ति को संदेश भेज पाने में सक्षम होते हैं कि वह आपका कंटेंट कॉपी न करे और जो कंटेंट उसके द्धारा कॉपी किया गया है, उसे तुरंत डिलीट कर दे।
  • यदि इसके बाद भी कंटेंट चोरी करने वाला व्‍यक्ति आपकी बात अनसुनी कर रहा है, तो उस पर कानूनी कार्रवाही का रास्‍ता भी खुल जाता है।

डीएमसीए के फायदे क्‍या हैं? DMCA Badge Benefits

डीएमसीए के द्धारा आप कंटेंट चोरी करने वाले व्‍यक्ति को Alert मैसेज भेजा जा सकता है। ताकि वह खतरे को भांप कर अनुचित कार्य करने से बच सके।

डीएमसीए की एक और बड़ी खासियत है। वह यह कि आप अपनी वेबसाइट में जो Free Images इस्‍तेमाल करते हैं आप उन पर Image Watermark लगा सकते हैं।

डीएमसीए का Logo/Badge यदि आपकी वेबसाइट पर है, तो इससे साफ पता चलता है कि आप एक प्रोफेशनल ब्‍लॉगर हैं। इससे आपकी वेबसाइट को बहुत फायदा होता है।

Blogger Par DMCA Protection Badge Kaise Add Kare

यदि आपकी वेबसाइट Blogger पर है तो आप नीचे दिये कुछ Steps Follow करके इसे अपनी साइट में Add कर सकते हैं।

  • 1 – सबसे पहले आप ब्‍लॉगर के डैशबोर्ड में मौजूद Layout सेक्‍शन में जायें।
  • 2 – अब आप अपनी वेबसाइट के जिस हिस्‍से में DMCA LOGO दिखाना चाहते हैं। उस हिस्‍से में Add A Gadget पर क्लिक करें।
  • 3 – इसके बाद आपको HTML/JAVA SCRIPT पर क्लिक करना है। तथा आपने जिस कोड को डीएमसीए की वेबसाइट से कॉपी किया है, उसे दूसरी विंडों खोल कर पेस्‍ट कर दें।
  • 4 – इस प्रकार आपकी वेबसाइट डीएमसीए की निगरानी में आ जाएगी और आप अपना काम निश्चिंत होकर कर पायेंगें।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट DMCA Kya Hai in HindiWhat is DMCA Protection in Hindi, यदि आप DMCA Benefits तथा इसे Use करने से संबंधित और अधिक जानकारी पाना चाहते हैं, तो आप हमसे कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

Leave a Comment