न्यू छत्तीसगढ़ राशन कार्ड अप्लाई ऑनलाइन | CG Ration Card Form 2020 PDF फॉर्म डाउनलोड

Chhattisgarh (CG)  Ration Card 2020 Navinikaran Form pdf Download || न्यू छत्तीसगढ़ राशन कार्ड ऑनलाइन अप्लाई | छत्तीसगढ़ (CG) राशन कार्ड नवीनीकरण पीडीएफ फॉर्म | CG Ration/Rashan Card Application Form

किसी भी देश  की सरकार का कर्तव्य वहां के लोगों का ध्यान रखकर आगे बढ़ना है। जितना बड़ा देश होगा लोगों के लिए उतनी ही ज्यादा समस्याएं उत्पन्न होती है। एक महत्वपूर्ण समस्या खाद सामग्री की आवश्यकता भी है। हर व्यक्ति अपने हिसाब से खाद्य पदार्थों की आपूर्ति करता है और परिवार का पालन-पोषण करता है।

सरकार द्वारा देश की जनता का वह सहयोग दिया जाता है जिसके कारण खाद्य पदार्थों की आवक बनी रहती है। देश में हर प्रकार के नागरिक होते हैं जिनमें से कुछ गरीब होते हैं ,तो कुछ अमीर। सरकार द्वारा गरीब परिवारों की सहायता हेतु राशन कार्ड की सेवा प्रदान की जाती है, जो कि उनके लिए बहुत लाभप्रद है। जो लोग बाहर के बाजारों से अपने खाद्य पदार्थों की पूर्ति नहीं कर पाते उनके लिए राशन कार्ड का महत्व बढ़ जाता है।

राशन कार्ड क्या होता है? What is a Ration Card?

ऐसे परिवार जो अपने खाद्य पदार्थों की पूर्ति नहीं कर पाते उसके लिए सरकार द्वारा सस्ती दर पर राशन उपलब्ध करवाया जाता है। वास्तव में राशन कार्ड गरीब परिवारों का पहचान उपलब्ध कराने के सबूत और सरकार डेटाबेस के साथ एक कनेक्शन के लिए महत्वपूर्ण निर्वाह उपकरण है।

छत्तीसगढ़ राशन कार्ड एक महत्वपूर्ण प्रक्रिया है, जिसके माध्यम से आम नागरिक को उचित मूल्य में राशन दुकानों से सामान मिलता  है। यह राज्य सरकार द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अनुसार अपने नागरिकों को जारी किया जाता है।

न्यू छत्तीसगढ़ राशन कार्ड अप्लाई ऑनलाइन | CG Ration Card Form 2020 PDF फॉर्म डाउनलोड

राशन कार्ड का प्रारूप – Ration card format

एक राष्ट्र एक राशन कार्ड के अभियान के तहत पूरे देश में राशन कार्ड का प्रारूप तैयार किया गया है। जिसमें पूरे देश में हर परिवार को एक जैसे राशन कार्ड बनवाने की योजना है। देश के हर राज्य सरकार की जिम्मेदारी है कि हर परिवार को राशन उपलब्ध कराया जाए। हर राज्य के तहत छत्तीसगढ़ में भी नया राशन कार्ड बनाने की योजना का प्रारूप तैयार किया गया है। जिससे राज्य के लाखों लोगों को बड़ा फायदा पहुंच सकता है और वे लोग अपने जीवन को आसान बना सकते हैं।

CG राशन कार्ड प्राप्त करने की प्रक्रिया – Process to get CG Ration Card

छत्तीसगढ़ राज्य में भी राशन कार्ड बनवाने की योजना शुरू हुई है। छत्तीसगढ़ को डिजिटल बनाने के उद्देश्य से घर बैठे ही राशन कार्ड की जानकारी ले सकते हैं। छत्तीसगढ़ राशन कार्ड का उपयोग कम मूल्यों में राशन समान खरीदने में किया जाता है। यह सुविधा अमीर हो या गरीब सभी परिवार के लोगों को मिलती है। छत्तीसगढ़ में तीन प्रकार के राशन कार्ड बनाए जाते हैं।

  1. एपीएल
  2. बीपीएल
  3. अन्त्योदय

छत्तीसगढ़ राशन कार्ड के प्रकार – Types of Chhattisgarh ration card

राज्य में सभी लोगों को खाद्य आपूर्ति होती रहे इस उद्देश्य से छत्तीसगढ़ में हर परिवार का राशन कार्ड बनवाना अनिवार्य किया गया है। प्रभावी कार्यालय के लिए छत्तीसगढ़ सरकार की खाद्य नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण तीन प्रकार के राशन कार्ड वितरित किया जाएगा

  • 1) गरीबी रेखा के ऊपर (एपीएल)
  • 2) गरीबी रेखा के नीचे (बीपीएल)
  • 3) अन्त्योदय कार्ड जो समाज के सबसे गरीब वर्गों को जारी किया जाता है।

इसके अलावा गैर अनुसूचित जाति और गैर अनुसूचित जनजाति के लिए भी छत्तीसगढ़ राशन कार्ड उपलब्ध कराए गए हैं जिसे सरकार के मूल्य में ही खाद्य पदार्थों को खरीदा जा सकता है।

Grey राशन कार्ड –

यह अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति नागरिकों को जारी किए जाते हैं। ये ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों के हो सकते हैं। यह कार्ड आदिम जनजाति समूह के लोगों को भी जारी किया गया है। उनका नाम बीपीएल सूची में शामिल हो सकता है और ऐसे लोग राशन कार्ड का इस्तेमाल कर खाद्य आपूर्ति कर सकते हैं। इससे उनके परिवार को भी पालन पोषण करने में सहायता हो जाती है।

भगवा राशन कार्ड –

छत्तीसगढ़ सरकार की अनूठी योजना है जिसके तहत 10 किलो राशन के साथ राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना के लाभार्थियों तथा राष्ट्रीय सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के लाभार्थियों के लिए है। इस कार्ड के पात्र होने के लिए ब्लू या पीला रंग का अन्नपूर्णा गुलाबी रंग का राशन कार्ड नहीं होना चाहिए। यह कार्ड उनके लिए फायदेमंद है, जो सरकार से पेंशन लेते हैं।

CG राशन कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें? How to apply for CG Ration Card offline?

प्रत्येक परिवार को राशन कार्ड की बनवाने की अनिवार्यता कर दी गई है। इसके लिए आवेदक ऑफलाइन के माध्यम से एक नया राशन कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।

न्यू छत्तीसगढ़ राशन कार्ड अप्लाई ऑनलाइन | CG Ration Card Form 2020 PDF फॉर्म डाउनलोड

  •  आवेदन विवरण में उन सभी जानकारी को भरे जिसके लिए कोई भी राशन कार्ड चाहते हैं।
  •  उसके बाद फोटो सहित सभी सदस्यों का विवरण आवश्यक शपथ पत्र दस्तावेज के साथ संलग्न किया जाता है।
  •  उस केंद्र के कार्यालय में जाकर स्वीकृत पर्ची प्राप्त करें राशन कार्ड के लिए शुल्क ₹5 निर्धारित किया गया है।

फॉर्म जमा करने के एक दो महीने के अंदर आपका राशन कार्ड घर आ जाता है या फिर राशन केंद्रक वितरण केंद्र से लिया जा सकता है

छत्तीसगढ़ राशन कार्ड ऑनलाइन राशन कार्ड कैसे बनवाएँ? How to apply for Chhattisgarh Ration Card online?

  • ऑनलाइन राशन कार्ड को अप्लाई करने के लिए सबसे पहले आपको स्टेट फूड सप्लाई की वेबसाइट http://khadya.cg.nic.in/ पर जाना होगा और वहां राशन कार्ड का फॉर्म को सेलेक्ट करना होगा।
  •  उसके बाद फॉर्म में सारे विवरण जैसे सदस्यों की संख्या ,नाम, पता, जिला, पिन नंबर इत्यादि भरनी होगी।
  •  उसके बाद राशन कार्ड का टाइप चुना जाता है जैसे एपीएल ,बीपीएल । जिस श्रेणी में आप आते हो उस श्रेणी को चुनिए।
  •  अगले पेज में अन्य विवरण जैसे आधार कार्ड नंबर, बैंक अकाउंट नंबर ,मोबाइल नंबर इत्यादि भरा जाता है।
  • परिवार के सदस्यों का बायोमेट्रिक स्कैन भी लिया जाता है ताकि परिवार की पहचान हो सके।
  • सभी जानकारी भरने के बाद फॉर्म को सबमिट कर दिया जाता है सबमिट करने के 1 महीने के बाद राशन कार्ड घर पर या राशन कार्ड वितरण केंद्र में आ जाता है।

छत्तीसगढ़ राशन कार्ड के लिए आवश्यक दस्तावेज – Documents required for Chhattisgarh Ration Card

  •  वोटर आईडी कार्ड
  • परिवार के मुखिया के नाम पर बिजली बिल
  •  सार्वजनिक स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किया गया जल  बिल
  • परिवार रजिस्टर में उल्लेखित नाम की प्रति
  • आधार कार्ड की प्रतिलिपि
  •  टेलीफोन बिल की प्रतिलिपि

अपने राशन कार्ड स्थिति कैसे चेक करें? How to check CG Ration Card Status?

कभी-कभी ऐसा होता है कि हमें अपने राशन कार्ड की सही जानकारी प्राप्त नहीं होती है। ऐसे में छत्तीसगढ़ सरकार ने ऐसी योजना बनाई है जिसके माध्यम से छत्तीसगढ़ राशन कार्ड की स्थिति की जानकारी आसानी से प्राप्त हो जाएगी। यह सुविधा अलग-अलग राज्यों के लिए भी मान्य होगी ।  इस मामले में उपभोक्ता मामले सार्वजनिक वितरण उपलब्ध है।

अपने राशन कार्ड के आवेदन की स्थिति जानने के लिए आपको अपने राज्य का चयन करना होगा तथा इनसे संबंधित आवश्यक दस्तावेज की जानकारी भी देनी होगी। उसके बाद आपको अपने राशन कार्ड के आवेदन की स्थिति पता चल जाएगी।

राशन कार्ड क्यों जरूरी होता है? Why is a Ration Card required?

राशन कार्ड बहुत ही जरूरी दस्तावेज होते हैं ,जिनके माध्यम से सिम, प्रॉपर्टी लेते समय सबूत के रूप में उपयोग किया जाता है। यह उन लोगों के लिए खास है ,जो गरीबी रेखा के नीचे आते हैं। गरीब लोगों को राशन कार्ड के माध्यम से कम कीमत में अनाज दिया जाता है। कम कीमत गरीबों के लिए वरदान साबित होता है। कम कीमत में उपलब्ध कराने का उद्देश्य यही है कि देश में कोई भी इंसान भूखा ना रहे। इस कार्ड में आपके पूरे परिवार की जानकारी होती है, जो परिवार और देश की सदस्यता का प्रमाण भी देता है।

Use of Ration Card – राशन कार्ड का उपयोग –

राशन कार्ड राज्य और देश की नागरिकता को साबित करता है राशन कार्ड से  बहुत से उपयोग होते हैं –

  • राशन कार्ड बच्चों के स्कूल में एडमिशन के समय काम आते हैं। राशन कार्ड से काम में आसानी हो जाती है।
  • आप राशन कार्ड गैस कनेक्शन लेने के समय भी काम आते हैं। गैस कनेक्शन मिलने में देर हो रही हो ,तो ऐसी स्थिति में भी राशन कार्ड बहुत उपयोगी हैं।
  •  यह हमेशा एड्रेस प्रूफ के तौर पर भी काम आते हैं।
  • राशन कार्ड का उपयोग पासपोर्ट बनाने में भी किया जाता है और बहुतायत से उपयोग भी  होता  है।
  • राशन कार्ड परिवार के आईडी प्रूफ के रूप में भी काम आता है। जब कभी परिवार को किसी समस्या का सामना करना पड़े उस समय भी राशन कार्ड के माध्यम से परिवार के सदस्यों की पहचान की जा सकती है।
  •  इनका उपयोग ड्राइविंग लाइसेंस बनाने में भी किया जाता है।है।

राशन कार्ड को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार का बड़ा फैसला

छत्तीसगढ़ में राशन कार्ड की हर परिवार को जरूरत है। गरीब वर्ग में आने पर लोगों को कम कीमत में  चावल, गेहूं ,नमक ,तेल ,शक्कर आदि दिया जाता है जिससे उनका पालन पोषण आसानी से हो सके। पिछले वर्ष छत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य के परिवार को राशन कार्ड वितरण का फैसला लिया है। छत्तीसगढ़ सरकार को सामान्य श्रेणी के कार्डों को दो समूहों में बांटा गया है।

जिसमें सामान्य श्रेणी (आयकर दाता) और सामान्य श्रेणी (गैर आयकर दाता) में विभक्त किया गया है । सामान्य श्रेणी वालों को चावल की ₹10 प्रति किलो निर्धारित की गई है । जब तक नए राशन कार्ड नहीं बनते, तब तक पुराने राशन कार्ड से ही सामग्री मिलती रहेगी। परिवार के 2 सदस्य होने पर 20 किलो तथा 3 से 5 सदस्य होने पर 35 किलो चावल दिया जाएगा। इस योजना से लोगों को बहुत फायदा मिल रहा है।

इसके अतिरिक्त गरीब श्रेणी के लोगों को ₹1 प्रति किलोग्राम की दर से 35 किलोग्राम चावल देने की योजना जारी रहेगी। भविष्य में राशन कार्ड धारियों को कृषि ऋण की सुविधा भी उपलब्ध कराने की योजना बनाई जा रही है। यह योजना गरीबों के लिए बहुत ही फायदेमंद है जिसके वजह से उनके बच्चों को खाने की कमी नहीं रहती है।

नागरिकों की जिम्मेदारी

जहां छत्तीसगढ़ सरकार में जनता के हित में यह योजना बनाई है जिसके तहत ज्यादा से ज्यादा लोगों को लाभ पहुंचाया जा सके और खाद्य सामग्री कम से कम दाम में दिलाया जा सके। लोगों को भी सरकार का साथ देने की आवश्यकता है। अभी भी कई ऐसे लोग हैं जिन्होंने छत्तीसगढ़ राशन कार्ड का फायदा नहीं लिया है। वह जल्द से जल्द अपने परिवार के लिए जागरूक होकर कार्य करें। इतने कम दामों में राशन मिलना गरीबों के लिए सराहनीय कदम है। लोगों को अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटना चाहिए और अपने अधिकार प्राप्त करना चाहिए।

जब राशन कार्ड खो जाने पर क्या करें? What to do when the ration card is lost?

राशन कार्ड के गुम होने या फट जाने की स्थिति में डुप्लीकेट राशन कार्ड बनवाने के लिए सुविधा प्राप्त है। इसके लिए आवेदन पत्र के साथ परिवार की 2 फोटो पुराने राशन कार्ड की कॉपी के साथ लगाना होता है। इस फॉर्म को भर कर जमा करने के 7 दिन बाद ही डुप्लीकेट राशन कार्ड बहुत जाता है। यह बहुत ही आसान तरीका है जिसके माध्यम से राशन कार्ड पुनः उसी रूप में प्राप्त किया जा सकता है।

इस प्रकार से छत्तीसगढ़ सरकार ने राशन कार्ड संबंधित प्रक्रिया आसान कर दी है। जिस में ज्यादा समय भी नहीं लगता है। भारत का नागरिक होने के नाते सभी परिवार के लोगों को राशन कार्ड से मिलने वाला लाभ अवश्य लेना चाहिए। सरकार का प्रयास जनता के हित में हैं इसीलिए जनता की भी जिम्मेदारी है कि वह सरकार का साथ दें। जनता को जागरूक होकर अपने अधिकार को समझना होगा और सरकार की बात को सर्वोपरि मानना होगा।

Spread the love

अनुक्रम

Leave a Comment