गलत चालान कट जाए तो क्या करें? How to cancel e-challan

गलत चालान काट दिया जाए तो क्या करें, गलत चालान कट जाए तो क्या करें? E-Challan। How to cancel traffic e-challan। Delhi Traffic Police

इन दिनों लगभग हर किसी व्यक्ति के पास अपना दोपहिया अथवा चौपहिया वाहन है। जिस तेजी से वाहनों की संख्या बढ़ रही है, उसी गति से हादसे भी बढ़ रहे हैं। इसे देखते हुए ट्रैफिक नियमों (traffic rules) को बेहद सख्त कर दिया गया है। ट्रैफिक नियमों का पालन न करने पर होने वाले चालान को भी कई गुना बढ़ा दिया गया है।

ऐसे में यदि आप इन नियमों का पालन नहीं करते तो आपको जुर्माना भरना पड़ेगा। लेकिन दोस्तों, दिक्कत तब होती है, जब आपका गलत चालान कट जाता है। आपको पता नहीं होता कि इसका क्या करना है। आज इस पोस्ट में हम आपको इसी बात की जानकारी देंगे कि यदि आपका गलत चालान काट दिया जाए तो क्या करें? आइए, शुरू करते हैं-

गलत चालान कट जाए तो क्या करें?

दोस्तों, यदि आपकी कोई गलती नहीं है एवं ट्रैफिक पुलिस ने आपका गलत चालान काट दिया है तो ऐसी स्थिति में आप क्या करेंगे? अधिकांश लोगों को लगता है कि उनको यह चालान भुगतना ही होगा।

लेकिन दोस्तों, वास्तव में ऐसा नहीं होता। ट्रैफिक नियमों में वाहन चालक व्यक्ति को भी ऐसा गलत चालान कैंसिल कराने के अधिकार दिए गए हैं। यदि आपका चालान कट जाए तो आप निम्न कदम उठा सकते हैं-

ट्रैफिक पुलिस सेल से संपर्क करें | अथवा यातायात विभाग की हेल्पलाइन पर शिकायत दर्ज कराएं –

यदि ट्रैफिक पुलिस ने आपका गलत चालान काट दिया है तो आपको संबंधित अधिकारियों से अपनी बात कहनी होगी। इसके लिए आपको ट्रैफिक पुलिस सेल में जाना होगा। यातायात अधिकारियों को बताना होगा कि आपका चालान गलती से कटा है। मामले की जांच की जाएगी।

गलत चालान कट जाए तो क्या करें? How to cancel e-challan

यदि आपकी बात सही साबित होती है तो वहां से आपका चालान कैंसिल कर दिया जाता है। आप इस संबंध में, जिस जगह के आप निवासी हैं, वहां की ट्रैफिक पुलिस हेल्पलाइन में भी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

चालान को कोर्ट में चैलेंज करें –

दोस्तों, यदि किसी भी कारण से ट्रैफिक पुलिस सेल वाले अफसर आपकी बात से कन्वींस नहीं होते, अथवा वे आपकी बात नहीं सुनते तो आप कोर्ट (court) का रास्ता अख्तियार कर सकते हैं। इससे आपको कोई रोक नहीं सकता। आप ग़लत काटे गए चालान को कोर्ट में चैलेंज कर सकते हैं।

यहां समरी ट्रायल (summary trial) के दौरान आपको अपनी बात रखनी होगी एवं बताना होगा कि आप इस चालान को किस वजह से चैलेंज कर रहे हैं। आपको यह भी क्लियर करना होगा कि आपकी ओर से कोई गलती नहीं हुई है। पुलिस ने आपका गलत चालान काटा है। यदि कोर्ट आपकी बात से कन्वींस हो जाता है तो चालान रद्द यानी कैंसिल कर दिया जाएगा।

गलत चालान कटने की वजहें क्या हैं?

मित्रों, अब हम आपको बताएंगे कि गलत चालान कटने की क्या वजहें हैं। इनका ब्योरा इस प्रकार से है-

कैमरे व्हीकल नंबर स्कैन करने में गलती कर रहे –

दोस्तों, यह तो आप जानते ही हैं कि इन दिनों व्यस्ततम चैराहों पर चालान काटे जाने की मैनुअल व्यवस्था खत्म सी हो गई है। अधिकांश चौराहों पर आईटीएमएस (ITMS) यानी इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (integrated traffic management system) के तहत अत्याधुनिक सीसीटीवी (CCTV) कैमरे लगे हैं। किंतु यह एक कड़वी सचाई है कि कैमरे वाहन के नंबर पढ़ने में कई बार गलती कर दे रहे हैं। वे नंबर स्कैन कर उसका संबंधित डाटा से मिलान कर चालान का मैसेज भेज देते हैं।

लेकिन कई बार कार के स्थान पर स्कूटर अथवा बाइक की जगह कार का चालान हो जाता है। दरअसल, होता यह है कि कई बार गाड़ी की नंबर प्लेट पर या तो नंबर सही नहीं लिखे होते अथवा नंबर प्लेट पर मिट्टी अथवा धूल लगी होती है। इससे गाड़ी के नंबर साफ नहीं दिखते।

इन कैमरों के जरिये रोज हजारों फोटो पुलिस के पास पहुंचती हैं। किंतु छंटने के बाद कुछ सौ फोटो ही ऐसी होती हैं, जो स्पष्ट होती हैं, एवं उनके आधार पर चालान होता है। इन फोटो को छांटने में होने वाली चूक से गलत वाहन का चालान कट जाता है।

चालान लिस्ट में गलत क्लिक होना –

दोस्तों, आपको बता दें कि चालान लिस्ट में आपरेटर द्वारा गलत क्लिक (wrong click) होने पर भी चालान गलत कटने की संभावना बढ़ जाती हैं। कार की जगह बाइक का चालान ऐसी ही स्थिति में कटता है।

रेड सिग्नल अथवा बार्डर लाइन छूने पर –

कई बार महज रेड सिग्नल अथवा बार्डर लाइन छूने पर भी चालान हो रहे हैं। इस तरह के चालान कई बार गलत कट जाते हैं। ट्रैफिक पुलिस के पास इस संबंध में कई शिकायतें आती हैं, जिनका जांच के बाद निपटारा किया जाता है। गलत चालान काटे जाने पर संबंधित चालान को रद्द किया जाता है।

गलती से चालान काटने के मामले –

साथियों, कई बार गलत चालान के ऐसे ऐसे मामले सामने आते हैं कि आदमी चक्कर खा जाता है। ऐसे कुछ मामले इस प्रकार से हैं-

कार चालक का हेलमेट न पहनने पर चालान काट दिया गया था

हाल ही में सितंबर के महीने में कानपुर (kanpur) में गलत चालान कटने के केस में ट्रैफिक पुलिस की काफी किरकिरी हुई थी। दरअसल, मामले में एक कार चालक का हेलमेट न लगाने पर चालान काट दिया गया था। चालान पहुंचने पर कार स्वामी हैरत में पड़ गया था। उसे समझ ही नहीं आया कि यातायात विभाग की ओर से यह किस तरह का चालान काटा गया है।

ट्रैफिक पुलिस (traffic police) के गलत चालान काटे जाने से संबंधित यह मामला सोशल मीडिया (social media) पर भी काफी वायरल हुआ था। लोगों ने बदले में अपने कमेंट्स में ट्रैफिक कर्मियों की ओर से होने वाले बर्ताव के साथ ही इस मामले पर भी काफी रोचक कमेंट किए थे।

गाड़ी घर पर खड़ी थी फिर भी चालान हो गया

इस तरह के भी कई मामले आते हैं, जिसमें पीड़ित आकर शिकायत करता है कि उसकी गाड़ी घर पर खड़ी थी फिर भी उसका चालान काट दिया गया। एक पुलिस अधिकारी बताते हैं कि दरअसल, हर शहर में इस तरह के अराजक तत्व सक्रिय होते हैं,

जो गलत नंबर प्लेट लगाकर घूमते हैं। कैमरे में वही नंबर कैद होता है, जो गाड़ी की नंबर प्लेट पर लिखा होता है। लिहाजा, इस तरह के चालान हो जाते हैं।

यदि आप दिल्ली के रहने वाले हैं तो यहां शिकायत करें

यदि आप दिल्ली के निवासी हैं एवं आपका गलत चालान कट गया है तो आप ट्रैफिक पुलिस की हेल्पलाइन पर संपर्क करके इस बारे में जानकारी दे सकते हैं। वहां आपकी शिकायत की जांच करके गलत कटे चालान को कैंसिल किया जा सकता है। यदि आप चाहें तो अपनी शिकायत दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की ईमेल (email) info@delhitrafficpolice.nic.in पर भेज सकते हैं।

इसके अलावा आप दिल्ली पुलिस के ट्रैफिक कंट्रोल रूम (traffic control room) के नंबर 0112584444, 1095 पर भी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसके अतिरिक्त तमाम राज्यों में ट्रैफिक पुलिस की अलग अलग हेल्पलाइन सक्रिय हैं, जिन पर इस तरह के मामलों को लेकर शिकायत की जा सकती है।

नोएडा में साल भर में पांच हजार से अधिक ऐसी शिकायतें निपटाई गईं

दोस्तों, अकेले नोएडा का उदाहरण लें तो चालान से संबंधित करीब पांच हजार से अधिक शिकायतों का निपटारा किया गया। आपको बता दें कि ये सभी ई चालान से जुड़े मामले थे। इनकी शिकायत कोई भी घर बैठे आनलाइन कर सकता था। लेकिन पोर्टल सेवा लांच होने के एक साल बाद ही डोमेन फीस न चुकाने की वजह से यह पोर्टल बंद हो गया।

इससे लोगों को बहुत असुविधा का सामना भी करना पड़ा। आपको बता दें कि गलत चालान काटे जाने संबंधी दिक्कतें किसी एक प्रदेश या जिले में नहीं, बल्कि इस तरह की परेशानी देश भर में तकरीबन हर राज्य में लोगों को भुगतनी पड़ती है।

New Traffic Challan Fine Rate List In Hindi 2022 | ट्रैफिक पुलिस चालान लिस्ट 2022

अपराधपहले चालान या जुर्मानाअब चालान या जुर्माना
सामान्य (177)100 रूपये500 रूपये
रेड रेगुलेशन नियम का उल्लंघन (177A)100 रूपये500 रूपये
अथॉरिटी के आदेश की अवहेलना (179)500 रूपये2000रूपये
अनाधिकृत गाड़ी बिना लाइसेसं चलाना (180)1000रूपये5000 रूपये
अयोग्यता के बावजूद ड्राइविंग (182)500 रूपये10000 रूपये
बिना लाइसेंस के गाड़ी चलाना (181)500रूपये5000 रूपये
ओवर साइज वाहन (182B) 5000 रूपये
ओवर स्पीडिंग (183)    400 रूपये1000 रूपये
खतरनाक तरीके से गाड़ी चलाना(184)1000 रूपये5000 रूपये
शराब पीकर गाड़ी चलाना (185)2000रूपये10000 रूपये
रेसिंग और तेज़ गति से गाड़ी चलाना (189)500 रूपये5000 रूपये
ओवर लोडिंग (194)2  हज़ार रूपये और 10000 रूपये प्रति टन अतिरिक्त20 हज़ार रूपये और 2 हज़ार रूपये प्रति टन
सीट बेल्ट (194B)100 रूपये1000 रूपये
बिना पर्मिट के गाड़ी चलाना (192A)5 हज़ार रूपये तक10 हज़ार रूपये तक
लाइसेंस कंडीशन का उल्लंघन (193)कुछ भी नहीं25 हज़ार रूपये से 1 लाख रूपये तक
पैसेंजर की ओवर लोडिंग (194A)कुछ भी नहीं1000 रूपये प्रति पेसेंजर
दोपहिया वाहन पर ओवर लोडिंग100 रूपये2 हज़ार रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस रद्द
हेलमेट न पहनने पर100 रूपये1000 रूपये और तीन महीने के लिए लाइसेंस  रद्द
एमरजेंसी वाहन को रास्ता न देने पर (194E)कुछ भी नहीं     10000 रूपये
बिना इंशोरेंस के गाड़ी चलाने पर (196)1000 रूपये2000 रूपये
दस्तावेज़ों को लगाने की अधिकारियो की शक्ति   (206) कुछ भी नहीं183,184,185,189,190,194c,194D 194Eके तहत ड्राइविंग लाइसेंस को रद्द किया जायेगा
अधिकारियो को लागू करने से किये गए अपराध (210B)कुछ भी नहींसम्बंधित अनुभाग के तहत दो बार जुर्माना

चालान की राशि बढ़ने के बाद सतर्क हुए लोग

सही चीजों में भय दिखाना जाना भी बेहद जरूरी होता है। यह बात जुर्माना बढ़ने के मामले में एकदम सटीक बैठती है। जब से ट्रैफिक नियमों में बढ़े विभिन्न उल्लंघनों के लिए चालान को तीस गुना तक बढ़ाया गया है, तब से लोग अधिक सजग होकर ड्राइविंग करने लगे हैं। वह जान गए हैं कि थोड़ी भी लापरवाही उन्हें बड़े चालान भुगतने को मजबूर कर देगी। वे घर से निकलने से पहले अपना लाइसेंस जांचने लगे हैं।

इसके साथ ही गाड़ी का इंश्योरेंस, प्रदूषण प्रमाण पत्र आदि दस्तावेज भी गाड़ी के भीतर चेक कर लेते हैं। वे हैवी पनिशमेंट (heavy punishment) से डरते हैं। आपको पता ही है कि पिछले वर्ष केंद्र सरकार की ओर से ट्रैफिक नियमों का पालन न करने पर लगाई जाने वाली जुर्माना राशि में भारी बढ़ोत्तरी की गई थी।

ऐसा सरकार ने हादसों पर रोक लगाने के इरादे से किया था, ताकि लोग बेल्ट आदि लगाकर चलने में कोताही न बरतें। ओवर स्पीडिंग न करें। ओवर लोड गाड़ी न चलाएं। साथ ही सावधानी से बगैर शराब पिए गाड़ी ड्राइव करें। इस पहल का अच्छा नतीजा तो देखने को मिल ही रहा है।

गलत चालान कट जाए तो क्या करें?

गलत चालान कटने पर आप ट्रैफिक पुलिस सेल अथवा पुलिस हेल्पलाइन पर अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

यदि शिकायत के बावजूद चालान कैंसिल न हो तो क्या करें?

यदि आपकी कोई गलती नहीं तो इसके लिए आप कोर्ट का रास्ता भी अख्तियार कर सकते हैं।

गलत चालान काटे जाने की क्या वजहें हैं?

इन दिनों गलत चालान काटे जाने की सबसे बड़ी वजह कैमरे खुद बन रहे है। कहीं तकनीकी खामी है तो कहीं कैमरे प्लेट पर लगे नंबर को ठीक से रीड नहीं कर पा रहे। इसके अलावा चालान लिस्ट पर गलत क्लिक हो जाने से भी चालान गलत काटे जा रहे हैं।

कैमरा व्हीकल के नंबर रीड क्यों नहीं कर पाता?

कई बार नंबर सही नहीं लगे होते तो कभी नंबर प्लेट पर धूल रहती है, जिसकी वजह से कई बार कैमरा व्हीकल नंबर रीड नहीं कर पाता।

बड़े शहरों में ट्रैफ़िक का कौन सा सिस्टम काम कर रहा है?

तमाम बड़े शहरों में अब आईटीएमएस यानी इंटिग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम काम कर रहा है।

दोस्तों, हमने अभी आपको इस पोस्ट में बताया कि गलत चालान कट जाए तो क्या करें? How to cancel e-challan? यदि आप ऐसे ही किसी जनोपयोगी विषय पर हमसे जानकारी चाहते हैं तो हमें नीचे दिए गए कमेंट बाक्स में कमेंट कर सकते हैं। हमें आपकी प्रतिक्रियाओं का इंतजार है। ।।धन्यवाद।।

——————————-

Contents show
Spread the love:

Leave a Comment