आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? What a common man has received in this budget?

|| आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? | What a common man has received in this budget? | आम बजट अथवा केंद्रीय बजट से क्या आशय है? | भारत का पहला बजट कब पेश किया गया था? | बजट क्या होता है? | What is budget? |

हमारे देश में एक आम आदमी की जिंदगी रोजी-रोटी के इर्द-गिर्द ही घूमती रहती है। वह साल भर रोटी, कपड़ा, मकान, बच्चों की पढ़ाई, मां-बाप की दवाई जैसी अपने परिवार की बुनियादी जरूरतों को पूरा करने के चक्कर में ही लगा रहता है। ऐसे में उसे हर साल आम बजट में अपने लिए राहत का इंतजार रहता है। यह राहत चाहे इन्कम टैक्स छूट के रूप में आए, आवश्यक दवाओं के सस्ता होने के रूप में आए या किसी और रूप में।

यह तो आप जानते ही हैं कि हमारे देश में केंद्र सरकार द्वारा इस वर्ष का आम बजट पेश किया जा चुका है। एक आम आदमी को इस बजट से क्या-क्या मिला है? आज इस पोस्ट में हम आपको इसी संबंध में जानकारी देंगे आइए शुरू करते हैं-

Contents show

‘बजट’ शब्द का क्या अर्थ है? (What is the meaning of word ‘budget’?)

हम अक्सर अपने घर पर बजट बनाते हैं। रसोई का बजट बनाते हैं यहां तक कि देश के आम बजट पर बात करते हैं, लेकिन क्या दोस्तों आप बजट (budget) शब्द का अर्थ जानते हैं यदि नहीं जानते तो हम आपको बता देते हैं। मित्रों, budget शब्द फ्रेंच भाषा के शब्द Bougette से लिया गया है। यह शब्द ‘Bouge’ से बना है, जिसका अर्थ ‘चमड़े का थैला’ होता है |

बजट क्या होता है? (What is budget?)

दोस्तों, हमने बजट (budget) शब्द का अर्थ जान लिया है। अब जान लेते हैं कि बजट क्या होता है? (What is budget?) सामान्य रूप से कहे तो किसी व्यक्ति द्वारा अपनी आय के अनुसार अपने अनुमानित खर्च एवं बचत की योजना को बजट बनाना कहा जाता है। बजट को आप भविष्य की एक ऐसी योजना मान सकते हैं, जिसे प्रत्येक वर्ष राजस्व अथवा अन्य साधनों से होने वाली आय और व्यय के अनुमान के आधार पर तैयार किया जाता है। जैसे कि किसी व्यक्ति की कितनी आय होगी। इसमें से वह कितना और कहां खर्च करेगा। कितनी राशि की बचत करेगा आदि।

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? What a common man has received in this budget?

आम बजट अथवा केंद्रीय बजट से क्या आशय है? (What is the meaning of Central budget?)

केंद्रीय बजट (Central budget) यानी केंद्र सरकार (Central government) द्वारा तैयार किया जाने वाला बजट। यह देश के आम आदमी को मद्देनजर रखते हुए बनाया जाता है इसलिए आम बजट कहलाता है। मित्रों, आपको यह भी बता दें कि हमारे संविधान में बजट शब्द का उल्लेख नहीं है, लेकिन संविधान के अनुच्छेद 112 में वार्षिक वित्तीय विवरण (Annual Financial Statement) के नाम से इसका ब्योरा दिया गया है |

जैसा कि नाम से स्पष्ट है, इस सालाना वित्तीय विवरण में सरकार का संबंधित वर्ष के आय-व्यय का अनुमान के आधार पर विस्तृत ब्योरा होता है | सरकार प्रति वर्ष बजट तैयार कर आगामी वित्त वर्ष में देश के विभिन्‍न क्षेत्रों जैसे- शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन, उद्योग, विनिर्माण आदि में किए जाने वाले विकास कार्यों पर होने वाले खर्चों का अनुमान लगाती है। साथ ही, इन्हें पूरा करने के लिए धन की व्यवस्था को कुछ नए टैक्स आदि लगाने का कार्य करती है।

भारत का पहला बजट कब पेश किया गया था? (When was India’s first budget presented?)

मित्रों, हम आपको बजट के बारे में बता रहे हैं तो लगे हैं तो आपको यह भी बता देते हैं कि भारत का पहला बजट जेम्स विल्सन (James Wilson) द्वारा सन् 1860 में पेश किया गया था। वहीं, यदि बात स्वतंत्र भारत (independent India) की करें तो इसका पहला बजट आरके सरमुखम शेट्टी द्वारा सन् 1947 में पेश किया गया था।

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या क्या मिला है? (What a common man has gained from central budget 2023-24?)

मित्रों, आज हम बात कर रहे हैं आम आदमी की, जो केंद्रीय बजट के केंद्र में होता है। आपको बता दें कि हमारे देश का आम बजट देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 1 फरवरी, 2024 को पेश किया गया है। अब जान लेते हैं कि इस आम बजट से आम आदमी को क्या-क्या मिला है-

मोबाइल फोन, एलईडी टीवी, इलेक्ट्रिक व्हीकल आदि सस्ते हुए:

दोस्तों, जहां मोबाइल फोन पढ़ाई से लेकर मनोरंजन तक हर किसी की जरूरत बन गया है। वहीं एक आम आदमी पूरे घर के मनोरंजन को ध्यान में रखते हुए एलईडी टीवी खरीदने का शौक रखता ही है। इन दिनों पेट्रोल महंगा हो गया है, लिहाजा वह इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने को भी प्राथमिकता दे रहा है।

आम आदमी की इन तमाम जरूरतों के मद्देनजर सरकार ने चीजों को सस्ता किया है जो आम आदमी की जिंदगी को आसान बना सकते हैं। जैसे-केंद्र सरकार द्वारा आम बजट 2023-24 में ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रिक वाहन, मोबाइल फोन, एलईडी टीवी, साइकिल एवं खिलौने आदि सस्ते कर दिए गए हैं। खिलौने, साइकिल, ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रोनिक वाहन और मोबाइल फोन सस्ते होंगे,खिलौने, साइकिल, ऑटोमोबाइल, इलेक्ट्रोनिक वाहन और मोबाइल फोन सस्ते होंगे,

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? What a common man has received in this budget?

मुफ्त राशन की अवधि एक साल और बढ़ाई गई:

साथियों, यह तो आप जानते ही हैं कि कोरोना के दौर (corona times) में केंद्र सरकार द्वारा गरीबों को मुफ्त राशन देने के लिए प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (Pradhan mantri gareeb kalyan yojana) को शुरू किया गया था। अब गरीबों के लिए मुफ्त राशन की इस योजना को एक साल के लिए और बढ़ा दिया गया है। साथियों, आपको जानकारी दे दें कि इस योजना पर व्यय होने वाली 2 लाख करोड़ रुपए की सारी राशि केंद्र सरकार (Central government) द्वारा ही वहन की रही है।

* महिलाओं को सशक्त करने के लिए महिला सम्मान बचत पत्र योजना का ऐलान :

वर्तमान में केंद्र में सत्तारूढ़ नरेंद्र मोदी सरकार का जोर महिलाओं को स्वावलंबी बनाने पर है। ऐसे में उन्हें आर्थिक तौर पर सक्षम बनाने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा इस आम बजट में महिला सम्मान बचत पत्र योजना शुरु करने का ऐलान किया गया है। आपको बता दें कि इस योजना के तहत महिलाओं को 2 लाख रुपए की बचत पर सालाना 7.5% ब्याज मिलेगा। विशेष बात यह है कि यह सुविधा सभी बैंकों एवं पोस्ट आफिस में उपलब्ध होगी।

इसके अतिरिक्त इस बचत पत्र को खरीदने पर नौकरी शुदा महिलाओं को टैक्स छूट का लाभ भी मिलेगा। इस योजना के लिए किसी खास उम्र की महिलाओं को लाभार्थी नहीं बनाया गया है। किसी भी उम्र की महिलाएं यह बचत पत्र खरीद कर दो लाख तक की राशि इसमें जमा कर सकती हैं और ब्याज (interest) के रूप में अच्छी कमाई कर सकती हैं। यह भी साफ कर देगी यह सुविधा केवल भारतीय महिलाओं (Indian women) के लिए उपलब्ध होगी। एनआरआई (NRI) अथवा विदेशी महिला को इस सुविधा का लाभ नहीं मिलेगा

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? What a common man has received in this budget?

* इन्कम टैक्स छूट की सीमा बढ़ाई गई:

वर्तमान बजट में इन्कम टैक्स छूट सीमा (rebate limit) 2.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 3 लाख रुपए कर दी गई है। इसके साथ ही सालाना 7 लाख रुपए तक की आय पर से टैक्स रेट हटा दिया गया है। इससे एक आम आदमी को बड़ी राहत मिलने की संभावना है। वहीं, आम लोगों की सुविधा को देखते हुए आठ साल बाद इन्कम टैक्स स्लैब (income tax slab) में बदलाव भी किया गया है। अब 3 लाख तक कोई टैक्स नहीं लगेगा।

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? What a common man has received in this budget?

3 लाख रुपए से लेकर 6 लाख रुपए तक 5 प्रतिशत, 6 से 9 लाख रुपए तक 10 प्रतिशत, 9 से 12 लाख रुपए तक 15 फीसदी, 12 से लेकर 15 लाख तक 20 प्रतिशत, जबकि 15 लाख से अधिक की सालाना आय पर 30 प्रतिशत टैक्स लगेगा। आयकरदाताओं को यह सुविधा भी दी गई है कि यदि वे चाहें तो पुराने टैक्स रिजीम (tax regime) के अनुसार भी अपने टैक्स का भुगतान (tax payment) कर सकते हैं।

* सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम में जमा सीमा दोगुना की गई:

सरकार ने वर्तमान आम बजट तैयार करते हुए वरिष्ठ नागरिकों का भी ध्यान रखा है। मित्रों, आपको जानकारी दे दें कि सरकार ने वरिष्ठ नागरिक बचत योजना (senior citizen saving scheme) की जमा सीमा (deposit limit) को दोगुना कर 15 लाख रुपए से 30 लाख रुपए करने की घोषणा की है।

वहीं, मासिक आय खाता योजना के अंतर्गत सेविंग्स अकाउंट में रखी जाने वाली रकम की सीमा 4.5 लाख रुपए से बढ़ाकर 9 लाख रुपए किए जाने की घोषणा की है। यह यह तो आप जानते ही हैं कि हमारे देश में बड़ी संख्या में वरिष्ठ नागरिक हैं, जो अपनी सेवानिवृत्ति के बाद अपनी बचत के पैसे को इस प्रकार की योजनाओं में निवेश करते हैं, ताकि वे अपने बुढ़ापे में अच्छी खासी आय कमा सकें और अपनी जिंदगी आराम से जी सकें।

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है? What a common man has received in this budget?

* छोटे उद्यमों को बगैर गारंटी दो लाख करोड़ तक का क्रेडिट:

दोस्तों, यह तो आप जानते ही हैं कि हमारे देश के छोटे-मझोले उद्यम अर्थव्यवस्था (economy) की रीढ़ हैं। नए युवा अब नौकरी की तरफ रुख न कर छोटे छोटे उद्यम शुरू करने पर जोर दे रहे हैं। वर्तमान में ऐसे करीब 6 करोड़ उद्यम हमारे यहां स्थापित हैं। इसके अतिरिक्त 84 हजार से भी अधिक स्टार्टअप (start-up) संचालित हो रहे हैं। वर्तमान बजट में इनके लिए नई क्रेडिट गारंटी स्कीम (credit guarantee scheme) की घोषणा की गई है। यह स्कीम 1 अप्रैल, 2024 से लागू होगी। इसमें बगैर गारंटी छोटे-मझोले उद्योगों को दो लाख करोड़ रुपए तक का क्रेडिट दिया जाएगा।

* 38 हजार शिक्षकों, कर्मचारियों की भर्ती:

हमारे देश में बड़ी संख्या में प्रशिक्षित शिक्षक बेरोजगार घूम रहे हैं। वे सालों से भर्ती की बाट जोह रहे हैं। वर्तमान बजट में इसी प्रकार के शिक्षकों के लिए महत्वपूर्ण घोषणा की गई है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (finance minister Nirmala sitaraman) के अनुसार 740 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों (Eklavya Model residential schools) के लिए 38 हजार शिक्षकों एवं सहायक कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। उनके अनुसार इस भर्ती (recruitment) को आने वाले 3 वर्ष में अंजाम दे दिया जाएगा।

बजट क्या होता है?

सामान्य शब्दों में आय-व्यय के अनुमान के आधार पर भविष्य के लिए योजना तैयार करने को बजट कहा जाता है।

Budget शब्द कहां से लिया गया है?

Budget शब्द फ्रांसीसी भाषा के Bougette शब्द से लिया गया है।

भारत का पहला बजट कब पेश किया गया था?

भारत का पहला बजट जेम्स विल्सन द्वारा सन् 1860 में पेश किया गया था।

download app

स्वतंत्र भारत का पहला बजट कब पेश किया गया था?

स्वतंत्र भारत का पहला बजट सन् 1947 में पेश किया गया था।

भारत का वर्तमान बजट कब पेश किया गया?

भारत का वर्तमान बजट 1 फरवरी, 2024 को पेश किया गया है।

आम बजट 2023-24 किसके द्वारा पेश किया गया है?

हमारे देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा आम बजट 2023-24 पेश किया गया है।

आम बजट 2023-24 में आम आदमी को क्या मिला है?

आम बजट में आम आदमी को जो मिला है, उसका ब्यौरा हमने आपको ऊपर पोस्ट में दिया है आप वहां से देख सकते हैं।

वर्तमान आम बजट में क्या क्या सस्ता हुआ है?

वर्तमान आम बजट में एलईडी टीवी, मोबाइल फोन, साइकिल, खिलौने आदि सस्ते हुए हैं।

दोस्तों, आपको हमने इस पोस्ट (post) में जानकारी दी कि बजट में आम आदमी के लिए क्या-क्या है? यहां हमने आपको विभिन्न वर्गों की जानकारी अलग अलग दी है। यदि आपका इस पोस्ट पर कोई भी सवाल या सुझाव है तो बेखटके नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स (comment box) में कमेंट (comment) करके हम तक पहुंचा दें। ।।धन्यवाद।।

प्रवेश
प्रवेश
मास मीडिया क्षेत्र में अपनी 15+ लंबी यात्रा में प्रवेश कुमारी कई प्रकाशनों से जुड़ी हैं। उनके पास जनसंचार और पत्रकारिता में मास्टर डिग्री है। वह गढ़वाल विश्वविद्यालय, श्रीनगर से वाणिज्य में मास्टर भी हैं। उन्होंने गुरुकुल कांगड़ी विश्वविद्यालय से व्यक्तिगत प्रबंधन और औद्योगिक संबंधों में डिप्लोमा भी किया है। उन्हें यात्रा और ट्रेकिंग में बहुत रुचि है। वह वाणिज्य, व्यापार, कर, वित्त और शैक्षिक मुद्दों और अपडेट पर लिखना पसंद करती हैं। अब तक उनके नाम से 6 हजार से अधिक लेख प्रकाशित हो चुके हैं।
WordPress List - Subscription Form
Never miss an update!
Be the first to receive the latest blog post directly to your inbox. 🙂

Leave a Comment