Bitcoin Kya Hai? Bitcoin कैसे खरीदें? और बिटकॉइन कैसे कमायें?

ऑनलाइन इंटरनेट मार्केटिंग में आज Bitcoin सबसे ज्यादा चर्चित करेंसी बन चुकी है। Facebook, WhatsApp, Twitter जैसे कई जगहों पर अक्सर Bitcoin के बारे में बातचीत करते हुए देखा जाता है। बहुत से लोग इस Bitcoin खरीदने और बेचने से काफी अच्छी earnig  भी कर रहे हैं। इसके साथ ही इन दिनों Online खरीद, बिक्री का बहुत चलन है। यह Payment करने के लिए आपको रुपये, पैसे सीधे देने की जरुरत नहीं, आप Debit, Credit Card के जरिये भुगतान कर सकते हैं। या फिर चाहें तो Bitcoin के जरिये भी भुगतान कर सकते हैं। क्या कहा आपने यह नाम नहीं सुना? तो दोस्तों हम आपको बता दें कि Bitcoin नाम की Currency भी इन दिनों चलन में है। हाँ, लेकिन यह digital form में है। यानी इसे देखना, छू पाना संभव नहीं। ढेरों Online Payment इन दिनों digital Currency के माध्यम से हो रहे हैं।

Bitcoin Kya Hai? Bitcoin कैसे खरीदें? और बिटकॉइन कैसे कमायें?

जैसे – Facebook Payments उसकी निकाली Currency लिब्रा के जरिये हो रहे हैं और इनकी संख्या लगातार बढ़ रही है। global leadership को देखते हुए अलबत्ता चीन ने अपने यहाँ लिब्रा पर रोक लगाने की कवायद की है। वह अपनी digital Currency उतारने के चक्कर में है। इस वक़्त Bitcoin, भी खूब चलन है।

लेकिन यदि आपको नहीं पता कि Bitcoin क्या होता है?  यह कैसे काम करता है? इसे कैसे खरीदते हैं? और इसे कहां पर रखा जाता है? तो आज हम आपके इन सभी सवालों का जवाब देने के लिए देने जा रहे हैं। आप इस पोस्ट के माध्यम से Bitcoin से जुड़ी सारी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे । हम आपको Bitcoin के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे। आप इस पोस्ट को पढेंगे तो उम्मीद है कि आपकी इससे जुडी सारी जिज्ञासाओं का समाधान हो जाएगा।

बिटकॉइन क्या है – What is Bitcoin in Hindi –

अनुक्रम

साधारण भाषा में कहें तो बिटकॉइन एक वर्चुअल करेंसी है। जैसे अन्य करेंसी होती हैं  Bitcoin भी हमारे रुपये, US के dollar की ही तरह एक Currency है। इससे भी खरीदारी कर Payment किया जा सकता है। बस फर्क इतना है कि यह virtual यानी digital Currency है। इसे आँखों से देखा या हाथों से छुआ नहीं जा सकता। इसे आप आभासी Currency भी पुकार सकते हैं। Bitcoin एक ऐसी करेंसी है जिसे हम केवल ऑनलाइन अपने वोलेट में  स्टोर करके ही रख सकते हैं।  इसलिए Bitcoin को कोई बैंक या सरकार कंट्रोल नहीं करती है। और ना ही इसका कोई मालिक होता है।

बिटकॉइन का किसने अविष्कार किया? Bitcoin पर किसका Control है –

यह आज भी किसी को पक्का-पक्का नहीं मालूम कि Bitcoin का invention किसने किया। या यूँ कहें कि इसकी ईजाद किसने की, लेकिन ऐसा दावा किया जाता है कि इस virtual Currency की ईजाद सातोशी नाकामोतो ने 3 जनवरी, 2009 में की। आपको यह भी बता दें कि इस Currency का कोई नियंत्रण नहीं। कोई सरकार हो या कोई वित्तीय संस्थान, या अन्य कोई authority। यह किसी के भी control के दायरे से बाहर है। आज से करीब 10 साल पहले जब इस digital Currency का प्रादुर्भाव हुआ था, तब बिटकॉइन की कीमत 0.003 डॉलर के आस पास आंकी गयी थी।

एक अनुमान बताता है कि दुनिया में इस वक़्त एक करोड़ से भी अधिक Bitcoin हैं, जिनका मूल्य 55 हज़ार करोड़ रुपये है। इसके उपयोगकर्ताओं की संख्या करीब 40 लाख बताई जाती है। अलबत्ता अपने देश में केंद्रीय मुद्रा नियामक संस्था यानी Reserve Bank of India (RBI ) जो कि देश का केंद्रीय बैंक भी है, इसे मान्यता नहीं देता। उसने अपने यहाँ लोगों को इस मुद्रा से दूर रहने की सलाह दी है।

हमारे रुपये की ही तरह इसकी भी है Unit –

अपने जन्मदाता कहलाने वाले Satoshi के नाम पर ही Bitcoin की सबसे छोटी यूनिट Satoshi होती है। एक Bitcoin =10 करोड़ सातोशी। यानी एक Bitcoin में 10 करोड़ Satoshi होते हैं। यह ठीक वैसे ही है जैसे एक रुपया=100 पैसे यानी कि एक रुपये में 100 पैसे होते हैं। आप Satoshi की इन units को जमा कर धीरे धीरे एक या उससे अधिक बिटकॉइन जमा कर सकते हैं। इस Bitcoin को आप price बढ़ जाने पर बेचकर कमाई कर सकते हैं। आपको यह भी जानकारी दे दें कि जिस तरह से नोट एक limit में छापे जाते हैं, उसी तरह Bitcoin की भी एक limit होती है। यह 21 million से ज्यादा Bitcoin market में नहीं आ सकते।

Bitcoin wallet क्या है –

हम रुपये पैसे को, अपनी Currency को अपनी जेबों में wallet के भीतर रखते हैं, ठीक उसी तरह Bitcoin को भी wallet में रखा जाता है। क्यूंकि यह digital Currency है लिहाजा इसे electronically यानी Online wallet में store किया जा सकता है। Bitcoin wallet कई तरह के हैं मसलन desktop wallet, mobile wallet, Online/web wallet, hardware wallet। इनमे से किसी भी wallet का इस्तेमाल कर हम Account बना सकते हैं। Account बनाने के लिए अपनी Email ID डालनी होगी। साथ ही password भी set करना होगा। आप robot नहीं हैं, यह सुनिश्चित करने के लिए Capcha भी डालना होगा। इसके बाद wallet पर एड्रेस के रूप में unique ID मिल जाती है, जिसके जरिये आप login कर सकते हैं।

Bitcoin से लेन-देन कैसे करते हैं –

अगर आप किसी को कोई सामान Online बेच रहे हैं तो पैसे की जगह उससे Bitcoin ले सकते हैं। यह आपके Bitcoin wallet में store हो जाएगी, जिसे बेचकर आप बाद में लाभ कमा सकते हो। क्योंकि जैसे कि हम आपको पहले ही बता चुके हैं कि इसकी Value बढती, बदलती रहती है। इसका price बढ़ने पर बेचना लाभकारी होता है।

Bitcoin के फायदे क्या हैं –

Bitcoin का use Online Payment या किसी अन्य transaction के लिए किया जा सकता है। यानी की इसके लिए किसी बैंक, Credit Card या company के जरिये की जरूरत नहीं होती। ग्लोबल Payment के लिए इसका इस्तेमाल तेजी से बढ़ रहा है। Bitcoin transaction में fee Credit Card, Debit Card से Payment के बनिबत बहुत कम होती है।इसे दुनिया में कभी भी, कहीं भी भेजा जा सकता है। यहाँ Account block होने की दिक्कत सामने नहीं आती। long term investment फायदेमंद है। इसके तमाम फायदों के बीच एक और बात से आपको आगाह कर दें कि इसका इस्तेमाल थोडा रिस्क वाला होता है, क्योंकि इसे कोई authority control नहीं करती। अगर आपका Account हैक हो गया तो आप अपने सारे बिटकॉइन खो दे सकते हैं, क्योंकि इसे रिकवर नहीं किया जा सकता।

Block Chain में दर्ज होता है Transactions का रिकॉर्ड –

ऐसा नहीं है कि Bitcoin के transaction अँधेरे में होते हैं। हम आपको बता दें कि Bitcoin के सारे transaction एक public ledger में रिकॉर्ड या store रहते हैं, जिसे block chain कहते हैं।

बिटकॉइन प्राइस इंडिया / Bitcoin का Value कितना होता है –

Bitcoin की Value इसकी Demand के हिसाब से change होती रहती है। हर दिन इसकी Value घटती, बढती रहती है। साफ़ है कि Demand बढती है तो Value भी बढ़ जाती है। इसकी Value को google serach के जरिये पता किया जा सकता है। जैसे कि morning star के data के मुताबिक 22 अक्तूबर, 2019 को इसकी Value भारतीय रुपये में 5,84,580.03 थी। इसी तरह इसमें उतार चढाव होते रहते हैं।

Bitcoin Kya Hai? Bitcoin कैसे खरीदें? और बिटकॉइन कैसे कमायें?

Bitcoin का उपयोग क्यों किया जाता है –

आजकल समय के साथ ही बिटकॉइन की भी लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। ऑनलाइन पेमेंट करने के लिए बिटकॉइन कल काफी उपयोग किया जा रहा है। ऑनलाइन किसी भी प्रकार के ट्रांजेक्शन करने में बिटकॉइन काफी सुविधाजनक है। बिटकॉइन के माध्यम से बिना किसी बैंक अकाउंट क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के हम ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। Bitcoin peer to peer network based  वर्क करता है। आजकल ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए यह सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है। बिटक्वाइन की सहायता से पूरे विश्व में ऑनलाइन पेमेंट किया जा सकता है।

भारत में बिटकॉइन कैसे खरीदें –

बिटकॉइन खरीदने के लिए आपको एक्सचेंज करने की जरूरत पड़ती है। हर देश की तरह भारत में भी कुछ ऐसी कंपनियां हैं। जहां से आप अपनी मुद्रा के बदले बिटकॉइन ले सकते हैं। अगर आप Bitcoin खरीदना चाहते हैं तो कुछ ऐसी websites भारत में भी हैं, जिनके जरिये आप भारत में Bitcoin खरीद सकते हैं। इन पर Bitcoin की real time Value और price दोनों देखे जा सकते हैं। भारत में बिटकॉइन खरीदने के लिए प्रमुख कंपनियां –

  • Unocoin
  • Zebpay
  • Coinsecure

आपको पहले ही बता दें की दोनों का प्रयोग करने के लिए आपको किसी भी सेवा की तरह कुछ documents की जरूरत पड़ेगी। जैसे कि – voter ID, आधार Card, pen Card, phone number और बैंक Account details।

Unocoin से बिटकॉइन कैसे खरीदें –

पहले बात करते हैं Unocoin की – इस वेबसाइट का इस्तेमाल बहुत आसान है। इस पर किसी भी भुगतान की fee 0% है। साथ ही इसके के इस्तेमाल का कोई charge नहीं। इसके लिए सबसे पहले आपको वेबसाइट पर जाकर sign-up कर अपने को register करना होगा।

step कुछ यूँ होंगे –

  • Unocoin पर जाकर Email ID और password डालें। submit पर click कर दें।
  • Email ID पर आये confirmation link पर click कर दें।
  • इसके बाद Account ओपन हो जाएगा। इसे verify करने के लिए pan Card, passport size Photo, address proof, Photo ID की जरुरत पड़ेगी।
  • इन दस्तावेज़ को scan करके upload करना होगा। documents submit करने के 24 घंटे के अन्दर आपका Account activate हो जाएगा।
  • Email या message के जरिये आपको Account activate होने की जानकारी मिल जाएगी।
  • इसके बाद आपको अपनी बैंक details मसलन बैंक Account में दिया नाम, Account number, IFSC code, city, state की details डालनी होंगी ताकि आप Bitcoin खरीदने के लिए पैसा डिपाजिट कर सकें।

जितने मर्जी उतने रुपये की Bitcoin आप खरीद सकते हैं। न्यूनतम 1000/-से शुरू कर। इन्हें बैंक से अपने Account में लोड कर Bitcoin खरीद सकते हैं। यह रूपया Bitcoin में convert हो जाएगा। इस website पर over the counter ट्रेडिंग होती है। कीमत कम होने पर Bitcoin को होल्ड कर सकते हैं और जैसे ही price बढे इन्हें तुरंत बेच भी सकते हैं। ज्यादा security के लिए 2 step authentication की सुविधा दी गयी है।

Zebpay बिटकॉइन कैसे खरीदें  –

इस website के जरिये भी आप Bitcoin खरीद और बेच सकते हैं ये सिक्योर है। इस app का इस्तेमाल आप mobile से भी कर सकते हैं। Zebpay की एंड्राइड app का इस्तेमाल भी बिटकॉइन खरीदने के लिए किया जा सकता है। इस पर Account बनाने के लिए आपको यह steps follow करने होंगे-

  • सबसे पहले play store से अपने mobile phone पर Zebpay की app download कर लें।
  • इसके बाद app को install करके open करें।
  • mobile स्क्रीन पर enter mobile number के विकल्प पर अपना mobile number दर्ज करें।
  • इसके बाद Accept & continue के option पर click कर दें।
  • mobile number पर एक verification code आएगा। इसे verify कर दें।
  • जो PIN आप Bitcoin Account का रखना चाहते है, उस PIN को लिख दें।
  • इसके बाद Email पूछा जाएगा। Email ID डालकर enter मार दें।
  • mail पर आये verification लिंक पर click कर उसे verify कर दें।

इसी तरह अपने आधार Card, pen Card, बैंक Account details भी verify करें। इसके चंद दिन बाद आपका Zebpay पर Bitcoin Account बन जाएगा।

क्या Bitcoin -generation एक endless process है –

यह सवाल Bitcoin आने के बाद से ही लोगों के दिमाग में है। और ज्यादातर विशेषज्ञों का जवाब इस सन्दर्भ में हाँ है। जी हां, Bitcoin को इस तरह से बनाया गया है कि एक वक़्त बाद इसकी संख्या घटकर आधी रह जाती है। इस हिसाब से देखें तो 121 साल बाद नयी Bitcoin बननी बंद हो जाएँगी। तब तक दुनिया में 2 करोड़ 10 लाख बिटकॉइन आ चुके होंगे। Bitcoin को future की ही Currency मन जाता है। लोगों में future में इसके खत्म हो जाने की आशंका से ही इसे खरीदने की होड़ है। इसकी यही Demand इसकी कीमत के बढ़ने की वजह है।

क्या Bitcoin का भी misuse संभव है?

अगर आपके मन में Bitcoin के misuse को लेकर आशंका है तो आप बिलकुल सही हैं। सरकार का नियंत्रण न होने की वजह से इसके misuse की आशंका प्रबल है। अन्य वित्तीय संस्थानों की तरह इस पर कोई नियम कायदे लागू नहीं होते। सबसे बड़ी मुश्किल  इसकी Value में लगातार उतार-चढाव आता है। दूसरे encrypted होने की वजह से कुछ लोग गलत कार्यों के लिए या प्रतिबंधित वस्तुओं को खरीदने के लिए भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

जैसे कुछ समय पहले एक वाकया घटित हुआ था कि एक फिरौती मांगने वाले ने भुगतान Bitcoin में मांगा था। इसके misuse को सरकारें और bankers इसे कानूनी मान्यता देने से बेहद हिचकते हैं, हमारा देश भी ऐसे ही देशों में शुमार है। जैसा कि हम पहले ही बता चुके हैं कि हमारे देश में RBI ने इसके प्रयोग से लोगों को दूर रहने की सलाह दी है।

क्या है बिटकॉइन का भविष्य –

Bitcoin के सारे transactions का ब्यौरा Block chain मतलब कि internet पर होता है। लिहाजा transactions में transparency रहती है। माना जाता है कि इसके जरिये काले धन की समस्या खत्म हो सकती है। इसे भविष्य की अर्थव्यवस्था भी मानकर चला जा रहा है। दुनिया की बड़ी कम्पनियाँ इसमें invest कर रही हैं। उन्हें लगता है कि नोट की Value कम होगी और एक दिन यह दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगी, इस virtual Currency पर आज ही की तरह किसी सरकार, किसी banker का कोई भी हस्तक्षेप नहीं रहेगा। इस तरह अपने पाया होगा कि इस Currency के गुण और दोष दोनों है हैं। एक तरफ यह फायदेमंद है तो दूसरी तरफ हानिकारक भी साबित हो सकती है। इसके बावजूद इसकी सहूलियत पर भरोसा करने वाले दुनिया भर में बढ़ रहे हैं।

बिटकॉइन उपयोग करने के फायदे –

बिटकॉइन उपयोग करने के प्रमुख फायदे निम्न प्रकार है –

बिटकॉइन का उपयोग करने से आपको विश्व के किसी भी क्षेत्र में आसानी से कोई भी ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। इसके लिए आपको किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ता है।

  • बिटकॉइन का उपयोग करने से आपको क्रेडिट कार्ड डेबिट कार्ड और बैंक अकाउंट की जरूरत नहीं पड़ती है। बिटकॉइन का उपयोग करने का एक महत्वपूर्ण लाभ यह है , कि इसकी ट्रांजैक्शन  की अथॉरिटी की किसी सरकार या बैंक  के पास नहीं है।
  • Bitcoin में लॉन्ग टर्म  तक का इन्वेस्ट करने वाले लोगों को काफी लाभ प्राप्त होता है। पिछले कई सालों से बिटकॉइन का रेट लगातार बढ़ रहा है। जिसके कारण लोगों को काफी लाभ प्राप्त हो रहा है।

Bitcoin उपयोग करने के नुकसान –

ऐसा नहीं है कि Bitcoin का उपयोग करने से आपको केवल लाभ प्राप्त होगा। आपको अच्छे पैसे कमाएंगे पर कि बिटकॉइन उपयोग करने के काफी नुकसान भी है –

  • बिटकॉइन का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि यदि किसी तरीके से आपकी आपका अकाउंट हैक हो जाता है। तो आपके सारे बिटकॉइंस चले जाएंगे। इसके बारे में आप कहीं पर कोई मदद नहीं प्राप्त कर सकते हैं। क्योंकि बिटकॉइन का कंट्रोल किसी बैंक का सरकार के पास नहीं है।
  • किसी बैंक के सरकार के पास कंट्रोल ना होने के कारण बिटकॉइन का रेट के रेट में भी काफी उतार-चढ़ाव चलते रहते हैं। कभी कभी यह काफी कम कीमत में आ जाता है। और कभी इसका रेट एकदम से काफी बढ़ जाता है।

Bitcoin कैसे कमाएं –

यदि आपको बिटकॉइन कमाना चाहते हैं, तो आपके पास बिटकॉइन कमाने के लिए यहां पर 3 तरीके उपलब्ध है। जिन के बारे में हम आप को विस्तार पूर्वक बताने जा रहे हैं –

  1. Bitcoin खरीदकर
  2. प्रोडक्ट सेल करके
  3. Bitcoin Mining करके

बिटकॉइन खरीदें –

सबसे पहले बिटकॉइन कमाने का तरीका यह है। कि आप डायरेक्ट किसी से बिटकॉइन खरीद सकते हैं। यदि  बिटकॉइन का रेट काफी ज्यादा होने के कारण यदि आपको बिटकॉइन नहीं खरीद सकते। तो आप बिटकॉइन की छोटी यूनिट संतोषी को भी खरीद सकते हैं। संतोषी उसी तरह बिटकॉइन की एक छोटी यूनिट है।  जिस तरह हमारे देश में 1 रुपये में 100 पैसे होतें है, ठीक उसी तरह बिटकॉइन वर्चुअल करेंसी में भी 1 Bitcoin में 100 करोड़ संतोषी होते हैं। यदि आप छोटी यूनिट के साथ इन्वेस्ट करना चाहते हैं। तो आप को धीरे-धीरे संतोषी भी खरीद करके बिटकॉइन इकट्ठा कर सकते हैं। और जब बिटकॉइन का रेट बढ़ जाए तो इसे भेजकर पैसे भी कमा सकते हैं।

प्रोडक्ट सेल करके –

बिटकॉइन कमाने का दूसरा तरीका ऑनलाइन प्रोडक्ट सेल करना है। यदि आप किसी प्रकार का प्रोडक्ट ऑनलाइन सेल करते हैं। तो आप अपना प्रोडक्ट सेल कर के भी बिटकॉइन इकट्ठा कर सकते हैं। यदि कोई बिट कॉइन दे कर सामान खरीदना चाहता है, या आप बिट कॉइन से सामान बेचने चाहते है, तो आप सामान बेचकर बिटकॉइन ले सकते हैं। और बाद में आप बिटकॉइन किसी दूसरे को बेचकर पैसे इकट्ठा कर सकते हैं।

Bitcoin Mining क्या है? इसे कैसे करते हैं?

सीधे और सरल शब्दों में कहें तो Bitcoin Mining भी Bitcoin कमाने का एक तरीका है। है। दरअसल, high speed वाले processor के मदद से कुछ लोग Bitcoin transaction को verify करते हैं, एक खास hardware का प्रयोग करके लेन-देन पूरा करते हैं और network को सुरक्षित करते हैं। जिन्हें miner कहा जाता है। यह जांचते हैं कि transaction सही है कि नहीं। transaction के दौरान कोई हेरा फेरी तो नहीं की गयी? इस transaction verification के बदले miners को कुछ Bitcoin दी जाती हैं।

Bitcoin Mining करने के लिए specialized hardware के साथ ही एक Bitcoin Mining software की जरुरत पड़ती है। इस software के जरिये Bitcoin transaction को process किया जाता है। उसे confirm किया जाता है। इसके लिए एक block में शामिल होना पड़ता है। काम का mathematical proof देना होता है। यह काम थोडा मुश्किल होता है। transaction को complete करने पर users से fee मिलती है। miner कोई एक दो व्यक्ति नहीं, बल्कि हजारों लोग इस प्रक्रिया में जुड़े होते हैं जो transactions को verify करने का काम करते हैं।

Bitcoin Mining के कितने प्रकार हैं/कितने तरीके से होती है Bitcoin Mining –

Bitcoin Mining दो तरीके से की जा सकती है। एक होती है – solo Mining और एक होती है pool Mining। जब कोई अकेला व्यक्ति कई Powerful computers के जरिये Mining करता है तो उसे solo यानी एकल Mining कहा जाता है। वहीँ कई व्यक्ति computers का एक pool यानी network बनाकर काम करते हैं उसे pool Mining कहा जाता है।

तो दोस्तों यह थी Bitcoin Kya Hai? Bitcoin कैसे खरीदें? और बिटकॉइन कैसे कमायें? के बारे में पूरी जानकारी। यदि आपको बिटकॉइन में निवेश कैसे करें, बिटकॉइन कैसे कमाए, बिटकॉइन अकाउंट, बिटकॉइन प्राइस हिस्ट्री, बिटकॉइन प्राइस इंडिया, बिटकॉइन रेट, bitcoin धोखाधड़ी, बिटकॉइन का भविष्य की जानकारी अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करना ना भूलें। साथ ही यदि आपका किसी भी प्रकार का कोई सवाल हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करें। हम जल्द ही आपके सवालों का जवाब देंगे।। धन्यवाद।।

Spread the love
Categories BANKING

2 thoughts on “Bitcoin Kya Hai? Bitcoin कैसे खरीदें? और बिटकॉइन कैसे कमायें?”

Leave a Comment