बाफ्टा पुरस्कार क्या है? BAFTA पुरस्कार किसको और क्यों दिए जाते हैं? पूरी जानकारी

अनुक्रम

हाल ही में दुनिया भर में बाफ्टा पुरस्कार की धूम रही है। पैरासाइट और 1917 जैसी फिल्मों को देखने वालों ने खूब सराहा और बाफ्टा की jury को भी यह फिल्में खूब भाईं। आलम यह था कि हर कोई इन फिल्मों को देखना चाह रहा था। बाफ्टा पुरस्कारों के लिए चुने जाने के बाद से ही ये दोनों फिल्में चर्चा में हैं। मित्रों, क्या आप जानते हैं कि अबाउट पुरस्कार क्या है? इन्हें कब शुरू किया गया? यह किस तरह की फिल्मों को दिए जाते हैं? अगर नहीं, तो भी कोई बात नहीं।

आज हम आपको बाफ्टा पुरस्कार के बारे में पूरी जानकारी देंगे। और उन तमाम बिंदुओं के बारे में बताएंगे, जिनके बारे में आपको जानना जरूरी है। जैसे कि बाफ्टा पुरस्कार क्यों दिए जाते हैं? यह कब से दिए जा रहे हैं? इस बार यह पुरस्कार किन किन मूवीज को दिए गए हैं? आदि आदि। तो आइए शुरू करते हैं-

BAFTA Full Form In Hindi | बाफ्टा फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों, बाफ्टा पुरस्कार के बारे में जानने से पहले आइए हम आपको बताएं कि बाफ्टा यानी bafta की full form क्या है। साथियों, इसकी full form है- British academy of film and television awards. यह award ब्रिटिश एकेडमी ऑफ फिल्म एंड टेलीविजन आर्ट्स की ओर से दिया जाने वाला अवार्ड है।

बाफ्टा पुरस्कार क्या हैं? BAFTA पुरस्कार किसको और क्यों दिए जाते हैं? पूरी जानकारी

बाफ्टा पुरस्कार क्यों मशहूर हैं?

दोस्तों, बाफ्टा पुरस्कार बेहद मशहूर हैं। इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा लीजिए कि कि यह पुरस्कार अमेरिका के आस्कर पुरस्कार के समकक्ष माने जाते हैं। यह पुरस्कार पाना किसी भी फिल्मकार, अभिनेता, अभिनेत्री के लिए उसके जीवन का ख्वाब होता है।

बाफ्टा पुरस्कार किनको दिया जाता है?

यह पुरस्कार हर साल ब्रिटिश सिनेमाघरों में प्रदर्शित किसी भी देश की फीचर फिल्म और वृत्त चित्रों को दिया जाता है। 1971 से बाफ्टा फैलोशिप भी स्पेशल अवार्ड के तौर पर दी जा रही है। यह सभी नेशनल्स के लिए खुले हैं। ब्रिटिश शार्ट फिल्म्स और ब्रिटिश शार्ट एनिमेशन अवार्ड्स के लिए केवल यूके फिल्मस ही नामांकित हो सकती हैं।

पहला बाफ्टा पुरस्कार कब दिया गया?

पहला अवार्ड समारोह 70 साल पहले 29 मई, 1949 में किया गया था। इसी में 1947 और 1948 के पुरस्कार भी प्रदान किए गए थे। आपको बता दें कि शुरुआती दौर में यह समारोह अप्रैल या मई में होते थे, लेकिन 2001 से यह फरवरी में होने शुरू हो गए। आपको यह भी बता दें कि पहले यह अवार्ड लंदन में लीसेस्टर स्क्वायर स्थित फ्लैगशिप ओडियन सिनेमा में आयोजित किया जाता था। 2008 से इन्हें लंदन स्थित रायल ओपेरा हाउस में दिया जाना शुरू हुआ और 2017 से इसे लंदन के रायल अलबर्ट हॉल में आयोजित किया जाता है।

कब हुआ BBC पर पहला Award Broadcast?

बीबीसी पर समारोह का पहला ब्राडकास्ट 1956 में हुआ था। इसके बाद रंगीन में यह 1970 से प्रसारित हो रहा है। आपको बता दें कि यूएस में यह बीबीसी अमेरिका पर दिखाया जाता है। यह भी इस award से जुड़ी एक परंपरा है कि समारोह से पहले पिछले 12 माह में मरे इंडस्ट्री के लोगों को श्रद्वाजंलि भी दी जाती है। दुनिया भर में यह समारोह विशेष दिलचस्पी के साथ देखा जाता है।

Academy की स्थापना कब हुई?

British academy of film and television arts की स्थापना ब्रिटिश फिल्म एकेडमी के तौर पर 1947 में हुई थी। इसकी स्थापना संयुक्त रूप से डेविड लीन, एलेक्जेंडर कोरडा, कैरोल रीड, चार्ल्स लाफ्टन और रोजर मानवेल ने की थी। 1958 में इस एकेडमी का विलय गिल्ड आफ टेलीविजन प्रोड्यूर्स एंड डायरेक्टर्स से गया था। इन्होंने द सोसायटी आफ फिल्म एंड टेलीविजन बनाई। बाद में 1976 में यह द ब्रिटिश एकेडमी आफ फिल्म एंड टेलीविजन आर्ट्स बन गई।

Bafta का उद्देश्य क्या था?

दोस्तों, बाफ्टा का उद्देश्य चेरिटेबल रखा गया। इसका खास मकसद moving image की art forms को support, develop और promote करना था। आपको जानकारी दें कि बाफ्टा साल भर चलने वाली शैक्षिक गतिविधियों का आयोजन करता है। इसमें फिल्म स्क्रीनिंग आदि शामिल है। एक और इन पुरस्कारों से जुड़ी बात बताएं, फिल्म, टेलीविजन और वीडियो गेम इंडस्ट्री से जुड़े 6000 के करीब लोग इसके सदस्य हैं।

इस बार कौन से पुरस्कार दिए गए, किस फिल्म ने जीते सबसे ज्यादा Award –

साथियों, इस बार 73वें बाफ्टा पुरस्कार दिए गए हैं। नामांकनों की घोषणा बीती सात जनवरी को की गई थी, वहीं समारोह का आयोजन बीती दो फरवरी को किया गया था। आपको बता दें कि इसे ग्राहम नॉर्टर्न ने होस्ट किया था। इस बार सैम मेंडेस की फिल्म 1917 को सर्वश्रेष्ठ फिल्म का अवार्ड दिया गया है। इसी फिल्म ने सबसे ज्यादा सात पुरस्कार जीते हैं।

किस Film के थे सबसे ज्यादा Nomination, कौन बना Best Actor और Best Actress –

मित्रों, आपको बता दें कि सबसे ज्यादा 11 नॉमिनेशन जोकर के थे। आपके लिए यह भी जानना रोचक हो सकता है कि यह फिल्म युद्व पर आधारित है। उत्कृष्ट ब्रिटिश फिल्म का पुरस्कार भी 1917 को ही दिया गया है। सैम मेंडेस को सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार मिला है। जोकर के लिए जाकिन फोनिक्स को सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिला है, जबकि रेनी जेल्वेगर को जूडी फिल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का अवार्ड दिया गया है।

यह है गैर अंग्रेजी भाषा की Best Film –

साथियों, आपको बता दें कि गैर अंग्रेजी भाषा की बेस्ट फिल्म पैरासाइट चुनी गई है। इसके अलावा बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर ब्रैड पिट, जबकि बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस लॉरा डर्न बनी हैं। दोस्तों, यह इतने प्रतिष्ठित पुरस्कार माने जाते हैं कि दुनिया भर से इस category के लिए पुरस्कार हासिल करने के लिए films के nominations आते हैं।

Royal सदस्यों ने मारी शानदार Entry

बाफ्टा पुरस्कार में रॉयल फैमिली के सदस्यों ने भी जबरदस्त एंट्री मारी। ड्यूक एंड डचेज ऑफ कैंब्रिज प्रिंस विलियम और कैथरीन रॉयल अंदाज में पुरस्कार समारोह में नजर आए। ब्रिटिश राजघराने के सदस्यों की इन पुरस्कार समारोहों में मौजूदगी से चार चांद लग गए। अधिकांश पुरस्कार समारोह में उनकी उपस्थिति दर्शनीय रही है।

25 कैटेगरी में दिए जाते हैं पुरस्कार –

आपको यह जानकर रोचक लगेगा कि शुरू में केवल तीन ही कैटेगरी में यह पुरस्कार दिए जाते थे, लेकिन अब फिल्मों से जुड़ी 25 से ज्यादा कैटेगरी में बाफ्टा पुरस्कार दिए जा रहे हैं। एकेडमी पहले पुरस्कारों की घोषणा करती है और इसके बाद एक भव्य समारोह में, जिसमें देश विदेश की बड़ी हस्तियां शिरकत करती हैं, इन पुरस्कारों को प्रदान किया जाता है। इसमें सितारों से जुड़े कई आयोजन होते हैं।

टेलीविजन कमेटी करती है ज्यूरी के सदस्यों का चुनाव –

अब हम आपको यह बताएंगे कि विजेताओं का चयन विभिन्न कैटेगरी में किस प्रकार से किया जाता है। दरअसल, विनर के नाम का चयन चार नामांकितों से किया जाता है। इनके नाम का चुनाव एक ज्यूरी करती है। हर अवार्ड के लिए नौ एकेडमी सदस्यों की यह ज्यूरी होती है। और हर ज्यूरी के सदस्यों का चुनाव एकेडमी की टेलीविजन कमेटी करती है।

अवार्ड का सबसे छोटा विजेता कौन है?

आपको यह जानने में जरूर रुचि होगी कि यह अवार्ड सबसे कम उम्र में जीतने वाला व्यक्ति कौन है।तो आपको बता दें कि वी मैन में पॉल फेरिस का किरदार अदा करने वाला 12 साल का कलाकार सबसे छोटा बाफ्टा अवार्ड विजेता है। स्कॉटलैंड न्यू टैलेंट अवार्ड में ग्लासगो के डेनियल केर ने बेस्ट परफॉर्मेंस के लिए खिताब जीता।

डायरेक्टर कैटेगरी में किसी भी महिला का नामांकन नहीं –

दोस्तों, जहां पूरी दुनिया में महिलाओं का बोलबाला है, वहीं इस बार के बाफ्टा पुरस्कारों की यह भी खास बात रही कि इस बार डायरेक्टर कैटेगरी में किसी भी महिला का नामांकन नहीं किया गया। इसमें सैम मेंडेस, मार्टिन स्कारसेस, टॉड फिलिप्स, क्वेंटिन टरंटिनो, बांग जून हो के नाम शामिल किए गए थे। इससे कई कला प्रेमियों को निराश भी होना पड़ा।

इस साल पहली बार कास्टिंग के लिए भी अवार्ड –

साथियों, हम आपको यह भी बता दें कि बाफ्टा पुरस्कार-2020 के साथ एक और भी विशेष बात जुड़ी है और वो यह कि इसके साथ ही इस साल पहली बार कास्टिंग डायरेक्टर के लिए भी अवार्ड शुरू किया गया। कास्टिंग डायरेक्टर के लिए जिनके नामांकन थे, उनमें जोकर, मैरिज स्टोरी, वन्स अपॉन ए टाइम इन हॉलीवुड, द पर्सनल हिस्ट्री ऑफ डेविड को शामिल किया गया। लोगों ने इस अवार्ड को दिए जाने की बहुत सराहना की।

अभी तक सबसे ज्यादा नामांकन फ्रांस से –

सबसे ज्यादा बार फ्रांस से 46 फिल्मों का नामांकन बाफ्टा पुरस्कार को हुआ। और इसने 8 बार यह पुरस्कार जीता। भारत की ओर से लंच बॉक्स फिल्म तक को इसके लिए भेजा गया था। अपने देश की ओर से 5 बार फिल्मों को नामांकन के लिए भेजा गया है, जबकि केवल एक ही बार पुरस्कार मिल पाया है।

संक्षेप में –

दोस्तों हमारे देश में फिल्मों के शौकीनों की कमी नहीं है। और फिल्में भी बड़े पैमाने पर बनती है। हिंदी के साथ ही अन्य भारतीय भाषाओं में भी खूब फिल्में बनती हैं। हिंदी फिल्मों के दीवाने तो विदेशों में भी खूब मशहूर रहे। अब वह पुराने जमाने के अभिनेता और वो मैन कहलाने वाले राजकपूर हों या फिर गालों में पड़ने वाले डिंपल से सबको लुभाने वाले शाहरुख खान। और कई सारी फिल्में ऐसी होती हैं जिनको दर्शकों की खूब सराहना मिलती है। लेकिन अब होता यह है कि फिल्म पुरस्कारों के लिए सरकार अपनी ओर से फिल्में नामांकित करती हैं। वहीं किसी देश की आफिशियल एंट्री मारी जाती है। इससे होता यह है कि कई बार फिल्मों के चयन में राजनीति का भी आरोप लगता है।

यह माना जाता है कि सरकार किसी विचारधारा विशेष या किसी व्यक्ति विशेष को प्रोत्साहित करने के लिए फिल्मों को बड़े अवार्ड के लिए भेजती है। और बहुत बार यह सच भी साबित हुआ है। फिल्में चुनने को लेकर तकनीकी रूप से भी फिल्म विधा से जुड़े लोग अधिक सार्थक निर्णय ले सकते हैं। फिल्मकारों का मानना है कि अगर फिल्मकार अपने नजरिए से, अपनी दृष्टि से फिल्म भेजेंगे तो शायद अच्छी फिल्मों को पुरस्कारों का मिलना ज्यादा संभव होगा।

अंतिम शब्द –

तो दोस्तों, यह थी bafta पुरस्कार के बारे में सारी जानकारी। उम्मीद है कि यह जानकारी आप लोगों को पसंद आई होगी। अगर बाफ्टा से जुड़े किसी अन्य बिंदु पर आप जानकारी चाहते हैं तो नीचे दिए गए comment box में comment टरके अपनी बात हमसे साझा कर सकते हैं। इसके अतिरिक्त किसी अन्य subject पर अगर आप कुछ भी जानना चाहते हैं, तो उसके लिए भी आप नीचे दिए comment box में subject लिखकर हमें भेज सकते हैं। आपको उस particular subject से संबंधित जानकारी मुहैया कराने का हमारा पूरा प्रयास रहेगा। दोस्तों, हमको आपकी प्रतिक्रियाओं का इंतजार है। ।।धन्यवाद।।

Spread the love

Leave a Comment